छत्तीसगढ़ » बिलासपुर

Previous123456789...2122Next
29-Jul-2021 6:21 PM (18)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
करगीरोड  (कोटा ), 29 जुलाई।
प्रदेश में व्याप्त खाद संकट -बिजली कटौती को दूर करने के लिए नगर में भाजपा किसान मोर्चा के द्वारा एक दिवसीय विधानसभा स्तरीय धरना-प्रदर्शन किया गया। 

वक्ताओं ने कहा कि छत्तीसगढ़ प्रदेश किसान प्रधान प्रदेश है, और छत्तीसगढ़ की पहचान किसानों से है। आज प्रदेश के किसान रासायनिक खाद की कमी से जूझ रहे हैं, इसके साथ ही पूरे प्रदेश में अघोषित बिजली कटौती प्रति दिन हो रही है, जिससे  किसान एवं जनमानस में असंतोष व्याप्त है। प्रदेश सरकार किसानों की सुध नहीं ले रही है। खाद के कमी के कारण प्रदेश के किसान की बुवाई और रोपाई पिछड़ता जा रहा है। यदि 5 दिन के भीतर सभी समिति तक किसानों की मांग के अनुरूप रासायनिक खाद की पूर्ति नहीं की जाती है, तो प्रदेश भर में किसान मोर्चा भारतीय जनता पार्टी के द्वारा धरना प्रदर्शन किया जाएगा। 

धरना-प्रदर्शन में मुख्य रूप से जिला के महामंत्री मोहित राम जयसवाल के द्वारा किसान के पक्ष में एवं रासायनिक खाद उपलब्ध कराने के लिए मांग की गई। किसान मोर्चा के प्रदेश सदस्य डॉ. सुनील जायसवाल एवं लव-कुश कश्यप प्रदेश कार्यसमिति सदस्य ने भी संबोधित किया। राम लाल साहू  एवं किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष बबलू कश्यप  ने भी सभा को संबोधित किया गया। कार्यक्रम में सर्वप्रथम स्वागत भाषण मंडल अध्यक्ष कोटा प्रभारी महाराज सिंह नायक एवं मंच का संचालन सुलेश पांडे के द्वारा किया गया।

कार्यक्रम में  अनुसूचित जनजाति जिलाध्यक्ष लखन पैकरा किसान मोर्चा के जिला के उपाध्यक्ष राजू सिंह क्षत्रिय, महिला मोर्चा जिला के महामंत्री गायत्री साहू, महिला मंडल  कोटा अध्यक्ष सविता नामदेव रतनपुर के मंडल अध्यक्ष तीरथ यादव, करगी कला मंडल अध्यक्ष दयाशंकर तिवारी, विश्वनाथ पटेल, राजकुमार साहू, रोहिणी वैसवाडे,  मनोहर राज जनपद पंचायत अध्यक्ष कोटा, हमीम खान, रामकुसल साहू, प्रदीप  कौशिक, अजय अग्रवाल,  नरेंद्र गोस्वामी, ऋषि ठाकुर, दुर्गेश साहू, मनमोहन पांडे, विनोद बंजारे, रोहित साहू, भागवत साहू, देव किशन साहू, संदीप साहू, धनंजय, चंद्रकांत अग्रवाल, कन्हैया यादव, सूरज साहू, सतीश गुप्ता, जगदीश नायक, अनिल यादव, विजय यादव, रामकुमार अग्रवाल, वेंकट अग्रवाल, संगीता अग्रहरि, सुलेखा जयसवाल मंडल अध्यक्ष रतनपुर, इमरान खान, महेंद्र साहू, प्रेमेंद्र गंधर्व, सरोज पोर्ते, निलेश भार्गव, राजू राजू साहू, रामशरण जायसवाल आदि उपस्थित थेे।
 


29-Jul-2021 6:16 PM (22)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
करगीरोड (कोटा ), 29 जुलाई।
सरस्वती शिशु मंदिर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय करगीरोड कोटा के प्रबधकारिणी समिति एवं अभिभावकों की संयुक्त बैठक विद्यालय संचालन समिति के अध्यक्ष वेंकट लाल अग्रवाल की अध्यक्षता में प्रारंभ हुई। नियमानुसार कोरोना पालन करते हुए अभिभावक और पार्षद की लिखित अनुमति के साथ विद्यालय को चरणबद्ध तरीके से खोलने पर सहमति बनी है। बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रथम चरण में कक्षा 10वीं एवं 12वीं, द्वितीय चरण में 9वीं एवं 11वीं, तृतीय चरण में 6वीं से 8वीं, चतुर्थ चरण में कक्षा पहली से 5वीं तक 2 अगस्त सोमवार से बुलाया जाएग ।

विद्यालय के उपाध्यक्ष राम सजीवन गुप्ता, कोषाध्यक्ष वासुदेव रेड्डी, सचिव अजय अग्रवाल, सचिव संतोष जायसवाल एवं देवेंद्र सिंह ठाकुर, प्राचार्य बाबूलाल साहू, प्रधानाचार्य चंद्रेश यादव के सहित सभी आचार्य एवं अनेक अभिभावक उपस्थित थे।
 


27-Jul-2021 1:51 PM (103)

 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बिलासपुर, 27 जुलाई। बेरोजगार युवती को काम दिलाने के नाम पर रायगढ़ से बुलाकर देह व्यापार कराने और प्रताड़ित करने के आरोप में सरकंडा पुलिस ने एक मां बेटी को गिरफ्तार किया है।

सरकंडा थाना प्रभारी जेपी गुप्ता से मिली जानकारी के मुताबिक रायगढ़ जिले की पीड़ित युवती (22 वर्ष) का फेसबुक के जरिए अशोक विहार फेस वन सरकंडा निवासी दुर्गेश्वरी वैष्णव (37 वर्ष) से परिचय हुआ। दुर्गेश्वरी ने युवती को बताया कि उसका बिलासपुर में ब्यूटी पार्लर है और उसे यहां आने पर वह काम दे सकती है। बेरोजगार पीड़ित युवती काम मिलने के लालच में यहां पहुंच गई। यहां उसे खुशबू ब्यूटी पार्लर में काम पर रख लिया गया। इस बीच कोरोना संकट के कारण ब्यूटी पार्लर को बंद करना पड़ा। पीड़ित युवती को आरोपियों ने अपने ही घर पर रोक लिया। कुछ दिन बाद उसे बेवफा में शामिल होने के लिए दबाव डालने लगी। बात नहीं मानने पर उसके साथ मारपीट भी शुरू कर दी गई। पूरे मामले में दुर्गेश्वरी की बेटी भी साथ दे रही थी।

उसके चुंगल से पीड़ित युवती बहुत दिन से भागने की कोशिश कर रही थी। 24 जुलाई को  चकमा देकर उनके घर से भाग गई। 2 दिन बाद शहर में छिप कर रही 26 तारीख को उसने सरकंडा थाने में पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई। थाना पहुंचने से पहले उसने जहर पी लिया था। इसके चलते उसे थाने में उल्टियां होने लगी। उसे तुरंत इलाज के लिए सिम्स चिकित्सालय ले जाया गया। हालत सुधारने के बाद उससे बयान लिया गया। पूछताछ के बाद पुलिस ने दुर्गेश्वरी और उसकी बेटी सुमन को गिरफ्तार कर लिया। दोनों आरोपियों का मोबाइल फोन जप्त कर जांच की जा रही है ताकि उक्त घटना में संलिप्त अन्य लोगों का पता किया जा सके। पुलिस ने बताया है कि पहले भी कुछ अन्य युवतियों को दोनों मां बेटी अपने जाल में फंसा कर देह व्यापार करा चुके हैं। इस आरोप में उन्हें पुलिस पहले भी गिरफ्तार कर चुकी है। पीड़ित युवती को उसके घर रायगढ़ भेज दिया गया है।


26-Jul-2021 6:50 PM (46)

 

पॉश कॉलोनी में किराए का मकान लेकर बेरोजगारों को ठगा, फरार

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिलासपुर, 26 जुलाई।
रामा लाइफ कॉलोनी जैसे पॉश इलाके में रहकर 3 लोगों ने हाईकोर्ट में नौकरी दिलाने के नाम पर 13 बेरोजगारों से 65 लाख रुपयों की ठगी कर ली और फर्जी नियुक्ति पत्र देकर फरार हो गये। इन्होंने खुद को एसडीएम, सब इंस्पेक्टर और हाईकोर्ट का कर्मचारी बताया था।

सकरी पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार कानन पेंडारी का राजा खांडे (30 वर्ष) रामा लाइफ सिटी में बिजली सुधारने के लिए आता जाता है। यहां डी-57 में यशवंत कुमार सोनवानी एक अन्य व्यक्ति तथा महिला के साथ रहता था। इन्होंने राजा खांडे से कहा कि वे उनकी हाईकोर्ट में बाबू की नौकरी लगवा देंगे। इसके लिए पांच लाख रुपये लगेंगे। राजा खांडे ने रुपये की व्यवस्था करके उन्हें दे दी। इसके बाद उन लोगों ने झांसा दिया कि वह अन्य लोगों को भी नौकरी लगा सकते हैं। इस तरह से उन्होंने अजय लहरे, मुकेश कश्यप, भूपेंद्र जांगड़े, युवराज बघेल, कीर्ति कुमार, अमर दास कुर्रे, विगेन्द्र साहू, लक्ष्मी नारायण साहू, विकास सोनवानी, दिलेश्वर भारद्वाज, सलीम भास्कर व अजय खांडे से भी वसूली कर ली। सभी ने मिलकर उसे कुल ₹65 दिए।

बेरोजगारों ने उनियारा कम 22 अप्रैल 2021 से 15 जुलाई 2021 के बीच दिए।  जब इन लोगों ने नौकरी की मांग की तो कुछ लोगों को पैसे वापस करने के लिए इन्होंने चेक थमा दिए। साथ ही इन युवकों को फर्जी नियुक्ति पत्र दे दिया गया। युवक जब इस पत्र को लेकर हाईकोर्ट गए तो पता चला कि सभी नियुक्ति पत्र फर्जी हैं।

घबराए हुए युवक जब रामा लाइफ सिटी के यशवंत सोनवानी के मकान में पूछताछ करने के लिए पहुंचे तो देखा कि यह सभी लोग घर में ताला लगा कर फरार हैं और उनका मोबाइल फोन भी बंद है। जब वह चेक लेकर संबंधित बैंकों में पहुंचे तो पता चला कि उनके खाते में रकम ही नहीं है।

पीड़ितों ने बताया कि आरोपी यशवंत सोनवानी ने खुद को सब इंस्पेक्टर अदिति पांडे ने अपने आप को एसडीएम और आशुतोष मेरी ने खुद को हाईकोर्ट का बाबू बताया था। उनके अधिकारी और हाई कोर्ट में बाबू होने के प्रभाव में आकर  बिना तहकीकात किए बड़ी रकम दे दी।


26-Jul-2021 6:47 PM (24)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

करगीरोड-(कोटा), 26 जुलाई।  कल सुबह  अपने एकदिवसीय दौरे पर करगीरोड स्टेशन पहुंचे  बिलासपुर रेलवे जोन के डीआरएम आलोक सहाय विभागीय-अधिकारी कर्मचारीयो के साथ  करगीरोड रेलवे स्टेशन का जायजा लिया।

जानकारी मिलते ही मीडिया के अन्य पत्रकार सहित कोटा नगर के जनप्रतिनिधि-स्थानिय आमजन डीजल ऑटो चालकों के द्वारा अपने एकदिवसीय दौरे पर करगीरोड स्टेशन पहुचे बिलासपुर रेलवे जोन के डीआरएम आलोक सहाय से मुलाकात की। करगीरोड स्टेशन में पूर्व में चल रही ट्रेनों के स्टॉपेज की मांग का एक ज्ञापन सौंपकर वर्तमान-स्थिति से अवगत कराया गया, मीडिया की उपस्थिति में स्थानिय-जनप्रतिनिधियों-आमजनों-व्यापारियों सहित डीजल-ऑटो चालकों ने इस कोविड-कॉल में सारी-समस्याओं से डीआरएम साहब को अवगत कराते हुए पूर्व की भांति करगीरोड स्टेशन में ट्रेनों के स्टॉपेज की मांग की है..जिस पर डीआरएम बिलासपुर आलोक-सहाय ने सभी को आश्वस्त करते हुए कहा कि 31-जुलाई तक गाइड लाइन प्रभावशील है। उसके बाद इसके बारे में निर्णय  लिया जाएगा।

डीआरएम बिलासपुर आलोक सहाय से स्थानिय मीडिया-कर्मियों ने भी अपनी भूमिका का निर्वहन करते हुए स्थानिय लोगो की समस्याओं से अवगत कराया जिस पर डीआरएम ने पूरी तरह से समस्याओं के निदान के लिए आश्वस्त किया।

आगे डीआरएम-बिलासपुर से मीडिया-कर्मियों ने  ओवरब्रिज-मेडिकल-यूनिट स्टेशन में आरपीएफ के दो जवानों की परमानेंट-पेट्रोलिंग-ड्यूटी सहित धार्मिक स्थल भनवारटंक-स्टेशन में यात्रियों की बढ़ती हुई संख्या को देखते व उनकी सुरक्षा की दृष्टि से स्टेशन में और भी सुविधाएं बढ़ाने हेतु संज्ञान दिलाया जिस पर डीआरएम आलोक सहाय ने इस पर भी ध्यानाकर्षण करते हुए आश्वस्त किया।


25-Jul-2021 10:43 AM (51)

अंबिकापुर 25 जुलाई रामानुजगंज के विधायक बृहस्पति सिंह के काफिले पर कल रात कुछ लोगों ने पत्थर फेंक दिया। पत्थर फॉलो गाड़ी के सामने गिरा। और आरोपियों की तलाश की जा रही है घटना में विधायक पूरी तरह सुरक्षित है। कोतवाली थाने में 2 लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की गई है।

शनिवार को विधायक बृहस्पति सिंह अंबिकापुर के प्रवास पर थे शाम को वह रामानुजगंज वापस लौट रहे थे, इसी दौरान लरंग साय चौराहे पर किसी ने उनके काफिले पर पत्थर फेंका। पत्थर फेंकने के बाद कुछ लोगों ने काफिले का पीछा किया और फॉलो में शामिल गाड़ी को रोककर जवानों से दुर्व्यवहार किया।

पुलिस महानिरीक्षक रतनलाल डांगी और पुलिस अधीक्षक अमित कांबले सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पहुंच गए थे।
विधायक के काफिले के जवान सुदर्शन सिंह की शिकायत पर सचिन सिंह देव और धन्नो उरांव के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है। उनकी तलाश की जा रही है।

विधायक बृहस्पति सिंह ने आरोप लगाया है कि राजनीतिक विद्वेष की वजह से उन पर हमला किया गया है। पिछले दिनों उन्होंने अंबिकापुर प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की प्रशंसा की थी और उनके कामकाज को बेहतर बताया था। उन पर हमले का यही कारण हो सकता है।

 


24-Jul-2021 9:28 PM (47)

 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बिलासपुर, 24 जुलाई। पेन्ड्रा-अमरकंटक क्षेत्र में लगातार हो रही वर्षा के कारण अरपा-भैंसाझार बैराज को खोलना पड़ा। आज सुबह 10 बजे से 700 क्यूमेक जल छोड़ा जा रहा है, जो बैराज साइट पर प्रवाह के अनुसार कम या ज्यादा हो सकता है। इससे बिलासपुर शहर में अरपा नदी के जल स्तर में वृद्धि हो रही है। शनिचरी रपटा टापो-टाप हो गया, जबकि नदी में पानी का प्रवाह तेज हो है।

जल संसाधन विभाग कोटा के कार्यपालन यंत्री ने नदी के आस-पास गतिविधियां करने वाले लोगो को सर्तकता बरतने का अनुरोध किया है। उन्होनें बताया कि बैराज का पूर्ण जल भराव क्षमता स्तर 302 मीटर तथा 22.168 क्यूमेक है। वर्तमान में बैराज का जल स्तर 86.2 प्रतिशत है। बैराज से छोड़े जा रहे वर्तमान जल बहाव का दर 696.3 घन मीटर प्रति सेकण्ड है। नहर में छोड़े जा रहे कुल जल बहाव का दर 0.82 घन मीटर प्रति सेकण्ड है। नहर एस्केप में जा रहे जल प्रवाह का दर शून्य क्यूमेक, आगे नहर में जा रहे कुल जल प्रवाह का दर 0.82 क्यूमेक है। इस तरह नदी में बैराज से छोड़े जा रहे जल प्रवाह का दर वर्तमान में 696.3 क्यूमेक है। यह प्रवाह के अनुसार कम ज्यादा हो सकता है। इसलिए नदी के आस-पास सतर्कता बरतने कहा गया है।

दूसरी ओर मनियारी और आगर नदी में मुंगेली जिले में हो रही लगातार बारिश के कारण जल स्तर बढ़ा है। लोरमी के कई वार्डों में पानी घुस गया है, जिसके चलते लोग अपने घरों से बाहर नहीं जा पा रहे हैं। तखतपुर में भी मनियारी नदी में जल स्तर बढ़ गया है।


23-Jul-2021 7:22 PM (27)

 

जिला सहकारी केंद्रीय बैंक अध्यक्ष के पदभार ग्रहण समारोह में वर्चुअली शामिल हुए मुख्यमंत्री

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिलासपुर, 23 जुलाई।
किसानों के हित में काम करते हुए ज्यादा से ज्यादा सहकारी गतिविधियां संचालित की जाएंगी। सहकारिता आंदोलन से किसान ही नहीं बल्कि हर नागरिक जुड़े, यह प्रयास होना चाहिए। मुख्मयंत्री भूपेश बघेल ने जिला सहकारी केंद्रीय बैंक बिलासपुर के अध्यक्ष के पदभार ग्रहण समारोह में वर्चुअली शामिल हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने यह बात कही।

जिला सहकारी केंद्रीय बैंक बिलासपुर के नवनियुक्त अध्यक्ष प्रमोद नायक का पदभार ग्रहण समारोह आज सहकारी बैंक के प्रांगण में हुआ। इसमें सहकारिता, स्कूल शिक्षा, अनुसूचित जाति, जनजाति अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम विशेष रूप से उपस्थित थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि केन्द्रीय सहकारी बैंक का काम सुचारू रूप से संचालित हो इसके लिए बड़ी जिम्मेदारी नवनियुक्त अध्यक्ष को मिली है। सहकारिता अधिनियम में बहुत सारे संशोधन कर सरलीकरण किया गया है, जिससे सहकारिता आंदोलन से ज्यादा से ज्यादा लोग लाभान्वित होंगे। सहकारी बैंकों से खाद, बीज किसानों को मिलते थे। अब राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, लघु वनोपज खरीदी आदि भी सहकारिता का हिस्सा है। हर लोगों का जुड़ाव सहकारिता से हो यह प्रयास करना होगा।

किसानों के हित के लिए छत्तीसगढ़ बनने जा रहा मॉडल राज्य

कार्यक्रम में उपस्थित सहकारिता मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किसानों के हित के लिए अभिनव योजनाएं बनाई गई है। इससे छत्तीसगढ़ मॉडल राज्य बनने जा रहा है। सहकारिता आंदोलन किसानों के लिए जरूरी है। छत्तीसगढ़ सरकार ने त्रि-स्तरीय सहकारी बैंक की व्यवस्था कर सहकारिता आंदोलन को मजबूत बनाने का कार्य किया। धान खरीदी, खाद, बीज, दवा सभी सहकारी बैंकों के माध्यम से किसानों को सुलभ है। पहले धान बिक्री के लिए किसानों को बड़ी दिक्कत होती थी लेकिन सरकार ने सुव्यवस्थित खरीदी की व्यवस्था बनाई। आज धान बेचने के एक हफ्ते के भीतर किसानों के खाते में पैसा आ जाता है। किसानों की सुविधा के लिए नई सहकारी समितियां गठित की गई। राज्य में समितियों की संख्या 1300 से बढ़ाकर 2058 की गई है। 6 हजार करोड़ रुपए की ऋण माफी की गई। राजीव गांधी किसान न्याय योजना, मुख्यमंत्री गोधन न्याय योजना से किसानों की आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाने का कार्य किया गया है।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ राज्य कृषक कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष सुरेन्द्र शर्मा, छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल के अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, अपेक्स बैंक के अध्यक्ष बैजनाथ चंद्राकर, नगर निगम के महापौर रामशरण यादव, विधायक धरमजीत सिंह आदि ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष अरूण सिंह चौहान एवं अन्य जनप्रतिनिधि सहित बैंक के अधिकारी, कर्मचारी, किसान उपस्थित थे।


23-Jul-2021 5:29 PM (31)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिलासपुर, 23 जुलाई।
तोरवा थाने के अंतर्गत दोमुहानी गांव में एक व्यक्ति ने घर में रखे औजार से अपनी पत्नी पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। उसे गंभीर हालत में अस्पताल लाया गया लेकिन जान नहीं बचाई जा सकी। पुलिस ने एफआईआर के एक घंटे के भीतर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

तोरवा में 22 जुलाई को सुबह करीब 3 बजे राजेन्द्र महिलांगे (35 वर्ष) परिवार के सदस्यों से गाली गलौच तथा अभद्र व्यवहार कर रहा था। इस पर उसकी पत्नी ममता (30 वर्ष) ने उसे ऐसा करने से मना किया। उत्तेजित पति ने पत्नी पर ही घर में रखे गैती से ताबड़तोड़ वार कर दिये। ममता गंभीर रूप से घायल हो गई। उसके सिर, नाक, मुंह में चोट आई, खून निकलने लगा। परिजनों की मदद से उसे सिम्स ले जाकर भर्ती कराया गया। इधर परिजनों ने इस घटना की सूचना भी तोरवा पुलिस को दी। पुलिस ने धारा 307 का अपराध दर्ज कर कार्रवाई शुरू की और आरोपी को सूचना मिलने के एक घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया। घटनास्थल से गैती, खून से सने कपड़े, मिट्टी और अन्य साक्ष्य भी एकत्र कर लिये गये। इस बीच इलाज के दौरान उसकी पत्नी ममता की मौत हो जाने पर आरोपी के विरुद्ध धारा 302 के अंतर्गत कार्रवाई की गई।

कार्रवाई में निरीक्षक परिवेश तिवारी, उप-निरीक्षक हृदय शंकर पटेल, एएसआई दादुरैया ठाकुर, प्रधान आरक्षक विष्णु साहू, आरक्षक गोविंद शर्मा और साहिब अली ने योगदान दिया। 
 


23-Jul-2021 5:25 PM (33)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिलासपुर, 23 जुलाई।
ओलम्पिक खेलों के उद्घाटन के अवसर पर एसईसीएल के कर्मियों व उनके परिजनों ने ‘चियर्स फॉर इंडिया’ मेसैज के जरिए भारतीय टीम का का मनोबल बढ़ाने का प्रयास किया। 

कंपनी मुख्यालय परिसर समेत आवासीय कॉलोनियों में तथा कंपनी के विभिन्न संचालन क्षेत्रों में, अलग- अलग स्थानों पर ओलंपिक कट आऊट सजाकर रखे गए हैं, जिनके जरिए कर्मी व उनके परिजन अपने फोटो खीचकर सोशल मीडिया पर हैशटैग ‘आई चियर्स फॉर इंडिया’ के साथ संदेश शेयर व टैग कर रहे हैं।

विदित हो कि टोक्यो ओलंपिक में भारत ने अब तक का अपना सबसे बड़ा खिलाडिय़ों का दल भेजा है। देश के 120 एथलीट 85 इवेन्ट्स में हिस्सा लेंगे। इस ओलंपिक में भारत दो खेलों में पहली बार शिरकत कर रहा है। घुड़सवारी में फवाद मिर्जा तथा फेंसिंग में भवानी देवी ओलंपिक खेल के लिए क्वालीफाई कर चुके हंै।

2016 के रियो-ओलंपिक में भारत को बैडमिंटन में पी वी सिंधु (रजत) व कुश्ती में साक्षी मलिक (कास्य) दो पदक मिले थे। शूटिंग, रेसलिंग, बॅाक्सिंग, तीरंदाजी तथा बैडमिंटन खेलों में भारत के प्रदर्शन पर देशवासियों की विशेष नजर है।

‘चियर्स फॅार ओलंपिक’ अभियान में एसईसीएल कर्मियों व उनके परिजनों की उत्साहजनक भागीदारी देखी जा रही है। 
 


23-Jul-2021 5:23 PM (34)

विधायक ने अफसरों को समन्वय बनाकर बाधा तत्काल दूर करने कहा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बिलासपुर, 23 जुलाई । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नगर निगम सीमा के भीतर स्मार्ट सिटी की आवश्यकता के अनुरूप विद्युत सब-स्टेशन बनाने के लिये 22 करोड़ रुपये मंजूर कर दिये लेकिन जिला प्रशासन द्वारा जमीन की व्यवस्था नहीं की जा रही है।

विधायक शैलेष पांडेय की पहल पर मुख्यमंत्री बघेल ने उपरोक्त घोषणा की गई थी। इसके लिये मंगला क्षेत्र में 7 एकड़ जमीन उपलब्ध भी है, जिसे चिन्हांकित किया जा चुका है। इस पर विद्युत विभाग के कर्मचारियों के लिये आवास निर्माण भी किया जायेगा, जिस पर कुल लागत 40 करोड़ रुपये आयेगी। इस खर्च पारेषण कम्पनी द्वारा ही उठाया जायेगा। प्रशासन द्वारा रुचि नहीं लिये जाने के कारण विभागीय प्रक्रिया पूरी नहीं की गई। अब तक इस जमीन को आवंटित नहीं किया जा सका है। इसके पहले सकरी में जमीन का प्रस्तावित किया गया था किन्तु वहां पर आपत्ति होने के कारण मंगला में जगह देखी गई है। विधायक पांडेय ने इस सम्बन्ध में कलेक्टर को पत्र लिखकर जमीन आवंटन में आ रहे व्यवधान को तत्काल दूर करने कहा है। साथ ही नगर निगम आयुक्त, एसडीएम व विभागीय अधिकारियों को समन्वय बनाकर कार्य करने का निर्देश दिया है, ताकि सब-स्टेशन का निर्माण समय पर पूरा हो और लोगों की बिजली गुल होने की समस्या का समाधान हो सके।
 


23-Jul-2021 4:54 PM (31)

  9 को आरोपी बनाया, कोर्ट ने थाने को ही जमानत देने कहा  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बिलासपुर, 23 जुलाई। निजी जमीन पर शेड डालकर कच्ची ईंट से बनाए गए मकान को ढहाने में नगर निगम और पुलिस ने पूरी ताकत लगा दी। जो लोग पीडि़त थे उनकी शिकायत तो दर्ज नहीं हुई, बल्कि उनके खिलाफ नगर निगम की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली गई।  

 

नगर निगम के सब इंजीनियर की शिकायत पर सिविल लाइन की पुलिस 27 खोली मंगला में बेजा कब्जा हटाने की कार्रवाई के लिए पहुंची। नगर निगम की शिकायत पर ही पहले सवाल उठा क्योंकि किसी की निजी जमीन के भीतर बनाए जा रहे कच्ची ईंट के शेड वाले मकान को हटाने में उसकी इतनी दिलचस्पी क्यों है जबकि मुख्य शहर में जगह-जगह अवैध निर्माण चल रहे हैं। पुलिस ने भी अपनी ताकत झोंक दी। ना केवल सिविल लाइन के टीआई शनिप रात्रे बल्कि एडिशनल एसपी उमेश कश्यप भी वहां पहुंच गए। इसके अलावा एक भीड़ भी पहुंची जो इस अतिक्रमण को हटाने में शिकायतकर्ता की ओर से थे।

नगर निगम की बेजा कब्जा टीम ने निजी जमीन कब अतिक्रमण हटाने का प्रयास किया। इसके चलते भारी वाद विवाद खड़ा हुआ। पीडि़त पक्ष ने सिविल लाइन थाने में आकर फरियाद की मगर उसकी शिकायत नहीं लिखी गई। कार्रवाई होने के बाद सब इंजीनियर जुगल सिंह ने सिविल लाइन थाने में शासकीय कार्य में बाधा डालने, अतिक्रमण दस्ते से मारपीट करने की शिकायत की। सिविल लाइन पुलिस ने बिना तहकीकात रानी यादव, मक्खन लाल, प्यारी बाई, लक्ष्मण, अहिल्या बाई, यशोदा यादव, बंशी यादव, मंजू, सुमित व लखन यादव के खिलाफ आईपीसी की धारा 147 149 186 332 353 तथा 427 के तहत अपराध दर्ज कर लिया। पुलिस ने जिस बंसी यादव का नाम एफआईआर में लिखा, उसका कई साल पहले निधन हो चुका है। यशोदा यादव का नाम भी एफआईआर में है जबकि वहां इस नाम की कोई महिला रहती ही नहीं है।

मामला कोर्ट पहुंचा तो केस डायरी देखकर जज ने संबंधित थाने को ही जमानत पर शर्तों के साथ छोड़ देने का आदेश दे दिया।

इधर रानी यादव में पुलिस अधीक्षक को भी ज्ञापन दिया और बताया कि इस जगह पर वह पिछले 20 सालों से रह रही है। वह जमीन इंद्रसेन घई की है। उसका पूरा परिवार वर्षों तक उनके घर में काम करता था, जिसके एवज में 20 साल पहले मालिक इंद्रसेन ने उन्हें जमीन देते हुए बसने की अनुमति दी थी। इंद्रसेन की मृत्यु के बाद आशा सिंह और अरुण सिंह इस पर कब्जा करने की कोशिश करते आ रहे हैं। उनके इशारे पर ही नगर निगम और पुलिस उसे व उसके परिवार को प्रताडि़त कर रही है।


22-Jul-2021 7:00 PM (41)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बिलासपुर, 22 जुलाई। विधि से संघर्षरत एक किशोर के खिलाफ बलात्कार और अपहरण का मुकदमा दर्ज कर उसे किशोर न्यायालय में पेश किया गया है। दुष्कर्म का शिकार होने वाली पीड़िता की उम्र 13 वर्ष है।

 

11 जुलाई को कोटा थाने में एक महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि 10 जुलाई को रात में उसकी बेटी घर पर नहीं थी।परिवार के लोग  उसकी तलाश कर रहे थे, तभी उसकी बेटी रात करीब 2 बजे बदहवास हालत में वापस आई और उसके कपड़े फटे हुए थे। उसने बताया कि गांव के ही एक लड़के ने उसके साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाया और कपड़े फाड़े, जब वह जंगल की ओर गई थी।

कोटा पुलिस ने धारा 363 366 और 376 तथा पोक्सो एक्ट 6 के तहत अपराध दर्ज किया। आरोपी को तत्काल पकड़ लिया गया। विवेचना के दौरान उसके नाबालिग होने की जानकारी मिली, जिसकी विधि सम्मत तरीके से पुष्टि कराई गई। विधि से संघर्षरत बालक की श्रेणी में उसे रखा गया। 12 जुलाई को उसे कोर्ट में पेश किया गया। एसडीओपी रश्मित कौर चावला ने बताया कि किशोर न्याय बोर्ड बिलासपुर के न्यायालय में आज 22 जुलाई को कोटा पुलिस ने अभियोग पत्र तैयार कर प्रस्तुत कर दिया। साथ ही पीड़िता को क्षतिपूर्ति राशि शीघ्र प्राप्त हो इसके लिए थाना प्रभारी दिनेश चंद्रा द्वारा आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।
 


22-Jul-2021 4:56 PM (42)

 

जिले के चार शिक्षकों को मिला राज्य स्तरीय सम्मान

शिक्षा लोक कल्याण का सबसे बड़ा माध्यम-भूपेश बघेल

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिलासपुर, 22 जुलाई।
शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षकों को सम्मानित एवं पुरस्कृत करने की परपंरा के तहत राज्य शिक्षक समारोह 2020 आज वर्चुअल रूप से आयोजित किया गया। इसमें राज्यपाल अनुसुईया उईके और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी मौजूद थे। इस अवसर पर प्रदेश के 48 शिक्षकों को राज्यस्तरीय सम्मान दिया गया, जिनमें बिलासपुर जिले के चार शिक्षक भी शामिल है।

राज्यपाल उईके द्वारा राजभवन में जिले की शासकीय हाई स्कूल लिगिंयाडीह की व्याख्याता रश्मि गुप्ता को डॉ.. मुकुटधर पाण्डेय स्मृति पुरस्कार एवं दिनेश कुमार पाण्डेय उच्च वर्ग शिक्षक शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला ओछिनापार, विकासखण्ड कोटा को डॉ. बलदेव प्रसाद मिश्र स्मृति पुरस्कार से सम्मानित किया गया। दो अन्य शिक्षक रश्मि सिंह धुर्वे व्याख्याता शासकीय हाई स्कूल ग्राम पाली और पूर्णिमा मिश्रा शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक शाला सरकंडा को भी राज्य पुरस्कार से नवाजा गया है। कलेक्टोरेट के सभाकक्ष मंथन में आयोजित कार्यक्रम में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी हैरीश एस ने 21 हजार रूपए, शॉल, श्रीफल देकर सम्मानित किया।

सम्मान समारोह की मुख्य अतिथि राज्यपाल उईके ने अपने उद्बोधन में कहा कि एक अच्छा शिक्षक विभिन्न विषयों का ज्ञान ही नहीं देता बल्कि एक अच्छा नागरिक बनने की प्रेरणा भी विद्यार्थियों को देता है। उनके चरित्र निर्माण में भी योगदान देता है। माता-पिता के बाद शिक्षक ही हमारे गुरु हैं। वे हमें ज्ञान की रौशनी देने के साथ सच्चाई के मार्ग पर चलने का हौसला देते हैं। हम सबका दायित्व है कि उनका सम्मान करें। उईके ने कोरोना काल के दौरान शिक्षकों के अभूतपूर्व योगदान की सराहना करते हुए कहा कि इस दौरान शिक्षकों ने मोहल्ला क्लास और ऑनलाइन क्लास के माध्यम से शिक्षा का अलख जगाए रखा है। राज्यपाल ने कोरोना संक्रमण के दौरान मृत शिक्षकों को श्रद्धांजलि भी दी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि शिक्षा लोक कल्याण का सबसे बड़ा माध्यम बने, यह हमारा प्रयास है। जीवन की प्रथम शिक्षा घर से शुरू होती है। माता-पिता हमारे प्रथम शिक्षक होते हैं और स्कूल में हमें जीवन के विकास की शिक्षा मिलती है। उन्होंने कहा कि वास्तविक शिक्षक वह है जो जीवन की चुनौतियों को स्वीकार करने की शिक्षा दे।

इस अवसर पर स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि वर्तमान समय में जीवन मूल्यों में तेजी से गिरावट आ रही है ऐसे समय में शिक्षकों का दायित्व बढ़ गया है। शिक्षक ऐसी शिक्षा प्रदान करें जिससे जीवन मूल्यों का विकास हो सके। समाज शिक्षकों को बड़ी उम्मीद से देख रहा है।

टेकाम ने वर्ष 2021 की राज्य स्तरीय सम्मान के लिए चयनित शिक्षकों की घोषणा भी की। इनमें बिलासपुर जिले की दो शिक्षक केरोलाईन सत्तूर प्राचार्य शासकीय महारानी लक्ष्मी बाई उच्चतर माध्यमिक शाला दयालबंद और डॉ. धंनजय पाण्डेय व्याख्याता शासकीय बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक शाला दयालबंद शामिल हैं।

कार्यक्रम में शिक्षा विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह ने स्वागत उद्बोधन दिया। कार्यक्रम में कृषि मंत्री रविन्द्र चैबे, मुख्य सचिव अमिताभ जैन व अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू वर्चुअल रूप से उपस्थित थे।


22-Jul-2021 4:54 PM (33)

 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बिलासपुर, 22 जुलाई। शराब जब्ती के एक मामले की सुनवाई के बाद निचली अदालत द्वारा प्रधान आरक्षक के खिलाफ की गई टिप्पणी और विभागीय जांच के आदेश को उच्च न्यायालय ने निरस्त कर दिया है।

प्रधान आरक्षक चंदन सिंह ने कोरबा जिले के उरगा में पदस्थापना के दौरान अवैध शराब की जब्ती कर दो अभियुक्तों के खिलाफ धारा 34, 35 आबकारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की थी। इन अभियुक्तों ने जिला न्यायालय कोरबा में जमानत आवेदन प्रस्तुत किया और बताया कि प्रधान आरक्षक को आबकारी अधिनियम के इन धाराओं के अंतर्गत शराब जब्ती का अधिकार नहीं है। जिला न्यायालय ने दोनों अभियुक्तों को जमानत प्रदान कर दी। साथ ही कहा कि प्रधान आरक्षक द्वारा की गई अवैधानिक कार्रवाई के कारण ही अभियुक्तों को जमानत मिली है इस कारण आदेश की प्रतिलिपि पुलिस अधीक्षक कोरबा और वरिष्ठ अधिकारियों को भेजा जाए। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को प्रधान आरक्षक के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई के लिए भी लिखा।

जिला न्यायालय के आदेश की वैधानिकता को प्रधान आरक्षक ने अधिवक्ता संदीप दुबे के माध्यम से चुनौती दी और कहा कि किसी प्रकार का कलंकित आदेश जो संबंधित के हितों के विपरीत है, पारित करने का अधिकार जिला न्यायालय को नहीं है। अधिवक्ता की ओर से उच्चतम न्यायालय के अनेक न्याय दृष्टांत पेश किए गए और कहा कि आदेश मनमाना, भेदभाव पूर्ण तथा दूषित है।

उच्च न्यायालय ने सुनवाई करते हुए माना कि अभियुक्तों को जमानत दी जा सकती है किंतु जिला न्यायाधीश द्वारा याचिकाकर्ता को सुने बिना उसके विरुद्ध विभागीय जांच का आदेश दिया जाना गलत है। जिला न्यायालय के आदेश को उच्च न्यायालय ने निरस्त कर दिया।


22-Jul-2021 4:52 PM (30)

 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बिलासपुर, 22 जुलाई। मीडिया संस्थानों पर आज डाले गये छापे की निंदा करते हुए आम आदमी पार्टी की प्रदेश प्रवक्ता प्रियंका शुक्ला ने कहा है कि केन्द्र में बैठी सरकार को अरविन्द केजरीवाल ने मनोरोगी और कायर बताया था, जो आज सही साबित हो रहा है।

शुक्ला ने कहा कि दैनिक भास्कर और भारत समाचार पर आयकर छापे मीडिया को डराने का प्रयास है ताकि कोई सवाल करने की हिम्मत न कर सके। केंद्र की मोदी सरकार का संदेश साफ़ है- "जो भाजपा सरकार के ख़िलाफ़ बोलेगा, उसे बख्शेंगे नहीं" ऐसी सोच बेहद ख़तरनाक है। सभी को इसके ख़िलाफ़ आवाज़ उठानी चाहिए।

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि ये छापे तुरंत बंद किए जायें और मीडिया को स्वतंत्र रूप से काम करने दिया जाए और सभी को इसके खिलाफ आवाज उठानी चाहिए।

छत्तीसगढ़ के प्रवक्ता प्रियंका शुक्ला ने कहा कि यह एक एक शर्मनाक घटना है! यह घटना केंद्र में बैठी फांसीवादी मोदी सरकार द्वारा,  समाचार एजेंसियों का खुला दुरूपयोग व मीडिया की स्वतंत्रता और संविधान में मिली अभिव्यक्ति की आजादी पर खुला हमला है।

महामारी में देश की जनता को बेमौत मरने के लिए छोड़ने वाली सरकार, देश की जनता के निजता की, विदेशी एजेंसी से साइबर जासूसी कराने वाली सरकार का यह कदम शर्मनाक है और घोर निंदनीय है। सभी को ऐसी घटनाओं के विरुद्ध बोलना और विरोध करना होगा, वरना अगला नंबर किसी का भी हो सकता है।


21-Jul-2021 7:21 PM (40)

बिलासपुर, 21 जुलाई। हवाई सुविधा जन संघर्ष समिति बिलासपुर ने नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को पत्र लिखकर मांग की है कि सुबह के समय बिलासपुर से दिल्ली सीधी विमान सेवा शुरू की जाए। साथ ही बिलासपुर से भोपाल होते हुए मुंबई की हवाई सेवा, इंदौर से बिलासपुर होकर कोलकाता की तथा बिलासपुर से हैदराबाद होकर बेंगलुरु की हवाई सेवा शुरू की जाए।

 

समिति की ओर से लिखे गए पत्र में सुदीप श्रीवास्तव ने कहा है कि उपरोक्त हवाई मार्गों को उड़ान 4.1 योजना में शामिल करने की मांग की गई थी, परंतु नहीं किया गया। बिलासपुर एयरपोर्ट से एटीआर 72 और बंबाडियर क्यू 400 विमान अभी संचालित हो सकते हैं। इस एयरपोर्ट को आईएफआर नाइट लैंडिंग और बड़े विमानों के लायक 4सी श्रेणी में भी अपग्रेड करने के लिए धनराशि स्वीकृत करने की आवश्यकता है। हालांकि वर्तमान में ही बिलासपुर से सभी महानगरों तक दिन के समय एटीआर 72 और मुंबई क्यू 400 विमानों का संचालन हो सकता है।

पत्र में सिंधिया को याद दिलाया गया है कि करीब 30 वर्ष पहले स्वर्गीय माधवराव सिंधिया ने रेल मंत्री रहते हुए बिलासपुर रेलवे स्टेशन को नई बिल्डिंग तथा महानदी व अमरकंटक एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों की सौगात दी थी। छत्तीसगढ़ मध्य प्रदेश से अलग हुआ राज्य है, इसलिए उम्मीद करते हैं कि यहां के प्रति आप की संवेदनशीलता मध्यप्रदेश जैसी ही होगी। वर्तमान में बिलासपुर एयरपोर्ट से 3सी वीएफआर श्रेणी के तहत उड़ानों का संचालन हो रहा है। बाद में अतिरिक्त उड़ानों की बड़ी संभावना है। फिलहाल यहां से सप्ताह में 4 दिन बिलासपुर से जबलपुर होते हुए दिल्ली और सप्ताह में 4 दिन बिलासपुर से प्रयागराज होते हुए दिल्ली के लिए उड़ानों का संचालन अलायंस एयर एटीआर 72 विमान से किया जा रहा है। कोरोना काल होने के बावजूद जून 2021 में बिलासपुर एयरपोर्ट से 2334 यात्रियों ने सफर किया है।


21-Jul-2021 5:50 PM (30)

मिले थे 30 हजार डोज, 3 दिन चलने का अनुमान गलत निकला

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिलासपुर, 21 जुलाई।
कोरोना के तीसरी लहर की आशंका के बीच लोगों में कोविड वैक्सीनेशन के लिए जमकर उत्साह देखा जा रहा है। 2 दिन के अंतराल में मंगलवार को जिले के 237 वैक्सीनेशन केंद्रों में टीकाकरण प्रारंभ किया गया। शहर के अतिरिक्त कस्बों और गांवों में भी टीकाकरण केंद्र खोले गए थे। इन केंद्रों में टीका लगाने के लिए लोग बड़ी संख्या में पहुंचे। मंगलवार को 16 हजार 888 लोगों ने वैक्सीन की पहली और 9 हजार 848 लोगों ने दूसरी खुराक ली।

आज लगभग 3 हजार डोज बचे हुए हैं और सीमित संख्या में सिम्स जिला अस्पताल देवकीनंदन स्कूल में पहुंचने वालों को टीका लगाया जा रहा है इसके अलावा तखतपुर कोटा और बिल्हा में भी सीमित डोज लगाए जाएंगे। 30 हजार डोज को तीन दिन के पर्याप्त समझा जा रहा था लेकिन 90 प्रतिशत टीके एक ही दिन में खत्म हो गये।

इधर, बीते 24 घंटे के दौरान कोरोनावायरस से फिर एक मौत हुई है। निजी अस्पताल में इलाज के दौरान जांजगीर-चांपा के एक 56 वर्षीय प्रौढ़ की मृत्यु हो गई। इस दौरान 2220 लोगों ने कोरोना टेस्ट कराया, जिनमें से सात संक्रमित पाए गए।
 


21-Jul-2021 12:02 PM (59)

बिलासपुर, 21 जुलाई। कोरोना के तीसरी लहर की आशंका के बीच लोगों में कोविड वैक्सीनेशन के लिए जमकर उत्साह देखा जा रहा है। 2 दिन के अंतराल में मंगलवार को जिले के 237 वैक्सीनेशन केंद्रों में टीकाकरण प्रारंभ किया गया। शहर के अतिरिक्त कस्बों और गांवों में भी टीकाकरण केंद्र खोले गए थे। इन केंद्रों में टीका लगाने के लिए लोग बड़ी संख्या में पहुंचे। मंगलवार को 16 हजार 888 लोगों ने वैक्सीन की पहली और 9 हजार 848 लोगों ने दूसरी खुराक ली।

आज लगभग 3 हजार डोज बचे हुए हैं और सीमित संख्या में सिम्स जिला अस्पताल देवकीनंदन स्कूल में पहुंचने वालों को टीका लगाया जा रहा है इसके अलावा तखतपुर कोटा और बिल्हा में भी सीमित डोज लगाए जाएंगे। 30 हजार डोज को तीन दिन के पर्याप्त समझा जा रहा था लेकिन 90 प्रतिशत टीके एक ही दिन में खत्म हो गये।

इधर, बीते 24 घंटे के दौरान कोरोनावायरस से फिर एक मौत हुई है। निजी अस्पताल में इलाज के दौरान जांजगीर-चांपा के एक 56 वर्षीय प्रौढ़ की मृत्यु हो गई। इस दौरान 2220 लोगों ने कोरोना टेस्ट कराया, जिनमें से सात संक्रमित पाए गए।


20-Jul-2021 8:13 PM (35)

अफसरों से शिकायत करने कहा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिलासपुर, 20 जुलाई।
रायपुर नगर निगम गरीबों के लिए बनाए गए मकानों को अमीर लोगों को आवंटित करने के खिलाफ हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई। इसे निरस्त करते हुए कोर्ट ने पहले इस मामले की शिकायत संबंधित अधिकारियों से करने कहा है।

याचिका में बताया गया था कि शासन की योजना के अंतर्गत ऐसे पत्रकार जिनकी आमदनी कम है उनके लिए नगर निगम रायपुर ने आवास का निर्माण कराया। इस मकान को प्राप्त करने के लिए आवेदक का पत्रकार होना तथा उनकी कुल परिवार की कुल आमदनी 3 लाख से अधिक नहीं होने की शर्त रखी गई थी। इसके बावजूद नियम शर्तों का उल्लंघन करते हुए अनेक ऐसे लोगों को भी मकान आवंटित कर दिया गया है जिनकी आय इस सीमा से अधिक है।

इसे लेकर पत्रकार नितिन लारेंस ने सूचना के अधिकार के तहत जानकारी ली। इसमें या पता चला की ऑडिट टीम ने भी माना है कि मकानों के आवंटन में अनियमितता बरती गई है। नितिन ने आवंटन की पूरी प्रक्रिया को हाईकोर्ट में चुनौती दी और इसके संबंध में दस्तावेज भी पेश किए। यह भी बताया गया है इस योजना का लाभ विभिन्न राजनीतिक दलों के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने भी नियम के विरुद्ध लिया है। हाईकोर्ट ने याचिका निरस्त करते हुए कहा कि पहले इस संबंध में अधिकारियों को शिकायत की जाए। शिकायत पर कार्रवाई नहीं होने पर याचिका दायर की जाए।
 


Previous123456789...2122Next