छत्तीसगढ़ » बीजापुर

शिक्षक हमीद का निधन
25-Apr-2021 8:25 PM (143)

बीजापुर, 25 अप्रैल। शनिवार की रात बीजापुर के वरिष्ठ शिक्षक हमीद हाई का निधन हो गया। स्व. हाई को उनके शिक्षा ग्रहण के समय से ही स्पोर्ट्स में काफी दिलचस्पी थी। वे क्रिकेट व टेबल टेनिस के बेहतरीन खिलाड़ी थे। बीजापुर के  लोगो में हमीद हाई काफी लोकप्रिय और मिलनसार व्यक्ति के रूप में जाने जाते थे। उनके निधन की खबर सुनकर जिले में शोक की लहर दौड़ गई है। स्व. हमीद हाई शिक्षिका सुनीता हाई के पति और सलीम हाई के बड़े भाई थे।

चचेरे भाई-बहन ने एक ही फंदे में लगाई फांसी
24-Apr-2021 9:41 PM (166)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर,  24 अप्रैल। यहां से दस किमी दूर तुमनार गांव में एक खेत में पेड़ पर शनिवार की सुबह जिला पंचायत के ड्राइवर बलविंद कुमार तेलम (23) एवं उसकी चचेरी बहन निशा तेलम (20) ने एक ही फंदे से फ ंासी लगाकर आत्महत्या कर ली।

सूत्रों के मुताबिक सुकलू तेलम नयापारा की बेटी निशा और उसके छोटे भाई मंगू तेलम डोंगरीपारा का बेटा बलविंद एक दूसरे से विवाह करना चाहते थे। जब यह बात गांव के लोगों और परिजनों को पता चली तो बुजुर्गों ने शुक्रवार को गांव में ही बैठक की। बुजुर्गों नेे चचेरे भाई-बहन के रिश्ते को नामंजूर कर दिया। शनिवार की सुबह दोनों ने एक ही गमछे से उनके खेत में आम के पेड़ में फ ांसी लगा ली।

सुबह इसकी खबर फैलते ही गांव के लोग यहां एकत्र हो गए। फिर कोटवार ने कोतवाली में इसकी खबर दी। बताया गया है कि निशा आठवीं तक पढ़ी थी और घर में ही रहती थी। बलविंद कुमार तीन साल से जिला पंचायत में गाड़ी चलाता था।  बताया गया है कि दोनों एक दूसरे को चाहते थे, लेकिन भाई-बहन की शादी अवैध होने के कारण इसे बुजुर्गों ने नामंजूर कर दिया। इसे लेकर दोनों ने आत्महत्या कर ली। पुलिस मामले की विवेचना कर रही है।

अगवा एसआई की नक्सल हत्या
24-Apr-2021 9:29 PM (97)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 24 अप्रैल। तीन दिनों तक बंधक बनाए जाने के बाद नक्सलियों ने शुक्रवार की रात सब इंस्पेक्टर मुरली ताती की हत्या कर दी।

गंगालूर थाने से करीब छह सौ मीटर दूर सामुदयिक स्वास्थ्य केन्द्र के आगे पेदापारा में सुबह मुरली ताती का शव मिला। उसके पास नक्सलियों ने एक पर्चा भी छोड़ रखा था। उसमें नक्सलियों ने मुरली पर आरोप लगाए हैं।

भाकपा (माओवादी) की पश्चिम बस्तर डिविजनल कमेटी ने कहा है कि मुरली ताती सलवा जुड़म के समय से 2006 से 2021 तक डीआरजी में था। वह एड़समेटा, पालनार एवं मधुवेण्डी में हत्या, महिलाओं पर अत्याचार, छेड़छाड़, फर्जी मुठभेड़ों में पीएलजीए कार्यकर्ताओं की हत्या करना आदि में सक्रिय था। वह निर्दोष ग्रामीणों को झूठे मामलों में जेल भेजने, लूटपाट एवं गष्त के दौरान लोगों को परेषान करने में शामिल था। नक्सलियों ने डीआरजी जवानों से कहा है कि पुलिस की नौकरी छोड़ लोगों के साथ रहो।

बताया गया है कि मुरली गैस वाली गाड़ी में परपा से बैठकर बीजापुर आया था। इसके अगले दिन वह चेरपाल तक आया और फिर अपनी बहन के घर भोगामगुड़ा गया। वहां उसकी बहन नहीं थी तो वह एक दोस्त के साथ साइकिल से पालनार पहुंच गया। वहां बीजजात्रा चल रहा था। वहां पूजा पाठ के बाद भोज चल रहा था।

यहां पहले से ही नक्सली मौजूद थे। वहां नक्सलियों ने उसका अपहरण कर लिया। मुरली के चाचा और भाई उसकी तलाश में घूम रहे थे और नक्सलियों से उसे छोडऩे की गुजारिश कर रहे थे लेकिन वह नहीं मिला। पता चला कि अपहरण के बाद उसे आठ किमी दूर कोरचोली ले जाया गया। फिर अगले दिन उसे बैलाडीला की तराई में बसे गांव एड़समेटा ले जाया गया। फिर पेदापारा में उसका शव मिला।

नई पुलिस लाइन में श्रद्धांजलि

नई पुलिस लाइन में मुरली के पार्थिव शरीर को लाया गया। यहां बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं स्थानीय विधायक विक्रम शाह मण्डावी, आईजी पी. सुंदरराज, कलेक्टर रितेश अग्रवाल, एसपी कमलोचन कश्यप, डीएफओ अशोक पटेल एवं अन्य अधिकारी मौजूद थे। यहां पत्रकारों से चर्चा में आईजी ने कहा कि हमने जवान को मुक्त कराने की कोशिश की थी। मुरली ताती का अंतिम संस्कार जेलबाड़ा में उनके घर के समीप किया गया। उनकी निधन से गांव गमगीन रहा।

छत्तीसगढ़ सीमा के अंतिम छोर तारलागुड़ा में नाकाबंदी
23-Apr-2021 7:52 PM (127)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपट्टनम, 23 अप्रैल।
महामारी कोरोना वायरस कोविड 19 के बढ़ते क्रम को देखते हुए छत्तीसगढ़ शासन द्वारा सभी अंतराज्यीय सीमाओं को पूरी तरह नाकाबंदी की है। इधर छत्तीसगढ़ सीमा के अंतिम छोर तारलागुड़ा में भी थाना परिसर के सामने पंडाल बनाकर स्वास्थ्य कर्मी, पुलिस, राजस्व व पंचायत विभाग के कर्मचारी शासन के निर्देशों का पालन करते हुए अपनी सेवाएं दे रहे हैं। मीडिया के द्वारा जानकारी लेने पर बताया गया कि अभी तक किसी प्रकार के कोरोना पॉजेटिव केस नहीं आए हैं। 

आज भोपालपटनम के एसडीएम डॉ हेमेंद्र भुआर्य, तहसीलदार शिवनाथ बघेल भी बॉडर का निरीक्षण करने गए थे। इस दौरान तारलागुड़ा के टीआई अग्रवाल, आयुर्वेदिक डॉ लक्ष्मीनारायन पटेल, ग्राम पंचायत के सचिव व पटवारी, स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी मौजूद थे। आज स्वास्थ्य विभाग के द्वारा ग्राम देपला में कोरोना कोविड 19 का एंटीजन टेस्ट किया जा रहा था।
 

चरित्र शंका में आरक्षक ने ली पत्नी की जान, पुलिस गिरफ्त में आरोपी
21-Apr-2021 9:40 PM (168)

बीजापुर, 21 अप्रैल। एक आरक्षक ने अपनी पत्नी की चरित्र शंका के चलते गला घोंट कर हत्या कर दी। इस घटना का खुलासा मंगलवार को हुआ।
थाना प्रभारी शशिकांत भारद्वाज ने बताया कि घटना 18 अप्रैल की है। आरक्षक पल्लव बुधु (33) ने 2011 में मैनी पल्लव से शादी रचाई थी और इनके तीन बच्चे भी है। कुछ दिनों से पति और पत्नी के बीच काफी विवाद चल रहा था।

 थाने से मिली जानकारी के अनुसार आरक्षक हमेशा अपनी पत्नी पर चरित्र शंका का आरोप लगाता था और अपनी पत्नी से मारपीट करता था। गत 18 अप्रैल को आरक्षक अपनी पत्नी को सुबह 10.30 बजे जंगल लकड़ी काटने के बहाने से ले गया और सूनसान जगह देखकर कपड़े से पत्नी का गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी और सुनसान जंगल में शव को फेंक दिया। फिर बड़े ही शातिर तरीके से शांति नगर में अपने  घर पर आकर आरक्षक पड़ोसियों से ही पूछने लगा कि मेरी पत्नी को आप लोगों ने देखा क्या वो सुबह से घर नहीं आयी है। फिर पड़ोसियों को शक हुआ कि आरक्षक ने ही अपनी पत्नी को कुछ कर दिया है और अब मासूम बन रहा है और शांतिनगर के निवासियों ने इस घटना की जानकारी पार्षद पुरषोत्तम सल्लुर को दी।

 पार्षद सल्लुर ने घटना  की जानकारी बीजापुर कोतवाली को दी और पुलिस ने तत्काल इस घटना पर कार्रवाई करते हुए आरक्षक को अपने कब्जे में ले लिया और पुलिस की कड़ी पूछताछ के बाद आरोपी ने अपनी पत्नी की कत्ल की बात कबूली। पूछताछ के बाद आरोपी पुलिस को घटना स्थल पर ले गया और सारी बात कबूली। पुलिस ने यह भी बताया कि आरक्षक ने तीन महीने पहले एक दूसरी महिला से शादी रचाई है। इधर आरोपी को हिरासत में भेज दिए गया है और महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

कोरोना का टीका लगाओ, दो किलो टमाटर ले जाओ
20-Apr-2021 7:25 PM (117)

नपा ने लोगों को प्रोत्साहित करने निकाला तरीका

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 20 अपै्रल।
यहां नगर पालिका ने कोरोना वैक्सिनेशन को गति देने व लोगों को प्रोत्साहित करने एक अनूठी पहल शुरू की हैं। यहां पालिका क्षेत्र में कोरोना टीकाकरण कराने वाले लोगों को दो किलो मुफ्त में टमाटर दिया जा रहा है। इसका असर ये हो रहा है कि टीकाकरण केंद्रों में लोग पहुंचकर टीकाकरण करवाया रहे हैं। 

 टीकाकरण की सुस्त गति से नाखुश पालिका अधिकारियों को एक सब्जी व्यापारी की 70 कैर्रेट यानी करीब 1400 किलोग्राम टमाटर दान करने से संजीवनी मिल गई है। नगरपालिक के 15 वार्डो में अब टीकाकरण के लिए शारीरिक दूरी और मास्क के साथ टीकाकरण में बढ़ोत्तरी हो रही है। पालिका क्षेत्र में अब तक 1200 से ज्यादा लोगों को कोरोना का टीका ( कोविशील्ड) लगाया जा चुका है।

बीजापुर नगरपालिका की यह अनूठी पहल दरअसल कोई सरकारी योजना नही है। बल्कि एक व्यापारी के टमाटर दान से संभव हुआ है। अशोक जसवाल नाम के व्यापारी ने 70 कैर्रेट यानी 1400 किलो टमाटर नगरपालिका को दान किया है। टीकाकरण के बदले टमाटर देने की पहल के बाद बीते 2 दिनों में टीकाकरण में वृद्धि देखने को मिल रही है। खबर लिखे जाने तक 1209 लोगों को टीकाकरण किया गया है। अब टीकाकरण में तेजी देखी जा रही है।
 

गौ तस्करी, प्रशासन की मिलीभगत, भाजपा जिलाध्यक्ष ने लगाया आरोप
19-Apr-2021 9:55 PM (79)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 19 अपै्रल। बीते शुक्रवार को गौ तस्करी का मामला प्रकाश में आया था गौ तस्कर बीजापुर के रास्ते तेलंगाना राज्य ले जा रहे थे। जिसे ग्रामीणों की सजगता के चलते महाराष्ट्र पुलिस ने पकड़ा था। इस पर अब भाजपा जिला अध्यक्ष ने सरकार और प्रशासन की मिलीभगत का आरोप लगाया है।

गौरतलब है कि बीते शुक्रवार को एक ट्रक से गौ तस्करी होने की सूचना भोपालपट्टनम ग्रामीणों को लगी थी और जब वाहन को रोकने का प्रयास किया गया था तब चेक पोस्ट नाका को तोडक़र बीजापुर सीमा पार निकल गए थे, जिसकी सूचना ग्रामीणों ने महाराष्ट्र पुलिस को दी थी। उसके बाद गाड़ी रोककर अपने कब्जे में कर लिया था। तस्कर भाग निकलने में कामयाब हो गए थे। वाहन से 13 मृत गायें पाए गए थे अन्य 39 जीवित गायों को पेटिपाका ग्राम के कांजीहाउस में रखा गया है। आगे की कार्यवाही महाराष्ट्र पुलिस कर रही है, इस पर अब भाजपा ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से आरोप लगाया है।

जारी वक्तव्य में भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवासन मुदलियार ने कहा है कि इन दिनों कोविड के चलते जगह-जगह पुलिस बल तैनात है और रायपुर राजधानी से लेकर प्रदेश के अंतिम छोर तिमेड भोपालपट्टनम तक चेक पोस्ट लगा हुआ है। इसके बावजूद भी कहीं चेकिंग न होना यह संदेह पैदा करता है कि जब कोई वाहन चार सौ किलोमीटर से अधिक का सफर करके तस्कर राज्य से बाहर चला जाता है और प्रशासन को इसकी भनक तक नही लगती है आखिर यह कैसे संभव हो सकता है।

जारी विज्ञप्ति में श्री मुदलियार ने आगे कहा कि चेक पोस्ट होने बावजूद भी वाहन का चेकिंग न करना यह स्पष्ट होता है कि इस कृत्य में शासन-प्रशासन की मिलीभगत है। इनके शह के बगैर इस प्रकार का कार्य बेधडक़ कोई नहीं कर सकता। जबकि शासन प्रशासन को मालूम है कि गौ तस्करी प्रतिबंध है। बावजूद नाक के नीचे से तस्करी हो रही है।

सरकार ऐसे मामलों को गंभीरता से ले और कार्यवाही के लिए प्रशासन को निर्देश दे, ताकि भविष्य में इस प्रकार की तस्करी न हो सके, यह पुलिस विभाग, वन विभाग की निंद्रा को भी दर्शाता है। चूंकि जगह-जगह इन विभाग के चेक पोस्ट होने बावजूद भी कोई चेकिंग न होना महज समझ से परे है,ऐसे मामलों में गंभीरता बरतें।

स्वास्थ्य एवं पुलिसकर्मी जिम्मेदारी से दे रहे अपनी सेवाएं
18-Apr-2021 6:51 PM (89)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपटनम, 18 अपै्रल।
भोपालपटनम तहसील में लॉकडाउन का कड़ाई से पालन किया जा रहा है, जिसके तहत भोपालपटनम सीमा से लगे तिमेड नाका में स्वास्थ्य कर्मी एवं पुलिसकर्मी पूर्ण जिम्मेदारी के साथ अपनी सेवाएं दे रहे हैं। तिमेड के हल्का के पटवारी भी शामिल है। इधर तरला गुड़ा चौक में पुलिस कर्मियों का निगरानी है। भोपालपटनम के गांधी चौक में भोपालपटनम थाना प्रभारी विनोद एक्का अपने स्टाफ के साथ एवं नगर पंचायत के कर्मचारियों के साथ लोगों को लॉकडाउन के कड़ाई से पालन करने का आह्वान कर रहे।

सुबह-शाम को नगर पंचायत के द्वारा लॉकडाउन के संबंध में जानकारी देते हुए स्वास्थ्य केंद्र जाकर कोरोना का टीका लगाने हेतु प्रचार प्रसार किया जा रहा है और लोगों को अति आवश्यक कार्य पर बाहर निकले नहीं तो घर पर सुरक्षित रहने की अपील की जा रही है। पुलिसकर्मी के द्वारा चौक-चौराहों पर निगरानी रखी जा रही है।
 

कहीं रायपुर से तेलंगाना तक तो नहीं जुड़े है बूचडख़ानों के तार?
18-Apr-2021 6:26 PM (62)

ग्रामीणों ने गौ तस्करी करते पकड़ा वाहन, पहले भी हुए है खुलासे

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 18 अपै्रल।
देश भर में गौ तस्करी पर प्रतिबंध लगा हुआ है। बावजूद तमाम कोशिशों के बाद भी देश में गौ-तस्करी बदस्तूर जारी है। बीते दिनों गौ तस्करी का एक बड़ा खुलासा महाराष्ट्र के ग्रामीणों ने किया हैं। रायपुर से महाराष्ट्र के रास्ते तेलंगाना के बूचडख़ाने ले जाये जा रहे मवेशियों से भरी एक ट्रक को ग्रामीणों ने पकड़ा है।

शुक्रवार की सुबह  ग्रामीणों को खबर मिली थी कि सीमावर्ती राज्य छत्तीसगढ़ के राष्ट्रीय राजमार्ग 63 के तिमेड़ पुल से एक ट्रक में दर्जनों मवेशियों को अवैध तरीके से कत्लगाहों में ले जाया जा रहा हैं। जिस ट्रक में मवेशी ले जाये जा रहे थे, वह ट्रक  तिमेड़ चेक पोस्ट पर फारेस्ट नाका को तोडक़र चालक ट्रक को महाराष्ट्र की ओर लेकर भागा। तिमेड़ के ग्रामीणों ने इसकी खबर महाराष्ट्र पुलिस व स्थानीय ग्रामीणों को दी। महाराष्ट्र के अंकीसा गांव के ग्रामीणों ने मवेशियों से भरी ट्रक को रोकने का प्रयास किया, लेकिन चालक ने वाहन को न रोककर तेजगति से वाहन को तुमनुर गांव की ले गया। 

अंकीसा के ग्रामीणों ने तुमनुर के ग्रामीणों को इसकी खबर दी। इसके बाद गांव के युवा सामाजिक कार्यकर्ता किरण वेमुला ने तस्करी की जा रही वाहन को रोकने के उद्देश्य से सडक़ पर ट्रेक्टर के पहिये डालकर मार्ग को जाम कर दिया। लेकिन वाहन चालक ने उसपर से भी वाहन निकालकर आगे बढऩे का प्रयास करने लगा। लेकिन उसका यह प्रयास सफल नहीं हो सका और तकनीकी खराबी के चलते ट्रक अनियंत्रित होकर सडक़ किनारे जा रुकी, और वाहन में सवार तस्कर मौके से फरार होने में कामयाब हो गए। इसके बाद वाहन की तलाशी ली गई। जिसमें 52 मवेशियों को भरा गया था। इनमें से 13 मवेशियों की मौत हो चुकी थी। अन्य 39 मवेशियों को पेंटिपाका गांव के कांजीहाउस में रखा गया हैं। इधर खबर लिखे जाने सिरोंचा पुलिस ने मामला पंजीबद्ध कर तस्करी में शामिल फरार आरोपियों की पतासाजी कर रही हैं। 

उल्लखनीय है कि फरवरी माह में भी रायपुर से महाराष्ट्र के रास्ते तेलंगाना के बूचडख़ानों में ले जाये रहे मवेशियों से भरे एक ट्रक को महाराष्ट्र में पकड़ा गया था। पकड़े गए ट्रक में 42 मवेशियों थे। जिसमें  14 मृत व 28 जीवित पाए गए थे। लगातार गौ तस्करी के मामले सामने आने के बाद इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि रायपुर के तार तेलंगाना के बूचडख़ानों से जुड़े हो?
 

मवेशियों की तस्करी, तेलंगाना ले जाते वाहन ग्रामीणों की मदद से पकड़ाया
17-Apr-2021 7:13 PM (172)

52 में से 13 मवेशी मृत मिले

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपटनम, 18 अपै्रल।
कल सुबह रायपुर से कंटेनर में 52 मवेशियों को तेलंगाना ले जाते ग्रामीणों की मदद से पकड़ा गया। ड्राइवर फरार है। वहीं कंटेनर में ठूंस-ठूंसकर भरे 52 मवेशियों में से 13 मवेशी मर चुके थे। 

रायपुर के आसपास से एक कंटेनर गाड़ी में 52 मवेशियों को भरकर सीमा पार कर मवेशियों को तस्कर तेलंगाना राज्य ले जाया जा रहा था। तब सीमा पर लगी नाका पर कल सुबह लगभग 6 बजे नाका पर चौकीदार चिलम राममूर्ति का पुत्र चिलम अजीत के साथ कुछ और तिमेड़ के ग्रामीण उस कंटेनर को नाका के पास रोकना चाहा तो ड्राइवर नाका को तोड़ते हुए महाराष्ट्र सीमा में प्रवेश किया। 

उक्त ग्रामीणों ने असर अली फोन कर जानकारी दी वहां भी ग्रामीणों द्वारा रोकने का प्रयास किया गया, लेकिन ड्राइवर साइड से कट करते हुए स्पीड से गाड़ी आगे बढ़ाने में कामयाब हो गया। 

सिरोचा तहसील के पेटीपाका के ग्रामीणों द्वारा हाईवे पर ट्रैक्टर का केज बिल डालकर रोकना चाहा तो नहीं रोका केज बिल कंटेनर की नीचे फंस कर कुछ दूर रोड पर रगड़ कर जाने से गाड़ी का एक्सेल राड टूट कर कंटेनर रोड के एक और उतर गई, जिससे आनन-फानन में ग्रामीण कंटेनर तक पहुंचते तक ड्राइवर उतर कर भाग गया। ग्रामीणों द्वारा कंटेनर में देखा गया तो 52 मवेशियों थे जिसमें 13 मवेशी या मर चुके थे।

बाकी जिंदा थे यह गाड़ी क्रमांक सीजी 04 जेबी 01 26 हरि ओम रोड लाइंस की गाड़ी थी। जिसकी शिकायत सिरोंचा थाना में दी गई है। पुलिस जांच कर रही है। 
 

जवान को छुड़ाने वाले मध्यस्थों में शामिल बोरैया के घर तक जाने सडक़ तो दूर पगडंडी भी नही
11-Apr-2021 8:32 PM (187)

सात पीढ़ी बीत गई लेकिन सडक़ मयस्सर नहीं हो पाई

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 11 अप्रैल।
नक्सलियों के चंगुल से अपहृत जवान को छुड़ाने वाले मध्यस्थों में शामिल तेलम बोरैया आज किसी पहचान के मोहताज नहीं रहे। आगामी दिनों में उन्हें और अन्य मध्यस्थों को मुख्यमंत्री सम्मानित भी करेंगे। लेकिन बात उनके घर तक पहुंचने की करें तो वहां तक पहुंचने के लिए पगडंडी भी नहीं हैं। सात पीढ़ी हो गई, लेकिन सडक़ तो दूर पगडंडी भी मय्यसर नहीं हुई।

बीजापुर के वरिष्ठ पत्रकार पवन दुर्गम ने कोबरा बटालियन के जवान को नक्सलियों के कब्जे से छुड़ाकर लाने वाले समाजसेवी और गोंडवाना समन्वय समिति के अध्यक्ष तेलम बोरैया से उनके कमरगुड़ा स्थित घर पहुंचकर उनसे खास बातचीत की। पत्रकार पवन दुर्गम के बोरैया से बातचीत का वीडियो वायरल हो रहा है।  

पत्रकार पवन बताते हैं कि तेलम बोरैया आज किसी पहचान के मोहताज नहीं रहे। वे जवान को नक्सलियों के चुंगल से लाकर मिसाल बने हैं। आज पूरा देश उन्हें सलाम कर रहा है। लेकिन तेलम बोरैया जिस कमरगुड़ा गांव में सात पीढिय़ों से रह रहे हैं।  वहां आज भी एक सडक़ मय्यसर नहीं है। वे नेताओं और अफसरों से मिन्नतें कर थक गए। लेकिन उनके घर तक पहुंचने एक सडक़ तक नहीं बन सकी। 

पत्रकार पवन का कहना है कि देश के गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जिस मध्यस्थ टीम के बदौलत छूटकर आने वाले जवान को बधाइयां दे रहे हैं। उसी टीम के वरिष्ठ सदस्य के घर तक पहुंचने के लिए पगडंडी भी नहीं है। उन्होंने जोर दिया कि उनकी क्या मांग है, ये भी सुनना चाहिए। पत्रकार ने ोउम्मीद जाहिर की है कि देश के जवान को सकुशल वापिस लाने वाले रिटायर्ड शिक्षक और समाजसेवी तेलम बोरैया के घर तक सडक़ बनाने की सरकार सोचेंगे।

पत्रकार पवन दुर्गम ने ‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता को बताया कि तेलम बोरैया से बातचीत का वीडियो वायरल होने के बाद कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने उन्हें फोन कर जानकारी ली और उन्होंने इस सडक़ के लिए संबंधित अफसरों को स्टीमेट बनाने के निर्देश दिए हैं।
 

जवान को छुड़ाने वाले मध्यस्थों में शामिल बोरैया के घर तक जाने सडक़ तो दूर पगडंडी भी नहीं,
10-Apr-2021 8:48 PM (86)

   सात पीढ़ी बीत गई लेकिन सडक़ मयस्सर नहीं हो पाई   

बीजापुर, 10 अप्रैल। नक्सलियों के चंगुल से अपहृत जवान को छुड़ाने वाले मध्यस्थों में शामिल तेलम बोरैया आज किसी पहचान के मोहताज नहीं रहे। आगामी दिनों में उन्हें और अन्य मध्यस्थों को मुख्यमंत्री सम्मानित भी करेंगे। लेकिन बात उनके घर तक पहुंचने की करें तो वहां तक पहुंचने के लिए पगडंडी भी नहीं हैं। सात पीढ़ी हो गई, लेकिन सडक़ तो दूर पगडंडी भी मय्यसर नहीं हुई।

बीजापुर के वरिष्ठ पत्रकार पवन दुर्गम ने कोबरा बटालियन के जवान को नक्सलियों के कब्जे से छुड़ाकर लाने वाले समाजसेवी और गोंडवाना समन्वय समिति के अध्यक्ष तेलम बोरैया से उनके कमरगुड़ा स्थित घर पहुंचकर उनसे खास बातचीत की। पत्रकार पवन दुर्गम के बोरैया से बातचीत का वीडियो वायरल हो रहा है। 

पत्रकार पवन बताते हैं कि तेलम बोरैया आज किसी पहचान के मोहताज नहीं रहे। वे जवान को नक्सलियों के चुंगल से लाकर मिसाल बने हैं। आज पूरा देश उन्हें सलाम कर रहा है। लेकिन तेलम बोरैया जिस कमरगुड़ा गांव में सात पीढिय़ों से रह रहे हैं।  वहां आज भी एक सडक़ मय्यसर नहीं है। वे नेताओं और अफसरों से मिन्नतें कर थक गए। लेकिन उनके घर तक पहुंचने एक सडक़ तक नहीं बन सकी।

पत्रकार पवन का कहना है कि देश के गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जिस मध्यस्थ टीम के बदौलत छूटकर आने वाले जवान को बधाइयां दे रहे हैं। उसी टीम के वरिष्ठ सदस्य के घर तक पहुंचने के लिए पगडंडी भी नहीं है। उन्होंने जोर दिया कि उनकी क्या मांग है ये भी सुनना चाहिए। पत्रकार ने उम्मीद जाहिर की है कि देश के जवान को सकुशल वापिस लाने वाले रिटायर्ड शिक्षक और समाजसेवी तेलम बोरैया के घर तक सडक़ बनाने की सरकार सोचेंगे।

पत्रकार पवन दुर्गम ने ‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता को बताया कि तेलम बोरैया से बातचीत का वीडियो वायरल होने के बाद कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने उन्हें फोन कर जानकारी ली और उन्होंने इस सडक़ के लिए संबंधित अफसरों को स्टीमेट बनाने के निर्देश दिए हैं।

एनएसयूआई ने मनाया स्थापना दिवस
09-Apr-2021 8:01 PM (187)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 9 अप्रैल। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन ने शुक्रवार को कांग्रेस भवन में संगठन का स्थापना दिवस मनाया और छात्र हित में संघर्ष करने की शपथ ली।

इस मौके पर कांग्रेस भवन के सामने ध्वजारोहण किया गया। कोविड 19 को ध्यान में रखते मास्क का इस्तेमाल किया गया और सोशल डिस्टेसिंग भी रखी गई। यहां एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव लक्ष्मण कड़ती, यूथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष एजाज सिद्धिकी, एनएसयूआई जिलाध्यक्ष जगदेव यादव के अलावा अन्य पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद थे। देश में संवैधानिक लोकतांत्रिक मूल्यों को मानते छात्रहित की रक्षा की शपथ ली गई। ज्ञात हो कि एनएसयूआई की स्थापना 9 अपै्रल 1971 को हुई थी।

गृह मंत्री और सीएम के जाते ही नक्सलियों का आया बयान
05-Apr-2021 9:07 PM (188)

   बोले किस-किस से बदला लेंगे गृहमंत्री   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 5 अप्रैल। तर्रेम थाना क्षेत्र में बीते शनिवार को नक्सल मुठभेड़ में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने व जवानों से मिलने बस्तर पहुंचे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह व सीएम भूपेश बघेल के वापस लौटते ही नक्सलियों ने अपना बयान जारी किया है।

नक्सली नेता अभय ने प्रेसनोट जारी कर गृहमंत्री अमित शाह के बदला लेने वाले बयान पर पलटवार किया है। नक्सली नेता अभय ने कहा कि तर्रेम हमला को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का बदला लेने वाला बयान असंवैधानिक है। बयान पर नक्सल नेता ने कहा कि किस-किस से बदला लेंगे।

नक्सली नेता अभय ने कहा कि जवानों की मौत के लिए केंद्र, राज्य व नार्थ ब्लाक जिम्मेदार हैं। उसने मुठभेड़ों में शहीद जवानों के परिजनों के प्रति संवेदना जताते हुए कहा कि संगठन की लड़ाई जवानों से नहीं हैं।

नक्सली नेता ने कहा कि सरकार की तरफ हथियार उठाने की वजह से संगठन को उनसे लडऩा पड़ता हैं। वहीं नक्सली नेता अभय ने कहा कि पिछले चार माह में देश के अलग-अलग हिस्सों में 28 नक्सली मारे गए हैं।

गृहमंत्री शाह व सीएम बघेल ने बासागुड़ा पहुंचकर जवानों से की मुलाकात
05-Apr-2021 5:41 PM (145)

बीजापुर, 5 अप्रैल। शनिवार को तर्रेम में हुई नक्सली वारदात के बाद देश के गृह मंत्री अमित शाह व प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बासागुड़ा पहुंचकर जवानों से मिलकर चर्चा की। 

सोमवार की दोपहर करीब ढाई बजे सेना के हेलीकॉप्टर से बीजापुर के बासागुड़ा स्थित  सीआरपीएफ 168 बटालियन के कैम्प पहुंचे गृहमंत्री अमित शाह यहां जवानों से मुलाकात कर उनका हाल जाना। उनके साथ सीएम भूपेश बघेल भी मौजूद है। गृहमंत्री शाह व सीएम बघेल  यहां करीब एक घण्टे रहे। उन्होंने जवानों से मिलकर उनकी हौसला अफजाई की, साथ अफसरों के साथ बैठकर नक्सली समस्या पर विस्तार से चर्चा की।

ज्ञात हो कि इससे पूर्व गृह मंत्री और सीएम भूपेश बघेल ने जगदलपुर में शहीद जवानों को अंतिम सलामी देने के बाद पुलिस के आला अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक कर आगे की रणनीति पर चर्चा की। इसके बाद गृह मंत्री अमित शाह ने पत्रकारो से चर्चा करते हुए कहा कि जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा। इसके लिए केंद्र और राज्य सरकार मिलकर काम कर रहे हैं। इस दौरान डीजीपी डीएम अवस्थी, आईजी सुंदरराज पी, कलेक्टर रितेश अग्रवाल, एसपी कमलोचन कश्यप सहित पुलिस व सीआरपीएफ के आला अधिकारी मौजूद रहे।
 

प्रभारी मंत्री जयसिंह ने अस्पताल में घायल जवानों से भेंटकर स्वास्थ्य की ली जानकारी
04-Apr-2021 7:47 PM (71)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 4 अप्रैल। प्रदेश के राजस्व, पुनर्वास एवं आपदा प्रबंधन मंत्री एवं प्रभारी मंत्री जिला बीजापुर जयसिंह अग्रवाल ने आज जिला अस्पताल बीजापुर में उपचारार्थ भर्ती घायल जवानों से भेंटकर उनके स्वास्थ्य के बारे में कुशलक्षेम पूछा।

 उन्होंने जिला पुलिस के डीआरजी बल के सहायक उप निरीक्षक आनंद कुरसम एवं प्रकाश चेट्टी सहित अन्य घायल जवानों तथा सीआरपीएफ के घायल जवानों से चर्चा कर घटना के संबंध में जानकारी ली और नक्सलियों से अदम्य साहस के साथ मुकाबला करने के लिए उनका मनोबल बढ़ाया। प्रभारी मंत्री श्री अग्रवाल ने चिकित्सकों से भी घायल जवानों के उपचार के बारे में विस्तार से चर्चा कर उन्हें बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराये जाने के निर्देश दिये।

इस दौरान स्थानीय विधायक एवं उपाध्यक्ष बस्तर विकास प्राधिकरण विक्रम शाह मंडावी, जिला पंचायत अध्यक्ष  शंकर कुडियम सहित अन्य जनप्रतिनिधि और डीआईजी नक्सल ऑपरेशन ओपी पाल, कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल, डीएफओ अशोक पटेल, सीईओ जिला पंचायत रवि कुमार साहू, एसडीएम बीजापुर देवेश ध्रुव, अपर पुलिस अधीक्षक पंकज शुक्ला तथा जिला प्रशासन के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

घायल जवानों के इलाज के लिए सजगता के साथ निगरानी के निर्देश
04-Apr-2021 7:46 PM (63)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 4 अप्रैल। प्रदेश के राजस्व, पुनर्वास एवं आपदा प्रबंधन मंत्री एवं प्रभारी मंत्री जिला बीजापुर जयसिंह अग्रवाल ने आज जिला अस्पताल बीजापुर में क्षेत्रीय विधायक एवं उपाध्यक्ष बस्तर विकास प्राधिकरण विक्रम शाह मंडावी, जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडियम सहित अन्य जनप्रतिनिधियों और डीआईजी नक्सल आपरेशन ओपी पाल, कलेक्टर  रितेश कुमार अग्रवाल  तथा अन्य अधिकारियों एवं चिकित्सकों की उपस्थिति में घायल जवानों के उपचार स्थिति की विस्तृत समीक्षा की।

उन्होंने घायल जवानों के उपचार के लिए हरसंभव प्रयास कर उनकी प्राण बचाने हेतु चिकित्सकों का उत्साहवर्धन किया। वहीं सभी घायल जवानों की गहन चिकित्सा हेतु सजगता के साथ निगरानी रखे जाने के निर्देश दिये।

 इस दौरान अवगत कराया गया कि जिला अस्पताल में 24 घायल जवानों को उपचार हेतु भर्ती किया गया था, जिसमें सभी घायल जवान खतरे से बाहर हैं। जरूरत के अनुरूप 6 घायल जवानों को एडवान्स सर्जरी के लिए राजधानी रायपुर भेजा गया है।

नक्सल मुठभेड़ में 5 जवान शहीद, 20 घायल
03-Apr-2021 8:55 PM (387)

बीजापुर। शनिवार को संयुक्त ऑपरेशन से वापस तर्रेम लौट जवानों पर घात लगाए नक्सलियों ने हमला कर दिया। इस हमले में सुरक्षाबल के 5 जवान शहीद हो गए, वहीं 20 से ज्यादा जवान घायल हो गए। इस दौरान जवानों ने 2 नक्सलियों को मुठभेड़ में मार गिराया है। इनमें से 1 महिला नक्सली का शव बरामद कर लिया गया है। सूत्रों के अनुसार 13 घायल जवानों को बीजापुर जिला अस्पताल लाया गया। वहीं 7 जवानों को एयरलिफ्ट से रायपुर भेजा गया है। 

जिपं सदस्य व कांग्रेस नेता की भाई के सामने नक्सल हत्या
27-Mar-2021 9:29 PM (83)

   3 साल पहले इसी परिवार के एक की हुई थी हत्या    

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

 बीजापुर, 27 मार्च। शुक्रवार रात करीब साढ़े सात बजे मिरतुर थाना क्षेत्र में नक्सलियों ने तालनार में नेलसनार क्षेत्र से जिला पंचायत सदस्य व कांग्रेस नेता बुधराम कश्यप की हत्या कर दी। घटना की जिम्मेदारी नक्सलियों की भैरमगढ़ एरिया कमेटी ने ली है।  घटना के बाद न सिर्फ तालनार इलाके में बल्कि स्थानीय जनप्रतिनिधियों में खौफ देखा जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक मृतक जिला पंचायत सदस्य बुधराम के छोटे भाई गुलशन बतौर चश्मदीद का कहना है कि रात जब बुधराम भोजन करने की तैयारी में थे। इसी बीच कुछ नक्सली उनके घर आ धमके और उन्हें पकडक़र घर से कुछ दूरी पर ही महुए के पेड़ के नीचे लेकर गए। विरोध करने पर नक्सलियों ने गुलशन को गन पाइंट दिखाकर दूर रहने को कहा। इसके बाद बुधराम पर कारपोरेट घराने से ताल्लुक रखने, पुलिस सुरक्षा में सडक़ निर्माण, लोन वरराटू जैसे अभियान में पुलिस का सहयोग करने का आरोप लगाते कुछ दूरी पर खड़े भाई गुलशन की आंखों के सामने ही धारदार हथियार से वार कर उसकी हत्या कर दी। घटना स्थल पर नक्सलियों ने पर्चा भी छोड़ा है। इससे पूर्व भी नक्सली 2009 में इसी परिवार के एक सदस्य लक्ष्मण कश्यप की हत्या कर चुके हंै।

 बहरहाल सरकार बदलने के बाद बीजापुर में कांग्रेस के किसी जनप्रतिनिधि की नक्सलियों  द्वारा की गई यह पहली हत्या है। ऐसे में सत्ता दल के नेताओ में अपनी सुरक्षा को लेकर जहाँ चिंता बढ़ गयी है, वहीं नक्सलियों ने वारदात कर सरकार को सीधे तौर पर चुनौती भी दे डाली है।

ज्ञात हो कि बस्तर में पतझड़ के मौसम में माओवादी टीसीओसी का सप्ताह मानते हैं। जिसमें जवानों पर घात लगाने की घटनाएं बड़े पैमाने पर हो चुकी है। बीते दिनों नारायणपुर में जवानों के काफिले पर हमला भी इसका उदाहरण है।

बलदेव को मिली युवा मोर्चा की कमान, बिलाल बने उपाध्यक्ष
25-Mar-2021 8:00 PM (68)

बीजापुर, 25 मार्च। यहां भारतीय जनता युवा मोर्चा की जंबो कार्यकारिणी का गठन विधिवत रूप से भाजपा जिलाध्यक्ष ने कर दिया गया है। इस बार बीजापुर जिला युवा मोर्चा की कमान बलदेव उरसा के हाथों में सौंपी गई है। वहीं तेजतर्रार युवा नेता बिलाल खान को जिला उपाध्यक्ष का दायित्व सौंपा गया है।

भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने भारतीय जनता युवा मोर्चा के अध्यक्ष सहित 36 लोगों की जंबो कार्यकारिणी का गठन कर दिया है। इस बार भैरमगढ़ के रहने वाले बलदेव उरसा को युवा मोर्चा का जिलाध्यक्ष बनाया गया है। वहीं उपाध्यक्ष  भोपालपटनम के तेजतर्रार युवा नेता बिलाल खान, एरमनार के प्रवीण पोंदी, कुटरू के लालू पोडियामी, नेलसनार के सीताराम कश्यप को बनाया गया है। महामंत्री बीजापुर के मैथ्यूज कुजूर व आवापल्ली के तीरथ जुमार को बनाया गया है।

मंत्री पद पर जयवारम के प्रवीण कडती, मद्देड़ के वेंकट बट्टल, कोंडरोजी के संतोष पुजारी व गंगालूर के लक्ष्मण पुनेम को बनाया गया हैं। इसी तरह कोषाध्यक्ष का जिम्मा भैरमगढ़ के सोनल गुप्ता को व मीडिया प्रभारी का जिम्मा फरसेगढ़ के महेश गोटा को सौपा गया है। मीडिया सहप्रभारी माटवाड़ा के चैतू लेकाम को बनाया गया है। वहीं सोशल मीडिया की जिम्मेदारी भैरमगढ़ के ज्ञानदीप बघेल को दी गई है। कन्या संयोजिका भोपालपटनम की रितू मढ़े व संगीता इरपा को बनाया गया है। वहीं कार्यालय प्रभारी संजय गुप्ता व प्रशिक्षण प्रमुख चंद्रशेखर पुजारी होंगे।

भैरमगढ़ के श्रीधर सेठिया प्रचार प्रमुख होंगे। जबकि कार्यकारिणी सदस्यों में रुद्रारम के गणेश पातरो, के सतीश, बासागुड़ा के त्रिपति पुनेम, एरमनार के सुनील कुडिय़म, मद्देड़ के राकेश कोरसा, सरिता ठाकुर, भद्रकाली के गणेश कुरसम, चन्दूर के सतीश कोड़े, अटुकपल्ली के कुरसम पुरुषोत्तम, अल्लुर के महेश चिडेम, गोरला के टिंगे संतोष, गोरगोण्डा के जितेंद्र एट्टी, लिंगापुर के अंनैया कोरम, गुलापेंटा मोहनराव गुरला व संतोष तमजी, रुद्रारम के दुर्गम मूर्ति, सुरोखी के श्रीधर सेठिया, भैरमगढ़ के अनंतराम परबुलिया, मिरतुर के सोनदेव, तालनार लछुराम कश्यप, फरसेगढ़ के सुभया गोटा, तिम्मापुर के देवेंद्र पदम, तर्रेम की संगीत इरपा, भैरमगढ़ के देवनाथ समरथ, पिनकोंडा के सुरेश कडती, शिविरपारा के बलदेव मंडावी, पुसगुड़ी के दीपक भट्ट, कोंडरोंजी के मनोज यालम व पूरन ठाकुर, बीजापुर के जागेश, कोकड़ापारा के दीना यादव व जयदेव साहनी, बीजापुर के रोहित साहनी, अभिषेक पवार व रैनू कुमेटी को शामिल किया गया है। नवनियुक्त पदाधिकारियों को पूर्व वनमंत्री महेश गागड़ा व भाजपा जिलाध्यक्ष बधाई दी है।

थाने में आदिवासी युवक की पिटाई का आरोप
23-Mar-2021 9:54 PM (477)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 23 मार्च।
आदिवासी युवक ने पुलिस पर कुटरू थाना में बंधक बनाकर पिटाई करने का आरोप लगाया है। आरोप है कि युवक नक्सल मामले में गिरफ्तार अपने भाई की पतासाजी करने कुटरू थाना पहुंचा था, जहां पुलिस कर्मियों ने डंडे से उसकी बेदम पिटाई कर दी। उन्होंने इसकी शिकायत एसपी व विधायक विक्रम मण्डावी से की और न्याय की गुहार लगाई है। विधायक ने मामले में एसपी से बात की है। वहीं मामले में पुलिस का कहना है कि युवक का भाई नक्सली है, चार सहायक आरक्षक की हत्या मामले में आरोपी है।

कुटरू थाना से दस किमी दूर रानीबोदली रोड पर बसे गटापल्ली गांव के युवक बदरू मिच्चा को पुलिस 20 मार्च को पकडक़र लाई थी। जब 21 मार्च को उसका भाई बुधराम कारण जानने पहुंचा तो पुलिस के जवानों ने उसे ही अंदर कर दिया। शिकायत में युवक बुधराम ने बताया कि भाई बदरू की गिरफ्तारी का कारण पूछने थाने गया था। इसके बाद थाने में उसकी जमकर पिटाई कर दी गई।

बुधराम के मुताबिक, पहले तो उसे लात और थप्पड़ से मारा गया। फिर उसे एक खंभे से बांध दिया गया। इसके बाद डण्डे से बेदम पिटाई की गई। उसे दो घंटे तक थाने में बिठाए रखा गया। उसकी छाती और पीठ पर अब भी पिटाई के निशान हैं।

घटना के बाद युवक ने चिकित्सकीय परीक्षण करवाया। पिता हुंगा, नाना पोडिय़म बोटू एवं बहनोई हीरालाल के साथ सोमवार को बुधराम ने विधायक से मुलाकात कर अपनी व्यथा बताई। विधायक ने इस बारे में एसपी से चर्चा की है।

जानकारी के मुताबिक, पीडि़त बुधराम मिच्चा डीएलएड की पढ़ाई कर रहा है। गरीबी की वजह से बुधराम गोंडवाना भवन में रहकर अध्ययन कर रहा है।

लिखित जानकारी मिली है- एसपी
बीजापुर एसपी कमलोचन कश्य़प ने बताया कि इसकी लिखित जानकारी प्राप्त हुई है। इस मामले की जांच जारी है। एडिशनल एसपी पंकज शुक्ला को जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

शासकीय कार्य में पहुंचाया बाधा
इस मामले में एसडीओपी शेर बहादुर सिंह ने कहा कि 4 सहायक आरक्षक की हत्या में शामिल एक नक्सली को हमने सोमवार को गिरफ्तार किया है। ये युवक उसी का ही भाई है। युवक शराब के नशे में आकर थाने में हंगामा मचा रहा था। शासकीय कार्य में बाधा डालने के नाम पर हमने उसे थाने से बाहर कर दिया था। जिस दौरान नक्सली को हमारे जवान कोर्ट लेकर जा रहे थे, उसी दौरान एक सहायक आरक्षक के साथ इसकी झूमाझटकी हुई है। थाने में उसके साथ किसी प्रकार की कोई मारपीट की घटना नहीं हुई है। मुझ पर लग रहे सारे आरोप निराधार है। इस मामले में एसपी ने जांच का आदेश दिया है।

सहायक शिक्षक फेडरेशन ब्लॉक इकाई पुनर्गठित, भोपालपटनम के महेश अध्यक्ष
23-Mar-2021 5:59 PM (67)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपटनम, 23 मार्च।
सोमवार को भोपालपटनम विकासखंड में छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन ब्लॉक इकाई का पुनर्गठन किया गया। ब्लॉक के समस्त शिक्षक शिक्षिकाएं सम्मिलित होकर सर्वसम्मति से पदाधिकारियों का चयन किया गया है, जिसमें महिला प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों को भी चुना गया है ।  भोपालपटनम ब्लॉक इकाई के सहायक शिक्षक फेडरेशन का अध्यक्ष महेश शेट्टी को बनाया गया है।जोगेश जंगम उपाध्यक्ष राजन्ना आनकारी उपाध्यक्ष वासम चंद्रशेखर सचिव एवं सह सचिव रघुवीर गोटे शेख आसम कोषाध्यक्ष गोरला नागेश सह कोषाध्यक्ष मोहनराव वासम प्रवक्ता प्रशांत पामभोई मीडिया प्रभारी एवं जयहिंद लाटकर को संगठन का संरक्षक बनाया गया है।

महिला प्रकोष्ठ की ओर से दिव्या शर्मा को अध्यक्ष, शशि कला मट्टी उपाध्यक्ष तरुण ेश्वरी सेटटी को सचिव बनाया गया। इस कार्यक्रम में बीजापुर जिले के जिला संरक्षक इकबाल खान जिला अध्यक्ष पुरुषोत्तम झाड़ी सचिव राजेश मिश्रा एवं लॉक के शिक्षक शिक्षिकाएं उपस्थित थे
 

आयुष संवाद कार्यक्रम
23-Mar-2021 5:58 PM (119)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भोपालपटनम।   
शासकीय आयुर्वेद औषधालय तरला गुड़ा चेरपलली सकना पल्ली द्वारा संचालक आयुष छत्तीसगढ़ शासन के दिशा निर्देश का पालन करते हुए विकासखंड भोपालपटनम मुख्यालय के सांस्कृतिक भवन में आयुष संवाद कार्यक्रम का आयोजन गत दिनों किया गया। 
मुख्य अतिथि निर्मला मरपलली के कर कमलों द्वारा आयुर्वेद प्रवर्तक भगवान धनवंतरी के चित्र पटल पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। इस कार्यक्रम के अंतर्गत डॉ लक्ष्मी नारायण पटेल रामचरण पटेल डॉक्टर विष्णु प्रसाद साव आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारियों के द्वारा विश्वव्यापी महामारी करोना के संबंध में विस्तृत जानकारी दी गई जिसके तहत उपस्थित लोगों को चिकित्सकों द्वारा रोग प्रतिरोधक क्षमता वर्धक आयुष काढ़ा बनाने की विधि एवं उपयोग की जानकारी के साथ-साथ बाजार में सामाजिक दूरी बनाए रखना बार-बार साबुन से हाथ धोना सैनिटाइजर का उपयोग करना महामारी के प्रकोप के संबंध में अनेक जानकारियां दिया गया है साथ ही त्रिकूट चूर्ण का काढ़ा वितरण किया गया और मास्क का भी वितरण किया गया।
इस कार्यक्रम में आयुर्वेद डॉक्टरों के अलावा भोपालपटनम तहसील के तहसीलदार श्री शिवनाथ बघेल आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका सुपरवाइजर श्री ए सुधाकर एवं सभी अधिकारी कर्मचारी ग्रामीण उपस्थित थे
 

पांच नक्सली चढ़े पुलिस के हत्थे, जवानों ने ढहाये 2 नक्सल स्मारक
22-Mar-2021 9:22 PM (52)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 22 मार्च। जिले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। अलग-अलग वारदातों में शामिल पांच नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया। चार सहायक आरक्षकों की हत्या में शामिल एक नक्सली को सुरक्षाबल के जवानों ने गिरफ्तार किया है, वहीं आईईडी लगाते एक महिला समेत 4 नक्सलियोंं को भी गिरफ्तार किया गया है। वहीं मिरतुर थाना इलाके में सर्चिंग के दौरान जवानों ने हुर्रेपाल और चेरली में 2 नक्सली स्मारकों को जेसीबी से ध्वस्त कर दिया है।

जवानों ने अभियान के दौरान कुटरू थाना क्षेत्र के ग्राम चिंगेर नाला के पास से माओवादी बदरू मिच्चा उम्र 30 को गिरफ्तार किया है। नक्सली बदरू 14 अगस्त 2015 में 4 सहायक आरक्षकों जयदेव यादव, कार्तिक राम यादव, रामराम मज्जी और मंगल सोढ़ी की हत्या में शामिल था।

इधर नेलसनार से एरिया डोमिनेशन पर निकली जिला पुलिस बल की संयुक्त पार्टी ने विस्फोटक के साथ 4 लोगों को हिरासत में लिया है। जिसमें मोटूराम अटामि (25 वर्ष), तुलसी पोयामी (19 वर्ष), शंकर इसतामि (22 वर्ष) और अयतुराम कोवासी (22 वर्ष) शामिल हैं।

इसके साथ ही मिरतुर थाना इलाके में सर्चिंग के दौरान सुरक्षाबल के जवानों ने हुर्रेपाल और चेरली में 2 नक्सली स्मारकों को जेसीबी की मदद से ध्वस्त कर दिया है। ज्ञात हो कि इससे पहले बीजापुर जिले के तरेम थाना क्षेत्र में सुरक्षा बल के जवानों ने नक्सलियों की एक और साजिश को नाकाम कर दिया था। आईईडी के साथ एक नक्सली सोना हेमला को गिरफ्तार किया था। हेमला कई नक्सली वारदातों में शामिल था। उसके पास से 4 आईईडी बरामद किया था। हेमला कॉर्डेक्स वायर, डेटोनेटर छुपाकर भाग रहा था। तभी भागते हुए तरेम क्षेत्र में सुरक्षाबलों ने उसे गिरफ्तार कर लिया गया था।

सीएम पर अभद्र भाषा का उपयोग, युकां ने की एफआईआर की मांग
18-Mar-2021 9:07 PM (97)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 18 मार्च। उसूर ब्लॉक के मुख्यालय आवापल्ली में भाजपा मंडल द्वारा सीएम भूपेश बघेल का पुतला दहन कार्यक्रम के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा सीएम के खिलाफ अभद्र भाषा का उपयोग करने पर युकां ने भाजपाइयों के खिलाफ थाने पहुंचकर एफआईआर दर्ज करते हुए कठोर कार्रवाई की मांग की है।

बुधवार को आवापल्ली में भाजपा मंडल द्वारा सीएम भूपेश बघेल का पुतला दहन किया जा रहा था। इसी दौरान भाजपा कार्यकर्ता सीएम बघेल पर अभद्र भाषा का उपयोग किया। इसका वीडियो वायरल होते ही कांग्रेसी नाराज हो गए। युकां के जिला अध्यक्ष एजाज सिद्दीकी के नेतृत्व में युवा कांग्रेसी आवापल्ली थाना पहुंचकर भाजपाइयों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का आवेदन दिया।

युकां अध्यक्ष एजाज सिद्दीकी ने बताया कि बुधवार को  प्रशासन की अनुमति के बिना भाजपा कार्यकर्ताओं ने सीएम का पुतला दहन करते हुए सीएम पर अभद्र भाषा का प्रयोग किया, जो घोर आपत्तिजनक है।

 सिद्दीकी ने बताया कि इस घटना की निंदा करते हुए उन्होंने युकां कार्यकर्ताओं के साथ गुरुवार को आवापल्ली थाना पहुंचकर लिखित शिकायत करते हुए कानूनी कार्रवाई की मांग की है।