छत्तीसगढ़ » बीजापुर

Date : 17-Jan-2020

8 किलो का विस्फोटक किया निष्क्रिय, जवानों की सूझबूझ से हादसा टला
छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 17 जनवरी।
जवानों की सक्रियता की वजह से नक्सलियों के मंसूबों पर पानी फिर गया। बीते दिनों महादेवघाट और चिनकोडेपाल क्षेत्र में जवान एरिया डोमिनेशन पर निकले थे। तभी जवानों की नजर नक्सलियों द्वारा लगाए गए आईईडी पर पड़ी और जवानों ने बड़ी ही सतर्कता से 8 किलो वजनी आईईडी को नष्ट कर दिया। 

85 बटालियन के कमाण्डेन्ट यादवेंद्र सिंह यादव ने बताया कि नक्सलियों ने जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए जो आईईडी प्लांट किया था वह लगभग 8 किलो वजनी था। अगर किसी जवान का पैर उस आईईडी पर पड़ता तो काफी नुकसान हो सकता था। जवानों ने बड़ी ही होशियारी से आईईडी को नष्ट कर दिया। आईईडी नष्ट करते वक्त 85 बटालियन के डिप्टी कमाण्डेन्ट दीपक कुमार यादव भी जवानों के साथ मौजूद रहे।

दो दिन पहले इसी जगह पर एक आईईडी ब्लास्ट हुआ था, जिसमें 85 बटालियन का 28 वर्षीय जवान बुरी तरह से घायल हो गया था। जिसे बेहतर इलाज के लिए हेलीकॉप्टर से राजधानी रवाना कर दिया गया था।

 

 


Date : 17-Jan-2020

भाजपा के चुनाव प्रचार में छाया रहा धान खरीदी का मुद्दा, कुटरू में भाजपा नेताओं ने की सभा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 17 जनवरी।
जिले में पंचायत चुनाव को लेकर प्रचार चरम पर पहुंच गया है। भाजपा-कांग्रेस के नेता अपने अपन समर्थकों के लिए जगह-जगह सभाएं आयोजित कर वोट मांग रहे हंै।

शुक्रवार को कुटरू में भाजपा समर्थित जिला पंचायत व जनपद पंचायत सदस्यों के लिए भाजपा नेताओं ने प्रचार किया। यहाँ भाजपा नेताओं ने एक सभा आयोजित की। इसमें क्षेत्र के ग्रामीण शामिल हुए। ग्रामीणों को संबोधित करते हुए भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने धान खरीदी को मुद्दा बनाते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार ने किसानों से 25 सौ रुपये क्विंटल में धान खरीदने का वादा किया था, लेकिन राज्य सरकार 1815 रुपये में धान खरीद रही है। किसानों को पुराने और नए बारदाना में उलझा दिया गया। 

भाजपा जिलाध्यक्ष ने आगे कहा कि सरकार किसानों को गुमराह करना बंद करें और किसानों से किये गए वादे के मुताबिक धान खरीदी करें। भाजपा ने सभा में किसानों के विभिन्न मुद्दों को प्रभावी ढंग से उठाया। वहीं जिलाध्यक्ष ने जिले के विकास को लेकर सरकार व क्षेत्रीय विधायक को आड़े हाथों लिया। 

इस अवसर पर नंदकिशोर राणा, महेश्वरी दुर्गम, गोपाल पवार, संजय गुप्ता, महेश्वरी झाड़ी, सोनसिंह, आयतु माड़वी, सुबैया, राजबाबू चेन्नूर, नरसैया उद्दे, लक्ष्मीनारायण कोंड्रा, सहित महेश गोटा, सोनी सोढ़ी व सुशीला कुरसम उपस्थित रहे।--

 


Date : 16-Jan-2020

कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने भाजपा पर साधा निशाना कहा- भाजपा नेताओं के झूठे व मनगढ़ंत भाषणों से जनता ऊब चुकी है 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 16 जनवरी।
बीते दिनों भाजपा द्वारा धान खरीदी को लेकर किये गए एक दिवसीय धरना प्रदर्शन पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए बीजापुर जिला कांग्रेस कमेटी  के अध्यक्ष  लालू राठौर ने भाजपा व पूर्व मंत्री महेश गागड़ा पर निशाना साधा है। 

उन्होंने एक बयान जारी कर कहा कि जब राज्य में भाजपा की सरकार थी तो वे धान का समर्थन मूल्य 2100 रुपए और बोनस 300 रुपए देने का वादा किया था। उनको चाहिए कि अपने कार्यकाल में किसानों से किए गए वादे कितने पूरे किए हैं। वे क्षेत्र की जनता को बताए। छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल की सरकार किसानों की सरकार है। किसानों के हर सुख-दु:ख में साथ खड़ी रहने वाली सरकार है। वर्तमान सरकार कांग्रेस के घोषणा पत्र में किए गए वादों के अनुरूप काम कर रही है। 

श्री राठौर ने कहा कि किसानों से घोषणा पत्र में किए गए वादों के अनुरूप 2500 रुपए प्रति क्विंटल में ही धान खऱीदेगी, किसानों की चिंता भाजपा को करने की ज़रूरत नहीं है। इसके लिए छत्तीसगढ़ के किसान पुत्र भूपेश बघेल है। उन्होंने पूर्व मंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि गागड़ा जी को किसानों की इतनी ही चिंता है तो वे मोदी सरकार से कहे की छत्तीसगढ़ से केंद्रीय पुल में आने वाली चावल को खऱीदे। लेकिन वे ऐसा नहीं करेंगे क्यूंकि वे किसानों का हित चाहते ही नहीं हैं। भाजपा के ऐसे झूठे और मनगढ़ंत भाषणों से जनता अब ऊब चुकी है। इसलिए भाजपा को निकाय चुनावो में जनता ने करारी हार से सबक़ सिखाया है। आने वाले पंचायत चुनावों में भी जनता भाजपा के झूठे और मनगढ़ंत कहानियों को सिरे से ख़ारिज करते हुए कांग्रेस समर्थित प्रत्याशियों के पक्ष में मतदान करेगी।


Date : 15-Jan-2020

जिले में नक्सली उत्पात थमने का काम नहीं ले रही, फिर सड़क निर्माण में लगी 4 गाडिय़ां जलाई

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 15 जनवरी।
जिले में नक्सली उत्पात थमने का काम नहीं ले रही है। एक फिर से सड़क निर्माण कार्य में लगी वाहनों को नक्सलियों ने आग हवाले कर दिया है।

कुटरू थाना से करीब 10 किमी दूर पीएमजीएसवाय के तहत केतुलनार से मंडीमरका तक 5 किलोमीटर मिट्टी मुरुम का काम चल रहा था। बुधवार को भी यहां काम चल रहा था। इसी बीच दोपहर 12 से 1 बजे के बीच कुछ नक्सली निर्माण स्थल में आ धमके और काम बंद करने को कहा। नक्सली काम में लगे मजदूरों को वहां से जाने बोले और वहां खड़ी 6 गाडिय़ों में एक जेसीबी, एक ग्रेडर, एक ट्रैक्टर और एक टैंकर को आग के हवाले कर दिया। वहीं एक ट्रैक्टर और एक छोटा हाथी वाहन सुरक्षित है।  

पीएमजीएसवाय के ईई राकेश साहू ने बताया कि दंगल बिल्डर्स दिल्ली द्वारा यह निर्माण कार्य कराया जा रहा था। 
श्री साहू ने बताया कि डेढ़ करोड़ की लागत से होने वाले इस  सड़क निर्माण का काम नब्बे फीसदी पूरा चुका था। उन्होंने बताया कि नक्सली वारदात से पहले वे सड़क का काम बंद करने को कह कर आये थे। इसके कुछ देर बाद ही यह घटना घट गई। गौरतलब है कि पंचायत चुनाव से पहले जिले में नक्सली वारदात लगातार जारी है।


Date : 15-Jan-2020

धान खरीदी-बोनस को ले भाजपा का धरना-प्रदर्शन, सरकार के खिलाफ बोला हल्ला, राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 15 जनवरी।
धान खरीदी और बोनस को लेकर भाजपा ने राज्य सरकार के खिलाफ हल्ला बोल कर राज्यपाल के नाम का ज्ञापन कलेक्टर को सौंपा। बुधवार को यहां लाइवलीहुड कॉलेज के समाने भाजपा ने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कर राज्य सरकार के खिलाफ हल्ला बोला। 
भाजपा के पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने आरोप लगाया है कि धान खरीदी और बकाया बोनस पर राज्य सरकार राजनीतिक नौटंकी कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार किसानों के साथ झूठे वादे कर सत्ता में आयी है। कांग्रेस सरकार ने अपने वादे में  न्यूनतम 2500 रूपये प्रति क्ंिवटल में न्यूनतम 15 क्ंिवटल प्रति एकड़ धान खरीदी  एवं 2 वर्ष बकाया बोनस राशि देने की घोषणा की थी। लेकिन राज्य सरकार जब से धान खरीदी प्रारम्भ  की है। तब से सरकार  प्रतिदिन नये नये नियमो का हवाला देकर किसानों को परेशान कर रही। टोकन सिस्टम को लागू कर और धान विक्रय सम्बध में बारदाना के लिए  किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं प्रशासन द्वारा छोटे व्यापारी एवं मंडी व्यापारियों के गोदामों से धान जब्त किया जा रहा है। बारिश में किसानों का भीगा हुआ धान सरकार नहीं ले रही है, जिसका किसानों को क्षतिपूर्ति दिया जाना चाहिए। 

पूर्व वन मंत्री ने आरोप लगाया है कि धान खरीदी में बोरा को लेकर  कई  बार किसानों  को धान वापस ले जाना पड रहा है। आधा धान तोलकर वापस भेजा रहा है। वही सरकार ने शराबबंदी  करने के बजाय ठेकेदारों के माध्यम से जगह - जगह व्यापार करने में लगी, जबकि सरकार ने शराबबंदी को लेकर  गंगाजल की कसम खाई थी। भूपेश सरकार  प्रदेश के किसानों को धान खरीदी समर्थन मूल्य ना देते हुये  पूरी तरह से गुमराह कर रही है।

 भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने कहा कि राज्य की कांग्रेस सरकार द्वारा 25 सौ रुपये में प्रति क्विंटल धान लेने की घोषणा की गई थी। लेकिन सरकार द्वारा 1825 रुपये में धान लेकर शेष राशि किसानों को नहीं दी जा रही है। सरकार नए नियम के तहत किसानों को परेशान कर उन्हें आर्थिक चोट पहुंचाने का काम रही है। जिले के विकास को लेकर भाजपा अध्यक्ष ने अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि एक साल में जिले में न विकास हुआ और न ही इसके लिए कोई योजना दिखी। उन्होंने क्षेत्रीय विधायक पर आरोप लगाया कि विकास के लिए उनके पास किसी भी तरह का विजन नहीं है। भाजपा के काम को कांग्रेस अपना बताकर वाहवाही लूट रही है। 

 इस अवसर पर पूर्व नगर पालिकाध्यक्ष सुखलाल पुजारी  पार्षद घासीराम नाग , पार्षद नंदकिशोर राणा, तिरूपति कटला, गौतम राव ,एस के मज्जी ,बेचेनप्रसाद, पार्षद संजय रिवानी ,पूर्व पार्षद महेशवरी दुर्गम,उर्मिला तोकल ,सुगंती चालकी,मंजू यादव , विजयलक्ष्मी मोरला सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

 


Date : 14-Jan-2020

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने जिला पंचायत क्षेत्रों के लिए नियुक्त प्रभारियों की सूची जारी कर दी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 14 जनवरी।
जिले में होने जा रहे जा रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने जिला पंचायत क्षेत्रों के लिए नियुक्त प्रभारियों की सूची जारी कर दी है।

भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने बताया कि जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 1 तिमेड के लिए सुखलाल पुजारी को संयोजक, विजय लक्ष्मी को सहसंयोजक व कृष्णा कोरम, राकेश केतारप, आदि विश्वनाथ जया चिडेम को प्रभारी बनाया गया है। इसी तरह क्षेत्र क्रमांक 2 मद्देड के लिए मनीष सिंह को संयोजक, नानू ओदीवार को सहसंयोजक नरेंद्र वासम को प्रभारी बनाया गया है। क्षेत्र क्रमांक 3 बेदरे के लिए कमलेश मंडावी संयोजक, लक्ष्मी नारायण सहसंयोजक, बलदेव उरसा, लखमू मिच्चा, जितेंद्र कुमार लेकाम, मुड़ा पोडियामी, सुदराम, लक्ष्मी टुगे, आयतु माड़वी, लखमू उरसा। क्षेत्र क्रमांक 4 जांगला के लिए मनधर नाग संयोजक, बलदेव उरसा संयोजक, हरीश निषाद सहसंयोजक, चमन ठाकुर। क्षेत्र क्रमांक 5 नेलसनार के लिए नकुल ठाकुर संयोजक, रामलाल यादव सहसंयोजक, सुमन कोरसा, फगनुराम, बली कश्यप, लखमू, जगत बघेल, पायकू जुर्री, नुगुर कश्यप, पाकलू उरसा। क्षेत्र क्रमांक 6 गंगालूर के लिए घासीराम नाग संयोजक, के. यशराज सहसंयोजक, रामू पसपुल, मोटू मंगू, भुवन सिंह चौहान, गणेश सिंह पवार, बंशी नक्का, सतीश एंड्रिक। क्षेत्र क्रमांक 7 नैमेड के लिए दयाशंकर पटेल संयोजक, जागेश्वर देवांगन सहसंयोजक, गोपाल पवार, संदीप तेलम, बंडे राम कोरसा, सन्नू राम पोडिय़ाम, रमेश कोरसा, राजेश पोंदी, लखमू कोरसा, लक्ष्मीनारायण नागुल, के. मोहन राव, आनंद सकनी। क्षेत्र क्रमांक 8 तोयनार के लिए संजय लुंकड़ संयोजक, नंदकिशोर राणा सहसंयोजक, घासीराम नाग, सतेंद्र ठाकुर, श्रीमती भाग्यवती पुजारी, महेश्वरी झाड़ी, भुवन सिंह चौहान, गोपाल पवार, जिलाराम राणा, ज्योति हेमला। क्षेत्र क्रमांक 9 आवापल्ली के लिए जागर लक्षमैया संयोजक, संजय लुंकड़ सहसंयोजक। इसी तरह क्षेत्र क्रमांक 10  पामेड़ के लिए डोलेश्वर झाड़ी संयोजक,सदाशिव अलसा सहसंयोजक व महेश्वरी दुर्गम को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

 


Date : 14-Jan-2020

रोड ओपनिंग के दौरान एक प्रेशर आईईडी विस्फोटक की चपेट में आकर सीआरपीएफ का एक जवान गंभीर, रायपुर भेजा

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 14 जनवरी।
नेशनल हाईवे से थोड़ा अंदर रोड ओपनिंग के दौरान एक प्रेशर आईईडी विस्फोटक की चपेट में आकर सीआरपीएफ का एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गया। विस्फोट में घायल हुए जवान को जिला अस्पताल लाया गया है। बताया जा रहा है कि जवान के दोनों पैरों में गंभीर चोट लगी है और उसे जिला अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद हेलीकॉप्टर से रायपुर रेफर किया गया है। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी और सीआरपीएफ के अफसर अस्पताल पहुंच गए हैं। 

मिली जानकारी के मुताबिक मंगलवार सुबह सीआरपीएफ 85वीं बटालियन के जवान रूटीन आरओपी के लिए बेस कैंप से निकले थे। दोपहर करीब साढ़े तीन बजे एनएच से करीब 150 मीटर की दूरी पर एक 5 से 7 किलो वजनी प्रेशर आईईडी पर जवान का पैर पडऩे से ब्लास्ट हो गया। आईईडी विस्फोट इतना शक्तिशाली था कि वहां डेढ़ फीट गहरा गड्डा हो गया। विस्फोट में  सीआरपीएफ 85वीं बटालियन का जवान रामानुज यादव (28) निवासी जिहानाबाद बिहार गंभीर रूप से घायल हो गया। 

बताया गया है कि घायल जवान बटालियन के जी कंपनी का है और वह बीजापुर में पदस्थ है। खबर के मुताबिक चिन्नाकोडेपाल और महादेव घाट के बीच हुए इस  घटना में जवान के दोनों पैरों में गंभीर चोट आई है। जवान को रायपुर रेफर किया गया है। ज्ञात हो कि गुरुवार को भी नक्सलियों ने जिले के गंगालूर थाना क्षेत्र के चेरपाल में 9 रेत गाडिय़ों को आग के हवाले कर दिया था।

चुनाव से पहले नक्सली हलचल तेज
नक्सलियों ने सूबे में होने वाले पंचायत चुनाव का बहिष्कार कर रखा है। इसी वजह से नक्सली जिले में अपनी सक्रियता दिखाकर एक के बाद एक वारदातों को अंजाम देकर दहशक फैलान के फिराक में हैं। गौरतलब है कि बीते शुक्रवार को सुकमा-बीजापुर की सीमा पर भी नक्सलियों ने जवानों पर फायरिंग कर दी थी। जिसमें दो जवान घायल हो गए थे। लगातार ऐसी वारदातों को अंजाम देकर नक्सली दहशत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं।


Date : 13-Jan-2020

युवक की हत्या, नक्सली वारदात की आशंका, शव के हाथ टॉवेल से बंधे मिले, तलाश तेज

छत्तीसगढ़ संवाददाता

बीजापुर, 13 जनवरी। यहां से 25 किमी दूर गंगालूर थाना क्षेत्र में एक अज्ञात युवक का शव सडक़ पर मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई है। घटना को नक्सल वारदात से जोडक़र देखा जा रहा है। समाचार लिखे जाने तक युवक की पहचान नहीं हो पाई है।

जानकारी के मुताबिक लाश बद्देपारा व पुसनार मार्ग के पास पड़ी मिली है। लाश के दोनों हाथ टॉवल से बंधे हुए हैं। मृतक के मुंह को भी कपड़े से बांध दिया गया है। युवक की धारधार हथियार से हत्या करने की बात सामने आई है। एसपी दिव्यांग पटेल ने घटना की पुष्टि कर दी है। फिलहाल सुरक्षा के मद्देनजर इलाके की सर्चिंग तेज कर दी गई है।

मिली जानकारी के मुताबिक युवक की हत्या रविवार देर रात की गई है, फिर सोमवार सुबह बददेपारा-पुसनार मार्ग पर युवक की लाश को फेंक दिया गया। सुबह ग्रामीणों ने शव को देखा तो पुलिस को इस मामले की जानकारी दी। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। फिलहाल पुलिस ने युवक के शव को अपने कब्जे में ले लिया है। अभी तक मृतक की शिनाख्त नहीं हो पाई है। नक्सली वारदात की आशंका में पुलिस ने इलाके की सुरक्षा बढ़ा दी है। जवान लगातार इलाके की सर्चिंग कर रहे हैं।

पंचायत चुनाव से पहले वारदात

ज्ञात हो कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव से पहले नक्सली कई वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। गुरुवार को भी नक्सलियों ने बीजापुर में 10 गाडिय़ों को आग के हवाले कर दिया था, वहीं शुक्रवार को सुकमा-बीजापुर की सीमा पर भी नक्सलियों ने जवानों पर फायरिंग कर दी थी, जिसमें दो जवान घायल हो गए थे। लगातार ऐसी वारदातों को अंजाम देकर नक्सली दहशत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं।

 


Date : 12-Jan-2020

नागरिकता कानून का नक्सल विरोध, कहा-इससे रीति रिवाज पर असर पड़ेगा और स्थानीय लोगों को विस्थापन का दंश झेलना पड़ सकता है

छत्तीसगढ़ संवाददाता
बीजापुर, 12 जनवरी।
नक्सलियों ने नागरिकता कानून का विरोध करते कहा है कि इससे रीति रिवाज पर असर पड़ेगा और स्थानीय लोगों को विस्थापन का दंश झेलना पड़ सकता है।

इस आशय के पर्चे माओवादियों की मद्देड़ एरिया कमेटी ने भोपालपटनम क्षेत्र में फेंके हंै। माओवादियों ने आरोप लगाया है कि इससे कई वर्गों को परेशानी हो सकती है। आदिवासियों को जल जंगल जमीन छोडऩा पड़ सकता है और इस पर लुटेरों का राज हो जाएगा। 

माओवादियों ने सभी वर्गों से इस कानून का विरोध करने को कहा है। नया कानून लेकर केंद्र की भाजपा सरकार बीस से तीस लाख आदिवासियों को जंगल जमीन से बेदखल करना चाहती है। नक्सलियों ने केंद्र पर आरोप लगाया है कि मोदी सरकार गरीब जनता का दमन कर रही है और निर्दोषों को मारपीट कर जेल भेज रही है। नक्सलियों ने दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी के सचिव रमन्ना को गरीबों के हक के लिए लडऩे वाले निरूपित करते कहा है कि अब गुरिल्ला युद्ध को मोबाइल युद्ध में बदल डालेंगे।


Date : 11-Jan-2020

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय कुकिंग स्पर्धा में बीजापुर जिले की महिला स्व सहायता समूह का भोजन सबसे स्वादिष्ट रहा

बीजापुर, 11 जनवरी। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय कुकिंग स्पर्धा में बीजापुर जिले कीमहिला स्व सहायता समूह का भोजन सबसे स्वादिष्ट रहा। स्पर्धा में बीजापुर ने पहला स्थान प्राप्त किया। निर्णायकों के साथ ही बच्चों ने भी भोजन को चखकर बताया। बीजापुर जिले की महिला स्व-सहायता समूह को प्रथम स्थान हासिल होने पर 7 हजार रूपये एवं स्मृति चिन्ह पुरस्कार के रूप में प्रदान किया गया। 

शिक्षा विभाग द्वारा पहली बार स्कूलों में मध्यान्ह भोजन बनाने वाले महिला स्व-सहायता समूहों के लिए कुकिंग स्पर्धा आयोजित की गई थी। स्पर्धा ब्लाक स्तर, जिला स्तर एवं राज्य स्तर पर हुई। जिसमें 7 एवं 8 जनवरी को जे. आर. दानी शासकीय उच्चतर माध्यमिक कन्या शाला कालीबाड़ी चौक रायपुर में आयोजित स्पर्धा में राज्य के 26 जिलों के 52 स्व-सहायता समूहों ने हिस्सा लिया। प्रतियोगिता दो चरणों में हुई जिसमें प्रथम चरण में सभी प्रतिभागियों को अपनी पसंद का व्यंजन बनाना था इसमें खास बात यह रही कि इसमें प्राथमिक स्कूल के 10 बच्चों के लिए भोजन बनाया गया था इसमें लागत उतनी ही लगाई थी जितनी मध्यान्ह भोजन योजना के तहत राज्य शासन से उपलब्ध कराई जाती है। प्रथम चरण में 52 टीमों में से 16 टीमों को द्वितीय चरण के लिए चयनित किया गया। प्रतियोगिता के अंतिम दिन 16 टीमों के मध्य पुन: प्रतियोगिता हुई। जिसमें सभी प्रतिभागियों को एक ही व्यंजन बनाने का टॉस्क दिया गया था। 

जिसमें बीजापुर जिले के महिला स्व-सहायता समूह द्वारा सबसे स्वादिष्ट एवं गुणवत्तायुक्त बनाकर प्रथम स्थान हासिल किया।