छत्तीसगढ़ » बलरामपुर

Date : 21-Sep-2019

वाड्रफनगर वन परिक्षेत्र में भालू लंबे समय से ग्रामीणों के लिए मुसीबत बने भालू को वन विभाग की टीम ने पकड़ लिया

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बलरामपुर, 21 सितंबर।
 बलरामपुर-रामानुजगंज जिला के वाड्रफनगर वन परिक्षेत्र में भालू लंबे समय से ग्रामीणों के लिए मुसीबत बने भालू को वन विभाग की टीम ने पकड़ लिया है। ग्रामीणों की शिकायत पर वन विभाग ने एसडीओ फारेस्ट एसएस सिंहदेव की अगुवाई में एक टीम बनाई और भालू को पकडऩे के लिए आपरेशन जामवंत चलाया। काफी मशक्कत के बाद वन विभाग की टीम आपरेशन जामवंत को पूरा करने में सफल रही और ग्रामीणों की जान के लिए खतरा बन चुके भालू को आखिरकार पकड़ लिया गया। 

भालू को पकडऩे के बाद वन विभाग ने देर रात उसे तमोर पिंगला अभ्यारण्य में छोड़ दिया। वन विभाग के आपरेशन जामवंत के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।


Date : 21-Sep-2019

उन्नत खेती करने किसानों को करें प्रेरित-सामरी विधायक चिंतामणी महराज

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बलरामपुर, 21 सितम्बर।
संयुक्त जिला कार्यालय भवन के सभाकक्ष में आयोजित जिला स्तरीय समीक्षा बैठक का आयोजन सामरी विधायक  चिंतामणी महराज अध्यक्षता एवं कलेक्टर संजीव कुमार झा की उपस्थिति में किया गया। समीक्षा बैठक में नरवा,गरूवा,घुरूवा एवं बाड़ी  योजना की प्रगति एवं रबी वर्ष की कार्ययोजना एवं अन्य विषय पर चर्चा की गई।
बैठक में विधायक ने किसानों की आय दुगुनी करने हेतु सभी विभाग प्रमुखों को आपस में सामंजस्य बनाते हुए खेती के उन्नत तकनीकी के साथ-साथ सभी सामग्रियों की समय पर उपलब्धता तथा मशरूम उत्पादन, मत्स्य पालन एवं कुक्कुट पालन तथा फुलों की खेती को बढ़ावा देने को कहा, जिससे किसानों को समय-समय पर लाभ मिलती रहे और उनकी आमदनी में बढ़ोत्तरी हो सके। 

कलेक्टर संजीव कुमार झा ने कहा कि शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा,गरूवा,घुरूवा एवं बाड़ी के तहत् हर घर में बाड़ी एवं घुरूवा संवर्धन एवं जिस किसान के पास पर्याप्त जमीन है, उनके यहां नरवा के तहत् डबरी निर्माण कराना है। उन्होंने पोषण आहार के तहत् हरी साग.सब्जी उपलब्ध कराने के लिए हर घर में मचान तैयार कर सब्जी की खेती करने की बात कही, जिससे लोगों को बारहमासी हरी साग-सब्जी मिलती रहे।  बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत ,हरिश एस, कृषि, उद्यानिकी,मत्स्य, पशुपालन,राष्ट्रीय आजीविका मिशन,कृषि विज्ञान केन्द्र के जिला विकासखण्ड स्तरीय अधिकारी कर्मचारीगण उपस्थित थे।

 


Date : 20-Sep-2019

खाद्य एवं औषधि विभाग द्वारा मेडिकल स्टोर में छापा, प्रतिबंधित दवाईयां जब्त

बलरामपुर, 20 सितम्बर । जिला मुख्यालय बलरामपुर में प्रतिबंधित दवाओं के बिक्री के संबंध खाद्य एवं औषधि विभाग के टीम ने एक मेडिकल एजेंसी में छापामार कार्यवाही कर संस्थान से भारी मात्रा में प्रतिबंधित गर्भ निरोधक दवाएं जब्त कर औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई है।    

 खाद्य औषधि प्रशासन विभाग की टीम छापामार कार्यवाही के दौरान ग्राम भनौरा स्थित एक मेडिकल स्टोर्स में औषधि निरीक्षक ने अपने टीम के साथ दबिश दी। कार्यवाही में उस मेडिकल स्टोर में भारी मात्रा में प्रतिबंधित गर्भ निरोधक दवाएं जब्त की गई। अवैध रूप से भंडारण किये गए दवाओं को जब्त करने के साथ ही मेडिकल संचालक के विरुद्ध औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई है। औषधि निरीक्षक विकास दुबे ने बताया है कि उक्त मेडिकल स्टोर व मेडिकल से सटे दुकान से 76000 रूपये की प्रतिबंधित दवाएं जप्त की है, इसके साथ औषधि विभाग के द्वारा ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट के समक्ष प्रकरण तैयार कर प्रस्तुत किया गया है। औषधि प्रशासन विभाग ने जप्त की गई दवाओं के सैम्पल को राज्य औषधि प्रयोगशाला भेजे जाने की तैयारी कर ली है। छापामार कार्यवाही में औषधि निरीक्षक विरेन्द्र कुमार भगत के साथ टीम के सदस्य उपस्थित थे।

 


Date : 20-Sep-2019

सरगुजा कमिश्नर ने किया कार्यालयों का निरीक्षण

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बलरामपुर, 20 सितम्बर ।
सरगुजा संभाग के कमिश्नर ईमिल लकड़ा ने गुरूवार को बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व रामानुजगंज, जनपद पंचायत कार्यालय रामचन्द्रपुर एवं बलरामपुर का आकस्मिक निरीक्षण कर कार्यालयीन गतिविधियों का जायजा लिया। निरीक्षण में उन्होंने एकीकृत परियोजना प्रशासक कार्यालय के अभिलखों के निरीक्षण में सहायक ग्रेड 2 विकास कुमार कश्यप द्वारा कैशबुक एवं जनपद पंचायत कार्यालय बलरामपुर के सहायक ग्रेड 3 विनोद द्विवेदी द्वारा सेवा पुस्तिका सहित अन्य अभिलेख के  संधारण में अनियमितता पाये जाने पर तत्काल निलंबित करने के निर्देश दिये।

  कमिश्नर श्री लकड़ा ने अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय राजस्व रामानुजगंज पहुंचकर अनुभाग एवं तहसील स्तर पर राजस्व प्रकरण के अन्तर्गत भू-अर्जन प्रकरण,डायवर्सन, विवाादित नामांतरण, अविवादित नामांतरण, विवादित बटवारा, अविवादित बटवारा, 170 ख के प्रकरणों के निराकरण की जानकारी ली। उन्होंने दो वर्ष से अधिक लंबित प्रकरणों का शीघ्र निराकरण करने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिये। उन्होंने परियोजना प्रशासक एकीकृत आदिवासी परियोजना पाल के कैशबुक एवं कार्यालय कर्मचारियों के सर्विस बुक के वेतन निर्धारण का निरीक्षण किया। 

निरीक्षण में सर्विस बुक,सातवें वेतनमान के निर्धारण का कोष एवं लेखा से सत्यापन नहीं कराने पर नाराजगी व्यक्त की तथा उन्होंने कर्मचारियों के सेवा पुस्तिका में सातवें वेतनमान के निर्धारण का सत्यापन शीघ्र कराने के निर्देश दिये। सहायक ग्रेड 2 विकास कुमार कश्यप द्वारा कैशबुक का संधारण नियमित नहीं करने पर उनके विरूद्ध निलबंन की कार्यवाही करने को कहा। कमिश्नर श्री लकड़ा ने खाद्य निरीक्षक से नवीनीकृत राशन कार्ड के वितरण तथा सामान्य परिवार का राशन कार्ड बनाने की तैयारी के संबंध में जानकारी ली। 

कमिश्नर ने जनपद पंचायत कार्यालय रामचन्द्रपुर एवं बलरामपुर का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने जनपद पंचायत कार्यालय रामचन्द्रपुर में मनरेगा के तहत् मजदूरी तथा सामग्री भुगतान के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने समय पर मनरेगा के मजदूरी का भुगतान करने को कहा। कर्मचारियों के उपस्थिति पंजी के निरीक्षण में मनरेगा के 6 वेयर फुट टेक्नीशियन के अनुपस्थित पाये जाने पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत को उनके वेतन रोकने के निर्देश दिये। इसी प्रकार जनपद पंचायत बलरामपुर के निरीक्षण के दौरान कमिश्नर ने उपस्थिति पंजीए कैशबुक, कर्मचारियों की सेवा पुस्तिका,अग्रिम पंजी सहित अन्य पंजी का निरीक्षण किया। निरीक्षण में सहायक ग्रेड 3 विनोद द्विवेदी द्वारा सातवें वेतनमान निर्धारण का सत्यापन कोष एवं लेखा से नहीं कराने एवं अन्य कार्यों में लापरवाही बरतने पर कमिश्नर ने उन्हें तत्काल निलंबित करने के निर्देश दिये। कमिश्नर ने ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के अन्तर्गत चल रहे निर्माण कार्यों की जानकारी अनुविभागीय अधिकारी से ली, साथ ही एकीकृत महिला एवं बाल विकास बलरामपुर के अभिलेखों का भी निरीक्षण किया एवं संबंधित अधिकारी को अभिलेखों का संधारण दुरूस्त करने के निर्देश दिये।


Date : 18-Sep-2019

भूपेश सरकार की अराजकता के खिलाफ, हम सड़क से सदन तक संघर्ष को तैयार-भाजपा

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बलरामपुर, 18 सितंबर।
स्थानीय गांधी चौक पर मंगलवार को प्रदेश के आह्वान पर कांग्रेस की भूपेश सरकार पर हल्ला बोलते हुए भाजयुमो सरगुजा के जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में नुक्कड़ सभा का आयोजन किया गया। 

इस अवसर पर जिलाध्यक्ष भाजपा अखिलेश सोनी ने कहा कि कांग्रेस की सरकार झूठ के पुलिंदे के आधार पर बनी है। ना ही बेरोजगारी मुद्दे का कुछ हो सका है, ना ही सरकार ने वादे के मुताबिक शराब बंदी की, गन्ना किसानों का भुगतान नहीं हुआ, किसान को खेत में सिंचाई हेतु स्थाई विद्युत कनेक्शन नहीं मिल रहा है, स्थानीय निकायों से आबंटित राशि वापस मँगा लिया गया, कर्ज माफीआधी-अधुरी रही, राशन कार्ड में मुख्यमंत्री का फोटो आनेवाले दिनों में फिर गरीबों का आफत बनने वाला है, जनता द्वारा निर्वाचित सरपंचों को भी राजनीतिक चश्मे से देखा जा रहा है। पूरी सरकार भूपेश बघेल के निजी स्वार्थों और निजी विचारों से चल रही है। विकास कार्य सरकार कर नहीं पा रही है ,ना ही जनता से किए अपने वादे पूरा कर पा रही है।भूपेश सरकार के अराजकता के खिलाफ  हम सड़क से सदन तक संघर्ष को तैयार  हैं। 

 प्रदेश महामंत्री संजु नारायण सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ में देश के राजनीतिक इतिहास में शायद यह पहली बार हो रहा होगा कि मात्र 3 महीने के अंदर प्रचंड बहुमत से चुनी हुई सरकार को जनता ने नकार दिया। विधानसभा चुनाव 2018 में प्रदेश के 90 में से 68 सीटों पर विजय हुई कांग्रेस से जनता का ऐसा मोहभंग हुआ कि मात्र 3 महीने पश्चात होने वाले लोकसभा 2019 के चुनाव में वह 66 विधानसभाओं में हार गई। पूर्व सांसद कमलभान सिंह ने कहा कि कांग्रेसी विधायक बृहस्पति सिंह के बयान स ेसिद्ध होता है कि सरकार का पूरा मंत्रिमंडल आकंठ भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है। उन्होंने शिक्षा मंत्री प्रेम सिंह टेकाम पर तबादला उद्योग चलाने, पैसे लेकर टंांसफर करने का आरोप लगाया हैै । पूर्व महापौर प्रबोध मिंज ने कहा कि इन्हीं कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह ने एक सरकारी कार्यक्रम में कहा कि अधिकारियों को जूते से मारना चाहिये। युवा मोर्चा अधिकारी - कर्मचारियों को भी समाज का अभिन्न और आवश्यक अंग मानता है और ऐसे किसी भी आलोकतांत्रिक ढंग़ का पुरजोर विरोध करता है। युवा मोर्चा की मांग है कि विधायक बृहस्पति सिंह अपने शब्द वापस लें और अधिकारी - कर्मचारियों से माफी मांगे और मांफी नहीं मांगने की स्थिति में विधायक बृहस्पति सिंह का और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का प्रखर विरोध किया जाएगा।

 प्रदेश कार्यसमिति सदस्य विश्व विजय सिंह तोमर ने कहा कि छग़ में शासन के छोटे से काल खंड में अब तक 9 व्यक्ति पुलिस और अन्य विभागों के हिरासत में मारे जा चुके हैं, कवर्धा जिले में आबकारी विभाग के द्वारा राष्टं्रपति के दतक पुत्र विशेष पिछड़ी जनजाति के वनवासी बैगा लोगों से भी 50-50 हजार रूपये की वसूली की जाती है और पैसा न मिलने पर उन्हें गिरपतार किया जाता है । ऐसे ही आबकारी विभाग के कार्यालय में जहां बंदी गृह भी नही है वहां बैगा जवान रात में लाया जाता है और वह सुबह मृत पाया जाता है। कार्यक्रम में विशेष रूप से विद्यानंद मिश्रा, शैलू सिंह, मनोज गुप्ता, सहित भाजयुमो के सैंकडों कार्यकर्ता उपस्थित थे।


Date : 17-Sep-2019

मवेशी खोजने गए दो ग्रामीणों पर भालू ने किया हमला, घायल

बलरामपुर, 17 सितंबर। बलरामपुर रामानुजगंज जिला के सेमरसोत अभ्यारण अंतर्गत कंडा जंगल में मवेशियों को खोजने गए दो ग्रामीणों पर भालू ने हमला कर दिया। दोनों घायलों को 102 की मदद से जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका उपचार जारी है। 

जानकारी के मुताबिक सेमरसोत अभ्यारण्य के बीचों -बीच बसे ग्राम कण्डा के कुछ ग्रामीण सोमवार की शाम गांव के जंगल मे लापता भैसों के झुंड को ढूंढने निकले थे। इसी दौरान भालू ने ग्रामीण जेठू व विजय पर हमला कर दिया। जंगल में मौजूद अन्य ग्रामीणों के शोर शराबे से भालू मौके से भाग गया। जिसके बाद घायल ग्रामीणों को गांव लाया गया। क्षेत्रीय जिला पंचायत सदस्य धीरज सिंहदेव घटना की जानकारी मिलते ही रात में ही गांव पहुंचे और घायलों को 102 की मदद से अस्पताल पहुचवाया, जहाँ घायलों का उपचार जारी है।


Date : 17-Sep-2019

कुपोषण व एनीमिया की रोकथाम के लिए किया जाएगा विशेष प्रयास-कलेक्टर 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बलरामपुर, 17 सितम्बर ।
बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में 6 माह से 5 वर्ष आयु के आंगनबाड़ी केन्द्रों में दर्ज बच्चों के कुपोषण एवं 15 से 49 वर्ष की महिलाओं में रक्त की कमी जैसे गंभीर बीमारियों से मुक्त करने के लिए विशेष प्रयास किया जा रहा है। कलेक्टर संजीव कुमार झा ने पुराना जिला चिकित्सालय के सभाकक्ष में महिला बाल विकास एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों की संयुक्त बैठक लेकर मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान की तैयारी और आंगनबाड़ी केन्द्र में संचालित पोषण आहार की समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।  संयुक्त समीक्षा बैठक में कलेक्टर संजीव कुमार झा ने कहा कि ग्रामीणों में जागरूकता की कमी के कारण बच्चे कुपोषण एवं महिलाएं एनीमिया जैसे गंभीर बीमारियों से ग्रसित रहती हैं। 
कलेक्टर ने स्वास्थ्य एवं महिला बाल विकास विभाग के अधिकारियों से मितानिन तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को ग्रामीणों को स्वास्थ्यए रहन-सहन एवं सही खानपान पर विशेष रूप से जानकारी देने को कहा,साथ ही उन्होंने मैदानी स्तर के कर्मचारियों को गांव में किसी तरह की बीमारी फैलती है तो तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित करने हेतु निर्देशित करने को कहा। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से मौसमी बीमारी के रोकथाम हेतु ग्रामीण क्षेत्रों का सतत् निरीक्षण करने को कहा।  कलेक्टर ने प्रारंभ में शंकरगढ़ विकासखण्ड को खण्ड में शत-प्रतिशत कुपोषित बच्चों एवं एनीमिया से पीडि़त महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण का लक्ष्य दिया है। 

 


Date : 16-Sep-2019

सिंहदेव स्मृति फुटबॉल प्रतियोगिता का समापन

बलरामपुर, 16 सितम्बर । पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव विकासखण्ड शंकरगढ़ के ग्राम कमारी में स्व एमएस सिंहदेव के स्मृति में आयोजित फुटबॉल प्रतियोगिता के समापन समारोह में शामिल हुये। इस प्रतियोगिता में क्षेत्र के 40 टीमों ने भाग लिया। फाईनल मैच ग्राम सरगवां एवं घुघरी के बीच खेला गया, जिसमें ग्राम घुघरी की टीम विजेता एवं सरगवां की टीम उप विजेता रही। फाईनल प्रतियोगिता के पूर्व महिला जुनियर एवं सीनियर वर्ग के बीच मैच खेला गया,जिसमें जुनियर वर्ग विजेता एवं सीनियर वर्ग उप विजेता रही। 

 स्व एमएस सिंहदेव स्मृति फुटबॉल प्रतियोगिता के समापन समारोह में कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव ने महिला एवं पुरूष वर्ग के विजेता,उप विजेताओं को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए आयोजक समिति को धन्यवाद दिया। इस प्रतियोगिता मे पुरूषों के साथ-साथ महिलाओं को भी खेल में शामिल करने पर उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि यह प्रतियोगिता लम्बे समय तक चलते रहना चाहिए, जिससे क्षेत्र के खिलाडिय़ों में खेल भावना के प्रति रूचि बनी रहे। उन्होंने कहा कि देश में महिलाओं को मौका देने पर राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय खेल फुटबॉल,कबड्डी जैसे अनेक प्रतियोगिताओं में हमारी महिलाएं आगे आ रही है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में खेल को बढ़ावा देने के लिए शासन द्वारा खेल प्राधिकरण बनाने का निर्णय लिया गया है।   प्रतियोगिता के समापन समारोह पर श्री सिंहदेव ने उपस्थित जन समुदाय से कहा कि प्रदेश सरकार आम नागरिकों के आर्थिक विकास हेतु अनेक योजनाएं चला रही है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में हाईकोर्ट से वन अधिकार पत्र वितरण के कार्य पर रोक लगा दी गई है,जैसे ही रोक हटा दी जाएगी आदिवासी एवं गैर आदिवासी क्षेत्र में जहां 13 दिसम्बर 2005 से पूर्व कब्जाधारियों को पात्रता अनुसार वन अधिकार पत्र का वितरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि देश में आर्थिक मंदी की स्थिति चल रही है लेकिन छत्तीसगढ़ प्रदेश में आर्थिक मंदी नहीं है। मुख्य अतिथि एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा पुरूष वर्ग के विजेता टीम को शील्ड, 25 हजार रूपये नगद एवं गणवेश तथा उप विजेता टीम को शील्ड, 15 हजार रूपये नगद एवं गणवेश का वितरण तथा महिला वर्ग के दोनों टीमों को शील्ड एवं गणवेश दिया गया।

 

 


Date : 14-Sep-2019

जनभागीदारी समिति की बैठक में अनेक निर्णय

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बलरामपुर, 14 सितम्बर ।
शासकीय महाविद्यालय बलरामपुर के जनभागीदारी प्रबंधन समिति की बैठक समिति के अध्यक्ष प्रदीप खेस्स की अध्यक्षता में आयोजित की गई। जनभागीदारी समिति की बैठक में महाविद्यालय के विकास से संबंधित अनेक निर्णय लिये गये।


  जनभागीदारी की समिति की बैठक में पूर्व कार्यों की समीक्षा,आय-व्यय का अनुमोदन और चालू सत्र में अतिथि व्याख्याताओं की नियुक्ति का अनुमोदन किया गया। वाणिज्य संकाय में शिक्षक की कमी को देखते हुए तात्कालिक व्यवस्था के तहत जनभागीदारी मद से एक शिक्षक रखने की स्वीकृति प्रदान की गई। समिति ने महाविद्यालय के नैक मूल्यांकन को आवष्यक बताते हुए शीघ्र नैक प्रत्यायन कराये जाने की आवश्यकता जताई और इस पर आने वाले व्यय को प्रारंभिक तौर पर जनभागीदारी मद से वहन करने का निर्णय लिया गया, जिसे शासन स्तर पर समायोजित किया जाएगा। समिति ने विभिन्न कर्मचारियों के मानदेय में वृद्धि की और प्रयोगशाला,ग्रंथालय में सुविधा बढ़ाने का निर्णय लिया तथा उसके लिए राशि भी स्वीकृत की। समिति ने छात्र-छात्राओं के लिए शुद्ध पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए वाटर फि ल्टर,पंखों की मरम्मत,पुस्तकों की खरीद,मीटिंग हॉल में फर्नीचर की व्यवस्था आदि करने का निर्णय लिया।

 बैठक में महाविद्यालय के स्वाध्यायी एवं नियमित छात्र-छात्राओं के लिए जनभागीदारी शुल्क में भी वृद्धि करने का निर्णय लिया गया है।

 महाविद्यालय में सुरक्षा गार्ड रखने एवं भवन के रंग-रोगन पर भी चर्चा की गई। बैठक की शुरूआत करते हुए प्राचार्य प्रो एनके देवांगन ने नवगठित जनभागीदारी समिति के समस्त सदस्यों का स्वागत किया और समिति की कार्यप्रणाली एवं महाविद्यालय के विकास में भूमिका पर प्रकाश डाला। उन्होंने महाविद्यालय के अकादमिक उन्नयन में समिति की भागीदारी को भी रेखांकित किया।

जनभागीदारी समिति की बैठक में अध्यक्ष प्रदीप खेस्स, सांसद प्रतिनिधि भानु प्रकाशदीक्षित, एनके सिंह सहायक प्राध्यापक वनस्पतिशास्त्र, संजीत गुप्ता मुन्ना, सीएन राम,हृदयानन्द गुप्ता,शिवकुमार रवि,अशोक मिश्रा,प्रदीप ठाकुर, नन्दलाल विश्वास, रजत सिंहदेव, जन्नत अंसारी,गौर विश्वास, प्राध्यापक नन्द किशोर सिंह एवं डॉ उमेश कुमार पाण्डेय उपस्थित रहे।

 


Date : 14-Sep-2019

जनभागीदारी समिति की बैठक में अनेक निर्णय

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बलरामपुर, 14 सितम्बर ।
शासकीय महाविद्यालय बलरामपुर के जनभागीदारी प्रबंधन समिति की बैठक समिति के अध्यक्ष प्रदीप खेस्स की अध्यक्षता में आयोजित की गई। जनभागीदारी समिति की बैठक में महाविद्यालय के विकास से संबंधित अनेक निर्णय लिये गये।
  जनभागीदारी की समिति की बैठक में पूर्व कार्यों की समीक्षा,आय-व्यय का अनुमोदन और चालू सत्र में अतिथि व्याख्याताओं की नियुक्ति का अनुमोदन किया गया। वाणिज्य संकाय में शिक्षक की कमी को देखते हुए तात्कालिक व्यवस्था के तहत जनभागीदारी मद से एक शिक्षक रखने की स्वीकृति प्रदान की गई। समिति ने महाविद्यालय के नैक मूल्यांकन को आवष्यक बताते हुए शीघ्र नैक प्रत्यायन कराये जाने की आवश्यकता जताई और इस पर आने वाले व्यय को प्रारंभिक तौर पर जनभागीदारी मद से वहन करने का निर्णय लिया गया, जिसे शासन स्तर पर समायोजित किया जाएगा। समिति ने विभिन्न कर्मचारियों के मानदेय में वृद्धि की और प्रयोगशाला,ग्रंथालय में सुविधा बढ़ाने का निर्णय लिया तथा उसके लिए राशि भी स्वीकृत की। समिति ने छात्र-छात्राओं के लिए शुद्ध पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए वाटर फि ल्टर,पंखों की मरम्मत,पुस्तकों की खरीद,मीटिंग हॉल में फर्नीचर की व्यवस्था आदि करने का निर्णय लिया।
 बैठक में महाविद्यालय के स्वाध्यायी एवं नियमित छात्र-छात्राओं के लिए जनभागीदारी शुल्क में भी वृद्धि करने का निर्णय लिया गया है।
 महाविद्यालय में सुरक्षा गार्ड रखने एवं भवन के रंग-रोगन पर भी चर्चा की गई। बैठक की शुरूआत करते हुए प्राचार्य प्रो एनके देवांगन ने नवगठित जनभागीदारी समिति के समस्त सदस्यों का स्वागत किया और समिति की कार्यप्रणाली एवं महाविद्यालय के विकास में भूमिका पर प्रकाश डाला। उन्होंने महाविद्यालय के अकादमिक उन्नयन में समिति की भागीदारी को भी रेखांकित किया।

जनभागीदारी समिति की बैठक में अध्यक्ष प्रदीप खेस्स, सांसद प्रतिनिधि भानु प्रकाशदीक्षित, एनके सिंह सहायक प्राध्यापक वनस्पतिशास्त्र, संजीत गुप्ता मुन्ना, सीएन राम,हृदयानन्द गुप्ता,शिवकुमार रवि,अशोक मिश्रा,प्रदीप ठाकुर, नन्दलाल विश्वास, रजत सिंहदेव, जन्नत अंसारी,गौर विश्वास, प्राध्यापक नन्द किशोर सिंह एवं डॉ उमेश कुमार पाण्डेय उपस्थित रहे।

 


Date : 14-Sep-2019

स्वास्थ्य केंद्रों व स्कूलों का निरीक्षण करें- कलेक्टर 

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बलरामपुर, 14 सितम्बर।
साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर  संजीव कुमार झा ने मुख्यमंत्री जनचौपाल कमिश्नर से विभिन्न विभागों को प्राप्त आवेदनों के निराकरण तथा राजस्व विभाग के भू-अर्जन व न्यायालयीन प्रकरणों की समीक्षा की। संयुक्त जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर संजीव कुमार झा ने शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरूवा, घुरूवा एवं बाड़ी के तहत् गोठानों एवं चारागाहों में वृक्षारोपण तथा चारागाह में हाईब्रीड नेपीयर घांस रोपण के प्रगति की जानकारी ली। 

 कलेक्टर ने जिला स्तरीय अधिकारियों से क्षेत्र भ्रमण के दौरान स्कूलों का निरीक्षण करने को कहा। समय.सीमा की बैठक में कलेक्टर ने बताया कि महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर आगामी 2 अक्टूबर से प्रदेश को कुपोषण मुक्त करने के लिए सुपोषित छत्तीसगढ़ अभियान का पूरे प्रदेश में शुभारंभ किया जा रहा है। इसके लिए उन्होंने संबंधित अधिकारी को सभी आवश्यक तैयारी सुनिश्चित करने को कहा। कलेक्टर ने जिला एवं विकासखण्ड स्तरीय अधिकारियों से इस अभियान को सफल बनाने के कुपोषित बच्चों को सुपोषित करने हेतु गोद लेने की बात कही। बैठक में स्थानीय निर्वाचन नगरीय निकाय एवं पंचायत चुनाव पर विस्तृत चर्चा की गई। समय-सीमा की बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी हरीश एस,सर्व अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, सर्व जिला स्तरीय अधिकारीए सर्व जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन  अधिकारीए सर्व तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार उपस्थित थे।