छत्तीसगढ़ » सुकमा

Date : 19-Jul-2019

जन चेतना अभियान के तहत यातायात पुलिस ने 4 दिन में 1150 लोगों का चालान काटा

सुकमा, 19 जुलाई। जिले में यातायात पुलिस ने महज 4 दिनों में 1150 लोगों का चालान काटा गया। बता दे कि लोगों को जागरूक करने के लिए जन चेतना अभियान का आरंभ किया गया है। जिसके तहत 4 दिनों में 1150 लोगों का चालान काटा गया है। इस चालान से 4 लाख 40 हजार रुपए का समन शुल्क वसूला गया। एएसपी आईपीएस सिद्धार्थ तिवारी ने पत्रकार वार्ता में माताओं व बहनें से की अपील की और कहा कि जब भी आपके पति-भाई व बेटे घर से निकले तो उन्हें हेलमेट पहनने के लिए जरूर कहे। हेलमेट पहनना परेशानी नहीं बल्कि यह एक सुरक्षा कवच है। इस अवसर पर डीएसपी ट्रैफि क अनिल कुमार भी मौजूद थे।


Date : 19-Jul-2019

भेज्जी छात्रावास के बच्चों को सामान सहित विधिवत वापिस भेजा गया

कोंटा, 19 जुलाई। 2006 के सलवा जुडूम के दौरान तत्कालीन जिला प्रशासन के मौखिक आदेश पर तत्कालीन बीईओ एसके दीप ने लगभग 250 प्राथमिक माध्यमिक शालाओं और दर्जन भर से ज्यादा आश्रमों को मुख्य सड़क से संलग्न कर दिया। इस 13 वर्षों हजारों आदिवासी बच्चे प्राथमिक शिक्षा से वंचित रहे। तत्कालीन विद्यायक और वर्तमान मंत्री कवासी लखमा ने सरकार के वापसी के बाद से स्कूल आश्रम, आंगनबाड़ी केंद्रों, साप्ताहिक बाजारों के वापसी पर फ ोकस किया। 13 वर्षों में टापू बन चुके जगरगुंड़ा में स्कूल चालू, बाजार चालू  करवाने खुद पहुंचे।

अब भेज्जी आश्रम को विधिवत वापसी की तैयारी की गई। कुछ दिनों पहले सुकमा कलेक्टर चंदन कुमार ने भेज्जी का दौरा किया था। आज भेज्जी छात्रवास  के बच्चों को सामान सहित वापिस भेजा गया।

 


Date : 16-Jul-2019

यातायात नियमों का पालन करने जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

सुकमा, 16 जुलाई। पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा के नेतृत्व में अति पुलिस अधीक्षक सिध्दार्थ तिवारी, उप पुलिस अधीक्षक अनिल विश्वकर्मा, उप पुलिस अधीक्षक प्रतीक चतुर्वेदी, उप पुलिस अधीक्षक श्याम मधुकर, रक्षित निरीक्षक प्रवीण खलको, बुध्देश्वर पैकरा के मार्गदर्शन में यातायात पुलिस सुकमा द्वारा कम्युनिटी हाल सुकमा में सड़क सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 

यातायात जागरूकता के संबंध में जिले में संचालित स्कूल  कन्या उच्चर माध्यमिक विद्यालय, डीएव्ही स्कूल, मदर टेरेसा स्कूल, आईएमएसटी स्कूल, सरस्वती शिशु मंदिर, जवाहर नवोदय विद्यालय, बालक शासकीय उच्चर माध्यमिक सुकमा, केन्द्रीय विद्यालय सुकमा के छात्र- छात्राओं के द्वारा ड्रामा व चित्रकला प्रतियोगिता के माध्यम से यातायात नियमों की जानकारी, संकेतों एवं हो रही सड़क दुर्घटनाओं के संबंध में प्रस्तुती देकर यातायात जागरूकता का प्रदर्शन किया गया। ड्रामा प्रस्तुती में प्रथम स्थान आईएमएसटी स्क ूूूूूूूूल, व्दितीय डीए्रव्ही स्कूल, तृतीय मदर टेरेसा स्कूल एवं चित्रकला प्रतियोगिता में प्रथम स्थान धरना सिंह कक्षा 9 वीं मदर टेरेसा स्कूल, व्दितीय स्थान चिरंजीव ठाकुर कक्षा 11वीं सरस्वती शिशु मंदिर, तृतीय ओमी मंडल कक्षा 12 वीं आईएमएसटी स्कूल एवं शेष सभी स्कूली बच्चों को पेन वितरण किया गया। तथा गुड सेमेरिटन का पुरस्कार शाजिद खान पिता अब्दुल रज्जॉक खान निवासी पटनमपारा सुकमा को सड़क ट्रक दुर्घटना में घायल व्यक्ति को मदद कर जिला अस्पताल में ले जाकर उपचार कराने के फ लस्वरूप पुरस्कार से सम्मानित किया गया।  उक्त यातायात जागरूकता कार्यक्रम में करीबन 200 स्कूली बच्चे व शिक्षक गण, गणमान्य नागरिक एवं पत्रकार बंधु शामिल हुए।


Date : 16-Jul-2019

सीआरपीएफ ने एक स्थायी वारंटी नक्सली मिलिशिया सदस्या को गिरफ्तार किया 

सुकमा, 16 जुलाई। जिले के कूकानार थाना क्षेत्रतर्गत मंगलवार को पेदारास के साप्ताहिक बाजार से जिला बल एवं 226 वाहिनी सीआरपीएफ ने एक स्थायी वारंटी नक्सली मिलिशिया सदस्या को गिरफ्तार किया है। 

जिला बल एवं 226 वाहिनी सीआरपीएफ बी कंपनी की संयुक्त पार्टी नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम पेदारास सप्ताहिक बाजार स्थल की ओर रवाना हुए थे कि अभियान के दौरान पेदारास सप्ताहिक बाजार के पास एक नक्सल आरोपी कवासी बुधरा 22 वर्ष मिलिशिया सदस्य छोटेगादम, जोंगेरास थाना कूकानार को पकड़ा गया। 

उक्त पकड़े गए नक्सली आरोपी थाना कूकानार क्षेत्रांतर्गत 6 अगस्त 2017 को ग्राम डोलेरास के ग्रामीणों से लूटपाट करने की घटना, 27 सितम्बर 2017 को ग्राम जोंगेरास नाला के पास पुलिस गश्त पार्टी पर फायरिंग करने की घटना एवं 21 नवम्बर 2017 को ग्राम जोंगेरास छोटेगादम मंदिर के सामनेे आईईडी लगाने की घटनाओं में शामिल था। घटनाओं के संबंध में थाना कूकानार में कई धाराओं में पंजीबद्ध था। उक्त तीनों प्रकरणों में न्यायालय सुकमा द्वारा गिरफ्तार हेतु स्थायी वारंट जारी किया था। उक्त नक्सली आरोपी को गिरफ्तार कर मंगलवार को न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर जेल भेज दिया गया। 


Date : 15-Jul-2019

एक लाख के ईनामी सहित 8 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

छत्तीसगढ़ संवाददाता
सुकमा, 15 जुलाई।
रविवार को एक लाख के ईनामी सहित 8 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया। जिला सुकमा में वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान व पुलिस जनता के मध्य मधुर सबंध बनाने के प्रयासों के तहत 14 जुलाई को नक्सल संगठन में ग्राम स्तर पर कार्यरत 1 स्थायी वारंटी सहित कुल 8 नक्सलियों क्रमश:  पुनेम गंगा मिलिशिया कमांडर ईनामी एक लाख, दिरदो हुर्रा मिलिशिया डिप्टी कमांडर, पदाम गंगा मिलिशिया सदस्य, दुधी गंगा मिलिशिया सदस्य पूर्व सीएनएम कमांडर, पुनेम मुक्का भूमकाल मिलिशिया सदस्य, पुनेम भीमा  मिलिशिया सदस्य, पोडियम नंदा मिलिशिया सदस्य एवं स्थाई वारंटी, पोडियम जोगा डीएकेएमएस उपाध्यक्ष सभी निवासी थाना फुलबगड़ी क्षेत्र द्वारा पुलिस अधीक्षक सुकमा  शलभ सिन्हा,  सिद्वार्थ तिवारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा, प्रतीक चर्तुवेदी्र पुलिस अनुविभागीय अधिकारी सुकमा के समक्ष बिना हथियार के आत्मसमर्पण किया गया। 

उल्लेखनीय है कि पुलिस द्वारा नक्सल विरूद्ध अभियानो के दौरान व अन्य प्रचार माध्यमों से लगातार जिले में ग्रामीणों को नक्सलवाद से दूर रहने समझाईस दिया जा रहा हैं। पुलिस के इसी प्रयासो के फलस्वरूप 13 जुलाई को फुलबगडी थाना क्षेत्र के ग्राम पोंगाभेजी के लगभग 35-40 की संख्या में महिला-पुरूषो द्वारा पुलिस अधीक्षक सुकमा से मुलाकात कर अपने साथ लेकर आये 03 मिलिशिया सदस्यो को पुलिस अधीक्षक के सम्मुख प्रस्तुत कर भविष्य में नक्सलवाद से दूर रहने व गांव में अन्य नक्सली संगठन से जुड़कर कार्यरत सदस्यों को भी समझाईस देकर उपस्थित करने का आश्वासन दिये थे, इसी क्रम में 14 जुलाई को उक्त 08 नक्सल संगठन सदस्यों द्वारा आत्मसमर्पण किया गया। सभी आत्मसमर्पित नक्सलियों को शासन की पुर्नवास योजना के तहत नियमानुसार सहायता राशि प्रदान किया जावेगा। 


Date : 13-Jul-2019

ब्लाक मुख्यालय तोकापाल में पौधरोपण

छत्तीसगढ़ संवाददाता
तोकापाल, 13 जुलाई।
ब्लाक मुख्यालय तोकापाल में बने नवनिर्मित अधिकारी-कर्मचारी आवास व तहसील कार्यालय के बाउंड्रीवाल के किनारे करीब 2 सौ के अलग-अलग प्रजाति के फ लदार पौधे रोपण किया गया। शुक्रवार को अनुविभागीय राजस्व कार्यालय तोकापाल के अधिकारी व कर्मचारियों ने पर्यावरण जागरूकता अभियान के तहत 2 सौ पौधें रोपे गये।   पौधा रोपण कार्यक्रम में तहसीलदार मनहरण सिंह राठिया, नायब तहसीलदार राहुल गुप्ता, रीडर श्री ठाकुर, श्रीनिवास राव, श्री गुरु व सभी हल्का के कोटवार शमिल थे।


Date : 13-Jul-2019

3 मिलिशया सदस्यों को लेकर पहुंचे ग्रामीण, कहा-नक्सलियों से रहेंगे दूर

पुलिस जन जागरूकता अभियान का असर 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
दोरनापाल/ सुकमा, 13 जुलाई।
सुकमा जिले के अंदरूनी इलाकों में पुलिस द्वारा आयोजित जन  जागरूकता कार्यक्रमों का प्रभाव अब देखने को मिल रहा है।  फुलबगड़ी थानाक्षेत्र के पोंगाभेज्जी के ग्रामीणों में पहली बार नक्सलियों के खिलाफ एक जुटता तब देखने को मिली जब सरपँच के साथ 30 से 40 ग्रामीण सुकमा के पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा से मिलने उनके दफ्तर पहुंचे।  इतना ही नही ग्रामीण आपने साथ गाँव के 3 युवक मड़कम रामा ,पुनेम गंगा ,पोडियम हिड़मा जो नक्सली संगठन में मिलिशिया के लिए काम कर रहे थे उन्हें भी पुलिस के समक्ष पेश किया । 

 इसके अलावा इन ग्रामीणों ने भविष्य में नक्सलियों के लिए काम न करने सहयोग न करने का वादा करते हुए आने वाले दिनों में नक्सली संगठन से जुड़े सदस्यों को भी पुलिस के समक्ष पेश करने का आश्वासन दिया। एसपी शलभ सिन्हा ने नक्सलवाद से होने वाले नुकसान के बारे में ग्रामीणों को बताते हुए गांव की समस्या पर ग्रामीणों से चर्चा की। वहीं समस्याओं को दूर करने का आश्वासन भी दिया ।


Date : 12-Jul-2019

नक्सलियों ने तेलंगाना के टीआरएस लीडर श्रीनिवास की हत्या 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
सुकमा, 12 जुलाई।
तेलंगाना के चेरला मंडल के टीआरएस नेता श्रीनिवास की नक्सलियों ने हत्या कर दी है। नक्सलियों ने 8 जुलाई को श्रीनिवास को हथियार के दम पर उसके घर से अगवा कर लिया था।

नक्सलियों ने टीआरएस लीडर पर आदिवासियों की 70 एकड़ भूमि अवैध तरीके से छीनने का आरोप लगाते हुए हत्या की वारदात को अंजाम दिया है। साथ ही नक्सलियों ने ग्रामीण इलाकों में पुलिस का मुखबिर बनने का भी आरोप श्रीनिवास पर लगाया है। नक्सलियों की शबरी एरिया कमेटी ने लीडर की हत्या की जिम्मेदारी ली है। नक्सलियों ने टीआरएस लीडर की हत्या के बाद शव छत्तीसगढ़ की सीमा पर किस्टाराम थाना क्षेत्र के पुटेपाड़ के पास फेंक दिया है।

 


Date : 10-Jul-2019

रंजिश में ग्रामीण की हत्या

छत्तीसगढ़ संवाददाता
दोरनापाल, 10 जुलाई।
सुकमा जिले के पोलमपल्ली पांतापारा में देर रात आपसी रंजिश में हत्या कर दी गई है। हत्यारों द्वारा इसे नक्सल  हत्या बनाने की कोशिश भी की गई, वहीं परिजनों ने इसे आपसी रंजिश बताया है। 
परिजनों की मानें तो मृतक कलमू भीमा देर रात शादी की पार्टी में गया था। घर नहीं लौटा, तो सुबह खोजबीन शुरू की तो खेत में उसकी लाश मिली। 
एसडीओपी अखिलेश कौशिक ने बताया कि प्रथम दृष्टया आपसी रंजिश की बात सामने आई है। मृतक किसानी कर जीवनयापन करता था, वहीं एक बेटा बस्तर बटालियन में सहायक आरक्षक के पद में तेमेलवाड़ा में पदस्थ है।

 

 


Date : 09-Jul-2019

मारी गई नक्सली कमांडर थी, 8 लाख का था इनाम

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
सुकमा/ दोरनापाल, 9 जुलाई।
डब्बाकोन्टा इलाके में मुठभेड़ में मारी गई महिला नक्सली की पहचान कुड़ाम भीमे निवासी गगनपल्ली, थाना एर्राबोर जिला सुकमा के रूप में हुई है। उस पर 8 लाख का इनाम था और वह सेक्शन कमांडर थी। ताड़मेटला से लूटा गया हथियार भी बरामद किया गया है।

  एसपी शलभ सिन्हा ने   बताया है कि जवानों के ये ऑपरेशन अब भी जारी है । बताया जा रहा है कि नक्सलियों की जिस टुकड़ी से जवानों का सामना हुआ है उसमें रमन्ना जैसे बड़े लीडर भी शामिल है और कई बड़े नक्सलियों को गोली लगने की बात कही जा रही है । इस ऑपरेशन में जहां 8 लाख की इनामी नक्सली मारी गई वहीं देश के सबसे बड़े नक्सली ताड़मेटला से 2010  में लुटा गया हथियार बरामद हुआ हुआ। बताया जा रहा है कि बटालियन के रमन्ना जैसे बड़े लीडर भी वहां मौजूद थे। 

 आपको बता दें कि डब्बाकोन्टा इलाके में कोबरा डीआरजी व एसटीएफ के जवानो द्वारा जॉइंट ऑपरेशन चलाया जा रहा है । जिसमे डीआरजी के जवानों के साथ मुठभेड़ हुई जिसमें 1 शव व हथियार बरामद किया गया है वही जगह जगह खून के व घसीटने के निशान मिले जिससे कई नक्सलियों के घायल होने व 3 से 4 नक्सलियों के मारे जाने का अनुमान है। 

बारिश में बेस कैंप की तैयारी कर रहे थे नक्सली
 सुकमा में  पुलिस को जॉइंट ऑपरेशन में मिली कामयाबी के बाद ये बात निकलकर सामने आ रही है कि बारिश के पहले नक्सली इलाके में राशन इक_ा कर बेस कैंप बनाने की तैयारी में थे इस बात की पुष्टि सुकमा एसपी शलभ सिन्हा ने प्रेसवार्ता में कई है । जवानों को सूचना थी कि चिंतागुफा से  15 किमी दूर 25 नक्सली वहां मौजूद है और राशन इक_ा करने वाले है साथ ही ट्रेनिंग कैम्प तोंडामरका इलाके में बनाने की तैयारी थी। मारी गई महिला बटालियन की कम्पनी नम्बर 2 में सेक्शन कमांडर है जो लम्बे समय तक डॉक्टर का काम करती रही।  

फिर हमले की तैयारी में नक्सली अलर्ट किया जारी 
एसपी शलभ सिन्हा ने प्रेस वार्ता में बताया कि शहीद सप्ताह नजदीक है तो आशंका है कि नक्सली किसी तरह का हमला कर सकते है इसको देखते हुए ये ऑपरेशन चलाया गया है । बारिश के दौरान इस तरह के ऑपरेशन जारी रहेंगे । जिस तरह ट्रेनिंग कैम्प की जानकारी सामने आई है जवानों को अलर्ट कर दिया गया है कि नक्सली किसी भी तरह का हमला कर सकते है इसके पहले नक्सलियों को मुँह तोड़ जवाब दिया जाए।

 


Date : 09-Jul-2019

सुकमा में महिला नक्सली ढेर कैंप तबाह, शव, राइफल बरामद  

छत्तीसगढ़ संवाददाता
सुकमा, 9 जुलाई।
जिले के चिंतागुफा इलाके में पुलिस ने आज नक्सल कैंप में धावा बोलते हुए मुठभेड़ में एक महिला नक्सली को मार गिराया। घटनास्थल से शव, रायफल और नक्सल सामान बरामद किए हैं। भारी बारिश के बीच सर्चिंग जारी है। 
नक्सल विरोधी अभियान के पुलिस उप महानिरीक्षक सुंदरराज पी ने बताया कि जिले के चिंतागुफा थाना क्षेत्र के डब्बाकोंटा गांव के करीब जंगल में सुरक्षा बलों ने एक नक्सली शिविर को ध्वस्त कर दिया तथा इस दौरान हुई मुठभेड़ में एक महिला नक्सली को भी मार गिराया है। 
उन्होंने बताया कि चिंतागुफा थाना क्षेत्र में सोमवार शाम को नक्सल विरोधी अभियान में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की कोबरा बटैलियन, एसटीएफ और डीआरजी के संयुक्त दल को रवाना किया गया था। दल मंगलवार तडक़े जब डब्बाकोंटा गांव के जंगल में था तभी नक्सलियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। कुछ देर तक दोनों ओर से फायरिंग के बाद नक्सली वहां से फरार हो गए। 

बाद में जब मुठभेड़ स्थल की तलाशी ली गई तो वहां एक वर्दीधारी महिला नक्सली का शव, एक इंसास राइफल और शिविर में रखा सामान बरामद किया गया।
पुलिस सूत्रों ने बताया कि घटनास्थल पर खून के निशान भी मिले हैं, जिससे मुठभेड़ में  अन्य नक्सलियों के हताहत होने की संभावना है।  मुठभेड़ में मारी गई महिला नक्सली की पहचान अभी नहीं हो पाई है। भारी बारिश के कारण शव को सुकमा नहीं लाया जा सका है। फिलहाल इलाके में सघन तलाशी जारी है।