छत्तीसगढ़ » बस्तर

Previous123456789...110111Next
18-Oct-2021 10:30 PM (20)

जगदलपुर, 18 अक्टूबर । आम आदमी पार्टी, बस्तर जिले की महिला इकाई द्वारा मुख्यमंत्री के बस्तर प्रवास के दौरान उन्हें महिलाओं की समस्या को लेकर ज्ञापन सौंपने की तैयारी की गई, लेकिन सीएम से सुरक्षा व व्यवस्था के कारण पार्टी कार्यकर्ता नहीं मिल पाए। जिस पर मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा गया।

 

पार्टी की महिला इकाई की जिला अध्यक्ष आरती पटनायक ने बताया कि 75 दिनों तक चलने वाली बस्तर दशहरा की कीर्ति विश्व भर में सुप्रसिद्ध है। यहां बाहरी पर्यटकों सहित भारी मात्रा में बस्तर के मूल निवासी ग्रामीणों की संख्या होती है। बस्तर के ये मूल निवासी महिलाओं व बच्चियों सहित सपरिवार बस्तर दशहरा पर्व में कई दिनों के लिए शामिल होने आते हैं।

जिला मुख्यालय के विभिन्न क्षेत्रों में लगभग 10 सुलभ शौचालय संचालित हैं, जिनमें केवल 2 के अतिरिक्त बाकी मूल दशहरा स्थल से काफ़ी दूर हैं। विदेशी व अन्य जिलों से आये पर्यटक तो सरकारी या निज़ी सुविधाओं के अनुसार ठहरने व अन्य व्यवस्था करते हैं। बस्तर के मूल निवासी जनता जो अपने साथ महिलाओं व बच्चियों को लेकर बस्तर दशहरा में आते हैं, शौच या प्रसाधन के लिए उन्हें भारी दिक्क़त आती हैं।

यही नहीं सामान्य दिनों में भी जगदलपुर शहर सहित बस्तर के किसी भी ब्लॉक मुख्यालय में बाज़ार, अस्पताल या इस तरह के सार्वजनिक स्थानों पर पृथक महिला प्रसाधन के ना होने के कारण बस्तर के महिलाओं व बेटियों को काफ़ी दिक्कतों का समाना करना पड़ता है।

आम आदमी पार्टी के महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष आरती पायनायक के नेतृत्व में बस्तर की समस्त महिलाओं की की इस  समस्या को देखते हुये मांग की गई है कि बस्तर के प्रत्येक विकास खंड व नगर के प्रमुख सार्वजनिक क्षेत्रों में पृथक महिला प्रसाधन केंद्रों का संचालन किया जावे। इन स्थानों पर सेनेटरी पेड वेंडिंग मशीन की स्थापना, गर्भ निरोधकों के प्रचार व उपलब्धता सहित महिला स्वास्थ्य संबंधित अन्य सुविधाओं का भी ध्यान दिया जावे।

महिला इकाई द्वारा उठाये मांग पर अपना समर्थन व्यक्त करते पार्टी की जिला अध्यक्ष तरुणा साबे बेदरकर ने निगम प्रशासन पर हमला करते कहा कि यह शहर के महिलाओं के लिए बडे दुर्भाग्य की बात है कि महिला महापौर और महिला सभापति होते हुए भी महिलाओं के समस्याओं से इनका कोई सरोकार नहीं है। शहर के अंदर सार्वजनिक स्थलों में महिला की निजता का ध्यान रखते हुए साफ सुथरी और सर्व सुविधा युक्त शौचालय की व्यवस्था कराना निगम का कार्य है पर जगदलपुर के अंदर ऐसे कितने शौचालय है जो महिला की निजता को ध्यान में रख और उनकी स्वास्थ्य समस्याओं को ध्यान में रख कर बनाये गए हैं और निगम के महिला प्रतिनिधियो का इस ओर ध्यान नही दिया जाना क्या सही है।

ज्ञापन सौंपने वालों में महिला प्रकोष्ठ की जिला अध्यक्ष आरती पटनायक के साथ जिला अध्यक्ष तरुणा साबे बेदरकर, आस्था सिंह, चंचल तिवारी, ऊषा साहू, उर्मिला गुप्ता समेत अन्य महिला कार्यकर्ता मौजूद रहे।


18-Oct-2021 10:26 PM (20)

नए लगे हाईमास्ट लाइट की रोशनी में जनप्रतिनिधियों और अफसरों का  सद्भावना मैच

जगदलपुर. 18 अक्टूबर। ऐतिहासिक लालबाग मैदान के पहली बार हाईमास्ट लाइट से जगमग होने पर यहां जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के बीच वॉलीबाल का सद्भावना मैच खेला गया।

जनप्रतिनिधियों की टीम का नेतृत्व स्वयं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कर रहे थे। उनकी टीम में प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, सांसद दीपक बैज, संसदीय सचिव रेखचन्द जैन, चित्रकोट विधायक सहित अन्य जनप्रतिनिधि शामिल थे।

सांस्कृतिक एवं खेल गतिविधियों में गहरी रुचि रखने वाले मुख्यमंत्री श्री बघेल अपनी प्रतिभा से अनेक बार लोगों को अचंभित कर चुके हैं। उन्होंने रविवार को भी दिन भर के लगातार थकाऊ कार्यक्रमों के बीच वॉलीबाल कोर्ट में अपनी ऊर्जा और इस खेल में दक्षता की झलक दिखाई।

जगदलपुर में रात्रिकालीन खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए जगदलपुर के ऐतिहासिक लालबाग मैदान को 8 हाईमास्ट लाइटों से रोशन किया गया है। प्रत्येक खम्बों में 350-350 वॉट के 20-20 बल्बों से पूरा ऐतिहासिक मैदान जगमग हो चुका है।


18-Oct-2021 10:25 PM (19)

जगदलपुर, 18 अक्टूबर। तीन साल के शासन में भूपेश सरकार ने तोंगपाल, गादीरास, गंगालूर, कुटरू जैसे सुदूर अंचल के बड़े ग्राम को तहसील बनाया, जिससे जाति और निवास प्रमाण पत्र जैसे जरूरी काम के लिए भटकने वाले ग्रामीणों को राहत मिली। बस्तर के कद्दावर नेता रहे बलीराम कश्यप के गृह क्षेत्र भानपुरी को अभी तक तहसील नहीं बनाया गया है, जबकि उनके पुत्र सांसद और मंत्री रहे। वहीं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एर्राबोर, सोना कुकानार, तालनार, केरलापाल, मरईगुड़ा जैसे दुरस्थ अंचल के जगह को सोसायटी और धान खरीदी केंद्र बनाया, जिससे किसानों और ग्रामीणों को काफी हद तक राहत मिली। बस्तर प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने जारी बयान में यह बात कही।

उन्होंने कहा कि रमन सरकार के 15 साल और मोदी सरकार के 7 साल में बस्तर को कुछ नहीं मिला। बस्तर संभाग में 12 ब्लाक बनाए जाने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा गया है, जिस पर अमल नहीं हो रहा है। वहीं छत्तीसगढ़ के अन्य जिलों से भी कई जगह ब्लाक बनने हैं लेकिन केंद्र सरकार से किसी तरह की अनुमति नहीं मिल रही है। हर बात पर हल्ला करने और आरोप लगाने वाले भाजपाईयों को केंद्र सरकार से गुजारिश करनी चाहिए।

श्री लखमा ने कहा कि यूपीए सरकार के समय हर जिले को 30 करोड़ रूपये बीआरजीएफ में मिलता था इससे ग्रामीण विकास के काम होते थे जिसे मोदी सरकार ने बंद कर दिया। रमन सरकार के समय सुकमा, बीजापुर, नारायणपुर और दंतेवाड़ा जिले में अनेक स्कूल, आश्रम बंद हो गए जिसे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल से हमनें शुरू कराया है। जिससे बच्चों की पढ़ाई अब होने लगी है।

श्री लखमा ने कहा कि रमन सरकार के समय बस्तर विकास प्राधिकरण का अध्यक्ष मुख्यमंत्री होता था। बस्तर और सरगुजा आदिवासी बेल्ट है जहां सर्वाधिक आदिवासी रहते हैं और वहां सांसद, विधायक भी अधिक संख्या में चुनाव जीत कर आते हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सबसे पहले बस्तर विकास प्राधिकरण का अध्यक्ष लखेश्वर बघेल को और उपाध्यक्ष संतराम नेताम और विक्रम शाह मंडावी को बनाया है। हमने सीएम का आभार माना। सीएम ने कहा कि आदिवासी अंचल में विकास की बागडोर आदिवासी विधायकों के हाथ में होने से ज्यादा तेजी से विकास हो सकेगा।

उन्होंने कहा कि इंद्रावती विकास प्राधिकरण के लिए मुख्यमंत्री ने पहल की और जल्द ही सारी प्रक्रिया पूरी हो जाएगी जिससे बस्तर को काफी लाभ मिलेगा।


18-Oct-2021 10:24 PM (18)

गोल बाजार के व्यवसायियों से की चर्चा, मालिकाना हक के लिए दुकानों की रजिस्ट्री करवाने का दिया सुझाव

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
जगदलपुर, 18 अक्टूबर।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को जगदलपुर के गोल बाजार में बनने वाले नए व्यावसायिक परिसर का भूमिपूजन किया। शहर के हृदय स्थल दंतेश्वरी मंदिर के नजदीक 37 करोड़ रुपए की लागत से इस सर्वसुविधायुक्त परिसर का निर्माण किया जा रहा है।  मुख्यमंत्री श्री बघेल ने लोक निर्माण विभाग द्वारा नौ करोड़ 16 लाख रुपए की लागत से किए जाने वाले इसके पहले चरण के कार्य के लिए भूमिपूजन किया। उन्होंने यहां राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की नवनिर्मित प्रतिमा का अनावरण भी किया।

मुख्यमंत्री ने भूमिपूजन स्थल पर गोल बाजार के व्यवसाईयों से नए बनने वाले व्यावसायिक परिसर के संबंध में चर्चा की। उन्होंने बस्तर संभाग के आयुक्त और जिला कलेक्टर को परिसर निर्माण से प्रभावित दुकानदारों की सूची तैयार करने कहा। उन्होंने गोल बाजार में पसरा लगाकर व्यवसाय करने वालों की भी सूची तैयार करने के निर्देश दिए जिससे कि उन्हें भी नए परिसर से लाभान्वित किया जा सके। मुख्यमंत्री ने यहां लोक निर्माण विभाग की दुकानों को जगदलपुर नगर निगम को स्थानांतरित करने कहा। इससे व्यापारियों को नए परिसर में दुकानों के आबंटन में सहूलियत होगी।

श्री बघेल ने गोल बाजार के व्यवसाईयों को उन्हें आबंटित की जाने वाली दुकानों की रजिस्ट्री कराने का सुझाव दिया। इससे दुकानदारों को उनकी दुकानों का मालिकाना हक मिल सकेगा। उन्होंने रजिस्ट्री के लिए बैंक से व्यवसायियों को ऋण दिलाने के लिए जिला प्रशासन को पहल करने के भी निर्देश दिए।

उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री कवासी लखमा, सांसद दीपक बैज और श्रीमती फूलोदेवी नेताम, संसदीय सचिव रेखचंद जैन, विधायक मोहन मरकाम, क्रेडा के अध्यक्ष मिथिलेश स्वर्णकार और जगदलपुर नगर निगम की महापौर सफीरा साहू सहित अनेक जनप्रतिनिधि भी भूमिपूजन कार्यक्रम में मौजूद थे।
 


18-Oct-2021 10:20 PM (19)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
जगदलपुर, 18 अक्टूबर।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को जगदलपुर में दलपत सागर के निकट बनाये गए कलागुड़ी (बस्तर आर्ट गैलरी) का लोकार्पण किया।
इस अवसर पर कलेक्टर रजत बंसल ने बस्तर की हस्तशिल्प कलाओं के निर्माण की जीवन्त प्रदर्शन के लिए निर्मित इस परिसर के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि ब्रिटिश शासन काल के दौरान इस भवन अत्यंत जर्जर स्थिति में पहुंच चुका था। वर्तमान में इसका उपयोग लोक निर्माण विभाग द्वारा अभियांत्रिकी कार्यशाला के रूप में किया जा रहा था। बस्तर की पारंपरिक हस्तशिल्प कलाओं से सैलानियों के साथ युवा पीढ़ी को परिचित कराने के लिए इस परिसर में स्थित जर्जर भवनों को पुनर्निर्माण किया गया।

मुख्यमंत्री ने यहाँ बनाये गए आर्ट गैलरी का भ्रमण कर यहाँ लगाए हस्तशिल्पों का अवलोकन किया। यहां 30 वर्षों से सूखी लकडिय़ों के माध्यम कला का प्रदर्शन कर रहे डाइट के सहायक प्राध्यापक सुभाष श्रीवास्तव के ड्रिफआर्ट और कोलाज पर कागज से निर्मित कलाकृतियों के साथ ही बेलमेटल से निर्मित कलाकृतियों का प्रदर्शन किया गया था। इसके साथ ही यहां एक अन्य कक्ष में लक्ष्मी जगार और धनकुल जगार के अवसर पर भित्तियों में बनाई जाने वाली जगार चित्र की कार्यशाला का भी अवलोकन भी किया। यहां कोंडागांव के जगार चित्रकार खेम वैष्णव द्वारा स्कूली बच्चों को जगार चित्रकला के सामाजिक, सांस्कृतिक और ऐतिहासिक महत्व के संबंध में जानकारी देते हुए बच्चों को चित्रकला का प्रशिक्षण दिया गया। नए बालचित्रकारों के पहले प्रयासों में बनाई गई खूबसूरत चित्रकारी की मुख्यमंत्री ने सराहना की।

श्री बघेल ने इसके साथ ही यहाँ लोक कलाकारों द्वारा लौह शिल्पकारी, मृदा शिल्पकारी, बेलमेटल की शिल्पकारी और सीसल शिल्पकारी का जीवंत प्रदर्शन देखा। मुख्यमंत्री ने इसके साथ ही यहां कैफेटेरिया में बस्तर कॉफी का स्वाद भी लिया।

बस्तर जिला प्रशासन और फ्लिपकार्ट के बीच एमओयू
इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मौजूदगी में बस्तर शिल्पकलाओं के विक्रय हेतु बस्तर जिले प्रशासन और फ्लिपकार्ट के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर किया गया।
इस अवसर पर प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, सांसद दीपक बैज, संसदीय सचिव  रेखचन्द जैन, कोंडागाँव विधायक  मोहन मरकाम, चित्रकोट विधायक  राजमन बेंजाम, महापौर श्रीमती सफीरा साहू, नगर निगम अध्यक्ष श्रीमती कविता साहू, कमिश्नर जी आर चुरेंद्र, पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी, मुख्य वन संरक्षक मोहम्मद शाहिद, कलेक्टर रजत बंसल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेंद्र मीणा सहित जनप्रतिनिधिगण और अधिकारीगण उपस्थित थे।
 


18-Oct-2021 9:57 PM (15)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

जगदलपुर 17 अक्टूबर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को जगदलपुर शहर के ऐतिहासिक लालबाग मैदान में 87 लाख 37 हजार रूपये की लागत से  स्थापित की गई हाईमास्ट लाइट का लोकार्पण किया।

इस दौरान बस्तर जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, सांसद दीपक बैज एवं राज्यसभा सांसद फूलोदेवी नेताम, संसदीय सचिव रेखचन्द जैन,  विधायक कोंडागाँव मोहन मरकाम, हस्त शिल्प बोर्ड के अध्यक्ष चंदन कश्यप, विधायक बीजापुर विधायक विक्रम मण्डावी, विधायक दंतेवाड़ा देवती कर्मा, विधायक चित्रकोट राजमन बेंजाम, महापौर सफीरा साहू, क्रेडा के अध्यक्ष मिथलेश स्वर्णकार, संभाग आयुक्त जीआर चुरेन्द्र, आईजी सुंदरराज पी., कलेक्टर  रजत बंसल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेंद्र मीणा सहित जनप्रतिनिधि एवं अधिकारीगण उपस्थित थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री और विधायकों ने भी बॉलीबाल खेल में हाथ आज़माया।


18-Oct-2021 9:29 PM (16)

जगदलपुर, 18  अक्टूबर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज अपने बस्तर प्रवास के दूसरे दिन बकावंड विकासखंड के गिरोला स्थित माता हिंगलाजिन मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेश की सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की। मुख्यमंत्री श्री बघेल बस्तर दशहरा में शामिल होने दो दिवसीय प्रवास पर बस्तर आए हुए हैं।

उद्योग मंत्री कवासी लखमा, सांसदद्वय दीपक बैज और श्रीमती फूलोदेवी नेताम, बस्तर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, संसदीय सचिव रेखचन्द जैन, हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष चंदन कश्यप, विधायक राजमन बेंजाम तथा क्रेडा के अध्यक्ष  मिथलेश स्वर्णकार भी इस दौरान मौजूद थे।


18-Oct-2021 9:25 PM (14)

जगदलपुर, 18 अक्टूबर। गिरोला स्थित मां हिंगलाजिन के दर्शन करने पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का भव्य स्वागत किया गया। हेलीकॉप्टर से मुख्यमंत्री श्री बघेल के साथ प्रभारी मंत्री कवासी लखमा और सांसद दीपक बैज भी साथ पहुंचे। गिरोला में बनाये गए अस्थायी हेलीपेड़ में मुख्यमंत्री का स्वागत बस्तर क्षेत्र विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, नारायणपुर विधायक  चन्दन कश्यप, चित्रकोट विधायक  राजमन बेंजाम, क्रेडा के अध्यक्ष  मिथिलेश स्वर्णकार, कमिश्नर जीआर चुरेन्द्र, पुलिस महानिरीक्षक  सुंदरराज पी, मुख्य वन संरक्षक  मोहम्मद शाहिद सहित जनप्रतिनिधियों द्वारा किया गया। इस अवसर पर स्थानीय लोक नर्तकों द्वारा पारम्परिक लोक नृत्यों के साथ किया गया। महिलाओं ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री का स्वागत आरती से किया।


18-Oct-2021 9:21 PM (19)

जगदलपुर 18 अक्टूबर। जिला प्रशासन द्वारा स्कूली बच्चों को अध्ययन में सहायता देने के लिए एलेक्सा का वितरण स्कूलों में किया गया है। आर्दश माड़पाल स्कूल में आयोजित गणित-विज्ञान मॉडल प्रदर्शनी के अवलोकन के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल विकासखंड लोहण्डीगुड़ा के बच्चों द्वारा लगाए गए एलेक्सा के स्टाल पर पहुंचे।

एक बच्चे ने इस दौरान एलेक्सा से पूछा कि भूपेश बघेल कौन है? एलेक्सा ने बताया कि भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ के तीसरे और वर्तमान मुख्यमंत्री हैं। एलेक्सा ने श्री बघेल के राजनीतिक सफर के बारे में संक्षिप्त जानकारी दी। यह सुनकर मुख्यमंत्री भी मुस्करा उठे।

स्कूल की शिक्षिका ने बताया कि बच्चों को एलेक्सा से पढ़ाई का यह तरीका बहुत पसंद है। नरवा, गरूवा, घुरवा बाड़ी के मॉडल के अवलोकन के दौरान मुख्यमंत्री ने स्कूली छात्राओं को बताया कि अब गोबर से बिजली बनाने का काम भी शुरू किया गया है। गोबर से गोबर खाद, वर्मी कम्पोस्ट, सुपर कम्पोस्ट, गमले और दिये भी गौठानों में बनाए जा रहे हैं।


18-Oct-2021 9:20 PM (17)

जगदलपुर 18 अक्टूबर। बस्तर जिले के अग्रणी बैंक भारतीय स्टेट बैंक जगदलपुर द्वारा 21 अक्टूबर को क्षेत्रीय व्यवसाय कार्यालय धरमपुरा रोड जगदलपुर में सुबह 10 बजे से मेगा क्रेडिट कैंप का आयोजन किया जाएगा। लीड बैंक मैनेजर फूलसिंह मरकाम ने बताया कि केंद्र सरकार के वित्तीय सेवा विभाग एवं राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति के निर्देशानुसार आयोजित इस मेगा क्रेडिट कैम्प में सभी शासकीय योजनाओं के तहत ऋण वितरण की विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि इस मेगा क्रेडिट कैम्प में राज्य सरकार द्वारा प्रायोजित योजनाओं के अन्तर्गत प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, राष्ट्रीय आजीविका मिशन, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन, मछली पालन, डेयरी उद्यमिता किसान योजना ऋण आदि की जानकारी दी जाएगी। इसके अलावा स्टेट बैंक द्वारा आरसेटी द्वारा चलाए जाने वाले प्रशिक्षण कार्यक्रमों की भी जानकारी दी जाएगी। इसके साथ ही बैंकों के व्यक्तिगत ऋण, गृह ऋण, वाहन ऋण, प्रापर्टी लोन, मध्यम श्रेणी के उद्यम, से संबंधित उद्यमिता की जानकारी भी दी जाएगी।


18-Oct-2021 9:18 PM (17)

जगदलपुर, 18 अक्टूबर। केन्द्रीय जेल जगदलपुर में महारानी अस्पताल जगदलपुर के चिकित्सकों के द्वारा गत दिनों एक दिवसीय वृहद स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। इस स्वास्थ्य शिविर में विशेषज्ञों चिकित्सकों के द्वारा 65 महिला एवं 163 पुरुष बंदियों का जांच एवं उपचार किया गया। इस दौरान डॉ. आर. बी. पी गुप्ता, डॉ. मरियम वल्सला, डॉ. अक्षय पाराशर, डॉ सरिता मौर्य,  डॉ. ब्लेसी सेमुएल,  डॉ. दीपेन्द्र भदौरिया ने अपनी बहुमूल्य सेवाएं दी। इस अवसर पर जेल चिकित्सक डॉ. ऋषभ साव एवं अधिकारी-कर्मचारीगण उपस्थित थे।


18-Oct-2021 9:17 PM (14)

जगदलपुर, 18 अक्टूबर। शहीद महेंद्र कर्मा विश्वविद्यालय का पोर्टल बंद होने के बाद तकनीकी कारणों से प्रवेश से वंचित विद्यार्थियों की माँग को गंभीरता से लेते विधायक, जगदलपुर रेखचंद जैन द्वारा कुलपति को पत्र लिखकर पोर्टल वापस खुलवाया गया।

 
ज्ञात हो कि शहीद महेन्द्र कर्मा विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालयों के विभिन्न संकायों में प्रवेश की तिथि खत्म हो चुकी थी जिस वजह से कई विद्यार्थी ऐसे हैं थे, जो नेटवर्क और तकनीकी बाधाओं के चलते प्रवेश नहीं ले पाये थे। शहीद महेन्द्र कर्मा विश्वविद्यालय में विद्यार्थियों को विभिन्न संकायों में प्रवेश के लिए 30 सितम्बर अंतिम तिथि घोषित की गयी थी, उसके पश्चात सीटें रिक्त रहने की स्थिति में कुलपति की अनुमति से प्रवेश की अंतिम तिथि बढ़ाकर 09 अक्टूबर तक किया गया था, लेकिन इसके बाद भी बीजापुर, सुकमा व नारायणपुर जैसे दूरस्थ जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले अधिकांश विद्यार्थी प्रवेश से वंचित रह गये थे। ऐसे कई विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों ने प्रवेश के लिए तिथि बढ़ाये जाने की मांग को लेकर विधायक रेखचंद जैन से बीते दिन मुलाक़ात की थी।

विद्यार्थियों की मांग पर विधायक द्वारा त्वरित रूप से टेलीफोन पर कुलपति से चर्चा कर पत्राचार से इस समस्या की ओर ध्यान आकर्षित करवाया गया।  विधायक ने पत्र में यह उल्लेख भी किया कि दूरस्थ गांवों के उन विद्यार्थियों को जो अंदरूनी क्षेत्रों में नेटवर्क या सर्वर डाउन जैसी समस्याओं की वजह से प्रवेश नहीं ले पाए हैं उनके लिये एक अंतिम अवसर और दिया जाये। जिस पर विवि प्रबंधन की ओर से प्रवेश हेतु अंतिम तिथि बढ़ाते हुए पोर्टल वापस खोलने का निर्णय लिया गया है। इस निर्णय से प्रसन्न विद्यार्थियों में विधायक का आभार माना है।


18-Oct-2021 9:17 PM (15)

जगदलपुर, 18 अक्टूबर। रविवार को कलागुड़ी के लोकार्पण के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लौह शिल्पकारी में हाथ आजमाया। यहां बस्तर की विभिन्न पारम्परिक लोक शिल्पकलाओं के जीवन्त प्रदर्शन को देखकर मुख्यमंत्री भी शिल्पकारी में हाथ आजमाने से स्वयं को नहीं रोक सके। उन्होंने यहां नगरनार के लौह शिल्पकार द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी में तैयार किये जा रहे शिल्प को देखकर मुख्यमंत्री ने भी हाथ आजमाया। इसके साथ ही जगदलपुर के बेलमेटल शिल्पकार और परचनपाल की सीसल शिल्पकारों के हुनर को भी देखकर प्रशंसा की । मुख्यमंत्री ने कहा कि इन शिल्पकलाओं के जीवंत प्रदर्शन से लोगों को शिल्पकारों के हुनर को समझने के साथ ही इन्हें तैयार करने में लगने वाले परिश्रम का भी ज्ञान होगा।


18-Oct-2021 9:16 PM (15)

जगदलपुर, 18 अक्टूबर।  बंगाली संस्था, मैत्री संघ (जगदलपुर) द्वारा विजयदशमी पर सम्मान समारोह आयोजित किया गया। संसदीय सचिव एवं विधायक रेखचंद जैन, महापौर साफिरा साहू, नगर पालिक निगम अध्यक्ष  कविता साहू एवं नेता प्रतिपक्ष संजय पांडे की उपस्थिति में संस्था अध्यक्ष दीपक घोष, उपाध्यक्ष अनुपमा साह एवं महासचिव हेमंत सिंह के हाथों 40 वर्षों से निरंतर  सांस्कृतिक एवं सामाजिक क्षेत्र में सेवा देने के लिए सुबीर नंदी  का सम्मान शाल एवं स्मृति चिन्ह देकर किया गया।

सम्मानित होने के पश्चात सुबीर नंदी ने उपस्थित दर्शकों के सामने अपने विचार रखे और उन्होंने कहा कि हमारी दो मां है एक जो हमें जन्म देती है और दूसरी हमारी धरती माता, भारत माता को हमें अपने मां का सम्मान करना चाहिए। जो मां का सम्मान करेगा ,वह जिंदगी में सफल होगा। इसी तारतम्य में उन्होंने कहा कि हर किसी को अपनी मातृभाषा पर दखल होना चाहिए और अपने परिवार में अपनी मातृभाषा का ही उपयोग करना चाहिए। और घर से बाहर जब निकले तो राष्ट्रभाषा का प्रयोग करें, इससे अपनी संस्कृति एवं अपने देश की उन्नति होगी।


18-Oct-2021 9:15 PM (12)

जगदलपुर, 18 अक्टूबर। देर रात माँ दुर्गा चौक में विराजमान माता दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन किया गया। भजन की धुन में युवाओं ने झूमते हुए एवं महिलाओं ने गरबा करते हुए माता रानी को विदाई दी। पुरूष, महिलाएं, बच्चे, बुजुर्ग सभी माता रानी के जय का जयकारा लगाते रहे।

माँ दुर्गा चौक से विसर्जन जुलूस निकला, जो शहर के मुख्य मार्गों से गुजरते हुए स्थानीय पुराना पुल में माता की प्रतिमा का विसर्जन किया गया। माँ दुर्गा चौक समिति शहर की सबसे पुरानी समिति है,यहाँ पिछले 40 वर्ष से दुर्गा पूजा का आयोजन किया जाता आ रहा है, इस वर्ष कोरोनाकाल के चलते छोटे रूप में पूरे पूजा विधान ने साथ आयोजन किया गया। विसर्जन में दुर्गा चौक के निवासी एवं शहर के लोग भी शामिल हुए।


18-Oct-2021 9:10 PM (13)

बकावंड तहसील मुख्यालय में महीने में 15 दिन लगेगा एसडीएम कार्यालय, स्टेडियम भी बनाया जाएगा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

जगदलपुर 18 अक्टूबर। विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरा में शामिल होने के लिए जगदलपुर पहुंचे मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल आज अपने प्रवास के दूसरे दिन बकावण्ड विकासखण्ड के गिरोला में पुजारी, सिरहा, गुनिया व समाज प्रमुखों से मुलाकात कर चर्चा की। मुख्यमंत्री के गिरोला आगमन पर वहां के पुजारी, सिरहा, गुनिया व समाज प्रमुखों ने उनका आत्मीय स्वागत किया।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने माता हिंगलाजिन मंदिर परिसर में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सडक़, स्कूल और भवन बनाना तो सभी सरकारों का काम है। लेकिन हमारी सरकार का उद्देश्य सडक़, स्कूल और भवन बनाने के साथ-साथ व्यक्ति का विकास करना है। हमने सुपोषण और मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के साथ ही यहां के बन्द पड़े स्कूलों को दोबारा खोलने की शुरुआत की है। गरीब से गरीब लोगों को अनाज देने की व्यवस्था हमने की है। इसके साथ ही धान खरीदी, वनोपज खरीदी, गोबर खरीदी एवं तेंदूपत्ता खरीदी के माध्यम से लोगों की आर्थिक स्थिति लगातार सुधारी जा रही है। राज्य शासन राजीव गांधी भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत भूमिहीनों को सालाना 6 हजार रुपये भी देने जा रही है। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में बकावंड तहसील मुख्यालय में महीने में 15 दिन एसडीएम कार्यालय संचालित करने और स्टेडियम निर्माण की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बस्तर में आदिवासियों की जमीन का अधिग्रहण किए बिना उद्योग स्थापित किए जाएंगे। इसके लिए किसी आदिवासी को उसकी जमीन से नहीं हटाया जाएगा। कारखाने और फैक्ट्रीज शासकीय भूमि में लगाए जाएंगे। इनमें 90 प्रतिशत रोजगार स्थानीय लोगों को दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि देश-दुनिया में अब बस्तर की नई पहचान बन रही है। सुकमा में इमली से इमली कैंडी बन रही है, दंतेवाड़ा के डेनेक्स ब्रांड के कपड़े दूसरे राज्यों तक पहुँच रहे हैं। मुख्यमंत्री ने समाज प्रमुखों से चर्चा में कहा कि बस्तर के विकास के लिए राशि की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी।

कार्यक्रम में उद्योग एवं वाणिज्य तथा बस्तर जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, सांसदद्वय दीपक बैज और फूलोदेवी नेताम, बस्तर क्षेत्र विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष चन्दन कश्यप, राजमन बेंजाम, क्रेडा के अध्यक्ष  मिथिलेश स्वर्णकार, कमिश्नर  जी.आर. चुरेन्द्र, पुलिस महानिरीक्षक  सुंदरराज पी., मुख्य वन संरक्षक  मोहम्मद शाहिद,  रजत बंसल और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक  जितेंद्र मीणा सहित अनेक जनप्रतिनिधि एवं हिंगलाजिन मंदिर समिति के पदाधिकारी व सदस्य उपस्थित थे।


18-Oct-2021 9:09 PM (11)

 प्रेस क्लब के नये भवन निर्माण की दी मंजूरी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

जगदलपुर 18 अक्टूबर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पत्रकार संघ सह प्रेस क्लब बस्तर संभाग के नये भवन निर्माण के लिए मंजूरी प्रदान की है। मुख्यमंत्री आज अपने दो दिवसीय बस्तर प्रवास के दौरान जगदलपुर के नयापारा स्थित पत्रकार भवन पहुंचे थे, जहां उन्होंने उपस्थित पत्रकारों के साथ चर्चा की।

 पत्रकारों द्वारा इस अवसर प्रेस क्लब के नये भवन की मांग की गई थी। मुख्यमंत्री से चर्चा के दौरान पत्रकारों द्वारा प्रेस क्लब के नये भवन निर्माण हेतु जमीन का पट्टा देने तथा पत्रकारों को आवास की सुविधा उपलब्ध कराने का आग्रह भी किया गया। मुख्यमंत्री ने उनकी इन समस्याओं के समाधान के लिए उचित पहल का आश्वासन दिया। इस दौरान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट मीडिया एवं वेब पोर्टल के अनेक वरिष्ठ पत्रकार मौजूद थे।


18-Oct-2021 9:07 PM (13)

 स्कूल में उपलब्ध सुविधाओं का उपयोग कर ज्ञानार्जन करने की दी सीख

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

जगदलपुर, 18 अक्टूबर। बस्तर के ग्रामीण अंचल के माड़पाल शासकीय स्कूल के बच्चे अपने स्कूल की प्रयोगशाला में थ्रीडी प्रिंटर का उपयोग कर रहे हैं, ड्रोन का मॉडल तैयार कर रहे हैं, रसायन विज्ञान की प्रयोगशाला में फिटकरी बनाने जैसे कई प्रयोग कर दक्षता के साथ कर रहे हैं। साथ ही स्मार्ट क्लास में अत्याधुनिक तरीके से ज्ञानार्जन भी कर रहे हैं। शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय माड़पाल की पहचान आज बस्तर जिले के सर्व सुविधायुक्त उत्कृष्ट शिक्षण संस्थान के रूप में है। इस स्कूल के विषय में सुनकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने दो दिवसीय बस्तर प्रवास के दौरान आज विकासखंड जगदलपुर के ग्राम माड़पाल के इस स्कूल को देखने पहुंचे। उन्होंने इस दौरान इस स्कूल में 68 लाख रूपए की लागत से कराए गए जीर्णोद्धार कार्य तथा 31 लाख रूपए की लागत से निर्मित अतिरिक्त कक्ष का लोकार्पण किया।

ग्रामीण इलाकों के सरकारी स्कूलों में बच्चों के लिए स्मार्ट क्लास, कंप्यूटर, आधुनिक उपकरणों से सुसज्जित लैब, ग्रंथालय की सुविधा दूर की कौड़ी लगती है, ऐसे समय में बस्तर के आदिवासी अंचल के बच्चों के लिए अध्ययन-अध्यापन की आधुनिक सुविधाओं से लैस माड़पाल गांव का शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय किसी वरदान से कम नहीं है। इस स्कूल के बच्चे विज्ञान के नए-नए प्रयोग स्कूल की प्रयोगशाला में कर रहे हैं। स्कूल के अवलोकन के दौरान उद्योग मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, लोकसभा सांसद दीपक बैज, राज्यसभा सांसद श्रीमती फुलोदेवी नेताम, संसदीय सचिव रेखचंद जैन, विधायक कोंडागांव  मोहन मरकाम, बीजापुर विधायक विक्रम मंडावी, विधायक चित्रकोट राजमन बेंजाम, सरपंच श्रीमती वंदना नाग सहित कलेक्टर रजत बंसल तथा वरिष्ट पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र मीणा भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने इस स्कूल के भ्रमण के दौरान वहां किए जा रहे नवाचारों, अध्ययन-अध्यापन की उत्कृष्ट सुविधाओं की जहां प्रशंसा की, वहीं स्कूल की विभिन्न कक्षाओं और प्रयोगशाला तथा लायब्रेरी में जा कर बच्चों से बातचीत कर उनकी पढ़ाई लिखाई के बारे में पूछा। उन्होंने स्कूल में उपलब्ध कराई गई सुविधाओं के लिए जिला प्रशासन, स्कूल शिक्षा विभाग और स्कूल के प्राचार्य और स्कूल के स्टाफ की सराहना की।

मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्राओं से बातचीत के दौरान उनसे स्कूल में उपलब्ध सुविधाओं का अधिक से अधिक उपयोग करने को कहा। मुख्यमंत्री ने स्कूल की कक्षा दसवीं पहुंचकर बच्चों से बातचीत की। उन्होंने बच्चों को संस्कृति की अवधारणा के बारे में समझाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी संस्कृति हमारी पहचान होती है। हमारी संस्कृति हमारे रीति-रिवाज, बोलचाल, भाषा, रहन-सहन, कला, परंपरा, विश्वास, आस्था, जीवन मूल्य, स्थापत्य कला की सम्मिलित अवधारणा है। हम अपनी संस्कृति का प्रतिनिधित्व करते हैं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ और बस्तर की अपनी सांस्कृतिक पहचान है। उन्होंने शहीद वीर नारायण सिंह के व्यक्तित्व और कृतित्व के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कक्षा दसवीं की छात्रा गायत्री सिंह ने मुख्यमंत्री के कहने पर ‘‘छत्तीसगढ़ परिवेश-कला, संस्कृति एवं व्यक्तित्व’’ शीर्षक का पाठ अपनी पुस्तक में से पढ़ कर सुनाया।

       मुख्यमंत्री श्री बघेल ने स्कूल की अटल टिंकरिंग लैब, भौतिक विज्ञान और रसायन विज्ञान की प्रयोगशाला, लाइब्रेरी और स्कूल की स्मार्ट क्लास में जाकर वहां उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी ली और बच्चों से उनके बारे में पूछा। बच्चों ने पूरा आत्मविश्वास के साथ मुख्यमंत्री के प्रश्नों का जवाब दिया। मुख्यमंत्री ने बच्चों को इसके लिए शाबासी दी। इस अवसर पर स्कूल के परिसर में गणित-विज्ञान विषय पर आधारित प्रदर्शनी भी लगाई गई थी। मुख्यमंत्री ने इस प्रदर्शनी में जाकर बच्चों द्वारा तैयार किए गए मॉडल देखें और बच्चों से उनके बारे में विस्तार से जानकारी ली। बच्चों ने गणित के भाग, गुणा की अवधारणा, दूरियों के मापन, नरवा, गरूवा, घुरवा और  बाड़ी, ड्रिप इरिगेशन, वॉटर रिसाइकलिंग, पर्यावरण संरक्षण जैसे विषियों पर उपयोगी मॉडल बनाए थे। कोरोना वायरस से बचाव के लिए ऑटो सेनेटाइजर, फॉग सेनेटाइजर के मॉडल भी तैयार किए थे। मुख्यमंत्री ने बच्चों की कल्पनाशीलता और रचनात्मकता की सराहना की। कई बच्चों ने कबाड़ से जुगाड़ पर आधारित मॉडल भी तैयार किए थे।

राज्य शासन की मंशानुरूप कलेक्टर रजत बंसल के दिशा-निर्देश एवं सतत मार्गदर्शन में तथा शिक्षा विभाग के विशेष प्रयासों से शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय माड़पाल आज बस्तर जिले का सर्व सुविधायुक्त उत्कृष्ट शिक्षण संस्थान बन गया है। स्वच्छ, सुन्दर एवं सुविधाजनक विद्यालय भवन का निर्माण तथा योग्य एवं प्रतिबद्ध शिक्षकों के साथ-साथ आधुनिक लैब व पुस्तकालय जैसे जरूरी संसाधनों तथा अनुकूल शैक्षणिक परिवेश की उपलब्धता के कारण आज यह विद्यालय गुणवत्ता एवं संसाधनों की उपलब्धता के मामले में नामचीन निजी विद्यालयों को टक्कर दे रहा है। इस विद्यालय में संसाधन एवं अध्ययन-अध्यापन की समुचित व्यवस्था के कारण ग्रामीण परिवेश के गरीब बच्चों को माड़पाल जैसे दूरस्थ ग्राम के विद्यालय में अनुकूल शैक्षणिक परिवेश में गुणवत्तायुक्त शिक्षा मिल रहा है।

वर्तमान में माड़पाल के इस उत्कृष्ट विद्यालय परिसर में पूर्व माध्यमिक शाला एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल संचालित है। जिसमें पूर्व माध्यमिक शाला में 123 एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल में 439 सहित कक्षा 6वीं से लेकर 12वीं तक कक्षाओं में कुल 562 बच्चे अध्ययनरत हैं। इस पूरे विद्यालय परिसर को बहुत ही सुन्दर एवं आकर्षक स्वरूप में सुसज्जित किया गया है। इस विद्यालय में कुल 16 कक्ष हैं, जिसमें जरूरी सुविधाओं से युक्त अध्ययन कक्ष के अलावा प्राचार्य, कार्यालय एवं स्टॉफ तथा भण्डार कक्ष भी बनाएं गए हैं। विद्यालय में वर्तमान समय एवं ज्ञान विज्ञान के अनुरूप आधुनिक जीव विज्ञान, भौतिक एवं रसायन प्रयोगशाला तथा अटल टिंकरिंग लैब भी स्थापना की गई है। इसके अलावा विद्यालय में सर्व सुविधायुक्त 1-1 स्मार्ट क्लास, ग्रंथालय एवं क्रीडा कक्ष का भी निर्माण किया गया है। विद्यालय में समुचित विद्युत व्यवस्था के अलावा कम्प्युटर, प्रिंटर, एलसीडी प्रोजेक्टर सेट, ओएचपी तथा पेयजल, बालक एवं बालिकाओं के लिए अलग-अलग शौचालय आदि सुविधा की समुचित व्यवस्था के अलावा फर्नीचर आदि भी प्रर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है।

इसके साथ ही विद्यालय परिसर में सांस्कृतिक मंच, हरे-भरे पेड़-पौधों से युक्त उद्यान, पोषण वाटिका तथा विद्यार्थियों के लिए सायकल स्टैण्ड का निर्माण किया गया है। इस तरह से इस विद्यालय को अध्ययन-अध्यापन की सभी सुविधाओं से युक्त किया गया है। माड़पाल विद्यालय के उत्कृष्ट व्यवस्था ने यह साबित कर दिया है कि हमारे गांवों में स्थित शासकीय विद्यालयों में भी समुचित संसाधन, योग्य शिक्षक तथा जरूरी सुविधा उपलब्ध कराकर इन स्कूलों को लेकर आदर्श विद्यालय बनाया जा सकता हैै। वास्तव में माड़पाल स्कूल में किए गए नवाचार ग्रामीण बच्चों को उनके गांव एवं आस-पास के स्कूलों में अनुकूल शैक्षणिक परिवेश एवं गुणवत्तायुक्त शिक्षा प्रदान करने का राज्य शासन एवं जिला प्रशासन का बहुत ही सराहनीय प्रयास है। स्कूल के स्मार्ट क्लास के निरीक्षण के दौरान छात्रा सावित्री माँझी ने मुख्यमंत्री श्री बघेल को स्कूल में सभी प्रकार की आधुनिक शिक्षा सुविधा देने के लिए आभार व्यक्त किया।


18-Oct-2021 9:06 PM (11)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

जगदलपुर, 18 अक्टूबर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दो दिवसीय बस्तर प्रवास पर पहुंचे हैं। मुख्यमंत्री ने राजीव भवन के नव निर्माण के लिए शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजीव शर्मा की तारीफ की, इसके अलावा जिस तरह से राजीव भवन को नये स्वरूप में सुसज्जित किया गया है, उसके लिए विधायक जगदलपुर एवं संसदीय सचिव रेखचंद जैन एवं छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय उर्जा विकास अभिकरण के अध्यक्ष मिथिलेश स्वर्णकार को बधाई दी। रेखचंद जैन एवं राजीव शर्मा ने गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की तर्ज पर गढ़बो नवा जगदलपुर की अवधारणा को साकार करने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार व्यक्त किया।


18-Oct-2021 9:05 PM (11)

जगदलपुर। भारतीय जनता युवा मोर्चा एवं महिला मोर्चा के संयुक्त तत्वावधान पर भाजपा जिला बस्तर द्वारा पत्थलगांव की घटना में मृत युवक की आत्मा  की शान्ति के लिए कैंडल यात्रा एवं शहीद स्मारक में दो मिनट का मौन धारण कर संवेदना व्यक्त की।

 कैंडल यात्रा दंतेश्वरी मंदिर से प्रारंभ होकर गुरुनानक चौक, गोल बाजार के रास्ते होते हुए शहीद स्मारक में संपन्न हुई। इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता मौजूद रहे।


Previous123456789...110111Next