छत्तीसगढ़ » दन्तेवाड़ा

Previous123456789...2425Next
05-May-2021 9:23 PM 10

दंतेवाड़ा, 5 मई। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी दीपक सोनी ने दन्तेवाड़ा जिले के संपूर्ण क्षेत्र को आगामी 16 मई रात्रि 12 बजे तक पूर्ववत कंटेन्मेंट जोन रखने आदेश जारी किया है।

 विदित है कि पूर्व आदेश के अनुसार जिले में 18 अप्रैल से 6 मई सुबह 6 बजे तक कंटेनमेंट जोन घोषित था। कोरोना संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर श्री सोनी ने आगामी 16 मई रात्रि 12 बजे तक पूर्ववत कंटेन्मेंट जोन रखने के आदेश जारी किए है।

उक्त अवधि में दंतेवाड़ा में व्यवसायिक गतिविधियों पर अधिरोपित प्रतिबंधों एवं सम्पूर्ण जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित करने के बावजूद  कोविड-19 प्रकरणों की संख्या चिन्ता का विषय है। दक्षिण भारत के  आन्ध्रप्रदेश में कोरोना के नये घातक वेरियन्ट/स्ट्रेन के पता लगने के कारण कंटेनमेंट जोन की अवधि बढ़ाया जाना एवं में समय-समय पर जारी प्रतिबंधों में छूट दिया जाना भी आवश्यक हो गया है।

उक्त अवधि में सभी अस्पताल, मेडिकल दुकानें, क्लिनिक एवं पशु-चिकित्सालय को उनके निर्धारित समय में खुलने की अनुमति होगी। मेडिकल दुकान संचालक मरीजों के लिए दवाओं की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देंगे। शासकीय उचित मूल्य दुकानों को खाद्य अधिकारी द्वारा निर्धारित समयावधि में खुलने की अनुमति होगी।

फल, सब्जी, अंडा, पोल्ट्री, मटन, मछली एवं किराना सामग्री, ग्रॉसरी की होम डिलीवरीजारी आदेश के अनुसार सभी प्रकार की मंडियां, थोक, फुटकर एवं ग्रॉसरी दुकाने बंद रहेगी किन्तु आवश्यक वस्तु, माल की आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु गोडाउन में लोडिंग, अनलोडिंग की अनुमति रात्रि 9 बजे से सुबह 11 बजे तक दी गई है।

उपरोक्त अवधि के दौरान कृषि उपकरण संबंधी दुकानों, उनसे संबंधित रिपेयर शॉप तथा कीटनाशक दवाध्रासायनिक खाद विक्रेताओं को प्रात: दुकान खुलने के निर्धारित समय से दोपहर 02.00 बजे तक खोलने की अनुमति होगी। पेट्रोल पंपों को अपने निर्धारित समयावधि में संचालन की अनुमति होगी।

अंत्येष्टि, दशगात्र, इत्यादि मृत्यु संबंधी कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 20 निर्धारित सभी प्रकार की सभा, जुलुस, सामाजिक, धार्मिक एवं राजनैतिक आयोजन इत्यादि पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे, किन्तु विवाह कार्यक्रम वर और वधू के निवास-गृह में ही आयोजित करने की शर्त के साथ आयोजन में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 20 निर्धारित की जाती है। इसी प्रकार अंत्येष्टि, दशगात्र, इत्यादि मृत्यु संबंधी कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 20 निर्धारित की जाती है। उक्त कार्यक्रमों हेतु संबंधित तहसीलदार से पूर्वानुमति लेना आवश्यक होगा।


05-May-2021 9:21 PM 14

दंतेवाड़ा, 5 मई। जिला अस्पताल दन्तेवाड़ा में इंटरनेशनल डे ऑफ द मिडवाइफ के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर.एल.गंगेश द्वारा नर्सिग स्टॉफ को स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने हेतु रीढ़ की हड्डी बताते हुये व पिछले वर्ष से कोविड-19 में निरंतर कार्य करने हेतु उनके किये गये कार्य को सराहा। साथ ही आगे भी इसी सहयोग करने की आशा की गई।  कार्यक्रम में जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एस. मण्डल, जिला सिविर्लेस अधिकारी डॉ. आर. रेड्डी, अवासीय चिकित्सा अधिकारी डॉ. देशदीपक, जिला कार्यक्रम प्रबंधक संदीप ताम्रकार, जिला अस्पताल प्रबंधक डॉ. अरूणा कश्यप,  डब्ल्यूएचओ कुमार गौरव, अंकित सिंह, जिला सलाहकार डॉ. गीतू हरित एवं जिला अस्पताल के नसिर्ग स्टॉफ उपस्थित थे।


05-May-2021 6:13 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 5 मई। दंतेवाड़ा में कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान जिला प्रशासन के अफसरों व पुलिस जवानों द्वारा फ्लैग मार्च निकाला गया।

 जिले के गीदम थाना से लेकर दंतेवाड़ा तक प्रशासनिक अधिकारियों और पुलिस के जवानों ने फ्लैग मार्च निकाला। इस दौरान लोगों से घर में रहने की अपील की गई। अत्यधिक आवश्यक होने पर ही मास्क पहन कर घर से बाहर निकले और सामाजिक दूरी के नियम का पालन करें। इस दौरान डिप्टी कलेक्टर प्रीति दुर्गम मुख्य रूप से मौजूद थीं।

किरंदुल में फ्लैग मार्च

दंतेवाड़ा की लौह नगरी किरंदुल में भीशहर के मुख्य मार्गों से होकर प्रशासनिक अधिकारियों ने फ्लैग मार्च निकाला। इस दौरान लोगों से अपने घरों में रहने की कोविड गाइड लाइंस का पालन करने की सलाह दी गई। इस दौरान एसडीएम प्रकाश भारद्वाज और अनुविभागीय अधिकारी पुलिस देवांश राठौर प्रमुख रूप से मौजूद थे।


04-May-2021 8:49 PM 33

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 4 मई। दंतेवाड़ा में नक्सली उन्मूलन अभियान में पुलिस को कामयाबी मिली है। कटेकल्याण थाना अंतर्गत पुलिस द्वारा टेटम के जंगल से एक जन मिलिशिया सदस्य को गिरफ्तार किया गया।

पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी। इसके आधार पर कटेकल्याण थाना बल, जिला आरक्षी बल और टेटम स्थित कैंप से छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल का संयुक्त दल तलाशी अभियान में निकला था। इसी दौरान टेटम के जंगल में एक व्यक्ति पुलिस को देखकर भागने लगा। जिसे घेराबंदी कर गिरफ्तार किया गया। उक्त व्यक्ति से कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने अपना नाम धुरवा  मुचाकी, उम्र 39 वर्ष बताया। उक्त नक्सली टेटम ग्राम के कोडरीपाल पटेल पारा का निवासी होना बताया। वह पुलिस की रेकी करने की घटनाओं में शामिल था। इसके साथ ही पुलिस को नुकसान पहुंचाने की नीयत से आईईडी लगाने की घटना में शामिल था। पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा द्वारा उक्त नक्सली की गिरफ्तारी पर 10 हजार रूपये का पुरस्कार घोषित किया गया था।


04-May-2021 7:00 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 4 मई। कलेक्टर दीपक सोनी के मार्गदर्शन में कोरोना से जंग जीतने जिला प्रशासन युद्ध स्तर की तैयारी में जुटा है। एक ओर जहां संपूर्ण जिले में  प्रोफिलैक्टिक किट घरों घर बांटा जा रहा है, किरंदुल, बचेली में शत प्रतिशत घरों में  प्रोफिलैक्टिक किट बांटा जा चुका है, जिससे वहां कोरोना वायरस का संक्रमण एक हद तक नियंत्रित हुआ है, वहीं दूसरी ओर जिले में कोविड केयर सेंटर और बिस्तरों की संख्या में भी इजाफा किया जा रहा है।

कलेक्टर दीपक सोनी ने जिला स्तरीय कोर कमेटी की बैठक में जिले में तीन और कोविड केयर सेंटर बनाने का निर्णय लिया है, जिसमें जावंगा स्थित एकलव्य आवासीय विद्यालय, प्री मैट्रिक छात्रावास दंतेवाड़ा और निर्माणाधीन इंडोर स्टेडियम दंतेवाड़ा को शामिल किया गया है। कलेक्टर ने उक्त भवनों का निरीक्षण कर आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं। बेड, आक्सीजन सिलेंडर, वेंटीलेटर, तथा अन्य उपकरणों के साथ पर्याप्त मात्रा में दवाई, सेनेटाइजर, मास्क, ग्लब्स, पीपी किट, तत्काल आर्डर कर मंगाने के निर्देश दिए। डॉक्टर, मेडिकल स्टॉफ, के भर्ती के भी निर्देश दिए। कोरोना जागरुकता दल, एक्टिव सर्विलेंस को भी कांटेक्ट ट्रेसिंग कर टेस्टिंग कराने एवं प्रोफिलैक्टिक किट लोगों तक शीघ्र पहुंचाने के निर्देश दिए, ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। होम आइसोलेशन में रहने वालों का भी नियमित फॉलोअप लेने एवं सभी को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

श्री सोनी ने अंत्योदय कार्ड धारी 18 से 44 वर्ष के नागरिकों एवं 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों से टीकाकरण कराने की अपील भी की। बैठक एवं निरीक्षण के दौरान जिपं सीईओ अश्विनी देवांगन, एसडीएम अभिषेक अग्रवाल, सीएमएचओ डॉ. आर एल गंगेश, सीएस डॉ. संजय कुमार बघेल टीकाकरण नोडल अधिकारी डॉ. शुभाशीष मंडल, होम आइसोलेशन नोडल जिला आयुर्वेद अधिकारी डॉ. पटेल एवं तहसीलदार यशोदा केतारप सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


04-May-2021 6:58 PM 12

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली /किरंदुल, 4 अप्रैल। कोविड 19 महामारी के बीच बैलाडीला क्षेत्र में स्थित बचेली व किरंदुल अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधा बढ़ाने को लेकर विशाखापट्नम में आयोजित सब कमेटी की बैठक में श्रमिक संघों द्वारा मांग की गई थी जिस पर प्रबंधन के सकारात्मक कार्यवाही से मेटल माईन्स वर्कर्स यूनियन इंटक शाखा किरंदुल ने  सीएमडी का आभार व्यक्त किया है।

कोरोना महामारी से लडऩे के लिए एनएमडीसी प्रबंधन से स्वास्थ्य सुविधाओ की मांग की गई थी। जिसमे अस्पताल में सीटी स्कैन मशीन लगाने, वेंटिलेंटर की व्यवस्था एवं ऑक्सीजन प्लंट लगाने की मांग की गई थी।

मेटल माईन्स वर्कर्स यूनियन (एमएमडब्ल्यूयू) इंटक शाखा किरंदुल के तदर्थ समिति के प्रमुख एके सिंह, पीएल साहु, सदस्य बीएल तारम, दिलीप सिंह, आयतु राम कश्यप आदि तदर्थ समिति सदस्यों ने प्रबंधन के इस सकारात्मक कार्यवाही पर सीएमडी का आभार व्यक्त किया है। एके सिंह ने बताया कि  विशाखापट्टनम में सम्पन्न सब कमेटी की बैठक में यूनियन की मांग पर किरंदुल के अस्पताल और बचेली  के एनएमडीसी  अपोलो अस्पताल में प्रबंधन द्वारा अतिशीघ्र सिटीस्कैन मशीन लगवाने की सहमति प्रदान की गई थी। जिस पर प्रबंधन द्वारा यूनियन को जानकारी दी गई है कि सिटीस्कैन मशीन की फाइल आगे बढ़ गई है और डेड ऑफिस द्वारा इसे वार्षिक बजट में शामिल कर अब परियोजना स्तर  प्रक्रियागत  है। दोनों अस्पतालों में अतिशीघ्र वेन्टिलेटर पहुंचने वाले हैं तथा दोनों अस्पतालों में ऑक्सीजन पर बाहरी निर्भरता समाप्त करने हेतु खुद का ऑक्सीजन प्लांट लगाने का प्रस्ताव है । इन सभी प्रबंधों से कोरोना जैसे महामारी से लडऩे में मदद मिलेगी तथा एनएमडीसी कर्मियों के साथ ही दक्षिण बस्तर के नागरिकों को उच्च स्तरीय इलाज के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा।  विषयों की गंभीरता अनुसार एनएमडीसी  के सीएमडी सुमीत देव  के  दिशानिर्देशों पर सकारात्मक कार्रवाई  हुई है , जिसके  लिए श्रम संगठन व  श्रमिक साथी सीएमडी, निदेशकों व दोनों परियोजनाओं के अधिशासी निदेशक एवं समस्त प्रबंधन टीम का आभार व्यक्त करते हैं।


03-May-2021 8:14 PM 29

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

 दंतेवाड़ा, 3 मई। दंतेवाड़ा के ब्रांड डेनेक्स ने बेंगलुरु की एक कम्पनी को 1 करोड़ 20 लाख रुपए का माल बेचा है, जो सोमवार की शाम दंतेवाड़ा से रवाना किया गया। इसके अतिरिक्त 6 लाख रूपए का माल ट्राइफेड के लिए भी रवाना किया गया। बेंगलुरु की एक कम्पनी के द्वारा डेनेक्स निर्मित कपड़ों को देश के लीडिंग फैशन ब्रांड्स में भेजा जाएगा, जहां से ऑनलाईन माध्यमों से देशभर के ग्राहक इसकी खरीदी कर सकते हैं।

डेनेक्स के शुभारंभ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी डेनेक्स की तारीफ करते हुए कहा था कि जल्द ही इसका नाम देश विदेश में भी चमकेगा। उनके हौसला अफजाई और कलेक्टर दीपक सोनी के मार्गदर्शन में आदिवासी बाहुल्य एवं नक्सल प्रभावित जिले की महिलाओं को ये सुनहरा अवसर मिला है।

 कोविड-19 गाइड लाईन्स का पालन करते हुए सभी महिलाएं निरन्तर काम कर रही हैं और अपने हुनर का लोहा भी मनवा रही है, तभी तो शुभारंभ के इतनी जल्दी बेंगलुरू जैसे बड़े शहर की एक कंपनी ने पूरे 1 करोड़ 30 लाख रूपए का माल खरीदा है। इस माल के बदले वर्तमान में उन्हें 10 लाख 63 हजार रुपए का चेक प्रदाय किया गया है। पहली खेप जाने के बाद उनके आत्मविश्वास में बढ़ोत्तरी हुई है और वे सभी और भी लगन से काम करने के लिए जुट गई हैं।

इस अवसर पर डेनेक्स की कर्मवीर महिलाओं का कहना है कि अब वो दिन दूर नहीं, जब हमारा दंतेवाड़ा जिला भी गरीबी मुक्त हो जाएगा। कपड़ों के खेप की रवानगी के अवसर पर डिप्टी कलेक्टर मुकेश गौड़, एडीएफ बसंत कुमार, अभिषेक पंत और डेनेक्स में कार्यरत महिलायें मौजूद रहीं।


03-May-2021 6:39 PM 33

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 3 मई। रविवार को राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने वर्चुअल माध्यम से प्रभार जिला दंतेवाड़ा के 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के युवाओं के लिए कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

इस अवसर पर राजस्व मंत्री ने उम्मीद जताई है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के युवाओं के लिए नि:शुल्क वैक्सीनेशन का निर्णय युवा वर्ग के लिए बहुत बड़ी सौगात है। यद्यपि अभी बहुत ही सीमित संख्या में वैक्सीन की पहली खेप प्रदेश सरकार को प्राप्त हुई है, लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों और स्वास्थ्य विभाग की तत्परता से टीकों का वितरण प्रदेश भर में किया गया और अनेक स्थानों पर पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार 1 मई से टीकाकरण का कार्य आरंभ कर दिया गया है।

अपने प्रभार जिला दंतेवाड़ा के युवाओं के लिए वैक्सीनेशन कार्यक्रम का वर्चुअल उद्घाटन करते हुए मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने हितग्राही युवाओं को बधाई देते हुए उनका उत्साहवर्धन किया और कहा कि युवा वर्ग अपने क्षेत्र के समस्त हितग्राहियों को नि:शुल्क टीकाकरण की प्रदेश सरकार की इस योजना का लाभ उठाने के लिए प्रेरित करें। टीका लगवाने के बाद सभी लोग पूरी सावधानी बरतें और संक्रमण से बचाव और प्रसार को रोकने में शासन प्रशासन के कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करें।

राजस्व मंत्री ने इस बात पर बल देते हुए कहा कि वर्तमान समय में स्वयं और परिवार के प्रति बरती जानेवाली सावधानियां और जनजागरूकता ही संक्रमण से बचने का एकमात्र उपाय है। इस अवसर पर मंत्री श्री अग्रवाल ने कहा कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर बहुत घातक है और इसके प्रसार को रोकने और तेजी से फैल रही इसकी कड़ी को तोडऩे में हर नागरिक की जवाबदेही है जिसमें युवा वर्ग महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने दंतेवाड़ा के प्रशासनिक और स्वास्थ्य अधिकारियों, टीकाकरण अभियान से जुड़े सामजिक संगठन और स्वयंसेवी संस्थानों के साथ अभियान को सफल बनाने के लिए योगदान करने वाले हर व्यक्ति को बधाई देते हुए संक्रमण की रोकथाम के लिए उनके कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि इनके सद्प्रयासों से राज्य सरकार को शीघ्र ही टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने में सफलता मिलेगी।

राजस्व मंत्री ने नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि हर नागरिक को धैर्यपूर्वक इस कठिन समय का सामना करते हुए स्वयं का और अपने परिवारजनों का ध्यान रखना चाहिए। इस अवसर पर आंवराभाटा बालक प्राथमिक शाला केंद्र में विधायक देवती कर्मा एवं कलेक्टर दीपक सोनी प्रमुख रूप सेेे मौजूद थे।


03-May-2021 6:36 PM 30

कोरोना उपचार के लिएचिकित्सीय सुविधा बढ़ाने सीएमडी को लिखा पत्र

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 3 मई। पूरे भारत वर्ष में कोविड 19 संक्रमण की तीव्रतम रफ्तार के फलस्वरूप वर्तमान चिकित्सकीय व्यवस्था गंभीर समस्या का सामना कर रही है। संक्रमित मरीजों की तीव्र रफ्तार के कारण वर्तमान व्यवस्था चरमरा चुकी है। एनएमडीसी बचेली परियोजना में कार्यरत श्रमिक संघ संयुक्त खदान मजदूर संघ ने बैलाडीला क्षेत्र के कोविड 19 बीमारी के उपचार के लिए चिकित्सीय सुविधा बढ़ाने के लिए एनएमडीसी के सीएमडी से पत्र लिखकर मांग की है।

यूनियन के सचिव टीजे शंकर राव ने कहा कि वर्तमान में कोविड 19 की दूसरी लहर एवं वायरस के नये म्यूटेंट की वजह से संक्रमण की तीव्र रफ्तार के कारण लगभग सभी अस्पताल पूर्ण रूप से मरीजों से भर चुके है। ऑक्सीजन सिलेंडर, ऑॅक्सीजन प्लंाट एवं दवाओं कीकमी के कारण लोगों को इलाज में गंभीर कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। जिससे यह प्रतीत होता है कि इस क्षेत्र के कर्मचारियों को भी अमूमन इसी परिस्थिति का सामना भविष्य में करना पड़ेगा। जिसका कारण इस क्षेत्र की भौगोलिक सुदूर स्थित एवं क्ष्ेात्र का पिछड़ापन है। आज भी हमें किसी भी उच्च स्तरीय चिकितसा संस्थान में ईलाज हेतु न्यूनतम लगभग 400 किमी की यात्रा करने के पश्चात ही इन अस्पतालो में ईलाज हेतु पात्र होते हंै। यही नहीं अपितु स्कैनिंग विशेष रूप से सिटी स्कैन की व्यवस्था लगभग इतनी ही दूर पर स्थित है।

देश में फैली इस बीमार के संक्रमण के रफतार एवं ईलाज की वर्तमान व्यवस्था के हालात की दृष्टि में रखते हुए आज यह अत्यंत आवश्यक हो गया कि हम अपनी वर्तमान चिकित्सा व्यवस्था का उन्नयन कर उसे कोविड 19 के वर्तमान म्यूटेंट एंव भविष्य में अवश्य संभाव्य कोविड 19 की तीसरी लहर के खिलाफ तैयार करें ताकि इस क्षेत्र के कार्यरत कर्मचारी एवं आम जनता चिकित्सा के अभाव में अकाल मौत से बच सके।

श्रमिक संघ ने कई मंागें रखी है, जिसमें बचेली परियोजना क्षेत्र एवं दंतेवाड़ा जिला अस्पताल हेतु सिटी स्कैन मशीन की तत्काल व्यवस्था की जाये। उचित क्षमता के ऑक्सीजन प्लांट का शीघ्रतिशीघ्र निर्माण हो। परियेाजना अस्पतालों में उचित मात्रा में वेटिलेंटर युक्त बिस्तर एवं प्रशिक्षित स्टाफ की व्यवस्था हो। परियोजना के अस्पतालों में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनों की उचित मात्रा में व्यवस्था। बैलाडीला परियोजनाओ में वटिलेंटर युक्त एम्बुलेंस की व्यवस्था की जाये।


02-May-2021 6:19 PM 20

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली/किरंदुल, 2 मई। मेटल माइंस वर्कर्स यूनियन शाखा किरंदुल द्वारा कोरोना जांच एवं उपचार की कठिन चुनौती का विषम परिस्थितियों एवं सीमित संसाधनों के बावजूद समुचित प्रबंधन के माध्यम से अच्छी सफलता दर अर्जित करते हुए स्थिति नियन्त्रित रखने पर एनएमडीसी परियोजना चिकित्सालय किरंदुल प्रबंधन एवं समस्त स्टॉफ के अतुलनीय योगदान की सराहना की गई है। 

एमएमडब्ल्यूयू किरंदुल शाखा के तदर्थ समिति प्रतिनिधि ए. के. सिंह द्वारा श्रम संघ की ओर से परियोजना चिकित्सालय के मुख्य चिकित्सा अधिकारी एम वी लाल, समस्त चिकित्सा अधिकारियों, समस्त पैरा मेडिकल स्टॉफ, नर्सिंग स्टॉफ, वार्ड बॉय, वार्ड आया, सफाई कर्मचारियों सहित समस्त स्टॉफ द्वारा अपने आप को जोखिम में डालकर पूर्णत: सेवा में समर्पित कर देने वाले प्रथम पंक्ति के समस्त कोरोना योद्धाओं के प्रति सहृदय आभार व्यक्त किया गया है।  इस दुर्गम एवं संवेदनशील क्षेत्र में स्थित होने एवं सीमित संसाधनों के बावजूद कोविड 19 जैसी  भीषण आपदा को नियंत्रित करने में परियोजना चिकित्सालय का प्रबंधन एवं कर्मठ कर्मचारियों द्वारा जिस तरह से सेवाभाव, समर्पण एवं पूर्ण निष्ठा के साथ अपनी कर्तव्य परायणता का निर्वहन किया जा रहा है उसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए, वह कम है।

विदित हो कि इस समय पूरा विश्व वायरस जनित महामारी कोरोना की चपेट में है, जिससे लौह नगरी किरंदुल भी अछूता नहीं रह गया है, किन्तु हमारी परियोजना चिकित्सालय के कर्मठ कोरोना योद्धाओं, जिला प्रशासन, एन. एम. डी. सी.प्रबंधन,किरंदुल नगरीय  प्रशासन, पुलिस प्रशासन, शासकीय चिकित्सालय के कर्मवीरों द्वारा बेहतर प्रबंधन एवं कोरोना से लडऩे की दृढ़ इच्छाशक्ति, अपने अपने दायित्वों का गम्भीरतापूर्वक पूर्ण जिम्मेदारी के साथ कर्तव्य निर्वहन करने के कारण नगर परिवार का इस भीषण आपदा से बचाव कर पाने में सफल रहे हैं,  इस सेवा के  लिए सभी बधाई के पात्र है। एमएमडब्ल्यू यूनियन( इंटक) किरंदुल समस्त कोरोना योद्धाओं और एनएमडीसी प्रबंधन का आभार व्यक्त करती है। 

साथ ही साथ शत प्रतिशत वैक्सिनेशन के लिए समस्त नागरिकों से अपील की जाती है कि इस भीषण आपदा के समूल निदान हेतु  वेक्सीन का दोनों डोज अवश्य लगावें। शासन प्रशासन के द्वारा कोविड के रोकथाम हेतु बनाये हुए अनुशासन, दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन करते हुए मास्क लगावें, हाथ साबुन से धोने या सेनेटाइज करते रहें, सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखें, घर में रहें, सुरक्षित रहे।


02-May-2021 6:18 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 2 मई। नगर पालिका परिषद बचेली के द्वारा नगर के वार्डों में कोविड 19 महामारी के संक्रमण से बचाव के लिए सेनिटाइजर का छिडक़ाव किया जा रहा है। पालिकाध्यक्ष पूजा साव की पहल के बाद कोरोना संक्रमण की चेन तोडऩे शनिवार को नगर पालिका के कर्मियों ने मुख्य मार्ग, वार्ड 2, 3, के गली मोहल्ले को सेनिटाईज किया।

मुख्य नगर पालिका अधिकारी आईएल पटेल ने बताया कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए पालिका प्रशासन द्वारा सतर्कता बरती जा रही है। संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। आज मुख्य मार्ग, गुरूद्वारा रोड़, अंधेरी चैक व अन्य वार्डो में सेनिटाईज किया गया, नगर के सभी वार्डो में सेनिटाईज किया जाएगा। नगर पालिका की टीम दमकल विभाग की गाडिय़ो के साथ सेनिटाईज करने में जुटी रही। ज्ञात हो कि आगामी 6 मई तक जिले में लॉकडाउन लगा हुआ है। बचेली नगर में भी लगातार कोविड संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है।

 


02-May-2021 6:17 PM 23

छत्तीसगढ़ संवाददाता

किरंदुल, 2 मई। इन दिनों सम्पूर्ण दंतेवाड़ा लॉकडाउन में हैं ताकि किसी भी माध्यम से कोरोना वायरस से लोगों को बचाया जा सके जिसको लेकर शासन - प्रशासन सभी अपने अपने स्तर पर काम रहे हैं। वहीं लौह नगरी किरंदुल में बड़े बचेली एसडीएम प्रकाश भारद्वाज पूरे नगर का दौरा कर बाहर बेवजह घूम रहे लोगों को घरों में रहने की समझाइस दे रहे हैं साथ ही उन्होंने किरंदुल स्थित कोविड केयर सेंटर का भी औचक निरीक्षण किया एवं इस बीच वहाँ चल रही गतिविधियों की जानकारी मौजूद स्टाफ से लिया और किसी प्रकार की कोई भी समस्या आती हैं तो आप तत्काल मुझसे संपर्क करने को कहा एवं लोगों को अधिक से अधिक कोविशील्ड वैक्सीन लगाने पर जोर दिया।


01-May-2021 10:13 PM 20

दंतेवाड़ा, 1 मई। कोरोना से निपटने के लिए तीसरे चरण का टीकाकरण आज से प्रारंभ हो रहा है। इसके तहत् राज्य में 18 वर्ष से अधिक व 45 वर्ष से कम उम्र के अंत्योदय कार्डधारियों का टीकाकरण प्राथमिकता से किया जाएगा। भूपेश बघेल द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से दिये गये निर्देश के अनुरूप जिले में इसकी तैयारी पूरी कर ली गई है।

कलेक्टर दीपक सोनी ने बताया कि  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशानुसार 2 मई टीकाकरण हेतु जिले में तैयारी कर ली गई है। टीकाकरण अधिकारी डॉ. एस. मंडल द्वारा टीकाकरण दल को टीकाकरण करवाने प्रशिक्षण भी दिया गया। जिला के कटेकल्याण, कुआकोंडा, गीदम के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एवं जिला अस्पताल (बालक प्राथमिक शाला आंवराभाटा) में टीकाकरण करवाने की पूरी व्यवस्था कर ली गई है।

 बालक प्राथमिक शाला आंवराभाटा केंद्र का जायजा कलेक्टर श्री सोनी एवं अन्य का एसडीएम दंतेवाड़ा, बड़े बचेली के द्वारा लिया गया। मुख्यमंत्री जी की मंशा अनुरूप प्रत्येक केन्द्र में प्रतिदिन 100 टीके लगाने के लक्ष्य के अनुरूप तैयारी करने का निर्देश उन्होंने संबंधित अधिकारियों को दिये। जिले को 3200 वैक्सीन सभी विकासखंड के लिए 800 के मान से वैक्सीन प्रथम चरण में प्राप्त हुए हैं। दो मई से टीकाकरण प्रारंभ हो जायेगा। राज्य में कोविड टीकाकरण नि:शुल्क है।  

इसके लिये वैक्सीनेटर एवं अन्य कर्मचारियों की 4 टीम बनाई गई है। ये टीकाकरण केन्द्र वर्तमान में चल रहे केन्द्रों से अलग बनाये गये हैं। टीकाकरण केन्द्र में टीका लगाने के लिये आने वाले को अपना अंत्योदय कार्ड एवं आधार कार्ड लेकर आना होगा। अंत्योदय कार्डधारी परिवार के 18 वर्ष से अधिक व 45 वर्ष से कम उम्र के सभी सदस्यों को एक साथ टीका लगाया जा सकेगा। कलेक्टर ने खाद्य विभाग के अधिकारियों को अंत्योदय कार्डधारियों की सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने राशन दुकान संचालकों के माध्यम से अन्त्योदय हितग्राहियों को टीकाकरण के लिये प्रेरित करने कहा।
 


01-May-2021 10:12 PM 20

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बचेली, 1 मई। 
पिछले साल की तरह इस साल भी कोरोना महामारी को देखते हुए 1 मई को प्रशासन की गाइडलाइन के अनुसार संयुक्त खदान मजदूर संघ (एसकेएमएस) द्वारा मजूदर दिवस मनाया गया। इस बार किसी तरह का आयोजन नहीं किया गया, न ही किसी प्रकार की रैली निकाली गई।

एसकेएमएस कार्यालय में अध्यक्ष बलवंत सिंह व सचिव टीजे शंकरराव की उपस्थिति में नियमों का पालन करते हुए झंडा फहराया गया व सांकेतिक रूप से मजदूर दिवस मनाया गया। विदित हो कि श्रमिकों के हितों के लिए संचालित मजदूर संगठन एसकेएमएस पिछले कई वर्षों से मजदूर दिवस मनाने के साथ ही विशाल जुलूस का भी आयेाजन किया जाता था, लेकिन कोरोना के साये के कारण इस बार किसी प्रकार का आयोजन नहीं हुआ। 
 


01-May-2021 12:00 PM 20
दंतेवाड़ा, 30 अप्रैल। दंतेवाड़ा में जिला प्रशासन ने कोरोना से लडऩे के लिए रणनीति तय कर ली है। इसी कड़ी में प्रोफिलैक्टिक किट को कोरोना से लडऩे की मुख्य हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया जाएगा। कलेक्टर दीपक सोनी ने बताया कि अब तक 7 हजार किट तैयार कर ली गई है। इसका कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। उक्त किट मात्र 2 दिनों में तैयार किए गये हैं। उन्होंने बताया कि 20 हजार किट का लक्ष्य तय किया गया है। उल्लेखनीय है कि कलेक्टर कुशल प्रशिक्षक के तौर पर प्रोफिलैक्टिक किट का निर्माण कर प्रेरणास्त्रोत बन गये हैं।

01-May-2021 11:46 AM 24

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बचेली, 30 अप्रैल।
नगर पालिका बचेली के कुछ वार्डों में शुक्रवार की सुबह घरों में पानी नहीं आने से लोगों को परेशानी हुई, जिसके बाद पालिका द्वारा वार्डों में टैंकर से पानी की सप्लाई की गई। 

दरअसल, वार्ड 4 में पानी टंकी स्थित है, जिससे पालिका के पांच वार्डों में पानी की सप्लाई होती है, वर्तमान में दिन में एक ही समय पर पानी घरों के नलों में दी जाती है। दिन में दो बार पानी की सप्लाई करने पालिका द्वारा पाईपलाईन जोडऩे का कार्य चल रहा है। लेकिन 29 अप्रैल की दोपहर को आई तेज आंधी व बारिश के कारण पाईपलाईन का कार्य बाधित हुआ। टंकी को खाली किया गया था, जिसके कारण अगले दिन वार्ड 1, 2, 3, 4, 5 अंधरी चौक, गुरूद्वारा रोड, आरईएस कॉलोनी, रेती पारा में पानी की सप्लाई नहीं हो पाई। 

पालिका द्वारा टैंकर के माध्यम से वार्डों में पानी की सप्लाई की। साथ ही वार्ड 3 के जेडी स्टोर के पास स्थित बोर में भी पानी भरने लोगों की भीड़ रही। वर्तमान में पाईपलाईन कार्य चल रहा है। वार्ड 4 आरईएस कॉलोनी स्थित पानी टंकी वर्ष 2007 में एनएमडीसी के सीएसआर मद से द्वारा स्थापित की गई थी, जिसकी क्षमता करीब 2.50 लाख लीटर है।
 


01-May-2021 11:44 AM 25

बचेली, 30 अप्रैल। कल बचेली व किरंदुल में दोपहर के बाद से मौसम ने करवट ली। काले बादल छाए, तेज हवा के साथ बंूदाबादी हुई। इसके साथ ओले भी गिरे। मौसम खुशनुमा होने से लोगों को गर्मी से राहत भी मिली। 

 


01-May-2021 11:43 AM 21

पहुंचविहीन व नक्सल प्रभावित ग्राम पंचायतें भी शामिल

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
 दंतेवाड़ा, 30 अप्रैल।
दंतेवाड़ा जिले के 116 ग्राम पंचायतें मिसाल कायम कर गई हैं। यह ऐसी 116 ग्राम पंचायतें हैं, जहां 45 साल से अधिक उम्र के शत-प्रतिशत लोगों ने पहला टीका लगवा लिया है। 

इन पंचायतों में जिले के पहुंच विहीन एवं नक्सल प्रभावित ग्राम पंचायतें भी हैं, जिसमें हितामेंटा 250, हिड़पाल 220, भाटपाल 304, कोरलापाल 278, पाहुरनार 287, चेरपाल 210, उपेट 224, मुस्तलनार 213, बोदली 273, चिकपाल 141, एड़पाल 171, बेंगलूर 143, मारजूम 156, गाटम 158, परचेली 356, जंगमपाल 184, गढ़मिरी 549, रेवाली 200, बुरगुम 236, अरबे 100, रेंगानार 96, पोटाली 347, अरनपुर 240, फुलपाड़ 391, नहाड़ी 329, खुटेपाल 100, जबेली 217, तनेली 116, पकनाचुआ 153 और श्यामगिरी 174 शामिल हैं। ये ऐसे क्षेत्र हैं, जहां पर टीकाकरण टीम ने जाने के लिए कई मुश्किलों का सामना किया। पहाड़ों और नदी को पार कर मोबाईल टीम के सहारे वहां टीकाकरण किया गया। ग्राम पंचायतों के लोगों ने खुद आगे आकर टीकाकरण कराया, जो 45 साल से अधिक उम्र के हैं वे ना केवल टीका लगवा लिए हैं, बल्कि दूसरे डोज के लिए अपनी बारी आने का इंतजार कर रहे हैं।

 इन पंचायतों में प्रशासनिक पहल और जनप्रतिनिधियों की समझाइश असर कर गई और अब ये शत-प्रतिशत टीकाकृत हो चुके हैं। कलेक्टर दीपक सोनी ने हल्बी एवं गोंडी साथ ही हिन्दी में सोशल मीडिया के माध्यम से कोरोना टीकाकरण का संदेश भी दिया। जिससे लोगों में अब इतनी जागरूकता आ गई है कि दूसरे डोज की बारी आने पर टीका लगाने पूरे उत्साह से इंतजार कर रहे हैं।  जिला प्रशासन ने पात्र नागरिकों को टीकाकरण केन्द्र तक ले जाने के लिए जहां वाहन की व्यवस्था की, साथ ही भोजन की व्यवस्था, पेयजल छाया की व्यवस्था तथा अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध करायी गई। 

वहीं दीवार लेखन, हल्बी एवं गोंडी में गीत एवं वीडियों के जरिए भी लोगों को जागरूक किया गया। इसके सार्थक परिणाम आए।
 अनुविभागीय अधिकारी राजस्व दंतेवाड़ा अविनाश मिश्रा एवं बड़े बचेली प्रकाश भारद्वाज बताते हैं कि कलेक्टर दीपक सोनी के सतत मार्गदर्शन से निचले स्तर तक के प्रशासनिक अमले में जोश भर गया है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, क्षेत्र के चिकित्सक, पटवारी, सचिव, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन, शिक्षक समर्पित भाव से लोगों को टीकाकरण के लिए घर-घर पहुंच कर समझा रहे हैं।
 


29-Apr-2021 10:52 PM 26

दंतेवाड़ा, 29 अप्रैल। दंतेवाड़ा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल द्वारा नागरिक सहायता कार्यक्रम का आयोजन कर जनता का विश्वास जीता जा रहा है। इसी कड़ी में 230वीं वाहिनी द्वारा कुआकोंडा विकासखंड के रेंंगानार पटेलपारा में गत् दिवस नागरिक सहायता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान रेडियो, बर्तन और दैनिक उपयोग की सामग्रियां वितरित की गई। जिससे ग्रामीणों में  उत्साह नजर आया। इसी कड़ी में गांव के आंगनबाड़ी में स्थित वाटर फिल्टर प्लांट की भी स्थापना की गई है। जिससे आंगनबाड़ी के बच्चों समेत ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल मिल सके।
 


29-Apr-2021 5:51 PM 24

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 29 अप्रैल। वर्ष 2020 में भारत में कोरोना महामारी का प्रकोप व्यापक रूप में हुआ। जिसमें छत्तीसगढ़ भी इससे अछूता नहीं रहा । इस महामारी को ध्यान में रखते हुये एनएमडीसी, बचेली प्रबंधन के द्वारा इसकी रोकथाम हेतु प्रारम्भिक दौर में ही फीवर क्लीनिक की स्थापना की, साथ ही साथ इस बीमारी की जाँच हेतु एंटीजन टेस्ट, आरटी पीसीआर टेस्ट, ट्रू नॉट टेस्ट की व्यवस्था की गई । लॉकडाउन के दौरान लगभग 700 जरूरतमन्द परिवारों को एक माह की खाद्य सामाग्री का भी वितरण किया गया तथा ग्रामीणों को मास्क, सेनीटाइजर का वितरण किया गया एवं बार-बार हाथ धोने के लिए प्रेरित किया गया। एनएमडीसी, बचेली द्वारा वर्ष 2020 में कोरोना महामारी के बेहतर इलाज हेतु मंगल भवन, बचेली में 100 बिस्तरों वाला सर्वसुविधा युक्त कोविड केयर सेंटर स्थापित किया गया। इसके अतिरिक्त एनएमडीसी, बचेली द्वारा बीमारी से बचाव हेतु आस-पास के गाँवों में   व्यापक प्रचार-प्रासार एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया तथा 21800 से अधिक प्रोफिलैक्सिस किट बांटी गई ताकि इस बीमारी से बचाव हो सके। एनएमडीसी, बचेली हमेशा से ही अपने सामाजिक दात्यिवों के प्रति सजग व संकल्पित रही है।

उल्लेखनीय है कि कोराना महामारी के प्रारंभ से ही एनएमडीसीस बचेली द्वारा अनेक कार्य प्रारंभ कर दिये गये थे। एनएमडीसी, बचेली द्वारा अभी तक लगभग 23415 टेस्ट किए जा चुके हैं जिनमें से 1684 कोविड पॉजिटिव पाये गये हैं। एनएमडीसी, बचेली द्वारा वर्ष 2020 में कोरोना महामारी के बेहतर इलाज हेतु मंगल भवन व अम्बेडकर, बचेली में 100 बिस्तरों वाला सर्वसुविधा युक्त कोविड केयर सेंटर स्थापित किया गया। जहाँ पर सभी नागरिकों के लिए नि:शुल्क इलाज की सुविधा उपलब्ध है। प्रबंधन द्वारा लोगों के बेहतर इलाज हेतु कोविड केयर सेंटर में उच्च गुणक्ता वाली चिकित्सा सुविधा तथा अनुभवी चिकित्सकों की टीम उपलब्ध कराई है।

एनएमडीसी, बचेली कोविड केयर सेंटर में अभी तक  लगभग 800 मरीजों को भर्ती किया गया था जिसमें से 713 मरीज स्वास्थ्य लाभ लेकर डिस्चार्ज हो चुके हैं तथा 87 मरीजों का ईलाज अभी जारी है।यहाँ पर यह बात महत्वपूर्ण है कि जो इलाज, दवाईयाँ, भोजन आदि की सुविधा एनएमडीसी के अधिकारी/ कर्मचारी दी जा रही हैं वही सारी सुविधाएँ मरीजों को बिना किसी भेद-भाव दी जा रही है।

उपरोक्त कोविड केयर केद्रों के अलावा एनएमडीसी अपोलो अस्पताल में 10 बिस्तरों वाला आई.सी.यू. भी स्थापित किया गया है जहाँ पर कोराना से गंभीर रूप से पीडि़त मरीजों का उपचार किया जाता है।राज्य शासन के निर्देषानुसार कोरोना के प्रारंभ से लेकर अश्ी तक एनएमडीसी के कर्मचारियों, बचेली एवं आस-पास के गाँवों के  21800 से अधिक लोगों को प्रोफिलेक्सिस किट भी बांटी जा चुकी हैं तथा प्रोफिलेक्सिस किट लगातार आम जनता को,   एनएमडीसी कर्मचारियों एवं उनके परिवारजनों को बांटी जा रही हैं जिससे कोराना जैसे बीमारी को और अधिक फैलने से रोखा जा सके। 

लॉकडाउन के दौरान तेजस्वनी महिला समिति एवं एनएमडीसी, बचेली द्वारा लग-भग 700 जरूरतमन्द परिवारों को एक माह की  खाद्य सामाग्री का भी वितरण किया गया।


Previous123456789...2425Next