छत्तीसगढ़ » बेमेतरा

Previous1234Next
Date : 22-Jul-2019

जेल में बंद प्रदर्शनकारियों ने शुरू की भूख हड़ताल

शराब दुकान स्थल परिवर्तन करने का दिया आदेश, इसलिए कलेक्टर का ट्रांसफर- विजय बघेल

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 22 जुलाई।
बेरला शराब दुकान की तालाबंदी के मामले में समाजसेवी संस्था अंकुर के चार सदस्यों को शनिवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार घोषणा अनुरुप प्रदर्शनकारियों ने जेल में भूख हड़ताल शुरु कर दी है। हालांकि जेल प्रशासन इस पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। 

उल्लेखनीय है कि समाजसेवी संस्था अंकुर बेरला में शिक्षण संस्थान के पास स्थित देशी शराब दुकान को हटाने की मांग लंबे समय से करते आ रही है। कलेक्टर ने संस्था की मांग को जायज मानते हुए 29 जून को देशी शराब दुकान के स्थल परिवर्तन का आदेश जारी  किया। इस पर अब तक अमल नहीं हुआ है और अधिकारी जवाब देने की स्थिति में नहीं है। 

संस्था के अध्यक्ष राहुल टिकरिहा समेत चार लोगों की गिरफ्तारी के बाद अन्य सदस्यों ने मोर्चा संभाला हुआ है। रविवार को युवकों ने शराब दुकान के सामने करीब घंटे भर प्रदर्शन किया। इसके बाद थाना प्रभारी विपिन रंगारी की समझाइश के बाद युवक लौट गए। यहां संस्था के सदस्यों ने शराब दुकान हटने तक प्रदर्शन जारी रखने की बात कही।

जिला संयोजक गौवंश प्रकोष्ट राजा पांडेय प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी के विरोध व शराब दुकान हटाने की मांग को लेकर सोमवार को शराब दुकान के सामने धरना प्रदर्शन करने की घोषणा की है। राजा पांडेय ने कहा कि अनुमति का आवेदन लेने से मना करने पर बेरला थाना प्रभारी को मौखिक सूचना दी गई है। उन्होंने कलेक्टर का आदेश पालन नहीं करने के लिए जिला आबकारी अधिकारी प्रकाश पॉल पर कार्रवाई की मांग की है।  

जनता की जायज मांग पूरी हो, नहीं तो जन आंदोलन-सांसद
सांसद विजय बघेल ने कहा कि यह शासन की हठ धर्मिता है। कांग्रेस ने चुनाव के समय शराबबंदी का वादा किया था। लेकिन उससे पीछे हटते हुए आज समाज के जिम्मेदार लोग जो शिक्षण संस्थान के पास से शराब दुकान हटाने की मांग कर रहे हैं, उन्हें प्रताडि़त किया जा रहा है। कलेक्टर ने उनकी मांग को जायज मानकर शराब दुकान को हटाने के आदेश जारी किया था, उसी का परिणाम है कि उनको हटा दिया गया। मैं शासन से मांग करता हूॅं कि जनता की जायज मांग को पूरा किया जाए नही तो जन आंदोलन होगा। गिरफ्तार किए गए लोगों को तत्काल नि:शर्त रिहा किया जाए।

प्रदर्शनकारियो से नहीं हुई मुलाकात, नियमों का दिया हवाला
संस्था के सदस्य प्रदर्शनकारियों से मिलने के लिए बेमेतरा उपजेल पहुंचे थे। लेकिन जेलर एसपी कुर्रे ने नियमों का हवाला देकर मुलाकात कराने से इंकार कर दिया। सदस्यों ने सत्ता पक्ष के राजनीतिक दबाव के चलते प्रदर्शनकारियों से नहीं मिलने देने का आरोप लगाया है। इस दौरान राजा पांडेय, गणेश माहेश्वरी, हर्षवर्धन तिवारी आदि उपस्थित थे।

 


Date : 22-Jul-2019

जिला सहकारी बैंक ने निवर्तमान कलेक्टर महादेव कावरे को दी भावभीनी बिदाई 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 22 जुलाई।
शनिवार को गुरुकृपा पैलेस बेमेतरा में आयोजित कार्यक्रम में जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक, खाद्य विभाग, सहकारी संस्थाएं, जिला बेमेतरा के अधिकारियों, कर्मचारियों के द्वारा निवर्तमान कलेक्टर महादेव कावरे को भावभीनी बिदाई दी गई।  
महादेव कावरे का स्थानांतरण सचालक, कोष, लेखा एवं पेंशन के पद पर हो गया है। कार्यक्रम में  महादेव कावरे सपरिवार सम्मिलित हुए, जिनमें उनके छोटे भाई बीजापुर के कृषक सहदेव कावरे भी थे। श्री कावरे का भव्य स्वागत कर्मचारियों के द्वारा किया गया। इस अवसर पर उपस्थिति एस. आर. महिलांगे, अपर कलेक्टर, जिला बेमेतरा, एस.के.तिग्गा, उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं, एस.के.निवसरकर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित दुर्ग,  राजेन्द्र कुमार वारे, नोडल अधिकारी,  गीतेष मिश्रा  सहायक खाद्य अधिकारी,  बी.एल.चंद्राकर, जिला विपणन अधिकारी, आदि अधिकारियों ने महादेव कावरे के सानिध्य में किये गये कार्य व अपने अनुभव को बताया।  अधिकारियों ने बताया कि महादेव कावरे के कार्यकाल में जिले का विकास निरन्तर प्रगति पर रहा एवं उनके द्वारा नागरिकों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने का प्रयास किया गया। 

आपके कार्यकाल में विधानसभा एवं लोकसभा चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराये गये जो कि आपके कार्यकाल की एक बड़ी उपलब्धि रही। अपने सहज एवं सरल स्वभाव के कारण आम जनमानस के साथ साथ अधिकारियों एवं कर्मचारियों के मन मस्तिष्क में उनकी अमिट छाप बन गई है। सभी कर्मचारियों ने उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

इस अवसर पर महादेव कावरे ने कहा कि बेमेतरा जिला एक कृषि प्रधान एवं उन्नत जिला है जहां पर विकास की अपार संभावनाएं है। यहां के किसान उन्नतशील है। जिले में सिंचाई सुविधाओं पर कार्य किया जाना है। वाटर लेवल को बनाए रखना सभी के लिये एक चुनौती है। आम नागरिकों को जल का दोहन कम कर वाटर हार्वेस्टिंग एवं वृक्षारोपण पर विशेष ध्यान देना चाहिये। उन्होंने जिले के नागरिक, सभी विभागों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को उनके सहयोग के आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम के अंत में महादेव कावरे को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर बैंक, खाद्य विभाग, कृषि विभाग, सहकारी संस्थाएं, जिला विपणन संघ के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन अरविंद सिंह वर्मा, सहायक नोडल अधिकारी, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक जिला बेमेतरा के द्वारा किया गया । 


Date : 22-Jul-2019

सोते युवक को सांप ने डसा, रात भर झाड़-फूंक, सुबह अस्पताल, रायपुर भेजा

बेमेतरा, 22 जुलाई। बीती रात सो रहे युवक के हाथ की उंगली को सांप ने डस लिया। परिजन रातभर अंध विश्वास में युवक की झाड़-फूक कराते रहे, जिससे उसकी स्थिति बिगड़ती गई। फिर सुबह जिला अस्पताल पहुँचाया गया। उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए मेकाहारा रायपुर रेफर कर दिया गया है।

जिला अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम ठरकपुर निवासी राजकुमार मारखण्डेय शनिवार को खाना खाकर अपने कमरे में सो रहा था। तभी जहरीले घोड़ा करैत सांप ने डस लिया। नींद में युवक के हाथ को झटका दिया तो सांप ने दूसरी उंगली को भी डस लिया। इसके बाद युवक ने परिजन को जानकारी दी। परिजन झाड़-फूंक करने लगे। जब उसकी स्थिति बिगड़ी तो उसे जिला अस्पताल लेकर पहुंचे।

ग्रामीण अंचल में अंध विश्वास आज भी कायम है। जहरीले सांप, बिच्छु, कीड़े-मकोड़े , कुत्ते के काटने पर पहले झाड़-फूक कराते है। स्थिति बिगडऩे पर अस्पताल पहुँचते है। ऐसे में देर हो जाती है। जहर पूरे शरीर मे फैलने का संकट बना रहता है। कि बार लोगो को जान गवानी पड़ती है। डॉ योगेश दुबे ने बताया कि ऐसे मामलों में झाड़-फूंक कराने के बजाय मरीज को सीधे अस्पताल पहुचाये और उसका इलाज करवाए , जिससे समय रहते जान बचाई जा सके।

 

 


Date : 22-Jul-2019

अनियंत्रित होकर पेड़ से टकराया वाहन, 7 घायल 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 22 जुलाई।
ग्राम भोइनभाठा के पास मैजिक वाहन अनियंत्रित होकर सडक़ के किनारे पेड़ से टकरा गई। हादसे में सात लोग घायल हो गए। जिसमे 3 गंभीर रूप से घायल हो गए, उन्हें मेकाहारा रायपुर भेजा गया है। बाकी 4 घायलों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। वाहन में खाद भरा हुआ था, जिसके ऊपर यात्रियों को बिठाया गया था। घटना रविवार दोपहर की है।

मैजिक वाहन का ड्राइवर श्यामसुंदर साहू (59) निवासी वार्ड 15 नयापारा 10 बोरी खाद लेकर मोहरेंगा छोडऩे जा रहा था। उसके साथ बल्लू आदिल (28) एवं नीतीश आदिल (10) भी बैठे हुए थे। प्रताप चौक के पास 4 लोग अपने गांव जाने सवार हो गए। इसमें मिलन बाई सतनामी (66) , द्रोपदी डहरिया (23) , निवासी जोगीपुर , सरस्वती पाल (25) , तारणी पाल (30) दोनों निवासी मुंनरबोड़ शामिल है। वाहन भोईनाभाठा के पास पहुंचा था, तभी सामने से अचानक हाइवा आ गया। मैजिक के चालक ने स्टेयरिंग घुमा दी, जिससे वह पेड़ से टकरा गई।
मैजिक वाहन के पेड़ से टकराते ही चीख-पुकार मच गई। लोगो ने घायलों को निकाला। उन्हें संजीवनी वाहन से जिला अस्पताल पहुचाया गया। ड्राइवर श्यामसुंदर साहू , बल्लू एवं मिलन बाई की गंभीर स्थिति को देखते हुए मेकाहारा रायपुर रेफर कर दिया गया। 

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सामने से अचानक हाइवा को आते देख मैजिक वाहन के ड्राइवर ने गाड़ी से नियंत्रण खो दिया। हादसे में सामने बैठे लोगों को ज्यादा चोंटे आई है। बल्लू आदिल के चेहरे व सिर में चोटे आई है। मिलन बाई के दोनों पैर में चोटे आई है व साइन में दर्द होने की बात कही। वहीं मैजिक ड्राइवर का बायां पैर एवं जीभ कट गई है।

 

 


Date : 22-Jul-2019

जिले की 54 समितियों में फसल बीमा शुरू 

 31 जुलाई तक करा सकते हैं फसल का बीमा 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 22 जुलाई। प्र
धानमंत्री फसल बीमा खरीफ की अधिसूचना शासन के द्वारा 8 जुलाई को जारी कर दी गई है। इस फसल बीमा हेतु ग्राम को ईकाई निर्धारित किया गया है। बीमा के नियम के अनुसार शासन द्वारा घोषित केवल अधिसूचित फसल का ही बीमा कराया जा सकता है। जिले के 54 सेवा सहकारी समितियों में फसल बीमा का कार्य प्रारंभ हो गया है। 

ऋण किसानों के लिये बीमा अनिवार्य है जबकि अऋणी किसानों के एैच्छीक है। जो किसान समितियों से अल्पकालीन ऋण प्राप्त किये है और जिनकी फसल ऋण सीमा 1मार्च से 31जुलाई तक के लिये बैंक समिति से स्वीकृत या नवीनीकृत किया गया है, उनका बीमा अनिवार्य रुप से समितियों के द्वारा किया जायेगा। ऋणी किसान यदि फसल बुआई में परिवर्तन कराना चाह रहे है तो उसे फसल बुआई का प्रमाण पत्र संबंधित समिति में जमा करना होगा। अलग अलग ग्राम में भूमि होने पर किसान को इसकी जानकारी संबंधित समिति को देना अनिवार्य होगा। 

अऋणी किसान जो समिति से ऋण प्राप्त नही करते है एवं जिनका बचत खाता जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक में है वे संबंधित समिति में जिला सहकारी बैंक के पासबुक, आधार कार्ड, फसल बुआई प्रमाण पत्र, बी-1 व पी-2 की प्रति के साथ आवेदन कर, नगद राषि जमा कर बीमा करा सकते है। ऐसे किसान जिनके पास एक से अधिक ऋण पुस्तिका है और वे अलग अलग बैंकों से ऋण प्राप्त करते हैं तो उनके सभी भूमि का फसल बीमा एक ही बैंक से होगा, जिसकी सूचना संबंधित किसान के द्वारा बैंक को दी जावेगी। ऐसे किसान जिनका जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक में बचत खाता नहीं है वे अपने संबंधित बैंक में सम्पर्क कर बीमा करा सकते हैं। 

शासन के द्वारा धान सिंचित के लिये 9 सौ रुपए प्रति हेक्टेयर, धान असिंचित व सोयाबिन के लिये 720 रुपए प्रति हेक्टेयर, मक्का के लिये 1000  रुपए प्रति हेक्टेयर, अरहर के लिये 530 रुपए प्रति हेक्टेयर बीमा प्रीमियम निर्धारित की गई है। किसानों से अपील है कि अपने संबंधित समिति में जाकर अपने फसल का बीमा करवाएं। उपरोक्त जानकारी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के नोडल अधिकारी राजेन्द्र कुमार वारे जी ने दी। 


Date : 22-Jul-2019

9 साल से बन रहे स्कूल भवन देखने पहुंचे विधायक

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 22 जुलाई।
ग्राम जाता में 9 साल से निर्माणाधीन मॉडल स्कूल भवन का रविवार को विधायक गुरुदयाल सिंह बंजारे ने औचक निरीक्षण किया। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कार्य जल्दी पूर्ण करने को कहा। विधायक ने बताया कि वे छिरहा, दाढ़ी एरिया जनसंपर्क के साथ अल्पवर्षा की स्थिति से बने हालात को जानने निकले थे। इस बीच विधानसभा चुनाव के दौरान ग्रामीणों ने उन्हें 9 साल से निर्माणाधीन मॉडल स्कूल के बारे में जानकारी दी थी। उसी को देखने जब पहुंचा तो कार्य अपूर्ण मिला। जिस पर अधिकारियों को कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए गए। विधायक के साथ जावेद खान, ललित विश्वकर्मा आदि उपस्थित थे।

 


Date : 22-Jul-2019

शराबी पति की पत्नी ने डंडे से कर दी पिटाई

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 22 जुलाई।
शराब के नशे में विवाद कर रहे पति की पत्नी के साथ हाथापाई हो गई। इसके बाद गुस्साई पत्नी ने डंडे से ताबड़तोड़ पति पर हमला कर दिया। जिससे पति का सिर फट गया। उसे खून से लतफथ हालात में परिजन ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, उसके सिर में चार टांके लगे है। मामला शहर के गंजपारा का है। जिला अस्पताल के अनुसार बिष्णु साहू (36) रविवार की शाम शराब पीकर घर पहुंचा था। इसके बाद पत्नी से विवाद हुआ और मामला हाथापाई तक पहुंच गई।

 

 


Date : 22-Jul-2019

बच्चे आत्मरक्षा स्वयं करें- सारिका

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 22 जुलाई।
लायनेस क्लब एवं लायंस क्लब के तत्वावधान में आयोजित निशुल्क आत्मरक्षा शिविर के समापन कार्यक्रम की मुख्य अतिथि सारिका वैद्य डीएसपी जिला बेमेतरा ने कहा कि जो काम हम नहीं कर पा रहे, उसको लायनेस क्लब ने कर दिखाया, लायनेस क्लब धन्यवाद के पात्र हैं। पॉक्सो एक्ट के बारे में जानकारी दी। कहा-बच्चे आत्मरक्षा स्वयं करें।

विशेष अतिथि नगर पालिका के मुख्य कार्यपालन अधिकारी होरी सिंह ठाकुर ने कहा कि बेमेतरा में लायनेस क्लब निस्वार्थ भाव से सेवा कर रही है, धन्यवाद के पात्र हैं। विशेष अतिथि लायंस अध्यक्ष सुरेंद्र छाबड़ा ने बच्चों को शुभकामनाएं दी
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहीं लायनेस क्लब अध्यक्ष ललिता साहू ने कहा कि बच्चों को अच्छी शिक्षा अच्छा संस्कार देकर राष्ट्र को सभ्य नागरिक प्रदान कर सकते हैं, जिसकी हमारे देश को सर्वाधिक आवश्यकता है। मासूम बच्चियों से रेप की कड़ी निंदा करते कहा कि ऐसे लोगों को सजा मिलनी चाहिए। आगे कहा कि गरीब बच्चों की जो भी समस्या रहेगी, हम लायनेस क्लब उनके साथ खड़े रहेंगे। 

लायनेस पूर्व अध्यक्ष रश्मि ताम्रकार ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन लायनेस रानी रवानी ने किया। कार्यक्रम की आभार लायनेस शशी तिवारी ने किया।
प्रशिक्षण कर्ता अनिल देवांगन लायंस दिनेश पटेल लायनेस सचिव विनोद राघव लायनेस उपाध्याय मुमताज रवानी  उपाध्यक्ष वर्षा गौतम कोषाध्यक्ष प्रिया राजपूत उर्वशी दास ज्योति तिवारी निधि बनाफर नीलम साहू मीडिया प्रभारी किरण जैन वर्षा चौबे शिक्षकगण, छात्र-छात्राएं, महिला कमांडो, गणमान्य नागरिक आदि उपस्थित थे।

 


Date : 22-Jul-2019

जिले में अकाल की संभावना, फसल बचाने बांध से छोड़े पानी- योगेश

बेमेतरा, 22 जुलाई। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के प्रदेश महासचिव योगेश तिवारी, कुसमी सेवा सहकारी समिति के अध्यक्ष सच्चिदानंद मिश्रा, महेश्वर पटेल, विक्की पटेल, मनोज यदु, अश्वनी मानिकपुरी, जीवन गायकवाड़, हुल्लास साहू, हरिशचन्द्र घृतलहरे, मनोज पटेल ने कहा है कि बेमेतरा जिले में लगातार तीसरे वर्ष अकाल की स्थिति निर्मित हो रही है, किन्तु शासन, प्रशासन इस स्थिति से निपटने के दिशा में कोई प्रयास करते नहीं दिख रहे हैं। 

उन्होंने आगे कहा कि बेमेतरा जिले में इस वर्ष भी कम बारिश हुई है। भूमिगत जल स्तर और भी नीचे उतर रहा है। जिले के किसान फसल बुवाई कर चुके हैं। बारिश की राह देख रहे हैं। मौसम की स्थिति बड़ी भयावह है। पिछले 3 साल से जिले में अच्छी बारिश नहीं हुई है। पूरी तरह वर्षा पर निर्भर किसानों की फसलें खेतों में ही सूख जाती है। किसानों को इस स्थिति से बचाने की कोशिश होनी चाहिए। इस पर राजनीति नहीं करनी चाहिए। सरकार को किसानों के प्रति चिंतित होकर उनकी समस्याओं के समाधान हेतु प्रयास करना चाहिए किंतु अभी तक सरकार ने इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाया है। सत्ता पक्ष के मंत्री एवं नेतागण सिर्फ समीक्षा करके अपने कर्तव्यों की इतिश्री समझ रहे हैं। प्रदेश के किसानों को कर्ज माफी जैसे दिवास्वप्न दिखाने वाली पार्टी किसानों की समस्याओं के समाधान हेतु गंभीर नजर नहीं आ रहे हैं। किसानों का सब्र अगर टूट गया तो बड़ी भयावह स्थिति प्रदेश में निर्मित हो जाएगी। इस बात की भी चिंता सरकार को करनी चाहिए। बेमेतरा जिले के कृषकों के खेतों में समय रहते ही बांध से नहर के माध्यम पानी दिया जाना चाहिए।

 लगातार तीन साल से अकाल की मार झेल रहे कृषक इस बार भी अपनी पूंजी खाद एवं बीज के रूप में खेत में डाल चुके हैं, जबकि इस वर्ष भी कम बारिश के कारण कृषक परेशानी महसूस कर रहे हैं। रोपा लगाने वाले किसान खेत में थरहा डाल चुके हैं। किसान पौधों को मुरझाते जाते हुए देख रहे हैं और उनके माथे पर चिंता की लकीर और भी गाढ़ी हो रही है किंतु प्रदेश सरकार इस स्थिति से निपटने के लिए अभी तक कोई भी सकारात्मक कदम नहीं उठा पाई है। 
पूरी तरह वर्षा पर निर्भर बेमेतरा जिले के कृषकों की फसल अब सूखने की स्थिति में पहुंच चुकी है। इस स्थिति से निपटने के लिए अब कृषकों को सोसायटी के माध्यम से पुन: खाद एवं बीज की आवश्यकता पड़ सकती है। इस ओर भी सरकार को ध्यान देना चाहिए। 
छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के प्रदेश महासचिव योगेश तिवारी ने कहा है कि सरकार इस दिशा में शीघ्र ही कोई सकारात्मक कदम उठाकर बेमेतरा जिला के कृषकों को राहत प्रदान करें, अन्यथा इन सब मांगों को लेकर जिले के कृषकों के साथ जनता कांग्रेस के पदाधिकारी शीघ्र ही बेमेतरा जिला की जिलाधीश से मिलेंगे।

 

 


Date : 21-Jul-2019

अंजोर रथ के माध्यम से पुलिस एवं यातायात पुलिस द्वारा हॉट बाजार में चौपाल लगाकर नागरिकगणों को किया जागरूक
छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 21 जुलाई।
अंजोर रथ के माध्यम से चौकी खण्डसरा पुलिस एवं यातायात पुलिस द्वारा बेतर के हॉट बाजार में आस-पास के ग्रामीण अंचल से आये आम नागरिकगणों को चौपाल लगाकर जागरूक किया। 

ग्रामवासियों को साइबर अपराध, चिटफंड, फर्जीकाल ठगी की जानकारी देते हुए बताया कि आजकल तेजी से हो रहे एटीएम फ्रॉड से बचने की सख्त जरूरत है। ग्रामीण जनता भोली-भाली होती है और इसी का फायदा उठाते हुए फ्रॉड करने वाले लोग ग्रामीणों को अपने निशाना बनाते हैं, साथ ही कहा कि राशि दुगनी करने के नाम पर गांव में घूम रहे बिचौलियों से भी बचने की बहुत जरूरत है। अपनी जीवन की जमा पूंजी को ऐसे अपराधियों के पास जाने से बचाने के लिए आपको भी जागरूक होना पड़ेगा। किसी भी तरह की संदेह होने पर तत्काल पुलिस को इसकी जानकारी दें। साथ ही कहा कि पुलिस आपकी सहायता के लिए ही है और आप पुलिस को अपना मित्र ही समझे आपकी थोड़ी सी सजगता से कई गंभीर अपराध होने से बच सकता है।

साथ ही साथ वाहन चलाते समय मोबाईल का प्रयोग न करने, वाहन चालकों को हेलमेट एवं सीट बेल्ट का उपयोग करने, अपने वाहन के कागजात हमेशा पूर्ण रखने, वाहन गति सीमा में ही चलाने तथा वाहन चलाते समय हेलमेट एवं सीट बेल्ट लगाने की आवश्यकता को बताया गया। तथा बैनर/पोस्टर, पाम्पलेट के माध्यम से आमजन को जागरूक किया गया। 

इस अवसर पर चौकी खण्डसरा स्टॉफ एवं यातायात पुलिस बेमेतरा आर. गोविंद क्षत्रिय, आर. कमलेश साहु एवं ग्रामीण बाबुराम, भगवानी, अशोक साहू, मयाराम यादव, प्रहलाद साहू आनंद सोनी, नकूल साहू, प्रकाश चंद्राकर, डोमन सेन, विजय यादव, मदन साहू एवं अन्य स्टॉफ व आस-पास के ग्रामीण अंचल से आये आम नागरिकगण उपस्थित थे।

 


Date : 21-Jul-2019

आदेश के बीस दिनों बाद भी नहीं हटा बेरला देशी शराब दुकान 

तालाबंदी के लिए चार प्रदर्शनकारी गिरफ्तार, जमानत लेने से इंकार, जेल में भूख हड़ताल की घोषणा
छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 21 जुलाई।
जिला आबकारी विभाग की 19 जुलाई को एक सप्ताह की मियाद पूरी होने के बाद समाजसेवी संस्था अंकुर के सदस्यों ने शनिवार को बेरला देशी शराब दुकान की तालाबंदी कर दी। तालाबंदी की सूचना मिलने के बाद आबकारी विभाग व पुलिस की संयुक्त टीम देशी शराब दुकान बेरला पहुंची, जहां उन्होंने संस्था के अध्यक्ष राहुल टिकरिहा, सदस्य रोमन पाण्डेय, हरीश देवांगन व लालू साहू को गिरफ्तार कर थाना लाया गया। यहां आबकारी उपनिरीक्षक जैलेश सिंह ने शराब दुकान की तालाबंदी के लिए कार्रवाई को लेकर बेरला थाना प्रभारी को पत्र लिखा। आबकारी विभाग के पत्र पर कार्रवाई करते हुए युवकों पर प्रकरण दर्ज किया गया। 

संस्था के अध्यक्ष राहुल टिकरिहा ने बताया कि बेमेतरा व बेरला शराब दुकान को हटाने का आदेश 29 जून को कलेक्टर कार्यालय से जारी हुआ। आदेश जारी होने के एक दिन के भीतर बेमेतरा शराब दुकान को कोबिया वार्ड से हटाकर बेरला तिगड्डा के पास शिफ्ट किया गया, लेकिन आदेश के 20 दिनों बाद भी बेरला देशी शराब दुकान को शिक्षण संस्थानों के पास से नहीं हटाया जा रहा है।

उन्होंने आरोप लगाया कि यह जमीन कांग्रेस नेता गणेश गौसेवक की है, इसलिए शासन के आदेश को ताक पर रखकर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। अध्यक्ष टिकरिहा ने बताया कि दो साल पहले शराब दुकान हटाने को लेकर बेरलावासियों ने आंदोलन किया था। उस समय लगभग 63 महिला-पुरुषों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। अब आदेश के बावजूद अवैध रूप से संचालित शराब दुकान को हटाने के लिए तत्कालीन कलेक्टर महादेव कावरे, जिला आबकारी अधिकारी प्रकाश पॉल समेत अन्य अधिकारी बार-बार आश्वासन दे रहे थे, इसलिए मजबूरी में यह कदम उठाया गया। जिला आबकारी अधिकारी ने 19 जुलाई तक शराब दुकान हटाने का आश्वासन दिया था।

'छत्तीसगढ़Ó ने दुकान हटाने के संबंध में जिला आबकारी अधिकारी प्रकाश पॉल को कई बार फोन लगाया गया, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया।
जमानत लेने से किया इंकार, जेल में करेंगे भूख हड़ताल

प्रदर्शनकारियों को शाम करीब 5:30 बजे एसडीएम वर्मा के न्यायालय में पेश किया गया। यहां प्रदर्शनकारियों को भविष्य में इस तरह का कृत्य नहीं करने को लेकर बंधन पत्र भरने को कहा गया, लेकिन उन्होंने बंधन पत्र भरने से साफ इंकार करते हुए जमानत लेने से इंकार कर दिया। युवकों के इंकार करने के बाद उन्हे बेमेतरा उपजेल भेज दिया गया। प्रदर्शनकारियों ने शराब दुकान हटने की मांग पूरी होने तक जेल में भूख हड़ताल करने की घोषणा की है।                

कोई सत्ता का रसूख नहीं है, जमीन मालिक होने के नाते 18 सालों से जमीन किराए पर दी है। कलेक्टर के आदेश का पालन कराना संबंधित विभाग व जिला प्रशासन का काम है, इस संबंध में वही बता पाएंगे। कांग्रेस सरकार ने चरणबद्ध तरीके शराबबंदी का वादा किया, जो पूरा किया जाएगा।

गणेश गौसेवक, पूर्व जिलाध्यक्ष, कांग्रेस-बेमेतरानियमत: कार्रवाई होगी
घटना की जानकारी अभी मिली है, शराब दुकान हटाने के मामले में नियमत: जल्द कार्रवाई होगी, इसके लिए मंै आश्वस्त करती हूं।

शिखा राजपूत तिवारी, कलेक्टर-बेमेतरा युवकों पर मामला दर्ज करने बेरला थाना प्रभारी को पत्र सौंपा 

सेल्समेन से दोपहर करीब 1 बजे कुछ युवाओं द्वारा दुकान की तालाबंदी की सूचना मिली। सूचना पर बेरला पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर अवैध तरीके से दुकान पर तालाबंदी के लिए चार प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया है। युवकों पर मामला दर्ज करने बेरला थाना प्रभारी को पत्र सौंपा गया है।

जैलेश सिंह, शराब दुकान जिला प्रभारी.युवकों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज 
आबकारी विभाग के आवेदन पर समाजसेवी संस्था अंकुर के अध्यक्ष राहुल टिकरिहा समेत चार युवकों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। शनिवार शाम को चारों युवक को एसडीएम कोर्ट में पेश किया गया। यहां जमानत लेने से इंकार करने पर सभी को जेल भेज दिया गया।
विपिन रंगारी, टीआई-बेरला


Date : 21-Jul-2019

कलेक्टर ने दिए 25 तक गौठान पूरा करने के निर्देश 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 21 जुलाई।
कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी ने कल शाम विकासखण्ड साजा के ग्राम टिपनी, ठेलका एवं मौहाभाठा का दौरा कर गौठान निरीक्षण कार्य का मुआयना किया। उन्होंने 25 जुलाई तक अपूर्ण कार्यों को परा करने के निर्देश दिए। ताकि एक अगस्त को छ.ग. के पारंपरिक पर्व हरेली त्यौहार के दिन गौठान का लोकार्पण किया जा सके। कलेक्टर ने चारागाह विकास के अंतर्गत नेपियर घास तैयार करने को कहा।

  निरीक्षण के दौरान जिपं के सीईओ प्रकाश कुमार सर्वे, परियोजना अधिकारी जि.पं.बी.आर.मोरे, उप संचालक पंचायत डी.के. कौशिक उप संचालक कृषि जे.एस.राजपूत, कार्यपालन अभियंता जल संसाधन कुलदीप नारंग, पशु चिकित्सक डॉ.साधना कुर्रे, जनपद पंचायत सीईओ प्रकाश मेश्राम, मनेरगा के एपीओ नवीन साहू सरपंच ग्राम पंचायत टिपनी संजय कुमार वैष्णव ठेलका गेंदराम साहू, मौहाभाठा सरपंच  साहेबीन बाई बघेल के अलावा ग्रामवासी उपस्थित थे। 


Date : 21-Jul-2019

जनपद पंचायत की पूर्व अध्यक्ष ने दूध में मिलावट के कारोबार पर अंकुश लगाने कलेक्टर से की मांग 
छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 21 जुलाई।
एक तरफ जहां प्रदेश भर में स्कूली बच्चों को पौष्टिक आहार के रूप में अंडा परोसे जाने पर बहस छिड़ी हुई है, वहीं दूसरी ओर बेमेतरा जनपद पंचायत की पूर्व अध्यक्ष प्रज्ञा निर्वाणी ने जिले भर में मिलावटी व रसायन युक्त दूध पर चिंता जाहिर करते हुए कलेक्टर को पत्र लिखा है। 

उन्होंने पत्र में लिखा है जिले में दूध बेचने वालों के गौ शालाओ पर खाद्य अधिकारी निरीक्षण कर यह सुनिश्चित करें कि उनकी उत्पादन क्षमता कितने लीटर की है, क्योंकि हर गाय और भैंस की प्रतिदिन दूध देने की क्षमता से 3 से 4 गुना अधिक दूध कुछ डेयरी संचालक बेचते हैं, साथ ही साथ वो घी, दही, पनीर और खोवे का निर्माण भी करते हैं, तो यह अतिरिक्त दूध खोवा और पनीर आखिर आता कहां से है। 

जिले भर में रसायन युक्त दूध उत्पादन की बात समय समय पर सामने आते रहती है और केमिकल से बने यह दूध आम आदमी न तो पहचान सकता न ही अंतर कर सकता, परन्तु इनके सेवन से कई गंभीर बीमारियों का शिकार जरूर हो रहा है। 
वर्तमान परिवेश में यह जरूरी हो गया है कि लोगों को जो भी मिल रहा है कम से कम फायदेमंद नही तो  हानिकारक न हो, रासायनिक दूध से लीवर सबसे पहले संक्रमित होता है और लंबे समय से इसके सेवन से धीरे धीरे शरीर के ऑर्गन्स और नर्व सिस्टम फेल होने लगते हैं। गौ शालाओं के दिवालों में उनके प्रतिदिन उत्पादन क्षमता के तख्ती खाद्य विभाग लगाए और समय-समय में नियमित ग्राहकों के सोशल आडिट कर मिलावटी दूधों के फैल चुके कारोबार पर अंकुश लगाएं। हजारों लीटर दूध की प्रतिदिन आपूर्ति शहर में ही होती है, पर उतनी गौशालाएं नहीं दिखती। जिले भर में दूध के मिलावटी कारोबार पर अगर अंकुश नहीं लगाया गया तो इसकी बड़ी कीमत यहां के लोगों को चुकानी पड़ेगी। प्रज्ञा निर्वाणी ने इस विषय पर कार्रवाई का आग्रह किया है।

 


Date : 21-Jul-2019

पुलिस अधीक्षक ने थाना नवागढ़ व चौकी मारो का आकस्मिक निरीक्षण किया

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 21 जुलाई।
 पुलिस अधीक्षक प्रशांत सिंह ठाकुर ने थाना नवागढ़ एवं चौकी मारो का आकस्मिक निरीक्षण किया। जिसमें थाना-चौकी की साफ सफाई हेतु विशेष ध्यान रखने तथा लंबित अपराधों, मर्ग, गुम, शिकायत और लंबित वारंटो की निकाल करने, थाना में रिपोर्ट करने आये महिला आगंतुक रिपोर्टकर्ता से संयमित व्यवहार करने एवं उनकी रिपोर्ट को गंभीरता पूर्वक लेते हुए तत्काल उचित कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

 अवैध शराब, गांजा, जुआ, सट्टा के विरूद्ध कार्यवाही नहीं होने पर पुलिस अधीक्षक प्रशांत सिंह ठाकुर ने थाना प्रभारी नवागढ़ निरीक्षक चिन्तुराम ठाकुर एवं चौकी प्रभारी मारो टी. आर. कोसिमा को जमकर फटकार लगाई। पुलिस अधीक्षक  ने थाना प्रभारी नवागढ़ एवं चौकी प्रभारी मारो को सख्त हिदायत दी कि अवैध शराब, गांजा, जुआ, सट्टा के विरूद्ध कार्रवाई में किसी भी प्रकार की कोई कोताही बरती गई तो संबंधित थाना/चौकी प्रभारी पर तत्काल प्रभाव से विभागीय कार्यवाही की जाएगी। निरीक्षण के दौरान थाना नवागढ़ प्रभारी निरीक्षक चिन्तुराम ठाकुर, उप. निरी. नासिर खान, सउनि अंजोर सिंह साहू एवं  चौकी प्रभारी उप. निरीक्षक टी.आर. कोसिमा, प्र. आर. सुरेश सिंह, प्र. आर. प्रदीप तिवारी एवं थाना नवागढ़ एवं चौकी मारो के अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित मिले।


Date : 21-Jul-2019

पीडीएस में मिट्टी तेल में कटौती व पेट्रोलियम पदार्थों के दामों में वृद्धि के विरोध में कांग्रेस का धरना-प्रदर्शन
छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 21 जुलाई।
केन्द्र सरकार की ओर से विभिन्न योजनाओं में प्रदेश की अनदेखी करने के खिलाफ कांग्रेस ने धरना दिया और राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। कांग्रेसजनों ने पीडीएस के मिट्टीतेल में कटौती, पेट्रोलियम पदार्थों के दामों में वृद्धि, धान के समर्थन मूल्य में मामूली वृद्धि करने के विरोधमें हल्ला बोला।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर जिला कांग्रेस कमेटी ने पुराना बस स्टैंड पर धरना दिया। कांग्रेसजनों ने कहा कि छत्तीसगढ़ में 15 सालों से भाजपा की सरकार रहने के बावजूद कई गांवों में बिजली नहीं पहुँची है। जहाँ लोग दिया जलाने मिट्टीतेल का उपयोग करते हंै। केन्द्र ने उज्ववला योजना के तहत गैस सिलेंडर दिया था, लेकिन कीमतों में वृद्धि के कारण लोग रिफलिंग नहीं कर पा रहे हंै। चूल्हा जलाने भी मिट्टीतेल की जरूरत पड़ती है। ऐसे में मिट्टीतेल के कोटे में कटौती करना अनुचित है। 

विधायक आशीष छाबड़ा ने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों की आय दोगुना करने , स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों को लागू करने की बात कही थी। लेकिन धान का समर्थन मूल्य सिर्फ 65 रुपये बढ़ाकर किसानों से मजाक किया है। वहीं अन्नपूर्णा डाल-भात केन्द्र के लिए आबंटित चावल को बंद कर दिया है।

कटौती के लिए पिछली सरकार जिम्मेदार 
सुरेन्द्र तिवारी ने बिजली कटौती को पूववर्ती सरकार के भ्रष्टाचार का नतीजा बताया। पूर्व की भाजपा सरकार ने किसानों के लिए अटल ज्योति लाइन में जमकर भ्रष्टाचार किया और स्तरहीन सामग्रियों का उपयोग किया। साथ ही सुधार कार्य होने के बाद जल्द ही निर्बाध बिजली मिलने की बात कही। 

धरना को नवागढ़ विधायक गुरुदयाल सिंह बंजारे , जिले के प्रभारी श्रीराम गिड़लानी, अवनीश राघव, गणेश गौसेवक, रामेश्वर देवांगन, शिशिर शर्मा, रीता पांडेय, लुकेश वर्मा ने भी संबोधित किया। इसके बाद एसडीएम डीएन कश्यप को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया। इस अवसर पर सुमन गोस्वामी, संतोष वर्मा, झम्मन बघेल, सुनील नामदेव, गुलजार अली, मंगत साहू आदि उपस्थित रहे।

यूपी मुख्यमंत्री योगी का पुतला जलाया
धरना प्रदर्शन के बाद कांग्रेसियो ने सिग्नल चौक में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला जलाया गया। उत्तरप्रदेश में कांग्रेस नेत्री प्रियंका गांधी के काफिले को सोनभद्र जाते समय रास्ते से ही रोक लिया गया था। कांग्रेसजनों ने इसका विरोध किया। उत्तर प्रदेश व केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। पुलिस जवानों ने पुतला छिलने का प्रयास किया, लेकिन वे असफल रहे।


Date : 20-Jul-2019

नाबालिग के साथ बलात्कार कर फरार आरोपी को पुलिस ने रायगढ़ से गिरफ्तार किया
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बेमेतरा, 20 जुलाई।
नाबालिग के साथ बलात्कार कर फरार आरोपी को पुलिस ने रायगढ़ से गिरफ्तार कर लिया है।   पीडि़ता ने बताया कि सोनू उर्फ सोहन मेंहर मिथ्थुमुडा रायगढ़ का रहने वाला है  जिनके रिश्तेदार देवरबीज बेमेतरा में रहते हैं। शादी के समय देवरबीजा बेमेतरा आया हुआ था। उसी बीच मुझसे व मेरी सहेलियों से संपर्क हुआ।  शादी करूंगा बोलकर अपने झांसे में लेकर मुझे तिल्दा स्टेशन में मिलने आने बोला ,जिस पर बस द्वारा बेमेतरा -सिमगा होते हुए तिल्दा पहुंची। जहां सोनू उर्फ सोहन पहले से मेरा इंतजार कर रहा था। बस से उतरने पर तिल्दा स्टेशन से हम दोनों रायगढ़ के लिए ट्रेन बैठ गए, व कुछ दिन तक रायगढ़ में एक मकान पर मुझे रख शोषण करना। उसके बाद  अपने रिश्तेदार के माध्यम से  बस बैठा कर  बिलासपुर के लिए रवाना कर दिया। बिलासपुर रेलवे स्टेशन पर  आने पर  बिलासपुर रेलवे पुलिस  द्वारा  पूछताछ कर रेलवे चाइल्ड  लाइन के सुपुर्द कर दिया था।

 पुलिस टीम कुछ दिन पूर्व रायगढ़ रवाना हुई थी, जिस पर पता चला आरोपी भागकर कोलकत्ता चला गया है।   18 जुलाई को  सूचना  मिली कि आरोपी सेल्समैन का काम खोजने के लिए मारुति शोरूम रायगढ़ आया था।    टीम ने रायगढ़ में  घेराबंदी कर पकड़ा। थाना बेमेतरा लाकर आरोपी के विरूद्व वैधानिक कार्यवाही करते हुए   न्यायालय पेश किया गया। 

 

 


Date : 20-Jul-2019

केंवाछी सरपंच पर अनियमितता के आरोप, मनरेगा में मशीनों से काम, ग्रामीण रोजगार से वंचित  

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बेमेतरा, 20 जुलाई।
 बेमेतरा जनपद के ग्राम केंवाछी के ग्रामीणों ने विकास कार्य व शौचालय प्रोत्साहन राशि भुगतान में अनियमितता का आरोप लगाते हुए कलेक्टर को ज्ञापन सौप कार्रवाई की मांग की है। वही मनरेगा कार्यो में ग्रामीणों से काम ना लेकर मशीनों के उपयोग की भी शिकयत की गई है। सरपंच पर आवास निरस्त करने की धमकी देकर राशि वसूलने के आरोप लगे है। उपसरपंच बिरन साहू के नेतृत्व में प्रभावित ग्रामीणों ने जनदर्शन में कलेक्टर को ज्ञापन सौप कार्रवाई की मांग की गई है। 

उपसरपंच ने कलेक्टर को बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत ग्रामीणों ने दो साल पहले शौचालय का निर्माण कराया है। यहां सरपंच पद्मनी ताराचंद वर्मा के कहने पर ग्रामीणो ने स्वंय के व्यय से शौचालय का निर्माण कराया था। शासन की ओर से पंचायत को शौचालयो की प्रोत्साहन राशि का आबंटन कर दिया गया है, बावजूद अब तक हितग्राहियों को प्रोत्साहन राशि का भुगतान नहीं हुआ है। नतीजतन कर्ज लेकर शौचालय का निर्माण कराएं हितग्राहियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ज्ञापन सौपने वालों में प्रदीप, रामावतार वर्मा, इंदरावन वर्मा, हेमसिंगवर्मा, हेमंत वर्मा आदि शामिल है।

शिकायतकर्ताओं ने बताया कि गांव में मनरेगा के अंतर्गत तालाब गहरीकरण, गौठान निर्माण समेत अन्य कार्यो में ग्रामीणो से काम ना लेकर जेसीबी मशीनो का उपयोग किया जा रहा है। इस संबंध में जनपद में कई शिकायतो के बावजूद फील्ड अधिकारी निरीक्षण के लिए एक बार भी गांव नही पहुॅचे है। अधिकारियो से मिलीभगत कर सरपंच हर स्तर पर भ्रष्टाचार करने में लगा हुआ है। यहां ग्रामीणो को रोजगार से वंचित किया जा रहा है।

आवास हितग्राही मुन्ना पाटिल ने बताया कि योजना के अंतर्गत आवास का निर्माण पूर्ण हो चुका है। सरपंच ने पात्र होने के बावजूद हितग्राहियों की सूची में शामिल करने के लिए 10 हजार रुपए लिए थे। इसी प्रकार हितग्राही भरत वर्मा से भी पैसे लिए गए है। सरपंच के इस रवैये से परेशान हितग्राही जनपद सीईओ से लेकर कलेक्टर को शिकायत कर चुके है। बावजूद अब तक कोई कार्रवाई नही की गई है। 

जांच के आदेश
जनपद सीईओं दीपक ठाकुर ने बताया कि शौचालय प्रोत्साहन राशि, मनरेगा में अनियमितता एवं आवास हितग्राहियो से वसूली करने की शिकायत मिली है। करारोपण अधिकारी यूडी चेलक के नेतृत्व में जांच टीम का गठन किया गया है। जांच पूरी कर सप्ताह भर के भीतर प्रतिवेदन सौपने के निर्देश दिए गए है।

ग्रामीणों के आरोप निराधार—सरपंचच
सरपंच पद्मनी ताराचंद वर्मा ने कहा कि ग्रामीणो के आरोप निराधार है, जांच होने पर सारी सच्चाई सामने आ जाएगी। द्वेश की भावना से शिकायत की गई है। विपक्षी चुनाव की हार को पचा नही पा रहे है, इसलिए झूठी शिकायत की जा रही है।


Date : 19-Jul-2019

सरदा स्कूल में पेयजल समस्या, कलेक्टर के आदेश पर बोर खनन 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 19 जुलाई।
नवपदस्थ कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी गुरुवार को सरदा स्कूल के औचक निरीक्षण पर पहुंचीं। यहां छात्रों ने बीते साल भर से स्कूल में पेयजल की समस्या का निराकरण नहीं होने से कलेक्टर को अवगत कराया। इस पर तुरंत संज्ञान लेते हुए कलेक्टर ने पीएचई के अधिकारियों को स्कूल में नवीन बोर खनन के निर्देश दिए। कलेक्टर के निर्देश पर तुरंत बोर वाहन को सरदा स्कूल भेजा गया।

 उल्लेखनीय है कि सरदा स्कूल में पेयजल समस्या की खबर को 'छत्तीसगढ़ में प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था। सरदा स्कूल के 900 छात्र-छात्राओं ने पेयजल समस्या का निराकरण नहीं होने पर 15 दिनों पहले प्रदर्शन किया था। अब कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी की पहल पर स्कूल में नवीन बोर खनन हुआ।

 


Date : 19-Jul-2019

ग्राम बटार में आधार कार्ड बनाने के नाम पर घर पहुंचे दो युवक, जेवरात लेकर फरार
छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 19 जुलाई।
ग्राम बटार में किसान के घर आधार कार्ड बनाने के नाम पर पहुंचे 2 युवकों ने जेवरात की चोरी कर ली। किसान मानसिंह गोड़ की रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। 

घटना 16 जुलाई की है। दोपहर को मानसिंह घर पर अकेला था। उसी समय दो लोग मोटरसाइकिल से पहुँचे। दोनों अनजान थे, तो उन्होंने परिचय पूछा, एक ने बहरबोड से आने की जानकारी दी। किसान के रिश्तेदार उस गांव में है, इस कारण उन्होंने दोनों को घर पर बिठाया। एक व्यक्ति ने उसका आधार कार्ड माँगा। उन्होंने आधार कार्ड बहू-बेटा के पास होने की जानकारी दी। दोनों युवकों ने बेटे का फोन नंबर मांगा, उससे बात की, बताया कि उसका आधार कार्ड आलमारी में रखा है। मेरी भी फोटो लेने की बात कही और आंगन में खड़ा कर फोटो लिया। परिवार के अन्य लोगों के बारे में भी जानकारी ली। पत्नी के अस्पताल जाने की जानकारी दी। इसके बाद दोनों की फोटो लेनी है, कहकर दोनों आरोपी मोटरसाइकिल से दाढ़ी अस्पताल की ओर चले गए। वह भी उनके पीछे गया, लेकिन दोनों आरोपी अस्पताल नहीं पहुँचे थे। वह घर लौटा तो देखा कमरों का दरवाजा खुला है। आलमारी के रखे जेवर चोरी ही गए। इसमें एक जोड़ी चांदी का लच्छा , वजनी 52 तोला कीमती 10 हजार रुपए , एक जोड़ी पैरपट्टी , वजनी 17 तोला कीमती 4 हजार रुपए , 5 नग सोने की पत्ती का लॉकेट वजनी 4 ग्राम कीमती 6 हजार 5 सौ रुपये कुल 20 हजार 5 सौ रुपये का सामान चोरी हो गया।

 


Date : 19-Jul-2019

बेमेतरा से लापता 4 नाबालिग रायपुर में मिलीं, 3 युवक बंदी
स्कूल जाने निकली थी, रात तक घर नहीं पहुंचीं
छत्तीसगढ़ संवाददाता
बेमेतरा, 19 जुलाई।
बुधवार को एक ही मोहल्ले से गायब चार नाबालिग लड़कियों को रायपुर के एक घर से पुलिस ने बरामद कर लिया है। इस मामले में 3 युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस के अनुसार बुधवार को एक साथ चार किशोरियां जो कि एक ही मोहल्ला की हैं और एक ही स्कूल व एक ही कक्षा में पढ़ती हंै। स्कूल जाने के नाम पर निकली और लापता हो गई। रात 9 बजे तक उनके परिजन एक के बाद एक सिटी कोतवाली पहुँचे और गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। थाना प्रभारी ने अपने उच्चाधिकारियों को तत्काल घटना की जानकारी दी। जिस पर पुलिस अधीक्षक प्रशांत सिंह ठाकुर के द्वारा तत्काल पुलिस अनुविभागीय अधिकारी एस.एस.शर्मा के नेतृत्व में थाना प्रभारी राजेश मिश्रा के साथ जवानों की एक टीम गठित कर नाबालिगों के परिवारजन से मिलने-जुलने वाले युवकों के बारे में पता लगाया गया।

पतासाजी के दौरान ज्ञात हुआ कि स्कूल की ड्रेस पहने 4 लड़कियां सिमगा में अपनी पायल और नाक की नथली को बेचकर रायपुर गई हैं। तत्काल गठित टीम को रायपुर रवाना कर रेल्वे स्टेशन रायपुर, बस स्टैंड, सराय, रैन बसेरा आदि में रात भर पतासाजी की गई, किन्तु पता नहीं लगा। जिस मोहल्ले की नाबालिगथीं, उसी मोहल्ले के कुछ लड़कों के बारे में भी जानकारी जुटाई गई। कुछ लड़कों की संलिप्तता के प्रमाण भी मिले। इनसे पूछताछ के बाद रायपुर के एक घर से गुमशुदा चारों लड़कियों को बरामद कर लिया गया। 

 नाबालिगलड़कियों से  अनुविभागीय अधिकारी बेमेतरा  एस.एस.शर्मा, डीएसपी सारिका वैध, महिला सेल प्रभारी नीता राजपूत, महिला प्र.आर. पूनम ठाकुर ने पूछताछ की नाबालिक युवतियों को विश्वास में लेकर महिला सेल बेमेतरा द्वारा पूछताछ करने पर जो तथ्य निकलकर आया। किशोरियों ने बताया कि उन्हें फिल्मी स्टाईल में आरोपियों ने सब्जबाग दिखाकर तथा बहला फुसलाकर घर से बाहर ले गए और शोषण किया।

लड़कियों के परिवारजनों ने बेमेतरा पुलिस को तत्काल संज्ञान लेकर तत्परतापूर्वक टीम बनाकर विभिन्न स्थानों पर दबिश देकर युवतियों को बरामद करने के लिए बेमेतरा पुलिस को साधुवाद दिया। बेमेतरा पुलिस अधीक्षक प्रशांत सिंह ठाकुर व चारों नाबालिगको ढूंढने वाली टीम को पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज, दुर्ग के द्वारा 5-5 हजार रूपये की नगद राशि की ईनाम देने की घोषणा की है।

 


Previous1234Next