छत्तीसगढ़

  • राजनांदगांव, कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केंद्र का किया निरीक्षण, अधिकारियों को तत्काल बिजली कनेक्शन देने के निर्देश दिए
    राजनांदगांव, कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केंद्र का किया निरीक्षण, अधिकारियों को तत्काल बिजली कनेक्शन देने के निर्देश दिए

    कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केंद्र का किया निरीक्षण, अधिकारियों को तत्काल बिजली कनेक्शन देने के निर्देश दिए

    छत्तीसगढ़ संवाददाता 
    राजनांदगांव, 22 सितंबर।
    कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने डोंगरगांव विकासखंड के गनेरी के आंगनबाड़ी भवन में तत्काल बिजली कनेक्शन देने के निर्देश दिए हैं। श्री मौर्य गत् दिनों दौरे में आंगनबाड़ी का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने वहां बच्चों के वजन रजिस्टर को चेक भी किया। कलेक्टर के पूछने पर आंगनबाड़ी के बच्चे निडर होकर अपने और माता-पिता का नाम बताए। बच्ची सुप्रिया ने मजेदार गिनती सुनाई। सुप्रिया ने एक से बीस तक गिनती आसानी से सुना दी, परंतु जैसे ही बीस के बाद तीस, चालीस कहने लगी कलेक्टर सहित सभी लोग हंस पड़े। श्री मौर्य ने बच्चों की प्रतिभा से प्रसन्न होकर उन्हें चॉकलेट खिलाई। श्री मौर्य किचन शेड में बच्चों के लिए बन रहे भोजन का भी अवलोकन किया।

    आंगनबाड़ी में 21 बच्चे उपस्थित थे। श्री मौर्य ने बच्चों के साथ प्यार से बात करते उन्हें रोज आंगनबाड़ी आने को कहा। उन्होंने बच्चों और गर्भवती माताओं को दाल और सब्जी ज्यादा खिलाने की समझाइश दी। कलेक्टर जिस समय आंगनबाड़ी में थे। पंखा नहीं चल रहा था। उन्होंने इस ओर ध्यान जाते ही ग्राम पंचायत सचिव से पूछताछ की। सचिव ने बताया कि बिजली कनेक्शन नहीं लगा है। कलेक्टर ने मौके पर उपस्थित अधिकारियों को तत्काल कनेक्शन लगाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर सरपंच कविता साहू, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एसआर बंजारे, एसडीएम डोंगरगांव वीरेंद्र सिंह सहित अन्य स्थानीय जनप्रतिनिधि व आम नागरिक उपस्थित थे।

     

अंतरराष्ट्रीय

  • दुबई में भारतीय महिला को हुई दुर्लभ बीमारी, पति से मिलने गई थी यूएई
    दुबई में भारतीय महिला को हुई दुर्लभ बीमारी, पति से मिलने गई थी यूएई

    यूएई, 22 सितंबर। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में भारतीय मूल की 20 वर्षीय महिला दुलर्भ बीमारी की वजह से पिछले छह महीने से जीवन रक्षक प्रणाली पर है। खलीज टाईम्स की खबर के अनुसार अपने पति से मिलने शारजाह पहुंची नीतू शाही पनिक्कर को मार्च में ऑटोइम्यून इंसेफलाइटिस से पीडि़त होने का पता चला।
    इस बीमारी में शरीर का प्रतिरोधी तंत्र मस्तिष्क की स्वस्थ कोशिकाओं पर हमला करती है जिससे दिमाग में सूजन आ जाती है। नीतू को तबीयत बिगडऩे के बाद अबूधाबी के शेख खलीफा अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां वह 27 मार्च से जीवन रक्षक प्रणाली पर है।
    इस बीमारी में प्रतिरक्षा प्रणाली स्वस्थ मस्तिष्क कोशिकाओं पर हमला करती है, जिससे मस्तिष्क में सूजन आ जाती है।
    नीतू की मां ललिता ने कहा, मैंने दस साल पहले यूएई आने के बाद से अपने बच्चों के पालन-पोषण के लिए कड़ी मेहनत की। मेरी बेटी की पिछले साल दिसंबर में जितिन से शादी हुई थी, जो शारजाह में रहता है। वह जनवरी के आखिर में यूएई आई थी और 17 मार्च को बीमार हो गई।
    दर्जी की दुकान में काम करने वाली ललिता ने कहा कि पति के छोड़ जाने के बाद उन्होंने अपने दो बच्चों को बड़ी मुश्किलों से पाला।
    ललिता ने कहा, अस्पताल के चिकित्सकों ने हमारे लिये बहुत कुछ किया है। मैं उनका शुक्रिया करते नहीं थकती। मैं उनका कितना भी शुक्रिया अदा करूं, वो काफी नहीं होगा।
    ऑटोइम्यून इंसेफलाइटिस का इलाज प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को कम करने वाले उपायों और आवश्यकता पडऩे पर ट्यूमर को हटाकर किया जा सकता है। (भाषा)

राष्ट्रीय

  • मौलवी पर बच्ची से दुष्कर्म का आरोप, गिरफ्तार
    मौलवी पर बच्ची से दुष्कर्म का आरोप, गिरफ्तार

    नई दिल्ली, 22 सितंबर । पाकिस्तान के रावलपिंडी से एक हैरान करने वाली खबर सामने आई हैं। यहां  की एक मस्जिद में काम करने वाले मौलवी ने एक बच्ची के साथ दुष्कर्म किया है। पुलिस के अनुसार बच्ची मदरसे में ही पढ़ती थी। पुलिस ने घटना की जानकारी मिलने के तुरंत बाद ही आरोपी मौलवी को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल मौलवी का डीएनए टेस्ट कराया जा रहा है ताकि यह पक्के तौर साबित किया जा सके कि आरोपी ने बच्ची के साथ रेप किया है। 
    गौरतलब है कि इस तरह की यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में 8 साल की एक बच्ची से रेप के बाद उसे जिंदा जला दिया गया था। इस घटना के बाद प्रांत में प्रदर्शन शुरू हो गए। लाहौर से करीब 200 किलोमीटर दूर साहीवाल जिले के चिचावतनी में इस नृशंस घटना के विरोध में बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर उतर आये और उन्होंने मुख्य जीटी रोड घंटों तक जाम कर दिया था। जब पुलिस ने उन्हें आश्वासन दिया कि उसने एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है तब प्रदर्शनकारी वहां से हट गए थे।
    पुलिस के अनुसार चिचावतनी के सरकारी बालिका उच्च विद्यालय की कक्षा दूसरी की छात्रा रविवार को कुछ सामान खरीदने गयी थी, लेकिन वह घर नहीं लौटी। जब उसके परिवार और पड़ोसियों ने ढूंढ़ा तो वह एक सुनसान गली में बेहोश और जली हुई हालत में मिली। उसके पूरे शरीर पर जलने के निशान थे। उसे तहसील मुख्यालय अस्पताल ले जाया गया जहां से लाहौर के जिन्ना अस्पताल रेफर कर दिया गया। (एनडीटीवी)

स्थायी स्तंभ

  •  छत्तीसगढ़ की धड़कन और हलचल पर दैनिक कॉलम : राजपथ-जनपथ : एमपी का सेक्सकांड, और छत्तीसगढ़
    छत्तीसगढ़ की धड़कन और हलचल पर दैनिक कॉलम : राजपथ-जनपथ : एमपी का सेक्सकांड, और छत्तीसगढ़

    एमपी का सेक्सकांड, और छत्तीसगढ़

    भोपाल-इंदौर में ताकतवर नेताओं, अफसरों, और कारोबारियों को रूपजाल में फंसाकर, उनके सेक्स-वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने से जो मामला सामने आया, उसमें अब एक नया और अधिक खतरनाक पहलू जुड़ गया है, मंत्रियों-विधायकों को फंसाकर सरकार गिराने का। इसकी हकीकत तो जांच के बाद सुबूतों से सामने आएगी, लेकिन जिस अंदाज में वहां ऐसी लड़कियों और औरतों का शिकंजा सत्ता और बाजार के बड़े लोगों पर जकड़ा हुआ था, वह हैरान करता है। इतने पेशेवर अंदाज में ब्लैकमेलरों का गिरोह काम कर रहा था, और उसके इतने सुबूत भी सामने आने की खबर है। 

    इधर ऐन इसी वक्त छत्तीसगढ़ में एक न्यूज पोर्टल ने बाजार में एक भाजपा नेता की ब्लूफिल्म मौजूद होने की बात लिखी है। इस नेता के बारे में इशारा किया गया है कि यह रायपुर संसदीय सीट के तहत विधायक रह चुका है, और एक निगम में अध्यक्ष भी रह चुका है। इशारे-इशारे में कई और बातें लिखी गई हैं जिनसे भाजपा के अपने लोगों का अंदाज अपने दो लोगों तक केन्द्रित हो गया है। लेकिन यह बात महज चर्चा भी हो सकती है, और सौ फीसदी सही भी हो सकती है। ऐसी चर्चा लोगों की उत्सुकता बढ़ा देती है, और खासकर हिन्दुस्तानी लोगों की उत्सुकता जिनके निजी जीवन सेक्स-वंचित किस्म के अधिक रहते हैं, और जो दूसरों की असली या गढ़ी हुई सेक्स-जिंदगी की हर अफवाह पढ़ लेना चाहते हैं। 

    फिलहाल मध्यप्रदेश में चल रहे हंगामे की वजह से छत्तीसगढ़ में भी हवा में कुछ सनसनी है, और यह सेक्स-वीडियो अफवाह जितने महत्व के लायक है, उससे अधिक महत्व पा रही है। इस एक खबर, या चर्चा, या अफवाह का बस्तर में चल रहे विधानसभा चुनाव से कोई लेना-देना नहीं लगता है क्योंकि इसमें सारा जिक्र रायपुर संसदीय सीट के ही किसी भूतपूर्व विधायक, भूतपूर्व निगम अध्यक्ष को लेकर है, जिसमें बस्तर के मतदाताओं की कोई दिलचस्पी नहीं हो सकती, वे लोग एक अधिक प्राकृतिक जीवन जीते हैं, और उन्हें अपनी जिंदगी में ऐसी सनसनी की कोई जरूरत नहीं रहती है। 

    छत्तीसगढ़ का मैदानी इलाका हर कुछ महीनों में ऐसी किसी सेक्स चर्चा से घिर जाता है जिसके चलते अधिकतर आबादी को जिंदगी में कुछ रस आने लगता है। अब कुछ लोगों का यह भी मानना है कि छत्तीसगढ़ में कुछ पेशेवर स्टिंग ऑपरेटर गिरफ्तार हो जाने के बाद, उनके कम्प्यूटर, हार्डडिस्क जब्त हो जाने के बाद आने वाला वक्त ऐसे कई वीडियो देख सकता है। (rajpathjanpath@gmail.com)

राजनीति

  • प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में वापसी कर सकती है भाजपा-शिवसेना
    प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में वापसी कर सकती है भाजपा-शिवसेना

    एबीपी न्यूज/सी-वोटर के ओपिनियन पोल के मुताबिक, 288 सीटों वाली महाराष्ट्र विधानसभा में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को दो तिहाई से भी अधिक सीटें मिलती दिख रही हैं।

    नई दिल्ली, 22 सितंबर । महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद आए एक ओपिनियन पोल के मुताबिक राज्य में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन फिर से सरकार बनाते दिख रही है। वहीं, कांग्रेस और एनसीपी के लिए एक बार फिर मुश्किलें हो सकती हैं। अगर बीजेपी-शिवसेना एक साथ चुनाव लड़ते हैं तो 205 सीटों पर जीत की संभावना है। वहीं, देवेंद्र फडणवीस अभी भी मुख्यमंत्री पद के लिए पहली पसंद बने हुए हैं। राज्य में पानी और बेरोजगारी सबसे बड़ी समस्या है।
    एबीपी न्यूज/सी-वोटर के ओपिनियन पोल के मुताबिक, 288 सीटों वाली महाराष्ट्र विधानसभा में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को दो तिहाई से भी अधिक सीटें मिलती हुई दिख रही हैं। इस गठबंधन को 205 सीटें मिल सकती हैं। दूसरी तरफ, कांग्रेस-एनसीपी को 55 और अन्य के खाते में 28 सीटें जा सकती हैं। वहीं, वोट प्रतिशत की बात करें तो बीजेपी-शिवसेना को 46, कांग्रेस को 30 और अन्य को 24 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं।
    अगर राज्य में बीजेपी और शिवसेना साथ में चुनाव नहीं लड़ती हैं तो इस स्थिति में उद्धव ठाकरे की पार्टी को बड़ा नुकसान हो सकता है। ओपिनियन पोल के मुताबिक, सभी दल अकेले चुनाव में जाते हैं तो बीजेपी को 144, शिवसेना को 39, कांग्रेस को 21, एनसीपी को 20 और अन्य को 64 सीटों पर जीत मिल सकती है।
    सीएम के तौर पर फडणवीस पहली पसंद
    मुख्यमंत्री के रूप में देवेंद्र फडणवीस अभी भी पहली पसंद बने हुए हैं। ओपिनियन पोल के आकड़ों के मुताबिक, फडणवीस 39, उद्धव ठाकरे 6, अशोक चव्हाण 5 और शरद पवार 5 प्रतिशत लोगों की पसंद हैं। वहीं, इस विधानसभा चुनाव में महराष्ट्र में सबसे बड़ा मुद्दा पानी का है। इसके बाद बेरोजगारी, किसानों की समस्या और सड़क प्रमुख मुद्दा है।
    पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी और शिवसेना का गठबंधन नहीं हो पाया था। दोनों दल अलग-अलग चुनाव लड़े थे, वहीं कांग्रेस-एनसीपी भी अकेले मैदान में थे। साल 2014 के चुनाव में महाराष्ट्र की 288 सीटों में से बीजेपी 122, शिवसेना 63, कांग्रेस 42, एनसीपी 41 और अन्य 20 सीट जीतने में कामयाब रहे थे। इस बार महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को मतदान होगा और इसके तीन दिन बाद 24 अक्टूबर को नतीजे आएंगे। (न्यूज18)

मनोरंजन

  • सोनू निगम ने जीता 21वीं सदी का आइकन अवार्ड, दुनियाभर के प्रतियोगियों को पीछे छोड़ा
    सोनू निगम ने जीता 21वीं सदी का आइकन अवार्ड, दुनियाभर के प्रतियोगियों को पीछे छोड़ा

    मुंबई, 21 सितंबर । लोकप्रिय बॉलीवुड प्लेबैक सिंगर सोनू निगम को लंदन में ब्रिटेन के वार्षिक 21वीं सदी के आइकन अवॉर्ड से नवाजा गया है। इस पुरस्कार समारोह में दुनिया भर से चुने गए सैकड़ों नामांकन में कई श्रेणियों के विजेताओं के बीच में सोनू निगम का नाम भी था।
    निगम ने समारोह में अपने भाषण में कहा कि ‘इस पुरस्कार के लिए मुझे चुने जाने के लिए आपका आभारी हू&। नामांकन 22 विभिन्न देशों से थे और यह मेरे लिए बहुत मायने रखता है कि मुझे इस सम्मान के लिए चुना गया।’ 
    21वीं सेंचुरी आइकन अवार्ड्स ब्रिटेन के भारतीय मूल के उद्यमी और स्क्वॉयर वाटरमेलन लिमिटेड के सह-संस्थापक तरुण गुलाटी और प्रीति राणा का विचार हैं। (अमर उजाला)
     

     

सेहत/फिटनेस

  • इम्यून सिस्टम को बनाना है मजबूत तो पिएं शहद मिला दूध, होंगे ये 5 लाभ
    इम्यून सिस्टम को बनाना है मजबूत तो पिएं शहद मिला दूध, होंगे ये 5 लाभ

    शहद और दूध दोनों को अगर अलग-अलग अगर लेते हैं, तो यह जान लीजिए कि इन्हें साथ में लेना सेहत के लिए ज्यादा लाभकारी होगा। गुनगुने दूध में शहद मिलाकर लेने से कई फायदे होते हैं। आइए, आपको उन्हीं फायदों के बारे में बताए -

    1 रोजाना दूध के साथ शहद मिलाकर पीना, आपकी शारीरिक और मानसिक सेहत के लिए लाभकारी है। यह दोनों प्रकार की क्षमताओं में इजाफा करने में सहायक है।
    2 अगर नींद न आने या कम नींद की समस्या है, तो रातको सोते समय गर्म दूध में शहद का प्रयोग करें, इससे नींद भी बेहतर होगी और आप रिलेक्स महसूस करेंगे।
    3 पाचन क्रिया को दुरुस्त करने के लिए दूध में शहद डालकर पीना एक बढ़िया उपाय है। इससे कब्ज की समस्या भी हल हो जाएगी।
    4 दूध आपको प्रोटीन और कैल्शियम के अलावा कई जरूरी पोषक तत्व देता है और शहद इम्यून सिस्टम व प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। दोनों मिलकर एक बेहतरीन सेहत विकल्प साबित होते हैं।
    5 तनाव दूर करने के लिए यह बेहतरीन उपाय है। इसके अलावा हल्‍के गुनगुने दूध में शहद मि‍लाकर पीने से प्रजनन क्षमता और शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि होती है।

     

     

खेल

  •  भारत आ रहे साउथ अफ्रीका के कप्तान फाफ डुप्लेसिस के साथ हुआ कुछ ऐसा...
    भारत आ रहे साउथ अफ्रीका के कप्तान फाफ डुप्लेसिस के साथ हुआ कुछ ऐसा...

    नई दिल्ली, 21 सितंबर। भारत और साउथ अफ्रीका के बीच टी20 सीरीज खेली जा रही है। इस सीरीज का आखिरी मैच बेंगलुरु में रविवार को होना है। इससे पहले भारत दौरे पर टेस्ट सीरीज खेलने आ रहे दक्षिण अफ्रीका टीम के कप्तान फाफ डुप्लेसिस की फ्लाइट शुक्रवार को छूट गई। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि ब्रिटिश एयरवेज की फ्लाइट दुबई चार घंटे देरी से पहुंची, जहां से उन्हें भारत के लिए उड़ान भरनी थी।
    इस बात को लेकर खुद दक्षिण अफ्रीका की टेस्ट टीम के कप्तान डुप्लेसिस ने ट्वीट किया है। फाफ डुप्लेसिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा है, आखिरकार चार घंटे की देरी के बाद दुबई की फ्लाइट में बैठ गया हूं। अब मैं अपनी भारत के लिए अगली फ्लाइट नहीं पकड़ पाऊंगा, क्योंकि उसे उड़ान भरने में सिर्फ 10 घंटे बचे हैं।
    हैरान करने वाली बात ये भी है कि ब्रिटिश एयरवेज की इस फ्लाइट में फाफ डुप्लेसिस का बैट और क्रिकेट किट बैग भी रह गया। इस बात को लेकर फाफ डुप्लेसिस ने लिखा है, जब भी जीवन में मुश्किलें आएं तो उनका भी लाभ उठाएं। मेरा क्रिकेट बैग नहीं आया है। दरअसल इस बारे में मैं स्माइल कर सकता हूं, लेकिन वाह ब्रिटिश एयरवेज मेरे सबसे घटिया फ्लाइट अनुभव के लिए जिसमें मेरे साथ सब गलत हुआ। अब मैं आशा कर रहा हूं किमेरे बैट वापस आ जाएं।   
    भारतीय टीम मोहाली में दूसरा टी-20 मैच जीतने के बाद गुरुवार को बेंगलुरु पहुंच गई, जहां शुक्रवार को कोच रवि शास्त्री के निर्देशन में टीम ने पसीना बहाया। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरा टी-20 एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में रविवार को खेला जाएगा। भारतीय टीम ने तीन मैचों की सीरीज में पहले ही 1-0 की बढ़त बनाई हुई है।
    गौरतलब है कि दोनों टीमों के बीच धर्मशाला का टी-20 मुकाबला बारिश की वजह से धुल गया था। टी-20 सीरीज खत्म होने के बाद दो अक्टूबर से तीन मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी। पहला टेस्ट विशाखापत्तनम में खेला जाना है। ये टेस्ट सीरीज भी आइसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा है, जिसमें साउथ अफ्रीका की टीम आगाज करेगी। भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ इस टूर्नामेंट की शुरुआत की थी। (जागरण)

     

कारोबार

  • एमजंक्शन अवार्ड्स में अदाणी ग्रुप को सर्वश्रेष्ठ कोयला सर्विस प्रोवाइडर का पुरस्कार मिला
    एमजंक्शन अवार्ड्स में अदाणी ग्रुप को सर्वश्रेष्ठ कोयला सर्विस प्रोवाइडर का पुरस्कार मिला

    एमजंक्शन अवार्ड्स में अदाणी ग्रुप को सर्वश्रेष्ठ कोयला सर्विस प्रोवाइडर का पुरस्कार मिला

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    रायपुर, 20 सितंबर।
    एमजंक्शन द्वारा आयोजित, 13वें भारतीय कोल मार्किट कॉन्फे्रंस एंड एवार्ड्स 2019 में अदाणी ग्रुप को सर्वश्रेष्ठ एवं प्रतिष्ठित पुरस्कार से सम्मानित किया गया। यह पुरस्कार, 17 सितंबर को कोलकाता में आयोजित कॉन्फे्रंस में दिया गया था। 

    इस कॉन्फे्रंस में विभिन्न सर्विस प्रोवाइडर कोयला आयात, देशी कोयला व्यापार, कोयला परिवहन, कोयला बन्दरगाह, निरीक्षण और कोयला खदान कोंट्रेक्टर आदि केटेगरी में किए गए उल्लेखनीय कार्यों के आधार पर सम्मानित किए गए थे। 

    इस समारोह में अदाणी ग्रुप ने स्थापित व प्रतिष्ठित खिलाडिय़ों को पीछे छोड़ते हुए निम्न 4 वर्गों में पुरस्कार प्राप्त किए हैं-वर्ष के सर्वश्रेष्ठ कोल प्रोवाइडर, वर्ष के सर्वश्रेष्ठ कोल ट्रांसपोर्टर, वर्ष के सर्वश्रेष्ठ कोल पोर्ट परफोर्मर, वर्ष के सर्वश्रेष्ठ कोंट्रेक्टर। इन पुरस्कारों को जीतने के लिए कड़ी वोटिंग की गई थी जिसके परिणामस्वरूप कंपनी ने एक विशिष्ट वर्ग में अधिकतम पुरस्कार प्राप्त किया हैं। इन सबसे अदाणी ग्रुप बिजली के उत्पादन के लिए विश्वसनीय व किफायती ईंधन आपूर्ति करते हुए देश की ऊर्जा सुरक्षा के प्रति पूर्ण प्रतिबद्धता का भाव दिखाई देता है।

    सेल और टाटा द्वारा आधे-आधे अनुपात के आधार पर विकसित किए गएउपक्रम, एमजंक्शन द्वारा कोयला क्षेत्र से संबन्धित विषयों पर आधारित होने के साथ सम्पूर्ण अर्थव्यवस्था के विकास पर केन्द्रित इस कॉन्फे्रंस का आयोजन किया जाता रहा है। इस समारोह में भारतीय नीति निर्माताओं, कोयला उत्पादकों और अन्य संबंधित विशिष्टगणों के साथ अदाणी ग्रुप ने अपने पांच मुख्य सदस्यों के साथ हिस्सा लिया था।

    अदाणी ग्रुप के कोयला और खदान विभाग की स्थापना प्रगतिशील एमडीओ (माइन डेवेलपर एंड ओपेरेटर) अर्थात खनिज निर्माता एवम ऑपरेटर मॉडल के माध्यम से ऊर्जा को सुरक्षित करने के उद्देशय से की गई थी। इसके छत्तीसगढ़ में कोयला खदानों के मालिक होने के साथ ही उड़ीसा, मध्यप्रदेश, विश्व-स्तरीय इंटीग्रेटिड मैन्युफ्रेक्चरिंग यूनिट के खनिज विभाग होने के साथ ही अदाणी ग्रुप कच्चे लोहे के खनन में विविधता लाने और अन्य विभिन्न प्राकृतिक क्षेत्रों में भी अपनी उपस्थिति दर्ज कर रहा है।

    अदाणी ग्रुप के खनिज क्षेत्र में किए गए प्रयासों के कारण तेजी से बढ़ते हुए बाज़ार की ऊर्जा मांग को किफायती दर पर उपलब्ध करवाने में बहुत मदद मिली है। एक जिम्मेदार खनिक के रूप में अदाणी ग्रुप के कोयला एवं खनिज विभाग पर्यावरण के प्रभाव को कम करने के लिए आधुनिकतम तकनीक का प्रयोग करते हुए समाज की हर प्रकार से सुरक्षा के लिए कटिबद्ध भी है ।

    अदाणी ग्रुप के ‘अच्छाई के साथ विकास’ वाले नारे के साथ ही इनके कोयले एवं खनिज विभाग सामुदायिक पारस्परिकता और बुनियादी विकास के साथ ही सतत विकास के लिए भी कटिबद्ध है। यह सब शिक्षा के लिए अनुकूल वातावरण का निर्माण, व्यावसायिक प्रशिक्षण, रोजगार के अवसर और स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के माध्यम से प्राप्त किया है जिसके कारण स्थानीय निवासियों के जीवनस्तर में काफी सुधार दिखाई देता है।

फोटो गैलरी


विडियो गैलरी