छत्तीसगढ़ » सरगुजा

Previous1234Next
Date : 22-Jul-2019

दूधमुंहों संग 15 किमी पैदल महिलाएं पहुंची बयान देने 

25 ग्रामीणों और एक एनएमडीसी अधिकारी का बयान दर्ज

छत्तीसगढ़ संवाददाता
किरंदुल, 22 जुलाई।
 एनएमडीसी की 13 नंबर लौह अस्यक की खदान की कथित फर्जी ग्रामसभा की जांच को लेकर आज अंतिम बार हिरोली गांव के ग्रामीणों का बयान दर्ज किया गया। इसके लिए 165 लोगों को नोटिस दिया गया था। आज 25 ग्रामीणों  और एक एनएमडीसी के अधिकारी ने बयान दर्ज कराया। 

16 जुलाई को 465 ग्रामीण को नोटिस दी गई थी जिसमें 29 ने बयान दिए थे। गांव में एक नाम के दो तीन लोग होने के कारण फिर से दो नाम वालों को भी बुलाया गया। आज के ग्रामसभा में शामिल होने ग्रामीण 15 किमी पैदल चलकर हिरोली से किरंदुल पहुंचे जिसमें दूधमुँहों  को लेकर कई माएं पहुंची थीं। दिन भर भूखी-प्यासी अपने बारी का इन्तजार करती रहीं। 
4 जुलाई 2014 में जो हिरोली गांव में ग्रामसभा हुई थी उसमें 108 लोगों ने अपने अंगूठे और हस्ताक्षर किए थे जिसमें से अब तक 55 लोगों के बयान हो गए उसमें से कई नाम ऐसे हंै जिनकी मौत हो चुकी है। 

जाँच अधिकारी एसडीएम नूतन कंवर ने बताया कि अब तक चार बार जांच के लिए नोटिय जारी हुई है जिसमें दो बार ग्रामीणों के बयान हुए हैं। आज एनएमडीसी के महाप्रबंधक को भी बयान देने नोटिस दी गई थी। उनकी अनुपस्थिति में माइनिंग इंजीनियर विनय कुमार ने अपना बयान दर्ज कराया है। 

बयान देने वालो में एक ग्रामीण ने माना कि उसने हस्ताक्षर किए हंै। जब इस ग्रामसभा के बारे में ग्रामीण युवक हेमंत कुंजाम से पूछा गया तो उनका कहना था कि ऐसी कोई भी ग्रामसभा पंचायत में नहीं हुई जिसमें 13 नंबर खदान ओर पर्यावरण के बारे में कहा गया। पूरी फर्जी तरीके से ग्रामसभा सचिव ने किया है ओर धोखे से अंगूठे लगवाए और हस्ताक्षर करवा कर एनएमडीसी और जिला प्रशासन को सौंप दिया।

आज की ग्रामसभा की जांच के दौरान संयुक्त पंचायत संघर्ष समिति की कोर कमेटी के सदस्य मौजूद थे। अध्यक्ष नंदा कुंजाम ने कहा कि बयान तो निष्पक्ष हुए हैं अब रिपोर्ट आने पर ही दूध का दूध ओर पानी का पानी होगा। एनएमडीसी की ओर से जांच में शामिल होने माइनिंग इंजीनियर विनय कुमार, उप प्रबंधक कार्मिक एस  चटर्जी, मनीष टुपनो और जिला प्रशासन की ओर से तहसीलदार  पुष्प राज पात्रे,  थाना प्रभारी बरुआ, एसडीओपी धीरेंद्र पटेल और पूरा अमला मौजूद था। 

 

 

 


Date : 22-Jul-2019

शिवालयों में गूंजा हर-हर महादेव

अंबिकापुर, 22 जुलाई। सूबे में सावन माह के पहले सोमवार को शिवालयों में भक्तों की खासी भीड़ उमड़ी। हर-हर महादेव के उद्घोष के बीच श्रद्धालुओं ने शिवलिंग में जलाभिषेक कर सुख-समृद्धि की कामना की। मंदिरों में सुबह से ही श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। श्रद्धालुओं ने शिवालयों में गंगाजल, दूध,दही से जलाभिषेक कर बेलपत्र, चावल व पुष्प से भगवान शिव की पूजा की। शहर के अस्पताल रोड बाबा विश्वनाथ मंदिर,शंकर घाट स्थित शिव मंदिर,राम मंदिर, सतीपारा शंकर मंदिर सहित विभिन्न शिवालयों में जलाभिषेक को लेकर सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी।श्रावण के पहले सोमवार को नगर के शिवालयों में शिव भक्तों श्रद्धालुओं और कावड़ यात्रियों की भारी भीड़ उमड़ी। शिवालयों में इसके निमित्त पहले से सारी तैयारी पूरी कर ली गई थी। रंग रोगन के साथ-साथ शिव मंदिरों को आकर्षक तरीके से सजाया भी गया था। शिवलिंग की आकर्षक साज-सज्जा करने के साथ ही देर रात से ही भजन कीर्तन शुरू हो गए थे।

 मंदिरों में शिव जलाभिषेक और कई घरों में रुद्राभिषेक किया गया । भोर होते श्रद्धालु मंदिरों में पहुंचने लगे थे।पूरे विधि विधान से शिवालयों में भगवान शिव की पूजा अर्चना की गई। पूरे दिन शिव मंदिरों में श्रद्धालुओं का ताता लगा रहा।


Date : 22-Jul-2019

सड़क किनारे बाक्साइट ट्रकों की पार्किंग, रहवासी परेशान

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
कुसमी, 22जुलाई।
हिण्डालको कंपनी के बाक्साईट खदानों पर लगी ट्रकों  चालकों की मनमानी से रहवासियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।  उल्लेखनीय है कि हिण्डालको कंपनी के द्वारा ठेके पर दर्जनों खदानों से बॉक्साइट उत्खनन व परिवहन का कार्य बिकेबी ट्रांसपोर्ट व जीएन कंट्रक्शन को दिया गया हैं। छत्तीसगढ़ राज्य बलरामपुर जिला के सामरी से बाक्साईट रोजाना सैकड़ो ट्रकों पर लोड होकर झारखंड राज्य के मेराल व उत्तरप्रदेश के रेनुकूट में जाकर डंप होती हैं।

हिण्डालको के खदानों से ट्रक बॉक्साइट लोड कर धरम कांटा करके सीधा कुसमी के सामरी रोड़ पर सड़क किनारे स्थित जीएनसी कार्यालय भाड़ा पर्ची लेने खड़ी होती हैं। यहाँ पर किसी प्रकार की पार्किंग का व्यवस्था नहीं है। सड़क के किनारे ही बेतरतीब ढंग से ट्रकें  घंटों खड़ी रहती हैं। यहाँ पर दर्जनों ट्रक रोजाना खड़ी होती है. जिससे यहाँ के निवासियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सभी के घर के सामने ट्रकों के खड़े होने से आने-जाने का रास्ता बंद हो जाता है। निजी चार पहिया वाहन को घर तक पहुँचने में रोजाना एक बड़ी समस्या उत्पन्न हो गई हैं। 

रहवासियों का कहना है कि शिकायत पर बॉक्साइट कार्यालय के कर्मचारी जो ट्रक मालिक भी हैं   धमकाने लगते हैं। यहाँ तक कि कई बार झूठी शिकायत दर्ज कराने पहुँच चुके हैं।  निजात पाने उक्त स्थान से कार्यालय हटाकर पूर्व की तरह बाक्साईट खदान के नजदीक किये जाने की मांग की है।

सामरी रोड कंजिया पर स्थित जीएन कंट्रक्शन के कार्यालय से भाड़ा पर्ची लेने व नो एंट्री रात 9 बजे के बाद दर्जनों ट्रक एक साथ कुसमी - राजपुर मार्ग की ओर बढ़ती हैं जिन्हें बाक्साईट अनलोडिंग की इतनी जल्दबाजी रहती हैं कि वे ज्यादा ट्रिप मारने के चक्कर मे अत्यधिक गति के साथ - साथ ट्रेफिक नियम का उलंघन कर ओवरटेक करने के चक्कर में रोज फस जाते हैं।  

अनुविभागिय अधिकारी राजस्व कुसमी शिव बनर्जी ने कहा मैं हिण्डालको के जीएम को अवगत करता हूं समस्या नहीं सुधरी तो कार्रवाई की जायेगी।

थाना प्रभारी कुसमी नसीमुद्दीन ने कहा हमारी पेट्रोलिंग पार्टी नगर में घूमती रहती हैं कल भी इस तरह की समस्या उतपन्न हुई थी। पुलिस जवानों के द्वारा आवागमन दुरुस्त किया गया। हमारे द्वारा लगातार ट्रैफिक व्यवस्था पर ध्यान दिया जा रहा है, नो एंट्री पर जुर्माना लिया जाता है।

 


Date : 22-Jul-2019

ऋण मुक्ति प्रमाण पत्र वितरण तिहार

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
उदयपुर, 22 जुलाई।
विकासखंड उदयपुर अंतर्गत समिति सलका में ऋण मुक्ति प्रमाण-पत्र वितरण तिहार कार्यक्रम आयोजित किया गया।अथितियों के स्वागत पश्चात् शुरू हुए कार्यक्रम में लगभग 500 कृषकों को 2 करोड़ से अधिक राशि का ऋण मुक्ति प्रमाण-पत्र वितरित किये गये। प्रमाण-पत्र वितरण से पूर्व गांव के सरपंच राम सिंह,जनपद उपाध्यक्ष राजीव सिंह देव एवं विधायक प्रतिनिधि सिध्दार्थ सिंह देव ने सभा को संबोधित किया। प्रतिनिधियों ने कहा कि क्षेत्र के विधायक एवं स्वास्थ मंत्री टी.एस. सिंह देव के अथक प्रयासों से किसानों को ऋण मुक्ति मिली है। इसका भरपूर लाभ किसानों को उठाना चाहिए।राजीव सिंह देव ने कहा कि ऋण मुक्ति के अतिरिक्त सभी परिवारों को नवीन राशन कार्ड बनाने का कार्य भी किया जा रहा है, उन्होंने कहा कि सलका समिति सरगुजा संभाग की सबसे अच्छी समिति है,जहां पर सबसे कम डिफाल्टर कृषक हैं। 
सिध्दार्थ सिंह देव ने कृषकों से अपील की कि अपना पैसा बचाकर सहकारी बैंक में फिक्स डिपोजिट करें, इससे आप आर्थिक रूप से मजबूत होंगे। सहकारी बैंक के शाखा प्रबंधक आर के खरे ने कहा सभी बचत खाता एवं के.सी.सी.धारक कृषक अपना ए.टी.एम.कार्ड शाखा से जरूर प्राप्त करें एवं अपनी राशि बैंक के बचत योजनाओं में रखे।

खरे ने महिला कृषकों से अपने बच्चों के नाम पर आर.डी. खाता खोलने की बात कही। इससे पूर्व समिति के अध्यक्ष खेम सिंह, समिति प्रबंधक सलका जनक दास ने अतिथियों को माल्यार्पण से स्वागत किया।कार्यक्रम का सफल संचालन शाखा प्रबंधक आर के खरे ने किया। इस अवसर पर समिति कर्मचारी जनक दास, रोशनी सिंह, विलास सिंह, मिथलेश प्रधान, गुलाब दास आदि का कार्यक्रम को सफल बनाने में विशेष योगदान रहा।आभार प्रदर्शन शाखा उदयपुर के सहा. लेखापाल महेश मिश्रा ने किया।

 


Date : 22-Jul-2019

कोतवाली प्रभारी,  2 इंस्पेक्टर सहित 5 पुलिसकर्मी निलंबित 

पिता ने कहा- बेटा फांसी नहीं लगा सकता, पुलिस ने लटकाया 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
अम्बिकापुर, 22 जुलाई।
अंबिकापुर कोतवाली पुलिस की साइबर सेल अभिरक्षा से फरार होकर रविवार की रात चोरी के एक आरोपी ने फांसी लगा आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी जैसे ही पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को मिली हडक़ंप मच गया। इधर सरगुजा रेंज आईजी केसी अग्रवाल ने कोतवाली थाना प्रभारी विनीत दुबे सब इंस्पेक्टर प्रियेश जॉन,मनीष यादव,आरक्षक दीन दयाल सिंह व लक्ष्मण राम को निलंबित कर दिया है।आईजी ने इनके खिलाफ विभागीय जांच के आदेश भी दिए हैं।

दूसरी ओर पीएम पश्चात मृतक युवक के शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया। शव लेने के बाद परिजनों ने अंबिकापुर-बनारस नेशनल हाईवे मार्ग में चठिरमा बैरियर के पास चक्का जाम कर दिया व शव को सडक़ पर रखकर प्रदर्शन करने लगे। प्रदर्शन के दौरान मृतक युवक के परिजनों ने सडक़ पर ढके शव को खोलकर दिखाया और आरोप लगाते हुए बताया कि इसके शरीर में चोट के निशान हैं। मृतक के पिता का आरोप है कि उसका बेटा फांसी नहीं लगा सकता पुलिसवालों ने मारकर उसे फांसी पर लटकाया है। जिस तरह से पुलिस अभिरक्षा से भागकर फांसी लगाने की घटनाक्रम हुई है वह पूरी तरह संदेहास्पद है। परिजनों की मांग है कि शव का दोबारा पीएम कराया जाए। पीएम रिपोर्ट मीडिया के सामने सार्वजनिक की जाए। मृतक युवक के परिजन को 50 लाख की मुआवजा दी जाए। चोरी के आरोप में संलिप्त दूसरे आरोपी से पूछताछ पुलिस द्वारा ना करते हुए न्यायिक व मीडिया के सामने की जाए। इस घटना में शामिल पुलिसकर्मियों को तत्काल बर्खास्त की जाए। समाचार लिखे जाने तक उक्त सभी मांगों को लेकर मृतक के परिजन व भाजपाई अड़े हुए थे। चक्का जाम स्थल पर भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद थी। प्रशासनिक अधिकारी मृतक के परिजनों से बातचीत कर रहे थे।

पुलिस  के अनुसार कुंडला सिटी निवासी व्यवसायी तनवीर सिंह के घर से 13 लाख रुपए की चोरी के आरोप में सूरजपुर जिला के सलका निवासी पंकज बेक आत्मज अमीर साय उम्र 30 वर्ष व अंबिकापुर के इमरान नामक युवक को पुलिस ने कस्टडी में लिया था। उक्त दोनों युवकों ने चोरी करना स्वीकार कर लिया था। पुलिस द्वारा दोनों को साइबर सेल की कस्टडी में रखकर पूछताछ की जा रही थी, दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया था।

पुलिस मामले में रकम बरामदगी का प्रयास कर रही थी। इसी बीच रविवार की देर रात पंकज बेक पुलिस अभिरक्षा से भाग निकला और नगर के डॉक्टर परमार के घर के पीछे लगे विंडो कूलर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस जब उसकी खोजबीन कर रही थी तो रात में ही वह फांसी पर लटका मिला। इससे पुलिस महकमे में हडक़ंप मच गया है। सोमवार की सुबह मौके पर सीजेएम,एसडीएम, प्रभारी एसपी समेत पुलिस के आला अधिकारी फिलहाल मौजूद थे। बताया जा रहा है कि पुलिसकर्मियों ने उसे साइबर सेल के लॉकअप में रखा था। इसी बीच रविवार की रात करीब 11.45 बजे वह पुलिस को चकमा देकर भाग निकला।  

 ये था मामला
शहर के कुंडला सिटी निवासी तनवीर सिंह जो प्लाई का व्यावसायी है।उसने व्यावसायियों को देने के लिए अपने बेडरूम की अलमारी में 13 लाख रुपए रखे थे। उसी दिन घर का सीसीटीवी कैमरा खराब हो गया था तो उसे ठीक कराने के लिए चोपड़ापारा स्थित शानू वर्मा ग्लोबल इन्फोटेक से पंकज बेक व इमरान नामक युवक को अपने घर ले गया था। दोनों मैकेनिक ने दोपहर से शाम तक काम किया था।शाम को जब दोनों काम कर घर चले गए तो तनवीर ने रुपए निकालने के लिए अलमारी खोली लेकिन रुपए गायब थे। संदेह होने पर उसने दोनों से पूछताछ की लेकिन उन्होंने रुपए चोरी करने की बात से इनकार कर दिया था। इसके बाद व्यवसाई तनवीर ने 11 जुलाई को मामले की रिपोर्ट कोतवाली में दर्ज कराई थी। पुलिस इसी मामले में जांच कर रही थी जिसमें अनिल बेक नामक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

महीने भर में दूसरा मामला
सरगुजा रेंज में पुलिस अभिरक्षा में रहते आत्महत्या करने का यह दूसरा मामला है। लगभग एक माह के अंदर सूरजपुर जिला के चंदौरा थाना में पत्नी से विवाद के आरोप में कृष्णा सारथी नामक युवक ने कस्टडी में फाँसी लगाकर आत्महत्या लिया था। जिसके बाद काफी बवाल मचा था इस मामले में भी सरगुजा रेंज आईजी ने वहां के थाना प्रभारी सहित 10 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था। 

 


Date : 20-Jul-2019

क्रशर संचालक को अस्पताल में वीआईपी ट्रीटमेंट

जेल वार्ड में भर्ती लेकिन बाहर बैठ परिजनों से लड़ा रहा गप्पे 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 20 जुलाई।
फर्जी तरीके से लीज अवधि बढ़ाने व पीट पास जारी करने के मामले में क्रशर संचालक रमेश मित्तल की गिरफ्तारी के बाद उसे शुक्रवार की शाम मेडिकल कॉलेज अस्पताल के जेल वार्ड में ले जाकर दाखिल कराया गया है। बताया गया कि उसके घुटने में चोट और बोलने में परेशानी हो रही थी।अस्पताल के जेल वार्ड के बाहर आज सुबह वार्ड के बाहर बैठकर परिजनों के साथ रमेश मित्तल गप्पें लड़ात देखा गया।  कुछ लोगों की आपत्ति के बाद उसे वार्ड के अंदर ले जाया गया। 

इस संदर्भ में जब वहां ड्यूटी में तैनात वह जेल वार्ड पहरी पूछा गया तो उसने कहा कि स्ट्रेचर नहीं मिल रहा था इसलिए उसे बाहर बैठा कर रखे थे। फर्जी पिटपास जारी करने व लीज अवधि बढ़ाने की शिकायत करने वाले प्रार्थी विवेक गोयल का आरोप है कि रमेश मित्तल को जेल प्रहरियों द्वारा अस्पताल के वार्ड में स्पेशल ट्रीटमेंट दिया जा रहा है जो कानून गलत है। क्रशर संचालक के बीमारी के संदर्भ में नाक,कान,गला विभाग के डॉक्टर शैलेंद्र गुप्ता से चर्चा की गई तो उन्होंने बताया कि रमेश मित्तल के गले के अंदर चोट है जिससे सूजन आ गई है उसे बीपी और शुगर दोनों है।

गौरतलब है कि शासन से मिले 10 वर्ष की लीज अवधि को कूटरचना कर 40 वर्ष कर देने व फर्जी पिटपास जारी कर शासन को लाखों रुपए की आर्थिक क्षति पहुंचाने के मामले में पुलिस ने शुक्रवार को न्यायालय परिसर के बाहर से क्रशर संचालक रमेश मित्तल को गिरफ्तार किया था। लगभग 7 महीने से फरार चल रहे अंबिकापुर नगर के कुंडला सिटी निवासी रमेश मित्तल के खिलाफ गत 31 दिसंबर 2018 को धौरपुर थाने में फर्जी पीट पास जारी करने के मामले में पुलिस ने अपराध दर्ज किया था।उसके बाद रमेश मित्तल कई महीनों से फरार चल रहा था और पुलिस उसकी गिरफ्तारी नहीं कर पा रही थी।इसके पश्चात एक और मामला 30 जून 2019 को सामने आया था जिसमें शासन के 10 वर्ष के लीज को सगे भाई रमेश मित्तल व नरेश अग्रवाल द्वारा 40 वर्ष कर दिया गया था।


Date : 20-Jul-2019

धंस सकता है रिंग रोड का बड़ा हिस्सा

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 20 जुलाई।
 सरगुजा संभाग मुख्यालय अंबिकापुर में करीब 11 किलोमीटर लंबे सीमेंट कांक्रीट रिंग रोड में भाथुपारा स्थित बनाए गए पुल से लगकर 10 फीट से ज्यादा सड़क नीचे से पूरी तरह खोखली हो चुकी है। निर्माण कराने के लिए राज्य शासन द्वारा 97.57 करोड़ रुपए की स्वीकृति दे दी थी।इस लिहाज से करोड़ों की सड़क में बेश का काम किस तरह किया गया यह भाथुपारा तलाब के पास बनी सड़क को देखकर सहज अंदाजा लगाया जा सकता है।वहां 24 घंटे खतरा मंडरा रहा है।कभी भी भारी वाहन के दबाव से सड़क पूरी तरह धंस सकती है, जिससे एक बड़ी घटना से इंकार नहीं किया जा सकता। 

गौरतलब है कि 11 किलोमीटर के और 24 मीटर चौड़े नए रिंग रोड का निर्माण छत्तीसगढ़ सड़क विकास निगम द्वारा कराया जा रहा है जो लगभग पूर्णता की ओर है परंतु अभी भी कुछ जगह सड़क निर्माण और नाली निर्माण का कार्य बाकी है।निर्माण एजेंसी के अधिकारी बरसात से पहले तक सड़क निर्माण पूरा करने की बात कहे थे परंतु सड़क निर्माण में लेटलतीफी के बाद आनन-फानन में कई जगह कार्य कराया गया। आलम यह है कि भाथुपारा तलाब के समीप सड़क के बीचो-बीच बनाई गई पुलिया के एक ओर सड़क के नीचे की पूरी मिट्टी बह चुकी है। कहा जाए तो सड़क के नीचे की जमीन 4 फीट से ज्यादा नीचे हो चुकी है। सड़क का एक बड़ा हिस्सा मिट्टी के कटाव होने के कारण खोखला और खतरनाक हो चुका है।

 


Date : 19-Jul-2019

कोडनार में गर्म भोजन से कुपोषण से जंग की तैयारी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
किरन्दुल, 19 जुलाई।
 छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा कुपोषण से लडऩे के लिए आंगनबाड़ी केंद्रों में अण्डा खिलाने को लेकर जहां प्रदेश के कई स्थानों में विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। वहीं दंतेवाड़ा जिले के विकासखंड कुओकोंडा के सुदूर आँचल ग्राम पंचायत कोडनार में पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा सामूहिक रूप से पंचायत के 01 वर्ष तक कि शिशुवती माताओ,11 से 19 वर्ष तक किशोरी बालिकाओ और 1वर्ष से 3वर्ष तक के बच्चो को गर्म पौष्टिक आहार खिलाने की शुरुवात की गई। इस का संचालन कार्य पंचायत को सौंपा गया है ताकि पंचायत की देखरेख में समूह की महिलाए गर्म आहार तैयार कर हितग्राहियों को उपलब्ध कराए।

आहार में भोजन के अलावा गुड़,मूंगफली,चना के लड्डु 6 वर्ष तक व किशोरी बालिकाओ को दिए जाएंगे।  वहीं अंडा या फल-दूध दिया जाएगा।  महिला एवं बाल विकास परियोजना ने बताया कि यह आदिवास बहुल क्षेत्र है और यहां कुपोषित बच्चो की संख्या ज्यादा है उनको इस योजना का लाभ दिलवाने की हमारी पूरी कोशिश रहेगी । 

वही उपसरपंच का कहना है कि कुपोषण से एक जंग प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुरू की है जिसके दूरगामी परिणाम देखने  को जरूर मिलेंगे।आपको बता दें कि दंतेवाड़ा जिला धुर नक्सल प्रभावित जिला होने के साथ साथ  कुपोषण से भी जूझ रहा है राज्य सरकार द्वारा कुपोषण से लडऩे की जो जंग शुरू की गई वो कितनी सार्थक सिद्ध होगी यह तो समय ही बताएगा। अंदरुनी क्षेत्र तक योजनाए पहुंचेंगी या कागजो में ही सिमट जाएंगी।इस सुपोषित योजना के तहत शिशुवती आहार पर प्रतिदिन 27.45 रु0,गर्भवती 7.20रु0 महतारी जतन के अलावा, किशोरी बालिका 25.65रु0,1से 3 वर्ष 15.68 रु0 की राशि सुनिश्चित की गई है उसको अमली जामा पहनाने के लिये दंतेवाड़ा जिले को 8 करोड़ 28 लाख 97 हजार 142 रूपये आबंटन किये गए।

इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिये भगवती स्वसहायता समूह की महिलाए,की अहम भूमिका रही ।जनप्रतिनिधियों ने स्वयं अपने हाथों से हितग्राहियो को गर्म भोजन परोसा।इस अवसर पर जनपद पंचायत उपाध्यक्ष भावना सक्सेना कोडनार सरपंच मीना मंडावी, उपसरपंच तपन दास, महिला एवं बाल विकास अधिकारी सायरा बानो खान, पंच सपना भादुड़ी, सुचिता, भावेश साहू,शिखा रॉय, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताएं व हितग्राही उपस्थित थे।
 


Date : 19-Jul-2019

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस 8 को, बैठक

अम्बिकापुर, 19 जुलाई। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन 8 अगस्त को किया जायेगा। इस संबंध में जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पी.एस.सिसोदिया की अध्यक्षता में बैठक का आयोजित की गई। बैठक में बताया गया कि राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन समस्त स्कूल, आंगनबाड़ी, कॉलेज एवं आईटीआई के अधिकारियों को अवगत कराया गया। बैठक में बताया गया कि जिल के कुल 4 लाख 5 हजार 925 बच्चों को आंगनबाड़ी केन्द्रों में एल्बेनडाजोल की गोली 1 से 2 वर्ष के बच्चों को आधी गोधी चूरा करके एवं 2 से 3 वर्ष के बच्चों को पूरी गोली चूरा करके एवं 3 से 19 वर्ष के बच्चों को पूरी गोली की खुराक शासन द्वारा निर्धारित की गई है। कृमिनाशक एल्बेनडाजोल को दवाई ना समझते हुए आहार की खुराक समझने कहा गया है। इस दवाई का कोई दुष्प्रभाव नहीं है एवं परिजनों से यह अपील की गई है कि समस्त बच्चों को हर-हाल में 8 अगस्त को कृमिनाशक देना सुनिश्चित करें। छुटे हुए बच्चों को पुन: 16 अगस्त को निशुल्क कृमिनाशक दिया जाएगा। सी.एम.एचओ ने बताया है कि कृमि के कारण पेट में कई बार गाठ बन जाता है जिससे आपरेशन की नौबत आ जाती है। नोडल अधिकारी डॉ. अनिल प्रसाद द्वारा यह बताया गया कि कृमि नाशक के सेवन से 100 प्रतिशत कृमि मुक्त शरीर हो जाता है। कृमि के कारण शरीर में थकावट, बेचैनी, खून की कमी, एवं वजन का न बढऩा जैसे लक्षण पाए जाते है। बच्चों में यह कुपोषण का एक प्रमुख कारण है। बच्चों में बौद्विक मानसिक एवं शारीरिक विकास रूक जाता है। अत: कृमि नाशक एल्बेन्डाजोल की गोली समस्त 1 से 19 वर्ष तक के बच्चों को नि:शुल्क खिलाया जाएगा। समस्त कार्यक्रम स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विभाग, शिक्षा विभाग, तकनीकी शिक्षा विभाग एवं उच्च शिक्षा विभाग के साथ समन्वय कर पूर्ण किया जाएगा। 

कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग के समस्त सलाहकार, विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारी, विकासखण्ड कार्यक्रम प्रबंधक, महिला एवं बाल विकास विभाग के सुपरवाईजर, शिक्षा विभाग के विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी एवं मितानिन ट्रेनर तथा कोआर्डिनेटर उपस्थित थे। 

 


Date : 19-Jul-2019

फर्जी तरीके से लीज अवधि बढ़ाने व पीट पास जारी करने के मामले में क्रशर संचालक मित्तल गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 19 जुलाई।
शासन से मिले 10 वर्ष की लीज अवधि को कूटरचना कर 40 वर्ष कर देने व फर्जी पिटपास जारी कर शासन को लाखों रुपए की आर्थिक क्षति पहुंचाने के मामले में पुलिस ने शुक्रवार को न्यायालय परिसर के बाहर से क्रशर संचालक रमेश मित्तल को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि रमेश मित्तल को गिरफ्तार करने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। गिरफ्तारी के दौरान वह भागने की भी कोशिश कर रहा था,लेकिन काफी संख्या में मौजूद पुलिस की टीम ने उसे धर दबोचा लगभग 8 महीने से फरार चल रहे अंबिकापुर नगर के कुंडला सिटी निवासी रमेश मित्तल के खिलाफ गत 31 दिसंबर 2018 को धौरपुर थाने में फर्जी पीट पास जारी करने के मामले में पुलिस ने अपराध दर्ज किया था।उसके बाद रमेश मित्तल कई महीनों से फरार चल रहा था और पुलिस उसकी गिरफ्तारी नहीं कर पा रही थी।इसके पश्चात एक और मामला 30 जून 2019 को सामने आया था जिसमें शासन के 10 वर्ष के लीज को सगे भाई रमेश मित्तल व नरेश अग्रवाल द्वारा 40 वर्ष कर दिया गया था।पुलिस दोनों मामलों में अपराध दर्ज कर दोनों भाइयों की तलाश कर रही थी।आरोपियों को पकडऩे पुलिस पर काफी दबाव था जिसमें पुलिस ने रमेश मित्तल को तो गिरफ्तार कर लिया लेकिन उसका छोटा भाई नरेश कुमार अग्रवाल अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर है।

गौरतलब है कि अंबिकापुर नगर के मायापुर निवासी विवेक गोयल ने गत दिनों पूर्व कलेक्टर सरगुजा से लिखित शिकायत की की उनके संयुक्त स्वामित्व एवं आधिपत्य की भूमि चांगोरी पटवारी हल्का नंबर 1 तहसील लुंड्रा में खसरा क्रमांक 239,रकबा 2.340 हेक्टेयर भूमि है।यह भूमि विवेक अग्रवाल पिता अर्जुन दास अग्रवाल,राहुल गोयल पिता कवल कन्हैया अग्रवाल तथा रमेश मित्तल पिता वेद प्रकाश अग्रवाल के नाम पर दर्ज है।उपरोक्त भूमि में रमेश कुमार मित्तल व उसके भाई नरेश अग्रवाल द्वारा षडयंत्र पूर्वक बिना संयुक्त खातेदारों की सहमति के शासकीय दस्तावेजों में कुटरचना कर शासकीय दस्तावेजों में छेड़छाड़ की गई थी।

प्रार्थी विवेक गोयल द्वारा कुल 2.340 हेक्टेयर भूमि में से 1 हेक्टेयर भूमि पर खनिज उत्खनन हेतु खनिज विभाग से लीज पट्टा लिया था।कलेक्टर को दिए ज्ञापन में आरोप लगाया गया था कि संयुक्त स्वामित्व की जमीन के हिस्सेदार रमेश कुमार मित्तल आत्मज वेद प्रकाश अग्रवाल द्वारा अपने भाई नरेश अग्रवाल के साथ मिलकर फर्जी नक्शा,बी वन तैयार कर राजस्व रिकार्ड में कुटरचना कर खसरा नंबर 239 के भूमि को बंटवारा कर खसरा नंबर 239/2 कर दिया तथा पूर्व में खसरा नंबर 239 के भूमि को खनिज उत्खनन हेतु 10 वर्ष की लीज अवधि को कूटरचित कर 40 वर्ष कर दिया गया।

शिकायत को गंभीरता से लेते हुए सरगुजा कलेक्टर द्वारा तहसीलदार लुंड्रा को पूरे प्रकरण की जांच करने आदेश दिया गया था।तहसीलदार व राजस्व निरीक्षक धौरपुर द्वारा प्रस्तुत जांच प्रतिवेदन से स्पष्ट हुआ कि विवेक गोयल द्वारा की गई शिकायत सही है। खसरा क्रमांक 239 को कूटरचित कर उक्त दोनों भाइयों द्वारा 10 वर्ष की लीज को 40 वर्ष कर दिया गया है।जांच प्रतिवेदन के आधार पर प्रार्थी विवेक गोयल द्वारा धौरपुर थाने में दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी रमेश मित्तल व उसके भाई नरेश अग्रवाल के विरुद्ध धोखाधड़ी कूटरचना व आपराधिक षडयंत्र का मामला पंजीबद्ध किया गया था।इस मामले के पूर्व फर्जी पिटपास जारी करने के मामले में रमेश मित्तल के विरुद्ध अपराध दर्ज किया गया था।

हुई है कार्रवाई थाना प्रभारी
क्रशर संचालक रमेश मित्तल की गिरफ्तारी को लेकर थाना प्रभारी धौरपुर सुनील केरकेट्टा से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि कार्रवाई हुई है।अभी मैं हाई कोर्ट में हूं ज्यादा नहीं बता पाऊंगा।


Date : 19-Jul-2019

बीएमओ पर मारपीट का आरोप, थाने में शिकायत

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
रामानुजगंज, 19 जुलाई।
नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत समस्त सफाई कर्मचारी विकासखंड स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर कामिनी राय पर मारपीट,धमकी एवं प्रताडि़त किए जाने का आरोप लगाते हुए रामानुजगंज थाने में शिकायत की है। सफाई कर्मचारियों ने बीएमओ पर कार्रवाई की मांग की है।            

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत सफाई कर्मी सहदेव ने आरोप लगाया कि विकासखंड स्वास्थ्य अधिकारी कामिनी राय के द्वारा मारा गया एवं धमकी दी गई।सहदेव के समर्थन में समस्त सफाई कर्मचारियों ने भी आरोप लगाया कि मैडम के द्वारा हम सब को प्रताडि़त किया जाता है। जिस कारण आज हम सब सफाई कर्मचारी रामानुजगंज थाने शिकायत करने पहुंचे हैं। समस्त सफाई कर्मचारियों ने विकासखंड स्वास्थ्य अधिकारी कामनी राय के विरुद्ध कार्यवाही की मांग की है।

 


Date : 19-Jul-2019

बाइक सवार पर हमला कर, 20 हजार और मोबाइल की लूट  

छत्तीसगढ़ संवाददाता,
अंबिकापुर, 19 जुलाई।
लखनपुर थाना क्षेत्र के ग्राम लटोरी के समीप गुरुवार की दोपहर अज्ञात लोगों ने एक बाइक सवार के पीछे से रॉड और डंडे से हमला कर पहले तो उसकी जमकर पिटाई की,उसके बाद उसके पास रखा 20 हजार रुपया नगद और मोबाइल लूट ली।घायल पीडि़त को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में दाखिल कराया गया है।

जानकारी के अनुसार लखनपुर थाना क्षेत्र के जमगला लटोरी निवासी राम लाल यादव पिता स्वर्गीय देवनाथ यादव उम्र 35 वर्ष गुरुवार को लखनपुर खेती के लिए उधार पैसे लेने किसी के पास गया था।वहां से पैसे लेकर वह अपनी मोटरसाइकिल से वापस घर आ रहा था। ग्राम ढाबर और लटोरी के बीच सुनसान जगह में सड़क में गड्ढे को देख जैसे ही उसने अपनी मोटरसाइकिल धीरे की, वैसे ही पीछे से आ रहे बाइक सवार कुछ लोगों ने पीछे से उस पर रॉड और डंडे से हमला कर दिया, जिससे वह गिर गया।बाद में उसकी जमकर पिटाई करते हुए उसके पास रखा 20 हजार नगद और एक मोबाइल अज्ञात लोगों ने लूट लिया और फरार हो गए।किसी तरह पीडि़त लखनपुर थाने पहुंचा और वहां जाकर बेहोश हो गया।पुलिसवालो ने उसे लखनपुर अस्पताल में दाखिल कराया,जहां से रिफर करने पर उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाकर दाखिल कराया गया है।


Date : 19-Jul-2019

भर्ती पर्ची में मरीज का नाम, उम्र और पता सब गलत, मौत के बाद परिजन और पुलिस दोनों परेशान

शपथ पत्र के आधार पर चिकित्सक ने सुधारा नाम तो अधीक्षक ने मांगा जवाब

छत्तीसगढ़ संवाददाता
अंबिकापुर, 19 जुलाई।
सड़क दुर्घटना में एक व्यक्ति की मौत के मामले में पूरी जांच इस बात पर आकर अटक गई है कि भर्ती के दौरान दाखिल पर्ची में मरीज का नाम, उम्र और पता तीनों गलत मिला। इसे लेकर पुलिस और परिजन दोनों परेशान हैं।परिजनों द्वारा शपथ पत्र के आधार पर चिकित्सक से नाम तो सुधरवा लिया,परंतु बाकी त्रुटि अभी भी मौजूद है।अस्पताल अधीक्षक डॉ आरके दास ने चिकित्सक द्वारा बेड हेड टिकट में नाम सुधारे जाने पर संबंधित चिकित्सक से जवाब तलब किया है। अधीक्षक ने यह भी कहा कि यह संभव नहीं हो सकता कि किसी पर्ची में तीनों चीजें गलत हो।इस बात को लेकर वे जांच भी कराएंगे।

जानकारी के अनुसार गत 22 अक्टूबर 2018 को दरिमा थाना क्षेत्र के ग्राम कंठी में एक वृद्ध सड़क दुर्घटना में घायल हो गया था।बताया गया कि उसका नाम मातल राम पिता दशई राम उम्र 60 वर्ष था। दुर्घटना के बाद उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल में दाखिल कराया गया था।दाखिल कराने से पहले भर्ती पर्ची में उसका नाम उमेश लिखा गया।यही नहीं उसका उम्र 25 वर्ष और घर का पता शंकरगढ़ क्षेत्र के चंपा पारा बताया गया था।वहां से परिजन उपचार नहीं होने पर बिलासपुर के एक निजी अस्पताल में ले गए,जहां डेढ़ लाख खर्च करने के बाद भी उसकी स्थिति में सुधार नहीं हुआ तो पैसे खत्म होने के बाद परिजन उसे वापस कापू थाना क्षेत्र के ग्राम चंपा घर ले आए थे।वहां उसकी मौत 3 नवंबर 2018 को हो गई।इस पूरे मामले में अब उसके नाम, पते और उम्र को लेकर पुलिस की आगे की कार्रवाई, जांच भी अटक चुकी है।परिजन भी इसे लेकर परेशान हैं।शपथ पत्र में नाम सुधार करवा कर परिजन जब संबंधित चिकित्सक के पास गया तो चिकित्सक ने बेड हेड टिकट में करेक्शन करके नाम सुधार दिया, परंतु बाकी त्रुटि अभी भी यथावत है।इस मामले को लेकर अधीक्षक ने नाम करेक्शन करने पर संबंधित चिकित्सक से जवाब भी मांगा है।

भतीजे ने यह भी लगाया आरोप
मृतक के भतीजे टहरू राम ने कहा कि मेडिकल कॉलेज अस्पताल मे उपचार नहीं होने पर जब पीडि़त को बाहर ले जाने की बात कही तो वहां स्टाफ ने उसे सादे कागज पर हस्ताक्षर करा लिया और बाद में जब बेड हेड टिकट को निकलवाया गया तो उसमें लिखा था कि वह अपनी मर्जी से अस्पताल से पीडि़त को ले जा रहा है। आरोप जैसा भी हो पुलिस का कहना है कि मृतक के भतीजे के इस हस्ताक्षर से यह तो साबित हो रहा है कि उसके बड़े पिता का नाम मातल राम है। 


Date : 18-Jul-2019

एक माह पहले बनी सड़क उखड़ी, सत्तीपारा और जोड़ा तालाब मार्ग 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 18 जुलाई।  
शहर के अंदर सत्तीपारा और जोड़ा तालाब की सड़क हाल ही में बनाई गई थी,जिसकी हालत वर्तमान में बद से बदतर होते जा रही है। जोड़ा तालाब मार्ग मे ठेकेदार द्वारा जिस तरीके से काम किया गया है, वह उस मार्ग को देखने से ही स्पष्ट हो रहा है।पूरी सड़क में बिछाई गिट्टी निकल चुकी है।अब गड्ढे बनने भी शुरू हो गए हैं। यह सड़क मात्र 1 महीने पहले बनाई गई थी। वार्डवासियों का आरोप है कि निगम अधिकारियों के द्वारा ध्यान नहीं देने से ठेकेदार ने अपनी मनमानी करते हुए घटिया सड़क का निर्माण कर दिया जो धीरे धीरे एक बार फिर उस मार्ग पर आवागमन करने वालों के लिए परेशानी का सबब बनता जा रहा है।

गौरतलब है कि जोड़ा तालाब मार्ग मे पाइपलाइन के विस्तार के दौरान सड़क की हालत काफी खराब हो चुकी थी। उबड़ खाबड़ सड़क और गड्ढों के कारण उक्त मार्ग पर आवागमन करने वाले लोग कई बार वाहन से गिर चुके थे।इस परेशानी को देखते हुए 1 माह पहले ही निगम द्वारा आनन-फानन में सड़क का निर्माण कराया गया।ठेकेदार द्वारा जिस तरीके से सड़क का निर्माण किया गया वह 1 महीने में ही देखने को मिलने लगा है। सड़क की गिट्टी उधड़ कर सड़कों में फैल गई है।यही नहीं अब गड्ढे भी उस सड़क में उभरने लगे हैं।जुलाई के शुरुआती पानी में ही सड़क के गुणवत्ता की पोल खुल गई।अगर लगातार बारिश होती तो सड़क की क्या स्थिति होती, यह उसे देखकर ही पता चलता है।

बिना छड़ के 5 फीट ऊंची और लंबी दीवार का किया निर्माण
जोड़ा तालाब के अंदर सौंदर्यीकरण और उक्त मार्ग को चौड़ा करने के लिए सीमेंट की लंबी एक दीवार का निर्माण कराया गया है।बड़ी बात यह है कि 5 फीट ऊंची और कई मीटर लंबी सीमेंट की दीवार बिना छड़ के ही ठेकेदार ने बना दी। वार्ड वासियों का कहना है कि इस ओर अधिकारियों ने भी ध्यान नहीं दिया।दीवार का निर्माण करके मार्ग का चौड़ीकरण मिट्टी डालकर किया जा रहा है।आने वाले समय में दबाव से दीवार कभी भी ढह सकती है, जो मुश्किलें खड़ी कर देगी।

 


Date : 18-Jul-2019

स्टॉफ नर्स ने ब्लेड से खुद का गला काटा, गंभीर  

ड्यूटी लगाने वालों पर लगाया प्रताडऩा का आरोप

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अंबिकापुर, 18 जुलाई।
 मेडिकल कॉलेज अस्पताल की एक स्टाफ नर्स ने गुरुवार को अपने सूने घर में खुद की गर्दन ब्लेड से रेत डाली।गंभीर हालत में उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाकर दाखिल कराया गया है।स्टाफ नर्स ने आरोप लगाया है कि ड्यूटी लगाने वाले लोग ड्यूटी को लेकर उसे प्रताडि़त कर रहे थे।जिससे वह परेशान थी।

जानकारी के अनुसार मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पदस्थ स्टाफ नर्स तनुजा चौहान नमनाकला मे एक किराए के मकान में रहती है।बताया गया कि उसके साथ रहने वाली उसकी सहेली शबनम पीडब्ल्यूडी ऑफिस में कर्मचारी है।गुरुवार को वह ड्यूटी के लिए निकल गई थी।तबीयत ठीक नहीं होने की वजह से स्टाफ नर्स तनुजा चौहान घर पर ही थी।12 बजे के लगभग तनुजा ने अपने सहेली को फोन करके बताया कि उसने ब्लेड से अपनी गर्दन काट ली है।शबनम ने तत्काल 112 वाहन सेवा को फोन किया।सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और स्टाफ नर्स को गंभीर हालत में अस्पताल जाकर दाखिल किया है।अस्पताल में स्टाफ नर्स ने कई लोगों पर प्रताडऩा का आरोप लगाया है।


Date : 18-Jul-2019

भालू के हमले से ग्रामीण गंभीर

अंबिकापुर, 18 जुलाई। बलरामपुर जिले के ग्राम कंडबस्ता के समीप जंगल में मवेशी चराने गए एक ग्रामीण पर भालू ने हमला कर दिया। भालू के हमले से गंभीर रूप से घायल ग्रामीण को मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाकर भर्ती कराया गया है।जानकारी के अनुसार ग्राम कंडाबस्ता निवासी धूनसी नगेसिया उम्र 40 वर्ष बुधवार की दोपहर गांव वालों के साथ मवेशी चराते हुए जंगल की ओर गया था। उसी दौरान भालू और उसके दो शावक ने उस पर हमला कर दिया।आवाज सुनकर अन्य ग्रामीण भालू को मारने दौड़े तो भालू अपने शावकों के साथ वहां से जंगल के अंदर चला गया। गंभीर हालत में परिजनों से बलरामपुर अस्पताल ले गए थे, जहां से रिफर करने के बाद उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाकर दाखिल कराया गया है।

 


Date : 18-Jul-2019

मतदान प्रतिशत बढ़ाने व सुगम मतदान के संबंध में सुझाव आमंत्रित

अम्बिकापुर, 18 जुलाई।  कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ सारांश मित्तर के मार्गदर्शन में आज जिला कार्यालक के सभाकक्ष में डिस्ट्रिक्ट मॉनीटरिंग कमेटी एक्सेसिबल इलेक्षन के सदस्यों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में सदस्यों से आगामी चुनाव हेतु मतदान प्रतिशत बढ़ाने एवं सुगम मतदान के संबंध में सुझाव आमंत्रित किये गये।  उप जिला निर्वाचन अधिकारी नयनतारा सिंह ने बैठक को सम्बोधित करते हुये कहा कि दिब्यांग एवं थर्ड जैण्डर मतदाताओं के लिए जिले में लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव के दौरान अच्छे प्रयास किये गये थे। जिसके फलस्वरूप उनमें जागरूकता देखने को मिली और उन लोगों ने आगे आकर मतदान किया। इस क्षेत्र में और भी अच्छे कार्य करने के लिए सदस्यों से सुझाव आमंत्रित किये। 

सरगुजा विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक डॉ. अनिल सिन्हा, ने कहा कि एनएसएस प्रत्यक्ष तौर पर जागरूकता कार्यक्रम संचालन के लिए है। मतदान जागरूकता हेतु स्कूलों एवं कॉलेजों में विभिन्न गतिविधियां आयोजित की गई। जिससे मतदान प्रतिशत बढ़ाने में सफलता मिली। उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्रों में वोटिंग प्रतिषत बढ़ाने के लिए सर्वे कराया जाना चाहिए  ताकि पूर्व के चुनाव में क्या कमी थी, और क्या प्रयास किये जा सकते हैं, जिससे वोटिंग प्रतिषशत बढ़ाने में सफलता मिले। निषक्तजन कल्याण समिति की अध्यक्ष रीता अग्रवाल ने सुझाव दिया कि संभव हो तो जिन मतदान केन्द्रों में दिब्यांग मतदाता हो वहां पर एक विशेष एजुकेटर हो, जो उन्हें जागरूक कर सके एवं उन्हें मतदान कराने में सहायता कर सके। श्रवण बाधित लोगों को सांकेतिक भाषा के माध्यम से वोटिंग करवाने हेतु व्यवस्था मतदान केन्द्रों में किया जाना चाहिये। 

जिला आईकन श्री संजय सुरीला ने इस मौके पर कहा कि गीत-संगीत के माध्यम से मतदाताओं को बुथ पर ले जाते हैं तो हमारी कला सार्थक हो जाती है। आगामी निर्वाचन में स्वीप कार्यक्रम में और भी अच्छी व्यवस्था की जाये, जिससे हम लोगों को और भी ज्यादा जागरूक कर सकें। थर्ड जैण्डर जिला आईकन तमन्ना जायसवाल ने कहा कि थर्ड जैण्डर मतदाताओं को जागरूक करने हेतु जागरूक महिला कर्मचारी की व्यवस्था की जानी चाहिए एवं उनके वोटर आईडी में नाम परिवर्तन की समस्या जल्द से जल्द दूर करने की पहल की जावे। जिससे वे मतदान से वंचित न हो। 

महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती निषा मिश्रा ने सुझाव दिया कि जिले में सक्रिय महिलाओं का समूह बनाकर मतदाताओं को जागरूक करने के संबंध में पहल की जाये। उन्होंने सरगुजा जिले में क्रियान्वित मतदान की थाली के संबंध में जानकारी दी।   के.आर.टेक्निकल कॉलेज के नोडल अधिकारी श्री विनितेष गुप्ता ने सुझाव दिया कि कॉलेज के छात्र एवं छात्राओं का नाम मतदाता सूची में समय से पहले जोड़ दिया जाए। जिससे वे चुनाव से वंचित न हो सके। नए मतदाताओं को जोड़कर हम और अच्छे से चुनाव प्रक्रिया प्रांरभ कर सकते हैं। 

सर्व षिक्षा अभियान के जिला समन्वयक श्री के.सी.गुप्ता ने इस मौके पर कहा कि मतदाता जागरूकता के संबंध में छात्र एवं छात्राओं को प्रेरित किया जाये जिससे कि वे अपने माता पिता को वोटिंग करवाने हेतु जागरूक करें। 

बायोटेक लैब केवैज्ञानिक श्री प्रशांत शर्मा ने सुझाव दिया कि स्कूलों एवं महाविद्यालयों में समय-समय पर मतदाता जागरूकता अभियान एवं नवीन मतदाताओं को जोडऩे हेतु कार्यक्रम संचालित किये जाऐ। इस बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय से डॉ. सुषील एक्का, श्री मनोज सिंह आयुक्त नगरपालिक निगम अम्बिकापुर, जिला षिक्षा अधिकारी कार्यालय से श्रीमती रीता सिन्हा सहायक संचालक, श्री सुभाष शुक्ला नायब तहसीलदार उदयपुर, श्री अकरम खान एपीओ लाईवलीहुड कॉलेज अम्बिकापुर, अरूण गुप्ता बीपीओ लुण्ड्रा, कमलेष वर्मा बीपीओ अम्बिकापुर, पी.के.महापात्र, मनोज सोनी, अभिलाष खरे, रजनीष मिश्रा, रमेष कुमार, मीना पटेल, किरण खलखो सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे। 


Date : 17-Jul-2019

बुद्धटोला स्कूल भवन का निजी स्कूल की तर्ज पर जीर्णोद्धार

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
रामानुजगंज, 17 जुलाई।
1978 में स्थापित वार्ड क्रमांक 5 में स्थित प्राथमिक शाला बुद्धटोला जर्जर स्थिति में हो गया था एवं जहां बच्चों की संख्या में लगातार कमी आ रही थी। उक्त विद्यालय का प्राइवेट स्कूल की तर्ज पर जीर्णोद्धार व कायाकल्प होने के बाद यह स्कूल आज प्राइवेट स्कूल को भी मात दे रहा है।नगर पंचायत अध्यक्ष रमन अग्रवाल के पहल पर जहां पुराने स्कूल भवन का जीर्णोद्धार किया गया एवं अतिरिक्त कक्ष बनवाया गया वहीं करीब 60 डिसमिल में फैले इस विद्यालय का बाउंड्री वॉल निर्माण व उसपर आकर्षक चित्रकारी करवाई गई है। यही नहीं बाउंड्री के अंदर झूला,फिसल पट्टी, क्लास रूम के अंदर पंखे एवं बच्चों के पानी पीने के लिए प्यूरीफायर सहित वाटर कूलर लगवाकर शौचालय का भी निर्माण करवाया गया। जिस कारण पिछले वर्ष जहां यहां की दर्ज संख्या 65 ही थी वही अब तक यहां 110 बच्चों ने अपना दाखिला करा लिया है। 
आज नगर पंचायत अध्यक्ष रमन अग्रवाल, उपाध्यक्ष उषा गुप्ता,  विकास खंड शिक्षा अधिकारी ललित पटेल, संकुल समन्वयक प्रदीप चौबे वरिष्ठ अधिवक्ता आर के पटेल सहित अन्य जनप्रतिनिधियों एवं वार्ड वासियों की उपस्थिति में शाला प्रवेश उत्सव एवं वृक्षारोपण का कार्यक्रम भी आयोजित किया गया।जनप्रतिनिधियों, अभिभावकों एवं वार्ड वासियों ने बच्चों के साथ मध्यान भोजन भी लिया।इस अवसर पर नगर पंचायत अध्यक्ष रमन अग्रवाल ने कहा कि नगर में संचालित हो रहे समस्त आंगनबाड़ी एवं शासकीय प्राथमिक शाला एवं माध्यमिक शाला का जीर्णोद्धार एवं कायाकल्प करने का प्रयास किया जा रहा है। जो सुविधाएं निजी शैक्षणिक संस्थानो में मिलती है हम लोगों का प्रयास है कि नगर के सभी आंगनबाड़ी एवं शासकीय स्कूल में मिले।इसलिए स्कूलों को मॉडल स्कूल के रूप में विकसित करने का प्रयास किया जा रहा है।आज नगर के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों एवं शासकीय स्कूलों में बच्चों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

बेहतर सुविधा के साथ साथ बेहतर पढ़ाई भी कराया जा रहा है। विकास खंड शिक्षा अधिकारी ने कहा कि नगर पंचायत अध्यक्ष रमन अग्रवाल के प्रयासों से शासकीय स्कूल को प्राइवेट स्कूल से भी अच्छा किया जा रहा है हम विश्वास दिलाते हैं कि रिजल्ट भी हम बेहतर से बेहतर देंगे।                                    

थाली एवं स्कूल बैग का किया गया वितरण
नगर पंचायत अध्यक्ष रमन अग्रवाल के द्वारा अपनी तरफ से स्कूल के सभी बच्चों को थाली एवं स्कूल बैग का वितरण किया गया।स्कूल के कायाकल्प हो जाने के बाद स्कूल में लगे झूले, फिसल पट्टी, वाटर कूलर, पंखे से बच्चे एवं वार्ड वाशी काफी उत्साहित हैं।प्रतिदिन बच्चों की शत-प्रतिशत उपस्थिति रह रही है।       

 


Date : 17-Jul-2019

ओरिएण्टल पब्लिक स्कूल में विद्यार्थियों के एलिट ग्रुप का शपथ ग्रहण

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 17 जुलाई।
स्थानीय ओरिएण्टल पब्लिक स्कूल में विद्यार्थियों के एलिट ग्रुप का शपथ ग्रहण समारोह सम्पन्न हुआ। इस ग्रुप में हेड बॉयज, हेड गर्ल, हाउस कैप्टन, बस कैप्टन तथा विभिन्न प्रीफेक्ट्स जिसमें स्कूल के हेड बॉयज प्रथम अभिराज सिंह पदम व द्वितीय भूपेन्द्र भगत, हेड गर्ल प्रथम खुशी दुबे व द्वितीय नितिषा मण्डल ने शपथ ली। हेड बॉयज एवं हेड गल्र्स का चुनाव बहुमत के आधार पर विद्यार्थियों द्वारा किया गया। 

चारों हाउस के कैप्टन्स का चयन किया गया, जिसमें आइन्सटाइन हाउस के रोहन जायसवाल, सिद्धार्थ केशरी, संदीप टोप्पो, मुस्कान जिन्दल, कोमल साहू, प्रिया सिंह कलाम हाउस के कैप्टन्स साजिद हुसैन, सशक्त रघुवंशी, सागर सोनी, सोनल द्विवेदी, सानिया फातिमा, साक्षी भगत,  टैगोर हाउस आदित्य सिंह, दुर्गेश सिंह, रित साहू, महिमा गुप्ता, बुशरा सिद्धकी, अंशिका श्रीवास्तव इसी प्रकार शेक्सपियर हाउस के कैप्ट्नस मौलिक सोनी, समरजीत सिंह, नितेश कुमार राजवाड़े, अदिति गुप्ता, जिज्ञासा पाल, हर्षिता तिवारी ने भी पूर्ण निष्ठा के साथ अपने कर्तव्य निर्वहन की शपथ ली।

विद्यालय के प्राचार्य डॉ आई ए खान सूरी ने विद्यार्थियों को शपथ दिलाई और अपने उद्बोधन संदेश में कहा कि ऐसी गतिविधियों द्वारा विद्यार्थियों में प्रजातंत्र के प्रति आस्था व नेतृत्व क्षमता का विकास होता है। कार्यक्रम के सफल आयोजन में प्रभारी स्कूल के एडमिनिस्ट्रेटर श्री तहसीन अहमद खान एवं एसेम्बली इंचार्ज शिक्षक श्री मुकेश अग्रवाल, सुश्री नेहा आरा, सुश्री तनुश्री मुखर्जी व सुश्री ज्योत्सना गिरी के साथ सभी शिक्षकों ने चयनित विद्यार्थियों को बधाई दी।


Date : 17-Jul-2019

राज्य शासन के मंशानुरूप जान्वी को जन्म के सातवें दिन ही मिला स्थाई जाति प्रमाण पत्र 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
अम्बिकापुर, 17 जुलाई।
उदयपुर जनपद अन्तर्गत ग्राम पंचायत पण्डरीपानी निवासी केशव प्रसाद एवं श्रीमती दुर्गा की पुत्री जान्वी को जन्म के सातवें दिन ही स्थाई जाति प्रमाण पत्र एवं जन्म प्रमाण पत्र मिल जाने से जान्वी के माता-पिता खुश हैं।उदयपुर के जनपद अध्यक्ष राजनाथ सिंह,उपाध्यक्ष राजीव कुमार सिंह, विधायक प्रतिनिधि सिद्धार्थ सिंह के द्वारा शिशु जान्वी के पिता को स्थाई जाति प्रमाण पत्र सौंपा गया। जन्म के सात दिन में जन्म एवं जाति प्रमाण पत्र एक साथ जारी करने का जिले में यह पहला मामला है।जन्म एवं स्थाई जाति प्रमाण पत्र मिल जाने से जान्वी को भविष्य में जाति प्रमाण पत्र बनवाने हेतु दस्तावेजों के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। 

राज्य शासन के मंशानुरूप शिशु के जन्म के साथ ही स्थाई जाति प्रमाण पत्र लोक सेवा केन्द्र के माध्यम से उपलब्ध कराने हेतु कलेक्टर डॉक्टर सारांश मित्तर ने राजस्व विभाग एवं लोक सेवा केन्द्र के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। उक्त निर्देशों के परिपालन में अनुविभागीय दण्डाधिकारी राजस्व श्री प्रदीप कुमार साहू के द्वारा जन्म प्रमाण पत्र जारी करने वाले सक्षम प्राधिकारियों को जन्म प्रमाण पत्र जारी करने के उपरांत शिशु के पिता को निर्धारित प्रारूप में आवेदन नजदीकी लोक सेवा केन्द्र में जमा कराने के निर्देश दिए गए हैं, ताकि शासन के महत्वकांक्षी योजना का लाभ मिल सके। 


Previous1234Next