छत्तीसगढ़ » कोरिया

Previous123456789...4041Next
18-Oct-2021 8:09 PM (20)

सांकेतिक धरना-प्रदर्शन की चेतावनी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
चिरमिरी, 18 अक्टूबर।
एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र में कोयले के भंडारों का सही ढंग से दोहन करने हेतु नवीन खदानों का सर्वे कार्य कराया जाकर उन्हे संचालित किए जाने को लेकर भाजपा चिरमिरी मंडल के द्वारा केंद्रीय कोयला मंत्री भारत सरकार के नामपत्र एसईसीएल मुख्य महाप्रबंधक चिरमिरी को सौंपा।

ज्ञापन में उल्लेखित करते हुए केंद्रीय कोयला मंत्री से आग्रह किया गया है कि एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र यहां के स्थायित्व व बसाहट को विरान होने से बचाने के साथ ही नवीन खदानों के सही और उचित संचालन के लिए कार्ययोजना तैयार करने के साथ ही 5 दिवस के भीतर एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र द्वारा भाजपा चिरमिरी मंडल को जानकारी देने की बात कही गयी है। अन्यथा 22 अक्टूबर को भाजपा चिरमिरी मंडल के द्वारा सांकेतिक धरना प्रदर्शन किए जाने की बात कही गई है।

गत दिवस भाजपा चिरमिरी मंडल के प्रतिनिधि मंडल, जिसमें भाजपा किसान मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल, भाजपा मंडल अध्यक्ष रघुनंदन यादव, पूर्व सभापति किर्तीवासो राउल, नेता प्रतिपक्ष संतोष कुमार सिंह, महिला मोर्चा मंडल अध्यक्ष रानी गुप्ता, पूरन जयसवाल, उपेन्द्र सिंह, तेजनारायण सिंह, मनोज डे, गोमती दिवेदीे ने मुख्य महाप्रबंधक एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र से मुलाकात कर केंद्रीय कोयला मंत्री के नाम से ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया है कि एसईसीएल बिलासपुर मुख्यालय अंतर्गत आने वाले चिरमिरी क्षेत्र में कोयला प्रचूर मात्रा में उपलब्ध है, किंतु उसका सही ढ़ंग से दोहन न हो पाने के कारण चिरमिरी की काफी खदानें बंद होती जा रही है। भाजपा चिरमिरी मंडल के द्वारा जो जानकारियां एकत्रित की गई है, उसके अनुसार अभी आने वाले 30-40 सालों तक के लिए खदानें संचालित होना संभावित नजर आता है। लेकिन किन्ही कारणों वश खदानों को बंद किए जाने की क्षेत्र व राष्ट्रहित में गलत है। वेस्ट चिरमिरी कॉलरी में पूर्व के मुख्यमहाप्रबंधक व अन्य अधिकारियों के द्वारा सिम नंबर 4 व 5 में खुली खदान के माध्यम से कोयला निकालकर सिम नंबर 5 से लगभग 30 साल चलने वाली अंडर ग्राउंड खदान की कार्य योजना बनाई थी लेकिन सिम नंबर 4 में कार्य के दौरान ठेकेदार के द्वारा काम छोड़ देने के बाद चिरमिरी एरिया के पूर्व मुख्यमहाप्रबंधक व अन्य अधिकारियों के द्वारा साजिश के तहत वेस्ट चिरमिरी कालरी को बंद करने का प्रयास किये जाने की चर्चा आम है।

चिरमिरी क्षेत्र के एनसीपीएच कॉलरी की अंडर ग्राउंड खदानों में प्रचुर मात्रा में कोल भंडार होने के बावजूद गलत ढंग से खनन कार्य करने के बाद कुछ बाधाओं के कारण माइंस को बंद करने का प्रयास किया गया है जबकि यहां की माइंस में आ रही व्यवधानों को दूर करने का प्रयास किये जाने से कम से कम 25 सालों तक यहां की अंडर ग्राउंड खदानों से कोयला उत्पादन हो सकता है। एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र के कुरासिया कॉलरी में प्रचुर मात्रा में खुली खदान चलाने व भूमिगत खदान चलाने के लिए कोयला होने के बाद भी संचालित हो रही खुली खदान को साजिश के तहत बंद कर दिया गया। वहीं पर भूमिगत खदान में पानी भरने के बाद सही रूप से पानी निकालने का प्रयास नहीं करने के बाद इस खदान को भी बंद करने की कोशिश की जा रही है, कुरासिया खदान में छोड़े गए कोयला व सीम नंबर 4 व 5 का यदि सही रूप से दोहन किया जाता है, तो कम से कम 20 वर्षों तक यहां खुली खदान का संचालन किया जा सकती है।
एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र की महत्वपूर्ण खदान चिरमिरी खुली खदान परियोजना के आसपास बड़ी मात्रा में कोयला भंडार मौजूद होने के बाद उसे निकालने हेतु सही कार्य योजना नहीं बनाने के साथ ही साथ एसईसीएल के पुराने व उपयोगविहीन मकानों को नहीं हटाने के चलते यह खदान भी कभी भी बंद हो सकती है। इस खदान के संचालन में एसईसीएल के उपयोगविहीन मकानों व खाली पड़े जमीनों का उपयोग करके इस खुली खदान को कम से कम 10-15 साल के लिए आसानी से संचालित किया जा सकता है।
एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले कोरिया कॉलरी, नार्थ चिरमिरी व डोमनहिल की भूमिगत खदानों में बड़ी मात्रा में कोयला होने के बाद भी पूर्व के अधिकारियों द्वारा गलत संचालन करते हुए खदान को समय से पहले ही बंद करके राष्ट्र को क्षति पहुंचाई गई है, जबकि जानकारों के अनुसार इन खदानों में आ रही कुछ बाधाओं का सही निराकरण किया जाता तो इन खदानों की आयु 15-20 साल और आराम से बढ़ सकती थी। एसईसीएल चिरमिरी एरिया अंतर्गत लक्ष्मणझरिया, भंडारदेई-भुकभुकी खदानों के संचालन हेतु केंद्रीय वन मत्रालय व भारत के राजपत्र में भी स्वीकृति होने की जानकारी मिली है। प्रचुर मात्रा में उच्च कोटि का कोल भंडार मौजूद है। एसीसीएल व चिरमिरी एरिया प्रबंधन इन स्थलों में सर्वेक्षण कार्य को प्राथमिकता नहीं देकर कोयला नहीं है। व्यापक कार्ययोजना बनाई जाए, तो यहां कम से कम 25-50 वर्षों के लिए बड़ी मात्रा में उच्च कोटि कोयला मिल सकता है जिससे चिरमिरी क्षेत्र को स्थायित्व प्राप्त हो सकेगा।

ज्ञापन में उल्लेखित करते हुए केंद्रीय कोयला मंत्री से आग्रह किया गया है कि एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र यहां के स्थायित्व व बसाहट को विरान होने से बचाने के साथ ही नवीन खदानों के सही और उचित संचालन के लिए कार्ययोजना तैयार करने के साथ ही 5 दिवस के भीतर एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र द्वारा भाजपा चिरमिरी मंडल को जानकारी देने की बात कही गयी है।
अन्यथा 22 अक्टूबर को भाजपा चिरमिरी मंडल के द्वारा सांकेतिक धरना प्रदर्शन किए जाने की बात कही गई है।
 


18-Oct-2021 7:26 PM (16)

डिप्टी कलेक्टर अरुण कुमार सोनकर बनाए गए प्रथम एसडीएम

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेंद्रगढ़, 18 अक्टूबर।
सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष भरतपुर सोनहत विधायक गुलाब कमरों ने केल्हारी में एसडीएम कार्यालय खुलवाकर दीपावली के पहले एक बड़ी सौगात दी है। केल्हारी में अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) कार्यालय के लिए प्रथम एसडीएम डिप्टी कलेक्टर अरुण कुमार सोनकर बनाए गए हैं।

विधायक गुलाब कमरो ने केल्हारी को उपखंड (अनुविभाग) का दर्जा दिलाने का जो वादा किया था। वह पूरा कर अपना वादा निभाया है। विधायक गुलाब कमरों कुछ दिन पहले ही प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मिलकर केल्हारी में एसडीएम कार्यालय खोलने की मांग की थी। जिस मांग पर तत्परता दिखाते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केल्हारी को एसडीएम कार्यालय की सौगात दे दी है।

शासन के निर्देशानुसार कोरिया कलेक्टर एक आदेश जारी कर प्रशासनिक कसावट को ध्यान में रखते हुए केल्हारी तहसील को अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) कार्यालय का दर्जा देते हुए प्रथम एसडीएम के रूप में डिप्टी कलेक्टर अरुण कुमार सोनकर की पदस्थापना की है। केल्हारी में एसडीएम कार्यालय खुलने से केल्हारी क्षेत्रवासियों में हर्ष का माहौल है और इस बड़ी सौगात के लिए केल्हारी क्षेत्रवासियों ने विधायक गुलाब कमरों एवं छत्तीसगढ़ शासन के मुखिया भूपेश बघेल के प्रति अपना आभार प्रगट किया है।

विधायक गुलाब कमरो ने अपने विधायकी  काल में केल्हारी को सबसे पहले पूर्ण तहसील का दर्जा दिलाया उसके बाद नवीन तहसील भवन के लिए राशि उपलब्ध कराई और अब अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) कार्यालय खुलवाकर एक बहुत बड़ी सौगात केल्हारी क्षेत्रवासियों को दी है। अब केल्हारी क्षेत्र के  30 - 35 ग्रामों के ग्राम वासियों को राजस्व के मामलों के लिए एसडीएम कार्यालय मनेंद्रगढ़ नहीं आना पड़ेगा और स्थानीय स्तर पर ही राजस्व के मामलों का निपटारा हो सकेगा।

उल्लेखनीय है कि जब से विधायक गुलाब कमरो विधायक के रूप में निर्वाचित होकर सामने आए हैं। तब से उनके द्वारा भरतपुर सोनहत विधानसभा क्षेत्र का तेज गति से लगातार विकास किया जा रहा है। क्षेत्र की जनता को एक से बढक़र एक सौगात दी जा रही है।

विधायक गुलाब कमरों ने केल्हारी तहसील को एसडीएम कार्यालय का दर्जा प्रदान किए जाने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, सांसद ज्योत्सना महंत, प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू के प्रति आभार व्यक्त कर धन्यवाद ज्ञापित किया है।
 


18-Oct-2021 6:25 PM (26)

चेक वापस कर सूची से नाम हटाने की कलेक्टर से मांग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया) 18 अक्टूबर।
जनप्रतिनिधियों द्वारा स्वेच्छानुदान व जनसंपर्क निधि को नियम विरूद्ध बांटने का मामले कोरिया जिले में पुराना है और नियम विरूद्ध तरीके से उक्त निधि की राशि बांट कर सुर्खिया बटोरने में निर्वाचित जनप्रतिनिधि पीछे नहीं रहते। भाजपा के पूर्व मंत्री ने जो किया था तो अब वर्तमान विधायक भी पीछे कैसे रह सकते है। वहीं बिना मांगे मिले चेक से हैरान पत्रकारों ने कलेक्टर को चेक वापस कर सूची से नाम कटवाने की मांग की है।

वहीं विधायक विनय जायसवाल अब कह रहे हैं कि यह उनका अधिकार है कि अपने निधि की राशि किसको भी दे। इसमें गलत क्या है पत्रकारों की भी जरूरत बताया। वहीं  प्रदेश किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व विधायक श्याम बिहारी जायसवाल का कहना है कि सरकारी पैसे से मीडिया में अपना चेहरा चमकाने का प्रयास विधायक द्वारा किया जा रहा है, जो कि नियमविरूद्ध है। इसे सरकारी राशि का बंदरबांट कहा जा सकता है।

मनेन्द्रगढ़ विधायक विनय जायसवाल बीते दो दिन से सोशल मीडिया में ट्रेंड हो रहे है। इस बार मामला पत्रकारों को स्वेच्छानुदान राशि के तहत चेक देने का है। दरअसल, मनेन्द्रगढ विधायक हाल में दशहरा मिलन समारोह आयोजित अपने जनसंपर्क व स्वेच्छानुदान की राशि गरीबों व जरूरतमंदों को न देकर कई दर्जन पत्रकारों को राशि वितरित कर दी।
पत्रकारों को तो बात समझ नहीं आई, जिन्हें चेक मिला वो हैरान थे, कुछ तो सामने कुछ नहीं कह पाए और कुछ ने तत्काल वापस कर दिया। जो मौके पर नहीं थे उन्हें भी बताया गया कि आपके नाम से भी चेक जारी किया गया है।
 पत्रकारों को हैरानी इस बात से थी कि उन्होंने ऐसी कोई मांग की ही नहीं थी। वहीं कुछ चेक मिलने के बाद कुछ नहीं कह पाए वो जानते थे कि यहां चेक वापस भी कर देगें तो स्वेच्छानुदान की सूची से तो नाम गायब नहीं होगा, ऐसे पत्रकारों ने कलेक्टर को आवेदन के साथ चेक देकर स्वेच्छानुदान की सूची से अपना नाम कटवाने की मांग की है।
जानकारी के अनुसार मनेंद्रगढ विधायक डॉ विनय जायसवाल ने करीब 60 पत्रकारों को पांच पांच हजार रूपये की राशि का चेक प्रदान किया।

जरूरतमंद है उपहार में दिया
डॉ विनय जायसवाल द्वारा मीडिया में बताया कि यह उनका अधिकार है कि वो अपनी निधि की राशि किसे दें। उन्होंने कहा कि पत्रकार लोकतंत्र के चौथे स्तंभ है और उनकी भी जरूरत है जिसके चलते मैने अपनी निधि की राशि उन्हें उपहार में दिया जो उनके काम आयेगी। साथ ही उन्होनें यह भी आरोप लगाया कि पूर्व में भाजपा विधायक तो अपनी निधि की राशि का उपयोग अपने कपडे खरीदने तथा साज सज्जा के लिए खर्च करते थे।

चुनाव में निरूत्तर कर दिया था स्वेच्छानुदान ने
इसके पूर्व भाजपा शासनकाल में जिले से निर्वाचित पूर्व कैबिनेट मंत्री ने भी अपनी स्वचेच्छानुदान की राशि को रेवड़ी की तरह हाथ खोलकर बांटी। जिसमें कई शासकीय अधिकारियों, कर्मचारियों, शिक्षकों और व्यापारियों को शिक्षा के नाम पर तो किसी को चिकित्सा के नाम पर तो किसी को किसी और काम से राशि वितरीत की गयी थी। जिसके बाद ऐन चुनाव के वक्त आरटीआई के तहत सूची निकाल कर विधानसभा चुनाव में सोशल मीडिया में वायरल कर दी गई, हर मोबाइल पर पूरी 4 वर्ष की सूची देखकर आम लोगों में नाराजगी बढ़ती गई, चुनाव में भाजपा को सबसे ज्यादा नुकसान स्वेच्छानुदान की राशि के उजागर होने से हुआ, जिसका पार्टी विधानसभा चुनाव में जवाब नहीं दे पाई। विधानसभा चुनाव में स्वेच्छानुदान के कारण पार्टी से ज्यादा लोग मंत्री से नाराज दिखे और भाजपा को हार का सामना करना पड़ा।
 


18-Oct-2021 6:22 PM (21)

21 के बाद मौसम साफ होने की है संभावना

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया) 18 अक्टूबर।
जिले में रविवार को बनते बिगडते मौसम के बीच में अचानक दोपहर के समय आसमान में बादल छा गये और देखते ही देखते हुए जिले के कई क्षेत्रों में बुंदाबांदी कुछ देर की हुई जिसके बाद से आसमान में बादल उमडते घुमडते रहे और शाम ढलने के साथ ही काले बादलो के छा जाने से रविवार की शाम को जिला मुख्यालय सहित जिले के कई क्षेत्रों में कुछ देर की झमाझम बारिश हुई। बारिश की विदाई के बाद यह पहली बारिश थी जो जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर आस पास के क्षेत्रों के साथ जिले के कई क्षेत्रों में बे मौसम बारिश हुई।

 इसके पूर्व कई दिनों से लगातार सूखे का मौसम बना रहा और लगातार धूप खिल रहा था जिस कारण उमस उमस भरी गर्मी का सामना भी लोगों केा करना पड रहा था। इसी बीच गत 15 अक्टुबर से मौसम में बदलाव देखने को मिला और 17 अक्टुबर को बारिश हुई। इस दौरान बारिश की जरूरत नही है बल्कि बारिश से नुकसान ही है। वही अभी हो रही बारिश से आगामी रबी फसलों के लिए भूमि को नमी जरूर पहुॅचायेगा। इसके दूसरे दिन 18 अक्टुबर को सुबह से धूप खिल गयी लेकिन दोपहर के समय फिर से आसमान में बादल छाने लगे लेकिन दोपहर तक इस दिन बारिश जिले में किसी भी क्षेत्र में नही होने की मिली।

धान फसलों को नुकसान
वर्तमान में बे मौसम बारिश का ज्यादा लाभ तो नही है लेकिन नुकसान ज्यादा है। इस दौरान जिले के कई क्षेत्रों में धान की फसल पकने की तैयारी में है और कई क्षेत्रों में धान की फसल पक गयी है और कटाई भी शुरू हो गयी है। जिस तरह से कुछ दिनों से मौसम खुला था जिसे देखते हुए अनुमान नही लगाया जा रहा था कि बे मौसम बारिश होगी। इसी बीच अचानक मौसम का मिजाज बिगडा और बारिश हुई। इस दौरान जिन किसानों ने अपनी धान की फसल की कटाई कर खलिहानों में रखे थे या खेतों में छोडे थे उन धान फसलों को बे मासम बारिश से नुकसान पहुॅचा वही खेतों में खडी धान फसलों के लिए भी अभी का बारिश लाभदायक नही है।  

बे मौसम बारिश से तापमान में कमी आने का असर यह होगा कि अब तेजी से ठण्ड की बढोतरी होना शुरू हो जायेगा। दशहरा का पर्व बीत गया है और लगभग एक पखवाडे का समय दीपावली के लिए बचा हुआ है। इस दौरान हुई बे मौसम बारिश से तापमान में कमी आने से ठण्ड की रफ्तार बढ जायेगी और दीपावली के पूर्व से ही ठण्ड का ज्यादा असर देखने को मिलेगा। अभी सुबह के समय गुलाबी ठण्ड का असर होने लगा है। वही दिन में लगातार धूप के खिले होने के कारण उमस भरी गर्मी का सामना करना पड रहा है।
 


18-Oct-2021 6:20 PM (22)

संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव ने किया भूमिपूजन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया) 18 अक्टूबर।
कोरिया जिले के बैकुंठपुर जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम मानपुर के ग्रामीणों के द्वारा जिस सडक निर्माण की मांग वर्षों से कर रहे थे वह अब जाकर संसदीय सचिव व क्षेत्रीय विधायक अंबिका सिंहदेव के प्रयासों से स्वीकृत हुआ।

जानकारी के अनुसार जनपद पंचायत बैकुंठपुर के ग्राम मानपुर कोरिया जिले से गुजरी एनएच 43 से कुछ ही किमी की दूरी पर स्थित ग्राम है। यहॉ तक सुरक्षित सडक का अभाव था जिसे लेकर ग्राम मानपुर के ग्रामीणों के द्वारा विगत 10 वर्षो से सडक निर्माण की मॉग की जा रही थी लेकिन सडक निर्माण कराने की दिशा में गंभीरता से ध्यान नही दिया जा रहा था इसी बीच ग्रामीणों के द्वारा संसदीय सचिव व बैकुंठपुर विधायक श्रीमती अंबिका सिंहदेव के समक्ष समस्या को लाया गया तो क्षेत्रीय विधायक अंबिका सिंहदेव ने इस दिशा में प्रयास कर एनएच 43 से ग्राम मानपुर पहुॅच मार्ग लंबाई करीब डेढ किमी को स्वीकृति दिलाई। इसके लिए राशि भी जारी कर दी गयी जिसके बाद गत दिवस संसदीय सचिव श्रीमती अंबिका सिंहदेव ने गत दिवस एनएच 43 से ग्राम मानपुर तक डेढ किमी सडक निर्माण कार्य का भूमि पूजन किया। इस अवसर पर ग्राम मानपुर के ग्रामीणों ने कहा कि एनएच 43 से मात्र डेढ किमी सडक निर्माण की मॉग उनके द्वारा 10 वर्षो से किया जा रहा था लेकिन उनकी मॉगों पर ध्यान नही दिया जा रहा था लेकिन वर्तमान संसदीय सचिव व बैकुंठपुर विधायक श्रीमती अंबिका सिंहदेव के समक्ष समस्या रखे जाने के बाद उनकी वर्षो पुरानी मॉग पूरी हो गयी। सडक बन जाने से लोगों केा आवागमन में काफी राहत मिलेगा। जानकारी के अनुसार उक्त सडक निर्माण कार्य को प्रधानमंत्री ग्राम सडक योजना क्रियान्वयन विभाग द्वारा पूरा कराया जायेगा। सडक निर्माण के भूमि पूजन के अवसर पर संसदीय सचिव ने कहा कि सडक बन जाने से सुगम तरीके से लोगों का आवागमन होगा।
 


17-Oct-2021 7:38 PM (23)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेंद्रगढ़, 17 अक्टूबर। सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष एवं भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरो से प्रदेश शिक्षक कल्याण संघ जिला कोरिया के पदाधिकारियों ने मुलाकात कर अपनी संवैधानिक अधिकार, ज्वलंत मांग 2004 के पूर्व (1998/99) में नियुक्त शिक्षकों (एल.बी.संवर्ग) को पुरानी पेंशन का लाभ प्रदान किये जाने बाबत ज्ञापन सौंपा।

विधायक ने प्रदेश शिक्षक कल्याण संघ के पदाधिकारियों को उनकी मांगों को मुख्यमंत्री समक्ष प्रमुखता से रख जल्द से जल्द पूरा करवाने का दिया भरोसा।

कोरिया जिले के पांचों विकासखंडों के सुदूर अंचलों से बड़ी संख्या में शिक्षक (एलबी)संवर्ग साथी प्रदेश शिक्षक कल्याण संघ के बैनर तले एकत्रित होकर ज्ञापन दिया।

 

संघ के उप प्रांताध्यक्ष सुरेन्द्र जायसवाल, जिलाध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद पटेल,सचिव अशोक साहू,कोषाध्यक्ष संतलाल यादव,ब्लॉक अध्यक्ष मनेन्द्रगढ़- हजऱत अली, महिला मोर्चा कावेरी सिंह,रंगलाल सिंह नेगी _भरतपुर, बृजराम साहू, सोनहत,नूर मोहम्मद_बैकुंठपुर,जितेन्द्र सिंह_खडग़वां,  जिला उपाध्यक्ष अरविंद्र जायसवाल ,जगदीश सिंह, मनेद्रगढ़ से  ब्लॉक कार्यकारी अध्यक्ष रामाश्रय राय, उपाध्यक्ष कोमल सिंह, प्रवक्ता रूपनारायण राय,सुपारी लाल  कुर्रे,  रणजीत सिंह,अब्दुल करीम,मोतीलाल यादव,मंजुला डे,रीना चौधरी,मनीषा पांडेय,कौशिल्या सिंह,मंजू सिंह,कमलेश्वरी सिंह, राजदेव राम भगत,धनगर वाडा,राजेश श्रीवास्तव,  रामगोपाल रवि ,सुरेश नापित,राजकुमार यादव,राजू अहीर ,अनिरुद्ध दुवेदी, भरतपुर से जगदीश हितकर ,राजेन्द्र सिंह, सोनहत से हृदय लाल रजवाड़े,हेमंत रजवाड़े,प्रयाग सिंह,प्रीतम सिंह,सोनेलाल मिंज,रामनाथ गरुड़,अनिल साहू,सुकुल नागवंशी  बैकुंठपुर से बर्मा दास महंत,गंगाधर पांडेय,सुदर्शन पैकरा,शिव प्रसाद साहू,भूपेंद्र सिंह,दिनेश गुप्ता,कमलेश तिवारी,   सताननद पटवा, सुरेश कुशवाहा,ईश्वर सिंह, रंजीत सिंह,विजय बहादुर यादव,लीलाधर,हीरालाल पैकरा,चंद्रिका प्रसाद पैकरा,सुखदेव पैकरा,पुरषोत्तम सिंह,हरिवंश प्रसाद साहू,जगनमोहन सिंह,अशोक वर्मा,  चिरमिरी से  चंद्रशेखर कश्यप,ललित सिंह,विपुल भौमिक,नारू राय,अंजन पाहन,इंद्रबहादुर सिंह,शंभू नारायण सिंह,पूरनलाल,कृष्ण कुमार,भूपत सिंह,खडग़वां से रामानुज गुप्ता,विजय यादव ,दिलीप गुप्ता,कैलाश यादव, राम प्रसाद सिंह,ज्वाला गुप्ता,अनोज सिंह, जगनारायण साहू ,वंशलाल सिंह,जय सिह,भीखम सिंह,सुभाष चंद्र सिंह,मंगल सिंह ,सुखसेन सिंह, रामप्रकाश साहू,शिवमंगल सिंह,दुर्गा सिंह , राजेन्द्र जायसवाल,पन्नुलाल साहू,शिव शंकर पैकरा डेगमनराम रजवाड़े,महेश प्रताप सिंह,  राजेन्द्र प्रसाद पटेल, जिलाध्यक्ष, प्रदेश शिक्षक कल्याण संघ जिला कोरिया उपस्थित रहे।


17-Oct-2021 7:33 PM (24)

 पूर्व विधायक ने की पत्थलगांव घटना की निंदा 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
चिरमिरी, 17 अक्टूबर।
पत्थलगांव में शुक्रवार की दोपहर घटित घटना को लेकर भाजपा किसान मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष व मनेन्द्रगढ़ के पूर्व विधायक श्याम बिहारी जायसवाल ने कहा है कि यह दुर्घटना हृदय विदारक है। इस दुर्घटना में मृतक को मेरी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित है। साथ ही माता रानी से मेरी प्रार्थना है कि शोकाकुल प्रियजनों को इस दुख की घड़ी को सहन करने संबल प्रदान करने के साथ ही घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करने की कामना करता हूं।

आगे कहा कि पूरे प्रदेश में नशे के बढ़ते फलते फूलते व्यापार ने प्रदेश की स्थिति दयनीय बना दी है। घटना घटित होने के 24 घंटे बाद भी प्रदेश के मुख्यमंत्री का घटना स्थल में न पहुंचना और न ही किसी प्रकार की सहायता राशि की घोषणा करना उनकी असंवेदनशीलता को दर्शाता है। जबकि यही भूपेश बघेल उत्तरप्रदेश की घटना पर बिना विलंब किए वहां पहुंचने के लिए लखनऊ पहुंच जाते हैं और एयरपोर्ट पर धरना देते नजर आते हंै और तो और 50 लाख की मुआवजा राशि प्रदान करने की घोषणा भी करते है।  यह इनका दोहरा चरित्र है, जो प्रदेश की जनता अब समझ चुकी है। प्रदेश के मुख्यमंत्री केवल अपनी कुर्सी बचाने के लिए दिल्ली में बैठे अपने नेताओं को खुश करने के लिए काम करते है।

मंै प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मांग करता हूं कि इस दुखद घटना में मृतक के परिजनों को 1 करोड़ रूपए के साथ ही परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी व दुर्घटना में घायल हुए लोगों को 50 लाख रूपए की सहायता राशि यथाशीघ्र प्रदान करें।
 


16-Oct-2021 10:21 PM (21)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर (कोरिया) 16 अक्टूबर। कोरिया जिलामुख्यालय में 200 बिस्तरीय सर्व सुविघायुक्त नवीन जिला अस्पताल का निर्माण कार्य जल्द ही शुरू होगा। इसके लिए 35 करोड़ रूपये की राशि स्वीकृत होने के उपरांत सीजीएमएससी द्वारा भवन निर्माण के लिए ग्लोबल टेंडर जारी कर दिया गया है। इसके निर्माण को लेकर भूमि को लेकर तमाम कानूनी प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई थी। टेंडर उपरांत जल्द ही जिला अस्पताल भवन का निर्माण कार्य चालू कर दिया जायेगा। इसके साथ ही नवीन 50 बिस्तरीय मातृ और शिशु अस्पताल का निर्माण कार्य भी साथ ही होगा

संभावना है कि नये वर्ष 2022 के शुरूआती समय में ही जिला अस्पताल भवन का निर्माण कार्य शुरू हो जायेगा। जानकार के अनुसार 35 करोड़ की लागत से बनने वाले नवीन जिला अस्पताल भवन के लिए सबसे पहले संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव की पहल पर कंचनपुर में स्थान का चयन किया गया था, उसके बाद तत्कालिन कलेक्टर सत्यनारायण राठौर ने स्थल परिवर्तन कर बीच शहर में कॉलेज के पास मुख्य मार्ग स्थित अदला बदली की भूमि का चयन कर दिया, जिस पर विवाद बढ़ गया और उनका स्थानांतरण के बाद नव पदस्थ कलेक्टर श्याम धावड़े ने दो स्थानों को देखा और कंचनपुर पर ही नवीन जिला अस्पताल निर्माण की स्वीकृति प्रदान की, जिसके बाद नवीन जिला अस्पताल के लिए कुछ अतिरिक्त भूमि का अधिग्रहण कर भूमि को अदला बदली की गई, तमाम प्रक्रिया के बाद राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा गया अनुमति के बाद अब नवीन जिला अस्पताल का ग्लोबल टेंडर लग गया है। गौरतलब है कि कोरिया जिले का गठन होने के बैकुंठपुर में 100 बिस्तरीय अस्पताल बाद अब 200 बिस्तरीय नवीन जिला अस्पताल भवन का निर्माण होगा। जानकार के अनुसार जिला अस्पताल भवन बन जाने के बाद जिले के लोगों केा सभी तरह की सुविधाएं एक ही छत के नीचे उपलब्ध होगी। जिससे कि जिलें के लोगों को यहॉ बेहतर स्वास्थ्य सुविधा का लाभ मिल सकेगा। आम जनों के साथ जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के गरीब लोगों को यहॉ बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिल सकेगा। विभिन्न विभागों के विशेषज्ञ चिकित्सकों की सुविधा होगी।

तीन मंजिला होगा जिला अस्पताल भवन

कोरिया जिले का जिला अस्पताल भवन के प्रस्तावित नक्शे के अनुसार जिला अस्पताल भवन तीन मंजिला होगा। जिसमें सभी तरह की आवश्यक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध होगा। बनने वाले नये जिला अस्पताल से अलग एक नया बच्चों व महिलाओं का अस्पताल का निर्माण भी होगा। इसके लिए केंद्र सरकार से राशि भी स्वीकृत हो चुकी है। नवीन जिला अस्पताल में सभी विभागों के महिला पुरूष वार्ड होंगे। तमाम तरह की जांच की सुविधा के लिए कक्ष बनाये जायेंगे इस तरह एक ही छत के नीचे सभी तरह के चिकित्सा जांच व उपचार की सुविधा होगी। 

ट्रामा सेंटर की सुविधा होगी

जानकारी के अनुसार नवीन जिला अस्पताल भवन में ही ट्रामा सेंटर की सुविधा होगी। कोरिया जिला मुख्यालय बैकुंठपुर में पूर्व में भी ट्रामा सेंटर की मांग उठ रही थी जो कि अब नवीन जिला अस्पताल भवन बनने के साथ ही यह भी पूरा किया जायेगा। ट्रामा सेंटर में अत्याधुनिक चिकित्सक उपकरण से लैस केंद्र होगा, कई विशेषज्ञ चिकित्सक होगे। जहां पर सभी तरह के आकस्मिक घटना, दुर्घटना से पीडितों को तत्काल उपचार की सुविधा होगी।

आमतौर पर महानगरों में यह सुविधा उपलब्ध होती है लेकिन ऐसी सुविधा कोरिया जिला मुख्यालय में भी आने वाले समय में शुरू हो सकेगा।


 


16-Oct-2021 8:42 PM (48)

शिकायत देकर ग्रामीणों ने कलेक्टर से की कार्रवाई की मांग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर (कोरिया) 16 अक्टूबर। जनपद पंचायत बैकुंठपुर अंतर्गत ग्राम पंचायत टेंगनी के पंचगणों एवं ग्रामीणों के द्वारा सरपंच सचिव के विरूद्ध कलेक्टर कोरिया से फर्जी तरीके से राशि आहरित कर पंच पति को प्रदान किये जाने के संबंध में शिकायत देकर सरपंच सचिव के विरूद्ध गलत तरीके से राशि भुगतान की जॉच कर कडी कार्रवाई की मांग की गयी। ग्रामीणों ने इसकी जानकारी जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के साथ अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बैकुंठपुर केा भी दी है।

इस संबंध में मिली शिकायत के अनुसार जनपद पंचायत बैकुंठपुर अंतर्गत ग्राम पंचायत टेंगनी में 4 अक्टूबर को सरपंच के विरूद्ध पंचगणों के द्वारा अविश्वास प्रस्ताव का आवेदन अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बैकुंठपुर को दिया गया था। इसके दूसरे ही दिन सरपंच द्वारा वार्ड क्रमांक 7 के पंच के पति को ग्राम पंचायत के बिना प्रस्ताव किये ही फर्जी तरीके से डेढ़ लाख रूपये का चेक प्रदान किया गया। शिकायत में पंचगणों ने उल्लेख किया है कि जिस पंच के पति को डेढ़ लाख रूपये का चेक दिया गया वह ना तो किसी प्रकार का सामग्री विक्रेता है और न ही किसी प्रकार का आपूर्तिकर्ता है। जिसे किस आधार पर बडी राशि का चेक प्रदान किया गया। शिकायत में बताया गया कि बीते 11 अक्टूबर को आयोजित ग्राम सभा की बैठक में वार्ड पंच व ग्राम वासियों के द्वारा पंच पति को किस आधार पर बड़ी राशि का भुगतान किया गया पूछे जाने पर सचिव द्वारा जानकारी दी गयी कि राशि कचरा प्रबंधन कार्य के लिए भुगतान किया गया और यह राशि सरपंच के मौखिक आदेश पर दिया गया। जिसके संबंध में कोई भी बिल व्हाउचर नहीं लगाया गया है। इस तरह फर्जी तरीके से बडी राशि का भुगतान के मामले में पंचगणों ने कलेक्टर ने मामले की उचित जांच कर सरपंच सचिव के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की मांग की। 

पंचों के खरीद फरोख्त के आरोप

ग्राम पंचायत टेंगनी के पंचगणों ने कलेक्टर कोरिया को दिये गये अपने शिकायत में उल्लेख किया है कि जिस दिन पंचगणों द्वारा सरपंच के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बैकुंठपुर को दिया गया उसके दूसरे ही दिन पंच पति को डेढ़ लाख रूपये की राशि का चेक दिया गया। जिससे कि पंचगणों ने कलेक्टर को दिये शिकायत में उल्लेख किया गया है कि सरपंच के आदेश पर सचिव के द्वारा पंचों की खरीद फरोख्त के लिए डेढ़ लाख रूपये का चेक जारी किया गया।


16-Oct-2021 5:37 PM (23)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेंद्रगढ़, 16 अक्टूबर।
कर्मघोघेश्वर धाम को पर्यटन के क्षेत्र में विकसित करने के लिए सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष भरतपुर सोनहत विधायक राज्यमंत्री गुलाब कमरों ने बीड़ा उठाया है। इसी के तहत विधायक श्री कमरों ने विजयादशमी के दिन शुभ मुहूर्त में कर्मघोघेश्वर धाम तक पहुंचने के लिए मुख्यमंत्री सुगम सडक़ योजना के तहत 49 लाख की लागत से बनाने वाली सडक़ का भूमि पूजन किया है ।

कर्मघोघेश्वर धाम विधायक श्री कमरों के गृह ग्राम साल्ही के अंतर्गत स्थित है जो दिनोंदिन बड़े पैमाने पर लोगों के आस्था का केंद्र बनते जा रहा है ।  विधायक श्री कमरो अपने क्षेत्र के समुचित विकास कार्यों के साथ-साथ धार्मिक स्थलों का भी कायाकल्प करने में लगे हुए है। उन्होंने अपने विधानसभा क्षेत्र के भरतपुर विकासखंड में हरचौका को पर्यटन के क्षेत्र में विकसित करने के लिए करोड़ों रुपए की राशि स्वीकृति प्रशासन स्तर से कराई है हरचौका आने वाले दिनों में छत्तीसगढ़ के पर्यटन के नक्शे में अपना अहम स्थान बना सकेगा। श्री कमरों इसके साथ ही शिव धारा, जटाशंकर, सिद्ध बाबा धाम को विकसित करने का बीड़ा उठाया है और इसी के साथ अपने गृह ग्राम साल्ही में स्थित कर्मघोघेश्वर धाम को पर्यटन के क्षेत्र में विकसित करने का बीड़ा उठाया है। श्री कमरों ने प्रथम कड़ी में कर्मघोघेश्वर धाम तक पहुंचने के लिए मुख्यमंत्री सुगम सडक़ योजना के अंतर्गत 49 लाख की लागत से बनने वाली सडक़ का भूमि पूजन कर अपनी मंशा जाहिर कर दी है।   आने वाले दिनों में कर्मघोघेश्वर धाम भी अपने अलग ही स्वरूप में दिखाई देने लगेगा। 


16-Oct-2021 5:34 PM (21)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया) 16 अक्टूबर।
कलेक्टर की पहल पर अब पूरे जिले के सभी विकासखंड में हाट बाजार में लोगों के स्वास्थ्य जांच के लिए हाट बाजार क्लिनिक एंबुलेंस दौड़ेगी।  अभी तक सिर्फ भरतपुर और सोनहत में ही दो हाट बाजार क्लिनिक एंबुलेंस का संचालन किया जा रहा था, कलेक्टर श्याम धावड़े ने 3 एंबुलेंस की और खरीदी की अनुमति प्रदान की और तीनों एंबुलेंस  दशहरे के दिन कोरिया पहुंच गई। अब जल्द ही इनकी सेवा जनप्रतिनिधियों के हाथों शुरू होने वाली है।

दरअसल, कलेक्टर श्याम धावड़े की पहली प्राथमिकता शिक्षा व स्वास्थ्य है। जिस कारण वे ग्रामीण क्षेत्रों का दौरान कर शिक्षा व स्वास्थ्य  की चरमराई व्यवस्था को दुरूस्त करने में जुटे हुए है। इससे पूर्व उन्होनें जिला अस्पताल, कोविड अस्पताल को दुरूस्त किया, निश्चेतना विशेषज्ञ की नियुक्ति, नवीन शिशु वार्ड का शुभारंभ, शिशु वार्ड और एनआरसी में एसी लगाने के साथ स्वास्थ्य के क्षेत्र में नया कुछ करने की हर संभव कोशिश में जुटे हुए है, उन्होने दुर्गम और दूरस्थ आन्न्दपुर में उप स्वास्थ्य केन्द्र भवन निर्माण की स्वीकृति भी प्रदान कर अपनी मंशा जाहिर कर दी। अब उन्होनें हाट बाजार क्लिनिक के अच्छे परिणामों को देखते हुए जिले के बचे तीन विकासखंडों मे भी सुविधा प्रदान की है।  

गौरतलब है कि जिले के कोरिया कलेक्टर श्याम धावड़े ने पदभार ग्रहण करते ही जिले की प्रशासनिक व्यवस्था को चुस्त दुरूस्त करने में जुट गये। इस दौरान वे जिले के विभिन्न क्षेत्रों का दौरा किया तथा कलेक्टर ने जिले के ऐसे दुर्गम व पहुंचविहीन क्षेत्र में पहुंच कर सबको अचंभित कर दिया। कलेक्टर ने जिले के भरतपुर सोनहत जनपद क्षेत्र के आनंदपुर गोयनी क्षेत्र में बाईक से पहुंच कर शिक्षा स्वास्थ्य की स्थिति का जायजा लिया तथा क्षेत्र के ग्रामीणों ने उनकी समस्याओं को जाना।  

अब सभी जनपदों में हाट बाजार एम्बुलेंस
कलेक्टर कोरिया द्वारा जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है ताकि जिले के ग्रामीण क्ष्ेात्र के लोगों को भी स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ उनके ही क्षेत्र में मिल सके। इसके लिए कलेक्टर कोरिया के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने तीन हाट बाजार क्लिनिक एम्बुलेंस की खरीदी की गयी। इसके पूर्व जिले में सिर्फ भरतपुर व सोनहत जनपद क्षेत्र में ही मुख्यमंत्री हाट बाजार के एम्बुलेंस थे जो अपने ही जनपद क्षेत्र अंतर्गत प्रमुख हाट बाजारो में भ्रमण करता था। अब कलेक्टर द्वारा तीन नये हाट बाजार क्लिनिक एम्बुलेंस की खरीदी किये जाने के बाद जिले के पांचों जनपद क्षेत्र में हाट बाजार के एम्बुलेंस उपलब्ध हो गए है। जिससे कि अब भरतपुर, सोनहत के अलावा मनेंद्रगढ, खडगवां तथा बैकुंठपुर जनपद क्षेत्र के लिए हाट बाजार क्लिनिक एम्बुलेंस उपलब्ध हो जाने से अब जिले के सभी जनपद क्षेत्र के प्रमुख हाट बाजारों में एम्बुलेंस की सुविधा होगी। जहां पर ग्रामीण अंचल के लोग विभिन्न तरह के बीमारियों की जांच एम्बुलेंस के पास जाकर चिकित्सकों से अपनी विभिन्न तरह की बीमारियों की जांच कराकर नि:शुल्क दवा प्राप्त कर सकते है।

एम्बुलेंस में सभी तरह की जांच सुविधा
जनकारी के अनुसार मुख्यमंत्री स्वास्थ्य योजना के तहत हाट बाजार क्लिनिक एम्बुलेंस में सभी तरह के जांच की सुविधा उपलब्ध है। एम्बुलेंस में एक चिकित्सक, फार्मासिस्ट, नर्स मौजूद रहते है। जिसमें सभी बीमारियों की जांच कर दवा लोगों को नि:शुल्क उपलब्ध कराई जाती है। इसके अलावा इसमें एलईडी टीवी भी लगी हुई है जिसमें विभिन्न रोगों से बचाव और परामर्श के वीडियो ग्रामीणों को दिखाया जाएगा।
 


16-Oct-2021 5:29 PM (35)

बैकुंठपुर (कोरिया) 16 अक्टूबर। दशहरा पर्व के अवसर पर रक्षित केंद्र बैकुंठपुर में शस्त्र पूजा का आयोजन किया गया, जिसमें पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह, नगर सेना के कमांडेंट, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सहित विभिन्न थानों के प्रभारी व अन्य पुलिस अधिकारी कर्मचारी शामिल हुए।

जानकारी के अनुसार 15 अक्टूबर दशहरा पर्व के अवसर पर पुलिस लाईन स्थित शस्त्रागार में शस्त्र पूजा कार्यक्रम का आयोजन प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी आयोजत की गयी। उक्त पूजा में शस्त्रागार में रखी गयी शस्त्रों की साफ सफाई की गयी थी और पूजा के लिए सभी शस्त्रों केा सजाकर रखा गया था जिसका विधि विधान के साथ पूजा अर्चना की गयी। पूजा में मुख्य रूप से पुलिस अधीक्षक कोरिया संतोष सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह, नगर सेना के कमांडेंट डीसी शेखर, बैकुंठपुर कोतवाली प्रभारी के साथ अन्य पुलिस अधिकारी तथा बडी संख्या में पुलिस जवानों की उपस्थिति में पुलिस अधीक्षक कोरिया ने शस्त्र पूजा विधि विधान के साथ किया गया।

पूजन पश्चात उपस्थित सभी पुलिस अधिकारी जवानों को प्रसाद का वितरण किया गया। पूजा समाप्ति पश्चात पुलिस अधीक्षक कोरिया संतोष सिंह ने उपस्थित अधिकारी जवानों को दशहरा पर्व की बधाई दी गयी। इस अवसर पर रक्षित निरीक्षक हेमन्त टोप्पों, कोतवाली प्रभ्ज्ञारी अश्विनी सिंह, सहित पुलिस अधिकारी जवान व कार्यालयों के कर्मचारीगण उपस्थित रहे।
 


16-Oct-2021 5:29 PM (24)

बाइक रैली में शामिल हुईं संसदीय सचिव, जय राम के नारे से गूंजा उठा शहर

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया) 16 अक्टूबर।
दशहरा  पर 15 अक्टूबर को शहर में हिन्दू संगठनों द्वारा राम की शोभा यात्रा के तहत विशाल बाईक रैली निकाली गयी। वही छग शासन के संसदीय सचिव व क्ष़ेत्रीय विधायक अंबिका सिंहदेव भी बाईक में बैठकर रैली में शामिल हुईं।
रैली में भाजपा के जिला उपाध्यक्ष द्वय शैलेष शिवहरे, देवेन्द्र तिवारी के साथ कांग्रेस के नेता वेदांति तिवारी सहित कई हिन्दू संगठन के नेता प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

भगवा साफी सिर में बांधे तथा कंधे में लटकाये हिन्दू संगठनों के पदाधिकारियों व सदस्यों के द्वारा बाईक रैली में शामिल हुए। दशहरा पर्व के अवसर पर आयोजित विशाल बाईक रैली में भारी संख्या में पदाधिकारियों व सदस्यों ने भाग लिया।
 हिन्दू संगठनों द्वारा आयोजित बाईक रैली शहर के प्रेमाबाग मंदिर परिसर से दशहरा पर्व पर शुरू हुई और हजारों की संख्या में हिन्दू संगठनों के लोग बाईक रैली निकाली जो शहर के प्रमुख मार्गो से होते हुए वापस प्रारंभ स्थल प्रेमाबाग मंदिर परिसर तक पहॅुंची। इस दौरान वाहन में डीजे में भी गीत संगीत बचता रहा और उत्साह के साथ भारी संख्या में भगवा झण्डा लहराते हुए बाईक रैली शहर से निकली। इस बार कोरोना संक्रमण में आयी कमी के कारण इस पर प्रतिबंध नही लगाये गये थे।

उत्साह के साथ सैकड़ों की संख्या में युवाओं के द्वारा बाईक रैली निकाली गयी और संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव ने भी इसमें भाग लिया जिसके कारण युवाओं का उत्साह दुगुना हो चला था। आयोजित बाईक रैली में शहर के युवाओं जनप्रतिनिधियों के साथ आस पास के ग्रामीण क्षेत्रों से भी बडी संख्या में युवा वर्ग बाईक रैली में शामिल हुए। इस अवसर पर सुभाष साहू, गौ सेवक अनुदाग दुबे, बृजवासी तिवारी, पंकज गुप्ता, अरविंद सिंह (डब्ल्यु), शारदा गुप्ता, प्रशांत सिंह, सुरेन्द्र सिंह छोटू, वैभव सिंह, आशीष शुक्ला, रवि सिंह, प्रभाकर सिंह, हर्षल गुप्ता, अभय दुबे, धनश्याम साहू, जगदीश साहू, सुनील शर्मा, प्रवेश द्विवेदी, रिचेश सिंह, सौरव सिंह, रजनीश गुप्ता, सत्येन्द्र सोनी, अभय दुबे, अनुप अग्रवाल, रवि त्रिपाठी, विशाल सिंह सहित काफी संख्या में युवा शामिल हुए।

जवारा विसर्जन में शामिल हुई संसदीय सचिव
शारदीय नवरात्र के अंतिम दिनों मां रमदईयॉ धाम समिति द्वारा प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी जवारा विसर्जन की झांकी निकाली गयी जिसमें संसदीय सचिव व क्षेत्रीय विधायक अंबिका सिंहदेव भी शामिल रही। जिससे भक्तों का उत्साह दुगुना हो गया।
जानकारी के अनुसार शहर क्षेत्र में झुमका बांध तट पर स्थित क्षेत्र का प्रमुख धार्मिक स्थल मां रमदईया धाम परिसर से धाम प्रमुख सुनील सिह के दिशा निर्देश पर जवारा विसर्जन की झांकी निकाली गयी, जो धाम परिसर से शुरू होकर चेर, महलपारा, होते शहर के मुख्य घडी चौक पर पहुॅची यहॉ पर श्रद्धालुओं का स्वागत लोगों द्वारा किया गया। इस बार जवारा विसर्जन के रैली में संसदीय सचिव की उपस्थिति भक्तों के उत्साह को बढा दिया था। घडी चौक से जवारा की झांकी आगे बढते हुए जवारा का विधि विधान के साथ विसर्जन किया गया।
 


13-Oct-2021 8:57 PM (42)

बैकुंठपुर (कोरिया), 13 अक्टूबर। कोरिया पुलिस के निजात अभियान को बॉलीवुड इंडस्ट्रीज के सितारों से समर्थन मिल रहा। मशहूर सिंगर कैलाश खेर, एक्टर भगवान तिवारी एवं कॉमेडियन सुनील ग्रोवर ने नशे से दूर रहने की अपील की थी। अब अभिनेता अरबाज खान, कॉमेडियन राजपाल यादव एवं वीरेंद्र सक्सेना ने अपील की।

पुलिस द्वारा नशे के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। जुलाई से नारकोटिक्स में अब तक 94 प्रकरणों में 118 की गिरफ्तारी की गई, वहीं अवैध शराब बिक्री में ताबड़तोड़ 349 प्रकरणों में 355 की गिरफ्तारी की गई है।

लोगों से इस अभियान को लगातार जन-समर्थन मिल रहा है, 152 से ज्यादा जनजागरूकता कार्यक्रम हो चुके हैं, सैकड़ों नशे के आदी लोगों की कॉउंसलिंग हो चुकी है। कुछ के इलाज में मदद की जा रही है।

कोरिया जिले में पुलिस अधीक्षक कोरिया संतोष सिंह के निर्देशन में ड्रग्स, नारकोटिक्स व अवैध शराब के विरुद्ध अभियान निजात में बड़े पैमाने पर प्रभावी कार्रवाई की जा रही है एवं जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। कोरिया पुलिस के इस अभियान निजात के समर्थन में बॉलीवुड इंडस्ट्री से भी कई कलाकारों ने नशे से दूर रहकर बेहतर जीवन बनाने की अपील की है। जिसका एक वीडियो पूर्व में पुलिस द्वारा जारी किया गया था, जिसमें मशहूर सिंगर कैलाश खेर, अभिनेता भगवान तिवारी एवं कॉमेडियन सुनील ग्रोवर ने अपील की थी। हॉल ही में नायक अरबाज खान, कॉमेडियन राजपाल यादव एवं कलाकार वीरेंद्र सक्सेना ने नशे से दूर रहने की अपील की है। पुलिस ने इसका वीडियो जारी किया है। कोरिया के स्थानीय कलाकारों द्वारा भी समर्थन में कई वीडियो व रैप सांग तैयार किए गए हैं।

 

अभी कोरिया जिले के हर छोटे-बड़े कस्बे एवं गावों में निजात अभियान पर पुलिस के जवानों के द्वारा नशा मुक्त कोरिया बनाने की अपील कर कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। एक ओर निजात अभियान का रथ कोरिया जिले के हर थाना क्षेत्रों में भ्रमण कर रहा है। साथ ही माह जुलाई से नारकोटिक्स में अब तक 94 प्रकरणों में 118 की गिरफ्तारी की गई, वहीं अवैध शराब बिक्री में भी लगाम लगाते हुए 349 प्रकरणों में 355 की गिरफ्तारी की गई है। कोरिया पुलिस के थाना प्रभारीगण द्वारा 152 से ज्यादा के जनजागरूकता अभियान चला चुके है एवं वर्तमान में कार्यक्रम गतिशील भी है। स्वयं एसपी व एएसपी मधुलिका सिंह निज़ात के कार्यक्रमो में नजऱ आते हैं। थाना प्रभारियों एवं पुलिस राजपत्रित अधिकारियों द्वारा मिलकर 100 से ज्यादा नशे के आदी लोगों की कॉउंसिलिंग कर चुके हंै।

पिछले दिनों एक तीन दिनों के अन्य अभियान में पुलिस ने राह चलते शराब व गाँजा पीने वालों पर कार्रवाई की, जिसमें 153 प्रकरण कायम कर ऐसे लोगों की गिरफ्तारी की गई। वर्तमान में नशे में लिप्त लोगों में कोरिया पुलिस का खौफ पैदा हो चुका है।

 

 


13-Oct-2021 5:04 PM (21)

मनेंद्रगढ़, 13 अक्टूबर। कोरिया जिले के सभी ब्लॉकों में अब सर्व आदिवासी समाज का खुद का सर्व सुविधायुक्त भवन होगा। इसके लिए शासन द्वारा सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष व भरतपुर सोनहत विधायक गुलाब कमरो की पहल पर 40 लाख रुपए की स्वीकृति प्रदान की गई है।  विधायक गुलाब कमरो ने समाज व क्षेत्रवासियों की ओर से मुख्यमंत्री, विधानसभा अध्यक्ष एवं सांसद ज्योत्सना महंत का आभार व्यक्त किया।

प्रदेश की कांग्रेस की भूपेश सरकार के द्वारा हर समाजों के लिए भवन की स्वीकृति दी जा रही है इसके पहले शासन द्वारा 8 समाज के भवन के लिए 75 लाख रुपए की स्वीकृति प्रदान की गई थी।

सरकार ने नवरात्र पर सर्व आदिवासी समाज को एक बड़ी सौगात दी है। जिले के सर्वआदिवासी समाज हेतु 4 सर्व सुविधायुक्त समाजिक भवन निर्माण कार्य हेतु विकासखण्ड भरतपुर के लिए 10 लाख रुपये,  विकासखण्ड सोनहत के लिए 10 लाख रुपये, विकासखण्ड मनेन्द्रगढ़ के लिए 10 लाख रुपये, विकासखण्ड खडग़वां के लिए 10 लाख रुपये की शासन स्तर से स्वीकृति मिली है।
 


13-Oct-2021 4:08 PM (21)

चिरमिरी जिला बनाओ संघर्ष समिति की पत्रकार वार्ता

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
चिरमिरी, 13 अक्टूबर।
जब तक शासन या प्रशासन द्वारा कोई लिखित आश्वासन नहीं दिया जाता, तब तक चिरमिरी जिला मुख्यालय बनाओ संघर्ष समिति द्वारा किया जा रहा आंदोलन जारी रहेगा। उपरोक्त बाते चिरमिरी जिला मुख्यालय बनाओ संघर्ष समिति द्वारा आयोजित पत्रकार वार्ता में समिति के उपेंद्र जैन ने कही।

पत्रकार वार्ता में चिरमिरी जिला बनाओ संघर्ष समिति ने पदयात्रा में शामिल सभी पदयात्रियों के साथ उनके परिजनों व पदयात्रा में सहयोग करने वाले शासन, प्रशासन व चिरिमिरी के नागरिकों के प्रति आभार व्यक्त किया।
समिति के उपेंद्र जैन ने आगे कहा कि जैसा कि चिरमिरी जिला मुख्यालय बनाओ संघर्ष समिति के द्वारा जारी भूख हड़ताल 17 अगस्त से प्रारंभ है। उसी क्रम में अलग-अलग आंदोलन के स्वरूप से अपनी बात सरकार तक पहुंचाने का प्रयास जिला मुख्यालय हेतु लगातार 57 दिवस से कर रहे हैं।

आंदोलन के चौथे चरण में 26 सितंबर को चिरमिरी से रायपुर पदयात्रा के माध्यम से छतीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निवास पर (एमसीबी) जिला के मुख्यालय को चिरमिरी में बनवाने की मांग करने निकली थी, जो 9 अक्टूबर को 14 दिवस की पदयात्रा करने के पश्चात मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पास पहुंचकर अपनी बात रखी और नवीन जिला घोषित करने का आभार व्यक्त किया। जहां पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा समिति के सदस्यों को आश्वासन दिया गया। उन्होंने हमें कहा कि हमारे सरकार की गंशा है कि आम जनता को प्रशासनिक सेवा आसानी से उसके पास पहुंचे। इस उद्देश्य से जिलों का निर्माण किया जा रहा है। इसी क्रम में एमसीबी नया जिला बनाया जा रहा है। हम सभी आपके क्षेत्र की भावनाओं को समझते हैं और सम्मान करते हैं। इस विषय पर बेहतर होगा कि आप सभी मनेन्द्रगढ़, चिरमिरी की जनता एवं वहां के जनप्रतिनिधि आपस में बैठकर निर्णय कर ले कौन सा कार्यालय कहां बनना है और कौन सा कहां । मेरा काम था जिला बनाना जो मैं बना चुका हूं।

मंच मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व विधायक डॉ. विनय जायसवाल का आभार व्यक्त करती है। साथ ही हम मुख्यमंत्री श्री बघेल के वार्ता का सम्मान करते हुए मनेन्द्रगढ़ के प्रतिनिधि मंडल एवं चिरमिरी के प्रतिनिधि मंडल के साथ विधायक डॉ. विनय जायसवाल भी इस विषय को गंभीरता से लेते हुए हमारी मांगों को सही स्थान देने के लिए सहयोग करें एवं जन भावनाओं का सम्मान करते हुये अतिशीघ्र इस विषय का निराकरण करे।

श्री जैन ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए आगे कहा कि मंच इस विषय को लेकर जो पदयात्री चिरमिरी से रायपुर अपनी बात रखने मुख्यमंत्री के निवास कार्यालय गए थे। उन सभी पदयात्रियों का हार्दिक आभार व्यक्त करते हैं तथा हम उन पदयात्रियों के परिजनों का भी आभार व्यक्त करते है, जिन्होंने अपने परिवार के सदस्य को पदयात्रा में शामिल होने कि अनुमति दी। निश्चित ही चिरिमिरी आप सभी पदयात्रियों एवं उनके परिजनों का ऋणी रहेगा। यह पदयात्रा में हमें जिस प्रकार नगर के सभी नागरिक, सभी व्यापारिक बंधुओं का जो सहयोग प्राप्त हुआ, उसका भी हम आभार व्यक्त करते हैं। साथ ही हमारे पदयात्रा में जो हमें रास्ते में सहयोग हेतु सामने आए सभी साथी जो इस पदयात्रा में यात्रियों का उत्साहवर्धन करने सामने आए, हम उन सभी का भी आभार व्यक्त करते हैं।

पदयात्रा में हमें जिन जगहों पर दोपहर व रात्रि विश्राम हेतु भवन, आश्रम, ढाबा, विश्राम गृह हेतु सहयोग प्राप्त हुआ उन सभी का भी हम चिरमिरी वासी एवं मंच ह्रदय से आभार व्यक्त करती है। ऐसे पूर्व चिरमिरी निवासी जो चिरमिरी से व्यापार करने या पदोन्नति करने हेतु दूसरे स्थान पर चले गए हैं वे भी पद यात्रियों का उत्साहवर्धन करने सामने आए उनका भी हम सभी हृदय से आभार व्यक्त करते हैं। यात्रा के दौरान हमें समस्त जिलो के जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, स्वास्थ विभाग व पत्रकार साथियों का जो सहयोग प्राप्त हुआ हम उनका भी आभार व्यक्त करते हैं।

साथ ही हम आपके माध्यम से सरकार को बतलाना चाहते हैं कि हमारा यह आंदोलन शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है और जब तक मुख्यमंत्री श्री बघेल के सुझाए हुए उपायों के अनुरूप कोई हमें लिखित आश्वासन नहीं मिल जाता एवं जिस पर चिरमिरी का हर नागरिक संतुष्ट नहीं हो जाता, हम इस मंच के माध्यम से लगातार आंदोलन करते रहेंगे और समय-समय पर हम अलग-अलग तरीके से सरकार तक अपनी बात पहुंचाने का प्रयास करेंगे जिसके लिए हम चिरमिरी के हर नागरिक से निवेदन करेंगे कि शहर के इस अस्तित्व की लड़ाई को लडऩे के लिए हम आप सभी राजनीति से ऊपर उठकर सिर्फ चिरमिरी के हित में अपनी आहुति अवश्य दें ताकि आप अपने परिवार के भविष्य को सुरक्षित कर सकें।
इस पत्रकारवार्ता में चिरिमिरी जिला मुख्यालय बनाओ संघर्ष समिति के उपेंद्र जैन के साथ संजय सिंह, नीटू कोहली, शेख इस्माईल व अन्य सदस्य उपस्थित रहे।
 


12-Oct-2021 8:08 PM (34)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर (कोरिया), 12 अक्टूबर। कवर्धा घटना पर विश्व हिंदू परिषद और सर्व हिंदू संगठन के मंगलवार को पूरे राज्य में धरने के कार्यक्रम तहत कोरिया में भी असर देखा गया। कार्यक्रम में भाजपा और विश्व हिन्दू परिषद के काफी संख्या में पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल रहे।

धरना प्रदर्शन में पूर्व विधायक श्याम बिहारी जायसवाल, पूर्व विधायक चम्पा देवी पावले के साथ भाजपा के कई कद्दावर नेता मौके पर उपस्थित थे, सभी ने एक स्वर में कहा कि कवर्धा में एकतरफा कार्रवाई की जा रही है, उसके कारण हिन्दू समाज में आक्रोश का भाव है। इसके बाद भी समूचा समाज मानवता के साथ कवर्धा में शांति के लिए जुटा हुआ है।

 शैलेद्र शर्मा का कहना है कि जिस तरह की घटना कवर्धा में हुई है, हिन्दू समाज के लोगों के साथ बर्बरतापूर्ण रवैया अपनाया गया, उससे यही लगता है कि सरकार की शह पर ऐसा किया गया है।

इससे पूर्व सोमवार को पूर्व विधायक किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने प्रेसवार्ता आयोजित कर कहा कि कवर्धा में परिस्थितियां बेहतर हो सकती थी, लेकिन वहां के मंत्री ने इस मामले में उचित कदम नहीं उठाया, जिसके कारण इस घटना को विस्तार मिला और जिम्मेदार लोगों पर ठोस कार्रवाई नहीं होने से आक्रोश बढ़ता गया।

 उन्होंने कहा कि इस पूरी घटना में  कार्रवाई एकतरफा हुई है, उससे हिन्दू समाज में नाराजगी है। इस पूरे मामले में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई और निर्दोषों के रिहाई के लिए तत्काल फैसले लिए जाने चाहिए।

कलेक्टर-एसपी सहित प्रशासन अलर्ट पर

सोमवार शाम को ही कलेक्टर श्याम धावड़े और एसपी संतोष सिंह ने सांप्रदायिक सद्भाव बना रहे, उसकी पहल तेज कर दी थी। इसके अलावा एसडीएम ज्ञानेन्द्र सिंह ठाकुर और पुलिस के अधिकारियों के साथ विभिन्न दलों के नेताओं, कई संगठन के लोगों के साथ शांति समिति की बैठक भी आयोजित की गई।

सभी को समझाईश दी गई कि किसी भी कीमत पर शांति बनाए रखना है, सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखना है। मंगलवार को जिसका असर यह हुआ कि 2 बजे के बाद धरना प्रदर्शन शुरू हुआ और धरना प्रदर्शन शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो गया।


12-Oct-2021 6:02 PM (37)

बार-बार तबादले से परेशान शिक्षक ने ली थी कोर्ट की शरण

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया) 12 अक्टूबर।
शिक्षक का एक बार स्थांनातरण हुआ फिर उसका संशोधन आदेश वापस उसी स्थान के लिए किया गया, फिर दुबारा उसका स्थानांतण हुआ, जिसमें क्षेत्र के जनप्रतिनिधि ने बकायदा मुख्यमंत्री को पत्र लिख यह बताया गया कि उक्त शिक्षक भाजपा के पक्ष में काम करता है, मामले से क्षुब्ध होकर शिक्षक न्याय की गुहार लगाने हाईकोर्ट की शरण ली, जहां से उसे राहत मिली और मामले पर रोक लगा दी गई।

प्रदेश सरकार में शिक्षकों के स्थानांतरण को लेकर शिक्षा मंत्री से विधायकों की तकरार का मामला सबके सामने आ चुका है। कोरिया जिले में स्थानांतरण को लेकर एक शिक्षक को प्रताडि़त करने का मामला सामने आया है। बाद में उसे न्यायालय का दरवाजा खटखटाने के लिए उसे मजबूर होना पड़ा, तब जाकर उसे न्याय मिल सका। दरअसल, भरतपुर के बहरासी के शा उच्च्तर माध्यमिक विद्यालय में पदस्थ व्याख्यता टी संवर्ग शिक्षक (एलबी) सच्चिदानंद साहू की माने तो उन्हें यहां हटाए जाने के लिए भरतपुर सोनहत क्षेत्र के जनप्रतिनिधि ने एड़ी चोटी का जोर लगाया, पहले वर्ष 2019 में उनका स्थानांतरण बलरामपुर करवाया गया, बाद में 13 फरवरी 2020 को आदेश में संशोधन करके शा उच्च्तर माध्यमिक विद्यालय बहरासी कर दिया गया। श्री साहू हिन्दी विषय के व्याख्याता है। स्कूल में लगभग 600 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं और शिक्षक काफी सक्रिय भी है। इसके उपरांत जनप्रतिनिधि फिर उनसे नाराज हो गए और इस बार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखकर बताया कि उक्त शिक्षक द्वारा भाजपा के पक्ष में काम किया जा रहा है। उन्हें इसकी शिकायत ग्रामीणों और स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने की है। इसके अलावा शिक्षक श्री साहू ने 6 अप्रैल 2021 को झूठी और मनगढं़त शिकायत बोर्ड परीक्षा केन्द्राध्यक्ष के संबंध उनके कर्मचारी और उनके प्रतिनिधि के खिलाफ सचिव स्कूल शिक्षा, सचिव माध्यमिक शिक्षा मंडल एवं जिला शिक्षा अधिकारी को पत्र प्रेषित कर किया गया। जिसके कारण उनका प्रशासनिक स्थानंातरण किया जाने के लिए उन्होनें प्रस्तावित कर और मुख्यमंत्री से निवेदन किया कि उक्त शिक्षक का स्थानांतरण जिले के बाहर करने की कृपा करें, फिर शिक्षक का स्थानांतरण मैनपाठ के शासकीय हाई स्कूल पुनिया  कर दिया गया।

कोर्ट ने दिया स्टे
बार बार स्थानांतरण से परेशान शिक्षक सच्चिदानंद साहू बताते हैं कि वो अधिवक्ता नरेन्द्र मेहर और ईशान वर्मा के माध्यम से हाई कोर्ट में याचिका लगाकर न्याय की गुहार लगाई। जिस पर न्यायमूर्ति पी सैम कोशी द्वारा सुनवाई की गई और अपर सचिव द्वारा जारी स्थानांतरण आदेश पर रोक लगा दी और शासन को जवाब तलब किया गया है। क्योंकि उक्त स्थानांतरण प्रशासनिक न होकर जनप्रतिनिधि की शिकायत के आधार पर किया गया था।


12-Oct-2021 5:59 PM (34)

प्रशासनिक कसावट के लिए कलेक्टर ने की कवायद

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया) 12 अक्टूबर।
कलेक्टर कोरिया ने राज्य प्रशासनिक सेवा संवर्ग के अधिकारियों और पटवारियों को नई जिम्मेदारी दी है जिससे कि जिले में प्रशासनिक कसावट व कार्य सुविधा सुनिश्चित की जा सके। कुछ दिन पूर्व कलेक्टर ने ऐसे अधिकारियों को एक टास्क भी दिया था ताकि वो और बेहतर करके दिखाएं।

इस संबंध में जारी आदेश के अनुसार सोनहत के वर्तमान एसडीएम प्रशांत कुमार कुशवाहा डिप्टी कलेक्टर (परीविक्षाधीन) को अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कोरिया एवं नोडल अधिकारी डीएमएफ की जिम्मेदारी प्रदान की गयी है। इसी तरह अश्विन कुमार पुसाम डिप्टी कलेक्टर व अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कोरिया को मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत बैकुंठपुर, अमित कुमार सिन्हा डिप्टी कलेक्टर व  मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत बैकुंठपुर को सोनहत का नया एसडीएम तथा डिप्टी कलेक्टर बहादुर सिंह मरकाम को अनुविभागीय अधिकारी राजस्व खडगवां चिरमिरी बनाया गया। जारी आदेश तत्काल प्रभावशील है। इस तरह कोरिया कलेक्टर श्याम धावडे द्वारा जिले में प्रशासनिक कसावट के लिए लगातार प्रयास कर रहे है और फेरबदल इसी तारतम्य में किया गया है। इसके पूर्व जिला प्रशासन के विभिन्न विभागों के अधिकारियों को विभिन्न ग्राम पंचायत क्षेत्रो में स्थित आश्रम छात्रावासों के सतत निरीक्षण के लिए नोडल अधिकारी की जिम्मेदारी कुछ दिनों पूर्व सौंपी गयी थी। जानकारी के अनुसार कलेक्टर कोरिया ने राजस्व विभाग के कुछ पटवारियों का भी फेरबदल कर नई पदस्थापना आदेश जारी किया।

पटवारी इधर उधर
कलेक्टर श्याम धावड़े ने भरतपुर तहसील के मेहदौली में पदस्थ पटवारी आशीष कुमार सिंह को मनेन्द्रगढ तहसील, राकेश कुमार तिवारी बैकुंठपुर के नगर से तहसील केल्हारी, संत अगस्तु पैकरा को घुटरा केल्हारी से तहसील बैकुंठपुर, अशोक कुमार कश्यप को तहसील बैकुंठपुर से तहसील सोनहत, मनोज सिंह को बंशीपुर सोनहत से तहसील बैकुंठपुर, शत्रुघन राम नटवाही सोनहत से तहसील बैकुंठपुर, अमरेश पांडेय सोरगा तहसील पटना से तहसील सोनहत भेजा है।
 


12-Oct-2021 5:14 PM (22)

एसडीएम के साथ खाद्य औषधि विभाग के निरीक्षक पहुंचे गोदाम

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया),  12 अक्टूबर।
कलेक्टर श्याम धावड़े के निर्देश पर एसडीएम के साथ खाद्य एवं औषधि प्रशासन की टीम तीसरी बार छिंदडांड़ स्थित नागरिक आपूर्ति निगम के गोदामों पर पहुंचीं। गोदाम का मुआयना किया, दवाईयों की दुर्गध खत्म हो चुकी थी, चावल के लॉट में से फिर सैंपल लेकर रायपुर भेजा गया। मंगलवार को एसडीएम के निरीक्षण में सड़ा चावल जैसी बात सामने नहीं आई, वहीं अब पूरी जांच खाद्य औषधि विभाग की रिपोर्ट पर टीकी है, कि चावल खाने लायक है या नहीं।

इस संबंध में एसडीएम ज्ञानेन्द्र सिंह ठाकुर का कहना है कि ढंक कर रखे चावल को दुबारा सैंपल लिया गया है, रिपोर्ट का ही इंतजार है, जांच जारी है। वहीं खाद्य एवं औषधि विभाग के निरीक्षक सागर दत्ता का कहना है कि 1 अक्टूबर को भेजे गए सैंपल की रिपोर्ट 15 अक्टूबर के बाद आ सकती है, वहीं आज तो सैंपल भेजा जा रहा है, उसकी रिपोर्ट को आने में समय लगेगा। जिस लॉट का सैंपल लिया गया है, उसको उचित मूल्य दुकानों मे भेजने से मना कर दिया गया है।

कलेक्टर श्याम धावड़े के निर्देश पर बीते 1 से 12 अक्टूबर तक तीसरी बार एसडीएम जांच के लिए नागरिक आपूर्ति निगम के गोदाम पहुंचें, उन्होंने पूरे गोदाम का मुआयना किया, गोदाम में काफी मात्रा में चावल के बोरों के छल्ले रखे हुए है, जिसमें से चावल निकाल निकाल कर देखा गया, वहीं उन्हें सैंपल के तौर पर रायपुर भेजे जाने के लिए पैकटों में भरा गया। वहीं मंगलवार को गोदाम में किए गए धुमरीकरण (फुमीगेशन) को लेकर दुर्गंध एकदम खत्म हो चुकी थी। जिसके बाद लिए गए सेंपल का पंचनामा बनाकर टीम लौट गई। इस दौरान मीडिया का काफी जमावड़ा देखा गया।

 नागरिक आपूर्ति निगम के गोदाम प्रभारी ने बताया कि बीते 1 अक्टूबर को जिस लॉट से सैंपल लिया गया था, उसमें 960 बोरे रखे हुए हंै, और अभी जिस लॉट से सेंपल लिया गया, उसमें 3480 बोरे हंै, जिन्हें रिपोर्ट आने तक कहीं सप्लाई नहीं किया जाएगा, हमारे पास उचित मूल्य दुकानों में भेजने के लिए काफी मात्रा में चावल उपलब्ध है।

7 दिन तक रहता है असर
नागरिक आपूर्ति निगम के गोदाम प्रभारी की मानें तो चावल को कीट पंतगों, चूहों से बचाने के लिए जिस दवा का उपयोग किया जाता है, उसका असर 7 दिन तक रहता है, उसके बाद मैलाथियान दवा का छिडक़ाव किया जाता है, खाद्यान पर इसका बिल्कुल भी प्रभाव नहीं होता है। मैलाथियान दवा के स्प्रे की दुर्गध 2 से 3 दिन तक गोदाम में रहती है। इसका भी प्रभाव खाद्यान पर बिल्कुल नहीं पड़ता है, जबकि कीट पतंगे चूहे यहां तक सांप भी इससे मर जाते हंै।
उन्होंने बताया कि वर्तमान में पोस्ट मानसून की समयावधि 1 सितंबर से 30 अक्टूबर तक होती है। यही कारण है जांच के दौरान चावल को ढंक कर रखा गया था।


Previous123456789...4041Next