छत्तीसगढ़ » कोण्डागांव

Previous12Next
Date : 11-Nov-2019

नगर के सामुदायिक भवन में सूरज विकास संस्थान कोंडागांव के सौजन्य से एम्स के डॉक्टरों के द्वारा नि:शुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोंडागांव, 11 नवंबर।
रविवार को नगर के सामुदायिक भवन में सूरज विकास संस्थान कोंडागांव के सौजन्य से एम्स के डॉक्टरों के द्वारा नि:शुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें लगभग हज़ारों लोगों ने विभिन्न रोगों के चिकित्सकों से स्वास्थ्य परीक्षण करवाया। 

शहर और आसपास के कई लोगों ने इस शिविर में भाग लिया और हर प्रकार के बीमारियों के विशेषज्ञों से अपनी अपनी बीमारियों का इलाज करवाया और एम्स के डॉक्टरों से इलाज करवाकर नगर के लोगों को स्वास्थ्य लाभ मिला। साथ ही एम्स रायपुर के चिकित्सकों ने आगे भी कोंडागांव में आकर अपनी सेवा देने की बात कही है। इस शिविर में एम्स रायपुर से डॉ करण पिपरे (एचओडी एम्स), डॉ आर.डी. अरोरा, डॉ पंकज कुमार,डॉ शशांक, डॉ बिपलब मिश्रा, डॉ श्री कृष्णा, डॉ आरती शर्मा एवं अन्य चिकित्सकीय स्टॉफ उपस्थित थे।

साथ ही इस शिविर को व्यवस्था पूर्वक सम्पन्न करने के लिए पूर्व मंत्री लता उसेंडी, कलेक्टर नीलकंठ टेकाम, स्वास्थ्य विभाग कोंडागाँव, एनसीसी, एनएसएस कोंडागांव, सभी समाज के लोगों एवँ साथ ही शहर के मनोज जैन, गोपाल दीक्षित, दीपेश अरोरा,जैनेन्द्र ठाकुर,प्रतोष त्रिपाठी,निखिल विश्वास,अश्वनी पाण्डेय, संजय मोदी,दयाराम पटेल,विनय राज,प्रवीण जैन,ज्ञानू गोलछा,विनोद शर्मा,दिलावर कपाडिय़ा,विकास दुआ,प्रदीप साहू,उत्तम मंडल,जितेंद्र सुराणा,अशोक ब्रम्ह,सुनील कोर्राम तोएश चंदेल,भावेश आचार्य,मनीष साहू,बंटी नाग,संतोष मरकाम,संजु गहलोत,वर्षा यादव,रेखा साहू,ज्योत्स्ना हीरा,लक्ष्मी ध्रुव एवं शहर के अन्य गणमान्य नागरिकजनों ने अपना सहयोग प्रदान किया।


Date : 11-Nov-2019

महाबंद को सफल बनाने पिछड़ा वर्ग का जनसंपर्क अभियान, मोटरसाइकिल से रैली के रूप में नगर बंद कराया

कोण्डागांव, 11 नवंबर। कोण्डागांव महाबंद को सफल बनाने के लिए पिछड़ा वर्ग का जनसंपर्क अभियान जारी है। सर्व पिछड़ा वर्ग, एसटी, एससी और अल्पसंख्यक संयुक्त मोर्चा के तत्वाधान में 13 नवंबर को चैपाटी मैदान में मोटरसाइकिल से रैली के रूप में नगर बंद कराया जाएगा। इसके बाद पिछड़ा वर्ग के 27 प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर चौपाटी मैदान में आम सभा का आयोजन कर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन और जंगी रैली चैपाटी मैदान से जिला कार्यालय तक निकालकर संयुक्त मोर्चा द्वारा कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा। आंदोलन को सफल बनाने के लिए पिछड़ा वर्ग समाज के पदाधिकारी निरंतर अपने अपने स्वजातीय बंधुओं के यहां जनसंपर्क अभियान जारी कर दिया गया है। सर्व पिछड़ा वर्ग, एसटी, एससी और अल्पसंख्यक संयुक्त मोर्चा जिला कोण्डागांव के जिलाध्यक्ष जेपी यादव पिछड़ा वर्ग द्वारा 27 प्रतिशत आरक्षण की मांग को यथावत रखने के लिए पिछड़ा वर्ग जाति समाज के छात्र-छात्राएं, युवा, मजदूर, किसान, महिला, व्यापारी और अधिकारी कर्मचारी गण अधिक से अधिक संख्या में संगठित होकर आंदोलन को सफल बनाने के लिए अपील की गई है।

 


Date : 11-Nov-2019

जश्ने ईद मिलादुन्नबी का त्यौहार बड़े ही धूमधाम से मनाया, जामा मस्जिद से जुलूस नगर का भ्रमण करता हुआ वापस मस्जिद पहुंचा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोंडागांव, 11 नवंबर।
जश्ने ईद मिलादुन्नबी का त्यौहार बड़े ही धूमधाम से नगर में मनाया गया। सुबह 9 बजे जामा मस्जिद से जुलूस नगर का भ्रमण करता हुआ वापस मस्जिद पहुंचा। 

ईद मिलादुन्नबी को लेकर लगभग 10 दिनों तैयारी चलती है, जिसमें बच्चों का नातिया प्रोग्राम रखा जाता है और महिलाओं में क़ुरआन शरीफ की तिलावत की जाती है। जुलूस के मस्जिद पहुंचने के बाद परचम कुशाई की रस्म अदा की गई जिसमें भागलपुर से आए हुए जनाब मुफ़्ती शाहिद रज़ा ने परचम कुशाई की रस्म अदा की। जिसके बाद मुल्क में अमन व चैन की दुआ की गई। तत्पश्चात  दस दिनों तक चले बच्चों के नातिया प्रोग्राम में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय आए हुए बच्चों को इनाम बाँटा गया। बाकी शेष बच्चों को सांत्वना पुरस्कार दिया गया। 

अंजुमन इस्लामिया कमेटी सदर मुहम्मद इदरीश ने जश्ने ईद मिलादुन्नबी के अवसर पर सभी वर्ग के लोगों को मुबारकबाद पेश की। साथ ही साथ  प्रशासन एवं पुलिस का भी आभार व्यक्त किया। इस दौरान जामा मस्जिद के इमाम हाफिज़़ शाहिद रज़ा,नायब इमाम हाफिज तबारक,हाफिज़़ तौफीक,उपाध्यक्ष सैयद प्यारु,सचिव इरशाद खान,सह सचिव असलम मंसूरी,मोइनुद्दीन बडग़ुजर,वासिल खान, शेख सादिक,शेख अमजद,कमाल भाई, हाकिम खान,उस्मान मेमन,अब्दुल गफ्फार,असलम खान,हाजी सलीम मेमन,यंग मुस्लिम कमेटी के अध्यक्ष मुहम्मद शाहरुख,इस्माइल अंसारी,जमाल बडग़ुजर, हैदर बडग़ुजर,परवेज़ खान,हसन,नईम,सल्लू, कामरान,शेख अब्दुल्लाह,इरफान खान एवं भारी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग मौजूद थे।


Date : 11-Nov-2019

आंकलन शिविर में 36 बच्चें सर्जरी के लिए चिन्हांकित, 394 बच्चों का मिलेगा प्रमाण पत्र

कोण्डागांव, 11 नवंबर। समग्र शिक्षा अभियान के समावेशी शिक्षा अंतर्गत कोण्डागांव जिले के सभी पांचो विकासखण्डों में 5 से 9 नवंबर तक विद्यालयों में अध्ययनरत् विशेष अवश्यकता वाले बच्चों का आकलन शिविर आयोजित किया गया। यह आकलन शिविर राजीव गांधी शिक्षा मिषन और राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान अंतर्गत समावेशी शिक्षा राष्ट्रीय शिक्षा नीति का अहम् हिस्सा है। इसके माध्यम से विशेष अवश्यकता वाले बच्चों का सामान्य बच्चों के साथ अध्ययन अध्यापन कराने की व्यवस्था है। ऐसे बच्चों का प्रति वर्ष आंकलन शिविर आयोजित कर नि:शक्तता प्रमाण पत्र जिला मेडिकल बोर्ड के माध्यम से बनाया जाता है। इसमें शासकीय और अशासकीय प्राथमिक शाला, माध्यमिक शाला, हाई स्कूल और हायर सेकेण्डरी शालाओं में अध्ययनरत् बच्चों के साथ-साथ पालक भी सम्मिलित हुए। 

जिला मेडिकल बोर्ड के द्वारा सर्जरी, कुछ बच्चों को सामाग्री और उपकरण प्रदाय करने के लिए चिन्हाकित किया गया। जैसे ट्राईसिकल, व्हीलचेयर, क्लचर, हियरींग, बैशाखी, एमआर किट आदि। साथ ही पूर्व में जिन बच्चों का नि:शक्तता प्रमाण प्रत्र नहीं बना है, उन बच्चों का मेडिकल बोर्ड द्वारा नि:शक्तता प्रमाण प्रत्र भी बनाया गया। जिला कोण्डागांव समावेशी शिक्षा सहायक कार्यक्रम अधिकारी रामलाल नेताम के द्वारा समस्त आकलन शिविरों में विशेष अवश्यकता वाले बच्चों और पालकों को नि:शक्तता के प्रति जागरूक करते हुए, उन समस्त बच्चों को भी सामान्य बच्चों के भांति उन बच्चों के साथ अध्यापन कराया जाता है। इन दिव्यांग बच्चों को स्कार्ट एलाउंस, छात्रवृत्ति, रक्षण भत्ता और पेंषन योजनाओं का लाभ दिया जाता है। कोण्डागांव जिले के सभी विकासखण्डों के आकलन शिविर में कुल 830 विशेष अवश्यकता वाले बच्चों पंजीकृत हुए उन में से 394 बच्चों का प्रमाण पत्र बनाने के लिए जिला चिकित्सा कार्यालय भेजा गया है। 347 विशेष अवश्यकता वाले बच्चों का उपकरण के लिए 36 बच्चे सर्जरी के लिए चिन्हांकित किया गया। 

आंकलन शिविर का आयोजन कलेक्टर नीलकंठ टेकाम के निर्देशानुसार, जिला शिक्षा अधिकारी राजेश मिश्रा, जिला मिशन समंवयक महेन्द्र पाण्डे, समावेशी शिक्षा सहायक कार्यक्रम अधिकारी रामलाल नेताम के मार्गदर्शन में डॉ. एल जुर्री अस्थि रोग विशेषज्ञ, डॉ. टी काव्य रेडडी नाक कान गला रोग विशेषज्ञ, डॉ. प्रतीक चैधरी जिला चिकित्सा अधिकारी, नेत्र सहायक अनिल वैद्य के द्वारा शिविर का सफल आयोजन किया गया। 

शिविर में मुख्य रूप से विकासखण्ड परियोजना अधिकारी (साक्षरता) डीएस पोटाई, निर्मल शार्दुल, लखन सिंह मण्डावी, समावेशी शिक्षा सहायक कार्यक्रम अधिकारी रामलाल नेताम, समस्त खण्डस्रोत समंवयक, समस्त बीआरपी, समावेशी शिक्षा जिला कोण्डागांव समस्त संकुल समंवयक आदि का महत्वपूर्ण भूमिका रहा।

 


Date : 11-Nov-2019

चारगांव में ढाई करोड़ से बनेगी स्टापडेम सह पुलिया, विधायक मरकाम ने किया भूमिपूजन

कोण्डागांव, 11 नवंबर। विकासखण्ड कोण्डागांव के कलस्टर ग्राम चारगांव से होकर बहने वाली नारंगी नदी में अब 2.50 करोड़ रुपए की लागत से स्टापडेम सह पुलिया निर्माण किया जाएगा। स्टापडेम सह पुलिया निर्माण का भूमि पूजन कर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम, कलेक्टर नीलकंठ टीकाम, जिला पंचायत अध्यक्ष देवचंद मातलाम, जिला पंचायत उपाध्यक्ष रवि घोष ने क्षेत्र के लोगों को नई सौगात दी है।

जानकारी अनुसार, इस पुलिया निर्माण की मांग स्थानीय जन कई सालो से कर रहे थे। स्टापडेम सह पुलिया निर्माण के भूमिपूजन पर भारी संख्या में उपस्थित ग्रामीणों को संबोधित करते हुए विधायक मोहन मरकाम ने कहा कि बदलते समय को देखते हुए अपनी खेती किसानी को एक नई दिशा देने का समय आ गया है। इसके मद्देनजर हमारे प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नरवा, गरवा, घुरूवा, बाड़ी जैसी सुराजी ग्राम योजनाएं प्रारंभ की गई हैं। इसमें गांवों में जल संरक्षण, पशुधन, जैविक खेती और बाड़ी विकास के माध्यम से चहुंमुखी विकास की अवधारणा है। उन्हे खुशी हैं कि चारगांव जैसे दूरस्थ ग्राम में सिंचाई मुर्गी पालन, बकरी पालन, मत्स्य उत्पादन, के माध्यम ग्रामीणों के जीवन स्तर को संवारने का सफल प्रयास किया गया है। 

इस मौके पर कलेक्टर नीलकण्ठ टीकाम ने जानकारी दी कि चारगांव में 200 एकड़ को चिन्हांकित कर सीमेंट पोल और फेंसिंग की बाकायदा घेराबंदी भी कर दी गई है। इस भूमि में 25 तालाब, 29 ट्यूबवेल, सोलर पंप निर्मित किए गए हंै। साथ ही 200 एकड़ भूमि का मृदा परीक्षण कर उसके अनुरूप फसल और साग सब्जी रोपित किए जा रहे है। इसके अलावा ही कृषि, वन, व पशुधन और मत्स्य विभाग के अधिकारियों द्वारा महीने में दो बार यहां किसानो काउंसलिग करने के साथ साथ उन्हें आवश्यक सलाह दी जाती है। अब इस स्टापडेम सह पुलिया निर्माण होने से किसानों को बारह महीने जल की उपलब्धता होगी और वे एक फसल के स्थान दो से तीन फसल ले सकेंगे, जिससे लगभग पांच से छह सौ किसानों को फायदा होगा। इसके अलावा चारगांववासी मात्र पांच से छह किलो मीटर की दूरी तय करके जिला एवं ब्लॉग मुख्यालय तक  पहुंच सकेगें। इसके पूर्व उन्हे जिला मुख्यालय पहुंचने के लिए पन्द्रह किलो मीटर की दूरी तय करनी पड़ती थी। इस पुलिया के बनने से अन्य ग्रामों को भी लाभ मिलेगा।

आंगा, डोली-छत्र के साथ देवी-देवताओं की तरहा हुआ अगंतुकों का स्वागत
इस अवसर पर हर्षोउल्लास के साथ चारगांव और संबलपुर के ग्रामवासियों द्वारा आंगा, डोली-छत्र पारंपरिक वाद्य यंत्र, रेला-पाटा, मांदरी नाचा के साथ आगन्तुकों का भव्य स्वागत किया गया। कार्यक्रम में सम्बलपुर सरपंच बुधराम नेताम, बंहनी सरपंच सुखराम सोरी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जीआर सोरी, अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) पवन प्रेमी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत चैतन्य ध्रुव, जिला, जनपद स्तरीय अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

 


Date : 10-Nov-2019

जनकल्याणकारी महत्वाकांक्षी योजना राजीव गांधी आश्रय योजना, विधायक मोहन मरकाम मरकाम ने किया पट्टा वितरण, हितग्राहियों के चेहरे खिले
छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 10 नवम्बर।
राज्य शासन की एक और जनकल्याणकारी महत्वाकांक्षी योजना राजीव गांधी आश्रय योजना का 10 नवम्बर को विधिवत शुभारंभ विधायक मोहन मरकाम के हाथों सम्पन्न हुआ। 

कार्यालय नगरपालिका प्रागंण में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्री मरकाम ने कहा कि अपनी जमीन और अपने मकान का मालिकाना हक, हर व्यक्ति का सपना होता है इसे देखते हुए राज्य शासन ने अपने वादे को पूरा करते हुए एक और जनहितकारी कार्यक्रम राजीव गांधी आश्रय योजना को प्रारंभ कर दिया है और यह प्रसन्नता का विषय है कि यह संपूर्ण प्रदेश में कोण्डागांव जिले से प्रारंभ किया जा रहा है। 

उन्होंने बताया कि शहरी क्षेत्र में पेयजल की सहुलियत में वृद्धि करने के लिए कोसारटेडा परियोजना को मूर्तरुप दिया जायेगा और रजबंधा तालाब और राम मंदिर तालाब के अलावा कोपाबेड़ा तालाब का भी सौंदर्यीकरण जल्द ही होगा। ताकि नगरीय क्षेत्र वर्षभर जलावर्धन से परिपूर्ण रहे। नगरीय क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यो का ब्यौरा देते हुए उन्होंने कहा कि डीएनके एवं विकासनगर स्टेडियम मैदान का कायाकल्प करने के साथ-साथ विभिन्न समाजो के मुक्तिधाम निर्माण के लिए 20 लाख, शहरी सड़क सुदृढ़ीकरण कार्य हेतु 4 करोड़ 50 लाख दिए जा रहे है। 

कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने लाभान्वित हितग्राहियों को बधाई देते हुए कहा कि रोटी-कपड़ा-मकान प्रत्येक व्यक्ति के जीवन की अनिवार्य आवश्यकताओं में से एक है। शासन की 'मोर जमीन-मोर मकान' योजना का उद्देश्य भी यही है। इसे दृष्टिगत रखते हुए शासन के निर्देशानुसार बहुत ही कम समय में शहरी क्षेत्र में सर्वे का कार्य पूर्ण कर दिया गया।  इसी प्रकार शहरी क्षेत्र के ऐसे निवासी जिनका नाम बीपीएल सूची में नहीं था, उन्हें अब एपीएल सूची के तहत 3 हजार राशन कार्ड प्रदाय किए जा रहे है। उन्होंने उपस्थित लोगो से आग्रह किया कि वे कोण्डागांव शहर को और बेहतर बनाने के लिए पत्र लिखकर सुझाव भेज सकते है अथवा जनदर्शन के माध्यम से अवगत कराये। उनकी समस्याओं का तत्काल निराकरण होगा। 

इस दौरान अध्यक्ष जिला पंचायत देवचंद मातलाम, उपाध्यक्ष रवि घोष तथा उपाध्यक्ष नगरपालिका मनीष श्रीवास्तव ने भी विभिन्न योजनाओं से संबंधित हितग्राहियो को बधाई देते हुए शासन की योजनाओं में भागीदारी करने का आग्रह किया। 

भूमि स्वामित्व की वर्षो की मांग हुई पूरी
 कार्यक्रम के दौरान राजीव गांधी आश्रय योजना के तहत नगर के 22 वार्डों के 202 हितग्राहियों को भूमि स्वामित्व का अधिकार संबंधी प्रमाण पत्र दिए गए। इसके अलावा 3 हजार 619 व्यक्तियों को एपीएल राशन कार्ड भी मुख्य अतिथि द्वारा प्रदाय किया गया। जबकि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 1 हजार 490 शहरी क्षेत्र के निवासियों को पूर्णता प्रमाण पत्र भी वितरित किया गया। इस मौके पर भेलवापदर निवासी प्रभा नाग ने स्थाई पट्टा मिलने पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा कि अब उन्हें मकान उजडऩे का डर नहीं रहेगा वहीं अस्पताल वार्ड भी एक अन्य महिला सुखदई ने भी स्थाई पट्टा देने के लिए शासन का आभार जताया। 

इस अवसर पर अध्यक्ष नगरपालिका तरसेम सिंह गिल, पूर्व अध्यक्ष कैलाश पोयाम, पार्षद तरुण गोलछा, सुरेश पाटले, उमेश साहू, गीता गुप्ता, वेदवती पोयाम सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, एसडीएम पवन कुमार प्रेमी, तहसीलदार यू.के.मानकर सहित नगरीय निकाय के अधिकारी-कर्मचारी एवं बड़ी संख्या में नगरवासी उपस्थित थे। 


Date : 09-Nov-2019

नेशनल ट्रायबल डांस फेस्टिवल व युवा उत्सव का आयोजन, स्थानीय कलाकारो व नाट्य मंडलियों द्वारा रंगारंग कार्यक्रमों प्रस्तुत 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 9 नवंबर।
कोण्डागांव जिले में 8 नवंबर को खण्ड स्तर पर नेशनल ट्रायबल डांस फेस्टिवल व युवा उत्सव के आयोजन शुरू हो गये हंै। इसके तहत आज मर्दापाल, धनोरा, बड़ेडोंगर, माकड़ी, बड़ेराजपुर में स्थानीय कलाकारो व नाट्य मंडलियों द्वारा रंगारंग कार्यक्रमों प्रस्तुत किए गए। इस खण्ड स्तरीय नेशनल ट्रायबल डांस फेस्टिवल के आयोजन में मुख्य अतिथि ग्राम मर्दापाल  क्षेत्र के विधायक चंदन कश्यप, ग्राम धनोरा में अध्यक्ष जिला पंचायत देवचंद मातलाम, विकासखण्ड माकड़ी में उपाध्यक्ष जिला पंचायत रवि घोष व ग्राम बड़ेडोंगर व बड़ेराजपुर में क्षेत्र के विधायक संतराम नेताम उपस्थित रहे।

 जानकारी हो, राज्य शासन के माध्यम से पहली बार युवा महोत्सव व नेशनल ट्रायबल डांस फेस्टिवल के तहत विकासखंड स्तरीय युवा उत्सव में लोक नृत्य, लोक गीत, एकांकी नाटक, शास्त्रीय संगीत, शास्त्रीय नृत्य, तात्कालिक भाषण, सुगम संगीत और विभिन्न सांस्कृतिक विधाओं के अलावा पारम्परिक सुआ नृत्य, पंथी नृत्य, करमा नाचा, सरहुल नाचा, बस्तरियां लोक नृत्य, राउत नाचा, फुगड़ी, भौंरा, गेड़ी दौड़-चाल, रॉक बैण्ड (राज्य स्तर पर) के अलावा छत्तीसगढ़ी संस्कृति को उजागर करने के लिए पारम्परिक वेशभूषा प्रतियोगिता, छत्तीसगढ़ी व्यंजन पर आधारित फूड फेस्टिवल प्रतियोगिता, छत्तीसगढ़ी लोक कला व संस्कृति, ऐतिहासिक धरोहर, पारम्परिक व आदिवासी शैली से संबंधित विषय पर चित्रकला प्रतियोगिता को शामिल किया गया है। इन आयोजनों के प्रथम चरण में कोण्डागांव जिले में 8 व 9 नवंबर को दूसरे चरण में जिला स्तर पर 20 नवंबर को कार्यक्रम होंगे। इसके साथ ही तीसरे चरण में राज्य स्तरीय आयोजन स्वामी विवेकानंद की जयंती पर 12 से 14 जनवरी 2020 के मध्य होगा। 

जिले के विकासखण्डों में आज हुए कार्यक्रमों में आगन्तुक अतिथियों के माध्यम से प्रतिभागियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा गया कि, यह आयोजन राज्य शासन की अभिनव पहल है और इससे अंचल की प्रतिभाओं को अपनी कला व हुनर के प्रदर्शन का एक उपयुक्त मंच मिला है। इस अवसर पर हुए कार्यक्रमों के तहत कलाकारो नर्तक दलों द्वारा विवाह, फसल कटाई एवं तीज-त्यौहार के मौके पर स्थानीय परंम्परा के अनुसार गीत व नृत्य की आकर्षक प्रस्तुतियां दी गई। इस मौके पर क्षेत्र के जनप्रतिनिधिगण, जिला प्रशासन द्वारा नियुक्त प्रभारी नोडल अधिकारी, बड़ी संख्या में छात्र-छात्राऐं, ग्रामीण उपस्थित रहे।


Date : 09-Nov-2019

समस्त डीएड, बीएड संघ ने विधायक से मुलाकात कर सहायक शिक्षक भर्ती में स्थानीय को प्राथमिकता देने के संबंध ज्ञापन सौंपा 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 9 नवंबर।
कोण्डागांव के समस्त डीएड, बीएड संघ के माध्यम से 9 नवंबर को कोण्डागांव विधायक मोहन मरकाम से मुलाकात कर सहायक शिक्षक भर्ती में स्थानीय को प्राथमिकता देने के संबंध ज्ञापन सौंपा व इसमें बस्तर व सरगुजा संभाग अनुसूचित क्षेत्र के राज्यपाल के अधिकारों का प्रयोग बस्तर व सरगुजा संभाग में लागू की गई थी। 

इसका परिपालन किए जाने के संबंध में मांग रखी गई। ज्ञापन देने वीरेंद्र कुमार, प्रेम कुमार मंडावी, जसराम पांडे, विवेक सिन्हा, जितेंद्र, लखेश्वर, केदार, गौतम, गौरव, सुखनाथ नेताम, लक्ष्मी मरकाम, पूजा सेठिया व समस्त डीएड और बीएड के साथी उपस्थित रहे।


Date : 09-Nov-2019

समग्र शिक्षा अभियान अंतर्गत स्कूलों में अध्ययनरत दिव्यांग बच्चों को आवश्यक सुविधा प्रदान करने के लिए गुणवत्ता पूर्वक शिक्षा देना समग्र शिक्षा अभियान का उद्देश्य, आंकलन शिविर का आयोजन

कोण्डागांव, 9 नवंबर। समग्र शिक्षा अभियान अंतर्गत स्कूलों में अध्ययनरत दिव्यांग बच्चों को आवश्यक सुविधा प्रदान करने के लिए गुणवत्ता पूर्वक शिक्षा देना समग्र शिक्षा अभियान का उद्देश्य है। इसी उद्देश्य के तहत दिव्यांग बच्चों को सामान्य शाला में सामान्य शिक्षा दिया जा रहा है इसमें दिव्यांग बच्चों को शासन द्वारा प्रदाय सुविधा अनुसार समाज की मुख्यधारा से जोडऩे के लिए शिक्षा मिशन कोण्डागांव जिला चिकित्सालय व चिरायु के सहयोग से टाउन हॉल कोण्डागांव में 8 नवंबर को दिव्यांग बच्चों का आंकलन शिविर का आयोजन किया गया।

शिविर में जिला शिक्षा अधिकारी राजेश मिश्रा, शिक्षा समन्वयक महेंद्र पांडे, रामलाल नेताम, निर्मल शार्दुल, जिला चिकित्सालय से डॉ. एल जुर्री, रोग विशेषज्ञ डॉ. काव्या रेड्डी, डॉ. अनिल वैद्य, उपस्थित रहे। शिविर में कुल 378 बच्चों का 21 प्रकार की दिव्यांगतावार पंजीयन किया गया। तथा बच्चों को मेडिकल टीम द्वारा जांच कर आवश्यक उपकरण के लिए 164 बच्चे, दिव्यांग प्रमाण पत्र के लिए 18, सिकलिग प्रमाण पत्र के लिए 48 व शल्य चिकित्सा के लिए बच्चों को चयनित किया गया। शिविर में खंड शिक्षा अधिकारी सुदीप श्रीवास्तव, सहायक खंड अधिकारी अंसारी, स्त्रोत समन्वयक अवधेश पांडे व शिक्षकों का सहयोग रहा।


Date : 08-Nov-2019

विधायक चंदन कश्यप 8 नवंबर को कोण्डागांव विकासखंड के ग्राम मर्दापाल में आयोजित विकासखंड स्तरीय युवा व आदिवासी नृत्य महोत्सव 2019 के उद्घाटन कार्यक्रम में शामिल

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 8 नवंबर।
नारायणपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक चंदन कश्यप 8 नवंबर को कोण्डागांव विकासखंड के ग्राम मर्दापाल में आयोजित विकासखंड स्तरीय युवा व आदिवासी नृत्य महोत्सव 2019 के उद्घाटन कार्यक्रम में शामिल हुए। आठ से 9 नवंबर को चलने वाले इस कार्यक्रम में स्थानीय लोगों द्वारा लोक नृत्य, लोक गीत, एकांकी नाटक, सुआ नृत्य, कर्मा नाचा, डंडा नचा, गेड़ी नाचा, राउत नाचा, पंथी नृत्य व कथक, भरतनाट्यम, ओडिसी, कुचिपुड़ी, शास्त्री गायन हिंदुस्तानी, शास्त्रीय गायन कर्नाटक, बांसुरी, तबला वादन, मृदंग, हारमोनियम वादन, गिटार वादन, वीणा वादन व तत्कालिक भाषण तथा चित्रकला जैसे विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लिया जाएगा।

 


Date : 08-Nov-2019

संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों के संगठन संविलियन अधिकार मंच के प्रदेश संयोजक विवेक दुबे द्वारा तय की गई रणनीति के अनुसार सभी जिलों में विधायकों, मंत्रियों को ज्ञापन सौंपा 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 8 नवंबर।
प्रदेश में संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों के संगठन संविलियन अधिकार मंच के प्रदेश संयोजक विवेक दुबे द्वारा तय की गई रणनीति के अनुसार सभी जिलों में विधायकों, मंत्रियों को ज्ञापन सौंपा जा रहा है। कोण्डागांव जिले के संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों ने पीसीसी अध्यक्ष और स्थानीय विधायक मोहन मरकाम से मुलाकात करके अपनी समस्याओं से अवगत कराया और शिक्षाकर्मियों के शिक्षा विभाग में संविलियन की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा तथा नियमित भर्ती के पूर्व संविलियन की मांग पर जोर दिया।

शिक्षाकर्मियों की मांग को ध्यान से सुनने के बाद विधायक मोहन मरकाम ने उन्हें आश्वस्त किया कि उनकी मांग पर सरकार विचार कर रही है और जल्द ही जन घोषणा पत्र के अनुरूप 2 वर्ष पूर्ण कर चुके सभी शिक्षाकर्मियों का संविलियन कर दिया जाएगा। शिक्षाकर्मियों के द्वारा विधायक व विधायक प्रतिनिधि शिशिर श्रीवास्तव को एकादशी देवउठनी पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं भी दी। 

ज्ञापन देने जिला संयोजक आशीष ठावरे, दिलेश नेताम, संजीव तालुकदार, भानुदेव मरकाम, अनुराधा पटेल, लता देवांगन, प्रशांत चंद्राकर, टिकेश्वर साहू, देवेंद्र सेठिया, दिनेश शाहा, मनोज नाग, आकाश भद्र, संजय मण्डावी, शुनील साहू, ज्योति कंवर, भीखू राम साहू, राकेश देवांगन, विनय देवांगन व काफी संख्या में शिक्षाकर्मी साथी मौजूद थे।

 


Date : 08-Nov-2019

बाडरा में त्रिदिवसीय संकुल स्तरीय शारीरिक बौद्धिक सांस्कृतिक स्पर्धा

कोण्डागांव, 8 नवंबर। विकासखंड माकड़ी अंतर्गत केरावाही संकुल के ग्राम बाडरा में तीन दिवसीय शारीरिक, बौद्धिक, सांस्कृतिक बाल क्रीड़ा प्रतियोगिता का आयोजन 7 नवंबर से शुरू हो गया है। कार्यक्रम का शुभारंभ बाडरा सरपंच धनीराम मरकाम, पाथरी सरपंच महेंद्र सोरी, केरावाही सरपंच बलिराम नेताम, अभिराम गुरु पंचांग के आतिथ्य व संकुल समन्वयक रमेश मरकाम के अध्यक्षता में ग्रामीणों के माध्यम से दौड़ लगाकर कार्यक्रम प्रारंभ हुआ। इस प्रतियोगिता में संकुल केंद्र केरावाही के अंतर्गत आने वाले तेरह प्राथमिक शाला व 9 माध्यमिक शाला के प्रतिभागी छात्र छात्राएं भाग ले रहे हैं। कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में सकरुराम भारद्वाज, आयतुराम मरकाम, धन सिंह मरकाम, मड्डाराम नेताम, मोहन यादव, फुल सिंह चैहान, मोहन मरकाम, परशुराम मरकाम उपस्थित रहे।


Date : 08-Nov-2019

केशकाल महाविद्यालय में कैरियर मार्गदर्शन, छात्र-छात्राओं को कैरियर से संबंधित विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी के संबंध में विषय विशेषज्ञों द्वारा विस्तारपूर्वक बताया गया

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 8 नवंबर।
विगत् 6 नवंबर को शासकीय महेश बघेल दंडकारण्य महाविद्यालय केशकाल में कैरियर मार्गदर्शन दिया गया। इसमें महाविद्यालय के 250 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। इस अवसर पर छात्र-छात्राओं को कैरियर से संबंधित विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी के संबंध में विषय विशेषज्ञों द्वारा विस्तारपूर्वक बताया गया। मौके पर उप कोषालय अधिकारी केशकाल सतेंद्र केजी द्वारा पीएससी, एकलव्य प्रशासन एकेडमी के अजय कुमार नाग द्वारा सेट-नेट परीक्षा, दुष्यंत कुमार निषाद द्वारा विभिन्न परीक्षाओं में गणित विषय के प्रश्नों को सरलतम ढंग से हल करने संबंधी टिप्स दिए गए। इसके साथ ही उक्त कैरियर मार्गदर्शन कार्यक्रम में प्राचार्य केशकाल एसके त्रिपाठी व जिला रोजगार अधिकारी पवन कुमार नेताम द्वारा भी छात्र-छात्राओं को कैरियर संबंधी आवश्यक सलाह दी गई। 


Date : 08-Nov-2019

कृषि व बीज निगम के अफसरों ने खेतों का किया मुआयना, धान उपार्जन के संबंध में दी सलाह

कोण्डागांव, 8 नवंबर। जिले के विभिन्न ग्राम जैसे चलका, बयानार, चिमड़ी, बोलबोला, मड़ानार में चयनित बीज उत्पादक किसानों के खेतों का छत्तीसगढ़ राज्य बीज व कृषि विकास निगम लिमिटेड के अधिकारियों के माध्यम से भ्रमण किया जा रहा है। इसका उद्देश्य पूर्व में लैंपसों के माध्यम से कृृषकों को दिए गए धान बीजों की गुणवत्ता को बेहतर करना है, ताकि कृषकों को उसका उचित मूल्य मिले। इसके साथ ही कृषकों को धान उपार्जन के संबंध में आवश्यक सलाह भी दी जा रही है। 
इस क्रम में 7 नवंबर को खेत भ्रमण-निरीक्षण में बीज निरीक्षक जेम्स मिंझ के साथ-साथ अनुविभागीय कृषि अधिकारी उग्रेश देवांगन सहित संबंधित विभाग के कर्मचारी उपस्थित थे।

 


Date : 07-Nov-2019

राष्ट्रीय जनजातीय आयोग के अध्यक्ष और उनकी टीम ने वनाधिकार क्लस्टर ग्राम मयूरडोंगर में मेगा प्रोजेक्ट के तहत चल रहे निर्माण कार्यों का अवलोकन किया और किसानों के खेतों में चल रहे विभिन्न गतिविधियों को देखा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 7 नवंबर।
राष्ट्रीय जनजातीय आयोग के अध्यक्ष नंदकुमार साय और उनकी टीम ने 6 नवंबर को वनाधिकार क्लस्टर ग्राम मयूरडोंगर में मेगा प्रोजेक्ट के तहत चल रहे निर्माण कार्यों का अवलोकन किया और किसानों के खेतों में चल रहे विभिन्न गतिविधियों को देखा।

श्री साय ने कहा कि, जनजातीय सरोकारों के रक्षा के लिये ही जनजातीय आयोग का गठन किया गया है। मैंने गांव में पाया आदिवासी समाज संगठित और नैतिकता की ओर ध्यान दे तो विकास के सोपान यूं ही तय कर सकता है। उन्होंने बालिका शिक्षा और खेल को बढ़ावा देते हुए पशुपालन पर जोर देने कहा। वनो का संरक्षण और संवर्धन करने के लिए भी लोगों को प्रेरित किया।  इस मौके पर आयोग के सदस्य हरिकृष्ण दामोर, सहायक संचालक आरके दुबे, पीके दास, संयुक्त सचिव आदिम जाति कल्याण विपिन मांझी, कलेक्टर नीलकंठ टीकाम, पुलिस अधीक्षक सुजीत कुमार सिंह, सीईओ जिला पंचायत नुपूर राशि पन्ना, एसडीएम पवन कुमार प्रेमी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जीएस सोरी, जिला शिक्षा अधिकारी राजेश मिश्रा, अन्य अधिकारी सहित गांव प्रमुख गायता, मांझी, चालकी, पटेल, सरपंच व बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

 


Date : 07-Nov-2019

उचित दाम पर मिलेगा गुणवत्तापूर्ण दुग्ध, राधाकृष्ण दुग्ध समिति गठित

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 7 नवंबर।
कोण्डागांव जिले के समस्त दुग्ध उत्पादकों ने नगर के कृष्ण मंदिर में 5 नवंबर को बैठक आयोजित किया। इसमें सर्व समिति से अध्यक्ष रीना देवांगन, उपाध्यक्ष अनीता शर्मा, सचिव तिरीथ दीवान, उप सचिव बलराम महावीर, कोषाध्यक्ष संतोष चौबे को चुना गया है। 

इनके माध्यम से बैंक ऑफ इंडिया में डेयरी समूह के नाम से खाता खुलवाया जाएगा। इस खाते में प्रति महीने प्रति सदस्य के हिसाब से 100 रुपए जमा कराया जाएगा। जो इस दुग्ध समूह के खाता का संचालन में मदद करेगा। दुग्ध समूह के खाता का संचालन समूह के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव व कोषाध्यक्ष के माध्यम से किया जाएगा। इसमें सभी सदस्यों की सहमति से बैठक में सभी सदस्यों द्वारा सर्व समिति का नाम राधाकृष्ण दुग्ध समिति रखा गया है।

दुग्ध उत्पादकों ने बताया कि वर्तमान में जो नामी दुग्ध विक्रेता है, वह दुग्ध उत्पादक किसानों से मिट्टी के मोल दुग्ध खरीद कर ऊंचे दाम पर बेच रहे हैं। इससे उनके हक का धन उन्हें नहीं मिल पा रहा है। इन दिनों पशुओं के दाना व चारा का दाम बढ़ गया है। इससे वे घाटे में जा रहे हैं। इसलिए सर्व समिति से इस समिति का गठन किया है जिसमें नगर वासियों को अच्छा दुग्ध उचित दामों पर दिए जाने का उद्देश्य पूरा किया जाएगा। समिति के प्रमुख चैक-चैराहों पर अपने दुग्ध विक्रय केंद्र स्थापित करेगी और समिति घर-घर दुग्ध बेचने के लिए भी कर्मचारी नियुक्त कर मासिक भुगतान पर भी दुग्ध विक्रय करेगी।


Date : 07-Nov-2019

केंद्र की मोदी सरकार के किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ ब्लॉक कांग्रेस कमेटी केशकाल के माध्यम से 7 नवंबर को बहिगांव में बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष व विधायक के नेतृत्व में एक दिवसीय धरना 

कोण्डागांव, 7 नवंबर। केंद्र की मोदी सरकार के किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ ब्लॉक कांग्रेस कमेटी केशकाल के माध्यम से 7 नवंबर को बहिगांव में बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष व विधायक संतराम नेताम के नेतृत्व में एक दिवसीय धरना दिया गया। इसमें 2500 रुपए प्रति क्विंटल धान खरीदी के समर्थन में आयोजित प्रदर्शन में प्रदेश कांग्रेस सचिव सगीर अहमद कुरैशी, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष द्वय प्रवीण अग्निहोत्री, गिरधारी सिन्हा, नगर पंचायत केशकाल के नेताप्रतिपक्ष सगीर खान, जिला कांग्रेस सचिव अमित दुबे, सालिग राम जायसवाल सहित ग्रामीण किसान व कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

 


Date : 07-Nov-2019

शालाओं के शिक्षकों को प्राथमिक स्तर के कक्षाओं में शिक्षा का स्तर को गुणवत्ता युक्त शिक्षा, अध्यापन की विधि में सरल व सुगम बनाने के उद्देश्य से कलेक्टर व जिला शिक्षा अधिकारी के निर्देशन में दो दिवसीय शिक्षा गुणवत्ता प्रशिक्षण 7 व 8 नवंबर को खण्ड स्रोत केन्द्र माकड़ी में आयोजित

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 7 नवंबर।
विकासखण्ड माकड़ी की प्राथमिक शालाओं के शिक्षकों को प्राथमिक स्तर के कक्षाओं में शिक्षा का स्तर को गुणवत्ता युक्त शिक्षा, अध्यापन की विधि में सरल व सुगम बनाने के उद्देश्य से कलेक्टर नीलकण्ठ टीकाम व जिला शिक्षा अधिकारी राजेश मिश्रा के निर्देशन में दो दिवसीय शिक्षा गुणवत्ता प्रशिक्षण 7 व 8 नवंबर को खण्ड स्रोत केन्द्र माकड़ी में आयोजित किया गया। जहां दीपक प्रकाश के द्वारा प्रशिक्षण नेतृत्व में किया गया।

प्रशिक्षण का शुभारंभ खण्ड शिक्षा अधिकारी जगमोहन भोयर, खण्ड शिक्षा अधिकारी ताहिर अहमद खान के माध्यम से भारत माता के छायाचित्र पर पुष्प अर्पित कर किया गया। दो दिवसीय प्रशिक्षक के प्रथम 80 शिक्षकों को सम्मिलित किया गया। जिन्हें जिला स्तर से प्रशिक्षण प्राप्त मास्टर्स ट्रेनर्स रोशन सोनी व शैलेन्द्र ठाकुर के द्वारा गुणवत्ता आधारित प्रशिक्षण दिया गया। दो दिवसीय प्रशिक्षण में प्रथम दिवस में खण्ड शिक्षा अधिकारी जगमोहन भोयर के द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त शिक्षकों को प्रशिक्षण में बताए गए। गतिविधि को स्कुल स्तर पर प्रयोग करने के निर्देश दिए व खण्ड स्रोत समन्वयक ताहिर अहमद खान से प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे शिक्षकों को समय पर प्रशिक्षण में उपस्थित होन व प्रशिक्षण का बारीकी से जानकारी प्राप्त किए।

 प्रशिक्षण में लेखन कला का विकास, गणित की सरल पद्धति, नवाचार, जोडऩा घटाना, सीधी उल्टी गिनती सांप सिडी, पर्यावरण प्रोजेक्ट गुरू शिष्य कला, रेखा गणित, अंग्रेजी आदि विषयों पर विस्तृत जानकारी शिक्षकों दी गई। शिक्षकों द्वारा रंगोली व बताए गए गतिविधि अनुसार रंगोली कला भी किए। प्रशिक्षण में उपस्थित शिक्षक-शिक्षिकाओं के माध्यम से प्रशिक्षण स्कूल स्तर के लिए महत्वपूर्ण बताए।

 


Date : 07-Nov-2019

वृद्धावस्था पेंशन के लिए महीनोंं इंतजार, सरकारी दफ्तरों का चक्कर काटने मजबूर महिलाएं, भीख मांग कर जीवन यापन कर रही बुजुर्ग महिलाएं

राज शार्दूल
विश्रामपुरी, 7 नवंबर (छत्तीसगढ़)।
चैनबती अपने बंद हुए वृद्धावस्था पेंशन को पाने के लिए ताउम्र चक्कर लगाती रही। सरकारी दफ्तरों का चक्कर लगाते मौत पहुंच गई पर पेंशन नहीं पहुंची। मौत से  कुछ दिन पहले तक परिजन पेंशन के लिए चक्कर लगाते रहे।

8 0 वर्षीय दशोबाई का कहना है कि उसे 2 साल से वृद्धावस्था पेंशन नहीं मिली। जबकि पेंशन प्रतिमाह मिलना चाहिए। वह हर माह 7 से 8  बार बैंक का चक्कर काटती है तथा बैंक वालों से पूछती है कि उसके खाते में पैसा आया है या नहीं। बैंक वालों से जवाब मिलता है कि अब तक नहीं आया है, आएगा तो पता लग जाएगा।  

बुजुर्ग महिलाएं लगभग साल भर से  बैंक एवं जनपद कार्यालय का चक्कर काट रही हैं। वे आसपास की दुकानों से जरूरत का सामान उधार लेकर काम चला रही थी किन्तु अब दुकानदारों ने भी उधारी देना बंद कर दिया है। यह केवल एक दसोबाई की ही समस्या नहीं बल्कि कई अन्य बुजुर्ग महिलाओं की भी कमोबेश ऐसी ही समस्या है।  बड़ेराजपुर जनपद के अन्तर्गत ग्राम पंचायत खरगांव की हलालखोरिन मरकाम एवं दशोबाई ने बताया कि वे जनपद पंचायत बडेराजपुर का कई चक्कर लगा चुके हैं। यहां साहब से मुलाकात नहीं होती। जिसके चलते वे चपरासी से मिलकर वापस चल देती हैं।

प्रशासनिक संवेदनहीनता एवं संबंधित विभाग की लापरवाही के चलते क्षेत्र में वृद्धावस्था पेंशन योजना का बुरा हाल है। जिसके चलते स्थिति यह है कि बजुर्ग महिलाएं काफी कठिनाई से जीवनयापन कर रही हैं  िजले में कई महिलाओं को पेंशन के लिए भटकते देखा जा रहा है। 

चैनबत्ती, कलावती, इतवारिन दुकालाबाई, नवलीबाई एवं राम बाई की हालत को देखें तो पता चलता है कि यहां वृद्धा पेंशन योजना का क्या हाल है। जिले के बड़े राजपुर जनपद पंचायत के अंतर्गत ग्राम पंचायत विश्रामपुरी (ब) की रहने वाली चैनबत्ती निषाद उम्र 90 वर्ष विगत 5 वर्षों से वृद्धावस्था पेंशन के लिए बैंक एवं पोस्ट ऑफिस का चक्कर लगाती रही। अंतत: उसे मौत मिली किंतु वृद्धावस्था पेंशन नहीं। 

चैन बत्ती के परिजनों ने बताया कि चैनबत्ती को 5 वर्ष पूर्व तक वृद्धावस्था पेंशन मिल रहा था बाद में पोस्ट ऑफिस वालों ने उसके खाते में गड़बड़ी की। बार-बार जाकर पता लगाने पर भी कोई जवाब नहीं दिया गया। किसी ने कहा कि अब उसका खाता ग्रामीण बैंक विश्रामपुरी में ट्रांसफर कर दिया गया है तो किसी ने यह कहा कि अब उसे वृद्धा पेंशन नहीं मिलेगी, किसी ने यह भी कहा कि नगर पंचायत के विघटन के बाद यहां वृद्धावस्था पेंशन मिलना बंद हो गया है। चैन बत्ती लाचार हो चली थी। उसकी एक बेटी कुसुम निषाद जो कि मजदूरी करके उसका पालन पोषण कर रही थी।

भीख मांग कर जीवन यापन कर रही बुजुर्ग महिलाएं
कुछ महिलाएं भीख मांगकर जीवनयापन कर रही हैं तो कईयों को जिन्दा रहने के लिए इस उम्र में दूसरे के घरों में बर्तन धोने एवं झाड़ू पोंछा करना पड़ रहा है। (बाकी पेज 8 पर)

जिले में कई महिलाओं को पेंशन के लिए भटकते देखा जा रहा है। ऐसा ही ग्राम पलना की कलावती उम्र 6 5 वर्ष जो कि भीख मांगकर जीवन यापन कर रही है ने बताया कि उसे 
वृद्धावस्था पेंशन तो मिल रहा है किंतु 3- 4 महीना तक नहीं मिलता। उसे बैंक के अधिकारियों द्वारा यह कहा जाता है कि अभी विभाग से ही उसके खाते में पैसा नहीं भेजा गया है। उसने बताया कि 350 रूपये में कब तक गुजारा चलेगा जिससे लाचार होकर वह भीख मांगने को मजबूर है। वह आस-पास के गांव में भीख मांग कर जीवन यापन कर रही है। 

विश्रामपुरी निवासी दुकाला बाई ने भी वृद्धावस्था पेंशन से आस छोड़ कर भीख मांगने को उचित समझा और वह आसपास  के गांवों में जाकर भीख मांग रही है। बांसकोट की नवलीबाई 70 वर्ष एवं इतवारिन बाई 72 वर्ष ने भी वृद्धावस्था पेंशन की आस छोड़ दी है। इतवारिन बाई  मरकाम ने बताया कि वह 5 साल से वृद्धावस्था पेंशन के लिए चक्कर लगा रही है. उसके पति की 20 साल पहले मृत्यु हो चुकी है। वह बेसहारा है तथा उसका बेटा जो कि मजदूरी करता है, उससे उसे किसी प्रकार की सहायता नहीं मिल पाती। एक नाती ही उसके जीवन का सहारा बना हुआ है। वह 5 वर्षों से पंचायत एवं जनपद का चक्कर लगा रही है अन्तत: उसने भी वृद्धावस्था पेंशन की आस छोड़ दी है तथा किसी तरह मजदूरी करके अपना भरण-पोषण कर रही है।रामबाई ने बताया कि उसे वृद्धावस्था पेंशन तो मिलता है 3-4 माह तक इंतजार करना पड़ता है। वह बेसहारा है जिसके चलते उसे समय पर पेंशन नहीं मिलने से आसपास के लोगों के आगे हिथ फैलाना पडता है।  ग्राम पंचायत पलना के सोमारु राम ने बताया कि उसे 5 मिह कि पेंशन मीलना था किन्तु तीन मिह का ही मिला है पंचायत में पूछने पर कहते हैं कि बैंक में पता चलेगा वहीं बैंक में पूछने पर कहा जाता है कि पंचायत में पता चलेगा।

 यह केवल उक्त महिलाओं की कहानी नहीं बल्कि ऐसी अनेक महिलाएं हैं जिनके तक वृद्धावस्था पेंशन के अलावा अन्य  शासकीय योजनाएं भी नहीं पहुंच पा रही हैं जिससे इनकी वृद्धावस्था में स्थिति बद से बदतर होती जा रही है।

मिलता है रटा-रटाया जवाब
वृद्धावस्था पेंशन के लिए परेशान महिलाएं साल भर से जनपद पंचायत बड़े राजपुर का चक्कर काट रही हैं और वहां के अधिकारी को यह पता तक नहीं है। कई चक्कर लगाने के बाद भी महिलाएं अधिकारी तक नहीं पहुंच पाती और चपरासी एवं क्लर्क से मिलकर वापस चल देती हैं। अधिकारी से नहीं मिलने के कारण परेशान महिलाएं दिन भर जनपद कार्यालय के बाहर बैठकर इंतजार करती हैं। चपरासी एवं क्लर्क द्वारा टका सा जवाब मिलता है कि अभी अधिकारी नहीं बैठे हैं, घर चले जाओ बाद में आना। साहब जब आएंगे तो ही बता पाएंगे। हमें इसके बारे में कुछ नहीं मालूम है।

वृद्धावस्था पेंशन के लिए क्या है पात्रता
केंद्र एवं राज्य सरकार के द्वारा वरिष्ठ नागरिकों को जीवन यापन में मदद करने के लिए राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन के रूप में 350 रुपये देती है। जिसमें केंद्र का 200 रुपये एवं राज्य सरकार का अंश 150 रूपये होता है। कुल मिलाकर 350 रूपये प्रतिमाह दिया जाता है। उक्त राशि  गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले 6 0 से 8 0 वर्ष के वरिष्ठ नागरिकों को मिलता है। वहीं अतिवृद्ध जिनकी उम्र 8 0 वर्ष से अधिक है उनको 6 00 रुपए प्रतिमाह दिया जाता है।

पेंशन योजना की जिम्मेदारी समाज कल्याण विभाग की होती है। विभाग के द्वारा कुल 6  पेंशन योजनाएं चलाई जा रही है। राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन 14954, विधवा पेंशन 6 6 27, निशक्त पेंशन  के लिए 58 3 लोग पंजीकृत हैं। इसके अलावा मुख्यमंत्री पेंशन योजना एवं सामाजिक सुरक्षा पेंशन भी लागू है।  पात्र हितग्राहियों का चयन ग्राम पंचायत के द्वारा किया जाना है।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत बड़ेराजपुर ए के ठाकुर ने कहा कि उन्हें अब तक मामले की जानकारी नहीं है। वे मामले की जांच करवायेंगे।


Date : 06-Nov-2019

महिला साधना समूह और महिला उजाला समूह की महिलाओं ने श्रमदान कर बाजार परिसर का सफाई की

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोण्डागांव, 6 नवंबर।
अक्सर साप्ताहिक बाजार के बाद बाजार स्थल पर पॉलीथिन व अन्य तरह के अवशेष रह जाते है। इससे पर्यावरण और गांव के मवेशियों के सेहत को काफी नुकसान होता है। इन बातों के मद्देनजर गांव की महिला साधना समूह और महिला उजाला समूह की महिलाओं ने श्रमदान कर बाजार परिसर का सफाई की। साथ ही समूह की महिलाओं ने गांव के पंच प्रकाश चुरगिया की सहायता से जमा किए गए कचरा को प्रबंधन सेड तक सुव्यवस्थित तरीके से पहुंचाया।
जानकारी अनुसार, विकास खण्ड कोण्डागांव के बड़ेकनेरा में मंगलवार के दिन साप्ताहिक बाजार आयोजित होता है। जो कि अपने आप में क्षेत्र के बड़े बाजारों मे से एक है। ऐसे में इस बाजार में पॉलीथिन समेत कागज, पत्तल आदि का कचरा फैल जाता है। 

इसे ध्यान में रखते हुए महिला साधना समूह और महिला उजाला समूह के माध्यम से 6 नवंबर को साप्ताहिक बाजार स्थल साफ-सफाई किया जाने का निर्णय लिया गया। साथ ही पंच प्रकाश चुरगियां को संपर्क कर उनके निजी पिकअप वाहन का उपयोग किया गया, ताकि कचरा को कचरा प्रबंधन सेड तक सुव्यवस्थित ले जाया जा सके। इस कार्य में गांव के गणेश मणिकपूरी ने भी अपना सहयोग दिया। पंच प्रकाश चुरगियां ने महिलाओ को आश्वसन दिया कि, वे महिलाओं का निरंतर सहयोग करेंगे व उन्होने महिलाओं को झाड़ू भी दिए।

 


Previous12Next