छत्तीसगढ़ » कोरिया

Previous123456Next
03-Dec-2020 7:13 PM 10

छत्तीसगढ़ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 3 दिसम्बर। छत्तीसगढ़ महतारी की पावन गोद एवं अंगना में विविध प्रकार के लोकगीत संगीत एवं नाचा गम्मत आदि सांस्कृतिक उत्सव परंपरागत रूप से आदिकाल से ही पुष्पित पल्लवित हो रहा है। यह गौरवशाली और समृद्ध विरासत हमारे छत्तीसगढ़ की विशेष पहचान है। इस गौरवशाली विरासत को हमारे छत्तीसगढ़ के लोक कलाकार साथी पूरी निष्ठा एवं समर्पण के साथ आगे बढ़ा रहे हैं, लेकिन दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि बदले में वह मान-सम्मान नहीं मिलता जिसके वे वास्तविक हकदार हैं। उक्त बातें छत्तीसगढ़ प्रदेश लोक कलाकार कल्याण संघ जिला कोरिया के एक दिवसीय जिला स्तरीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि एवं प्रदेश अध्यक्ष छत्तीसगढ़ लोक कलाकार कल्याण संघ के नवल दास मानिकपुरी ने कही।

कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती व छत्तीसगढ़ महतारी की छायाचित्र पर माल्यार्पण पूजन व महा आरती राज्य गीत अरपा पैरी के धार गाकर किया गया। अतिथियों का स्वागत शॉल, श्रीफल व पुष्प माला से संघ के जिला व ब्लाक पदाधिकारियों द्वारा किया गया। स्वागत भाषण देते हुए संघ के जिला अध्यक्ष एवं सरगुजा संभाग प्रभारी परमेश्वर सिंह मरकाम ने लोक कलाकारों के मान सम्मान और कल्याण के लिए सम्मेलन में पधारे मुख्य अतिथि नवल दास मानिकपुरी के भागीरथ प्रयासों को देखते हुए उन्हें लोक कलाकारों का मसीहा बताया। उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष को आश्वस्त कराया उनके संघर्षरत जन जागरण यात्रा में कोरिया जिला सदैव उनके साथ है।

प्रदेश अध्यक्ष नवल दास ने कहा कि कई कलाकार विषम आर्थिक सामाजिक परिस्थितियों में भी अपनी विधा को सफलतापूर्वक आगे बढ़ा रहे हैं। यह सब छत्तीसगढ़ के माटी पानी का ही प्रभाव है कि लोक कलाकार साथी छत्तीसगढ़ के पावन सांस्कृतिक विरासत को पूजा और इबादत की तरह लेते हुए जीविकोपार्जन कर रहे हैं। मानिकपुरी ने आगे सभा को संबोधित करते हुए बताया कि प्रदेश के कोने-कोने मे जाकर उन्होंने देखा कि कलाकारों को कला के बदले अपेक्षित मान सम्मान नहीं मिल पा रहा है। कई कलाकार घोर गरीबी और दयनीय स्थिति में जीवन यापन कर रहे हैं। यहां तक की बीमारी की स्थिति में इलाज करवाने का पैसा नहीं होता बाल बच्चों के शादी विवाह में आर्थिक तंगी रहती है। कई लोगों के पास जीविकोपार्जन का भी ठोस सहारा नहीं है जिसके कारण इन संस्कृति सेवकों का जीवन अत्यंत कष्टप्रद होता जा रहा है । इन सब परिस्थितियों को देखते हुए उन्होंने लोक कलाकारों के कल्याण के लिए सभी साथियों से मंत्रणा कर 12 सूत्रीय मांग पत्र तैयार किया है।

उन्होंने मंच से ही इस अवसर पर अपने संकल्प को दोहराया है कि लोक कलाकारों के कल्याण एवं 12 सूत्रीय मांगों को पूरा करवाने शासन प्रशासन के समक्ष गुहार लगाकर मांग पूरी होने तक मेरा भागीरथ प्रयास जारी रहेगा उन्होंने लोक कलाकारों के जिला स्तरीय सफल आयोजन के लिए जिला कार्यकारिणी व विभिन्न विकास खंड से आए सभी कलाकारों के उत्साह की प्रशंसा करते हुए बधाई दी।

 सभा को संघ के जिला संरक्षक लखन लाल श्रीवास्तव, शरण सिंह एवं विकास खंड के संरक्षक बिहारी लाल राजवाड़े, धु्रपद चौहान, छत्तीसगढिय़ा महिला क्रांति सेना के मनेंद्रगढ़ ब्लाक के प्रमुख लक्ष्मी नाग ने भी छत्तीसगढ़ी भाषा पर प्रकाश डाला और भाषा के संरक्षण संवर्धन की अपील की जिला पंचायत अध्यक्ष रेणुका सिंह ने सभा को संबोधित किया व कलाकारों के कल्याण के लिए 12 सूत्रीय मांगों पर अपनी सहमति प्रदान किया। कार्यक्रम में खडग़वां से ओम प्रकाश एवं जया मरावी बैकुंठपुर से नमंति प्रजापति मनेंद्रगढ़ से मोहन दास एवं साथी लक्ष्मीनाग द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। वहीं और प्रदेश अध्यक्ष द्वारा भजनों की सुमधुर प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम में प्रदेश के उत्तम मरकाम, शोभाराम शर्मा, टुम्मन जांगड़े कोरिया जिला व विकास खंडों से संघ के समस्त पदाधिकारी, कलाकारों व ग्रामीणों की गरिमामयी उपस्थित रही। कार्यक्रम का संचालन जिला सचिव श्रीधन साय सिंहएवं आभार प्रदर्शन जिला संयोजक रामजीत भगत भगत बाबू द्वारा किया गया।


03-Dec-2020 7:11 PM 11

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 3 दिसम्बर। छत्तीसगढ़ नेत्रहीन छात्र के हौसलों को सलाम करता है। कोरोना काल में लक्ष्य को साधने लिए नेत्रहीन छात्र विद्यालय बंद होने के आदेश बाद भी घर से ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं, जिससे वे अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकें।

नेत्रहीन बच्चों का मोबाइल के जरिए ऑनलाइन पढ़ाई करना सुनने में शायद बड़ा आश्चर्य लगे, लेकिन यह हकीकत है। जहां नेत्रहीन बच्चे मोबाइल के माध्यम से न सिर्फ ऑडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बल्कि यू ट्यूब के माध्यम से घर में रहकर पढ़ाई कर रहे हैं। प्रत्येक वर्ष 3 दिसंबर को संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा विश्व दिव्यांग दिवस दिव्यांग व्यक्तियों के अंतरराष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया जाता है। सरगुजा संभाग के एक मात्र नेत्रहीन विद्यालय में भी दिव्यांग दिवस मनाया गया। कोरोना काल मे विद्यालय बंद होने के बाद छात्रों को ऑनलाइन माध्यम से पढ़ाई कराया जा रहा है। छात्रों को वॉइस कॉन्फ्रेंसिंग के साथ वॉइस रिकार्डिंग के माध्यम से पढ़ाई कराया जा रहा है। नेत्रहीन विद्यालय से कई बच्चे पढ़ाई कर अच्छे सरकारी पदों पर कार्य कर रहे हैं जिससे यहां पढऩे वाले बच्चे भी अपनी पूरी क्षमता के साथ पढ़ाई कर रहे हैं। शिक्षक बच्चों को नोट्स बनाने के लिए वॉइस मैसेज करते हैं जिससे बच्चे अपने नोट्स तैयार कर सकें और परीक्षा में अच्छे नम्बरों से पास हो सकें। बच्चों का कहना है कि ऑनलाइन पढ़ाई से उनकी पढ़ाई नहीं रुक रही है और वो अपनी पढ़ाई को पूरा करने के लिए यूट्यूब का भी सहारा ले रहे हैं जिससे वो अपनी पढ़ाई पूरी कर अपने लक्ष्य को पा सके। दिव्यांग दिवस के दिन नेत्रहीन विद्यालय में कार्यक्रम रखा गया था, लेकिन कोरोना काल के कारण बच्चे घर पर रहकर ही पढ़ाई कर रहे हैं। केवल 3 बच्चे ही परीक्षा देने के लिए आये हुये थे, उन्हें संस्था की ओर से कपड़े और इलेक्ट्रॉनिक स्टिक दिए गए। संस्था के प्राचार्य और उपस्थित अतिथियों ने बच्चों को दिव्यांग दिवस की शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।


03-Dec-2020 6:56 PM 14

   विधायक-कलेक्टर ने निरीक्षण कर लिया तैयारियों का जायजा   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

चिरमिरी, 3 दिसंबर। कोयलांचल नगरी चिरमिरी में इंग्लिश मीडियम स्कूल की वर्षो पुरानी मांग अब पूरी होने जा रही है। मनेंद्रगढ़ विधायक डॉक्टर विनय जायसवाल के 18 माह के अथक प्रयास से जल्द ही चिरमिरी वासियों के साथ जनपद पंचायत खडग़वां के अंतर्गत ग्रामीण अंचल के रहवासियों के अध्यन रथ बच्चों को एक बड़ी सौगात के रूप में राज्य शासित इंग्लिश मीडियम स्कूल की बड़ी उपलब्धि का शुभ आरंभ आगामी 6 दिसंबर से लेकर 10 दिसंबर के बीच राज्य के मुखिया भूपेश बघेल मुख्यमंत्री छ:ग शासन के करकमलों से होने जा रहा है । जो इस बड़ी सौगात का लोकार्पण करेंगे । जिसकी तैयारियों का निरीक्षण कलेक्टर कोरिया ने अधीनस्थ अधिकारियों को जल्द से जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिया है ।

मौके पर उपस्थित विधायक मनेंद्रगढ़ ने जानकारी देते हुए बताया कि इस बड़ी सौगात जो इंग्लिश मीडियम स्कूल में मिली है मे अध्यरत बच्चों को उनके निवास से लानेलेजाने की स्स्कूल बस की व्यवस्था, दूर दराज के बच्चों को विद्यालय में रहने के लिए पर्याप्त हास्टल की व्यवस्था एवं पहली से लेकर उनकी 12 वी कक्षा तक की अंग्रेजी माध्यम की उच्च शिक्षा को नि:शुल्क रूप में देने का फरमान हमारे मुखिया भूपेश बघेल छ:ग शासन की सरकार ने पहले की कर दिया था  जिसका पूरा खर्च राज्य सरकार स्वयं अपनी निगरानी में निर्वाहन करेगी ।

निरीक्षण के दौरान मौके पर उपस्थित महापौर कंचन जायसवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि छत्तीसगढ़ प्रदेश की कांग्रेस सरकार प्रदेश में 18 माह से लगातार प्रदेश के जनता हित में काम कर रही है। राज्य की भूपेश सरकार स्वास्थ्य के क्षेत्र में शिक्षा के क्षेत्र में लगातार काम कर रही है। चिरमिरी में बड़े रूप में इंग्लिश मीडियम के तीन स्कूल ही है एक केंद्रीय विद्यालय, डी. ए. व्ही. पब्लिक स्कूल और लिटिल फ्लावर वह भी स्कूल इन स्कूलों में हर साल एडमिशन के समय अभिवाहक अपने बच्चों के एडमिशन के लिये भटकते रहते है कि उनके बच्चों की भर्ती इन स्कूलों में हो जाये पर सीमित सीट होने व एसईसीएल में कार्यरत कर्मचारियो के बच्चो का एडमिशन होने के बाद जो सीट खाली होती है उसके बाद गिनती के लोगों के बच्चो का एडमिशन ही हो पाता है ।  ऐसे में हर साल सैकड़ो की संख्या में चिरमिरी के लोग मांग करते आ रहे है कि राज्य सरकार के द्वारा भी यहाँ इंग्लिश मीडियम स्कूल खोला जाए।

इन दौरान पुलिस अधिक्षक कोरिया चन्द्र मोहन सिंह, नगर निरिक्षक पी.पी सिंह.डीईओ कोरिया,पीबी खेश एसडीएम चिरमिरी,ब्लाक शिक्षा अधिकारी मिश्रा,जनपद पंचायत खडग़वां के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, तहसील दार पैकरा, उप निरिक्षक सुनील सिंह,वरिष्ट कांग्रेसी शंकर रॉव, मुक्तेश्वर कुशवाहा, पार्षद सन्नी कुमार चौहथा, शाबिर खान. अभिवक्ता पी.तिवारी व स्थानीय निगम प्रशासन, विद्दुत विभाग, स्वास्थ्य विभाग सहित जि़ला प्रशासन के अधिकारीगण और कर्मचारी गण मौजूद रहे।


02-Dec-2020 7:12 PM 22

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर, 2 दिसंबर। कोरिया जिले की पहली डायलिसिस मशीन की सौगात संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव ने जिला अस्पताल बैकुंठपुर को दी। उन्होंने डायलिसिस रूम का शुभारंभ किया और मशीन का मुआयना कर शुरूआत कर चिकित्सकों और पूरे मेडिकल स्टाफ को शुभकामनाएं दी।  इस अवसर पर जिले के कलेक्टर सत्यनारायण राठौर, सीएमएचओ डॉ. रामेश्वर शर्मा, के साथ सीएस प्रमुख रूप से उपस्थित रहेे।

इस अवसर पर संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव ने बताया कि आज से अब किसी भी मरीज को डायलिसिस के लिए बाहर नही जाना होगा, जल्द ही इसके लिए एक टेक्निशियन की नियुक्ति की जा रही है, आगे स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़ाने हरसंभव प्रयास जारी है, जल्द ही 200 बिस्तरीय नवीन जिला अस्पताल के निर्माण का कार्य की शुरूआत भी होने जा रहा है।

 कोरिया जिले की वर्षों पुरानी मांग को संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव ने पूरी कर दिया। बुधवार को उन्होंने जिला अस्पताल में डायलिसिस रूम का फीता काटकर शुभारंभ किया। इसके अलावा उन्होंने मशीन के लिए प्रयुक्त होने वाले आरओ प्लांट की भी शुरूआत की।

डायलासिस मशीन के शुरू होने से जिले भर के मरीजों को रायपुर बिलासपुर की दौड़ नहीं लगाना पड़ेगा, वहीं उन्हेें आर्थिक रूप से भी परेशानी का सामना कम करना होगा।

 गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव में मिली जीत के बाद अंबिका सिंहदेव सबसे पहले जिला अस्पताल पहुंची थी, उन्होंने उस समय कहा था कि उनका पहला काम जिले की स्वास्थ्य सुविधाओं में इजाफा करने के साथ वर्षों से चरमराई स्वास्थ्य व्यवस्था को दुरूस्त करना है। सबसे पहले उन्होंने जिला प्रशासन को नए जिला अस्पताल के लिए भूमि का चयन के निर्देश दिए और इधर, जिला अस्पताल का लगातार दौरा कर सुविधाएं बढ़ाने के लिए राज्य सरकार से वार्तालाप करती रही, जिसका परिणाम यह हुआ कि जिला अस्पताल में डायलिसिस मशीन शुरू हो गई वहीं सिटीस्कैन सहित अन्य सुविधाओं की बढ़ोतरी के लिए उनकी कोशिशें जारी है।

इससे पहले भाजपा के बीते 15 वर्षों के कार्यकाल में स्वास्थ्य सुविधाओं में टेलीमेडिसिन की स्थापना वर्ष 2007 में हुई थी, परन्तु आज तक वह शुरू नहीं हो सका था। वहीं वर्तमान नए जिला अस्पताल का निर्माण तत्कालीन वित्त मंत्री डॉ. रामचंद्र सिंहदेव ने वर्ष 2001 में शुरू करवाया था, जिसे भाजपा के शासन में वर्ष 2006 में शुरू किया गया था। इसके अलावा जिला अस्पताल में एसएनसीयू, ब्लड बैंक की स्थापना भी भाजपा के कार्यकाल में ही हुई।


02-Dec-2020 7:08 PM 18

छत्तीसगढ़ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 2 दिसम्बर। सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष एवं विधायक गुलाब कमरो ने आज 4 धान उपार्जन केन्द्र का शुभारंभ कर 16 लाख 55 हजार के विकास कार्यों का भूमिपूजन किया।

भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरो ने ग्राम पंचायत चैनपुर/घुटरा/केल्हारी एवं नवीन धान खरीदी केन्द्र डोंडकी में किसानों का माल्यार्पण कर शुभारंभ किया साथ ही विधायक ने ग्राम पंचायत केल्हारी में 12 लाख 5 हजार की लागत से बनने वाले 20 नग हाट बाजार हेतु चबूतरा निर्माण एवं मुस्लिम कब्रिस्तान के पास शेड निर्माण, ग्राम पंचायत केलुआ के ग्राम श्रीरामपुर में 1 लाख 50 हजार की लागत से शेड निर्माण का भूमि पूजन किया वहीं विधायक गुलाब कमरो ने ग्राम पंचायत केल्हारी में 10 किसानोंएवं ग्राम पंचायत डोंडकी में 45 किसानों को मसूर व चना बीज का वितरण किया।

इस अवसर पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मनेन्द्रगढ़ नयनतारा सिंह तोमर, जनपद अध्यक्ष डॉ. विनय शंकर सिंह, मुख्य कार्यपालन अधिकारी एके निगम, तहसीलदार मनेंद्रगढ़ उत्तम रजक, तहसीलदार केल्हारी राममिलन शर्मा, मनेन्द्रगढ़ नपा उपाध्यक्ष कृष्णमुरारी तिवारी, नायब तहसीलदार विपल्व श्रीवास्तव, विधायक प्रतिनिधि शैलजा सिंह, जिला महामंत्री रामनरेश पटेल, जनपद सदस्य रोशन सिंह, मकसूद आलम, सुभागनी राय, लक्ष्मी सिंह, सरपंच लल्लू पाव, अमोल सिंह, उजित नारायण सिंह, बाबूराम, अमर सिंह, अज्जू रवि, महिला कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष सुचित्रा दास, महामंत्री शमीना खातून, आनंद राय, उपेन्द्र द्विवेदी, मजहर अली, इमरान शेख, पिन्टू भास्कर सहित ग्रामीण जनप्रतिधि व कृषक उपस्थित रहे।


02-Dec-2020 1:25 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया),  1 दिसंबर। 
दीगर प्रांत से अवैध धान परिवहन रोकने छत्तीसगढ़ की सीमा के 6 रास्तों को सील नहीं करने की बात सामने आने पर  प्रशासन ने सडक़ को ही खोदने के लिए जेसीबी से काम भी शुरू करवा दिया, अब आने जाने को लेकर लोग बेहद परेशान दिख रहे है।

जानकारी के अनुसार कोरिया जिले भर में धान खरीदी का काम शुरू हो गया, सुबह से ट्रैक्टर में भर भर कर धान केंद्रों तक पहुंचता रहा। इधर, संसदीय सचिव अम्बिका सिंहदेव सबसे पहले बैकुंठपुर विधानसभा का बैमा धान खरीदी केंद्र पहुंचकर धान खरीदी का शुभारंभ किया इसके बाद धान खरीदी केंद्र कलुवा, झरनापारा, जामपारा, तरगवा, गिरजापुर और सलबा  के केंद्र में खरीदी कर शुरुआत की। इस अवसर उन्होंने किसओ के चर्चा की। उन्होंने प्रबंधको को किसानों किसी प्रकार की कोई तकलीफ न हो इसका ध्यान रखने के निर्देश दिए। 
समिति के प्रबंधक प्रभाकर सिंह ने बताया कि धान खरीदी केंद्र जामपारा में कुल पंजीकृत कृषक 773, कुल सम्मिलित ग्राम  27,  खरीदी का लक्ष्य 41422 क्विंटल, पंजीकृत धान का रकबा 1119.527 हे.

यहां गत वर्ष की धान खरीदी  35500 क्विंटल,  गत वर्ष के मुकाबले इस वर्ष खरीदी में वृद्धि  5922 क्विंटल  की संभावना है , आज खरीदी के लिए 21टोकन जारी किए गए थे, अभी तक 894.20 क्विंटल धान की खरीदी की गई है।
मिली जानकारी अनुसार जनकपुर के सनबोरा से शहडोल मार्ग से मप्र का धान छत्तीसगढ़ न आ सके इसके लिए प्रशासन ने सडक़ की खुदाई का काम शुरू कर दिया, कुछ ही देर में सडक़ मे एक बड़ा ट्रंच जैसा खोद डाला गया। इस मार्ग पर लोगों की आवाजाही दिनभर होती है । 
मप्र की सीमा होने के कारण सडक़ पर हलचल बनी रहती है। सडक़ खोदे जाने को लेकर लोगों का कहना है सडक़ की खुदाई करने के बजाय जिला प्रशासन को अवैध धान की आवाजाही रोकने के उपाय करना चाहिए, सुरक्षा की व्यवस्था करना चाहिए न कि सडक़ की खुदाई।। खुदाई के कारण लोगो को आने-जाने में कई परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

नहीं जुड़ पाए अभी तक 250 किसान 
जाम पारा धान खरीदी केंद्र में 35 ग्रामों के किसान धान का विक्रय करते है, इसमे 3 ग्राम ऑनलाइन नहीं दिख रहे है जबकि 3 ग्राम अभी तक जुड़ नही ंपाए है, इन 3 ग्रामो में लगभग 250 किसान ऐसे है जो अब धान बेचने से वंचित रह सकते है। इसमें कंचनपुर, खुटरा पारा और वासुदेवपुर है। हालांकि इन्हें जोडऩे की मांग बीते अकटुबर माह से जारी है परंतु आज तक इन्हें नहीं जोड़ा गया है।

सरकार किसानों के साथ कर रही है छल- प्रदेशाध्यक्ष किसान मोर्चा
भाजपा प्रदेश किसान मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल अपने गृह क्षेत्र खडग़वां के कई धान खरीदी केन्द्र का मुआयना किया, 3 बजे तक कई केंद्रों में बोहनी तक नहीं हो पाई थी, उन्होंने कहा कि सरकार किसानों को छलने का कार्य कर रही है, धान खरीदी केंद्रों पर पर्याप्त व्यवस्था नहीं है, केंद्रों का लक्ष्य भी घटा दिया गया है, समयावधि भी कम कर दी गयी है, कांग्रेस की सरकार हर हाल में किसानों का कम से कम धान खरीदने के लिए तरह तरह हथकंडे अपना रही है।
 


01-Dec-2020 8:08 PM 22

बैकुंठपुर (कोरिया), 1 दिसंबर।  धान खरीदी के पहले दिन कोरिया जिले में 34 समितियों और उपार्जन केंद्रों में 29 में धान खरीदी की बोहनी नहीं हुई, जबकि 5 समितियों में मात्र 364.8 क्विंटल ही धान की खरीदी हो पाई, जबकि आज 4444 क्विंटल धान खरीदा जाना था।धान खरीदी के पहले दिन कोरिया जिले की 18 समितियों में 109 किसानों को कूपन जारी किए गए थे। जिसमें मात्र 11 कूपन लेकर किसान आये, धान खरीदी केंद्र चैनपुर में 1, चिरमी में 4, जाम पारा में 21 कूपन के मुकाबले 1, बरबसपुर में 4 के मुकाबले 2 और रजौली में 3 कूपन से धान की खरीदी हुई, जारी 108 कूपन में से मात्र 11 कूपन लेकर किसान समिति तक पहुंचे। पहले दिन 29 समितियों और उपार्जन केंद्रों में एक दाना धान नहीं आया, सिर्फ समिति प्रबंधकों ने समिति में व्यवस्था को दुरुस्त करते रहे।

पहले दिन धान खरीदी को लेकर जिस तरह की तैयारी प्रशासन ने की थी, उसे देखते हुए काफी संख्या में किसानों का समिति तक  पहुंचना था परंतु ऐसा हुआ नहीं। 29 समिति और उपार्जन केंद्रों तक किसान नहीं पहुंचे, जिसमे  केल्हारी, कोटाडोल, कोड़ा, खडग़वां, कौडिमार, कंजिया, कुवारपुर, गिरजापुर, घुटरा, बंजी, छिंदडाँड़, जनकपुर, जिल्दा, झरनापारा, डोडकी, तरगवां, धौरातिकुरा, पटना, पौड़ी, बैमा, बड़े कलुआ की 2, नागपुर, माड़ीसरई, सरभोंका, सलबा, सिंगरौली, रामगढ़, सोनहत, जहां 1 दाना धान नहीं आया।


30-Nov-2020 4:11 PM 23

कहा स्वामित्य जनपद के पास नहीं है तो कैसे किराया वसूली और बेदखली

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुुंठपुर, 30 नवंबर।
कोरिया जिले के सोनहत जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने 2 दशक से कोरिया रियासत के मालिकाने हक की भूमि पर दुकान बनाकर रोजी रोटी कमा रहे दुकानदारों को किराया नहीं देने पर बेदखली का आदेश जारी कर दिया था, जिसके बाद दुकानदारों ने हाईकोर्ट की शरण ली। कोर्ट ने मामले में स्टे देते हुए कहा कि जब भूमि का स्वामित्य जनपद के पास नहीं है तो कैसे किराया वसूली और बेदखली। हाईकोर्ट के आदेश से पीडि़तों को स्टे मिल जाने से राहत की सांस ली।

मिली जानकारी के अनुसार कोरिया जिले के सोनहत तहसील में वर्ष 2000 में कुछ लोगों द्वारा स्वयं की रकम खर्च कर करीब 19 दुकानें बनाई गयी थी। इस मामले में कुछ माह पहले सोनहत जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने दुकान का किराए मेें बढ़ोतरी कर दी और नहीं देने पर बेदखली का नोटिस भी दुकानदारों को थमा दिया। जनपद सीईओ के इस निर्देश व नोटिस के खिलाफ दो दुकानदारों ने हाईकोर्ट की शरण ली। जिस पर सुनवाई पश्चात स्टे दे दिया गया। 

कोर्ट ने अपने आदेश में बताया कि बनाये कई उक्त दुकानों के भूमि का स्वामित्व जनपद पंचायत के पास नही है ऐसे में वे किस अधिकार के तहत दुकानदारों को नोटिस जारी कर रहा है। वहीं अब दुकानदार उनके द्वारा अब तक जमा की राशि की वापसी के लिए दुबारा कोर्ट का दरवाजा खटखटाने की तैयारी में है।

 


30-Nov-2020 4:10 PM 22

रिसाव बढऩे पर पेट्रोलियम एवं गैस मंत्रालय को दी जाएगी जानकारी 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 30 नवंबर।
रविवार को नलकूप से निकल रही गैस में लगी आग को होमगार्ड के कमांडेंट के साथ जवानों ने सावधानी से बुझा दिया, रात भर वहीं कैम्प कर सुबह कुछ जवान वापस आ गए, वहीं अब आगे 24 घंटे उस स्थान की निगरानी की जा रही है, जहां से गैस का रिसाव के कारण आग लगी थी, यदि उक्त स्थान से गैस का अधिक रिसाव होता है तो फिर इसके लिए पेट्रोलियम एवं गैस मंत्रालय को जानकारी दी जाएगी।

इस संबंध में होमगार्ड के कमांडेट शेखर बोरवनकर का कहना है कि जैसे ही नलकूप से आग निकलने की खबर आई, कलेक्टर के निर्देश पर मेरे साथ हमारे जवान मौके पर पहुंचें, इसके पूर्व ग्रामीणों ने उसे ऐसे ही ढक रखा था, जिसमें से गैस बाहर आ रही थी, जिसके कारण तकनीकी तौर पर उसे बुझा कर उसे बंद करने की कोशिश की है, रात में वहीं हमने कैम्प किया, निगरानी रखी जा रही है, यदि गैस का रिसाव बढ़ता है तो प्रशासन आगे की कार्रवाई करेगा।

रविवार की शाम कोरिया जिले के केल्हारी के पास स्थित ग्राम पंचायत केवटी के बिरौरीडांड के गोठान में खोदे गए नलकूप में से आग की लपटें बाहर आने लगी। यह कई घंटे जारी रहा, बाद में ग्रामीणों ने उसे बुझाने का प्रयास भी किया, बावजूद इसके गैस तेजी से बाहर आ ही रही थी। इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई, जिसके बाद प्रशासन हरकत में आया और होम गार्ड के 3-3 अग्निशमन वाहन मौके पर रवाना किया गया। जिसके बाद टीम ने पहुंचकर आग पर काबू पाया, और रात भर  वहीं रूक कर गैस के रिसाव का पता लगाया, सुबह तक रिसाव की कमी आने के बाद कुछ जवान वापस बैकुंठपुर आ गए, वहीं कुछ गैस रिसाव पर निगरानी रखे हुए है।

मिथेन गैस को लेकर हो चुका है सर्वे
कोरिया जिले में वर्ष 2008 में मिथेन गैस को लेकर सर्वे हो चुका है, जिसके लिए देश की एक निजी कम्पनी कई माह सोनहत के रामगढ़ और दूसरे क्षेत्रों में डेरा डाले रहे, कई तरह के प्रयोग भी किए गए, सर्वे के लिए पहुंचे दल ने गैस के माध्यम से जहां उनका कैम्प था, वहां रौशनी के साथ खाना तक पकाया करते थे। परन्तु जिस मात्रा में मिथेन गैस का भंडार होना था वो नहीं पाया गया, जिसके कारण उक्त सर्वे को वहीं बंद कर दिया गया।

कोयले की खदानों के आसपास होती है गैस
कोरिया और मप्र का पड़ोसी अनूपपुर जिले में कोयले का प्रचुर भंडार है, जिसके कारण गैस का रिसाव प्राय: देखा गया है। जानकारों की माने प्रदीपक गैसों में पहली गैस कोयला गैस है, कोयला गैस कोयले के कार्बनीकरण से प्राप्त होती है। पूरे जिले मेें ही कोयले के भंडार है तो फिलहाल कोयले की गैस बताया जा रहा है, हालांकि गैस को लेकर अभी किसी तरह की अधिकारिक पुष्टि प्रशासन ने नहीं की। नलकूप से निकली आग की लपटे उस ओर इशारा करती है, ये उच्च स्तरीय जांच से ही पता चल पाएगा।
 


30-Nov-2020 1:03 PM 33

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 30 नवंबर।
सूरजपुर वन मण्डल क्षेत्र से 7 सदस्यीय हाथियों का दल कोरिया वन मण्डल के वन परिक्षेत्र खडग़वां होते हुए बैकुण्ठपुर वन परिक्षेत्र में पहुंच गया है। फिलहाल दल सोनहत आनंदपुर के जंगल में डेरा डाले हुए है। इसकी जानकारी होने पर हाथी प्रभावित क्षेत्र में संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव पहुंच कर लोगों से मुलाकात की और हाथियों से किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं करने की सलाह दी गयी, साथ ही मौके पर उपस्थित वन अमले को आवश्यक निर्देश भी दिए।  

जानकारी के अनुसार 27 नवंबर की रात में हाथियों का दल सूरजपुर वन मण्डल क्षेत्र से होते हुए कोरिया वन मण्डल के खडग़वां वन परिक्षेत्र के सीमावर्ती ग्राम इंदरपुर में सात हाथियों का दल प्रवेश किया। इसके बाद हाथियों का दल खंदौरा बीट में पहुंच कर उसी क्षेत्र में दूसरे दिन 28 नवंबर को विचरण करने की जानकारी मिली थी। इसी दिवस की रात्रि में हाथियों का सात सदस्यीय दल बैकुंठपुर वन परिक्षेत्र के  सलका बीट के कक्ष क्रमांक 481 क्षेत्र में पहुंच गया। 29 नवंबर को हाथियों का दल सलका बीट के कांदाबादी के जंगलों में विश्राम करते पाये गए और आज 30 नवंबर को दल सोनहत के आनंदपुर के जंगल में पहुंच गए है। वन विभाग का अमला दिन रात हाथियों की निगरानी में जुटा हुआ है।
 
उल्लेखनीय है कि हाथियों का दल प्रतिवर्ष सलका के निकट कांदाबादी के जंगलों में पहुंचते हंै। इसके पूर्व भी हाथियों का दल कांदाबारी के जंगलों में पहुंचा था और कई दिनों तक इसी क्षेत्र के जंगल में विचरण करते रहे, वहीं रात्रि के समय नजदीकी गांव क्षेत्र में हाथियों का दल पहुंच जाता था और फसलों व ग्रामीणों के घरों केा नुकसान पहुंचाता रहा है। एक बार फिर वन रेंज बैकुठपुर के कांदाबारी के जंगलों में हाथियों का दल पहुंचने की खबर के बार ग्रामीणों में दहशत है।

ज्ञात हो कि कटघोरा वन मण्डल क्षेत्र से हाथियों का 45 सदस्यीय दल कोरिया वन मंडल के वन परिक्षेत्र खडग़वां के पोड़ी बीट क्षेत्र में कई दिनों तक फसलों को रौंदने चट करने के साथ पशुओं को घायल व मृत कर दिया था और कई ग्रामीणों के मकानों केा भी तोडफ़ोड़ की गयी थी। खडग़वां क्षेत्र में हाथियों का  45 सदस्यीय दल एक पखवाड़े से ज्यादा समय तक विचरण करते रहे और जमकर इस क्षेत्र में उत्पात मचाने के बाद कोरबा जिले की सीमा क्षेत्र में चले गये जिसके बाद क्षेत्र के ग्रामीणों ने राहत की सांस ली। इसके बाद फिर अब बैकुण्ठपुर वन परिक्षेत्र में सूरजपुर वन मण्डल क्षेत्र से हाथियों का  7 सदस्यीय दल पहुंच गया है।


28-Nov-2020 8:35 PM 29

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 28 नवम्बर। पुलिस ने नाबालिग को बहलाकर भगा ले जाने और बलात्कार किए जाने के मामले में आरोपी के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। आरोपी फरार है, जिसकी पुलिस तलाश कर रही है।

थानांतर्गत निवासी व्यक्ति ने पुलिस थाना पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि 26 नवंबर की शाम उसकी नाबालिग बेटी घर से बाहर कचरा फेंकने गई थी, तभी आरोपी सलमान उर्फ पप्पा बहला-फुसलकर उसे अपने साथ भगा ले गया और उसके साथ बलात्कार किया है। परिजनों द्वारा नाबालिग की खोजबीन की जा रही थी, इस बीच आरोपी द्वारा नाबालिग को मौहारपारा नाला के उस पार छोडक़र भाग गया। नाबालिग के बयान और मेडिकल के उपरांत पुलिस द्वारा आरोपी के खिलाफ धारा 363, 366, 376 व 4, 6 पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है।


28-Nov-2020 7:02 PM 23

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर, 28 नवंबर। कांग्रेस सरकार और संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव के कार्य से प्रभावित होकर भाजपा के पूर्व मंडल महामंत्री के साथ 150 लोगों ने कांग्रेस में प्रवेश किया। जिसमें काफी संख्या में युवा शामिल रहे।

इधर, कुछ लोगों के भाजपा छोडे जाने को लेकर सोशल मीडिया में कई तरह की प्रतिक्रिया सामने आने लगी।  भाजपा का कहना है कि रोजी रोटी के डर के कारण कुछ लोगों ने कांग्रेस प्रवेश किया है। वो कांग्रेस की उपलब्धि नहीं है।

कांग्रेस के जिला अध्यक्ष नजीर अजहर के साथ संसदीय सचिव अम्बिका सिंहदेव ने पअना क्षेत्र के विजय सिंह साथ नरेश कुमार, बुधलाल, गिरजा शंकर, नवीन कुमार, श्यामलाल, संत कुमार त्रिवेणी कुमार, हीरालाल, रामकुमार, गोकुल प्रसाद, नरेंद्र कुमार, गोपाल राजवाड़,े विशाल कुमार, जयप्रकाश यादव, विजय कुमार बघेल, दिनेश कुमार, उमेश कुमार, उमेश देवांगन, शीतला प्रसाद, नानूराम, परमेश्वर, जगराम, साधुराम, रामसुंदर, रामेश्वर प्रसाद, प्रेम शंकर, हरि सिंह, राधेश्याम, फराज खान, रामरूप सिंह, सोमार साय, मोहित राम, रंगलाल, जेठू राम,  गोरेलाल, संपत सिंह, अर्जुन सिंह, रामसाय, बृजमोहन, रामगोपाल, राकेश कुमार, सुकुल राम, पीर खान, हीरालाल, संत कुमार, उमेश कुमार कसे कांग्रेस में प्रवेश करवाया। इस अवसर पर  सांसद प्रतिनिधि प्रदीप गुप्ता, बृजवासी तिवारी, सुरेंद्र तिवारी, अरुण साहू, अजय सिंह, आशा महेश साहू, आशीष डबरे, राम कृष्ण साहू, मनराखन शर्मा, संतोष तिवारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। कांग्रेस के नेताओंं ने बताया कि भूपेश बघेल और संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव के कार्यो से प्रभावित होकर 150 लोगों ने कांग्रेस में प्रवेश किया है।

रोजी रोटी के डर से प्रवेश

कांग्रेस में 150 लोगों के प्रवेश पर पटना मंडल के अध्यक्ष कपिल जायसवाल ने सवाल खडे किए है, उनका कहना है कि जिन लोगों ने कांग्रेस में प्रवेश किया उसमें ज्यादातर लोग सोसयटी में देनिक वेतन पर काम करने वाले है जो वर्षो से काम कर रहे थे, सरकार बदली और इन्हें वहां से हटाए जाने का डर सताने लगा, जिसके बाद नेताओं ने विधायक जी से भ्रमित कर उन्हें कांग्रेस में प्रवेश करवा कर वाह वाही लूट रहे है। रोजी रोटी जाने का डर से वो कांग्रेस में गए है, यह सरकार और कांग्रेस की कोई उपलब्धि नहीे है।


28-Nov-2020 6:59 PM 20

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर, 28 नवंबर। कोरिया जिले में मुक्तांजली वाहन बैकुंठपुर और मनेन्द्रगढ़ का काम देख रही है, बीते एक माह से जिला अस्पताल बैकुंठपुर में रात के समय होने वाली मौत पर शव ले जाना मुश्किल हो गया, वहीं सुबह होने पर शव को ले जाने के लिए काफी इंतजार करना पड़ता है, ऐसे में गरीब लोगों को शव ले जाने में काफी परेशानी हो रही है, शव के लिए वे घंटों इंतजार करते देखे जाते है।

इस संबंध में जिला अस्पताल के सीएस डॉ एसके गुप्ता का कहना है कि मुक्तांजली बिगड़ी हुई है, कब तक वो सुधर जाएगी, इसकी जानकारी सीएमएचओ दे पाएंगें, परन्तु एक ही वाहन मनेन्द्रगढ़ और बैकुंठपुर में काम कर रहा है। जल्द सुधरवाने की कोशिश की जाएगी।

कोरिया जिलामुख्यालय स्थित जिला अस्पताल के मेल वार्ड में शुक्रवार की रात 3 मरीजों ने दम तोड़ दिया, एक मरीज लकवा से पीडि़त था दूसरा हार्ट अटैक और तीसरा अन्य कारण से इलाज के दौरान मौत हो गई, वहीं कोडा निवासी शिवनंदन (65) की मौत रात 9 बजे बजे हुई, जिसके बाद परिजनों ने मुक्तांजली वाहन बुलाने कॉल लगाया, तो उन्हें सुबह तक इंतजार करने को कहा गया, पता लगाने पर मालूम पडा कि रात के समय में जिला अस्पताल से मुक्तांजली वाहन नहीं मिल पाती है, क्योंकि एक वाहन की मनेन्द्रगढ़ और बैकुंठपुर में अस्पताल में होने वाली मौत के शवों को छोडऩे जाती है, जिसके बाद शनिवार को सुबह मृतक के परिजनों ने स्वयं का वाहन करके शव को लेकर गए।

 इधर, जिला अस्पताल में हर दिन इलाज के दौरान कोई ना कोई मरीज की मौत होती है, जिसके बाद जो आर्थिक रूप से मजबूत है वो शव को निजी वाहन में ले जाते है। जबकि गरीब लोगों को मनेन्द्रगढ़ से आने वाली मुक्तांजली वाहन का लंबा इंतजार करना पड़ता है। 

गौरतलब है कि मौत होने पर शव का घर तक पहुंचाने के उद्देश्य से भाजपा सरकार ने मुक्तांजली वाहन की शुरूआत की, इस वाहन से शव को ले जाने के लिए परेशन परिजनोंं को काफी राहत मिला करती है। परन्तु बीते एक माह से जिला अस्पताल बैकुंठपुर की मुक्तांजली वाहन खराब हो जाने के कारण मनेन्द्रगढ़ के वाहन को दोनों स्थानों का काम देखना पड़ रहा है।

खड़ी हाईड्रा जा घुसी थी मुक्तांजली

बीते एक माह पूर्व ओडग़ी नाका पर सडक़ किनारे खड़ी हाईड्रा वाहन में मुक्तांजली वाहन जा घुसी थी, जिसके बाद उसे दुरूस्त करने का काम बैकुंठपुर के एक गैरेज में जारी है, दुर्घटना के समय चालक को काफी चोंटे भी आई थी। तब से मनेन्द्रगढ़ की मुक्तांजली वाहन बैकुंठपुर को भी काम देख रही है, बताया जा रहा है कि एक हफ्ते में उक्त वाहन ठीक हो जाएगी।


28-Nov-2020 6:50 PM 19

मनेन्द्रगढ़, 28 नवम्बर। सविप्रा उपाध्यक्ष विधायक गुलाब कमरो ने नगर पंचायत नई लेदरी में 28 लाख 73 हजार के विकास कार्यों का भूमिपूजन किया। विधायक ने वार्ड क्र. 1 स्थित माँ दुर्गा मंदिर में पूजा-अर्चना कर क्षेत्र में सुख-समृद्धि, उन्नति प्रगति और खुशहाली की कामना कर विकास कार्यों की आधार शिला रखते हुए 18 लाख 83 हजार की लागत से नगर पंचायत नई लेदरी के विभिन्न वार्ड क्रमांक 1, 2, 3, 4, 7, 9 एवं 14 में पाईप लाईन विस्तार कार्य तथा 9 लाख 90 हजार की लागत से सांस्कृतिक भवन के पास फुटपाथ निर्माण कार्य का भूमि पूजन किया।  इस अवसर पर नगर पंचायत अध्यक्ष सरोज यादव, उपाध्यक्ष इंद्र कुमार पटेल, महिला कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष सुचित्रा दास, महामंत्री शमीना खातून सहित पार्षद व नगर पंचायत के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।


26-Nov-2020 6:10 PM 16

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान

छत्तीसगढ़ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 26 नवम्बर।
देवउठनी एकादशी के पर्व पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान कोरिया ने अद्वितीय मिसाल पेश की है। अभियान के प्रदेश सह संयोजक के विशेष मार्गदर्शन एवं जिला संयोजक जया कर के नेतृत्व में कोरिया संगठन ने एक अनाथ बेटी जिसके माता-पिता दोनों नहीं हैं, ऐसी संघर्षरत बेटी का दुर्गा मंदिर लेदरी में हिन्दू रीति-रिवाज से वैवाहिक कार्यक्रम संपन्न कराकर बिटिया का घर बसाने का पुनीत कार्य किया है।

उल्लेखनीय है कि इसके पूर्व बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत शारदीय नवरात्र पर माता स्वरूपा कन्याओं को कन्या भोज करवाया गया था। जिला संयोजक जया कर ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के सदस्यों के सहयोग से निरंतर हो रहे प्रेरणादायी, सामाजिक कार्यों के लिये संगठन के सदस्यों का आभार व्यक्त कर खुशी जतायी है। 

जिला पंचायत अध्यक्ष रेणुका सिंह ने ऐसे पुण्य कार्यों को समाज के लिये प्रेरणादायी संदेश बताया। उन्होंने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के सभी कार्यों में हिस्सा बनने की बात कह संगठन का मनोबल बढाया। 
इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष रेणुका सिंह, जिला संयोजक जया कर सहित सुनीता शर्मा, सभाजीत यादव, अर्चना, उर्मिला, रेखा बोराल, सरोज यादव नगर पंचायत अध्यक्ष, मीनू पटेल, मीरा यादव, ममता और मनीष सिंह आदि उपस्थित रहे।
 


26-Nov-2020 6:07 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 26 नवम्बर।
भारतीय संविधान दिवस के अवसर पर जनपद सभाकक्ष में सविप्रा उपाध्यक्ष विधायक गुलाब कमरो ने संविधान निर्माता बाबा साहब अम्बेडकर के छायाचित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया।
विधायक ने जनपद पंचायत कर्मचारियों को सम्पूर्ण प्रभुत्व-संपन्न, समाजवादी, पंथ-निरपेक्ष, लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए तथा उसके समस्त नागरिकों को सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक, न्याय, विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, धर्म और उपासना की स्वतंत्रता, प्रतिष्ठा और अवसर की समता प्राप्त कराने के लिए तथा उन सबमें व्यक्ति की गरिमा और राष्ट्र की एकता व अखंडता सुनिश्चित करने शपथ दिलाई। इस अवसर पर जनपद अध्यक्ष डॉ. विनय शंकर सिंह, सीईओ एके निगम, नपा उपाध्यक्ष कृष्णमुरारी तिवारी, जनपद सदस्य कविता दीवान सहित जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।
 


26-Nov-2020 6:04 PM 11

मनेन्द्रगढ़, 26 नवम्बर। जिला जेल व उप जेल में संदर्शक के रूप में अधिवक्ता राजेंद्र तिवारी व पूर्व पार्षद अभिषेक वर्मा की नियुक्ति की गई है। 
अधिवक्ता तिवारी व पूर्व पार्षद वर्मा काफी समय से कांग्रेस से जुड़े कार्यकर्ता हैं। कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि इससे जेल के संचालन में सहयोग मिलेगा। नवनियुक्त जेल संदर्शकों का कहना है कि जिस उद्देश्य से हमें जिम्मेदारी दी गई है, उसका हम कत्र्तव्यनिष्ठा से संचालन करेंगे। 

अधिवक्ता तिवारी एवं वर्मा को जेल संदर्शक नियुक्त किए जाने पर सविप्रा उपाध्यक्ष गुलाब कमरो, नपाध्यक्ष प्रभा पटेल, वरिष्ठ नेता रमेश सिंह, सांसद प्रतिनिधि राजकुमार जैन, नपा उपाध्यक्ष कृष्णमुरारी तिवारी, जिला महामंत्री अधिवक्ता रामनरेश पटेल, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष राजेश शर्मा आदि ने उन्हें बधाई देते हुए पूरी कत्र्तव्यनिष्ठा के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करने की उम्मीद जताई है। 
 


24-Nov-2020 7:08 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 24 नवम्बर। सोमवार को आजाक प्राथमिक शाला की प्रधानपाठिका सरला मिंज ने मनेंद्रगढ़ एसडीएम से शाला परिसर में अतिक्रमण की नामजद शिकायत करते हुए शाला परसिर की भूमि का सीमांकन कराकर परिसर को अतिक्रमणमुक्त कराए जाने की मांग की है। शिकायत की कॉपी विकासखंड शिक्षाधिकारी मनेंद्रगढ़ एवं तहसीलदार को भी सौंपी गई है।

ज्ञात हो कि शहर के मौहारपारा इलाका वार्ड क्र. 4ं शासकीय प्राथमिक शाला स्थित है, लेकिन यह सरकारी स्कूल दिनों-दिन अतिक्रमण की भेंट चढ़ता जा रहा है। करीब दो साल पहले बेजा कब्जाधारी ने उक्त स्थल पर पहले प्लास्टिक की पन्नी लगाकर अपना कब्जा जमाया बाद में धीरे-धीरे उसके द्वारा निर्माण कार्य भी करा लिया गया। स्कूल परिसर के प्रवेश द्वार के सामने दीवाल खड़ी कर गौशाला का निर्माण कर लिया गया जिससे गोबर आदि से विद्यालय के समक्ष गंदगी का वातावरण बना रहता है। शाला द्वार पर ठेला भी रख लिया गया है। इतना ही नहीं शाला परिसर के भीतर मध्यान्ह भोजन शेड के पास भी शाला भूमि में अतिक्रमण कर लिया गया है। रविवार को दिन-दहाड़े स्कूल परिसर में टिन की शीट लगाकर अवैध शेड का निर्माण कर लिया गया है।

प्रधानपाठिका ने कहा कि मौहारपारा निवासी कमला पांडेय के द्वारा विद्यालय परिसर के प्रवेश द्वार के सामने गौशाला का निर्माण कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में विद्यालय में बच्चे नहीं आ रहे हैं, लेकिन जब बच्चे पढऩे के लिए आएंगे तो वातावरण दूषित होने से अध्ययन-अध्यापन कार्य प्रभावित होगा। प्रधानपाठिका ने यह भी बताया कि उनके द्वारा पूर्व में तत्कालीन एसडीएम आरपी चौहान से भी अतिक्रमण की शिकायत की गई थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।


24-Nov-2020 6:57 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 24 नवम्बर। मितानिन दिवस के अवसर पर सविप्रा उपाध्यक्ष एवं भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरो ने मितानिनों को साड़ी व श्रीफल भेंटकर उनका सम्मान किया। विधायक ने जनपद सभाकक्ष मनेंद्रगढ़, नगर पंचायत खोंगापानी, ग्राम पंचायत घुटरा एवं डुगला में पहुंचकर मितानिन बहनों को सम्मानित किया।

मितानिनों का सम्मान करते हुए विधायक कमरो ने कहा कि आप सभी के परिश्रम से स्वास्थ्य की प्राथमिक सुविधाओं का लाभ जरूरतमंदों को प्राप्त हो रहा है। आप सभी का सम्मान हमारी प्राथमिकता है।

 उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं में मितानिन बहनों का योगदान ईश्वर का वरदान है, उनके समर्पण भाव से ही आज क्षेत्र का भविष्य सुरक्षित एवं स्वस्थ है। वहीं जनपद अध्यक्ष डॉ. विनय शंकर सिंह ने कहा कि मितानिन बहनों का सम्मान करके हम अपने आपको सम्मानित महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मितानिन बहनें नि:स्वार्थ भाव से गर्भवती महिलाओं एवं शिशु की देखभाल करती हैं। इनकी सेवाएं प्रशंसनीय हैं।

जनपद सभाकक्ष में जिला पंचायत सभापति ऊषा सिंह, एसडीएम नयनतारा तोमर, नपा उपाध्यक्ष कृष्णमुरारी तिवारी, जिला महामंत्री रामनरेश पटेल, जनपद सदस्य लक्ष्मी सिंह, सरपंच डुगला, केंवटी, डिहुली, बिरौरीडांड़ सहित रोजगार सहायक, सचिव एवं ग्राम पंचायत घुटरा में मितानिन बहनों के सम्मान समारोह के अवसर पर सरपंच सुशीला बाई, बाबूराम, सुनील राय सहित मितानिन बहनें व ग्रामीण जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।


23-Nov-2020 5:49 PM 13

4 दिन से जारी सर्चिग और कड़ी पूछताछ हुई पूरी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोरिया, 23 नवंबर।
कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ वनमंडल से 3 और मप्र का 1 आरोपी के पास से तेंदुए की 1 खाल बरामद हुई, कडी पूछताछ के बाद एक खाल और बरामद करने में स्टेट टाईगर स्ट्राईक फोर्स, उत्तर वन मण्डल शहडोल की संयुक्त टीम और मनेन्द्रगढ वनमंडल के एसडीओ और कुंवारपुर रेंजर की टीम ने सफलता पाई है।

इस संबंध में मनेन्द्रगढ वनमंडल के कुंवारपुर रेंजर रामसागर कुर्रे का कहना है कि कार्यवाही पूर्ण हो चुकी है, कुल 4 आरोपी और 2 तेंदूए की खाल बरामद की जा चुकी है। बीते 4 दिन से सर्चिग और गांव गांव में आरोपियो के साथी संदेहियों से पूछताछ की गई, सभी आरोपियों को एसटीएफ को सौप दिया गया है। नए सिरे से गांव गांव मेें ऐसे मामले ना हो इसके लिए रणनीति तैयार की गई है।

मध्यप्रदेश में हुई बडी कार्यवाही के बाद कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ वन मंडल के कुंवारपुर परिक्षेत्र बीते 4 दिन से वन विभाग का पूरा अमला सर्चिंग में लगा हुआ था, आज आरोपियों और संदेहियों से पूछताछ और छापेमारी का कार्य पूर्ण हो गया, 3 के अलावा और कोई आरोपी पूछताछ में सामने नहीं आ पाया। इस पूरे खाल की तस्करी का मुख्य मास्टर माइंड मुख्य आरोपी कोटाडोल रामप्रसाद निकला। मुख्य आरोपी रामप्रसाद का ससुराल सगरा में है, उसके साथ महाबीर और रामकिशोर ने पहली घटना बरसात के समय की, एक तेंदूए को मनेन्द्रगढ वनमंडल के बहरासी रेंज के कक्ष क्रमांक 1046 में मारा और उसकी खाल को सूखा के रख लिए, वहीं दूसरी घटना आरोपियों द्वारा कोरिया वनमंडल के कोटाडोल परिक्षेत्र में 1 तेंदूआ को मार कर किए। इसकी भी खाल को सूखा कर अपने पास रख रहे। इसके बाद मप्र के सीधी जिले के एक व्यक्ति से संपर्क कर खाल को बेचने की तैयारी के साथ 1 खाल लेकर गए, जहां वो एसटीएफ के हत्थे चढ गए, जिसके बाद आरोपियों से कडी पूछताछ के बाद 1 खाल और बरामद करने में सफलता हाथ लगी। कोरिया जिले से तीेनों पकडे गये आरोपियों को मप्र के एसटीएफ के सुपुर्द कर दिया गया। संभवत: कल पकडे गये सभी आरोपियों को मप्र के सतना जिले में स्थित स्टेट टाईगर स्ट्राईक फोर्स की विशेष न्यायालय में पेश किया जायेगा। पकडे आरोपियों के विरूद्ध आवश्यक धाराओ के तहत मामला दर्ज कर कार्यवाही की जा रही है।

पकडधकड़ से क्षेत्र में दहशत
दो परिक्षेत्रों में दो तेदूआ को मार कर खाल के साथ पकडाए आरोपियों को लेकर वन विभाग ेकी कार्यवाही से जनकपुर के आसपास वन क्षेत्रों में काफी दहशत का माहौल है, आरोपियों और संदेहियों से कडी पूछताछ के बाद अवैध शिकार कों लेकर ग्रामीण डरे हुए हैं। कुंवारपुर परिक्षेत्र के रेंजर के साथ उनका अमला बीेते 4 दिनों में दर्जनों लोगों से इस संबंध में पूछताछ के साथ आरोपियों के घरों में छापेमारी भी की, जिससे ग्रामीणों में अवैध शिकार की गतिविधि करने वन अधिनियम के तहत कडे कानूनों को लेकर भय देखा जा रहा है।  

शिकार रोकने रणनीति तय
कोरिया जिले में सबसे ज्यादा संख्या में वन्य जीवों में तेंदूआ पाया जाता है, 2-2 तेंदंूए की खाल बरामद होने के बाद विभाग के कान खडे हो गए है, कही ना कही विभागीय लापरवाही ही इसकी बडी वजह बताई जा रही है, जिसके बाद अब शिकार रोकने के लिए नए सिरे से रणनीति बनाई जा रही है, गांव गांव में ऐसे संदेहियों की पूरी सूची तैयार की जा रही है साथ ही अवैघ शिकार ना हो इसके लिए ग्रामीणों को जागरूक करने की योजना पर काम किया जा रहा है।
 


Previous123456Next