छत्तीसगढ़ » धमतरी

Previous12345Next
Date : 22-Jul-2019

कुरूद से शिवभक्तों का जत्था बैद्यनाथ धाम के लिए रवाना

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुरूद, 22 जुलाई।
सावन महोत्सव 2019 के तहत इस बार भी बोल बम सेवा समिति कुरूद के बैनर तले 251 कांवरियों तथा 20 सेवक सदस्यों सहित 271 कांवरियों का जत्था बाबा बैद्यनाथ धाम के लिए रवाना हुए। बोल बम सेवा समिति के अध्यक्ष भानु चन्द्राकर ने बताया कि हमारी बोल बम सेवा समिति पूरे प्रदेश में इतनी बड़ी संख्या मे कंवारिया का जत्था ले जाने वाली पहली संस्था है जो पिछले कई वर्षों से यात्रा की व्यवस्था करते आयी है। जिससे हमारी संस्था गौरवान्वित महसूस करती है। पिछले 20 वर्षों से इस आयोजन के लिए बाबा बैद्यनाथ ने हमारी संस्था को अपार शक्ति दी है जिसमें हमारे क्षेत्र सहित विभिन्न जगहों से अमीर-गऱीब सभी सदस्यों की टोली में शामिल होते है। इसके अलावा बोल बम सेवा समिति वर्ष भर क्षेत्र में अनेकों धार्मिक और सामाजिक कार्यों के लिए अग्रणी है। इस बार भी बाबा धाम जाने वाले शिवभक्तों के लिए समिति ने छ: महिने पहले ही तैयारी कर रेल्वे टिकट का आरक्षण कराया है। इसके अलावा हॉटल और रास्ते मे रूकने की व्यवस्था भी छ: माह पूर्व कर लिया जाता है। कुरुद से सभी लोगों के लिए वाहन की व्यवस्था रहता है। 20 सेवक सदस्यों की टोली यात्रा के 3 दिन पूर्व ही भंडारा का समान लेकर बम सदस्यों के भोजन और नाश्ते का व्यवस्था के लिए यहाँ से रवाना  हो जाते है। जिससे बोल बम सदस्यों के लिए सुचारू व्यवस्था हो सके।

रविवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार कुरूद से चंडी मंदिर में पूजा-अर्चना कर 251 कांवरियों का जत्था बाबा धाम के लिए रवाना हुए। जो रायपुर से ट्रेन द्वारा साउथ-बिहार दुर्ग दानापुर हेतु प्रस्थान किये। इस दौरान रायपुर रेल्वे स्टेशन में क्षेत्र के विधायक और प्रदेश के पूर्व केबिनेट मंत्री अजय चन्द्राकर ने सभी सदस्यों का स्वागत कर उन्हें शुभकामनाएं देते हुए रवाना किए।  कांवरिये बाबा बैद्यनाथ के दर्शन के बाद 27 जुलाई को पुन: दुर्ग दानापुर ट्रेन मे वापसी के लिए प्रस्थान करेंगे। 

 


Date : 22-Jul-2019

शिवालयों में जलाभिषेक करने उमड़े भक्त

छत्तीसगढ़ संवाददाता
धमतरी, 22 जुलाई। सावन महोत्सव के प्रथम सोमवार को शिवालयों में भक्तों की आपार उत्साह देखने को मिली। अलसुबह से जलाभिषेक करने शिव मंदिरों में भक्तों और कांवरिओं का सैलाब उमड़। रिसाइपारा के नागेश्वर महादेव मंदिर में भक्तों को दूध का प्रसाद वितरण किया गया।  
श्री बोलबम कांवरिया कल्याण संघ की अगुवाई में शहर एवं ग्रामीण अंचल के कांवरिए द्वारा आज शहर में कांवर यात्रा निकाली गई। समिति के पदाधिकारियों ने बताया कि रूद्रेश्वर घाट में स्नान करने के बाद रुद्री के रूद्रेश्वर का जलाभिषेक किया गया। पश्चात श्रद्घालु कांवर में जल भरकर धमतरी पहुंची और बूढ़ेश्वर महादेव मंदिर, अर्द्घनारीश्वर मंदिर, महाकालेश्वर मंदिर समेत अन्य शिव मंदिरों में जलाभिषेक किया। सुबह से शाम तक पूजा-अर्चना करने मंदिरों में भक्तों की भीड़ रही। 
माहभर चलेगा महापुराण 
बोलबम कांवरिया कल्याण संघ के प्रमुख दाऊ कृष्ण कुमार गुप्ता ने बताया कि सावन महोत्सव के अवसर पर बूढ़ेश्वर महादेव मंदिर में महाआरती हुआ। प्रत्येक सोमवार को मंदिर में भगवान शंकर का फूल, बेलपत्ती, केला पत्ती से विशेष श्रृंगार किया गया। बूढ़ेश्वर महादेव मंदिर में बोलबम कांवरिया कल्याण संघ द्वारा शिव महापुराण कथा का आयोजन किया गया है, जो माहभर चलेगा। प्रवचनकर्ता पं. हरिशरण वैष्णव है। संगीतमय प्रवचन हर रोज दोपहर 2.30 से 5.30 बजे तक चलेगा। 
वटवृक्ष के बीच हैं महादेव, 300 साल पुराना मंदिर 
बटुकेश्वर महादेव मंदिर में शिवलिंग बटवृक्ष के बीच में है। यह 300 साल पुराना मंदिर है। श्री बटुकेश्वर महादेव मंदिर समिति के सदस्यों ने बताया कि पहले शिव मंदिर था। बरगद का पौधा उग आया। यह पौधा धीरे-धीरे बड़ा रूप लेते गया। शिव लिंग के चारों ओर से घेर लिया। एक ओर से दरवाजे समान रास्ता दिया। तब से मंदिर को बटुकेश्वर महादेव कहा जाने लगा। बरगद का पेड़ 250 साल पुराना है। पेड़ के गर्भ में महादेव हैं। मंदिर में माता अन्नपूर्णा की प्रतिमा के अलावा कालसर्प भी है। कालसर्प योग वाले लोग मंदिर में आकर पूजा पाठ कराते हैं। बारिश नहीं होती तो मंदिर के गर्भगृह में दीवार बनाकर शिवलिंग के स्थान को पानी में भर देते है। 
इन शिवालयों में उमड़ें भक्त
पहले सोमवार को इतवारी बाजार स्थित किले के बुढ़ेश्वर महादेव, शिवचौक के बटुकेश्वर महादेव मंदिर, रिसाइपारा के नागेश्वर मंदिर, डाकबंगला वार्ड के पीपलेश्वर, हटकेशर के नागेश्वर महादेव, बनियापारा स्थित महाकालेश्वर मंदिर, सिहावा चौक स्थित अर्द्धनारीश्वर मंदिर सहित अन्य शिवालयों में भक्तों की कतार लगी रही। 
इस बार खास हैं चारों सावन सोमवार  
ज्योतिषाचार्य पं. होमन शास्त्री ने बताया कि इस बार सावन माह में 4 सोमवार पड़ रहे हैं और चारों ही सोमवार के दिन विशेष संयोग रहेंगे। इसमें 2 सोमवार पर पंचमी तिथि आ रही है और 2 सोमवार पर प्रदोष रहेगा। पंचमी वाले सोमवार के दिन जिन लोगों को कालसर्प दोष है, उनके लिए विशेष शुभ रहेगा। इस दिन अभिषेक, रूद्राभिषेक, पूजा-अर्चना करने से भगवान भोलेनाथ की विशेष कृपा मिलेगी और रुके हुए काम पूरे होंगे। 

 


Date : 22-Jul-2019

जबर हरेली : पंथी के साथ निकली बैलगाड़ी रैली, युवाओं ने दिखाए करतब

धमतरी, 22 जुलाई। जबर हरेली रैली में शामिल युवक-युवतियां व लोग रास्तेभर डीजे, बाजे-गाजे, बांसुरी की धुन और बारहमासी त्योहारों की गीतों पर थिरकते रहे। अखाड़ा समितियों के युवक करतब दिखाते रहे। पंथी नृत्य करने वाले समिति के कलाकारों ने तरह-तरह की झांकियों की प्रस्तुति देकर राहगीरों और शहरवासियों को मंत्रमुग्ध कर दिया। जबर हरेली रैली में कई तरह की प्रस्तुतियों ने हर वर्ग को देखने मजबूर कर दिया। जबर हरेली रैली के दूसरे वर्ष का यह आयोजन काफी आकर्षक रहा। 

पारंपरिक हरेली त्योहार के उपलक्ष्य में छत्तीसगढ़यिा क्रान्ति सेना के तत्वावधान में शहर में 21 जुलाई रविवार को जबर हरेली रैली आकर्षक अंदाज में निकाली गई। यह रैली पुरानी मंडी से निकाली गई, जिसमें जिलेभर के युवक-युवतियां व लोग शामिल हुए। रैली में 8 डीजे, बैलगाड़ी जुलूस, कई नर्तक दल, अखाड़ा समितियों के लोग और पंथी नृत्य समितियों के कलाकार रैली में अपनी-अपनी कला का प्रदर्शन करते हुए चल रहे थे। छत्तीसगढ़ के बारहमासी त्यौहारों पर चलने वाले गीत, नृत्य की प्रस्तुति पर करीब पौन किलोमीटर लंबी रैली में लोग थिरक रहे थे। युवा वर्ग हाथ में डंडा लेकर राउत नाचा के अंदाज में जमकर थिरकते रहे। इस आकर्षक जबर हरेली रैली को देखने सडक़ पर राहगीर और शहरवासियों की जगह-जगह भीड़ लगी रही।

घरों के छत पर निकलकर देखे मनमोहक नजारे 
सदर रोड में युवतियां, महिलाएं व लोग अपने-अपने घरों के छत पर निकलकर इस मनमोहक नजारे को देखने से नहीं चूके। रैली में बस्तरिया नृत्य, गेड़ी नृत्य, राऊत नाचा, होली पर्व का डंडा नृत्य, दीवाली त्योहार के करमा-ददरिया व सुआ नृत्य, पंथी नृत्य, अखाड़ा के करतबों की प्रस्तुति कलाकार रास्तेभर देते रहे। रैली पुरानी मंडी से होते हुए सिहावा चौक, घड़ी चौक, सदर रोड, मठमंदिर चौक, विंध्यवासिनी मंदिर से होते हुए एकलव्य खेल मैदान पर पहुंची, जहां रैली का समापन हुआ। रैली ने खेल मैदान में सभा का रूप लिया, जहां समिति के सदस्यों का उद्बोधन हुआ। कुछ नर्तक दलों और समितियों ने अपने-अपने कला व करतबों की प्रस्तुति दी। रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति भी हुई। इस कार्यक्रम में सभी वर्ग के लोग शामिल हुए। 

 


Date : 22-Jul-2019

हरित श्रृंगार कर मनाया सावन महोत्सव, हुई कई मनोरंजक गेम्स

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 22 जुलाई।
रुद्रेश्वर घाट में महानदी में दीपदान कर ब्राह्मण युवा मंच और महिला मंच ने सावन महोत्सव मनाया। इससे पहले हरित श्रंृगार प्रतियोगिता सहित कई प्रकार के मनोरंजक गेम्स का आयोजन भी किया गया।
सर्व ब्राह्मण समाज महिला और युवा मंच द्वारा रुद्री गार्डन में सावन महोत्सव का आयोजन किया गया। इस दौरान महिलाओं के हरित श्रृंगार फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें महिलाओं ने बढ़चढ़ कर हिस्सेदारी की। मोमबत्ती दौड़, राऊंड एंड राऊंड, लंगड़ी दौड़ सहित कई प्रकार के गेम्स भी रखे गए। दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक कार्यक्रम चलता रहा। अंत में गेम्स के विजेताओं को पुरस्कार वितरण किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत समाजजनों ने रूद्रेश्वर महादेव की पूजा से की और समापन महानदी में दीपदान कर किया गया। कार्यक्रम में महिला मंच से आशा श्रोती, बरखा शर्मा, हेमा दुबे, साक्षी शर्मा, सुभाषनी शर्मा, ममता मिश्रा, वन्दना दीवान, नीलम शुक्ला, आयुषी पांडेय, अंकिता मिश्रा, प्रियंका दीक्षित, दृष्टि शर्मा, शिखा मिश्रा, हर्षिता पाण्डेय युवा मंच से दीप शर्मा, ओमप्रकाश शर्मा, विक्रांत शर्मा, दीपनारायण शर्मा, पीयूष पांडेय, नारायण दुबे, दीपक पांडेय, रत्नेश मिश्र, ज्ञानेंद्र दीक्षित, आदर्श शर्मा आदि उपस्थित थे।

दिया हरियाली का संदेश
कार्यक्रम को लेकर युवाओं में उत्साह देखने को मिला। महिलाएं हरे रंग साडिय़ों के साथ सावन श्रृंगार कर कार्यकम में पहुंची थी। कार्यक्रम के दौरान 101 दीपदान और रुद्रेश्वर महादेव के जलाभिषेक से किया गया। इसके बाद मंदिर परिसर में 21 पेड़ लगाकर समाज के लोगों ने हरियाली का संदेश दिया।

 

 


Date : 21-Jul-2019

नवोदय संकुल स्तरीय वॉलीबॉल, 42 का संभाग स्तर के लिए चयन


छत्तीसगढ़ संवाददाता
कुरूद
, 21 जुलाई। जवाहर नवोदय विद्यालय कुरूद में 18 से 19 जुलाई तक 30वीं संकुल स्तरीय बालक-बालिका वॉलीबॉल प्रतियोगिता हुई। प्रतियोगिता का शुभारंभ आगंतुकों के स्वागतोपरांत किया गया। 

विद्यालय प्राचार्य मंजु शर्मा ने स्वागत भाषण में इस विद्यालय को संकुल स्तरीय प्रतियोगिता आयोजित करने का अवसर दिए जाने पर उपायुक्त, नवोदय विद्यालय समिति, भोपाल संभाग का आभार मानते हुए प्रतिभागी खिलाडिय़ों का उत्साहवर्धन किया। उन्होंने खेल की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि जीवन में खेल उतना ही आवश्यक है जितना कि शैक्षणिक विधाएंं लेकिन भावी जीवन में धीरे-धीरे खेल की प्रवृत्ति को कम करते जाते पर चिंता भी जताई।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही प्राचार्य महोदया द्वारा रायपुर संकुल के ध्वज का आरोहण किया गया और खिलाडिय़ों ने वॉलीबॉल प्रतियोगिता में खेल भावना और ईमानदारी प्रदर्शित करने का संकल्प लिया। प्रतियोगिता में छ.ग. के कुरूद,धमतरी सहित गरियाबंद, बालोद, कबीरधाम, दुर्ग और रायपुर नवोदय विद्यालयों के 14, 17 और 19 आयु वर्ग वाले 132 खिलाडिय़ों ने भाग लिया। 

 इस प्रतियोगिता में मुकेश कुमार सिन्हा, सावन कुमार पड़ोती, संजय कुमार साहू और डिगेन्द्र कुमार ध्रुव ने निर्णायक के रूप में महत्वपूर्ण योगदान दिया। दो दिनों तक संचालित इस प्रतियोगिता में विविध आयु वर्ग के 21 बालक एवं 21 बालिकाओं को सम्मिलित करते हुए कुल 42 खिलाडिय़ों का चयन 23 से 25 जुलाई तक जवाहर नवोदय विद्यालय, बैतूल (म.प्र.) में आयोजित होने वाली संभाग स्तरीय वॉलीबॉल प्रतियोगिता के लिए किया गया है। जिनमें धमतरी नवोदय के 15 बालक-बालिकाओं सहित कबीरधाम के 14, गरियाबंद के 7, बालोद के 2, दुर्ग के 2 और रायपुर के 2 खिलाड़ी शामिल हैं।

 समापन समारोह में प्रतिभागी खिलाडिय़ों को प्रमाण-पत्र प्रदान किया गया। इस अवसर पर प्राचार्य मंजू शर्मा, , अरुणा राठौर,  उपप्राचार्य ए.आर.रॉय, शिक्षक समीर देवांॅगन, श्रीति पालीवाल सहित छात्र-छात्राएं उपस्थित थे। 


Date : 21-Jul-2019

शिशु के जन्म के 9 दिन बाद मिला जाति प्रमाण-पत्र, कमिश्नर, कलेकटर ने पालक को किया वितरण 
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 21 जुलाई।
रायपुर संभाग के कमिश्नर जीआर चुरेन्द्र ने जिला अस्पताल में नवजात शिशु के नाम से जाति प्रमाण-पत्र उसके माता-पिता को वितरण कर जिले में 'जन्म से जाति प्रमाण-पत्र' योजना का शुभारंभ किया। धमतरी तहसील के ग्राम बंजारी (कलारतराई) निवासी दीनदयाल ध्रुव और उनकी पत्नी सगनी बाई को 11 जुलाई को पुत्री की प्राप्ति हुई। बच्ची के पिता ध्रुव के जाति प्रमाण-पत्र और बच्चे के जन्म प्रमाण-पत्र के साथ निर्धारित प्रारूप में किए गए आवेदन के आधार पर अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) धमतरी के द्वारा नवजात बच्ची आशिषमति के नाम पर जन्म प्रमाण-पत्र चॉइस सेंटर के माध्यम से जारी किया गया।

सुगम बनाने के उद्देश्य से पहल 
जाति प्रमाण-पत्र को अधिक सरलीकृत और सुगम बनाने के उद्देश्य से सामान्य प्रशासन विभाग छत्तीसगढ़ शासन द्वारा बच्चे के जन्म के समय ही जाति प्रमाण-पत्र बनाए जाने का निर्णय लिया गया है। जिले में इसका आगाज करते हुए कमिश्नर चुरेन्द्र ने ध्रुव दंपति को जन्म के सिर्फ 9 दिन बाद जाति प्रमाण-पत्र प्रदान किया। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जच्चा-बच्चा रक्षा किट का भी वितरण कमिश्नर के द्वारा किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर रजत बंसल, अपर कलेक्टर दिलीप अग्रवाल, एसडीएम योगिता देवांगन, सीएमएचओ डॉ. डीके तुर्रे, सिविल सर्जन एवं अधीक्षक डॉ. मूर्ति, वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. बीके साहू, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर शब्बीर हुसैन उपस्थित थे। 

 


Date : 21-Jul-2019

संगीत महाविद्यालय का 31वां स्थापना दिवस मनाया, शास्त्रीय गायन और तबला संगत के कलाकारों ने दी प्रस्तुति 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 21 जुलाई।
श्रीकृष्ण संगीत महाविद्यालय धमतरी का 31वां स्थापना समारोह शनिवार को शाम 5 बजे कर्मचारी भवन में मनाया गया। मुख्य अतिथि विधायक रंजना साहू थीं। बाल कलाकारों ने शास्त्रीय गायन, गजल, भजन, कथक नृत्य की प्रस्तुति दी। सभी कलाकारों को पुरस्कार देकर सम्मानित भी किया गया। रायपुर के बाल कलाकार गार्मी काले व उनकी टीम ने शास्त्रीय गायन प्रस्तुत किया। आरना देवास्कर ने भजन, निर्झर चांडक ने गजल, भजन, तबला संगत गिरिश काले ने दिया। आदित्य कुर्म ने तबला वादन, दीपक व्यास ने संगीत की प्रस्तुति दी। इनके अलावा कालेज के छात्रों ने कथक नृत्य की प्रस्तुति दी। संगीत महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं, स्टाफ व संगीत प्रेमियों ने विधायक को भवन की मांग का ज्ञापन दिया। कवि सुरजीत नवदीप, मनुराज पचौरी, गिरीश साहू, सिमरन बुधवानी, अभिमन्यु गोस्वामी आदि ने बताया कि संस्था ने कथक, तबला समेत संगीत के क्षेत्र में कई कलाकार दिए हैं। कथक में शैफाली पवार, दीपाली कलिहारी ने अंतर्राष्ट्रीय प्रतिभा में मेडल जीत चुकी हैं।  

30 साल बाद मिलेगा खुद का भवन 
विधायक रंजना साहू ने कहा कि संगीत कॉलेज 30 वर्षों से भवन निर्माण के लिए संघर्ष कर रहा है। इसी संस्था से संगीत की शिक्षा ली है। आज मैं पीडी पराडकर सर को गुरुदक्षिणा देना चाहती हूं। जनपद पंचायत धमतरी का भवन खाली है। इस भवन को दिलवाने की पूरी कोशिश करूंगी। संस्था को निराश होने नहीं दूंगी। यह सुन कार्यक्रम में उपस्थित सभी उपस्थितजनों से कर्मचारी भवन तालियों की गडग़ड़ाहट से गूंज उठा। कार्यक्रम की अध्यक्षता रायपुर के संगीतज्ञ दीपक व्यास ने की। विशिष्ट अतिथि अशोक कुर्म, संस्था के संस्थापक पीबी पराडकर थे।


Date : 21-Jul-2019

कोलियारी-खरेंगा मार्ग में घुटने तक भरा है सड़क के गड्ढों में पानी,जिला पंचायत सदस्य ने प्रभारी मंत्री कवासी से सड़क मरम्मत की मांग 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 21 जुलाई।
कोलियारी-खरेंगा जर्जर मार्ग क्षेत्र के ग्रामीणों, विद्यार्थियों और वाहन चालकों के लिए मौत का कुआं साबित हो रहा है। इस मार्ग की यह दुर्दशा रेत खदानों के कारण हुई है। पूर्व में इस क्षेत्र के गांवों में भाजपा के शासनकाल के दौरान कई रेत खदानें संचालित थीं, जहां से रोजाना सैकड़ों हाईवा रेत भरकर निकलते थे। भारी भरकम वाहनों के दबाव के कारण सड़क की हालत बद से बदत्तर हो गई है। सड़क पर जगह-जगह भारी गड्ढे है, जिसकी गहराई घुटने तक है। 

गड्ढों में बारिश के चलते पानी भी भरा हुआ है। ऐसे में इस सड़क पर बाइक, सायकल व चारपहिया वाहन चलाना किसी मुसीबत से कम नहीं है। कोलियारी से खरेंगा की दूरी 8 किमी के आसपास है, लेकिन बदहाल सड़क से होकर बाइक पर चलने में काफी समय लगता है। गड्ढों व कीचड़ में फिसलकर गिरने का खतरा बना रहता है। इस रोड में हमेशा रेत भरकर ट्रेक्टर गुजरते रहते हैं, जिसके कारण बाइक व सायकल सवार को कीचड़ से सराबोर सड़क की पाई में उतरकर चलना पड़ता है। कई दफा यह भी नौबत आ रहा है कि कीचड़ के कारण गिरकर लोग घायल हो जाते हैं। बदहाल सड़क के चलते यहां आए दिन कोई न कोई दुर्घटना हो रही है। सड़क मरम्मत को लेकर चक्काजाम, कांग्रेस की रैली भी निकल चुकी है, लेकिन मरम्मत को लेकर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। शायद शासन-प्रशासन को इस मार्ग में किसी बड़ी दुर्घटना का इंतजार है।

सड़क मरम्मत की मांग 
ग्राम कलारतराई, दर्री, कोलियारी के ग्रामीण आरती साहू, प्रहलाद कुमार, रामकुमार, धीरज यादव, प्रमिला बाई साहू का कहना है कि शासन कोलियारी-खरेंगा मार्ग की तत्काल मरम्मत होनी चाहिए। क्योंकि यह मार्ग बारिश में चलने लायक नहीं है। इस मार्ग से होकर आए दिन विद्यार्थी सायकल से पढ़ाई करने धमतरी जाते हैं। जर्जर सड़क से गुजरते समय हाईवा व ट्रैक्टर-ट्राली से खतरा बना रहता है। समय रहते यदि शासन-प्रशासन इस मार्ग का मरम्मत नहीं कराता हैं, तो ग्रामीण आंदोलन करेंगे। जिला पंचायत सदस्य नीशू चंद्राकर ने कोलियारी-खरेंगा जर्जर मार्ग की शिकायत प्रभारी मंत्री कवासी लखमा के पास समीक्षा बैठक में की थी। जिस पर प्रभारी मंत्री लखमा ने विभाग के अधिकारी को सड़क मरम्मत करने निर्देश दिए, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई है। 


Date : 21-Jul-2019

शालेय खेलकूद स्पर्धा के तहत आमदी में एथलेटिक्स खेलकूद की प्रतियोगिता दौड़, ऊंची कूद, गोला फेंक में विद्यार्थियों ने दिखाया दमखम
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 21 जुलाई।
शालेय खेलकूद स्पर्धा के तहत आमदी में एथलेटिक्स खेलकूद की प्रतियोगिताएं हुई, इसमें 100, 200, 400, 600, 3000 व 5000 मीटर दौड़, लंबी कूद, ऊंची कूद, गोला फेंक, तवा फेंक, भाला फेंक की स्पर्धाएं हुई। बालक, बालिका अंडर 14, 17, 19 वर्ष वर्ग में चयन होने के लिए ब्लॉक के 17 स्कूल के 500 खिलाड़ी शामिल हुए। 

आमदी के शासकीय उमावि खेल मैदान में आयोजित स्पर्धा में धमतरी शहर के डॉ. शोभाराम देवांगन शासकीय उमावि, नूतन स्कूल, सर्वोदय उमावि, अजीम प्रेमजी शंकरदाह, ओरेकल स्कूल, आस्था विद्या मंदिर, छाती, खरतुली, रावा, संबलपुर से 500 से अधिक छात्र-छात्राएं पहुंचे। यहां पर दौड़, ऊंची कूद, गोला फेंक की स्पर्धा हुई, जिसमें छात्र-छात्राओं का उत्साह देखते ही बना। धमतरी बीईओ आरआर गजेंद्र ने बताया कि 29 जुलाई को मोहंदी-मगरलोड में जिला स्तरीय आयोजन होगा। 
इन खिलाडिय़ों का हुआ चयन 
बालक, बालिक अंडर 14, 17, 19 वर्ष वर्ग में प्रथम, द्वितीय स्थान बनाने वाले खिलाडिय़ों का चयन किया गया। अंडर 14 बालक 100 मीटर दौड़ में सागर पटेल, त्रिलोकी ध्रुव, बालिका वर्ग में मुस्कान साहू, डाली साहू, 400 मीटर बालक में डिपेंद्र ध्रुव, टेमेंद्र साहू, बालिका वर्ग में कीर्ति साहू, लक्ष्मी साहू, 600 मीटर बालक में डिपेंद्र ध्रुव, धनंजय कुमार, बालिका में कुमकुम साहू, डाली साहू, 5000 मीटर दौड़ बालक 19 वर्ष में केवल साहू, नेमीचंद साहू, बालिका में तेजेश्वरी, बीना साहू आदि शामिल हैं। ऊंची कूद अंडर 14 बालक में शिवम, हेम कुमार, 17 वर्ष में हिमांशु, यादराम, 19 वर्ष में योगेंद्र, पंकज, भाला फेंक में अंडर 17 वर्ष बालक में रूद्रनीश, सुजल, बालिका में हर्षिता, कशिश, 19 वर्ष बालक में डोपेंद्र, केशव, बालिका में भारती, मधु समेत अन्य स्पर्धाओं के 48 खिलाडिय़ों का चयन किया गया।  

गरियाबंद में हुई वॉलीबॉल स्पर्धा
क्षेत्रीय वॉलीबॉल स्पर्धा गरियाबंद में हुई। इसमें जिला स्तरीय वॉलीबॉल में चयनित 54 खिलाडिय़ों ने खेल का प्रदर्शन किया। पीटीआई हरीश देवांगन ने बताया कि गरियाबंद में आयोजित स्पर्धा में धमतरी जिले के खिलाडिय़ों का प्रदर्शन अच्छा रहा। इन खिलाडिय़ों का चयन राज्य स्तरीय स्पर्धा के लिए होगा। 

चयनित खिलाडिय़ों का नाम राज्य स्तरीय स्पर्धा के पूर्व ही जारी किए जाएंगे। 

 


Date : 20-Jul-2019

हल्की बारिश के बाद रोपा शुरू 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
धमतरी, 20 जुलाई।
जिले में मानसून की दगाबाजी से धान की रोपाई पिछड़ गई है। नर्सरी तैयार करने के बावजूद किसान 10 दिनों तक आसमान ताकते रहे, क्योंकि खेतों में रोपा लगाने के लायक पानी नहीं था। 18 और 19 जुलाई को हुई हल्की बारिश के बाद अंचल में रोपाई के काम में तेजी पकड़ लिया है। अभी भी खरीफ फसल के लिए दो-तीन बार की तेज बारिश जरूरी है। 

भेंडरा के किसान अशोक साहू, ग्राम कुर्रा के दिनेश साहू, बिेरेतरा के लिगेश्वर साहू, बागतराई के सेवक राम साहू, सौराबांधा के प्रकाश कुमार साहू रावनगुड़ा के लिलेश्वर साहू, लिमतरा के द्वारका साहू ने बताया कि इस बार मानसून ने शुरूआत में अच्छी बारिश की। इससे उम्मीद थी कि पर्याप्त बारिश होगी। लेकिन मानसून की दगाबाजी के कारण बोनी पिछड़ गई। किसानों को खेत में नर्सरी तैयार होने के बावजूद रोपाई के लिए इंतजार करना पड़ा। 10 दिनों तक बारिश नहीं होने के कारण खेतों दरारें आने लगी थी। 

1.37 लाख हेक्टेयर का लक्ष्य 
खरीफ वर्ष 2019 में कृषि विभाग ने धमतरी जिले में 1.37 लाख हेक्टेयर रकबा में धान फसल लेने का लक्ष्य रखा है। अब तक 45567 हेक्टेयर में बोनी हो सकी है। रोपाई 56 हजार हेक्टेयर में होना है लेकिन सिंचाई पानी के अभाव में सिर्फ 900 हेक्टेयर में रोपाई हो पाई है। 18 जुलाई को हुई बारिश से किसानों को राहत मिली है। सूखे से जूझ रहे कई किसान खेत नहर किनारे, डबरा व तालाब किनारे है, वे डीजल पंप लगा कर पानी खींच कर फसल की सिंचाई कर रहे हैं। कुछ किसान सडक़ किनारे भरे पानी से खेतों को सींच रहे हैं। 
फसल अभी ठीक है

प्रभारी कृषि उपसंचालक आरके कश्यप का कहना है कि धान फसल अभी ठीक है, लेकिन एक सप्ताह तक बारिश नहीं होती हैं तो फसल को नुकसान पहुंच सकता है। हालांकि बारिश होने के लिए अभी समय है। पर्याप्त बारिश नहीं होने के कारण जिले खेती किसानी थोड़ी पिछड़ गई है।

 


Date : 20-Jul-2019

7 टॉपर छात्र-छात्राओं सहित 8 पुलिसकर्मियों का एसपी ने किया सम्मान

धमतरी, 20 जुलाई। जिला पुलिस ने एसपी कार्यालय में सम्मान समारोह किया गया। यहां एसपी बालाजी राव ने जिले के 10वीं, 12वीं के 7 टॉपर्स छात्र-छात्राओं और 8 पुलिसकर्मियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इनमें 10वीं से मॉडल इंग्लिश स्कूल की सुरभि जैन, लक्ष्मी साहू, शासकीय उमावि बगदेही के कौशल साहू, 12वीं से खिसोरा एसएसएम हायर सेकेंडरी स्कूल के धनेश्वर साहू, ओरेकल पब्लिक स्कूल की खुशी गंजीर, अमृता साहू, किरण पब्लिक स्कूल कुरूद के राहुल साहू शामिल हैं। पुलिस विभाग से आरक्षक योगेश साहू, मेघराज साहू, कौशल नेताम, टेमन साहू, तनुजा, रामकृष्ण साहू, मोहित चतुर्वेदी और कमलेश साहू शामिल हैं। इस मौके पर एएसपी केपी चंदेल, डीएसपी पंकज पटेल, रक्षित निरीक्षक केदेव राजू सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद थे। 

 


Date : 20-Jul-2019

विकासखंड स्तरीय शालेय खो-खो स्पर्धा में छात्रों ने दिखाई प्रतिभा
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 20 जुलाई।
शालेय खेलकूद स्पर्धा के तहत 18 जुलाई को ग्राम पंचायत सोरम के शासकीय उमावि में खोखो की विकासखंड स्तरीय स्पर्धा हुई। इस स्पर्धा में अलग-अलग स्थानों से पहुंचे खिलाडिय़ों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया।  विकासखंड स्तर शालेय खो-खो चयन प्रतियोगिता में धमतरी विकासखंड के अंतर्गत सोरम स्कूल के अलावा अजीम प्रेमजी स्कूल शंकरदाह, मॉडल स्कूल धमतरी, बालक स्कूल धमतरी, विद्याकुंज स्कूल लोहरसी, वंदे मातरम स्कूल धमतरी से लगभग 250 खिलाडिय़ों ने भाग लिया। खो-खो की प्रतियोगिता में अंडर-14, अंडर-17 और अंडर-19 आयु वर्ग में बालक और बालिका की अलग-अलग टीम बनाकर मैच कराए गए। स्पर्धाओं में बेहतर प्रदर्शन के आधार पर अंडर-14, अंडर-17 व अंडर-19 की बालक बालिका की अलग-अलग टीम बनाई गई। व्यायाम शिक्षक सुनील सिन्हा ने बताया कि 24 जुलाई को सोरम शासकीय उमावि के खेल मैदान में खो खो की जिला स्तरीय प्रतियोगिता होगी, जिसमें चारों ब्लॉक से खिलाड़ी पहुंचेंगे। 
स्कूल गेम्स के तहत ब्लॉक स्तरीय कबड्डी चयन स्पर्धा नूतन हायर सेकंडरी स्कूल में हुई। बालक, बालिका अंडर 14, 17, 19 वर्ष में चयन के लिए धमतरी ब्लॉक से 400 खिलाड़ी शामिल हुए। उत्कृष्ट प्रदर्शन के आधार पर 60 खिलाडिय़ों का चयन किया गया। सबसे ज्यादा रावां के खिलाडिय़ों का चयन हुआ है। रावां से 12 खिलाड़ी चुने गए। बालक अंडर 14 वर्ष की टीम में भी 5 खिलाड़ी रावां के हैं। इनके अलावा आस्था मंदिर रांवा से 6 खिलाडिय़ों का भी चयन हुआ। चयनित खिलाड़ी जिला स्तरीय स्पर्धा में शामिल होंगे। यह स्पर्धा 22 जुलाई को कातलबोड़ में होगी। चयनित खिलाड़ी क्षेत्रीय स्पर्धा में शामिल होंगे। 26 जुलाई को बालक वर्ग का महासमुंद व 27 जुलाई को बालिका वर्ग का महासमुंद में होगी। 

 


Date : 20-Jul-2019

सील मकान से पड़ोसी पति-पत्नी ने की चोरी, दोनों गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 20 जुलाई।
गृह फाइनेंस लिमिटेड कंपनी ने रुद्री निवासी मनहरण मंडावी के घर को सील कर दिया है। घर के मेन गेट में लंबे समय से ताला लगा देख पड़ोस में रहने वाली राजपूत दंपत्ति ने चोरी की घटना को अंजाम दिया। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने शक के आधार पर उसके घर में दबिश दी, तो पूछताछ में चोरी का भांड़ाफोड़ हो गया। पुलिस ने पति-पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है। 

रुद्री टीआई गगन वाजपेयी ने बताया कि गृह फाइनेंस लिमिटेड कंपनी (बैंक) के प्रबंधक उत्कर्ष अग्रवाल ने 17 जुलाई को चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई। उन्होंने बताया कि मनहरण मंडावी ने बैंक से लोन लिए थे, लेकिन समय अवधि तक राशि नहीं पटाई, तो घर सिलिंग की कार्रवाई की गई। उस घर का ताला टूटा है। पुलिस ने जांच की, तो पता चला कि पड़ोसी में किराए पर रहने वाले उत्तराखंड के बौमटाना जिला भागेश्वर निवासी नरेश पिता सिमसिंह राजपूत और उसकी पत्नी सरस्वती राजपूत के घर नए फ्रीज, वाशिंग मशीन और कुर्सी है। 

 

 


Date : 19-Jul-2019

सीईओ ने बिहान योजना की दीदीयों​ के साथ धान रोपा

गौठान का नामकरण स्थानीय कुल देवता के नाम रखने के निर्देश

नगरी, 19 जुलाई। विकासखंड के ग्राम पंचायत दुगली आश्रित ग्राम मुनईकेरा में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी वजय दयाराम के. ने मोटर सायकल से भ्रमण कर शासन की महत्वपूर्ण योजना नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी योजना के तहत निर्मित गौठान का निरीक्षण किया गया। पशुओं की सुरक्षा व्यवस्था के साथ बरसात के दिनों में पशुओं को गौठान में सुरक्षित रखने के निर्देश सरपंच और सचिव को दिये। वहीं स्वसहायता समूह की महिलाओं से चर्चा करते हुए वर्मी कम्पोस्ट, गौ मूत्र एवं गोबर आदि एकत्रित कर उपयोगी सामाग्री तैयार कर आजीविका संवर्धन की दिशा में आगे बढ़े। गठित गौठान समिति में महिला स्वसहायता समूह की भागीदारी सुनिश्चित हों।

 चर्चा के उपरांत सीइओ जिला पंचायत ने सरपंच एवं ग्रामीणों से कहा कि-स्थानीय कुल देवता के नाम से गौठान का नामकरण करें जिस पर ग्रामीणों ने भी दी सहमति। गांव में पेयजल व्यवस्था एवं स्कूल संबंधी आ रही समस्याओं का समाधान तत्काल करने के निर्देश दिये। इसी तरह सीईओ जिला पंचायत ने ग्राम सरईटोला एवं बांधा में निर्मित गौठान का भी निरीक्षण किया।

 ग्राम मुनईकेरा के महिला स्वसहायता समूह द्वारा आत्मनिर्भर बनने के लिए श्री विधि तरीके से उन्नत खेती की जा रही है। महिलाओं की सुनिश्चित भागीदारी एवं सकारात्मक सोच की सराहना करते हुए स्वयं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा खेत में बिहान योजना की दीदीयों के साथ श्री विधि से धान की रोपाई  किया। ठीक इसी तरह ग्राम गुहाननाला में भी महिला स्वसहायता समूह द्वारा कुल 13 एकड़ कृषि भूमि में मिश्रित खेती की जा रही है जिसका सीईओ ने खुले मन से सराहना किया। गांव में ग्रामीणों सहित अधिकारियों की उपस्थिति में फलदार पौधा का रोपण किया गया। 

ग्राम पंचायत दुगली के बांसपारा में सीईओ जिला पंचायत सहित सरपंच, सचिव एवं ग्रामीणों द्वारा पौधा का रोपण किया गया है। रोपे गये पौधा सुरक्षित रहे इसके लिए भागीदारी निभाने की बात कही गई। इसी तरह देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के गोद ग्राम दुगली में विशेष पिछड़ी जनजाति कमार महिला से स्थानीय स्तर पर उत्पादित चरोटा भाजी की सब्जी खरीद कर सीईओ ने उनका भी मनोबल बढ़ाया।  


Date : 19-Jul-2019

कलेक्टर ने विद्यालय की विभिन्न पंजियों का निरीक्षण कर विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्वक शिक्षा प्रदान करने के निर्देश शिक्षकों को दिए
छत्तीसगढ़ संवाददाता
धमतरी, 19 जुलाई।
कलेक्टर रजत बंसल कुरूद ब्लाक के ग्राम सरबदा पहुंचे। शासकीय प्राथमिक शाला और माध्यमिक शाला के स्कूली बच्चों से रूबरू हुए। उन्होंने बच्चों की क्लास ली और पूछा पढ़-लिखकर क्या बनना चाहते हो। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने विद्यालय की विभिन्न पंजियों का निरीक्षण कर विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्वक शिक्षा प्रदान करने के निर्देश शिक्षकों को दिए। 

स्थानीय सरपंच द्वारा नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी योजनांतर्गत गौठान निर्माण की मांग पर तालाब के समीप उपलब्ध शासकीय जमीन का प्रस्ताव तैयार करने जनपद पंचायत कुरूद के सीईओ को निर्देशित किया। कलेक्टर ने मिडिल स्कूल सरबदा के क्लास रूम में जाकर विद्यार्थियों को संस्कृत विषय का अध्यापन कराया। साथ ही विद्यार्थियों के अंतर्मन को टटोलते हुए उनसे पूछा कि वे बड़े होकर भविष्य में क्या बनना चाहते हैं? इस पर कक्षा आठवीं की छात्रा संजना साहू ने तपाक से बोला कि वह शिक्षक बनना चाहती हैं। छात्र नंदकिशोर साहू ने कहा कि वह बड़ा होकर फौजी बनना की इच्छा रखता है। कलेक्टर ने विद्यार्थियों की इच्छाशक्ति और हाजिरजवाब की सराहना करते हुए उन्हें प्रोत्साहित किया। 

प्रस्ताव तैयार करने सीईओ को निर्देश 
निरीक्षण के दौरान उन्होंने मिडिल स्कूल के जर्जर भवन को ढहाने तथा नवीन भवन के लिए प्रस्ताव तैयार करने जनपद पंचायत के सीईओ को निर्देशित किया। साथ ही ग्राम के 8 एकड़ रिक्त भूमि में सघन पौधरोपण करने तथा नल-जल योजना के तहत निर्माणाधीन टैंक को जल्द पूर्ण करने के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया। इसके पहले, निरीक्षण के दौरान सरबदा में रंगमंच निर्माण का कार्य अधूरा रहने बात स्थानीय सरपंच द्वारा बताई गई, जिस पर सीईओ जनपद को निर्माण शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। 

 


Date : 19-Jul-2019

सीएमएएचओ बोले- सांप के डसने पर तुरंत इलाज ही सबसे अच्छा बचाव, झाड़-फूंक से रहें दूर 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
धमतरी, 19 जुलाई।
बारिश के मौसम में सर्पदंश का डर बना रहता है, इससे बचाव के लिए आवश्यक सावधानी की जरूरत पड़ती है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.डी.के.तुर्रे ने लोगों से कहा है कि सांप कांटने के बाद लोग बैगा-गुनिया से झाड़-फूंक न कराएं। तुरंत ही सीधे अस्पताल लेकर जाएं। डॉक्टर को दिखाएं। उन्होंने बताया कि सर्पदंश से बचाव एवं जागरूकता के लिए मितानिन और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को सक्रिय किया है, ताकि वे मरीज को सही समय पर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराने के लिए प्रेरित करें। साथ ही सभी स्वास्थ्य संस्थाओं में जरूरी दवाइयां बुलाई गईं हैं। सांप के काटने के बाद जितनी जल्दी अस्पताल में भर्ती किया जाएगा। बचाव की संभावनाएं उतनी ही ज्यादा होंगी। 

सांप के काटने पर यह होते हैं लक्षण
सांप काटने के स्थान पर दांतों के निशान काफी हल्के होते हैं। काटने के स्थान पर तीव्र जलन, पीड़ा, खुजलाहट, पलकों का गिरना, अनैच्छिक मल-मूत्र त्याग, मिचली आना, किसी वस्तु का दो दिखाई देना, अंतिम अवस्था में चेतनाहीनता, मांसपेशियों में ऐंठन तथा हाथ-पैरों में झनझनाहट, चक्कर आना और दम घुटना है। 

किसी को सांप डसे तो आप यह करें 
चिकित्सकों के मुताबिक रक्त का बहाव और विष का फैलाव धीमा करने के लिए रोगी को दिलासा देनी चाहिए। काटे हुए शरीर के अंग को स्थिर रखकर पट्टी का उपयोग करना चाहिए। पीडि़त व्यक्ति को लेटे हुए स्थिति में रखकर जल्द अस्पताल ले जाना चाहिए। काटे हुए छोर से अंगूठी, कंगन, जूते अथवा अन्य दबाव वाले वस्तु को निकालना चाहिए। तत्काल 108 संजीवनी एक्सप्रेस को बुलाकर अथवा नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज के लिए ले जाना चाहिए। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि काटे गए स्थान पर बांधना नहीं चाहिए। काटे गए स्थान पर ज्यादा कसकर नहीं बांधा जाए। जहर निकालने के लिए चूसना अथवा चीरा नहीं लगाना चाहिए। उन्होंने कहा कि रोगी को मादक पेय अथवा एस्पिरिन नहीं देना चाहिए। पीडि़त व्यक्ति को चलने नहीं देना चाहिए, काटने की जगह पर बर्फ लगाकर इसे ठंडा नहीं करें। 

 


Date : 19-Jul-2019

केन्द्रीय उडऩदस्ता आने की भनक लगी, तो रेत माफियाओं ने हटाई खदानों से मशीनें

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 19 जुलाई।
जेसीबी मशीन से रेत का अवैध उत्खनन की शिकायत मिलने पर केन्द्रीय उडऩदस्ता टीम के सदस्यों ने धमतरी में संचालित कुछ रेत खदानों में दबिश दी, लेकिन कहीं भी रेत का अवैध उत्खनन करती मशीनें टीम को नहीं मिली। क्योंकि टीम के आने की भनक पहले ही रेत माफियाओं को लग गई। उन्होंने खदानों से जेसीबी मशीन हटा ली। लेकिन केन्द्रीय उडऩदस्ता टीम की दबिश से जिले के रेत माफियाओं में हड़कंप मचा हुआ है। 

बुधवार को शाम रायपुर से केन्द्रीय उडऩदस्ता धमतरी शहर पहुंचने की खबर चर्चा में है। टीम ने ग्राम भरारी एवं मुड़पार में संचालित रेत खदानों में दबिश दी, लेकिन टीम के सदस्यों को एक भी खदान में रेत का अवैध उत्खनन करती जेसीबी मशीनें नहीं मिली। फिर भी टीम खदान की स्थिति व गड्ढों को देखकर रिपोर्ट तैयार कर अपने साथ ले गई है। उल्लेखनीय है कि रायपुर से केन्द्रीय उडऩदस्ता आने की खबर रेत माफियाओं तक पहले ही पहुंच चुकी थी। माफियाओं ने खदान पर चल रही जेसीबी मशीनों को हटा लिया था। यही वजह है कि टीम को जेसीबी से रेत का अवैध उत्खनन करते नहीं मिला। जिले में अचानक केन्द्रीय उडऩदस्ता आने की खबर से रेत माफियाओं में हड़कंप मच चुका है। क्योंकि यदि छापेमार कार्रवाई में मशीन पकड़ी जाती, तो माफियाओं को लेने के देने पड़ जाते। खनिज विभाग के निरीक्षक मृदुल गुहा का कहना है कि उन्हें केन्द्रीय उडऩदस्ता आने की कोई खबर नहीं मिली है। कुछ लोगों द्वारा सिर्फ अफवाह उड़ाई जा रही है।

एक साथ 5 जेसीबी मशीनों से उत्खनन 
जिले में सिर्फ 2 रेत खदान भरारी और मुड़पार में संचालित हैं। ग्राम पंचायत भरारी के रेत खदान में रोज सैकड़ों हाईवा की लाईन लगती है। बड़ा मुनाफा देखते हुए रेत माफियाओं ने एक साथ खदान में पांच जेसीबी मशीन लोडिंग के लिए उतार दिया है। पिछले दिनों इस खदान में एसडीएम व अधिकारियों की टीम ने छापामार कार्रवाई की थी, तो जेसीबी से रेत का अवैध उत्खनन करते पकड़ा था, जिस पर कार्रवाई की गई थी। उस समय ग्राम पंचायत के सरपंच को सख्त निर्देश दिया गया था। इसके बाद भी इस खदान में माफिया बेधड़क जेसीबी मशीन से रेत का अवैध उत्खनन कर रहे हैं। खनिज विभाग नाकाम साबित हो रहा है। 


Date : 19-Jul-2019

धमतरी जेल से सुबह 8 बजे भागा बंदी, 3 प्रहरी सस्पेंड, सेहराडबरी से शाम पकड़ाया

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 19 जुलाई।
जिला जेल का सुरक्षा कवच तोड़कर हत्या के प्रयास का आरोपित विचाराधीन बंदी दीवार फांदकर भाग गया। दिनदहाड़े हुई इस घटना से जिला जेल और पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है। ड्यूटी में लापरवाही मानते हुए मुख्य प्रहरी समेत तीन प्रहरियों को सस्पेंड कर दिया गया है। शाम को अर्जुनी पुलिस ने फरार बंदी को जेल से दो किमी की दूरी पर बसे ग्राम सेहराडबरी से पकड़ लिया। 

जिला जेल धमतरी में चाकूबाजी के आरोप में रायपुर जिले के अभनपुर थाना क्षेत्र के ग्राम डिेंडोरा निवासी इतवारी साहू उर्फ इतवारी सिंग उर्फ पिंटू 21 वर्ष पुत्र अमर सिंह बंद है। जेल में उसका एक साथी विकास साहू भी है। सरदार के भेष में रहने का शौकीन इतवारी मौका पाकर 18 जुलाई को जेल की ऊंची दीवार बांस और रस्सी की सीढ़ी बनाकर फांद गया। जेल प्रशासन को उसके फरार होने की जानकारी दोपहर 12 बजे बंदियों की गणना के दौरान हुई। गणना में एक बंदी कम निकला। बताया गया कि जिला जेल में पीडब्ल्यूडी द्वारा अतिरिक्त बैरक का निर्माण किया जा रहा है। गुरूवार को काम बंद था। इसलिए कुछ बंदियों को जेल की साफ-सफाई के काम में लगाया गया था। इसी का फायदा उठाकर इतवारी सिंह भी बैरक से बाहर आ गया। 

40 फीट उंजी दीवार चढ़कर कूद 
साफ-सफाई के बाद बाकी बंदी बैरक में लौट गये, लेकिन वह निर्माण स्थल की ओर ही छिप गया था। बाद में वहां बंधी बांस की चैली पर चढ़कर और बांस और रस्सी की सीढ़ी बनाकर जेल की 25 फीट ऊंची दीवार पर चढ़कर कूद गया। जेल प्रशासन ने गणना में एक बंदी कम पाने पर सीसीटीवी फुटेज खंगाला। तब पता चला कि इतवारी सिंह फरार हो गया है।  

जगह-जगह की गई थी नाकाबंदी 
जेलर ने एएसपी केपी चंदेल और जेल के अधीक्षक डिप्टी कलेक्टर एचएल गायकवाड़ को इसकी सूचना दी। एएसपी केपी चंदेल, डीएसपी पंकज पटेल समेत आला अफसर जेल पहुंच गये। जगह-जगह नाकाबंदी की गई। लेकिन इतवारी सिंग का कहीं पता नहीं चला। इस मामले में लापरवाही बरतने के कारण जेल अधीक्षक ने मुख्य प्रहरी मोहन लाल साहू, प्रहरी जागेश्वर वर्मा और प्रेमसाय को निलंबित कर दिया है। शाम को अर्जुनी पुलिस ने ग्राम सेहराडबरी से इतवारी साहू को पकड़ा। 
पचपेड़ी में युवक को चाकू मारने का आरोपित है
31 जनवरी को ग्राम पचपेड़ी में मड़ई का आयोजन किया गया था। मड़ई स्थल पर शाम को इतवारी साहू 21 वर्ष पुत्र अमर सिंह, हंचलपुर निवासी विकास साहू 20 वर्ष पुत्र शंकर साहू और एक नाबालिग मोटरसायकल क्रमांक सीजी 04 सीए 5096 में सवार होकर तेज रफ्तार से चला रहे थे। तीनों को ग्राम पचपेड़ी के प्रकाश साहू 23 वर्ष पुत्र खोमन साहू ने मना किया। इससे तीनों के साथ प्रकाश का विवाद हो गया। विवाद बढऩे पर तैश में आकर मुख्य आरोपित इतवारी साहू ने अपने कमर में रखे चाकू को निकालकर प्रार्थी प्रकाश साहू के पेट में घोंप दिया। इससे प्रकाश घायल होकर जमीन पर गिर गया। इसी मामले में इतवारी इन दिनों जेल में बंद है। 


Date : 18-Jul-2019

अवैध शराब के कार्यों में लिप्त लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिए धर्म सेना व बजरंग दल ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन 

छत्तीसगढ़ संवाददाता  
कुरूद, 18 जुलाई।
जिले में अवैध शराब के कार्यों में लिप्त लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिए आवाज उठाने वाले हिन्दू संग़ठन धर्म सेना एवं बजरंग दल को बदनाम करने की कोशिश किया जा रहा है। जिस पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर दल के युवाओं ने कुरूद एसडीएम को ज्ञापन सौंपा है। 

 ज्ञापन में बजरंग दल व धर्म सेना के कार्यकर्ताओं ने बताया कि पिछले कई वर्षों से जिले में अवैध शराब, नशीली दवाईयां बेची जा रही है। जिसमें बच्चें, युवा, बुजुर्ग लिप्त हो अपनी जिंदगी बर्बाद कर रहे हंै। वहीं इससे कई घटनाएं और वारदात भी हो रही है। जिसे रोकने बजरंग दल व धर्म सेना के कार्यकर्ताओं ने अवैध व नशीली दवाईयों बेचने वालों के खिलाफ आवाज उठाकर जिला एवं पुलिस प्रशासन से कार्रवाई करने की शिकायत किया जाता रहा है। जिससे बचने अवैध कारोबारियों द्वारा आपसी रंजिश रखते हुए बजरंग दल के साथ प्रमुख लोगों को अवैध चंदा वसूली करने का आरोप लगा झूठी शिकायत पुलिस प्रशासन से करके कुछ सोशल मीडिया के द्वारा दुष्प्रचार किया जा रहा है। जिनसे बजरंग दल व धर्म सेना के कार्यकर्ताओं में रोष व्याप्त है।

संगठन को बदनाम करने वाले ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग एसडीएम जितेन्द्र कुर्रे से की है। जिस पर उन्होंने कार्रवाई का भरोसा दिलाया है। ज्ञापन सौंपने वालों में जिला संयोजक शैलेश, मोनू चन्द्राकर, बादल चन्द्राकर, मेहुल कमलवंशी, आशु उपाध्याय, ओमप्रकाश साहू आदि उपस्थित थे। 


Date : 18-Jul-2019

नीले राशन कार्डधारियों की बल्ले-बल्ले, जिले में हैं 1 लाख 67 हजार 163 कार्ड 
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
धमतरी, 18 जुलाई।
सरकार की नई नियमावली के अनुसार पांच से अधिक सदस्य वाले अंत्योदय गुलाबी रंग कार्डधारियों को निराश होना पड़ेगा। सत्यापन के बाद इन परिवारों को 35 किलो चावल ही मिल पाएगा, जबकि प्राथमिकता वाले नीले कार्डधारियों को पांच से अधिक सदस्य होने पर प्रति सदस्य सात किलो के अनुसार राशन मिलेगा। ऐसे में नीले कार्डधारियों की बल्ले-बल्ले होगी। उनको अधिक लाभ मिलेगा। सरकार की इस नियमावली से कार्डधारियों में खुशी और गम की स्थिति है। 

जिले में एक लाख 67 हजार 163 कार्डधारी हैं। इनमें नीला, गुलाबी और हरा रंग के कार्डधारी शामिल हैं। सभी कार्डधारियों को जिले में संचालित 392 राशन दुकानों से खाद्यान्न मिलता है। वर्तमान में सभी कार्डधारियों को परिवार के सदस्य संख्या के आधार पर चावल मिलता है, लेकिन प्रदेश में सरकार बदलने के बाद नयी सरकार ने खाद्यान्न देने की नई नियमावली तैयार की है। नए नियम के अनुसार पांच से अधिक सदस्य वाले अंत्योदय गुलाबी रंग के कार्डधारियों को नुकसान उठाना पड़ेगा। जिले में गुलाबी रंग के अंत्योदय कार्डधारियों की संख्या में 44637 है। इसके अलावा एकल गुलाबी 925 और स्पेशल गुलाबी 292 कार्डधारी है। इन कार्डधारियों में कई ऐसे भी परिवार है, जहां सदस्यों की संख्या पांच से अधिक है। कुछ परिवार में तो सात से अधिक सदस्य भी हैं। फिर भी इन परिवारों को प्रति सदस्य सात किलो की बजाए सिर्फ 35 किलो ही राशन मिल पाएगा। ऐसे में इन परिवारों को शासन के नयी नियमावली के तहत नुकसान उठाना पड़ेगा। इन परिवारों को नियमावली में शामिल नहीं किया गया है। पहले की तरह ही खाद्यान्न दिया जाएगा। 

प्रति सदस्य सात किलो चावल 
छग खाद्य एवं पोषण सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत प्राथमिकता वाले राशन कार्डों में निर्धारित खाद्यान्न की संशोधित पात्रतानुसार नीले रंग के कार्डधारियों को अगस्त 2019 से नई नियमावली के अनुसार राशन मिलेगा। एक सदस्य वाले परिवार को 10 किलो प्रतिमाह, दो सदस्य वाले को 20 किलो, तीन से पांच सदस्य वाले को 35 किलो चावल मिलेगा। पांच से अधिक सदस्य वाले कार्डधारियों को प्रति सदस्य सात किलो की दर से राशन दिया जाएगा। ऐसे में इन परिवारों की बल्ले-बल्ले है। वहीं पहले दो सदस्य वाले परिवार को 14 किलो मिलता था, अब इन परिवारों को छह किलो ज्यादा चावल मिलेगा। 
एक परिवार वाले को सात किलो मिलता था। अब 10 किलो मिलने से तीन किलो अतिरिक्त मिल रहा है। तीन सदस्य वाले राशन कार्डधारियों को 21 किलो चावल मिलता था। अब सीधे 35 किलो मिलने से 14 किलो अतिरक्त चावल मिलेगा। सभी कार्डधारियों को एक रुपये किलो में चावल मिलेगा। 

पहले के अनुसार मिलेगा
सहायक खाद्य अधिकारी अरविंद दुबे ने बताया कि च्अंत्योदय गुलाबी कार्डधारियों के लिए वर्तमान में जारी नियमावली है। उसके अनुसार ही चावल मिलेगा। गुलाबी कार्डधारियों में यदि पांच से अधिक सदस्य है, तो उन्हें 35 किलो ही चावल मिलेगा। प्रति सदस्य सात किलो के अनुसार नहीं मिलेगा। प्राथमिकता वाले राशन कार्डों में निर्धारित खाद्यान्न की संशोधित पात्रतानुसार चावल मिलेगा।


Previous12345Next