छत्तीसगढ़ » धमतरी

Previous123456789...2728Next
13-Apr-2021 8:55 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
धमतरी, 13 अपै्रल।
कोरोना के संक्रमण की दर में लगातार हो रही वृद्धि के मद्देनजर कलेक्टर  जय प्रकाश मौर्य द्वारा जिला एवं विकासखंड स्तरीय अधिकारियों की ड्यूटी क्लस्टर प्रभारी के रूप में लगाई गई है। क्लस्टर प्रभारी अपने क्लस्टर के तहत आने वाले ग्राम पंचायतों में कंटेनमेंट जोन, आइसोलेशन सेंटर की व्यवस्था, सुचारू संचालन एवं कोविड संबंधी नियमों का पालन करेंगे।

मिली जानकारी के मुताबिक धमतरी विकासखण्ड के तहत रांवा क्लस्टर में सहायक उद्यान संचालक डी.एस.कुशवाहा की ड्यूटी क्लस्टर प्रभारी के रूप में लगाई गई है, जिनका मोबाईल नंबर 98938-16657 है।दरगहन क्लस्टर में महाप्रबंधक उद्योग विभाग  सुरेन्द्र पुरी गोस्वामी मोबाईल नंबर 94242-20107, बोडऱापुरी में उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ.महेश सिंह बघेल मो.नं. 99267-71632, झिरिया में खेल अधिकारी सुश्री सुधा कुमार मो. नं. 94242-28093 की ड्यूटी क्लस्टर प्रभारी के रूप में लगाई गई है। देवपुर क्लस्टर में कार्यपालन अभियंता डेम 02  के.के.मिश्रा मो.नं. 94063-79229, बोडऱा सा. में सहायक अभियंता क्रेडा  कमल पुरैना मो.नं. 98279-57670, दर्री में सहायक संचालक ग्राम तथा नगर निवेश सुश्री ललिता धु्रर्वे मो.नंबर 96919-43525, जंवरगांव में सहायक संचालक मत्स्यपालन सुश्री बीना गढ़पाले मो. नं. 98268-50460, सोरम में कार्यपालन अभियंता बांध संभाग क्रमांक 90  ए.के.पालडिय़ा मो.नं. 94251-90615 और कोड़ेगांव बी. क्लस्टर में कार्यपालन अभियंता बांध क्रमांक 38  यू.डी.रामटेककर की ड्यूटी क्लस्टर प्रभारी के रूप में लगाई गई है।
कुरूद विकासखण्ड के तहत चर्रा क्लस्टर में जिला परिवहन अधिकारी  गौरव साहू मो.नं. 97701-38394, परखंदा में कार्यपालन अभियंता विद्युत कुरूद  बी.पी.दीपक मो.नं.96692-76837, भाठागांव में कनिष्ठ रोजगार अधिकारी अंजुम अफरोज मो.नं.78285-68193, नारी क्लस्टर के लिए जिला विपणन अधिकारी के.के.देवांगन मो.नं. 94241-28255 क्लस्टर प्रभारी बनाए गए हैं। सिवनीकला में सहायक संचालक सुश्री जगत जननी यादव मो.नं.78398-10085, दरबा में जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास एम.डी.नायक मो.नं.93400-18510, जी-जामगांव में सीडीपीओ रविन्द्रनाथ ताम्रकर मो.नं. 94242-12961, जोरातराई अ. में भूमि संरक्षण अधिकारी राकेश जोशी मो.नं. 94063-38417, सुपेला में कार्यपालन अभियंता हाउसिंग बोर्ड मो.नं. 89650-51588 तथा पचपेड़ी क्लस्टर में उप संचालक समाज कल्याण  एम.एल.पॉल मो.नं. 94255-45727 क्लस्टर प्रभारी होंगे। 
मगरलोड विकासखण्ड के तहत शुक्लाभांठा क्लस्टर में अनुविभागीय अधिकारी कृषि डी.पी.टाण्डे मो.नं. 95899-12867, भेण्डरी में कार्यपालन अभियंता जल संसाधन वि/यां. आर.के.धृतलहरे मो.नं.70891-45478, सरगी में उप पंजीयक सहकारिता  पीताम्बर ठाकुर 98261-27182, मेघा में कार्यपालन अभियंता प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना आर.एस.गर्ग मो.नं.97523-79938 की ड्यूटी क्लस्टर प्रभारी के रूप में लगाई गई है। कुण्डेल में जिला शिक्षा अधिकारी डॉ.रजनी नेल्सन मो.नं. 99775-26619, 

सिंगपुर में वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी आर.के.यादव मो.नं. 96851-93380, हसदा में सहायक आयुक्त, आदिवासी विकास विभाग डॉ. रेशमा खान मो.नं. 75877-15575 तथा मोहेरा क्लस्टर में कार्यपालन अभियंता विद्युत मंडल  वी.के.शर्मा मो.नं. 83194-95362 की ड्यूटी क्लस्टर प्रभारी के रूप में लगाई गई है।

विकासखण्ड नगरी के तहत डोंगरडुला क्लस्टर में प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी  आर.एन.मिश्रा मो.नं. 91311-82462, बिरगुड़ी में कार्यपालन अभियंता अंत्यावसायी  अमरनाथ जैन मो.नं. 98261-36339, बेलरगांव में कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग  आर.आर.धु्रव मो.नं. 94252-61229.

मेचका में कार्यपालन अभियंता ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग  जे.एल.ध्रुव मो.नंबर 94791-09344 की ड्यूटी बतौर क्लस्टर प्रभारी के रूप में लगाई गई है। सिहावा में आयुर्वेद अधिकारी गुरूदयाल साहू मो. नं. 88894-28609, फरसियां में अनुविभागीय अधिकारी  आर.एस.नाग मो.नं. 94255-21591, दुगली में अनुविभागीय अधिकारी बांध 90 आर.एल.देव मो.नं. 88178-14009, भोथापारा में प्रभारी विकासखंड शिक्षा अधिकारी सुश्री महेश्वरी धु्रव मो.नं. 88890-70363, गट्टासिल्ली में लीड बैंक अधिकारी  प्रबीर रॉय मो.नं. 90075-66799, घठुला में वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी मनोज सागर मो.नं. 84620-60007, सांकरा में म.बा.वि.वि. अधिकारी स्वेता वर्मा मो.नं. 90098-98914 तथा घुटकेल क्लस्टर में अनुविभागीय अधिकारी लोक निर्माण विभाग  आर.आर.सूर्या मो.नं. 94242-10714 की ड्यूटी क्लस्टर प्रभारी के तौर पर लगाई गई है।
 


13-Apr-2021 8:34 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
धमतरी, 13 अप्रैल।
धमतरी जिले में लगातार बढ़ रहे है कोरोना संक्रमण को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी का एक प्रतिनिधि मंडल जिला दंडाधिकारी से मुलाकात करने पहुंची। जिसमें प्रमुख रुप से प्रतिनिधि मंडल द्वारा जिला दंडाधिकारी से चर्चा करते हुए संक्रमण के रोकथाम के साथ-साथ संक्रमितों को हो रहे परेशानियों से अवगत कराई। 

भाजपा प्रतिनिधि मंडल द्वारा कोविड बिस्तरों की संख्या बढ़ाने, आवश्यक दवाइयों की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता सूचित करने, ऑक्सीजन की सुविधा के साथ आई सी यू यूनिट व वेंटिलेटर की संख्या बढ़ाने के अलावा कोविड 19 निजी अस्पतालों में आयुष्मान भारत योजना से संक्रमित मरीजों का इलाज शुरू करने एवं टीकाकरण की संख्या बढ़ाने जैसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। जिस पर जिला दंडाधिकारी ने उक्त विषयों पर तत्काल कार्य करने की बात कही। भाजपा को प्रतिनिधिमंडल के रूप में धमतरी विधायक रंजना डीपेंद्र साहू, भाजपा जिला अध्यक्ष शशि पवार, भाजपा महामंत्री कविंद्र जैन, नगर निगम नेता प्रतिपक्ष नरेंद्र रोहरा, शहर मंडल अध्यक्ष विजय साहू, भारतीय जनता युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष विजय मोटवानी प्रमुख रुप से उपस्थित रहे।

 


13-Apr-2021 8:33 PM 16

नगरी, 13 अपै्रल। सिहावा विधायक डॉ.लक्ष्मी धु्रव ने कल 12 अप्रैल सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नगरी कोविड वैक्सीनेशन सेंटर पहुंच कर कोविड वैक्सीन (कोविडशील्ड) का दूसरा डोज लगवाया। इस दौरान उन्होंने टीकाकरण केन्द्र में आवश्यक सुविधाओं की जानकारी ली एवं आम लोगो से अपील किया कि 45 साल या उससे अधिक उम्र के लोग अपने नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र पहुंच के टीकाकरण अवश्य करवाये एवं अन्य लोगों को भी टीकाकरण हेतु प्रेरित करें साथ ही शासन प्रशासन द्वारा जारी कोरोना के नियमों का पालन करे, लॉकडाउन का पालन करे, मास्क एवं सेनेटाइजर का उपयोग करें। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य लखन लाल धु्रव, विधायक प्रतिनिधि नगरी रुद्रप्रताप नाग साथ में मौजूद थे।
 


13-Apr-2021 8:32 PM 14

नगरी, 13 अपै्रल। हिन्दू नववर्ष के अवसर पर वरिष्ठ भाजपा नेता जिला भाजपा के मंत्री व दूरसंचार निगम के सदस्य राजेन्द्र गोलछा ने अपने निवास पर भगवा ध्वज लगाया और सिहावा-नगरी क्षेत्रवासियों को हिन्दू नववर्ष विक्रम संवत् 2078, चैत्र नवरात्रि एवं गुड़ी पड़वा की हार्दिक एवं शुभकामना दी है।
 


13-Apr-2021 8:30 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
धमतरी, 13 अप्रैल।
कलेक्टर  जयप्रकाश मौर्य ने निर्देशानुसार जिले में लॉक डाउन के दौरान अनुचित ढंग से मुनाफाखोरी करने वालों तथा कोरोना के प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। इसी तारतम्य में आज राजस्व, खाद्य एवं नगरीय निकाय के संयुक्त दस्ते ने शहर के छह व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में दबिश देकर निर्धारित मूल्य से अधिक दाम पर सामग्री विक्रय करने तथा व्यवसाय संचालन के दौरान मास्क नहीं लगाने पर उनसे कुल नौ हजार रूपए का जुर्माना वसूला गया। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार स्थानीय नयापारा वार्ड स्थित मेसर्स पुनीत बेकरी, अम्बेडकर वार्ड के लक्ष्मी किराना स्टोर्स के व्यवसायियों के द्वारा मास्क उपयोग नहीं करने पर उनसे 500-500 रूपए का अर्थदण्ड से दण्डित किया गया। इसी तरह औद्योगिक वार्ड में प्रशांत टाकीज के पास स्थित मेसर्स अमित पान मसाला के संचालक द्वारा अधिक दाम पर सामग्री बेचे जाने पर उनसे पांच हजार रूपए के जुर्माने से दण्डित किया गया, जबकि सिहावा रोड स्थित मेसर्स मनोज किराना स्टोर्स, बालाजी ट्रेडर्स एवं नारायण ट्रेडर्स के द्वारा लॉकडाउन की निर्धारित समयावधि से अधिक समय तक प्रतिष्ठान खुला रखने पर दुकान संचालकों को एक-एक हजार रूपए के अर्थदण्ड से दण्डित किया गया। 

इसी तरह ग्राम देमार स्थित मेसर्स सुनील फूड प्रोडक्ट्स में कलेक्टर द्वारा जारी दिशानिर्देशों का पालन नहीं करते हुए उद्योग संचालित करने पर संचालक से 25 हजार रूपए का जुर्माना वसूल किया गया।
 


13-Apr-2021 8:28 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कुरुद, 13 अपै्रल।
कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने प्रशासन द्वारा किए गए इंतजाम का जायजा लेने कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने कोविड केयर सेंटर कुरूद, चरमुडिय़ा में बनाए गए आइसोलेशन सेंटर एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भखारा का दौरा किया। 

 सोमवार को धमतरी कलेक्टर मौर्य कुरूद के पंचायत प्रशिक्षण केन्द्र में बने 50 बिस्तरयुक्त कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण किया। यहां भर्ती 36 मरीजों में से कुछ से चर्चा कर कलेक्टर ने  उनके बेहतर स्वास्थ्य की कामना की। साथ ही कुरूद क्षेत्र में धनात्मक मरीजों की संख्या में वृद्धि को देखते हुए आक्सीजन सिलिंडर की संख्या बढ़ाने तथा अन्य मूलभूत व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिए। इसके उपरांत वे कुरूद के समीपस्थ ग्राम चरमुडिय़ा पहुंचे, जहां पर हायर सेकण्डरी स्कूल को 100 बिस्तरयुक्त कोविड केयर हॉस्पिटल के तौर पर विकसित करने एवं आवश्यक साधन-संसाधन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश एसडीएम  सुनील शर्मा को दिए। 

इस दौरान कलेक्टर ने दोहराया कि सिर्फ ऐसे मरीजों को ही होम आइसोलेशन की सुविधा दी जाए, जिनके घर पृथक् कमरे व टॉयलेट हों। इसके अलावा शेष मरीजों को हरहाल में आइसोलेशन केन्द्र में ही भर्ती कराएं। साथ ही कोरोना संबंधी आदेश-निर्देशों का अक्षरश: पालन करने व गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों पर सख्ती से कार्रवाई करने के निर्देश अधीनस्थ अधिकारियों को दिए। इसके पूर्व जिलाधिकारी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भखारा का निरीक्षण कर वहां की हाल हकीकत देखी।
 


13-Apr-2021 5:39 PM 55

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

नगरी, 13 अप्रैलछत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा प्रदेश के सभी कांग्रेस के जनप्रतिनिधियों एवं संगठन पदाधिकारियों का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना महामारी के दूसरे लहर के सम्बंध में प्रदेश स्तरीय वर्चुअल बैठक आयोजित की गई।

इस बैठक में छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया, स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव,गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू सहित प्रदेश के सभी मंत्रीगण, विधायकगण एवं संगठन के समस्त पदाधिकारी मौजूद थे।

इस बैठक में सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी धु्रव ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को सिहावा विधानसभा में कोरोना की स्थिति से अवगत कराया उन्होंने कहा कि अब तक सिहावा विधानसभा के नगरी ब्लॉक में 1382 कोरोना के मरीज है, जिसमें 1116 मरीज रिकवर्ड हो चुके है। नगर पंचायत नगरी में वर्तमान में 94 एक्टिव केस एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 172 एक्टिव केस है इस तरह कुल नगरी विकासखंड मे 266 एक्टिव केस है। इस कोरोना महामारी से अब तक नगरी विकासखण्ड में 15 लोगो की मृत्यु हो चुकी है।

इसी प्रकार मगरलोड विकासखंड में अब तक 1101 कोरोना मरीज है। जिसमें 872 रिकवर्ड हो चुके है। नगर पंचायत मगरलोड में वर्तमान में 21 एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 236 एक्टिव केस है। मगरलोड विकासखंड में अब तक कोरोना महामारी से 27 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। कोरोना टीकाकरण में नगरी विकासखण्ड मे अब तक 31059 लोगों का टीकाकरण हो चुका है 81 प्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति हो गई है।  इसी प्रकार मगरलोड विकासखंड मे 19800 लोगों का टीकाकरण हो चुका है। 76 प्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति हो चुकी है। कई क्षेत्र दुर्गम होने के कारण टीकाकरण में थोड़ी दिक्कत है। मानव संसाधन की कमी को देखते हुए 23 नए स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की भर्ती की गई है एवं नगरी विकासखंड के गांवों मे 102 क्वारेंटाइन सेंटर स्थापित किए गए है एवं मगरलोड विकासखण्ड में 66 क्वारेंटाइन सेंटर स्थपित किए गए है।

विधायक डॉ.धु्रव ने साथ में यह भी कहा है कि कई लोगों के द्वारा इस कोरोना महामारी में भयावह एवं डरावनी स्थिति वाली बाते कर लोगों को डराया जा है। इस तरह की बाते न करते हुए हमें लोगों को संबल प्रदान कर पूरी मजबूती से इस बीमारी से लडऩा है। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री से वेंटिलेटर, ऑक्सीजन सिलेंडर युक्त बेड, रेमडेसिविर की दवाई एवं एम्बुलेंस जैसे आवश्यक मांगों की जल्द से जल्द एवं पर्याप्त मात्रा में आपूर्ति हेतु अनुरोध किया एवं आरटीपीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट को जल्द से जल्द उपलब्ध कराने की बात कही एवं रेमडेसिविर की कालाबाजारी को रोकने की मांग की है। सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी धु्रव ने अपने एक माह का वेतन भी मुख्यमंत्री सहायता कोष में देने की बात कही साथ ही गरीब परिवारों को इस संकट की घड़ी में सूखा राशन एवं हर सम्भव मदद करने का फैसला लिया है। 

अंत में उन्होंने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का धन्यवाद करते हुए इस कोरोना महामारी से लडऩे मेें उनका पूरा सहयोग करने की बात कही।


13-Apr-2021 5:38 PM 30

धमतरी, 13 अप्रैल। जिले के रहवासियों हेतु अंतर्जिला परिवहन के लिए लॉकडाउन अवधि में ई पास की व्यवस्था की गई है। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी जेपी मौर्य ने इसके लिए संयुक्त कलेक्टर और एसडीएम धमतरी चंद्रकांत कौशिक को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।

ज्ञात हो कि कोविड 19 के संक्रमण से बचाव और रोकथाम के लिए आज से 26  अप्रैल की रात 12 बजे तक पूरे धमतरी जि़ले की सीमाएं सील कर दी गई हैं। इस दौरान अत्यावशयक कार्य जैसे स्वास्थ्य , परिवार में मृत्यु आदि की स्थिति में जि़ले से बाहर जाने के लिए ऑनलाइन पास की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। जिलेवासियों द्वारा निम्न लिंकhttp://play.google.com/store/apps/details?I’d=com.allsoft.corona  में ऑनलाइन ई पास के लिए आवेदन दिया जा सकता है।


12-Apr-2021 7:55 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
धमतरी, 12 अप्रैल।
प्रदेश सहित जि़ले में कोरोना के बढ़ते मरीजों के आंकड़े के मद्देनजर कलेक्टर जे पी मौर्य ने इलाज के लिए जरूरी कदम उठाने के लिए बनाई गई कार्ययोजना को अमली जामा पहनाने के लिए राजस्व, स्वास्थ्य,नगरीय निकाय और पंचायती राज के अमले को पूरी तरह से जुट जाने के निर्देश दिए हैं। 

उन्होंने कोविड के मरीजों के लिए सभी नगरीय निकाय और ग्राम पंचायत में आइसोलेशन/ क्वारेंटाइन केंद्रों का चिन्हांकन करने के निर्देश दिए हैं। सभी आइसोलेशन/ क्वॉरंटीन सेंटर में जिन व्यवस्थाओं पर कलेक्टर ने विशेष जोर दिया है वे हैं स्वच्छ पानी, टॉयलेट, पंखा, साफ सफाई की व्यवस्था। उन्होंने साथ ही निर्देशित किया है कि इन आइसोलेशन/क्वॉरंटीन केंद्रों में मरीज़ को घर का भोजन करने की सुविधा दी जाए और मरीज़ के परिजनों द्वारा मरीज़ को भोजन उपलब्ध कराया जाए।  यही तरीका नगरीय निकायों में भी अपनाया जाए। सामुदायिक भवनों को आइसोलेशन/क्वॉरंटीन केंद्र की तरह इस्तेमाल किया जाए और कोरोना के मरीजों को भोजन पहुंचाने वाले परिजनों को पास जारी किया जाए। मगर जि़ला अस्पताल, डेडीकेटेड कोविड अस्पताल,आदिवासी विकास विभाग के द्वारा संचालित छात्रावास, कोविड केयर सेंटर नगरी और कुरूद में स्वास्थ्य विभाग द्वारा ही मरीजों को भोजन उपलब्ध कराया जाए।

कलेक्टर ने निर्देशित किया है कि किसी भी सूरत में आदिवासी विकास विभाग के छात्रावासों को आइसोलेशन क्वारेंटाइन केंद्र के रूप में नहीं रखा जाए, बल्कि इनको कोविड केयर केंद्र की तरह इस्तेमाल किया जाए। इन छात्रावासों में ऐसे कोविड के मरीज़ रहेंगे जिन्हें को-मॉर्बिडिटी होने के बावजूद ऑक्सीजन की जरूरत महसूस नहीं हो रही है।

 उन्होंने यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं कि चाहे शासकीय हो अथवा निजी अस्पताल मगर केवल आवश्यकता के अनुरूप ऑक्सीजेनेटड बिस्तर मरीज़ को आबंटित किया जाए। याने कि ऑक्सीजेनेटेड बिस्तर मांग आधारित ना हो कर आवश्यकता आधारित रहे, जिससे जरूरतमंद कोविड के मरीज को उपचार सुविधा समय पर उपलब्ध कराई जा सके। इसका सही प्रबंधन करने कलेक्टर ने सभी एसडीएम,सीएमएचओ के अलावा सभी  बीएमओ/ बीपीएम को हिदायत दी है। उनका कहना है कि यह सुनिश्चित करना सबकी जिम्मेदारी है कि मरीज के इलाज में लापरवाही और गलत प्रबंधन ना हो और गंभीर मरीजों की जान को बचाने में यह अहम होगा। इसके अलावा कलेक्टर ने एहतियात के तौर पर किसी भी अंजान व्यक्ति को गांव और आसपास घूमते पाए जाने पर सख्त निगाह रखने के निर्देश दिए हैं। सरपंच, पंच का सहयोग और  कोटवार और पटेल को इसमें लगाने के निर्देश कलेक्टर ने दिए हैं ।
 


12-Apr-2021 7:28 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
धमतरी, 12 अप्रैल।
कोविड महामारी की दूसरी लहर बहुत ही चिंता जनक व भयावह है, लगातार संक्रमितों की  संख्या बढऩे से अनेकानेक समस्याएं आ रही है ऐसे समय में जिला प्रशासन के द्वारा धमतरी जिले में फैलते कोरोना के चैन को तोडऩे 15 दिनों का लॉक डाउन घोषित किया है, ऐसे समय में हम सबका कर्तव्य है कि हम सब पूरी निष्ठा के साथ कोरोना गाइड लाइन के साथ ही लॉक डाउन के दिशा निर्देशों का पालन करे, उक्त बातें विधायक रँजना डीपेन्द्र साहू ने लॉकडाउन के बाद निवेदन कर अपील करते हुए कहीं। 

आगे विधायक श्रीमती साहू ने कहाँ कि कोरोना का संक्रमण सामूहिक जागरूकता से ही खत्म की जा सकती है, हम सबका कर्तव्य है कि हम सब इस लड़ाई में सहभागी बनकर स्वयं, परिवार को सुरक्षित रखे व अन्य लोगों को भी सुरक्षा उपाय बरतने की अपील करें। कोरोना की दूसरी लहर पहले से ज्यादा प्रभावी है, ऐसे समय में हमें और अधिक जागरूकता का परिचय देने की आवश्यकता है, अनावश्यक घरों से निकलने से बचें, बहुत ही जरूरी सामान की आवश्यकता होने पर ही घर से निकले, संक्रमण से बचने डॉक्टरों द्वारा जो सबसे अधिक कारगर उपाय मास्क का उपयोग, एक दूसरे से मिलते समय उचित दूरी का पालन करने को कहाँ जा रहा है, उसका कड़ाई से पालन करे। शासन के द्वारा जारी गाईड लाइन में पात्र व्यक्ति टीकाकरण सेंटर में जाकर टिका जरूर लगावे व लोगों को भी टीकाकरण के लिए प्रेरित करें। हम सब इस बात का जरूर ध्यान रखें की घर पर रहे, सुरक्षित रहे व केंद्र व राज्य सरकार के साथ ही जिला प्रशासन के द्वारा समय समय मे जारी निर्देशों का पालन कर कोरोना महामारी को खत्म करने में अपनी-अपनी भूमिका तय करें, ताकि पूरे देश में कोरोना महामारी से विजय प्राप्त कर सके ।
 


12-Apr-2021 6:41 PM 15

धमतरी 12 अप्रैल। कलेक्टर श्री जय प्रकाश मौर्य ने ऐसे सभी कोविड के मरीजों को नजदीकी आइसोलेशन/ क्वारेंटाइन सेंटर भेजने के निर्देश दिए हैं, जिनके घर में होम आइसोलेशन के प्रोटोकॉल अनुरूप सुविधा नहीं है, अर्थात् जिनके पास अलग कमरा और टॉयलेट की सुविधा नहीं है। उन्होंने साफ तौर पर सभी एसडीएम, नगरीय निकाय के आयुक्त, मुख्य नगर पालिका अधिकारी और जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देशित किया है कि यदि होम आइसोलेशन के नियम के विरुद्ध मरीज घर में रह रहे हैं और ऐसे लोग नजदीकी आइसोलेशन सेंटर में जाने से मना करते हैं, तो पुलिस बल का आवश्यकता अनुसार सहयोग लिया जाए। इसके साथ ही कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर उनके विरुद्ध महामारी अधिनियम के तहत जरूरी कार्रवाई की जाए और जरूरत पडऩे पर ऐसे लोगों के विरुद्ध एफआईआर भी दर्ज करने के सख्त निर्देश कलेक्टर ने दिए हैं।
 


12-Apr-2021 6:35 PM 30

नगरी, 12 अप्रैल। ब्लॉक मुख्यालय से लगे ग्राम छिपली में भक्त माता कर्मा जयंती पर साहू सदन छिपली में विशेष टीकाकरण शिविर लगाया गया। शिविर में 160 लोग लाभांवित हुए। इस अवसर पर ग्राम के प्रबुद्ध नागरिक भाजपा मंडल महामंत्री हृदय साहू, ब्लाक कांग्रेस कमेटी नगरी अध्यक्ष भूषण साहू, सरपंच संत नेताम, पूर्व सरपंच गणेश राम नागर्ची ने कोरोना टीका लगाकर लोगों को टीका लगाने प्रेरित किया।

 


12-Apr-2021 6:29 PM 12

कोरोना केयर सेंटर बनाने कुल 530 बिस्तरों की रहेगी सुविधा

 ‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
धमतरी 12 अप्रैल।
नगरपालिक निगम धमतरी क्षेत्र में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर कलेक्टर श्री जय प्रकाश मौर्य द्वारा दिए गए निर्देशों के पालन में अनुविभागीय दण्डाधिकारी श्री चन्द्रकांत कौशिक ने धमतरी शहर के छ: आवासीय छात्रावासों को अधिग्रहित किया है। 

चार कोविड केयर सेंटर और एक-एक आईसोलेशन तथा गहन कोविड केयर सेंटर बनाए जाने के उद्देश्य से अधिग्रहित इन छात्रावासों में कुल 530 बिस्तरों की सुविधा रहेगी। बताया गया है कि आईसोलेशन सेंटर में भोजन मरीज के परिजन उपलब्ध करा सकेंगे, वहीं कोविड केयर और गहन कोविड केयर सेंटर में स्वास्थ्य विभाग द्वारा मरीजों के लिए भोजन की व्यवस्था की जाएगी। एसडीएम श्री कौशिक ने इन सभी केंद्रों में आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रभारी तहसीलदार  विनोद कुमार साहू को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। 

मिली जानकारी के मुताबिक आईसोलेशन सेंटर बनाने के लिए 150 बिस्तर युक्त शासकीय हटकेशर बालक छात्रावास का अधिग्रहण किया गया है। वहीं कोविड केयर सेंटर के लिए 100-100 बिस्तर युक्त शासकीय आजीविका महाविद्यालय, शासकीय आजीविका महाविद्यालय छात्रावास और 50 बिस्तर युक्त अनुसूचित जनजाति पोस्ट मैट्रिक कन्या छात्रावास गोकुलपुर का अधिग्रहण किया गया है। गहन कोविड केयर सेंटर बनाने के लिए 30 बिस्तर युक्त शासकीय अनुसूचित जनजाति प्री. मैट्रिक कन्या छात्रावास गोकुलपुर का अधिग्रहण किया गया है।
 


12-Apr-2021 3:08 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
धमतरी, 12 अप्रैल।
कल फर्जी सीआईडी अफसर बनकर घूमते हुए एक आरोपी को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी के कब्जे से कैमरा, माइक, वॉकी-टॉकी, नीली बत्ती लगी सफेद रंग की कार जब्त किया गया है।

पुलिस के अनुसार 11 अप्रैल की शाम करीब सवा 4 बजे पुलिस नियंत्रण कक्ष के माध्यम से सूचना मिली कि एक सफेद रंग की कार क्रमांक सीजी 07 एलए 9999 में सीआईडी का मोनो बना है, नीली बत्ती लगी है तथा उक्त कार में क्राइम इंटेलिजेंस डिटेक्टिव प्रेसिडेंट छत्तीसगढ़ ऑल इंडिया क्राइम (सीआईडी) लिखा है। 

सूचना पर तत्काल कोतवाली पेट्रोलिंग एवं यातायात प्रभारी मौके पर पहुंचकर कार चालक से पूछताछ किए। पूछताछ में उसने अपना नाम अजय दास निवासी सिविल लाइन जिला अस्पताल के पीछे धमतरी बताया। किन्तु उसकी गतिविधियां एवं वेशभूषा संदिग्ध लगने पर विस्तृत पूछताछ व तस्दीक करने हेतु थाना लाया गया। उक्त व्यक्ति ने काम्बेट ऑपरेशन के दौरान पुलिस द्वारा पहने जाने वाली वेशभूषा केमोफ्लाइज पेंट धारण किया था। विस्तृत पूछताछ में उक्त व्यक्ति द्वारा छल कारित करते हुए लोकसेवक के सदृश्य वेशभूषा धारण कर विभागीय प्रतीक को अपने कार में लगाकर प्रतिरूपण करना व घूमते हुए पाया गया। आरोपी का कृत्य अपराध धारा 170, 419 का घटित करना पाए जाने से अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। 

आरोपी के कब्जे से कैमरा, माइक, वॉकी-टॉकी, नीली बत्ती लगी सफेद रंग की कार जब्त कर आरोपी अजय दास 50 वर्ष निवासी धमतरी को गिरफ्तार किया गया है।


12-Apr-2021 1:55 PM 63

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
नगरी, 12 अप्रैल।
धमतरी जिले के नगर पंचायत नगरी के शनिवार बाजार पारा स्थित नगर पंचायत नगरी के वार्ड क्रमांक 15 के पूर्व पार्षद हरीश साहू के घर पर पुरानी घानी पद्धति से तिल्ली का तेल निकाला जाता है।

पूर्व पार्षद श्री साहू का परिवार घानी से कई पीढ़ी से तिल्ली का तेल निकालकर अपनी पीढ़ी दर पीढ़ी के व्यवसाय को बनाए रखा है। करीब 80 साल पहले हरीश साहू की दादी विश्वासा बाई साहू ने व्यवसाय को जारी रखा। उनके निधन के उपरांत बहू लीला बाई साहू ने व्यवसाय को जारी रखा। अब उम्र होने के चलते उसके शरीर थकावट के कारण उनकी बहू तारामती साहू ने इस व्यवसाय को आगे बढ़ाते हुए घानी पद्धति से तेल निकालना जारी रखा है। अभी भी नगरी क्षेत्रवासी तिल्ली तेल लेने के लिए हरीश साहू के घर पर आते हैं।

पहले के बुजुर्ग बताते थे कि तिल्ली तेल का उपयोग फोड़ा फुंसी घाव में लगाने के काम आता है साथ ही
तिल्ली तेल को सिर में लगाते हैं तो सिर बहुत ठंडा रहता है। 

श्री साहू के यहां अभी भी शुद्ध एवं साफ तिल्ली का तेल उसका खल्ली पूरा 12 माह मिलता है तिल्ली का तेल बहुत सारे बीमारियों के उपचार के लिए उपयोग में लाए जाते हैं।

नगरी नगर के नागरिक राजकुमार शील कहते है कि ये उपकरण हमारी धरोहर है एवं इनका संरक्षण आवश्यक है। ताकि आने वाली पीढ़ी को इसकी जानकारी सुलभ हो।


11-Apr-2021 10:08 PM 62

नगरी, 11 अप्रैल। उपाध्यक्ष मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण एवं सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव की अनुशंसा पर हितग्राहियों को स्वेच्छानुदान एवं जनसम्पर्क निधि चेक द्वारा प्रदान की गई।

विधायक द्वारा स्वेच्छानुदान राशि भूमिका ग्राम दिनकरपुर 10000 रुपये, खिलेश्वरी साहू ग्राम घटुला 50000 रुपये, धर्मेन्द्र कोसरे ग्राम घटुला 50000 रुपये,प्रभाबाई ग्राम छिपली 50000 रुपये,ललित कुमार साहू पंडरीपानी 50000 रुपये,बिंदुलाल साहू नगरी 30000 रुपये, वेदप्रकाश ध्रुव अमाली 20000 रुपये एवं जनसम्पर्क निधि से पुनारद राम मरकाम ग्राम घटुला 25000 रुपये,योगेश कुमार ग्राम घटुला 5000 रुपये,अवधराम मरकाम ग्राम गुडऱापारा 5000 रुपये,रामेश्वर ध्रुव ग्राम गुडऱापारा 5000 रुपये, श्याम लाल ग्राम पाँवद्वार 5000 रुपये,गोदावरी ग्राम घटुला 5000 रुपये चेक द्वारा प्रदान किया गया।

इस अवसर पर अध्यक्ष ब्लॉक कांग्रेस कमेटी नगरी भूषण साहू,विधायक प्रतिनिधि नगरी रुद्रप्रताप नाग, अध्यक्ष सरपंच संघ राजू सोम,राजेन्द्र ठाकुर एवं  कांग्रेसजन उपस्थित थे।
 


11-Apr-2021 7:51 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
धमतरी, 11 अप्रैल।
जिले में लगातार बढ़ते कोविड-19 के धनात्मक प्रकरणों को दृष्टिगत करते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी  जयप्रकाश मौर्य ने महामारी रोग अधिनियम 1897 के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए जिला धमतरी के समस्त सीमा क्षेत्र के अंतर्गत संक्रमण से बचाव एवं स्वास्थ्यगत आपात स्थिति को नियंत्रण में रखने के उद्देश्य से रविवार 11 अप्रैल की रात्रि 12 बजे 26 अप्रैल की रात्रि 12 बजे तक पूर्णतया तालाबंदी (लॉकडाउन) का आदेश जारी किया है। उक्त आदेश के उल्लंघन करने वाले व्यक्ति, प्रतिष्ठान भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 188 के तहत दण्डनीय होंगे। आदेश के अनुसार जिले की सभी सीमा क्षेत्रांतर्गत निम्नांकित गतिविधियों के प्रतिबंध एवं संचालन के संबंध में आदेश पारित किया गया है।

शासकीय/अशासकीय कार्यालय रहेंगे बंद, कर सकेंगे वर्क फ्रॉम होम
जिला दण्डाधिकारी एवं कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में उल्लेख किया गया है कि जिला अंतर्गत सभी शासकीय एवं अर्द्धशासकीय, अशासकीय कार्यालयों को तत्काल प्रभाव से बंद किया जाता है। सभी कार्यालय प्रमुख एवं कर्मचारी अपने घर से सरकारी कार्यों का निष्पादन करेंगे, किन्तु मुख्यालय छोडक़र नहीं जाएंगे एवं आवश्यकता पडऩे पर कार्यालय प्रमुख उन्हें कार्य स्थल बुला सकेंगे। इस अवधि में कर्मचारी को आने-जाने के लिए अपने साथ शासकीय पहचान पत्र साथ रखना होगा, पहचान पत्र नहीं होने की स्थिति में कार्यालय प्रमुख द्वारा पास जारी किया जा सकेगा। 

आवश्यक सेवाओं/गतिविधियों को छोडक़र शेष रहेंगे प्रतिबंधित 
सभी आवश्यक सेवाएं जैसे अस्पताल प्रबंधन, जलापूर्ति, विद्युत आपूर्ति, स्वच्छता सेवाएं, दूरसंचार, आकस्मिक परिवहन सेवाएं यथावत् चालू रहेंगी। आवश्यक वस्तुओं एवं फैक्ट्री में उत्पादित वस्तुओं का परिवहन प्रतिबंध से मुक्त रहेगा। मेडिकल स्टोर्स एवं पेट्रोल पम्प 24 घण्टे चालू रख सकेंगे, जबकि गैस डिलीवरी सेवाएं सुबह 10 बजे से शाम चार बजे के मध्य संचालित की जा सकेंगी। इसके अलावा किराना एवं जनरल स्टोर्स, मिल्क पार्लर, सब्जी/फल की दुकानें लॉक डाउन अवधि में सुबह 8 से 10 बजे तक खुली रहेंगी। अनाज मण्डी, सब्जी मण्डी, फल मण्डियां सुबह 6 बजे 10 बजे तक खुली रहेंगी। पशुचारा एवं पशु आहार से संबंधित दुकानें, कृषि एवं उससे संबद्ध दुकानें यथा- कीटनाशक, फर्टिलाइजर, खाद तथा कृषि उपकरणों की मरम्मत से संबंधित दुकानें सुबह आठ से दस बजे के मध्य खुली रहेंगी। 

बैंकिंग सेवाएं सीमित समय में प्रारम्भ रहेंगी:- सभी प्रकार की बैंकिंग सेवाएं सुबह 11 बजे से दोपहर दो बजे तक खुली रहेंगी, उक्त अवधि में बैंक प्रबंधन केवल आवश्यक सेवाएं प्रदान करेगा। जिन सेवाओं का संचालन बैंक प्रबंधन करेगा, उसकी सूची बाहर चस्पा कर दिया जाएगा। 

साथ ही बैंक मैनेजर अपना मोबाइल नंबर शाखा कार्यालय के बाहर प्रदर्शित करेगा, बैंक मैनेजरों की सूची पृथक् से जारी की जाएगी।

परिवहन सेवाएं
जिले में सभी सार्वजनिक परिवहन सेवाएं जिसमें निजी बसें, टैक्सी, ऑटो रिक्शा, ई-रिक्शा, रिक्शा आदि के परिचालन को तत्काल प्रभाव से बंद किया जाता है। केवल आपात मेडिकल सेवा वाले व्यक्ति को वाहन द्वारा आवागमन की अनुमति रहेगी। ऐसे निजी वाहन जो इस आदेश के तहत आवश्यक वस्तुओं/सेवाओं के उत्पादन एवं उनके परिवहन का कार्य कर रहे हों, उन्हें भी अपवादिक स्थिति में तात्कालिक आवश्यकताओं को देखते हुए परिवहन की छूट रहेगी।

निर्माण कार्य/उद्योग धंधे संबंधी निर्देश
जिले के समस्त क्षेत्रांतर्गत मनरेगा के कार्य को छोडक़र सभी प्रकार के निर्माण एवं श्रम कार्य तत्काल प्रभाव से स्थगित रहेंगे। मनरेगा कार्य स्थल में कोरोना से संक्रमण से बचने आवश्यक उपायों का कड़ाई से पालन किया जाएगा। इसी तरह जिले में संचालित उद्योग धंधों को यथासंभव बंद रखा जाए, परंतु यदि कोई संचालक अपनी सेवाओं को चालू रखना चाहता है तो उसे कोविड संक्रमण से बचने के सभी उपायों का कड़ाई से पालन करना होगा। उद्योग संचालक कार्य स्थल में मजदूरों की आवाजाही हेतु स्वयं पास जारी करेगा से प्रशासन द्वारा मान्य किया जाएगा। ऐसे उद्योग संचालकों को उद्योग विभाग द्वारा जारी पंजीयन की प्रतिलिपि साथ रखनी होगी, जिसे पास के तौर पर मान्य किया जाएगा। जारी आदेश में यह स्पष्ट किया गया है कि प्रशासन द्वारा किसी भी उद्योग के संचालन के लिए अलग से पास जारी नहीं किया जाएगा। इसी तरह अन्य आवश्यक वस्तुओं के संचालन करने वाले उपक्रमों एवं संस्थाओं पर भी उक्त नियम लागू होंगे।

आवागमन के लिए पास
जिले के भीतर अंतरजिला और अंतरराज्यीय पास जारी करने के लिए शासकीय कर्मचारियों द्वारा परिचय पत्र को कार्यालयीन अवधि में अथवा उसके पश्चात् पास के रूप में मान्य किया जाएगा। आवश्यक वस्तुओं का संचालन करने वाले निजी व्यावसयिक संस्थानों के लिए पृथक् से पास जारी नहीं किया जाएगा। आवश्यक वस्तुओं का संचालन करने वाली संस्था के पास पंजीकृत प्रमाण-पत्र को पास के तौर पर मान्य किया जाएगा। आवश्यक वस्तुओं के संचालन से संबंधित संस्था के संचालक अपने हस्ताक्षर से अधीनस्थ कर्मियों को पास जारी कर सकेगा। स्वास्थ्यगत कारणों के आधार पर जिले के भीतर परिवहन हेतु डॉक्टरों द्वारा लिखित उपचार पर्ची को पास के रूप में मान्य किया जाएगा। जिले के बाहर मृत्यु, मेडिकल, इमरजेंसी एवं अन्य आकस्मिक प्रकरण में परिवहन हेतु पास संबंधित अनुविभागीय दण्डाधिकारी कार्यालय से जारी किया जाएगा। यह अधिकार जिला दण्डाधिकारी द्वारा अनुविभागीय दण्डाधिकारी को प्रत्यायोजित किया गया है। अंतरराज्यीय परिवहन पास जिला दण्डाधिकारी कार्यालय द्वारा जारी किए जाएंगे। 

विवाह एवं धार्मिक कार्यक्रम के संबंध में दिशानिर्देश
लॉक डाउन की अवधि में विवाह कार्यक्रम को पूर्णतया स्थगित करने का आदेश दिया गया है। अपवादिक परिस्थिति में केवल 10 व्यक्तियों को विवाह में सम्मिलित होने की अनुमति दी जा सकेगी। इसके लिए अनुविभागीय दण्डाधिकारी कार्यालय में आवेदन प्रस्तुत करना होगा। विवाह कार्यक्रम में किसी प्रकार का सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं भोज की अनुमति नहीं होगी।

उक्त अवधि में सभी धार्मिक स्थलों में पूजा-अर्चना यथावत् रहेगी परन्तु बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश को पूर्णत: वर्जित किया गया है। यह निषेधाज्ञा नवरात्रि पर्व के दौरान भी लागू रहेगी। उक्त अवधि में मस्जिदों में बाहरी व्यक्तियों को नमाज पढऩे की अनुमति नहीं रहेगी। यह प्रतिबंध मंदिर, मस्जिद, गुरूद्वारा, गिरिजाघर आदि सभी धार्मिक उपासना केन्द्रों में लागू रहेगा। इस दौरान सभी धार्मिक, सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थल व पर्यटन से संबंधित सभी गतिविधियां, होटल रिसॉर्ट बंद रहेंगे। आवश्यक सेवाओं में कार्यरत व्यक्ति अथवा फंसे हुए व्यक्तियों के लिए यह सुविधा चालू रहेगी जिसकी सूचना होटल संचालक द्वारा स्थानीय प्रशासन को दी जाएगी।

लॉकडाउन अवधि में कोविड टीकाकरण
इस अवधि में कोविड-19 के टीकाकरण का कार्य पूर्वानुसार संपादित किया जाएगा। टीकाकरण अभियान वर्तमान में 45 वर्ष से अधिक सभी व्यक्तियों के लिए किया जा रहा है, अत: ऐसे व्यक्ति जिन्हें टीकाकरण किया जाना है, सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक अपने साथ आधार कार्ड लेकर टीकाकरण केन्द्र जा सकते हैं। टीकाकरण केन्द्र तक जाने के लिए पास के तौर पर आधार कार्ड को मान्य किया जाएगा।

प्रतिबंधित रहेंगे हाट-बाजार,
जिले के भीतर ग्रामीण तथा नगरी क्षेत्रों में लगने वाले सभी प्रकार के साप्ताहिक हाट-बाजार आगामी आदेश तक बंद रहेंगे।

मीडिया कर्मी कर सकेंगे रिपोर्टिंग
जिले के सभी मीडिया कर्मियों को कोरोना संक्रमण से बचने के आवश्यक उपायों का पालन करते हुए कार्य करने की अनुमति दी गई है। उक्त कार्य में समय की पाबंदी नहीं होगी, किन्तु उन्हें अपने साथ पहचान-पत्र रखना होगा। इसी तरह समाचार पत्र बांटने वाले हॉकरों को संबंधित ब्यूरो चीफ द्वारा पहचान पत्र जारी किया जाएगा। 
 


10-Apr-2021 5:18 PM 23

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
धमतरी, 10 अपै्रल।
जैसे ही कोरोना की रोकथाम के लिए दुकान खुलने और बंद होने के समय या पड़ोसी जिले के जिलों की लॉकडाउन की खबरें आती है। कुछ व्यापारी और दुकानदार कालाबाजारी और भण्डारण शुरू कर देते हैं ।

जिला कलेक्टर ने अवैध भंडारण एवं कालाबाजारी रोकने के लिए टीम गठित कर ऐसे दुकानदारों एवं व्यापारियों के ऊपर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं जिसके तहत ओम शान्ति फ्रूट कंपनी पर 3000 रुपए जुर्माना किया गया। फलों को अत्यधिक उच्च कीमत पर बेचने पाए जाने के विरुद्ध ये कार्यवाही की गई।

 


10-Apr-2021 5:14 PM 27

धमतरी, 10 अपै्रल। आंधी तूफान में चरमराई पेयजल व्यवस्था को जल विभाग अध्यक्ष एवं उनकी टीम ने रात को ही सुधारा और आज  फिल्टर प्लांट से शहर वासियों को पेयजल सुचारू रूप से मिला। 
कल शाम आंधी तूफान से शहर में विद्युत व्यवस्था चरमरा गई थी और विद्युत संबंधी 33 केवी लाइन में फाल्ट हो जाने के कारण नगर पालिक निगम का वाटर फिल्टर प्लांट गुरुवार शाम 6 बजे से बंद था।  जल विभाग द्वारा सीएसपीडीसीएल के इंजीनियर पटेल को इसकी जानकारी दी गई, तो उन्होंने बताया कि 33 केवी लाइन में खराबी आ गया जिसे छाती फीडर से जोड़ कर चालू करने की बात कहे इस कार्य में और शहर में आंधी तूफान की वजह से कई वार्डों में भी लाईट बंद की शिकायत की वजह से सुधार कार्य में लेट होने से और छाती फीडर के लाईन उल्टा होने से रात 10 बजे तक फिल्टर प्लांट चालू नहीं हुआ जिसकी जानकारी नगर निगम जल विभाग के अध्यक्ष अवैश हाशमी को मिला। 

उन्होंने तत्काल इसकी जानकारी महापौर विजय देवांगन को दी।  उन्होंने जल विभाग और विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित कर जल्द उचित कार्यवाही करने कहे जल विभाग अध्यक्ष अवैश हाशमी जल विभाग के इंजीनियर भूपेंद्र दिली और मंगलू निर्मलकर के साथ पावर हाऊस जाकर एवं उस विभाग के परमार और पटेल इंजीनियर से सतत संपर्क कर छाती फीडर के लाईन को पलटी करवाने कहें जिस पर कार्यवाही हुई और 12.30 बजे इन्होंने नगर पालिक निगम का फिल्टर प्लांट पहुंचकर फिल्टर प्लांट चालू करवाए जिससे देर रात से सुबह सात बजे तक शहर के सभी नौ विशाल ओवर हैंड टैंकों को भरा गया और शहर के सभी वार्डों में आज सुबह पेयजल आपूर्ति की गई। 

महापौर विजय देवांगन, आयुक्त मनीष मिश्रा एवं सभापति अनुराग मसीह और जल विभाग अध्यक्ष अवैश हाशमी और विद्युत विभाग पावर हाऊस के परमार एवं पटेल और नगर निगम जल विभाग के इंजीनियर भूपेंद्र दिली एवं सहायक लिपिक मंगलू निर्मल कर और जल विभाग की टीम की कार्यशैली का परिणाम है कि आज सुबह सुचारू रूप से शहर की जनता को पेयजल प्राप्त हुआ।
 


10-Apr-2021 5:12 PM 22

ग्राम स्तर पर प्राथमिक एवं मिडिल स्कूलों को बनाया जाएगा आइसोलेशन सेंटर

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
धमतरी, 10 अपै्रल।
जिले में लगातार बढ़ते कोरोना के धनात्मक प्रकरणों को दृष्टिगत करते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जयप्रकाश मौर्य ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी एसडीएम तथा जनपद पंचायतों के सीईओ एवं नगरीय निकायों के आयुक्त एवं सीएमओ को अलग-अलग निर्देश जारी किए। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ने बताया कि शनिवार शाम पांच बजे तक सभी ग्राम पंचायतों में स्थित प्रायमरी एवं मिडिल स्कूलों को आइसोलेशन सेंटर बनाकर वहां बिजली, पंखे, पेयजल, साफ-सफाई आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए, वहीं नगरीय निकायों में किसी वार्ड विशेष में 20 या इससे अधिक पॉजीटिव केस आने पर आयुक्त द्वारा उस वार्ड में कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा। इस दौरान हाट-बाजार भी बंद रखने के निर्देश कलेक्टर ने वीसी में दिए।

कलेक्टोरेट सभाकक्ष में कल शाम पांच बजे आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में कलेक्टर ने बताया कि जिले की ग्राम पंचायतों में स्थित मिडिल एवं प्रायमरी स्कूल आइसोलेशन सेंटर होंगे, जहां पर कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों को पृथक से रखा जाएगा। आइसोलेशन सेंटर में बिजली, पानी, स्वच्छता जैसी मूलभूत सुविधा शनिवार शाम तक दुरूस्त करने के निर्देश कलेक्टर ने एसडीएम एवं जनपद सीईओ को दिए। यह भी बताया गया कि स्कूल में स्थापित आइसोलेशन सेंटर में मरीजों को भोजन उनके परिजन ही उपलब्ध कराएंगे। ऐसे मरीज जिनके घर के शत-प्रतिशत सदस्य कोरोना पॉजीटिव पाए जाते हैं, उनकी भोजन व्यवस्था पंचायत करेगी। 

आइसोलेशन सेंटर का नोडल ग्राम पंचायत का सचिव तथा पटवारी ऑब्जर्वर होंगे। ग्राम पंचायत में कंटेनमेंट जोन स्थापित करने के लिए संबंधित अनुभाग का अनुविभागीय अधिकारी प्राधिकृत अधिकारी होंगे तथा आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं जैसे राशन, किराना सामान वितरण के लिए वे रणनीति तैयार करेंगे। सर्विलेंस एवं विजिलेंस का काम पूर्वानुसार आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं मितानिनें करेंगी। 

गांवों में मनरेगा के तहत कार्य चालू रहेंगे। उन्होंने यह स्पष्ट किया कि ऐसे पॉजीटिव मरीज जिनके घर में पृथक कमरा है और दो अलग-अलग शौचालय हैं, उन्हें होम-आइसोलेशन की अनुमति दी जाएगी। किसी भी मरीज को पैकेज्ड फूड नहीं दिया जाएगा तथा मरीज अपने साथ कपड़े, बिस्तर और बरतन अपने साथ लेकर आइसोलेशन सेंटर में जाएंगे। सभी आइसोलेशन सेंटर में प्रतिदिन सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिडक़ाव अनिवार्य रूप से कराने तथा रोजाना कोटवार के माध्यम से मुनादी कराने के लिए भी कलेक्टर ने निर्देशित किया। जिन आइसोलेशन सेंटरों में पेयजल की व्यवस्था उपलब्ध नहीं रहेगी, वहां पंचायत द्वारा टैंकर की व्यवस्था की जाएगी। 
उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि किसी भी स्वस्थ व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती नहीं किया जाएगा, जब तक वह को-मॉर्बिड न हो। शनिवार शाम तक इन जगहों में आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश कलेक्टर ने एसडीएम, आयुक्त नगर निगम, जनपद पंचायत के सीईओ तथा नगरीय निकायों के सीएमओ को दिए।

कलेक्टर ने बैठक में यह भी बताया कि विवाह के आयोजन में डी.जे. एवं सामूहिक भोज की अनुमति नहीं होगी, वहीं प्रत्येक पक्ष से अधिकतम 10-10 लोग अर्थात् अधिकतम 20 व्यक्ति सम्मिलित हो सकेंगे। वर अथवा वधू में से किसी में भी कोरोना का लक्षण पाया जाता है तो विवाह कार्यक्रम रद्द भी किया जा सकता है।

आगामी नवरात्रि पर्व में भीड़ जुटने तथा संक्रमण फैलने की संभावना को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर ने कहा कि मंदिरों में पूजा करने तथा वहां ज्योति कलश स्थापित करने की अनुमति पुजारियों को रहेगी। इसके अलावा नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में हाट-बाजार प्रतिबंधित रहेंगे। कलेक्टर  मौर्य ने कहा कि नगरीय निकायों में स्थित किसी वार्ड में कोरोना के 20 से अधिक पॉजीटिव प्रकरण पाए जाने पर उस क्षेत्र में कंटेनमेंट जोन स्थापित किया जाएगा। 

इसके लिए आयुक्त अथवा संबंधित सीएमओ द्वारा भौगोलिक स्थित के आधार पर कंटेनमेंट जोन का निर्धारण किया जाएगा।
उन्होंने यह भी कहा कि यदि कोई दुकान संचालक कोरोना पॉजीटिव आता है तो उसे दुकान खोलने की अनुमति नहीं होगी, चाहे उसकी दुकान किसी भी वार्ड में स्थित हो। जब तक उसके परिवार का एक भी सदस्य पॉजीटिव होगा, तब तक वह अपना प्रतिष्ठान संचालित नहीं करेगा। कन्टेनमेंट जोन में आवश्यक वस्तु एवं सेवाएं यथा मेडिकल स्टोर्स, दूध, किराना गैस सिलेंडर आपूर्ति के अलावा शेष सेवाओं का आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। नगरीय निकायों में भी नियमित लाउड स्पीकर से माध्यम से जानकारी प्रसारित करने के निर्देश कलेक्टर ने आयुक्त को दिए। बैठक में जिला पंचायत के सीईओ मयंक चतुर्वेदी सहित तीनों अनुविभाग के एसडीएम, डिप्टी कलेक्टर एचएल गायकवाड़, सीएमएचओ डॉ. डी.के तुरे सहित जनपद पंचायतों के सीईओ व नगर पंचायतों के सीएमओ वीडियो कॉफ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े रहे।

जिले में 20 वेंटिलेटर और 550 ऑक्सीजन सिलेंडरयुक्त बिस्तर की उपलब्धता
कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य द्वारा कल शाम को आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में आपातकालीन स्थिति में जिले में वेंटिलेटर तथा ऑक्सीजन सिलेंडर की उपलब्धता के बारे में पूछे जाने पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डीके तुरे ने बताया कि कोरोना के मरीजों की आपात स्थिति के लिए जिला अस्पताल में 10 वेंटिलेटर उपलब्ध हैं और पांच नए वेंटिलेटर कुछ दिनों में शासन से मिल जाएंगे। पांच अतिरिक्त वेंटिलेटर के बाद कुल 20 वेंटिलेटर उपलब्ध रहेंगे। 

उन्होंने यह भी बताया कि वर्तमान में 550 ऑक्सीजन सिलेंडरयुक्त बिस्तर उपलब्ध हैं। जिला अस्पताल में हाल ही में ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट स्थापित किया गया है, जहां पर एक दिन में 88 जम्बो सिलेंडर के बराबर ऑक्सीजन की सप्लाई सुनिश्चित हो सकेगी। इससे ऑक्सीजन सप्लाई के लिए जिला अस्पताल सक्षम हो गया है। कलेक्टर ने कहा कि ग्रामीण अथवा शहरी क्षेत्र में मरीजों को अस्पताल अथवा आइसोलेशन सेंटर में भर्ती कराने का निर्धारण चिकित्सकों के दल द्वारा किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि यदि मरीज किसी गम्भीर बीमारी से ग्रसित है और कोरोना का संक्रमण जानलेवा है, तो उसे अस्पताल में दाखिल कराया जाएगा तथा सामान्य संक्रमित व्यक्ति को आइसोलेशन सेंटर में भेजने के लिए चिकित्सकों के द्वारा तय किया जाएगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.तुर्रे ने बताया कि आयुष्मान भारत योजना के जिला सलाहकार  देवेन्द्र सोनी को इसका नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। साथ ही कलेक्टर ने साफ तौर पर निर्देशित किया है कि कोविड सेंटरों में गम्भीर मरीजों के लिए 50 फीसदी बिस्तर आरक्षित रखा जाए, ताकि आपातकालीन मरीजों के लिए चिकित्सा व्यवस्था तत्काल उपलब्ध कराया जा सके।
 


Previous123456789...2728Next