छत्तीसगढ़ » सूरजपुर

Date : 10-Nov-2019

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केनापारा पर्यटन स्थल पर मुख्यमंत्री हाट-बाजार योजना के तहत साप्ताहिक हाट-बाजारों में जाकर ग्रामीणों का उपचार करने वाले चार मोबाईल क्लिनिक वैन का हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया
विश्रामपुर, 10 नवंबर।
 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केनापारा पर्यटन स्थल पर मुख्यमंत्री हाट-बाजार योजना के तहत साप्ताहिक हाट-बाजारों में जाकर ग्रामीणों का उपचार करने वाले चार मोबाईल क्लिनिक वैन का हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा एवं आदिमजाति कल्याण मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम, खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता सरंक्षण मंत्री अमरजीत भगत तथा  उच्चशिक्षा मंत्री उमेश पटेल मौजूद थे।

मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना के तहत स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के द्वारा जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में जिले के विभिन्न विकास खण्डों के साप्ताहिक हाट-बाजारों में मोबाईल क्लिनिक वैन निर्धारित रूट के अनुसार शिविर लगाकर ग्रामीणों का उपचार करेगें। मोबाईल वैन के साथ चिकित्सक, लैब टेक्निशियन सहित पूरी  टीम मौजूद रहेंगे जो उपचार के साथ जॉच एवं दवाई भी देगें।

इस अवसर पर विधायक प्रेमनगर एवं सरगुजा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष खेलसाय सिंह, संभागायुक्त ईमिल लकड़ा, कलेक्टर दीपक सोनी, पुलिस अधीक्षक राजेश कुकरेजा, जिला पंचायत अध्यक्ष अशोक जगते, सहित अन्य जनप्रतिनिधि अधिकारी कर्मचारी एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।


Date : 10-Nov-2019

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सूरजपुर जनपद अंतर्गत ग्राम पंचायत केनापारा स्थित हेलीपेड आगमन पर जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा भव्य स्वागत किया 

विश्रामपुर, 10 नवंबर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सूरजपुर जनपद अंतर्गत ग्राम पंचायत केनापारा स्थित हेलीपेड आगमन पर जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा भव्य स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री के साथ खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता सरंक्षण मंत्री अमरजीत भगत तथा  उच्चशिक्षा मंत्री उमेश पटेल भी साथ थे। मुख्यमंत्री की आगवानी कलेक्टर दीपक सोनी ने किया। इस मौके पर स्कूल शिक्षा एवं आदिमजाति कल्याण मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम, विधायक प्रेमनगर एवं सरगुजा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष खेलसाय सिंह, संभागायुक्त ईमिल लकड़ा, पुलिस अधीक्षक राजेश कुकरेजा, जिला पंचायत अध्यक्ष अशोक जगते, सहित अन्य जनप्रतिनिधि अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।


Date : 10-Nov-2019

फसल बचाने हाथी खदेडऩे गए शिक्षक को रौंदा, मौत, दर्जनों ग्रामीणों ने भाग कर जान बचाई, ग्रामीणों में आक्रोश, काटे जंगल
छत्तीसगढ़ संवाददाता
भैयाथान, 10 नवंबर।
सूरजपुर जिले में ओडग़ी विकासखण्ड के बिहारपुर वन परिक्षेत्र के ग्राम पासल में कल रात एक शिक्षक को हाथियों ने अपनी सूंड से पटक-पटक कर मौत के घाट उतार दिया। शिक्षक हाथियों की चपेट में उस समय आ गया जब 30 ग्रामीणों के साथ वह हाथियों को भगाने जा रहे थे। इस दौरान हाथियों की संख्या देख ग्रामीणों ने भाग कर जान बचाई किंतु शिक्षक हाथियों की चपेट में आ गया।  

वन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कल शाम बिहारपुर के पासल में ग्रामीणों ने हाथियों द्वारा धान की फसल खाने की सूचना दी। ग्रामीणों ने एकजुट होकर हाथियों को खदेडऩे का फैसला लिया और हाथियों को खदेडऩे चले गए। एकाएक 18  हाथियों का दल देखने के बाद वहां उपस्थित ग्रामीण भाग खड़े हुए और शिक्षक विश्वनाथ तिवारी (50) को पीछे बैठे हाथी ने अचानक हमला कर दिया और हाथियों ने उसको अपनी सूंड में उठाकर रौंद दिया। जिससे मौके पर ही शिक्षक की मौत हो गई। मौत के बाद भी शव को हाथी 2 घंटे तक घेरे रहे। वन विभाग द्वारा मृतक के परिजनों को तत्कालीन सहायता के तौर पर 25 हजार रुपए दिया गया है 

ग्रामीणों में आक्रोश 
ग्रामीणों का कहना है कि एक सप्ताह से हाथियों का उत्पात जारी है और वन विभाग द्वारा हाथी प्रभावित ग्राम में टॉर्च सहित जरूरी सामान नहीं बांटा गया है। ग्रामीणों का ंयहां तक कहना है कि वन विभाग हाथियों को हमारे ऊपर छोड़ दे या जरूरी सामान हमको दिया जाए।

ग्रामीणों ने काटे जंगल
वन विभाग द्वारा बताया गया कि यहां के ग्रामीणों द्वारा प्रतिदिन वनों की कटाई की जा रही है इस कारण हाथियों के रहने खाने की व्यवस्था जंगल में नहीं होने के कारण हाथी चारा पानी की तलाश में जंगल से गांव की ओर रुख कर रहे हैं। यही कारण है कि हाथी गांव की ओर रुक कर फसल खा रहे हैं ।

समझाईश के बाद भी ग्रामीण हाथी को खदेडऩे गए
वन विभाग द्वारा लगातार हाथियों से दूरी बनाने को लेकर हर रोज मुनादी कराई जा रही है कि हाथियों को खदेडऩे व हाथियों के आस-पास नहीं जाए। हाथी उतेजित होकर हमला कर सकते हैं फिर भी कल हाथियों को भगाने गए थे।

18  के दल में एक को लगा है कॉलर आईडी 
हाथियों के दल में एक हाथी पर कॉलर आईडी लगा हुआ है। इस कारण हाथियों की लोकेशन व मूमेंट की जानकारी लग रही है कि हाथी पेंडारी की जंगल से बिहारपुर की जंगल में अभी डेरा जमाए हुए हैं। इस दल में 18  हाथी हैं तो दूसरी ओर 12 हाथियों का दल इलाके में विचरण कर रहा है।


Date : 09-Nov-2019

बस ने बोलेरो को मारी ठोकर, एक मौत, 6 गंभीर

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
विश्रामपुर, 9 नवंबर।
शनिवार की सुबह नगर से लगे एन एच 43 में तेज रफ़्तार से जा रही बस ने आगे चल रही बोलेरो को ठोकर मार दी। घटना में सड़क किनारे काम कर रहे गैरेज मिस्त्री की मौक़े पर ही मौत हो गई। वहीं बोलेरो में सवार दो बच्चे सहित छह लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफऱ कर दिया गया।

जानकारी के अनुसार सुबह आठ बजे रायपुर से अम्बिकापुर जा रही रॉयल बस का चालक काफ़ी तेज गति से बस चलाते हुए अंबिकापुर की ओर जा रहा था।आगे आगे बोलेरो का चालक जो एस्सार पेट्रोल पंप में डीज़ल भरवाने जा रहा था।उसी दौरान बस चालक ने ज़ोरदार टक्कर मार दी।टक्कर में बोलेरो पलटते हुए पेट्रोल पंप के समीप टायर दुकान के सामने गाडिय़ों में ग्रीस लगाने का काम करने वाला युवक सतपता निवासी 33वर्षीय फैजाल पिता शौक़त अली इसकी चपेट में आ गया और उसकी मौक़े पर ही मौत हो गई। वहीं बोलेरो पलटते हुए सड़क किनारे खड़े ट्रक से जा टकरायी घटना में गोरखनाथपुर से कुदरगढ़ जा रहे भरत पटेल पिता विनीत पटेल,पारस पटेल पिता परमजीत पटेल,विनीता पति भरत पटेल,लक्ष्मी पटेल पति पारस पटेल एवं दो सात वर्षीय बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना के बाद चीख पुकार मच गई।मौक़े पर मौजूद लोगों ने सभी को निकाला।सूचना मिलते ही पुलिस भी इस मौक़े पर पहुँची और सभी घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया जहाँ सभी को जिला चिकित्सालय रिफर कर दिया गया।बिश्रामपुर पुलिस ने मामला दर्ज कर जाँच कर रही है।

 


Date : 09-Nov-2019

मत्स्य पालन हेतु विकसित केज कल्चर का  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया अवलोकन 

सूरजपुर । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज सूरजपुर जनपद के ग्राम पंचायत केनापारा स्थित केनापारा पर्यटन स्थल में स्कूल शिक्षामंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, खाद्यमंत्री अमरजीत भगत तथा उच्च शिक्षामंत्री उमेश पटेल के साथ करीब 6 सौ मीटर तक बोटिंग का आनंद लिया। उन्होंने मत्स्य पालन हेतु विकसित केज कल्चर का अवलोकन किया। 


Date : 09-Nov-2019

हाथियों तले बुजुर्ग किसान की मौत, फसल को बचाने परिवार समेत खेत गया था, बिहारपुर वन परिक्षेत्र में घूम रहा 30 हाथियों का दल , कई मकान तोड़े

छत्तीसगढ़ संवाददाता

भैयाथान, 9 नवंबर। बीती रात धान की फसल को खा रहे हाथियों को खदेडऩे गए किसान परिवार को हाथी दौड़ाने लगे। परिवार के बेटे-बहू तो भागने में सफल हो गए, लेकिन बुजुर्ग को हाथियों ने घेर कर सूंड से उठाकर पटकते हुए पैरों से बुरी तरह कुचल दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

सूरजपुर जिले के ओडग़ी विकासखण्ड के दूरस्थ अंचल बिहारपुर के मोहरसोप में गुरु घासीदास नेशनल पार्क एरिया से आए 30 हाथियों का दल बिहारपुर वन परिक्षेत्र के मोहरसोप रेंज के अलग-अलग क्षेत्र में विचरण कर रहा है और इसी दल से अलग हुए 12 हाथियों के दल की चपेट में एक बुजुर्ग की मौत हो गई।

वन विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक सूरजपुर वनमंडल के अंतर्गत बिहारपुर वन परिक्षेत्र के मोहरसोप में शुक्रवार देर रात हाथियों के द्वारा धान की फसल को खाया जा रहा था। जवाहर (53 वर्ष) मोहरसोप अपने बेटे-बहू के साथ टार्च लेकर खेत तरफ हाथियो को खदेडऩे के लिए जा रहे थे। तभी 12 हाथियों के दल उनको दौड़ाने लगे। किसी तरह बेटा व बहू भागने में सफल हो गए लेकिन जवाहर को हाथियों ने घेर कर सूंड से उठाकर पटकते हुए पैरों से बुरी तरह कुचल दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

30 हाथियों का दल विचरण कर रहा

बिहारपुर वन परिक्षेत्र में 30 हाथियों का दल अलग-अलग क्षेत्र में घूम रहा है और लगातार धान की फसलों को नुकसान कर रहा है और कई घरों को भी तोड़ कर तहस-नहस कर दिया गया है। वन विभाग लगातार हाथियों से दूरी बनाने की अपील

ग्रामीणों से कर रहे हैं। 

दो दिन पूर्व एक घर को किया क्षतिग्रस्त

दो दिन पूर्व ग्राम पासल के कुरोपहरी निवासी कुनजल पंडो के घर को पूरी तरह से तोड़ कर नष्ट कर दिया, जिससे परिवार बेघर हो गया। यहा 10-12 हाथियों के झुंड ने इनके घर को पूरी तरह से घेर कर तोड़ दिया था।

इस संबंध में बिहारपुर वन परीक्षेत्र के रेंजर मेवालाल पटेल ने बताया कि इलाके में 30 हाथियों का दल क्षेत्र के अलग-अलग इलाके में विचरण कर रहा है। गुरु घासीदास नेशनल पार्क यहां से कुछ ही दूरी पर स्थित है और इलाके के कछिया, पेंडारी, पासल इलाके में 18 हाथियों का दल व मोहरसोप सहित अन्य गांव में 12 हाथियों का दल विचरण कर रहा है। हाथियों को जंगल की ओर खदेडऩे के लिए लगातार इलाके में वन विभाग लगा हुआ है और गांव वालों को लगातार मुनादी कर हाथियों से दूरी बनाने को बोला जा रहा है और जो फसल नुकसान हुआ है, उसका आंकलन तैयार कर प्रभावितों को मुआवजा दिया जा रहा है। मृतक के परिजनों को तात्कालिक सहायता के तौर पर 25 हजार दिया गया है।

शाम होते ही जंगल से निकलकर आबादी वाले गांव में

समाचार लिखे जाने तक अभी हाथी गुरुघासीदास नेशनल पार्क के जंगल में है। वहीं शाम होते ही पार्क के जंगल को छोड़ कर आबादी वाले  ग्राम कछिया पासल, खैरा, पेंडारी, नवडीहा, जुवानी आदि गांवों में आ जाते हैं। लगातार हाथियों के हमले से गांवों में दहशत है। फिलहाल वन अमला हाथियों की निगरानी कर रहा है।


Date : 08-Nov-2019

नशीले इंजेक्शन के अवैध कारोबार में लिप्त दो गिरफ्तार, नशे के उपयोग में लाए जाने वाले 240 नग इंजेक्शन और युवकों के कब्जे से अवैध कारोबार में प्रयुक्त बाइक को भी बरामद

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बिश्रामपुर, 8  नवंबर।
पुलिस ने नशीले इंजेक्शन के अवैध कारोबार में लिप्त दो युवकों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से नशे के उपयोग में लाए जाने वाले 240 नग इंजेक्शन और युवकों के कब्जे से अवैध कारोबार में प्रयुक्त बाइक को भी बरामद कर लिया है।


बिश्रामपुर थाना प्रभारी कपिलदेव पांडेय को मुखबिर से गुरुवार को सुबह सूचना मिली कि कोरिया जिले के पटना थाना अंतर्गत ग्राम कोचिला निवासी जितेंद्र कुमार केवट एवं सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम चंदरपुर निवासी रामलाल सोनवानी द्वारा लंबे समय से अवैध मादक पदार्थ एवं नशीले इंजेक्शन का कारोबार संचालित किया जा रहा है। मुखबिर ने यह भी बताया कि उक्त दोनों युवक बाइक से नशीला इंजेक्शन खपाने बिश्रामपुर की ओर जा रहे हैं।  सूचना पर थाना प्रभारी कपिलदेव पांडेय ने तत्काल पुलिस टीम के साथ बिश्रामपुर सूरजपुर हाईवे मार्ग पर हनुमान मंदिर कुरुवां के समीप घेराबंदी कर बाईक से बिश्रामपुर की ओर आ रहे उक्त दोनों संदेही युवकों को रोककर विधिवत उनकी तलाशी ली। तलाशी के दौरान पुलिस ने आरोपित युवकों के कब्जे से नशे के उपयोग में लाए जाने वाले 240 नशीले इंजेक्शन बरामद किया, जिसकी बाजार कीमत 6 0 हजार रुपये बताई गई है

पुलिस ने आरोपित युवक को नारकोटिक्स एक्ट के तहत गिरफ्तार कर सूरजपुर न्यायालय में पेश किया। जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में सूरजपुर जेल भेज दिया गया है। 

 


Date : 07-Nov-2019

आरटीओ टीम ने अभियान चलाकर बिना वैध दस्तावेज के सड़क पर दौड़ रही एसईसीएल की तीन स्कूल बसों सहित आठ वाहनों को मोटर व्हीकल एक्ट के तहत जब्त कर बिश्रामपुर पुलिस के सुपुर्द किया

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
विश्रामपुर, 7 नवंबर।
सूरजपुर जिले के आरटीओ टीम ने अभियान चलाकर बिना वैध दस्तावेज के सड़क पर दौड़ रही एसईसीएल की तीन स्कूल बसों सहित आठ वाहनों को मोटर व्हीकल एक्ट के तहत जब्त कर बिश्रामपुर पुलिस के सुपुर्द किया है। जब्त किए गए सभी वाहन या तो एसईसीएल के हैं अथवा एसईसीएल प्रबंधन द्वारा अनुबंधित हैं।

एसईसीएल बिश्रामपुर क्षेत्र की अधिकांश स्कूल बसों के सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों की धज्जियां उड़ाते हुए बिना वैध दस्तावेज के स्कूल एवं कालेज के छात्र-छात्राओं को लाने ले जाने के परिवहन कार्य में लगे होने की शिकायतें लगातार प्रकाश में आ गई थी। इसी के मद्देनजर बुधवार को सूरजपुर के जिला परिवहन अधिकारी अतुल असैया ने आरटीओ विभाग की टीम के साथ आकस्मिक जांच अभियान चलाते हुए बिना वैध दस्तावेज के सड़कों पर दौड़ रही एसईसीएल एवं एसईसीएल प्रबंधन द्वारा अनुबंधित आठ वाहनों के विरुद्ध मोटर व्हीकल एक्ट की धारा के अंतर्गत वाहनों की जब्ती कार्रवाई की गई है। आरटीओ द्वारा जब्त वाहनों में एसईसीएल बिश्रामपुर क्षेत्र की स्कूल बस सहित एसईसीएल बिश्रामपुर क्षेत्रीय प्रबंधन द्वारा अनुबंधित निजी स्कूल बस कोयला कामगारों को कार्यस्थल पर लाने एवं ले जाने के लिए अनुबंधित निजी बस शामिल हैं, जिन्हें मोटर व्हीकल एक्ट के तहत जब्ती के बाद आरटीओ ने बिश्रामपुर पुलिस के सुपुर्द कर दिया है। आरटीओ की इस कार्रवाई से एसईसीएल महकमे में खलबली मच गई है। ज्ञात हो कि इसके पूर्व भी आरटीओ विभाग द्वारा लंबे समय से बिना वैध दस्तावेज के सड़कों पर दौड़ रही एसईसीएल की स्कूल बच्चों को मोटर व्हीकल एक्ट के तहत जब्त किया गया था। उसके एवज में एसईसीएल प्रबंधन को भारी जुर्माना अदा करना पड़ा था। इस कार्रवाई में परिवहन विभाग के उप निरीक्षक राजेंद्र वर्मन एवं परिवहन विभाग की टीम सक्रिय रही।

 


Date : 07-Nov-2019

दीपावली मिलन समारोह में केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने कहा कि आप लोगों के स्नेह प्रेम व सहयोग के बदौलत देश के विकास पुरुष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुझे काम करने का अवसर मिला

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बिश्रामपुर, 7 नवंबर।
दीपावली मिलन समारोह में केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने कहा कि आप लोगों के स्नेह प्रेम व सहयोग के बदौलत देश के विकास पुरुष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुझे काम करने का अवसर मिला है आगे आप लोगों के सहयोग से ही संसदीय क्षेत्र के साथ साथ समूचे देश में विकास कार्यों को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी है और इस जिम्मेदारी को आप लोगों से मिले स्नेह सहयोग के बदौलत ही पूरा करना है। उन्होंने कहा कि लोगों को एक दूसरे से मिलते रहना चाहिए। मिलने से रिश्ते अच्छे व मजबूत बनते हैं। दीपावली मिलन कार्यक्रम भी इसी लिए आयोजित किया गया है।
रेणुका तट पर स्थित आनंद रिहंदम में आयोजित दीपावली मिलन समारोह में सूरजपुर, अंबिकापुर व बलरामपुर जिले के पार्टी पदाधिकारी सहित जनप्रतिनिधि, समाज सेवी संस्था के लोग काफी संख्या में पहुंचे थे।डेढ़ हजार मिट्टी के दिए से जगमगाते आनंद रिहंदम परिसर में लोग केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह से बड़ी आत्मीयता के साथ मुलाकात की और उन्हें बधाई देते हुए क्षेत्र के विकास पर लंबी चर्चा भी की। केंद्रीय राज्य मंत्री ने भी खुलकर लोगों से चर्चा कर हालचाल जानने के साथ ही नगर गांव की समस्याओं से अवगत हुई। बेहतर माहौल में आयोजित इस कार्यक्रम की शुरुआत भगवान गणेश व मां लक्ष्मी की पूजा अर्चना के साथ की गई। इस मौके पर आयोजित गीत संगीत कार्यक्रमों का भी लोगों ने जमकर लुत्फ उठाया यहां तक कि स्वयं केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह ने भी सहयोगी गायिकाओं के साथ गीतों को सूरो में गुनगुनाया कई अन्य संगीत प्रेमियों ने भी अपनी आवाजों से लोगों को बांधे रखा और लोग आनंदित रहे। आत्मिय मुलाकात के बाद केंद्रीय राज्य मंत्री ने लोगों से कहा कि चुनाव के बाद मंत्री पद का दायित्व संभालने के बाद आप लोगों से मिलने का अवसर नहीं मिल पा रहा था दीपोत्सव त्यौहार ने यह अवसर जरूर दिया है। उन्होंने कहा कि एक दूसरे से मिलते रहने से रिश्ते अच्छे को मजबूत बनते हैं। इस मौके पर की गई जमकर आतिशबाजी देखते ही बन रही थी। कार्यक्रम में सूरजपुर बलरामपुर अंबिकापुर के जनप्रतिनिधि भाजपा नेता व समाजसेवी उपस्थित रहे, जिसमें प्रमुख रुप से आरके शुक्ला, अनिल सिंह मेजर, कमलभान सिंह, रामकृपाल साहू, शिवनाथ यादव, अखिलेश सोनी, चरण सिंह अग्रवाल, बाबूलाल गोयल, बनारसी जायसवाल, करताराम अग्रवाल, अजय गोयल, विजय प्रताप सिंह, अनिल गोयल, भोला प्रसाद अग्रवाल, विजय अग्रवाल, फुलेश्वरी पैकरा, मंजूषा भगत, पुष्पा सिंह, ओम प्रकाश सोनी, अनिल अग्रवाल, संतोष दास, लोकेश पैकरा, सिंहासन सिंह, सुरेंद्र पांडे, अंशु गोयल, आशा अग्रवाल, हेमलता गुप्ता सहित अग्रवाल महिला मंडल, आशा द होप, वरिष्ठ नागरिक संघ मारवाड़ी युवा मंच, गायत्री परिवार आदि संस्था के लोग शिरकत किए। कार्यक्रम को सफल बनाने में शशिकांत गर्ग, संदीप अग्रवाल, शंकर जिंदिया, अजय गुप्ता, विजय राजवाड़े, राजकिशोर चौधरी, दीपेंद्र सिंह, विजय राजवाड़े, अनुप सिन्हा, संजीत सिंह, जसवंत सिंह, पुनीत अग्रवाल, लक्ष्मण कसेरा, सुनील साहू, राजेश साहू, विवेक दुबे, मिंटू सिंह आदि सक्रिय रहे।


Date : 07-Nov-2019

जमीन विवाद, महिला की हत्या, उम्रकैद

छत्तीसगढ़ संवाददाता
सूरजपुर, 7 नवंबर।
जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने हत्या के आरोपी को आजीवन कारावास की सजा दी। 
गत् वर्ष 22 जून को ग्राम कोटेया निवासी रामेश्वरी बाई बिझिंया सुबह अपने खेत में काम करने गई थी जिसके लिए प्रार्थी धीरसाय बिझिंया खाना लेकर खेत पर पहुंचा, उसने देखा कि खेत के पास रामेश्वरी के झोपड़ीनुमा घर के पास सियाराम बिझिंया हाथ में टांगी रख भाग रहा था। रूकने की आवाज देने पर अटेम नदी के तरफ भाग गया। 

धीरसाय घर के अंदर जाकर देखा जो इसकी बड़ी सास रामेश्वरी बाई के सिर में चोट लगकर खून से लथपथ बेहोश पड़ी थी। पिछले 2-3 वर्षों से आरोपी का रामेश्वरी के साथ बेजा कब्जा जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। इसी जमीन संबंधी विवाद को लेकर आरोपी सियाराम द्वारा रामेश्वरी के सिर में प्राणघातक वार कर हत्या कर दिया।

मामले की रिपोर्ट पर प्रेमनगर पुलिस ने सियाराम बिझिंया के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध किया। प्रकरण की विवेचक निरीक्षक आर.एन.कुजूर के द्वारा आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा एवं प्रकरण में साक्ष्य संकलित कर आरोप पत्र माननीय न्यायालय सूरजपुर में पेश किया।

इस मामले की सुनवाई न्यायाधीश हेमन्त सराफ माननीय जिला एवं सत्र न्यायाधीश सूरजपुर के यहां हुई।  न्यायालय ने मामले की सुनवाई 5 नवम्बर को पूरी करते हुए गवाहों के बयान, पीएम रिपोर्ट के साक्ष्य के आधार पर ग्राम गोकुलपुर थाना रामानुजनगर निवासी सियाराम को धारा 449 के तहत 10 वर्ष कठोर कारावास व 5 सौ रूपये अर्थदण्ड एवं धारा 302 के तहत आजीवन कारावास व 500 रूपये का अर्थदण्ड से दंडित किया है।

 


Date : 06-Nov-2019

जनपद पंचायत ओडग़ी के जनपद क्षेत्र क्रमांक 8 और 9 का गलत तरीके से परिसीमन का आरोप लगाते हुए ओडग़ी बस स्टैंड  में धरना-प्रदर्शन 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
ओडग़ी, 6 नवंबर।
जिला प्रशासन पर जनपद पंचायत ओडग़ी के जनपद क्षेत्र क्रमांक 8 और 9 का गलत तरीके से परिसीमन का आरोप लगाते हुए ओडग़ी बस स्टैंड  में धरना-प्रदर्शन किया गया । 

क्षेत्र के जनता एवं जनप्रतिनिधियों के द्वारा बस स्टैंड ओडग़ी मे धरना-प्रदर्शन एवं सभा का आयोजन कर परिसीमन का विरोध करते हुए कहा कि हम सभी के द्वारा दावा-आपति करने के बाद भी कोई पहल प्रशासन के द्वारा नहीं किया गया। सीधे प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा गया कि प्रशासन अब कांग्रेसी नेताओं के इशारे पर काम कर रही है और उनके इशारे पर सिर्फ दो जनपद क्षेत्र का परिसीमन कर क्षेत्र की जनता के साथ अन्याय किया गया है । इस ओर समय रहते पुन: पुरानी पद्धति से नहीं जोड़ा गया तो उग्र आंदोलन किया जायेगा। 

इस आंदोलन में क्षेत्र के लोगों के साथ हर पार्टी के जनप्रतिनिधि भी भारी संख्या मे उपस्थित होकर पुरजोर विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान जिला बचाना है तो कलेक्टर हटाना है का भी नारा लगाते हुए प्रदर्शन किया गया ।

अंतिम प्रकाशन पर भी सवाल 
पंचायत के अंतिम प्रकाशन की तिथि 26/10/19 को किया जाना था लेकिन जिला प्रशासन के द्वारा अंतिम प्रकाशन 31 अक्टूबर को किया गया और पंचायतों को चस्पा करने के लिए 1 नवंबर को दिया गया। वहीं पंचायत सचिव से 26 अक्टूबर की तारीख पर रिसीव लिया गया था तो जिला प्रशासन के द्वारा  चुपके-चुपके राजनीतिक दबाव में पंचायत परिसीमन किया। उसका आरोप लगाते हुए धरना-प्रदर्शन में पुरजोर विरोध किया गया।

इस दौरान गोगपा नेता जयनाथ सिंह केराम,  लवकेश पैकरा, भाजपा मंडल अध्यक्ष राजेश तिवारी, सरपंच कुदरगढ रामकुमार, सरपंच रामपुर राजेश सिंह, सरपंच इन्दरपुर केशव सिंह, नरेश जायसवाल, ओडग़ी जनपद सदस्य धर्म राज सिंह पावले, विजय गुर्जर, एवं भारी संख्या में क्षेत्र के ग्रामीण एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

क्षेत्र क्रमांक 08 और 09 का किया परिसीमन 
क्षेत्र क्रमांक 08 जो पहले तीन पंचायत का क्षेत्र  था जिसमे ओडग़ी, कालामांजन व पालदनौली मिलाकर एक क्षेत्र था ।  उस क्षेत्र से पालदनौली को हटाकर 15 किमी दूर वाले क्षेत्र में जोड़ दिया गया वहीं क्षेत्र क्रमांक  09  में पहले ग्राम इन्दरपुर, रामपुर, चपदा, धूर व कुदरगढ़ मिलाकर एक क्षेत्र था जिसमें परिवर्तित करते हुए  ग्राम पंचायत चपदा,कुदरगढ़, धूर का परिसीमन करते हुए ग्राम पंचायत पालदनौली को जोड़ दिया गया।

 


Date : 05-Nov-2019

प्रतापपुर में आयोजित मलखम्ब की राष्ट्रीय प्रतियोगिता में बच्चों ने हैरतअंगेज करतब दिखाए

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
प्रतापपुर, 5 नवंबर।
प्रतापपुर में आयोजित मलखम्ब की राष्ट्रीय प्रतियोगिता में बच्चों ने हैरतअंगेज करतब दिखाए।छत्तीसगढ़ में पहली बार आयोजित जो रही मलखम्ब की राष्ट्रीय प्रतियोगिता में सोलह प्रदेशों की टीमो ने हिस्सा लिया।छोटे नन्हे बच्चे प्रतियोगिता में आकर्षण का केंद्र रहे,इस दौरान लड़कियों का रूप मलखम्भ,लड़कों का रोप हैंगिंग और पोल मलखम्ब हो रहा है।मलखम्ब की राष्ट्रीय प्रतियोगिता में देश के सोलह प्रदेशों की टीम ने हिस्सा लिया। प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़,झारखंड,एमपी,उत्तरप्रदेश,महाराष्ट्र,दिल्ली,राजस्थान सहित अन्य राज्यों के सभी खिलाडिय़ों ने हैरतअंगेज करतब दिखाए।पहली बार मलखम्ब देख रहे स्थानीय दर्शक और स्कूली बच्चे अचंभित थे। प्रतियोगिता में रवि प्रकाश परिहार,मुन्ना लाल,मोहन लाल,कन्हैया,मनीष,ऋतु प्रजापति ने विशेष भूमिका निभाई।

प्रतियोगिता के दौरान अतिथि अशोक जगते जिला पंचायत अध्यक्ष, विशिष्ट अतिथि के तौर पर नेपाल के सूर्यबहादुर कार्की,अनिल गुप्ता विधायक प्रतिनिधि,विद्यासागर सिंह अध्यक्ष शक़्कर कारख़ाना,डॉ. रमेश इंडोलिया प्रेसिडेंट मलखम्ब फेडरेशन ऑफ इंडिया,डॉ. राजकुमार शर्मा जनरल सेक्रेटरी,शिवभजन मरावी,हाइकोर्ट अधिवक्ता ए लकड़ा और आई लकड़ा,रवि प्रकाश परिहार कंपीटिशन टेक्निकल डायरेक्टर,अनिल पटेल टेक्निकल डायरेक्टर,राजकुमारी तिर्की छत्तीसगढ़ फिजिकल डायरेक्टर उपस्थित थे।

समाचार लिखे जाने तक मंगलवार को क्वालिफाइंग राउंड के बाद चयनित खिलाडिय़ों के बीच फाइनल मैच चल रहा था।पुरस्कार वितरण कार्यक्रम के लिए स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ.प्रेमसाय सिंह वह अन्य जनप्रतिनिधि पहुंचे हुए थे।इस दौरान आयोजन समिति के नवीन जायसवाल,मलखम्ब के जिला उपाध्यक्ष इम्तियाज जफर,संजीव श्रीवास्तव,राकेश मित्तल,सतीश चौबे,मासूम इराकी,जगत लाल आयाम,मलखम्ब खिलाड़ी चंदन टोप्पो,बलबीर यादव,फकरुद्दीन अंसारी सहित आनंद मित्तल,नरेंद्र गर्ग,अक्षय तिवारी,मुकेश गर्ग,इसरारुल हक,विक्कू गुप्ता,बिगनेश्वर प्रसाद,त्रिभुअन सिंह,धीरज कश्यप,प्रकाश गुप्ता उपस्थित थे तथा वालेंटियर रमेश कुमार,आकाश कुमार,निशांत सिंह,सरिता,आरती,संजना,शशि कुमार,जीवनलता,अमन यादव,रविता,रामजनम सहित अन्य उपस्थित थे।

 


Date : 04-Nov-2019

बेजा कब्जा पर कार्रवाई को देख जनपद उपाध्यक्ष को दुकानदारों ने बताई समस्याएं 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
भैयाथान, 4  नवंबर।
ब्लॉक मुख्यालय में बीते दिनों ओडग़ी रोड़ में रोड़ के किनारे अतिक्रमण पर हुई कार्रवाई को देखते हुए भैयाथान में सूरजपुर रोड में अतिक्रमण किए हुए दुकानदार आज जनपद उपाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह के समक्ष अपनी फरियाद लेकर पहुंचे।

ज्ञात हो कि कुछ दिन पूर्व ओडग़ी रोड में रोड किनारे अतिक्रमणकारियों पर कार्यवाई कर प्रसाशन ने अपनी मंशा स्पस्ट कर दी थी कि रोड के किनारे अतिक्रमण कर दुकानदारो ने दुकान के सामने समान निकाल दिया जाता था जिससे हर दिन जाम की स्थिति को देखते हुए प्रसाशन ने यह कारवाई की थी अलबत्ता यही हाल सूरजपुर रोड़ में स्थिति कमोपेश यही थी जिससे अतिक्रमण किए हुए दुकानदारों की चिंता सताने लगी थी चुकी सूरजपुर रोड के किनारे अतिक्रमणकारियों की संख्या ज्यादा है जब इन्हें रोजी रोटी जाने की चिंता सताने लगी थी तब  सभी अतिक्रमणकारी दुकानदार जनपद उपाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह से मिलनकर अपनी समस्या बताई जिसमे उपाध्यक्ष ने भैयाथान एसडीएम प्रकाश सिंह राजपूत से चर्चा कर यातायात प्रभावित ना हो और इनकी दुकान भी प्रभावित ना हो इसको लेकर आज एक बैठक जनपद पंचायत के सभा कक्ष में रखी गई। जिसमें भैयाथान की सुंदरता को व यातायात को मद्देनजर रखते हुए जुगि झोपड़ी को तोड़कर पक्के की दुकान सभी दुकानदारों को आवंटित करने की बात पर सहमति बनी है।

इस दौरान जनपद उपाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह, एसडीएम प्रकाश सिंह राजपूत, वन विभाग के सुरेंद्र सिंह,सचिव आनंद सिंह, सहित सभी दुकानदार उपस्थित थे।


Date : 04-Nov-2019

भैयाथान में तीन दिनों से हाथियों का उत्पात, दो मकान तोड़े-अनाज चट, फसलें रौंदी 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
भैयाथान, 4 नवंबर।
सूरजपुर जिले के भैयाथान विकासखण्ड में तीन दिनों से हाथियों का उत्पात जारी है। कल शाम आठ हाथियों के दल ने एक घर को घेर लिया। ग्रामीणों द्वार पटाखा फोडऩे के बाद हाथियों ने वापस जंगल की ओर जाते समय रास्ते में पडऩे वाले दो घरों को तोड़ दिया और घर में रखे अनाज को चट कर दिया। वहीं घर में रखे बर्तन व कुएं में पंप सहित कई खेतों में लगी धान की फसल को भी रौंद डाला। 

हाथियों के डर से ग्रामीण रतजगा करने मजबूर हैं। समाचार लिखे जाने तक बड़सरा के जंगलों से निकलकर हाथी धरसेड़ी के जंगल पहुंच गए हंै।

ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार बीती रात ग्राम पंचायत बड़सरा के अमाखोखा के बारगाह पारा में आठ हाथियों के दल ने एक घर को घेर लिया। पड़ोसी द्वारा फोन कर बताने पर घर में मौजूद सदस्यों ने अपनी जान बचाई। इसके बाद ग्रामीणों ने पटाखा फोड़ कर हाथियों को जंगल की ओर खदेड़ा। जंगल की ओर जाते समय बीती रात हाथियों ने भारी नुकसान पहुंचाया। जंगल से लगे बारगाहपारा गांव में जहां दो कच्चे मकान को ढहा दिया। वहीं घर में रखे चावल को भी चट कर दिया। घर में रखे बर्तन व कुएं में पम्प सहित कई खेतों में लगी धान की फसल को भी रौंद डाला। 

सूरजपुर वन मंडल के अंतर्गत कुदरगढ़ वन परिक्षेत्र व भैयाथान के ग्राम बड़सरा, बसकर कुधरी, बरपानी,अमाखोखा में आठ हाथियों का दल पिछले तीन दिनों से जमा हुआ है। इनकी मौजूदगी से ग्रामीणों में भारी दहशत है। स्थिति यह है कि दिन में डरे -सहमे घर से बाहर निकल रहे हैं वहीं रतजगा भी करना पड़ रहा रहा है। हाथियों ने हरिवंश साहू, हरिचन्द्र, अयोध्या, शोभनाथ यादव, बृजनाथ यादव आदि की धान की खड़ी फसल को नुकसान पहुंचाया है। वहीं बृजनाथ यादव की बाड़ी में लगे आलू की फसल को भी चट कर गए हैं। रात में बड़सरा के बरपानी के जंगलों से वापस अमाखोखा होते हुए बारगाहपारा आबादी वाले जगह पर आ धमके और पटाखा फोड़ हाथियो को पुन: जंगल की ओर भगाया गया।

ग्रामीणों की सूझ-बूझ से बची जान
हाथियों ने कल शाम बड़सरा निवासी रामा व उदय के घर को घेर लिया। उनके घर से कुछ ही दूरी पर स्थित पड़ोसियों ने फोन कर उनको बताया गया कि उनके घर को हाथियों ने घेर लिया है और बाहर नहीं निकलने की सलाह दी। यह खबर आग की तरह पूरे गांव में फेल गई और ग्रामीणों ने पटाखा फोड़ हाथियों को भगाया और रामा व उदय ने अपने परिजनों के साथ किसी तरह जान बचाकर घर से बाहर निकले और फिर मैन रोड आकर ग्रामीणों के साथ पटाखा फोड़कर हाथियों को जंगल की ओर खदेड़ा ।

दो ग्रामीणों का घर तोड़ा
जंगल की ओर जाते समय हाथियों ने चन्द्रशेखर, सोनकुंवर के कच्चा मकान को ढहा दिया और घर में रखे अनाज व बर्तनों को भी नष्ट कर दिया। इतना ही नहीं इसी रास्ते से आगे बढ़ते हुए दल ने धान की फसल को भी नुकसान पहुंचाया। घटना की सूचना के बाद भी वन विभाग मौके पर नहीं पहुंचा जिसको लेकर ग्रामीणों में रोष है।

बारगाह पारा निवासी सोनकुंवर ने बताया कि 6  माह पहले मेरे पति की मौत हो गई है वहीं 6  बच्चो की परवरिश की चिंता अलग थी। अब हाथियों ने घर सहित घर में रखा अनाज, बर्तन सहित मकान भी छीन लिया।

इस संबंध में सूरजपुर डीएफओ जे आर भगत ने बताया कि 8  हाथियों का दल कोरिया जिला से बड़सरा आया है और यहां के जंगलों में विचरण कर रहा है। 

बड़सरा में हाथियों द्वारा जो क्षति हुई है उसका आंकलन तैयार किया जा रहा है। एक सप्ताह में प्रभावितों को भुगतान किया जाएगा।