छत्तीसगढ़ » दन्तेवाड़ा

Previous123456789...4748Next
27-Sep-2021 8:50 PM (27)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दन्तेवाड़ा, 27 सितंबर। दंतेवाड़ा के वन परिक्षेत्र बचेली में वन विभाग ने ग्रामीण के घर की बाड़ी में छुपाकर रखे 49 सागौन बरामद किया। आरोपी के विरूद्ध अपराध दर्ज किया गया। 

दन्तेवाड़ा वनमण्डल अंतर्गत बचेली वन परिक्षेत्र के ग्राम श्यामगिरी में बड़ी मात्रा में सागौन चिरान होने की सूचना मुखबिर द्वारा दी गई थी। सूचना के आधार पर वन विभाग के दल के द्वारा श्यामगिरी के धन्नुराम कोर्राम पटेलपारा श्यामगिरी के निवास स्थान में घर के बाड़ी में छुपाकर रखे 49 नग सागौन बरामद किया। आरोपी के विरूद्ध अपराध दर्ज किया गया। उक्त सागौन चिरान की मात्रा 0.0646 घनमीटर है। जिसकी अनुमानित लागत 46 हजार 920 रूपये है। सागौन चिरान को केन्द्रीय वन काष्ठागार दन्तेवाड़ा में परिवहन कराया गया।

परिक्षेत्र अधिकारी बचेली गयादीन वर्मा के मार्गदर्शन में बचेली परिक्षेत्र के नकुलनार में पदस्थ वन कर्मचारियों एवं वनमंडल स्तरीय उडऩदस्ता दल के द्वारा उक्त कार्रवाई की गई।


27-Sep-2021 8:48 PM (28)

दन्तेवाड़ा, 27 सितम्बर। कलेक्टर दीपक सोनी ने  जिला कार्यालय में  सोमवार को समय सीमा की बैठक में संपर्क से प्राप्त आवेदनों की समीक्षा की।

उन्होंने जिले में चल रहे गिरदावरी कार्य की प्रगति के संबंध में जानकारी ली। नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी योजना के विकास कार्यों के संबंध में जानकारी लेते हुए बहु गतिविधि केंद्र को शीघ्र ही पूर्ण करने के निर्देश दिये। हाउसिंग बोर्ड की स्थिती, पेंशन प्रकरण, गौरव पथ निर्माण के संबंध जानकारी और लंबित प्रकरणों को निराकरण करने के निर्देश दिये।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, किसान क्रेडिट कार्ड और राजीव गांधी किसान न्याय योजना से हितग्राहियों को लाभान्वित करने के निर्देश दिये। नक्सली हमले में मृत व्यक्ति के परिवारों को  योजनाओं के माध्यम से लाभान्वित करने को कहा। उन्हें नरेगा, आजीविका गतिविधियों, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविक मिशन और महिला समूह में शामिल कर शासन की योजनाओं से लाभ पंहुचाने के निर्देश दिए। कोविड-19 टीकाकरण हेतु शिविर के माध्यम से अधिक से अधिक टीकाकरण करने के निर्देश दिए। एम्बुलेंस वाहन चालक के भुगतान एवं मितानिनों के भुगतान के संबंध में जानकारी लेते हुए समय पर भुगतान करने के निर्देश दिए।

 जिला अस्पताल में निर्माण कार्यों की स्थिती और साफ-सफाई की जानकारी ली। आंगनबाड़ी केंद्र भवन निर्माण, शौचालय निर्माण और पेयजल सुविधाओं को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। विकासखंड गीदम के अंतर्गत ग्राम पंचायत पाहुरनार, चेरपाल, कौरगांव, और तुमरीगुंडा में स्थानीय बोली में व्यापक प्रचार-प्रसार कर अधिक से अधिक पात्र हितग्राहियों को शासन की योजनाओं से लाभान्वित करने के निर्देश दिये।

सभी विभागों से लंबित प्रकरणों को जल्द ही निराकरण कर पूर्ण करनें की बात कही।

इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ अश्वनी देवांगन, एडीएम अभिषेक अग्रवाल और एसडीएम अबिनाश मिश्रा प्रमुख रूप से मौजूद थे।


27-Sep-2021 8:45 PM (18)

दन्तेवाड़ा, 27 सितंबर। कलेक्टर दीपक सोनी ने कलेक्टर कक्ष में जल जीवन मिशन की बैठक ली। उन्होंने जिले में जल जीवन मिशन के कार्यों में तेजी लाए जाने के निर्देश दिए।

विकासखंड दंतेवाड़ा अंतर्गत ग्राम टेकनार, विकासखंड गीदम के अंतर्गत ग्राम हीरानार, ग्राम कासोली 1, विकासखंड कटेकल्याण के ग्राम मोखपाल, ग्राम परचेली, विकासखंड कुआकोंडा के ग्राम गोंगपाल, ग्राम हल्बारास, ग्राम खुटेपाल की बसाहटों में जल जीवन मिशन अंतर्गत पाइप लाइन एवं घरेलू कनेक्शन का कार्य स्वीकृत किया गया है।

जल जीवन मिशन के अंतर्गत वाटर क्वालिटी व सपोर्ट वाटर क्वालिटी मद से कार्यालयीन एवं अन्य व्यय (कंप्यूटर के देयक, डीजल, किराया, वाहन, मजदूरी भुगतान) के लिए 5 लाख रूपये की राशि स्वीकृत की गई।

जल जीवन मिशन अंतर्गत फील्ड टेस्ट किट एवं प्रयोगशाला से ग्राम पंचायत में पेयजल स्त्रोतों का जल गुणवत्ता परीक्षण हेतु मानव संसाधन 32 अभ्यर्थी, किराए पर 4 नग वाहन 15 दिन के लिए कलेक्टर दर पर स्वीकृत किये गए है। कलेक्टर नेंं अपूर्ण कार्यों को पूर्ण करने के निर्देश दिए। इस मौके एसडीएम अबिनाश मिश्रा एवं समिति के सदस्यगण मौजूद थे।


26-Sep-2021 9:41 PM (32)

सुबह की सैर पर जाने से भी कतराने लगे हैं लोग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 26 सितंबर। इन दिनों नगर में आवारा कुत्तों का आतंक दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। जहां-तहां कुत्ते झुंड में नजर आ जाते हैं। इनके काटने का भय हमेशा बना रहता है। छोटे-छोटे बच्चे को कई बार कुत्तों ने काटा भी है। बड़े युवा वर्ग भी इन कुत्तों से डरते हैं। बछड़ों, बकरियों व मवेशियों को भी काटकर घायल कर रहे है।

नगर का शायद ही कोई कॉलोनी, सडक़ या गली हो, जहां इनकी दहशत न हो। राहगीर परेशान हैं। आलम यह है कि इन कुत्तों के डर से लोग सुबह सैर करने घर से निकलने के लिए भी कतरा रहे हंै। बड़े बुजुर्ग तो अपने साथ हाथ में लाठी, डंडा लेकर बाहर पैदल निकलते हंै। कई बार ये बाईक या कार के पीछे भागते हैं। 

गत दिनों एनएमडीसी कॉलोनी टाउनशिप क्षेत्र में तीन-चार लोगों को कुत्ते ने काटा था, जिसके बाद पालिका में शिकायत भी की थी। इससे पहले भी कई बार नगर में बच्चों व बड़ों का काट चुके हैं।

मुख्य नगर पालिका अधिकारी एचआर गोंदे ने कहा कि कुत्तो का मारने का कानूनी अधिकार नहीं है। शासन का आदेश आने के बाद ही कुछ कार्यवाही की जा सकती है।

पालिकाध्यक्ष पूजा साव का कहना है कि मारा नहीं जा सकता है। इन आवारा कुत्तों को नगर से कही दूर छोडऩे की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा नगरवासियों के द्वारा इन कुत्तों के आतंक से निजात दिलाने जिला कलेक्टर को भी लिखित शिकायत की गई है।


26-Sep-2021 9:40 PM (47)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 26 सितंबर। विश्व पर्यटन दिवस 27 सितंबर को मनाया जाता है। इसकी शुरुआत वर्ष 1980 में संयुक्त राष्ट्र पर्यटन संगठन के द्वारा हुई। इसका मुख्य उद्देश्य पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देना है। पर्यटन क्षेत्रों से सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनैतिक, आर्थिक मूल्यों को बढ़ाने में मदद मिलेगी। आजकल सभी अपने कामों में इतने व्यस्त हैं कि अपने ही परिवारजनों, दोस्तों से मुलाकात नहीं कर पाते हैं, ऐसे में पर्यटन क्षेत्रों में जाकर अच्छा समय व्यतीत किया जा सकता है। पर्यटन क्षेत्रों में बढ़ावा देकर हम अर्थव्यवस्था को मजबूत कर सकते हैं।

जिले में ऐसे कई पर्यटन क्षेत्र हैं, जो लोगों का मन मोह लेते हैं। माँ दंतेश्वरी मंदिर जो शक्तिपीठों में से एक माना जाता है। यह मंदिर शंखिनी-डंकिनी नदी के संगम पर स्थित है। दंतेश्वरी माँ को कुल देवी का दर्जा दिया गया है। माँ के दर्शन के लिए यहां पर पुरुषों को धोती पहनना अनिवार्य है। वहीं महिलाएं साड़ी एवं सलवार में माता का दर्शन कर सकती हैं।

जिला मुख्यालय से लगभग 15 किमी दूर फरसपाल नामक स्थान से कुछ ही दूरी पर हजारों फीट ऊँची ढोलकल पहाड़ी पर गणेश जी की प्रतिमा स्थित है। गणेश जी की इस प्रतिमा में ऊपरी दांयें हाथ में फरसा, ऊपरी बांयें हाथ में टुटा हुआ एक दन्त, निचली दांये हाथ में अक्षमाला व मूर्ति के निचली बांयें हाथ में मोदक धारण किये हुए हैं। किवदंती है कि परशुराम के फरसा से गणेश जी का दन्त टूटा था, इसलिए इस जगह का नाम फरसपाल पड़ा। पहाड़ों के बीच ऊंचाई पर गणेश की असीम प्रतिमा मनमोहक लगती हैं।

जिले से लगभग 34 किमी दूर बारसूर स्थित मामा-भांजा मंदिर प्रसिद्ध धार्मिक स्थलों में से एक है। यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। कहा जाता है कि मंदिर को बनाने वाले दो शिल्पकार मामा-भांजा थे, इसीलिए इस मंदिर का नाम मामा-भांजा पड़ा। बारसूर में स्थित बत्तीसा मंदिर जहां शिवलिंग की मूर्ति स्थापित है। बत्तीस खम्भों के सहारे खड़ा यह मंदिर देखने में बहुत नायाब लगता है। वहीं गणेश मंदिर जो बारसूर में ही स्थित है। जिसकी ऊंचाई लगभग 5 एवं 7 फीट की यह जुड़वा मूर्ति लोगों का मन मोह लेती है। वहीं बाजार स्थल में चन्द्रादित्य मंदिर स्थित है। इस मंदिर का निर्माण चन्द्रादित्य राजा ने करवाया था। इसलिए इसका नाम चन्द्रादित्य मंदिर पड़ा। जो अपने आप में अनुपम दृश्य लगता है। इस मंदिर के बनावट में खजुराहो की झलक दिखती हैं।

बारसूर से लगभग 5 किमी आगे चलने पर मुचनार एक ऐसा स्थल है, जो पिकनिक स्पॉट के रूप में उभर कर आया है। यह इंद्रावती नदी के किनारे स्थित है जिसकी प्राकृतिक सुंदरता सभी को इतनी सुहानी लगती है कि पर्यटक अपना अधिक समय इस सुन्दर नजारे को देखने में लगाते हैं।

बैलाडीला की पहाड़ी शुद्ध लौह अयस्क के लिए मशहूर है। यहां से लौह अयस्क जापान को निर्यात किया जाता है। नंदीराज पर्वत की आकृति बैल की कूबड़ की तरह प्रतीत होती है, इस वजह से इसका नाम बैलाडीला पड़ा। इन पहाडिय़ों के ऊपर ही आकाश नगर है, जिसे हम एक हिल स्टेशन के रूप में देख सकते हैं। अधिक ऊंचाई पर होने के कारण पहाडिय़ाँ बादलों से ढकी हुई होती है। वहीं बैलाडीला की पहाडिय़ों में ही झारालावा जलप्रपात है जो एक बहुत ही खूबसूरत झरना है। प्राकृतिक सौंदर्य से घिरा हुआ यह झरना पर्यटकों का मन मोह लेती है। पहाडिय़ों से भरे घने जंगल में यह दृश्य सैलानियों का मन आनंदित कर देता है। पहाड़ी क्षेत्र होने के कारण कई किलोमीटर पैदल चल कर इस क्षेत्र तक पंहुचा जा सकता है।

वहीं जिला मुख्यालय से लगभग 40 किमी दूर कुआकोंडा विकासखण्ड के ग्राम पालनार के समीप फूलपाड़ जलप्रपात स्थित है। जिसकी मनोरम एवं प्रकृतिमय वातावरण में कल-कल करते झरने की ध्वनि मधुरमय सी लगती है।


26-Sep-2021 9:38 PM (40)

पीएटी व नर्सिंग परीक्षा एक ही दिन होने से किया बदलाव

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 26 सितंबर। एनएमडीसी बालिका शिक्षा योजना 2021 के अंतर्गत होने वाली प्रवेश परीक्षा की तिथि में बदलाव किया गया है। उपमहाप्रबंधक सीएसआर द्वारा जारी इस सूचना में परीक्षा तिथि 29 सितंबर, बुधवार को निर्धारित की गई है।

इस सूचना के अनुसार डीएवी पब्लिक स्कूल बचेली में दंतेवाड़ा, बीजापुर, सुकमा जिले के अभ्यर्थियों के लिए सुबह 8.30 एवं कोड़ागांव, नारायणपुर एवं बस्तर जिले के अभ्यर्थियों के लिए सुबह 10 बजे निर्धािरत किया गया है।

दरअसल, यह प्रवेश परीक्षा 26 सितंबर को होने वाली थी, जिसके लिए प्रबंधन द्वारा पूरी तैयारी भी की जा चुकी थी, लेकिन 26 को ही व्यापमं द्वारा पीएटी (प्री एग्रीक्लचर टेस्ट) की परीक्षा आयोजित की जा रही है, जिसके कारण एनएमडीसी नर्सिंग प्रवेश परीक्षा को स्थगित कर 29 सितंबर को निर्धारित किया गया है।

       छग सर्व आदिवासी समाज, इकाई बचेली द्वारा 26 को पीएटी एवं एनएमडीसी द्वारा आयेाजित परीक्षा एक ही दिन होने के कारण दोनों परीक्षा में एक साथ सम्मिलित नहीं हो पाने के कारण परीक्षा तिथि में बदलाव किये जाने का निवेदन बड़े बचेली के अनुविभागीय अधिकारी एसडीएम से किया गया था। जिसके बाद एसडीएम ने बचेली परियोजना के अधिशासी निदेशक को पत्र लिखकर तिथि में परिवर्तन को निर्देश दिया गया था। जिसके बाद अब 29 सितंबर को डीएव्ही पब्लिक  स्कूल में परीक्षा संपन्न होगी।

    इस प्रवेश परीक्षा में भाग लेने बस्तर संभाग के जिलों के अभ्यर्थी शनिवार को बचेली पहुंचे। तिथि में अचानक परिवर्तन होने से बचेली पहुंच चुके अभ्यर्थी परेशान रहे। जानकारी के अनुसार 40 सीटों के लिए 200 अभ्यर्थियों को बुलाया गया है। जो अभ्यर्थी बचेली पहुंच चुके हैं, उनके रुकने व भोजन की व्यवस्था की एनएमडीसी द्वारा की गई।


26-Sep-2021 5:46 PM (24)

बचेली, 26 सितंबर। बचेली नगर में प्रथम पूज्य देव भगवान गणेश के मूर्तियो का विजर्सन का सिलसिला अब भी जारी है। शनिवार को नगर के सब्जी मार्केट में स्थापित भगवान गणपति के प्रतिमा का विसर्जन डीजे की धुन में धूमधाम से किया गया। नाचते गाते पूरे नगर में भ्रमण करते हुए साम्पलेक्स नाला में विसर्जित किया। 
 


25-Sep-2021 8:52 PM (24)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 25 सितंबर। जिले के कुआकोंडा मंडल में भारतीय जनता पार्टी द्वारा एकात्म मानववाद के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती गरिमामय तरीके से मनाई गई। इस दौरान वरिष्ठ नेता रामबाबू गौतम ने पं. दीनदयाल के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर पुष्पांजलि अर्पित की।

इसके उपरांत उन्होंने अपने संबोधन में पं. उपाध्याय को दार्शनिक और सामाजिक चिंतक निरूपित किया। उन्होंने श्री उपाध्याय के अंत्योदय के उद्धार संबंधी अवधारणा को आज भी प्रासंगिक बताया। जिस पर चलकर भाजपा विश्व का सबसे बड़े राजनीतिक दल के रूप में खड़ा हो सका।

इस दौरान मंडल अध्यक्ष सोमड़ू कोर्राम, नंदलाल नाग, गोविंद तिवारी, ध्रुवा कुंजाम, रंजना कश्यप और भीमा कवासी प्रमुख रूप से उपस्थित थे।


25-Sep-2021 8:51 PM (26)

दंतेवाड़ा, 25 सितंबर। आजादी के अमृत महोत्सव अंतर्गत मंत्री टी. एस. सिंहदेव पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की अध्यक्षता में जिला स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) जिला दक्षिण बस्तर दन्तेवाड़ा के जनप्रतिनिधियों से स्वच्छता संवाद कार्यक्रम का शुभारंभ वर्चुअल माध्यम से किया गया। मंत्री श्री सिंहदेव द्वारा ग्राम पंचायतों के सरपंचों से जिले में चल रहे निर्माण कार्य जैसे सामुदायिक शौचालय, नवीन परिवार के घरों में शौचालय, ओडीएफ प्लस ग्रेवाडर, प्लास्टिक मैनेजमेंट, ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन सोख्ता गढ्डा एवं अन्य स्वच्छता बिन्दुओं पर चर्चा किया गया।

कोविड नियमों का पालन करते हुए जिले से कार्यक्रम में सीईओ जिला पंचायत श्री अश्वनी देवांगन एवं 05 ग्राम पंचायतों के सरपंच क्रमश: ग्राम पंचायत चितालंका सुनिल कश्यप, ग्राम पंचायत टेकनार  राजकुमारी कर्मा, ग्राम पंचायत मोफलनार बैदू कश्यप, ग्राम पंचायत झोडियाबाड़म नमिता पोडिय़ामी, ग्राम पंचायत चितालूर सोमडू भास्कर और  ग्राम पंचायत गुमड़ा  नंदा मंडावी सहित जिला स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) से जिला समन्वयक देवेंद्र झाड़ी, जिला सलाहकार ममता राणा तथा अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थे।


25-Sep-2021 8:50 PM (29)

एमएमडब्ल्यूयू किरंदुल ने की थी मांग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली /किरंदुल, 25 सितंबर। किरंदुल नगर के मुख्य बाजार, गजराज कैंप से रेल्वे की ओर जाने वालों की समस्या अब समाप्त होने वाली है। जल्द ही इस क्षेत्र में फुटओवर ब्रिज का निर्माण होगा, जिसके लिए विशाखापटनम डीआरम ने संयुक्त सर्वे कर रिपोर्ट मांगी है।

गौरतलब है कि गत दिनों डीआरएम के किरंदुल प्रवास के दौरान एमएमडब्ल्यू यूनियन किरंदुल ने उनसे मुलाकात कर रेल्वे सुविधाओं का उन्नयन करने मांग पत्र दिया गया था। यूनियन के प्रतिनिधि एके सिंह ने बताया कि किरंदुल नगर वासियाों की कई वर्षों की मंाग अब पूरी होने वाली है। मुख्य बाजार से गजराज कैंप आने जाने वाले लोगों के लिए स्टील ब्रिज बनवाने की मांग एमएमडब्ल्यू यूनियन द्वारा किया गया था, इस मांग पर डीआरआम द्वारा त्वरित निर्णय करते हुए रेल्वे विभाग के अधिकारियों किरण कुमार व रमेश कुमार सिंह को सर्वेक्षण के लिए स्थल पर भेजा गया। निरीक्षण के दौरान यूनियन के पदाधिकारी व सदस्य भी मौजूद रहे।

गजराज कैंप से रेल्वे स्टेशन की ओर 200 मीटर का ब्रिज बनेगा, जिससे नगरवासियों को लाभ होगा। इस ओर आने-जाने वाले हमेशा खतरों के बीच पटरी को पार करते थे। सुरक्षा एवं सुगमता के दृष्टिकोण से वार्ड 3, 4 से वार्ड 17, 18 के मध्य ब्रिज बनेगा।


25-Sep-2021 6:38 PM (34)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 13 सितंबर। एनएमडीसी बचेली  द्वारा छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में सीएसआर के तहत बगीचा निर्माण कार्यक्रम वर्ष 2020 से प्रारंभ किया है जिसका लक्ष्य पांच वर्षों में ढाई लाख पौधे प्रदाय  कर ऐसे किसानों के खेतों में बगीचों का निर्माण कराना है जिनके पास फेंसिंग और पानी की सुविधा उपलब्ध है।

बगीचा निर्माण का उद्देश्य बेनपाल, पाढ़ापुर, पिना बचेली, दुगेली, बडेकमेली, नेरली, भांसी, धुरली, गमावाडा आदि ग्रामों के जनजातीय समुदायों की आय में वृद्धिकर किसानों  के जीवन स्तर में सुधार  लाना है क्योंकि पारंपरिक रूप से यहाँ के किसान केवल धान की खेती करते हैं जो कि बहुत लाभदायक नहीं है उसके पीछे का कारण यह है कि इस क्षेत्र में धान की खेती पूरी तरह से वर्षा पर निर्भर रहती है  जिससे कई बार समय पर वर्षा न होने या कम वर्षा होने  पर फसल खऱाब भी हो जाती है।

 बगीचा निर्माण की प्रक्रिया प्रति  वर्ष नवम्बर से प्रारंभ की जाती है, जिसमें सर्वप्रथम ऐसे किसानों का चयन किया जाता है जिनके पास फेंसिंग व सिंचाई युक्त खेत हैं। तत्पश्चात उक्त किसानों को वैज्ञानिक पद्धति से राज्य शासन  के सहयोग से बगीचा निर्माण हेतु प्रशिक्षण दिया जाता है। प्रशिक्षण में मृदा तथा जलवायु परिस्थिति, पौधों के बीच रखे जाने वाले फासले, गड्ढे बनाने, इनमें डाले जाने वाली ऑर्गेनिक खाद की गुणवत्ता/मात्रा , पौधों के देख-भाल में  बरती जाने वाली सावधानियाँ आदि के बारे में जानकारी दी जाती है। प्रशिक्षण के उपरांत एनएमडीसी बचेली सीएसआर टीम  यह सुनिश्चित करती है कि जिन किसानों  को प्रशिक्षण दिया गया है उन्होंने प्रशिक्षण के दौरान दी गयी जानकारी के अनुसार ही  अपने खेतों में गड्ढे तैयार कर लिए हैं। जो किसान गड्ढे खोदने में पीछे रह जाते हैं उन्हें फिर से प्रेरित किया जाता है।

उपरोक्त प्रक्रिया के उपरांत सभी किसानों को मांग अनुसार अमरूद, कटहल, आम,नीबू, लीची, मोरेंगा, पपीता, नारियल, काजू आदि के हाइब्रिड पौधे दिए जाते हैं  और यह भी सुनिश्चित किया जाता है कि जिन किसानों को पौधे दिए गए हैं वो समय रहते रोपित कर दिए जाएँ।   किसानों को प्रदाय किये जा रहे उक्त पौधे हाइब्रिड व् अच्छी  प्रजाति के हैं जिसमें से अधिकतम पौधे तीन से चार साल में अच्छी गुणवत्ता के फल देना  प्रारम्भ कर देंगे।

इस पांच वर्षीय योजना के तहत पिछले वर्ष लग-भग पचास हज़ार पौधे रोपित किये गए थे ।  पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी अभी तक लग-भग तीस हज़ार उन्नत किस्म के फलदार  पौधे  एनएमडीसी बचेली एवं जिला प्रशासन, डी.डब्लू. डी के द्वारा चिन्हित कृषकों को प्रदान किये गए हैं । प्रदाय किये गए फलदार पौधों का रोपण कार्य किसानों द्वारा पूर्ण कर लिया गया है। ये  पौधे अगले तीन से चार वर्षों में फल देने लगेंगे जिसे किसान स्थानीय बाजार और बाहर के बाज़ारों में बेच कर लाभ प्राप्त कर सकेंगे । पिछले वर्ष जो पौधे प्रदाय  किये गए थे उनमें से कुछ ने तो फल भी देना प्रारंभ कर दिया है।


25-Sep-2021 6:13 PM (31)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
 दंतेवाड़ा, 25 सितंबर।
जिले में कोविड टीकाकरण हेतु कलेक्टर दीपक सोनी के निर्देशानुसार  लगातार कार्ययोजना तैयार कर ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में टीकाकरण किया जा रहा है। जिले में अब तक 1 लाख 95 हज़ार 574 लोगों का कोविड टीकाकरण किया जा चुका है। ग्रामीण क्षेत्रों में उत्साहपूर्वक टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है। प्रत्येक ग्राम पंचायतों में विशेष टीम गठित कर प्रतिदिन टीकाकरण नियमित रूप से संचालित हो रहे हैं। प्रतिदिन सीईओ जिला पंचायत अश्वनी देवांगन के मार्गदर्शन में विकासखंड स्तर पर कार्ययोजना तैयार कर टीम गठित की गई है। ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में मितानिन, ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सहायक एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के माध्यम से तथा स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा शिविर के माध्यम से लोगों को प्रेरित कर टीकाकरण केन्द्र में लाकर टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है। जिससे हर घर-परिवार में कोई भी व्यक्ति टीकाकरण से वंचित न हो। टीका से वंचित मिलने पर स्वास्थ्य अमले द्वारा घर पहुंचकर टीकाकरण किया जा रहा है। जिससे जिले में निवासरत सभी पात्र व्यक्तियों का शत्-प्रतिशत वैक्सीनेशन पूर्ण हो सके। जिले में 45 वर्ष से अधिक पात्र हितग्राहियों का शत-प्रतिशत टीकाकरण पूर्ण कर लिया गया है। 18 वर्ष से 44 वर्ष के 66 हज़ार 278 हितग्राहियों का प्रथम डोज का टीकाकरण पूर्ण कर लिया गया है।

गर्भवती महिलाओं को भी टीका
शासन के निर्देशानुसार वर्तमान में गर्भवती माताओं का भी टीकाकरण किया जा रहा है। कोविन पोर्टल के आधार पर जिले में कुल पात्र हितग्राहियों में से 58 हज़ार 847 लोगों का प्रथम एवं द्वितीय डोज का टीकाकरण पूर्ण कर लिया गया है। विगत 04 दिनों में 15 हज़ार 865 लोगों का टीकाकरण किया गया है। ग्रामीण अंचलों में टीकाकरण हेतु लोगों का उत्साहपूर्वक टीकाकरण केन्द्रों में आकर अपना टीकाकरण करवा रहे है। उक्त टीकाकरण ग्रामीण अंचलों में टीका त्यौहार के रूप में मनाया जा रहा है।
 


24-Sep-2021 7:43 PM (51)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता 
दंतेवाड़ा, 24 सितंबर।
जिला अस्पताल में जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुभाष सुराना की अध्यक्षता में आयुष्मान भारत दिवस मनाया गया,  जिसमें योजना की जानकारी हितग्राहियों को दी गयी। 

जिले में योजनान्तर्गत हितग्राहियों को लाभ पहुंचाने वाले टी.एम.सी. ऑपरेटर, किओस्क ऑपरेटर, सी.एस.सी, वीएलई को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। 
कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जी.सी.शर्मा, सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डॉ. आर.एल. गंगेश, शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. राजेश ध्रुव, जिला कार्यक्रम समन्वयक और जिला प्रबंधक सीएससी प्रमुख रूप से उपस्थित थे। 
 


24-Sep-2021 7:06 PM (27)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बचेली, 24 सितंबर।
नगर के पुराना मार्केट शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विघालय में गुरूवार को विधिक साक्षरता जागरूकता शिविर का आयेाजन किया गया। जिसमे व्यवहार न्यायाधीश वर्ग 2 एवं तालुका विधिक सेवा समिति के अध्यक्ष विवके नेताम के द्वारा उपस्थित सभी स्कूली बच्चो को विधिक शिक्षा की जानकारी दी गई। शिविर में साईबर क्राइम आईटी एक्ट में सावधानियो के बारे में एवं बाल विवाह अधिनियम 1929 के बारे में सुझाव दिए गये। इस दौरान प्राचार्य डाली दयाल सहित सभी शिक्षकगण व कक्षा 11 व 12 के छात्र-छात्राएॅ मौजूद रहे।
 


24-Sep-2021 6:45 PM (33)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 24 सितंबर । जिला ग्रंथालय दंतेवाड़ा में शिक्षा विभाग द्वारा जारी पढ़ई तुंहर दुआर 2.0 कार्यक्रम अनुसार बच्चों के शिक्षा गुणवत्ता को फोकस करते हुए सभी शालाओं में 10 काम को फोकस करने जिला नोडल अधिकारी और विकासखंड के मेंटर्स की बैठक आयोजित की गई।

समग्र शिक्षा के द्वारा चल रहे विभिन्न योजनाओं के साथ इन  दस काम मे गढ़बो नवा भविष्य, सौ दिन सौ कहानियां, सफलता के लिये कौशल-बस्ता विहीन विद्यालय, अंगना म शिक्षा, अटल टिंकरिंग लेब, खिलौने बनाकर कक्षा में उपयोग, विद्यार्थी विकास सूचकांक, कबाड़ से जुगाड़, अकादमिक मॉनिटरिंग का उपयोग और राष्ट्रीय उपलब्धि परीक्षण कार्यक्रम के नोडल अधिकारियों के द्वारा इन दस काम की क्रियान्वयन एवम जवाबदेही की जानकारी प्रदान की गई। जिला शिक्षा अधिकारी राजेश कर्मा, जिला मिशन समन्वयक एस एल शोरी के निर्देशन पर सहायक परियोजना समन्वयक ढलेश आर्य के नेतृत्व में दो साल से कोरोना से हुए नुकसान की भरपाई हेतु बच्चों के दक्षता सुधार इन दस काम से किये जाने हेतु यह बैठक आहूत की गई थी। 12 नवम्बर को राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे किया जाना है जिसके लिये अभी से तैयारी किया जा रहा है।

बच्चों को उनकी कक्षा अनुरूप दक्षता हासिल करने सभी खंड शिक्षा अधिकारी, खंड स्रोत समन्वयक, संकुल समन्वयक को बैठक में निर्देश दिया गया कि अपने स्तर पर आवश्यक तैयारी कर लेवे। बैठक में सहायक परियोजना समन्वयक ढलेश आर्य, खंड शिक्षा अधिकारी डी आर ध्रुव, सहायक खंड शिक्षा अधिकारी राममिलन रावटे, खंड स्रोत समन्वयक रामचंद्र नागेश, अनिल शर्मा, राजेंद्र मरसकोले सहायक अध्यापक डाइट, संकुल समन्वयक रमेश साहू, खोमेंद्र देवांगन, नेहा नाथ, ममता वर्मा, और समस्त विकासखंड के चालीस मेंटर उपस्थित थे।


23-Sep-2021 9:38 PM (44)

दंतेवाड़ा, 23 सितंबर। जिला अस्पताल में आज जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुभाष सुराना की अध्यक्षता में आयुष्मान भारत दिवस मनाया गया,  जिसमें योजना की जानकारी हितग्राहियों को दी गयी।

 

जिले में योजनान्तर्गत हितग्राहियों को लाभ पहुंचाने वाले टी.एम.सी. ऑपरेटर, किओस्क ऑपरेटर, सी.एस.सी, वीएलई को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जी.सी.शर्मा, सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डॉ. आर.एल. गंगेश, शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. राजेश ध्रुव, जिला कार्यक्रम समन्वयक और जिला प्रबंधक सीएससी प्रमुख रूप से उपस्थित थे।


23-Sep-2021 9:35 PM (42)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 23 सितंबर। एनएमडीसी बचेली के आवासीय कॉलोनी टाउनशिप क्षेत्रों की सुरक्षा में नवीन व्यवस्था किये जाने का विरोध किया जा रहा है। गुरूवार को मजदूर यूनियन संयुक्त खदान मजदूर संघ के द्वारा सीआईएसएफ चेक पोस्ट से रैली निकालते हुए बचेली परियोजना के प्रशासनिक भवन पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया। श्रमिक संघ के सदस्यों द्वारा जमकर नारेबाजी की गई। इस संबंध में सिक्योरिटी गार्ड के रोजगार को लेकर परियोजना के मुख्य महाप्रबंधक पीके मजुमदार को ज्ञापन सौंपा गया।

यूनियन के सचिव टीजे शंकर राव ने कहा कि टाउनशिप सिक्योरिटी की व्यवस्था को निजी एजेंसी को सौंपा हुआ है। जिसके तहत विगत कुछ वर्षों से निजी सुरक्षा एजेंसी अपने गार्डों के माध्यम से टाउनशिप व्यवस्था सुचारू रूप से विगत लगभग 15 वर्षों से संभाल रही है। विश्वस्त सूत्रों से संघ के संज्ञान में यह लाया गया है कि वर्तमान में उक्त व्यस्था को संभाल रही मेसर्स एलर्ट सर्विस ब्यूरो का उक्त ठेका डीजीआर रेट पर भूतपूर्व सैनिकों के माध्यम से निष्पादित किये जाने का निर्णय न्यायालय द्वारा जारी किया जा चुका है। जिसमें उक्त एजेंसी भूतपूर्व सैनिको के माध्यम से उक्त कार्यादेश निष्पादित करेगी। आज तक टाउनशिप सिक्योरिटी में इस प्रकार की व्यवस्था नहीं थी।

आज देश में कोविड-19 महामारी के कारण लागू किये गये लॉकडाउन के फलस्वरूप रोजगार के साधनों पर गंभीर कुठारघात लगा है जिसके फलस्वरूप लाखों लोग बेरोजगार हो चुके हैं। प्रबंधन के उक्त नवीन व्यवस्था के फलस्वरूप इस कार्य में विगत 10-15 वर्षों से कार्यरत मजदूर बेरोजगार हो जाएंगे। इनमें ऐसे कर्मचारी है जो 45-50 वर्ष की आयु प्राप्त कर चुके हैं। इस नवीन व्यवस्था के फलस्वरूप इन वर्षों से कार्यरत व्यक्तियो के समक्ष अपनी रोजी रोटी एवं जीवन यापन की गंभीर समस्या अचानक उत्पन्न होगी।

 प्रबंधन से की गई मांग

टीजे शंकरराव ने बताया कि वर्षों से कार्यरत इन ठेका श्रमिकों, सुरक्षा गार्डों के समक्ष कई समस्याएं आयेगी, जिस तारतम्य में प्रबंधन से मांग की गई है। जिसमें टाउनशिप सुरक्षा की व्यवस्था प्रबंधन एवं श्रमिक संघ के मध्य हुए समझौते के तहत लागू की गयी थी। जिसके तहत कर्मचारियों से 40 रूपये प्रतिमाह का अंशदान लिया जाता है। इस व्यवस्था में किसी भी प्रकार का परिवर्तन बिना श्रमिक संघ की सहमित के सर्वथा अमान्य होगा। सर्वप्रथम यथास्थिति को कायम रखते हुए इस नवीन व्यवस्था को अगले कार्यादेश जारी किये जाने तक रखा जाये। ताकि विगत 10-15 वर्षों से कार्यरत कर्मचारी, जिन्होंने अपनी 45-50 वर्ष की आयु प्राप्त कर चुके है श्रमिकों के रोजगार पर विपरित असर न पड़े। न्यायालय के निर्णय को लागू करने की परिस्थिति में जितने भूतपूर्व सैनिकों की तैनाती की जाती है तो उनके स्थान पर निकाले जाने वाले मजदरों के वैकल्पिक रोजगार की व्यवस्था की जाये।

 श्रमिक संघ का कहना है कि इस उपरोक्त मांग के प्रति संघ अत्यंत गंभीर है। प्रबंधन यदि मांगों के प्रति सकारात्मकता प्रदर्शित नहीं करता है तो संघ अपनी मांगों के प्रति किसी भी सीमा को लांघ सकता है। जिससे उत्पन्न होने वाले व्यवधान हेतु प्रबंधन स्वयं जिम्मेदार होगा। ज्ञापन सौंपने के दौरान यूनियन के अध्यक्ष बलबंत कौशल, अन्य पदाधिकारी व सदस्यों की मौजूदगी रही। 


23-Sep-2021 9:34 PM (29)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

 दंतेवाड़ा, 23 सितंबर। दंतेवाड़ा में आयुष्मान कार्ड बनवाने ग्रामीणों में उत्साह नजर आ रहा है। विशेष स्वास्थ्य सुविधा का लाभ लेने ग्रामीण बड़ी संख्या में शिविरों में पहुंच रहे हैं।

 कुआकोंंडा विकासखंड के ग्राम पंचायत गढ़मिरी में आयुष्मान कार्ड निर्माण का कार्य तेजी से जारी है। गांव के प्रत्येक मोहल्ले में शिविर लगाकर आयुष्मान कार्ड बनाया जा रहा है। इसी कड़ी में गांव के मुंडा पारा स्थित पूर्व माध्यमिक शाला में गुरुवार को आयुष्मान कार्ड बनाने शिविर लगाया गया, जिसमें बड़ी संख्या में ग्रामीण पुरुष और महिलाएं पहुंचीं।

ग्राम पंचायत के सचिव प्रेम ठाकुर ने बताया कि ग्राम पंचायत अंतर्गत विभिन्न वार्डों में शिविर लगाकर आयुष्मान कार्ड बनाए जा चुके हैं।

आयुष्मान कार्ड बनाने का कार्य अंतिम चरण में चल रहा है।


23-Sep-2021 9:32 PM (30)

सीयूटीएम के साथ कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए अनुबंध अभ्यर्थियों को भेजा जाएगा भुवनेश्वर

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

 बचेली, 23 सितंबर। एनएमडीसी ने स्वास्थ्य क्षेत्र में रोजगार के अवसर पैदा करने के उद्देश्य से बस्तर क्षेत्र के आदिवासी युवाओं को प्रशिक्षित करने के लिए सेंचुरियन यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट (सीयूटीएम), ओडिशा के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया है।

इस समझौते का उद्देश्य बस्तर संभाग के सामाजिक और आर्थिक रूप से वंचित  बीपीएल ट्राइबल श्रेणी  के 30 युवाओं को  छ:  महीने की अवधि के लिए और 30 युवाओं को एक वर्ष की अवधि के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण प्रदान करना है। इस समझौते के तहत दंतेवाड़ा जिले के युवाओं को विशेष रूप से प्राथमिकता दी जाएगी । 

इस सर्टिफिकेशन कोर्स के  लिए दंतेवाड़ा के विभिन्न गांवों के अभ्यर्थियों की योग्यता के अनुसार कुल 60 अभ्यर्थियों को सीयूटीएम, भुवनेश्वर भेजा जाएगा। सीयूटीएम पाठ्यक्रमों के पूरा होने के बाद, सीयूटीएम मेडिकल लैब तकनीशियन, रेडियोग्राफी तकनीशियन, आपातकालीन तकनीशियन, आपातकालीन  चिकित्सक स्वास्थ देखभाल  आदि क्षेत्रों  में न्यूनतम 70त्न प्रशिक्षुओं का प्लेसमेंट  सुनिश्चित करेगा। प्रशिक्षण के उपरांत प्रशक्षित  युवक, युवतियाँ  अगर चाहें  तो अपने स्तर से  भी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

इस योजना के तहत सीयूटीएम 6 महीने और 12 महीने की अवधि के कौशल विकास के प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए प्रशिक्षुओं को चिन्हित कर कौशल विकास कार्यक्रम शुरू करेगा। 

एनएमडीसी परियोजनाओं के आस-पास के गावों के आदिवासी  उम्मीदवारों को वरीयता देते हुए एक मापदंड  निर्धारित करके ‘मिट्टी के पुत्र’  अवधारणा के सिद्धांतों को ध्यान में रखते हुए बीपीएल श्रेणी के उम्मीदवारों को प्रथम वरीयता देगी।

इस व्यावसायिक शिक्षा में मूल रूप से व्यावहारिक पाठ्यक्रम शामिल हैं, जिसके माध्यम से प्रशिक्षा  भविष्य में  अपने  कैरियर से सीधे जुड़े हुए कौशल और अनुभव प्राप्त कर सकेंगे।

यह योजना छात्रों को अपने क्षेत्र में अधिक कुशल बनने में मदद करेगी और बदले में बेहतर रोजगार के अवसर प्रदान करेगी। यह प्रशिक्षण युवाओं को रोजग़ार के अवसर प्रदान करने मे महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा, जो कि निश्चित रूप से स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में रोजगार के विभिन्न रास्ते खोलकर इस क्षेत्र में रोजगार परिदृश्य को बदलने में मदद करेगा।


23-Sep-2021 5:32 PM (32)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दंतेवाड़ा, 23 सितंबर।
दंतेवाड़ा में पुलिस की विशेष पहल घर में वापस आइए के अंतर्गत  ईनामी समेत 3 नक्सलियों ने बुधवार को घर वापसी की।
पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया कि धुरवा तेलाम (40 वर्ष) ने पुलिस अधीक्षक के समक्ष आत्मसमर्पण किया। धुरवा नक्सली संगठन में पंचायत समिति अध्यक्ष के तौर पर कार्य था। राज्य शासन द्वारा उक्त लीडर की गिरफ्तारी पर  1 लाख रूपये का पुरस्कार घोषित किया गया।  कोसा मिडियाम (40 वर्ष) ने पुलिस अधीक्षक के समक्ष घर वापसी की। कोसा नक्सली विचारधारा के प्रचार-प्रसार संलग्न था।  इसी कड़ी में कोसा मिडियाम उर्फ कट्टी (25 वर्ष) द्वारा पुलिस अफसरों के समक्ष आत्मसमर्पण किया गया। उक्त दोनों नक्सली जन मिलिशिया सदस्य के तौर पर कार्यरत थे।
 


Previous123456789...4748Next