छत्तीसगढ़ » बीजापुर

अवैध रेत उत्खनन करते पकड़ाए 3 ट्रैक्टर
04-Sep-2021 8:37 PM (112)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर,  4 सितंबर। जिले के भोपालपटनम में अवैध रूप से रेत उत्खनन करते तीन ट्रैक्टरों को पकड़ा गया है।

मिली जानकारी के मुताबिक बीते दिनों भोपालपटनम ब्लॉक के रामपुरम स्थित चिंतावागु नदी से अवैध रूप से रेत उत्खनन कर भोपालपटनम लाकर बेच रहे तीन ट्रैक्टरों को पुलिस ने पकड़ा है।

भोपालपटनम थाना प्रभारी विनोद एक्का ने बताया कि अवैध रेत उत्खनन करते पकड़ी गई गाडिय़ां स्थानीय व्यक्तियों की हैं। उन्होंने बताया कि इन्हें पूर्व में भी अवैध रेत उत्खनन न करने की हिदायत भी दी गई थी। बावजूद ये मनमानी तरीके से रेत का अवैध उत्खनन कर रहे थे।

टीआई एक्का ने बताया कि तिमेड़ में रेत का टेंडर भी हो चुका है और रेत डंप भी किया गया है। उन्होंने बताया कि ठेकेदार को स्थानीय लोगों को कम दर पर रेत देने के लिए भी कहा गया है। इधर अवैध रेत से भरी तीनों ट्रैक्टरों को पुलिस ने सीजकर थाने लाया है। पुलिस ने इसकी सूचना खनिज विभाग को दे दी है। अब आगे की कार्रवाई खनिज विभाग करेगी।

राज्य स्तरीय सॉफ्टबॉल में शामिल होने 40 खिलाड़ी रवाना
04-Sep-2021 8:33 PM (70)

बीजापुर, 4 सितंबर। राज्य स्तरीय सॉफ्टबॉल प्रतियोगिता के लिए बीजापुर स्पोर्ट्स एकेडमी से सॉफ्टबॉल की टीम रवाना हो गई है।

हेड कोच सोपान कर्नेवार ने बताया कि कवर्धा में 5 से 6 सितंबर को आयोजित होने वाली जूनियर और सब जूनियर राज्य स्तरीय सॉफ्टबॉल प्रतियोगिता मे शामिल होने स्पोर्ट्स एकेडमी बीजापुर के चालीस खिलाडिय़ों का दल आज रवाना हुआ है। लगातार कोरोना के कारण तालाबंदी का शिकार रहा स्पोर्ट्स एकेडमी को इस प्रतियोगिता में शामिल होने का मौका मिलने से खिलाडिय़ों में काफी उत्साह का संचार हुआ है। क्षेत्रीय विधायक व बविप्र उपाध्यक्ष विक्रम मंडावी व जिले के कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने खिलाडिय़ों का उत्साहवर्धन करते हुए जीत की शुभकामनाओं के साथ टीम को रवाना किया।

 आज श्रीराम काव्य पाठ राष्ट्रीय स्पर्धा

 कांकेर, 4 सितंबर। राष्ट्रीय कवि संगम कांकेर की ओर से ‘श्रीराम काव्य पाठ राष्ट्रीय प्रतियोगिता 2021’ का  5 सितंबर को आयोजन किया जा रहा है।  कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  शिशुपाल शोरी, विधायक विधानसभा क्षेत्र कांकेर, विशिष्ट अतिथि माननीय  हेमंत ध्रुव, अध्यक्ष, जिपं कांकेर, विशेष अतिथि हृदय राम शोरी, उपाध्यक्ष, तुलसी मानस प्रतिष्ठान छत्तीसगढ़ प्रांत एवं के. आर. गजबल्ला अध्यक्ष तुलसी मानस प्रतिष्ठान जिला कांकेर के आतिथ्य तथा एन. आर. साव, प्राध्यापक, भानुप्रतापदेव शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कांकेर की अध्यक्षता में पुराना कम्युनिटी हॉल कांकेर में दोपहर 12 बजे से प्रारंभ होगी।

काव्य पाठ प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को प्रांत स्तरीय प्रतियोगिता के लिए चयन किया जाएगा।

भाजपा पार्षद के पति सहित सात ने थामा हाथ
03-Sep-2021 9:17 PM (87)

विधायक विक्रम व जिलाध्यक्ष ने गमछा पहनाकर कराया पार्टी प्रवेश

बीजापुर, 3 सितंबर। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के प्रस्तावित बीजापुर दौरे से पहले कांग्रेस का कुनबा बढऩे लगा है। आज भाजपा पार्षद के पति सहित सात लोगों ने विधायक व जिलाध्यक्ष के समक्ष कांग्रेस का दामन थाम लिया।

 यहां जिला मुख्यालय स्थित विधायक निवास में भैरमगढ़ नगर पंचायत के पडवाल वार्ड-2 की भाजपा पार्षद मालती लेकाम के पति लच्छूराम लेकाम सहित भीमसेन नेगी, जयराम तामो, सुंदर नेगी, बीरबल नेगी, अनंतराम नेगी व समुधर नेगी ने कांग्रेस की रीति-नीति व क्षेत्रीय विधायक विक्रम मंडावी के कार्यों से प्रभावित होकर विधायक विक्रम व जिलाध्यक्ष लालू राठौर के समक्ष कांग्रेस का दामन थाम लिया।  उन्हें विधायक व जिलाध्यक्ष ने गमछा पहनाकर विधिवत कांग्रेस प्रवेश कराया। इस दौरान यहां मौजूद कांग्रेसियों ने उन्हें बधाई दी।

विज्ञान संकाय की स्नातकोत्तर कक्षाएं शुरू
03-Sep-2021 9:13 PM (55)

   छात्रों ने विधायक विक्रम का किया आभार व्यक्त   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 3 सितंबर। शुक्रवार को जिले के महाविद्यालयों में अध्ययनरत छात्रों ने बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं बीजापुर के विधायक विक्रम शाह मंडावी से मिलकर शासकीय महाविद्यालय बीजापुर में विज्ञान संकाय के स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम प्रारम्भ किए जाने पर उनका आभार व्यक्त किया है।

अब बीजापुर में ही प्राणी-शास्त्र, रसायन-शास्त्र, वनस्पति-शास्त्र  की स्नातकोत्तर कक्षाएं लगेंगी, वहीं स्नातक स्तर पर गणित, माइक्रोबायोलॉजी, भू-गर्भ विज्ञान, वानिकी, इतिहास, संस्कृत, समाज-शास्त्र, मानव विज्ञान, की भी कक्षाएं लगेंगी।

विदित हो कि विक्रम शाह मंडावी ने 27 जुलाई को छत्तीसगढ़ के उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल से मिलकर शहीद वेंकट राव महाविद्यालय में विज्ञान संकाय के स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों को प्रारम्भ किए जाने संबंधी पत्र लिखा था।

 शुक्रवार को महाविद्यालयीन छात्रों द्वारा विधायक से मिलकर उनका आभार व्यक्त किया। इस दौरान कांग्रेस पदाधिकारी भी मौजूद रहे।

बारिश, कई घरों में भरा पानी
02-Sep-2021 8:39 PM (104)

 दो मुहल्लों के दर्जनों मकान गिरने की कगार पर

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 2 सितंबर। यहां से करीब 50 किलोमीटर दूर फरसेगढ़  में बीते दिनों आफत की बारिश हुई। बस्ती के दो पाराओं के घरों में बारिश का पानी भर गया। इससे कई मकान गिरने की कगार पर आ गए हैं।

पिछले तीन दिनों से फरसेगढ़ क्षेत्र में हो रही तेज बारिश  के चलते व गांव में जल निकासी की व्यवस्था न होने से घरों मे पानी भर गया है। फरसेगढ़ के थाना पारा  निवासी सचिन  नाग ने बताया  कि तीन दिन लगातार  बारिश  से घरों  में पानी भर  गया है।  पहले  दिन हुई  बारिश के पानी को मोटर की मदद से बाहर  किया गया  था। लेकिन लगातार बारिश के कारण  फिर से पानी भर  गया।

सरपंच समैया उद्दे ने बताया कि यहां  सडक़ निर्माण का कार्य चल रहा है। जिसका निर्माण लोक निर्माण विभाग द्वारा किया जा रहा है। सडक़ किनारे नाली नहीं होने के कारण बारिश का पानी नहीं निकल पा रहा है। इसी वजह से बारिश का पानी लोगों के घरों  में जमा  हो रहा  है।

 फरसेगढ़ के थाना पारा और प्लाट पारा के दर्जनों घरों में पानी का जमाव हो गया है। ज्यादातर मकान मिट्टी के कच्चे मकान हैं, जिससे उनके धसकने का खतरा बना हुआ है। पारा के लोगों ने बताया कि अपनी परेशानी को सरपंच को बताने पर उन्हें निर्माण कार्य में लगे एजेंसी से बात  करने के लिए कहा गया।  ग्रामीणों का कहना है कि लंबे अरसे की मांग के बाद सडक़ निर्माण शुरू हुआ, पर नालियों का निर्माण न होने से दोनों मोहल्ले में जल जमाव की स्थिति बन गई है।

 इस संबंध में लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता डीआर साहू ने बताया कि  सडक़ निर्माण की प्लानिंग के दौरान ड्रेनेज का निर्माण का प्राकलन बनाया जाना था, किंतु वह नहीं बनाया गया है। जल जमाव की सूचना के बाद ठेकेदार से जल निकासी की वैकल्पिक व्यवस्था के लिए कहा गया है।

सांसद, प्रभारी मंत्री और क्रेडा चेयरमैन पहुंचे बीजापुर
02-Sep-2021 8:31 PM (78)

राहुल गांधी के संभावित दौरे को लेकर की बैठक

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 2 सितंबर। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के संभावित दौरे के मद्देनजर जिले के प्रभारी मंत्री, बस्तर सांसद व क्रेडा चेयरमैन ने बीजापुर पहुंचकर कार्यकर्ताओ की बैठक ली।

 सुकमा से यहां पहुंचे प्रदेश के आबकारी व जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, बस्तर सांसद दीपक बैज व क्रेडा चेयरमैन मिथलेश स्वर्णकार ने सर्किट हाऊस में स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मैराथन बैठक ली। करीब आधे घंटे तक चली इस बैठक में राहुल गांधी के संभावित प्रवास को लेकर गहन विचार विमर्श किया गया। बैठक के बाद मंत्री लखमा सांसद व क्रेडा चेयरमैन यहां से दंतेवाड़ा के लिए रवाना हो गए।

बताया जाता है कि कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के संभावित इसी माह बस्तर दौरे को लेकर मंत्री कवासी लखमा, सांसद दीपक बैज व क्रेडा चेयरमैन मिथलेश स्वर्णकार बस्तर क्षेत्र का मैराथन दौरा कर रहे हंै। दौरा खत्म कर होने के बाद वे रायपुर पहुंचकर सीएम भूपेश बघेल को फीडबैक देंगे। इसके बाद राहुल गांधी के कार्यक्रम की रूपरेखा तय की जाएगी। इस दौरान क्षेत्रीय विधायक विक्रम मंडावी, जिपं अध्यक्ष शंकर कुडियम, जिपं सदस्य व कृषक कल्याण परिषद के सदस्य बसंत राव ताटी सहित अन्य कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे।

विधायक विक्रम व कलेक्टर ने झंडी दिखाकर सुपोषण रथ को किया रवाना
02-Sep-2021 8:29 PM (75)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 2 सितंबर। जिला कार्यालय में विधायक एवं बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विक्रम  मंडावी एवं कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल ने राष्ट्रीय सुपोषण माह 2021 के सुपोषणरथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।  यह रथ एक सितम्बर से आगामी तीस सितंबर तक जिले के चारों ब्लॉक उसूर, भोपालपटनम, भैरमगढ़ और बीजापुर का दौरा करेगी।

महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी लूपेंद्र महिनाग ने बताया कि सुपोषणरथ एक सितम्बर से तीस सितम्बर तक जिले के चारों ब्लॉक में घूमेगी, यह रथ दैनिक जीवन में खान-पान में बदलाव के लिए हरी पत्तेदार सब्ज़ी, आयरन युक्त सब्जी पालक मुनगा के सेवन करने सहित मद्यपान से दूर रहने व व्यक्तिगत और सामूहिक स्वच्छता बनाए रखने का प्रचार प्रसार करेगी।

इस अवसर पर डीएफओ अशोक पटेल, जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालू राठौर, जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता ज्योति कुमार आदि मौजूद रहे।

भाजपा की बैठक में छाया रहा भ्रष्टाचार का मुद्दा
31-Aug-2021 10:07 PM (90)

पूर्व वन मंत्री ने राज्य सरकार पर साधा निशाना

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 31 अगस्त। भाजपा संयुक्त मोर्चा की मंडल स्तरीय बैठक बीते दिनों आवापल्ली व भोपालपटनम में सम्पन्न हुई। बैठक में भ्रष्टाचार का मुद्दा छाया रहा।

शनिवार को उसूर ब्लॉक के मुख्यालय आवापल्ली व रविवार को भोपालपटनम में भाजपा मंडल की बैठक का आयोजन किया गया। दोनों ही बैठकों में पूर्व वन मंत्री महेश गागड़ा शामिल हुए और कार्यकर्ताओं में जोश भरा। बैठक में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व वनमंत्री महेश गागड़ा ने राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा।

 उन्होंने कहा कि इन ढाई सालों में कांग्रेस सरकार ने भाजपा काल के कार्यों की रंगाई पोताई कराकर महज शिलान्यास कराने का काम किया हैं।

उन्होंने ठेकेदारी प्रथा में कमीशन व भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। साथ ही रेत माफियाओं को सरकार का संरक्षण होने की बात कही। उन्होंने कहा कि जिले में व्यापक भ्रष्टाचार होने के बावजूद विधायक की चुप्पी समझ से परे है।

पूर्व मंत्री ने कार्यकर्ताओं से निडर होकर काम करने का आह्वान किया, वहीं भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने कहा कि कांग्रेस सरकार के पास कोई नीति नहीं है। लोगों से किया झूठा वादा अब इनके लिए गले की फांस बन गई है, और अब यही झूठ आने वाले दोनों में कांग्रेस के पतन का कारण बनेगी। उन्होंने कहा कि जिले में भ्रष्टाचार चरम पर पहुंच गया है।

श्री मुदलियार ने कार्यकर्ता से अपील करते हुए कहा कि वे सरकार की विफलताओं को आम जनता तक पहुंचाएं। भोपालपटनम में पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने अलग-अलग समाज के लोगों से मुलाकात की और उनकी समस्याओं से रूबरू हुए। इस दौरान भाजपा के सभी मोर्चा प्रकोष्ठों के पदाधिकारी, कार्यसमिति के सदस्य व बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

ग्रामीणों से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटी
31-Aug-2021 10:05 PM (68)

   सीआरपीएफ के जवानों ने घायलों को पहुंचाया अस्पताल   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 31 अगस्त। कल ग्रामीणों से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली पलट गई, जिससे वे सभी घायल हो गए। सीआरपीएफ के जवानों ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया।

सोमवार को आधार कार्ड बनवाने के लिए 50 से अधिक ग्रामीण ट्रैक्टर-ट्रॉली पर सवार होकर बासागुड़ा के लिए निकले थे। इसमें बच्चे, बुजुर्ग महिलाएं सवार थीं। तभी शाम को अचानक सडक़ पर मवेशी आ गए, जिससे ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर पेगड़ापल्ली के पास पलट गई। इस दुर्घटना से ट्रैक्टर में सवार दर्जन बच्चे, बूढ़े और महिलाओं को हाथ-पैर और सर में चोट आई।

इस घटना की सूचना मिलते ही सीआरपीएफ 153 बटालियन के कमाण्डेन्ट राजीव कुमार घायलों की मदद के लिए कंपनी के जवानों को दिशा निर्देश दिया। जिसके बाद अस्टिटेंट कमाडेंट सुनील कुमार के साथ जवानों की टीम घटना स्थल पहुंची। जवानों ने घटना में घायल हुए ग्रामीणों का प्राथमिक उपचार किया और जिन ग्रामीणों को इस घटना में ज्यादा चोटें पहुंची थी उन्हें तत्काल अपने वाहनों से बासागुड़ा, उसूर और आवापल्ली अस्पताल में बेहतर इलाज के लिए भेजा गया। ग्रामीणों को अस्पताल पहुंचाने में कोबरा बटालियन के जवानों ने भी मदद की।

बूथ स्तर तक जाकर कार्यकर्ता कोरोना से बचाव की दें जानकारी
30-Aug-2021 8:46 PM (74)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भोपालपटनम, 30 अगस्त। भाजपा के द्वारा भोपालपटनम मण्डल में एक दिवसीय कोविड नियंत्रण कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर का आयोजन स्थानीय गोंडवाना भवन में आयोजित किया गया। पूर्व वन मंत्री महेश गागड़ा एवं बीजापुर जिले के जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदिलियार की उपस्थिति में कार्यक्रम का प्रारंभ किया गया।

सबसे पहले भारत माता एवं पं. दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पटल पर फूल चढ़ाकर दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। अतिथियों ने कहा कि मण्डल के प्रत्येक कार्यकर्ता व पदाधिकारी अपने-अपने बूथ स्तर तक जाकर ग्रामीणों को वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव के लिए हमको किस प्रकार से सचेत रहना चाहिए और महामारी न  फैले, सबको सचेत रहने के बारे में जानकारी दिया जाए, जिसमें प्रमुखता से सामाजिक दूरी बनाये रखना, सेनिटाइजर का उपयोग करना और बार-बार साबुन से हाथों को सफाई से धोना, किसी बीमार व्यक्ति को उपचार हेतु सही समय पर सही सलाह देना है। हमारे कार्यकर्ता बूत लेवल तक जाकर लोगो को समझाए ताकि इस गम्भीर महामारी से बचाव कर सके।

इस कार्यक्रम के माध्यम से श्री गागड़ा ने पिछले दो सालों से इस महामारी की विपत्ति में केंद्र की मोदी सरकार की उपलब्धि के बारे भी जानकारी दी और अंत में कोरोना से मृत्यु हुए परिवारों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की उनकी आत्मा शांति के लिए दो मिनट का मौन धारण भी किया गया।

8 युवा भाजपा में

इस कार्यक्रम के दरमियान भारतीय जनता पार्टी के रीति नीति से प्रभावित होकर रामपुरम व आसपास के  महिला समेत लगभग 8 युवाओं ने पूर्व मंत्री के सामने भाजपा का दामन थामा।

इस कार्यक्रम में भोपालपटनम के मण्डल अध्यक्ष वेन्कटेशवर यालम  महिला मोर्चा मण्डल अध्यक्ष रिंकी परस्ते आदिवासी मोर्चा के जिलाध्यक्ष जिलाराम राणा जिला युवा मोर्चा अध्यक्ष बलदेव उरसा युवा मोर्चा प्रदेश कार्यकारणी सदस्य फूलचेन्द गागड़ा जिला महामंत्री सतेंद्र सिंह ठाकुर अनु जन जाति प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सुखलाल पुजारी जिला मंत्री जागर लैक्समैया महिला मोर्चा मंत्री उर्मिला तोकल जिला पिछड़ा वर्ग मोर्चा अध्यक्ष पी संतोष कुमार आरटीआई के जिला  सयोजक मुर्गेश शेट्टी अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष अमीर खान  एनजीओ प्रकोष्ठ जिला सयोंजक डोलेस्वर झाड़ी पिछड़ा वर्ग मोर्चा मण्डल अध्यक्ष एन मधुकर मण्डल महामंत्री मुरली चेट्टी और मण्डल के सभी पदाधिकारी कार्यकर्ता उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन के  श्रीनिवास राव के द्वारा किया गया है।

जन्माष्टमी पर यादव समाज ने निकाली कलश यात्रा
30-Aug-2021 8:31 PM (69)

जगह-जगह पर मटका फोड़ व भंडारा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 30 अगस्त। सोमवार को जिले भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। घर-घर में कृष्ण जन्माष्टमी की तैयारियां चलती रही। झांकियों के साथ मंदिर भी कृष्णलला के आगमन को लेकर सजाए गए थे।

मंदिरों को रंग-बिरंगे झालरों से सजाया गया था। छोटे-छोटे बच्चे - बच्चियों को राधा-कृष्ण की वेशभूषा से सजाया गया था। वहीं भैरमगढ़ तहसील के गौराबेड़ा गांव में यादव समाज के द्वारा राधा-कृष्ण मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा की गई, वहीं दोपहर को कुंडीय महायज्ञ कार्यक्रम व भोजन व प्रसाद का वितरण किया गया। जगह-जगह पर मटका फोड़ व भंडारा एवं प्रसाद का वितरण किया गया।

यादव समाज द्वारा कलश यात्रा भी निकाली गई, जिसमें सैकड़ों की संख्या में कृष्ण भक्त शामिल हुए। इधर बीजापुर में भी जन्माष्टमी के मौके पर शिव मंदिर में सामने मटका फोड़ का आयोजन किया, जिसमें युवाओं ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया।

भैरमगढ़ के कार्यक्रम के दौरान मुख्य रूप से जिला अध्यक्ष दयालुराम यादव, सुरेश यादव(संभागीय सचिव) युवा प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष जगदेव यादव, युवा प्रकोष्ठ जिला उपाध्यक्ष बृजलाल यादव, रतिराम यादव, संन्तुराम, लक्की , धनर्यज कंवलसिह, लम्बोदर, सुरज कुमार, सदाराम, रामनाथ, पंडरु, सतो बाई, सुखमती आदि उपस्थित रहे।

आर्थिक नाकेबंदी कर आदिवासी समाज ने मांगा संवैधानिक हक
30-Aug-2021 5:33 PM (57)

भारी बारिश और पुलिस समझाइस के बाद छोड़ी जिद, साढ़े तीन घंटे नाकेबंदी के बाद ज्ञापन सौंपा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 30 अगस्त।
अपने संवैधानिक हक को लेकर सोमवार को जिला मुख्यालय सहित सभी ब्लाक मुख्यालयों के मार्गो में सर्व आदिवासी समाज के बैनर तले सैकड़ों की संख्या में  आदिवासी एक जुट होकर सुबह साढ़े आठ बजे से भारी वाहनों को नगर प्रवेश से रोकने लगे थे। 

बीजापुर स्थित तुरनार चौक में लंबी लगी मालवाहकों की कतारों के बीच एसडीओपी कुंजाम ने आदिवासी समाज से नाकेबंदी खत्म करने की अपील के बाद विभिन्न मुद्दों पर बहस होने लगी। अंतत: आदिवासी समाज के लोगों ने सहमति जाहिर कर एसडीएम देवेश ध्रुव को ज्ञापन सौंप कर समापन किया।

सर्व आदिवासी समाज के अध्यक्ष अशोक तलान्डी ने बताया कि बीजापुर के तुरनार चौक, भोपालपटनम के फारेस्ट नाका, आवापल्ली के इलमिडी चौक व भैरमगढ़ के पुसनार में गुज्जा राम पवार, अल्वा मदनैया, नरेंद्र बुरका व आयतू राम तेलामी के नेतृत्व में सैकड़ों की संख्या में आदिवासी समाज के समाज प्रमुखों, युवाओं द्वारा आर्थिक नाके बंदी के लिए भारी वाहनों, मालवाहक वाहनों को आगे बढऩे से रोक दिया। साढ़े 11 बजे बारिश  के कारण बीजापुर में एसडीएम देवेश ध्रुव को ज्ञापन सौंपा गया और समापन किया गया। इसी तरह भोपालपटनम, उसूर व भैरमगढ़ में तहसीलदार को राष्ट्रपति, राज्यपाल के नाम से कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौपा गया।

अशोक तलान्डी ने बताया कि छग सर्व आदिवासी समाज के प्रदेश इकाई के आव्हान पर पूरे प्रदेश में अपने संवैधानिक हक के लिए समाज ने आज आर्थिक नाके बंदी का कार्यक्रम किया था। लगातार समाज द्वारा प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को ज्ञापन सौंपा गया पर आदिवासियों की मांगों पर भूपेश बघेल सरकार द्वारा कोई पहल न किये जाने से यह कदम उठाने के लिए बाध्य होना पड़ा।

क्या है मांगें
सिलगेर घटना में मारे गए आदिवासियों के परिजनों को 50-50 लाख का मुआवजा और  परिजनों को योग्यतानुसार शासकी नॉकरी व घायलों को 5 लाख का मुआवजा, नक्सल समस्या के स्थायी समाधान के लिए पहल, पदोन्नति में आरक्षण, बैक लॉग भर्ती किये जाने, आदिवासियों का उत्पीडऩ रोकने, वन अधिकार कानून 2006 व पेसा कानून के क्रियान्वयन नियम तत्काल लागू करने जैसे 20 सुत्रीय मांगे रही।
 

एक कुंडीय गायत्री महायज्ञ एवं दीपयज्ञ भोपालपटनम और मद्देड़ में संपन्न
29-Aug-2021 6:37 PM (78)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपटनम, 29 अगस्त।
अखिल विश्व गायत्री परिवार शान्ति कुन्ज हरिद्वार उत्तराखण्ड के तत्वावधान में गायत्री परिवार सदैव ही जन कल्याणकारी कार्य को आध्यात्मिक और वैज्ञानिक दृष्टिकोण से तालमेल कर परम पूज्य गुरुदेव पंडित श्री राम शर्मा आचार्य एवं वन्दनीय माता भगवती देवी शर्मा के सूक्ष्म संरक्षण में करता रहा है। 

इसी क्रम में शान्तिकुंज के वरिष्ठ परिजन अमर लाल नाग और मोहित कुमार की टोली बस्तर सम्भाग में शान्तिकुंज की स्वर्ण जयंती के अवसर पर जनसंपर्क अभियान पर शाखाओं में पहुंच रही हैं। जनसंपर्क अभियान की कड़ी में छत्तीसगढ़ के अन्तिम छोर भोपालपटनम में टोली द्वारा नगर के हृदय स्थल में विराजित शिव मंदिर में 1 कुंडीय गायत्री महायज्ञ संपन्न कराया गया, जिसमें नगर के महिलाओं और प्रबुद्धजनों ने अपनी भागीदारी देकर कार्यक्रम को चिरस्मरणीय बना दिया। 

इस कार्यक्रम में 4 पुंसवन संस्कार जो माताओं के गर्भधारण के 3 से 7 माह के भीतर सनातन संस्कृति से वैदिक मन्त्रोचार से किया जाता है वह संपन्न हुआ। इस संस्कार का मूल उद्देश्य यह है की बच्चे को गर्भ में ही दैवीय संस्कार जागृत हो सके और संसार में आकर जन कल्याणकारी कार्य कर महान व्यक्तित्व बन सके। कार्यक्रम पश्चात भोपालपटनम के परिजनों की गोष्ठी संपन्न हुई जिसमें आगामी कार्यक्रमों और गायत्री परिवार प्रमुख व देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ.प्रणव पण्ड्या एवं आ.शैल जीजी का संदेश सुनाया गया। 

कार्यक्रम में बीजापुर गायत्री शक्तिपीठ के ट्रस्टी एवं व्यवस्थापक जयपालसिंह राजपूत तथा परिव्राजक श्याम जी शाह के साथ शाखा के वरिष्ठ परिजन संतोष कुमार अग्गीवार,खेमिन साहू,के.जी.भूमेश्वर, के.जी.सावित्री,राधा यालम के साथ बहुत से समर्पित परिजन उपस्थित थे। भोपालपटनम कार्यक्रम के बाद मद्देड़ के वरिष्ठ गायत्री साधक सुशीला देवी सोनी के घर पर श्रद्धालुओं को एकत्रित कर दीपयज्ञ  कराया गया। मद्देड़ के कार्यक्रम में बड़ी संख्या में महिलाओं ने भाग लिया और गुरुदेव का संदेश प्राप्त किया।
 

पंचायत सचिव के साथ गबन में संलिप्त जिम्मेदार अफसरों पर भी हो कार्रवाई - सीपीआई
27-Aug-2021 8:38 PM (85)

भोपालपटनम, 27 अगस्त। ग्राम पंचायत वाड़ला में सचिव के द्वारा 14वें वित्त आयोग की राशि को ग़बन करने के मामले में कल सीपीआई ने स्थानीय विधायक, कलेक्टर, जिला पंचायत सीईओ से मुलाकात कर वस्तुस्थिति से अवगत कराते हुए जांच रिपोर्ट सौंपा और तत्काल कार्रवाई की माँग की, जिसमें प्रशासन ने गंभीरता से लेते हुए सचिव को तत्काल निलंबित कर दिया है।

 सीपीआई बीजापुर जिला सचिव कमलेश झाड़ी ने इसी मामले में प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि सिफऱ् निलंबित कर जाँच की खानापूर्ति न करें, बल्कि ग्रामीणों के माँग के अनुरूप पंचायत खाते के14वें वित्त आयोग की राशि का एक-एक रुपये का वसूली होनी चाहिए। सचिव के कथन अनुसार इस भ्रष्टाचार में संलिप्त सभी बड़े जिम्मेदार अफसरों पर भी कार्रवाई हो और इस मामले में एफआईआर भी हो। अन्यता सीपीआई आनेवाले  दिनों में आंदोलन के लिए बाध्य होगी जिसकी संपूर्ण जवाबदेही शासन प्रशासन की होगी।।

वाडला में 14वें वित्त आयोग की राशि गबन की शिकायत, अब तक कार्रवाई नहीं, रोष
26-Aug-2021 5:45 PM (74)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपटनम, 26 अगस्त।
भोपालपटनम जनपद पंचायत के वाडला ग्रामपंचायत में 14वें वित्त आयोग की 21 लाख रूपये की गबन की मामला सामने आने के 15 दिन बाद भी कोई कार्यवाही नहीं होने से ग्रामीणों में नाराजगी है। उन्होंने आंदोलन की बात कही है। 

बीजापुर जिले के सी पी आई के जिला सचिव कमलेश झाड़ी के नेतृत्व में एक जांच दल बनाकर ग्राम पंचायत वाडला पहुँचे और पंचायत के सरपंच चेन्द्रा कुडेम वार्ड पंच सम्मक्का भगत एवं शोभा कोरम ग्राम के पटेल कोरम शिवराम ग्रामीण मलैया भगत लक्मन तालण्डी राकेश कोरम व अन्य ग्रामीणों से मुलाकात कर  जानकारी ली तो इन्होंने सी पी आई नेता को  बताया कि पेंदम हरिगोपाल सचिव जब से इस पंचायत में आया है सरपंच के साथ तालमेल नहीं बनाता है और बिना ग्राम सभा बिना पंचायत प्रस्ताव बनाए अपने मनमाने ढंग से काम करता है। अभी तक जो भी निर्माण कार्य हुए है जिसमें मजदूरों को भी बाहर से ले आकर कार्य कराते है। सरपंच ने बताया कि 24 अगस्त को जिला से एक जाँच दल आया। मौके पर पहुँच कर वस्तुस्थिति का पता लगाया तो निर्माण कार्य के बिना ही उक्त राशि सरकारी खजाने से खाली हो गया है।  ग्रामपंचयत का जो 21 लाख रूपये गबन किये हंै, वे पूरे फर्जी बिल लगाकर मेरे डी एस सी का  गलत तरीखे से उपयोग कर अपने बेटे के खाते में हस्तन्तरित करा लिया है जो बाद में बैंक के स्टेटमेंट से मुझे पता चला है। सरपंच का कहना है कि 14वें वित्त आयोग की इस राशि से  आश्रित ग्राम गोखूर में ढाई-ढाई  सौ मीटर का 2 सी सी सडक़ निर्माण व मट्टीमरका में 2 पुलिया निर्माण व शौचालयों का निर्माण करना था । सरपंच एंव वार्ड पंचों व ग्रामीणों का सी पी आई नेता के सामने यह  कथन  था कि ऐसे भ्रष्टाचार में लिप्त सचिव पर उचित कार्यवाही कर तत्काल इस पंचायत से हटाना चाहिए।

पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल पर सीपीआई नेता कमलेश ने कहा कि हमारी जाँच दल जिला कलेक्टर एंव जिला पंचायत सीईओ व स्थानीय विधायक से मुलाकात कर सचिव के द्वारा किये गए गबन की जानकारी प्रस्तुत  करेंगे। अगर उचित कार्रवाई नहीं करने पर ग्रामीणों के साथ सडक़ की लड़ाई लडऩे को तैयार है। 

जनपद पंचायत सीईओ ओंकार सिंह का कहना है कि जिलापंचायत से जांच टीम का गठन किया गया है, जांच जारी है।
 

पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष ने किया भाजपा प्रवेश
25-Aug-2021 5:48 PM (78)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 25 अगस्त।
भोपालपटनम छात्र संघ की पूर्व अध्यक्ष रही नेहा परस्ते ने बुधवार को विधिवत रूप से भाजपा प्रवेश कर लिया। उनके भाजपा प्रवेश पर पूर्व मंत्री महेश गागड़ा व महिला मौर्चा की बीजापुर प्रभारी दीप्ति पांडेय उन्हें बधाई दी है।

यहां अटल सदन भाजपा कार्यालय में आयोजित भाजपा महिला मौर्चा की जिला कार्यकारिणी की बैठक में इंद्रावती महाविद्यालय भोपालपटनम की छात्र संघ की अध्यक्ष रहे चुकी नेहा परस्ते ने बीजापुर की प्रभारी दीप्ति पांडेय की मौजूदगी में उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया। भाजपा प्रवेश करने के बाद नेहा परस्ते ने बताया कि उनकी एमएससी की पढ़ाई पूरी हो गई है, और अब वे समाज के बीच काम करने के उद्देश्य से उन्होंने भाजपा प्रवेश किया हैं। वर्ष 2016 में कॉलेज छात्र संघ चुनाव में इंद्रावती महाविद्यालय से एबीवीपी पैनल ने जीत हासिल की थी। जिसमें नेहा को अध्यक्ष चुना गया था। 

अध्यक्ष नेहा के नेतृत्व में महाविद्यालय में प्रयोगशाला पुस्तकालय व बैठक व्यवस्था सहित अन्य मूलभूत सुविधाओं पर काम किया था। इस अवसर पर पूर्व वनमंत्री महेश गागड़ा, भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार, महिला मौर्चा जिलाध्यक्ष जया देवी चिडेम, महामंत्री माया झाड़ी, जिला उपाध्यक्ष उर्मिला तोकल, रिंकी परस्ते सहित महिला मौर्चा की मंडल अध्यक्ष रितु मडे मौजूद रही।
 

पुसनार स्वास्थ्य शिविर में 88 का इलाज
17-Aug-2021 8:39 PM (95)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 17 अगस्त। जिले के गंगालूर के आश्रित गांव पुसनार में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कर मरीजों का उपचार किया तथा उन्हें दवाइयों का वितरण किया।

कलेक्टर के निर्देश पर सीएमएचओ डॉ. आरके सिंह के मार्गदर्शन में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मंगलवार को जिले के गंगालूर के आश्रित गांव पुसनार में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया । यहां स्वास्थ्य अमला ने 88 मरीजों का पहले जांच किया । इसके बाद  उपचार कर दवाईयां बांटी।

 स्वास्थ्य विभाग के टीम में जिला कार्यक्रम अधिकारी डॉ. संतोष, विकासखंड कार्यक्रम अधिकारी डॉ. चेलापति राव, सेक्टर सुपरवाईजर, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, वार्ड बॉय एवं मितानिन शामिल थे। इस शिविर में कुल 88 मरीजों का उपचार किया गया जिसमें मलेरिया के 8 मरीज, गर्भवती 02 महिलाएं, सर्दी-खांसी के 16 मरीज, मोतियाबिंद जांच 6 मरीजों का किया गया। वहीं उच्च रक्त चाप एवं मधुमेह जांच 6-6 मरीजों का किया गया एवं 27 मरीजों का हीमोग्लोबिन जांच किया गया। इसके अतिरिक्त अन्य सामान्य कमजोरी के मरीजों का उपचार कर दवाईया वितरण किया गया।

स्वास्थ्य जांच शिविर में ग्राम प्रमुख एवं ग्रामीणों के बीच विभिन्न विषयों पर चर्चा की गई। जिसके अंतर्गत पुसनार के बड्डेपारा में हास्पिटल निर्माण के लिए स्थान चिन्हित किया गया। सभी गर्भवती माताओं को संस्थागत प्रसव कराने के लिये प्रेरित किया एवं घर प्रसव में होने वाली जटिलता और खतरों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। शिशुओं के टीकाकरण के महत्व को बतलाते हुए कोई भी टीका न छुटे, इसके लिये प्रेरित किया। बढ़ती उम्र के साथ होने वाले स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों के विषय में महिला एवं पुरुषों से अलग-अलग चर्चा की गयी। किशोरी बालिकाओं के साथ निजी संक्रमण के विषय पर चर्चा की गयी। सामान्य दाग, खुजली भी कुष्ट रोग हो सकता है जिसके लिये जांच एवं उपचार की सरलता के विषय में चर्चा हुआ।

 कोविड संक्रमण की रोकथाम, कोविड अनुरुप व्यवहार करने, व्यक्तिगत स्वच्छता के साथ-साथ अपने परिसर को साफ सुथरा रखने, कोविड टीकाकरण लगवाने इत्यादि के लिए प्रेरित किया गया।

ओपन साइकिल रेस में उतरेंगे देशभर के साइकलिस्ट
13-Aug-2021 10:56 PM (194)

  15 अगस्त को बीजापुर बनेगा रेस का गवाह   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

 बीजापुर, 13 अगस्त। जिला मुख्यालय बीजापुर स्वतंत्रता दिवस पर एक इतिहास रचने जा रहा है। यहां पहली बार नेशनल लेवल की ओपन साइकिल रेस का आयोजन होने जा रहा है, जिसमें देश भर के एक हजार से भी ज्यादा प्रतिभागी भाग लेंगे।

ज्ञात हो कि इस वर्ष स्वतंत्रता दिवस पर जिला मुख्यालय में ओपन सायकल रेस का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें सभी आयु वर्ग के खिलाड़ी भाग ले सकते हंै।

इस साइकिल रेस के लिए प्रतिभागी स्वयं का साइकिल लेकर स्पर्धा में शामिल हो सकते हंै। साइकिल रेस 30 किलोमीटर का होगा, जिसमें प्रतिभागियों को बीजापुर के मिनी स्टेडियम से नैमेड़ चौक तक और वहां से यू टर्न लेकर वापस मिनी स्टेडियम तक आना होगा। इस स्पर्धा में भाग लेने वाले प्रतिभागी 15 अगस्त की सुबह 9 बजे तक स्टेडियम पहुंचकर तत्काल अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हंै।

मनवा बीजापुर साइकिल रेस स्पर्धा में प्रथम पुरस्कार 31 हजार रुपये नगद बस्तर विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष व बीजापुर विधायक विक्रम शाह मण्डावी की ओर से दिया जाएगा। द्वितीय पुरस्कार 21 हजार रुपये नगद जीव्हीआर निर्माण बाजार की ओर से दिया जाएगा। तृतीय पुरस्कार 11 हजार रुपये नगद जय कुमार नायर की ओर से दिया जाएगा।

चौथा पुरस्कार सायकल जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडिय़म की ओर से दिया जाएगा, पांचवा पुरस्कार सायकल जिला कांग्रेस कमेटी बीजापुर द्वारा दिया जाएगा, छठवां पुरस्कार सायकल भारतीय जनता पार्टी जिला बीजापुर द्वारा दिया जाएगा।

सातवां पुरस्कार सायकल भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी जिला बीजापुर द्वारा दिया जाएगा, आठवां पुरस्कार सायकल प्रेस क्लब बीजापुर द्वारा दिया जाएगा।

नौवां पुरस्कार सायकल व्यापारी संघ बीजापुर द्वारा दिया जाएगा, दसवां पुरस्कार सायकल जिला ठेकेदार संघ बीजापुर द्वारा प्रदान किया जाएगा।

सचिव पर गबन का आरोप
13-Aug-2021 7:02 PM (71)

सरपंच ने कलेक्टर से की लिखित शिकायत

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपट्टनम, 13 अगस्त।
भोपालपटनम जनपद पंचायत के वाडला के सरपंच कुडेम चंद्रा ने अपने वार्ड पंच के साथ लिखित शिकायत कलेक्टर को करते हुए पत्र में लिखा है कि सचिव ने सरपंच और वार्ड पंचों को संज्ञान में न लेते हुए बिना पंचायत प्रस्ताव का 14वें वित्त आयोग का लगभग 21 लाख रुपये गबन किया है। 

सरपंच का आरोप है कि पूरे फर्जी बिल लगाकर उक्त राशि को अपने या अपने परिवार वालों के खाते में ट्रांसफर करा लिया। सरपंच ने जिसकी जानकारी जनपद पंचायत से लेकर जब बैंक से स्टेटमेंट निकाला गया तो पूरा मामला सामने आया तब सरपंच ने अपने सचिव से इस राशि के बारे में जानकारी चाही तो सचिव ने गोलमोल जवाब दिया। 

उक्त गबन की राशि की जानकारी जनपद के अधिकारियों तक शिकायत करने पर भी कोई कार्यवाही नहीं होने पर कलेक्टर से शिकायत पत्र देकर गबन की गई राशि की जांच कर सचिव पर कार्यवाही करने की मांग की है। सरपंच का सचिव पर यह भी आरोप है कि मनरेगा काम में भी बहुत बड़ा घोटाला है। सचिव ने मजदूरों का मजदूरी भी नहीं देते, जिससे सरपंच-पंच सहित सभी ग्रामीण परेशान हैं। 
 

नक्सल कमांडर ने सपत्नीक किया समर्पण, दोनों पर था 8-8 लाख का ईनाम
10-Aug-2021 5:52 PM (246)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 10 अगस्त।
विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर 16 लाख रुपये ईनामी नक्सली दंपति ने नक्सलवाद की खोखली विचारधारा व भेदभाव पूर्ण व्यवहार से तंग आकर समर्पण कर दिया।  समाज की मुख्यधारा में लौट आये हैं। आत्मसमर्पित नक्सली दंपति पर 8-8 लाख रुपये का ईनाम घोषित था। 

सोमवार को यहां एसपी ऑफिस में सेंट्रल रीजनल ब्यूरो(सीसी प्रोटेक्शन ग्रुप कमांडर) राजू कारम(24) ने अपनी पत्नी सेंट्रल रीजनल ब्यूरो (सीसी प्रोटेक्शन ग्रुप सदस्या) सुनीता कारम(21) के साथ डीआईजी सीआरपीएफ कोमल सिंह व पुलिस अधीक्षक कमलोचन कश्यप के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। दोनों आत्मसमर्पित नक्सली दंपति पर 8-8 लाख रुपये का ईनाम घोषित था। नक्सलवाद की खोखली विचारधारा, प्रताडऩा व भेदभाव पूर्व व्यवहार से तंग आकर तथा सरकार की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर सरेंडर किये नक्सली राजू व उसकी पत्नी को 10-10 हजार रुपये नगद प्रोत्साहन राशि दी गई। जिले में चलाये जा रहे नक्सली उन्मूलन अभियान में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। इस अवसर पर सीआरपीएफ कमांडर यादवेंद्र सिंह यादव व एएसपी पंकज शुक्ला भी मौजूद रहे। 

इन वारदातों में रहे शामिल
फरवरी 2015 में ग्राम डोडीजोड़ी  थाना फुलबानी जिला कंधमाल( उड़ीसा) में पुलिस नक्सली मुठभेड़ में शामिल।
जून 2015 में ग्राम लुबेंदगढ़ थाना रामपुर जिला कालाहांडी(उड़ीसा) में हुए पुलिस व नक्सली मुठभेड़ में शामिल।
मई 2016 में ग्राम बोगबेड़ा थाना रामपुर जिला कालाहण्डी ( उड़ीसा) में पुलिस व नक्सलियों के बीच हुए हमले शामिल।
जुलाई 2016 में ग्राम पिंडीनदेल थाना फिरिंगिया जिला कंधमाल ( उड़ीसा) पुलिस के साथ हुए मुठभेड़ में शामिल।
दिसंबर 2016 में ग्राम डांडीपारा थाना फिरिंगिया जिला कंधमाल (उड़ीसा) पुलिस के साथ हुए मुठभेड़ में शामिल।
मई 2017 में जिला नुवापाड़ उड़ीसा से जंगल के रास्ते लौटते वक्त जिला कांकेर के जंगल पुलिस नक्सली मुठभेड़ में शामिल। वही दिसम्बर 2017 में ग्राम मुक्कबेली थाना फरसेगढ़ क्षेत्र में हुए पुलिस नक्सली मुठभेड़ में शामिल रहे। इस मुठभेड़ में नक्सलियों के प्लाटून नंबर 2 का कमांडर संदीप कुरसम उर्फ पर्व घायल हुए था। फरवरी 2018 में ग्राम पुजारी कांकेर के कर्रेगुट्टा पहाड़ में तेलंगाना की ग्रेहाउंड्स पुलिस के साथ मुठभेड़ में शामिल रहे। इस मुठभेड़ में सीआरसी कंपनी नंबर 2 के 9 नक्सली इस मुठभेड़ में मारे गये व एक जवान शहीद हुए था।
कौन है नक्सली राजू
नक्सल पंथ से तौबा कर समाज की मुख्यधारा में लौटे राजू कारम मूलत: बीजापुर जिले के गंगालूर थाना क्षेत्र के एड्समेटा गांव का रहने वाला है। उसने वर्ष 2013 में गंगालूर एरिया कमेटी सरकार अध्यक्ष के द्वारा संगठन में पीएलजीए सदस्य के रूप भर्ती किया गया। इस दौरान एड्समेटा में 10 दिन का प्रशिक्षण दिया। 2013 अक्टूबर माह में राजू को सीसी मेम्बर जम्पन्ना उर्फ जगु नरसिम्हा रेड्डी के गार्ड के लिए उड़ीसा भेज दिया गया। यहाँ उसने साल  2017 तक काम किया। वर्ष 2017 में सीसी मेम्बर जम्पन्ना के तेलंगाना पुलिस के समक्ष समर्पण से पूर्व राजू को तेलंगाना स्टेट कमेटी प्रभारी व सीसी मेम्बर हरिभूषण के साथ काम करने तेलंगाना स्टेट कमेटी भेज गया। 

राजू को सेंट्रल रीजनल ब्यूरो में सीसी प्रोटेक्शन ग्रुप में कमांडर की जिम्मेदारी दी गई। इस पद पर वह मार्च 2021 तक कार्यरत रहा। नक्सली राजू कारम अपने साथ एसएलआर रायफल लेकर चलता था। उस पर 8 लाख रुपये का ईनाम सरकार ने घोषित कर रखा था। वही नक्सली राजू कारम की पत्नी सुनीता कारम मूलत: मंडीमरका थाना जगरगुंडा जिला सुकमा की रहने वाली है। इसने वर्ष 2014 में जगरगुंडा पामेड़ एरिया/ एसीएम कमलेश ताती के द्वारा संगठन में पीएलजीए सदस्या के रूप में भर्ती किया। जुलाई 2014 को चिन्नाबोडक़ेल के जंगल में उसे  एसीएम मंगेश ने  30 दिन प्रक्षिक्षण दिया। अगस्त 2014 में बासागुड़ा एसओएस कमांडर अनिता कुरसम के साथ काम किया। जनवरी 2015 में सीसी मेम्बर जम्पन्ना उर्फ जगु नरसिम्हा रेडडी के गार्ड ड्यूटी के लिए उड़ीसा भेज दी गई। इस दौरान वे अपने पास सिंगल शॉर्ट बंदूक रखती थी। यहां उसने 2017 तक काम किया। इसके बाद जनवरी 2021 में उसे तेलंगाना स्टेट कमेटी प्रभारी व सीसी मेम्बर हरिभूषण के द्वारा सेंट्रल रीजनल ब्यूरो सीसी प्रोटेक्शन ग्रुप का सदस्य बना दिया गया। इस दौरान वह अपने साथ इंसास रायफल लेकर चलती थी। सुनीता पर भी सरकार ने 8 लाख रुपये का ईनाम घोषित कर रखा था।
 

युकां ने मनाया 61वां स्थापना दिवस
09-Aug-2021 8:49 PM (38)

बीजापुर, 9 अगस्त। भारतीय युवा कांग्रेस का 61वां स्थापना दिवस जिले के युवा कांग्रेसियों ने ध्वजारोहण कर मनाया।  सोमवार को यहां कांग्रेस भवन में जिले के युवा कांग्रेसियों व जिला कांग्रेस के पदाधिकारियों की मौजूदगी में युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष एजाज अहमद सिद्दीकी ने संगठन के 61वें स्थापना के मौके पर ध्वजारोहण किया व सभी को बधाई दी। इस अवसर पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष अध्यक्ष लालू राठौर, जिपं अध्यक्ष शंकर कुडियम, प्रदेश सचिव युवा कांग्रेस कमलेश कारम, सुखदेव नाग, मनोज अवलम, ऋषभ कुमार, अशोक राठी, विनोद तालुकदार, श्रवण कुमार, अख्तर खान, रवि कोरम व मुकेश बुरका सहित अन्य युवा कांग्रेसी मौजूद रहे।

गोठान में मनी हरेली, पौधरोपण
09-Aug-2021 5:20 PM (64)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपटनम, 9 अगस्त।
मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत भोपालपटनम के सौजन्य से आदर्श गोठान रुद्रारम में हरेली त्योहार बड़े ही धूम-धाम से मनाया गया। 
रुद्रारम के गोठान में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ राज्य कृषक कल्याण परिषद के सदस्य बसन्त राव ताटी ने सर्वप्रथम बैल एवम गेड़ी की पूजा अर्चना कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया इसके पश्चातअतिथियों ने गोठान परिसर में पौधा रोपण भी किया। इस कार्यक्रम में कृषि विभाग द्वारा स्व सहायता समूह की महिलाओं को मिनी रईस मिल एवं किसानों को स्प्रे पंप का वितरण भी अतिथियों द्वारा किया गया। 

कार्यक्रम में उपस्थित सहायता समूह की महिलाओं ने कुर्सी दौड़ एवं मटका फोड़ जैसे परम्परागत खेलो में उत्साह पूर्वक भाग लिया। मुख्य अतिथि बसन्त ताटी के द्वारा किये गये गेड़ी नृत्य का दर्शकों ने आनंद लिया। 
बसन्त राव ताटी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने के बाद प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री माननीय भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ की लुप्त होती कला एवं संस्कृति के साथ-साथ परंपरागत खेलो को पुनर्जीवित करने का काम किया है। ताटी ने कहा कि हरेली त्योहार एवं 09 अगस्त विश्व आदिवासी दिवस पर शासकीय अवकाश घोषित करने वाली भूपेश बघेल की एक मात्र पहली  सरकार है देश मे आज तक  किसी भी अन्य सरकारों ने  हरेली त्योहार एवं विश्व आदिवासी दिवस में  शासकीय अवकाश की घोषणा नही की।   ताटी ने नरवा गरवा  धुर्वा बाड़ी, गोधन न्याय योजना, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, सौर सुजला योजना,राष्ट्रीय खाद्यान्न सुरक्षा मिशन जैसे शासन की अति महत्वकांक्षी योजनाओं पर विस्तार से प्रकाश डालते हुवे उक्त योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ लेने की बात कही।  सभा में उपस्थित महिलाओं को अधिक से अधिक समूह बनाकर शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेते हुवे परिवार की आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए प्रेरित किया सभा को जनपद पंचायत भोपालपटनम की अध्यक्ष निर्मला मरपल्ली ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर जिला संसद प्रतिनिधि कामेश्वर राव गौतम, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष रमेश पामभोई, जनपद सदस्य अनुबाई, कौशल्य, सुनील गुरला,सालिक राम नागवंशी यालम राममूर्ति,अरुण वासम साहित विभिन्न विभागों के अधिकारी कर्मचारी एवं ग्रामीण जन उपस्थित रहे ।
 

किसानों को भ्रमित करना बंद करें विधायक, खाद समस्या की जिम्मेदार सरकार - मुदलियार
08-Aug-2021 8:56 PM (35)

वोट बैंक की राजनीति छोड़ किसानों की चिंता करें विधायक - घासीराम

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 
भोपालपटनम,  8 अगस्त।
रासायनिक उर्वरक खाद की किल्लत को लेकर स्थानीय विधायक विक्रम मंडावी ने केंद्र सरकार पर खाद उपलब्ध नहीं करने का आरोप लगाया है, जिस पर भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने पलटवार करते हुए जिम्मेदारी से भागने और भ्रम फैलाने का आरोप लगाया है।

इस समय कृषि कार्य के बीच किसान रासायनिक उर्वरक खाद को लेकर परेशान हैं, चूंकि खाद की अनुपलब्धता के चलते किसान बाजार का चक्कर काट रहे हैं। इस समस्या को लेकर स्थानीय विधायक विक्रम मंडावी ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि केंद्र सरकार राज्य को खाद उपलब्ध नहीं करवा रही है।

इस पर भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार और किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष घासीराम नाग ने साझा प्रेस विज्ञप्ति जारी कर विधायक के बयान पर पलटवार किया है। जिला अध्यक्ष श्री मुदलियार ने कहा कि विधायक को सिर्फ अपनी लोकप्रियता एवं स्वहित की चिंता है, इन्हें किसानों की कोई चिंता नहीं है। इस समय किसानों की समस्या पर ध्यान देना चाहिए था।

 भाजपा जिलाध्यक्ष ने आगे कहा  कि राज्य सरकार खपत अनुसार मांग पत्र केंद्र सरकार को दिया था, मांग पत्र में 11.75 लाख मैट्रिक टन खाद की मांग की गई थी, जिसे केंद्र ने समयनुसार उपलब्ध करवाया था, लेकिन राज्य सरकार ने मुनाफ़ा कमाने के फेर में खाद को प्राइवेट व्यापारियों को बेच दिया, जिसके चलते खाद संकट की स्थिति बनी हुई है। अगर विधायक अपनी विफलता को छुपाने ये कहते हैं कि केंद्र सरकार ने मांग अनुसार खाद नहीं दिया है तो वे अपनी सरकार से मांग करें और श्वेतपत्र जारी करवायें, आखिर झूठ के बल पर कब तक चलेंगे। सरकार की जवाबदेही है इस वक्त किसानों को खाद उपलब्ध करवाना। हर बात के लिए केंद्र सरकार को दोषी ठहराना उचित नहीं है, कांग्रेस की जनविरोधी नीतियों को जनता अब समझ चुकी है। विधायक को जनता को गुमराह करने की नाकाम कोशिशों से अब बाज आना चाहिए।

वहीं भाजपा किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष घासीराम नाग ने विधायक को अपनी नाकामी छुपाने के लिए जनता और किसानों में भ्रम फैलाने का आरोप लगाया है। श्री नाग ने आगे कहा कि क्षेत्रीय विधायक और कांग्रेस सरकार आखिर कब तक केंद्र सरकार की आड़ लेकर बचते  रहेंगे, जिम्मेदारी से भागने का प्रयास विधायक कर रहे हैं। किसान इनकी मंशा समझ चुके हैं। विधायक को वोट बैंक की राजनीति छोड़ किसानों के हित मे चिंता कर उन्हें तत्काल खाद उपलब्ध कराना चाहिए। जिले के व्यापारी तेलंगाना राज्य से खाद लाकर मोटे दाम में बेच रहे हैं और किसान मजबूरी में ले रहे हैं। सरकार किसान हितैषी होने की बात करती है जो महज जुमला नजर आ रहा है।
 

दिव्यांगता बच्चों के विकास में बाधक नहीं बनना चाहिए- शंकर
08-Aug-2021 8:39 PM (56)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 8 अगस्त ।
समग्र शिक्षा अभियान के समावेशी शिक्षा त था पंचायत एवं समाज कल्याण विभाग के सामूहिक प्रयास से ब्लाक बीजापुर के 19 दिव्यांग बच्चों को सहायक उपकरण प्रदान किया गया। 

पोटाकेबिन बीजापुर में आयोजित कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडियम, जिला पंचायत सदस्य एवं बस्तर विकास प्राधिकर के सदस्य नीना रावतिया उददे जनपद उपाध्यक्ष सोनू पोटाम डिप्टी कलेक्टर उमेश पटेल, जिला मिशन समन्वयक, विजेंद्र राठौर, बीईओ मो. जाकिर खान, बीआरसी कामेश्वर दूब्बा की मौजूदगी में दिव्यांग बच्चों को उनके जरूरत के मुताबिक सहायक उपकरण का वितरण किया गया।

इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडियम ने बच्चों का उत्साह वर्धन करते हुये कहा कि दिव्यांगता बच्चों के विकास में बाधक नही बनना चाहिए इसके लिए शासन ने समावेशी शिक्षा के तहत् सहायक उपकरण से लेकर छात्रवृत्ति तक की व्यवस्था की है इसका लाभ  देकर बच्चों के विकास में हम सब को सहभागी बनना है। जिला पंचायत सदस्य नीना रावतिया उददे ने कहा कि दिव्यांग बच्चों के सामाजिक तथा शैक्षणिक समानता के लिए समावेशी शिक्षा एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम है, जिसके जरिये दिव्यांग बच्चों को समान्य बच्चों की तरह स्कूलों में समान वातावरण देकर उनके भविष्य को संवारा जाता है। दिव्यांगता कभी भी जीवन में बांधा नहीं बननी चाहिए। बल्कि उनके अंदर विशेष गुणों को पहचान कर उन्हे प्रोत्साहित करते हुए आगे बढऩे में मदद करना सच्ची मानवता है। इस दिशा में पंचायत एवं समाज कल्याण विभाग महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है जिसके चलते सहायक उपकरण की उपलब्धता आसानी से हो रही है। 

कार्यक्रम के अंत में दिव्यांग बच्चों को अतिथियों के द्वारा ट्राईसाईकल, बैशाखी, लैंस, श्रवण यंत्र सीपी चेयर, एमआर कीट तथा लो-विजन कीट का वितरण किया गया।

डंडे  नहीं करचर्स के सहारे जाएंगे स्कूल 
मिंघाचल नदी के पार बसे गांव चेरकंटी की रहने वाली अमीशा दौरा जो पोटाकेबिन में कक्षा आठवीं में अध्यनरत है। उसको सहायक उपकरण के रूप में कर्चस का वितरण किया गया। अमीशा को बचपन में लकवा ग्रसित होने से अपंगता का सामना करना पड़ रहा था। गांव और समाज के लोग उसके अपंगता को लेकर प्रतिकूल बाते किया करते थे। अमीशा के माता-पिता ने अपनी बेटी को सहारा दिया और अपने 
कंधों पर ढोकर स्कूल छोडने लगे। इसके बाद माता-पिता ने अमीशा को डंडे के सहारे चलने का अभ्यास कराया जिसे लेकर अमीशा स्कूल आने-जाने लगी। कुछ समय बाद अमीशा की पढाई की रूचि को देखते हुए जनपद प्राथमिक शाला बीजापुर में दाखिला दिलाया गया। जहां की शिक्षिका काजल चक्रवर्ती के प्रोत्साहन व मार्गदर्शन में अमीशा का हौसला बढ़ता गया। पैरो से अपंग अमीशा की रूचि पढ़ाई के साथ-साथ ड्राईंग और पेंटिग में भी है। 

संतोष को मिली ट्राइसाइकिल
चिन्नाकवाली निवासी बिच्चेम कोरसा के पुत्र संतोष कोरसा दो साल की उम्र में घर के बाहर खेलते-खेलते आग से जल जाने से जख्मी होकर अपंग हो गया। इसके चलते उसे स्कूल जाने में कठिनाई होती थी, इसके चलते प्रतिदिन सकूल नहीं जा रहा था। अब उसे ट्राइकिलप्रदान की गई है। जिससे वह प्रतिदिन समय पर स्कूल जा सकेेगा। संतोष की इच्छा पढ़ाई कर शिक्षक बनने की हैं। वह शिक्षक बनकर लोगों को प्रेरणा देना चाहता है।
 

अंधकार हुआ दूर, फिर तैयार हुआ शिक्षा का मंदिर
08-Aug-2021 7:12 PM (77)

14 साल बाद खुले स्कूल को कर दिया था ध्वस्त 

घंटी की गूंज और बच्चों की किलकारी से दुबारा गुलजार हुआ गोरना 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 8 अगस्त।
जिले के घोर माओवाद प्रभावित इलाके गोरना में ध्वस्त स्कूल को दुबारा स्थापित करने में जिला प्रशासन ने सफलता पाई है। यहां जिला प्रशासन और ग्रामीणों की मदद से दो साल पहले बंद स्कूल को दुबारा शुरू कर आस्थाई शेड बनाया गया था जिसे बीते साल कोरोना काल में असामाजिक तत्वों ने ध्वस्त कर दिया था । 

स्कूल ध्वस्त होने के बाद एक बार फिर गोरना के बच्चों के भविष्य अंधकारमय हो गया था जिसे जिला प्रशासन ने अपने मज़बूत इरादों से फिर से स्थापित कर उम्मीदों को जीवित किया है। ग्रामीणों के सहमत होने के बाद गोरना में फिर से स्कूल स्थापित करने की कवायद शुरू की गई जो जद्दोजेहद के बाद फिर से बच्चों की शिक्षा के मंदिर के रूप में तैयार हो गई। 

ज्ञात हो कि सलवा जुडूम अभियान के बाद बीजापुर में सैकड़ों स्कूल नक्सल दहशत से बंद हो गए थे जिनमें गोरना का प्राथमिक शाला भी शामिल है। इन स्कूलों को दुबारा खोलने की कवायद भूपेश बघेल सरकार की कयादत में फिर शुरू हुई जिसके चलते 14 साल बाद गोरना में ग्रामीणों के सहयोग से स्कूल संचालित कर शिक्षा का अधिकार दिया गया। अभी स्कूल खुले साल नही ंबीता था कि असामाजिक तत्वों ने स्कूल के आस्थाई शेड को जमींदोज कर शिक्षा के रास्ते बंद कर दिए।कोरोना काल के बाद शासन के स्कूल खोलने के निर्णय का सकारात्मक माहौल गोरना में देखने को मिला। टूटे और ध्वस्त स्कूल को देखकर मायूस बच्चे स्कूल खुलते ही उत्साह से अपने ज्ञान दूतों के पास पहुंचने लगे हैं। 

स्कूल की घंटी और बच्चों की किलकारी की गूंज फिर से गोरना को नई पहचान दे रहे। पुस्तकों के साथ बच्चे अपने सुनहरे भविष्य को गढऩे की दिशा में आशाओं के साथ अपनी उपस्थिति स्कूल में दे रहे हैं। गोरना के पालक अब अपने बच्चों के शिक्षा में मददगार साबित हो रहे हैं।स्कूल के जमीं दोज हो जाने के बाद एक बार फिर गोरना के बच्चों के भविष्य पर अंधकार छा गया। इस अंधकार को दूर करने का बीड़ा कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने उठाया और मजबूत इरादों के साथ स्कूल फिर से स्थापित करने की मुहिम् को अमली जामा पहनाया। कलेक्टर की पहल से विभागीय अमले और ज्ञान दूतों ने ग्रामीणों से बात की और उन्हें शिक्षा के महत्व को समझाते हुए स्कूल दुबारा तैयार करने के लिये एक सकारात्मक माहौल तैयार किया।यहां के ज्ञान दूत  सोनू और और सुरेश स्कूल संचालन  से काफी उत्साहित होकर बच्चों को ककहरा सिखाने में जुट गये हैं। बच्चों को मिड डे मिल मिल जाने से माताओं की चिंता दूर हो गई है अब वे खूद बच्चो को लेकर स्कूल आने लगी हैं।

आसान नहीं है गोरना की राह    
बीजापुर से महज पांच किलोमीटर दूरी होने के बावजूद गोरना की राह किसी के लिए आसान नही मानी जाती है। जिले के सर्वाधिक माओवाद प्रभावित इलाकों में इस गांव की पहचान की जाती है। इस गांव तक जाने के लिये न सडक़ है न ही यहां बिजली है। इन हालातो में यहाँ स्कूल दुबारा खोला जाना महत्वपूर्ण उपलब्धि से कम नहीं मानी जा सकती।