छत्तीसगढ़ » कोरिया

Previous123456789...2930Next
30-Jul-2021 7:44 PM (25)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 30 जुलाई। राज्य सरकार द्वारा भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्र में प्राथमिकता के आधार पर लगातार विकास कार्यों की सौगात दी जा रही है। विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न ग्रामों में पुलिया, सीसी रोड निर्माण हेतु राज्य सरकार ने 10 कार्यों के लिए 1 करोड़ 96 लाख 53 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की है। जिस पर विधायक गुलाब कमरो ने क्षेत्रवासियों की ओर से मुख्यमंत्री, विधानसभा अध्यक्ष एवं जिले के प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू का आभार व्यक्त किया है।

विधायक के प्रयासों से 19 लाख 92 हजार की लागत से कटगोड़ी-मेन रोड से झरनापारा पहुँच मार्ग पर आर सी सी पुलिया निर्माण, 9 लाख 57 हजार की लागत से कछाड़ी मजगवा खुर्द में परशुराम के घर के पास आरसीसी  पुलिया निर्माण, 44 लाख 22 हजार की लागत से रजौली स्थित हंसीलाल घर से प्राथमिक शाला धनपुर तक 300 मीटर सीसी रोड निर्माण, 15 लाख 52 हजार की लागत से ग्राम कुदरा स्थित मुख्य सडक़ से बस्ती की ओर मसौरा में सीसी सडक़ निर्माण, 23 लाख 26 हजार की लागत से ग्राम पंचायत चनवारीडांड़ अंतर्गत वार्ड क्र. 16 में खैरमाता मंदिर के पास से बस्ती की ओर सीसी रोड निर्माण, 19 लाख 13 हजार की लागत से ग्राम पंचायत बेलबहरा में प्रधानमंत्री सडक़ से गोरेलाल के घर की ओर सीसी रोड निर्माण, 13 लाख 97 हजार रूपए की लागत से तेंदूडांड़ सेंट्रल स्कूल के पीछे से लक्ष्मण के घर की ओर 200 मीटर सीसी रोड निर्माण, 16 लाख 29 हजार की लागत से रामगढ़ में बस्ती से युवराज के घर तक 200 मीटर सीसी रोड निर्माण, 19 लाख 91 हजार की लागत से घटई में तिराहा से बस्ती की ओर सीसी रोड निर्माण एवं 14 लाख 74 हजार की लागत से पूंजी बस्ती से पंचायत भवन की ओर सीसी रोड निर्माण की प्रशासकीय मंजूरी प्रदान की गई है।


30-Jul-2021 7:25 PM (20)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया) 30जुलाई।
कोरिया जिले के मनेंद्रगढ तहसील क्षेत्र के ग्राम हस्तिनापुर के चक्काडॉडपारा के दर्जनों गामीणों ने कलेक्टर कोरिया को हस्ताक्षरयुक्त शिकायत देकर शा उचित मूल्य दुकान संचालन को यथावत रखने की मांग की।

कलेक्टर कोरिया को सौंपे गये अपने शिकायत में ग्राम हस्तिनापुर चक्काडॉडपारा निवासी उर्मिला, तेजकुंवर, बेलसिया, फूलकुंवर, फुलमत, इंद्रकुंवर, सोनकुंवर, बुद्धू सिंह, मन्तोरिया, गुलाब, मीराबाई, सोनमती, रीना, चंदाबाई,श्यामबाई, राधाबाई, पावर्तती, रूकणी,  मानकुंवर, रामदयाल, रामकुंवर, सोनकुंवर, सोनी बाई, लक्ष्मनिया, सत्यनारायण आदि ने कलेक्टर कोरिया को सौंपे अपने आवेदन में उल्लेख किया है कि उन्हे वर्तमान में पिपिरिया में स्थित उचित मूल्य दुकान से राशन प्राप्त होता है जो कि उनके गांव से करीब एक किमी की दूरी पर स्थित है जहां से लंबे समय से उन्हें राशन प्राप्त हों रहा है लेकिन ग्रामीणों ने कलेक्टर को लिखे अपने शिकायत में उल्लेख किया है कि अगले माह से चक्काडॉडपारा के दर्जनों ग्रामीणों को ग्राम हस्तिनापुर  पंचायत भवन में उचित मूल्य दुकान का संचालन किया जायेगा जहां से उन्हे राशन प्राप्त करना होगा। ग्राम हस्तिनापुर में उचित मूल्य दुकान का संचालन करने में ग्रामीणों को भारी परेशानियों का सामना करना पड सकता है। उन्होनें अपने शिकायत में बताया कि ग्राम हस्तिनापुर उनके मोहल्ले से करीब 4 किमी की दूरी पर स्थित है जहां पहुंच कर राशन लाने में ग्रामीणों को काफी परेशानियों का सामना करना पड सकता है, साथ ही वहां तक पहुंचने के लिए कच्ची सडक है जो कि बरसात में कीचड से भरा रहता है जिस पर चलना मुश्किल होता है। ऐसी स्थिति में चक्काडॉडपारा के ग्रामीणों ने शिकायत पत्र के माध्यम से मॉग की है कि उन्हे उचित मूल्य दुकान पिपरिया से ही लगातार राशन प्रदान किया जाये उचित मूल्य दुकान केा ग्राम हस्तिनापुर में स्थानांतरित नही किया जाये क्योकि इससे उनके मोहल्ले के लोगों केा भारी परेशानियों का सामना करना पड सकता है।
 


29-Jul-2021 8:36 PM (28)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 29 जुलाई। भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरो ने भूमिहीन खेती मजदूरों को सालाना 6 हजार की सहायता दिए जाने की राज्य सरकार की घोषणा को देश की पहली और अनूठी योजना बताते हुए मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष को धन्यवाद दिया है।

उल्लेखनीय है कि अनुदान मांग पर चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सदन में भूमिहीन खेतिहर मजदूर न्याय योजना की घोषणा करते हुए प्रति परिवार 6 हजार रुपये देने की बात कही। देश में अपनी तरह की पहली योजना के लिए सरकार ने 200 करोड़ रुपए का प्रावधान रखा है।

विधायक कमरो ने इसे मील का पत्थर बताते हुए कहा कि पूर्व सरकार ने किसानों को सिर्फ छलने का काम किया था। धान का समर्थन मूल्य 21 सौ रूपए का वायदा करके किसानों को बदले में सिर्फ धोखा दिया था। गरीबों का राशन कार्ड भी भारी संख्या में काट दिया गया था, लेकिन भूपेश सरकार ने न्याय योजना लाकर किसानों व मजदूरों को न्याय दिया। एपीएल और बीपीएल दोनों को राशन मुहैया कराया जा रहा है। विधायक ने कहा कि प्रदेश स्तर पर संचालित जन कल्याणकारी योजनाओं से प्रदेश का विकास तेजी से हो रहा है।


29-Jul-2021 7:06 PM (33)

विधायक ने सीएम समेत विस अध्यक्ष, सांसद और प्रभारी मंत्री का जताया आभार

छत्तीसगढ़ संवाददाता,
मनेन्द्रगढ़, 29 जुलाई।
छत्तीसगढ़ विधानसभा का इन दिनों मानसून सत्र चल रहा है जिसमें प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा अनुपूरक बजट विधानसभा में पेश किया गया, जिसे सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया।  मुख्यमंत्री ने पारित अनुपूरक बजट में छत्तीसगढ़ की नंबर 1 विधानसभा भरतपुर-सोनहत को करोड़ों रुपए के विकास कार्यों की सौगात दी है। अपने विधानसभा क्षेत्र की जनता की ओर से सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, कोरबा लोकसभा सांसद ज्योत्सना महंत एवं प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू के प्रति आभार प्रगट कर धन्यवाद ज्ञापित किया है।

उल्लेखनीय है कि विधायक गुलाब कमरो के अथक प्रयास व विकास कार्यों के प्रति लगनशीलता के कारण भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्र में तेजी के साथ विकास कार्य कराए जा रहे हैं जो अब धरातल पर नजर आने लगे हैं। अब तक भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्र में कई करोड़ों की महत्वपूर्ण विकास कार्यों की सौगात मिल चुकी है। विधायक द्वारा अपने विधानसभा क्षेत्र में लगातार विकास कार्यों की आधारशिला रखकर भूमि पूजन किया जा रहा है और पूर्ण हो चुके विकास कार्यों का लोकार्पण किया जा रहा है। भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्र में विकासखंड मनेंद्रगढ़, भरतपुर एवं सोनहत का क्षेत्र समाहित है। सभी जगह सामान रूप से विकास कार्य किए जा रहे हैं। जानकारी के मुताबिक विधायक के अथक प्रयास पर भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्र में बहुप्रतीक्षित विकास कार्यो के लिए 144 करोड़ 18 लाख 22 हजार रुपये छत्तीसगढ़ सरकार ने 2021-22 के प्रथम अनुपूरक बजट में  शामिल किया है। बजट में मुख्यमंत्री द्वारा कोरिया जिले के भरतपुर में राम वनगमन पर्यटन विकास के अंतर्गत ग्राम हरचौका में सीतामढ़ी के पास जय श्री महाकाल विकास कार्य की अनुमानित लागत 1 करोड़ 70 लाख 26 हजार, भरतपुर में राम वनगमन पर्यटन विकास के अंतर्गत ग्राम हरचौका में सीतामढ़ी के पास घाट पर कियोस्क कार्य की अनुमानित लागत 63 लाख 51 हजार, हरचौका में सीतामढ़ी के पास बैठने की जगह और घाट के आसपास पैदल मार्ग के साथ गजेबी निर्माण की अनुमानित लागत 1 करोड़ 16 लाख 45 हजार, कोटडोल-रामगढ़ मार्ग का उन्नतिकरण एवं पुनर्निर्माण अनुमानित लागत 68 करोड़ वहीं 140 करोड़ रूपए की अनुमानित लागत से बिहारपुर-बदरा-सोनहत मार्ग के उन्नतिकरण एवं पुनर्निर्माण की सौगात दी गई है। 

 


29-Jul-2021 6:44 PM (29)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
चिरमिरी, 29 जुलाई।
प्रदेश में खाद बीज की कमी, अघोषित बिजली कटौती, वर्मी कम्पोस्ट खाद खरीदने की बाध्यता से जूझ रहे किसानों की समस्याओं को लेकर भाजपा किसान मोर्चा ने 26 जुलाई को खडग़वां जनपद मैदान में विधानसभा स्तरीय एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया।प्रदर्शन के बाद भाजपा पदाधिकारियों ने राज्यपाल के नाम एसडीएम को पत्र भी सौंपा। 
प्रदर्शन के दौरान पूर्व विधायक श्याम बिहारी जयसवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकारअपने आपको किसान हितैषी बताती है लेकिन पिछले ढाई साल गुजर जाने के बाद भी इस सरकार ने किसानों को ठगने और धोखा देने के अलावा कुछ नहीं किया है। कांग्रेस की भूपेश सरकार ने घोषणा पत्र में किसानों से किए वादों जिसमें 2 साल का बोनस को पूरा नहीं किया दूसरा धान खरीदी के समय रकबा में कटौती कर किसानों को खून के आंसू रुलाया। 15 साल की भाजपा सरकार में किसान कभी अपनी फसल बेचने के लिए परेशान नहीं हुआ। उन्हें समय से भुगतान भी हो गया कभी-कभी किसान के सोसाइटी से घर पहुंचने से पहले ही धान की रकम खाते में आ जाती थी। लेकिन विगत ढाई वर्षों में कांग्रेस सरकार में किसानों को सालभर बीत जाने के बाद भी धान का पैसा नहीं मिल पाया। यह छत्तीसगढ़ के मेहनतकश किसानों के साथ अन्याय हैं। खाद की किल्लत को लेकर केंद्र सरकार पर आरोप लगा कर भूपेश सरकार किसानों को गुमराह कर रही है। झूठ बोल कर अपनी गलती केंद्र पर डालना चाहती है। जबकि हकीकत तो यह है कि केंद्र सरकार ने अपने राज्यों की तरह जितनी खाद की मांग की गई थी उतनी खाद छत्तीसगढ़ को भी भेजी है। लेकिन राज्य सरकार ने खाद के वितरण में गड़बड़ी और घोटाला किया उसके कारण आज किसानों को खाद की कमी का सामना करना पड़ रहा है।
 


29-Jul-2021 6:05 PM (22)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर (कोरिया) 29 जुलाई।
जिले के भरतपुर के बेहद दुर्गम इलाके की ‘छत्तीसगढ़’ की खबर के बाद प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची, ग्रामीणों से खबर में बताई गई की जानकारी ली और हर जानकारी सही पाई गई। इससे पहले कलेक्टर श्याम धावड़े ने खबर का संज्ञान लेते हुए उन क्षेत्रों में बिगड़े हैंडपंपों के तत्काल सुधार कार्य के लिए एसडीएम भरतपुर को निर्देशित किया था, जिसके बाद भरतपुर पीएचई एसडीओ की टीम ने कई हैंडपंप को सुधारा।

इस संबंध में उक्त क्षेत्र के नोडल अधिकारी जिला शिक्षा अधिकारी संजय गुप्ता ने ‘छत्तीसगढ़’ को बताया कि आपकी खबर के बाद दूसरे दिन मंै अपने दल के साथ रूषनी, बडग़ांवकला, ढाबतुमाड़ी पहुंचा, खबर की तस्दीक की गई, रूषनी में प्राथमिक स्कूल के उन्नयन कर माध्यमिक स्कूल खोले जाने का प्रस्ताव मंगाया गया है, बडग़ांवकला में छात्राओं के छात्रावास, यहां हाई स्कूल को हायर सेकेण्ड्री में उन्नयन करने का प्रस्ताव मंगाया गया है, इन क्षेत्रों मे बिगड़े सौर उर्जा प्लांट के लिए समय सीमा में कलेक्टर सर ने क्रेडा विभाग को सर्वे कर उनके तत्काल सुधार के निर्देश दिए है। शुद्ध पेयजल के लिए पीएचई विभाग मौके पर पहुंच कर हैंडपंप सुधार कार्य कर रहा है।

‘छत्तीसगढ़’ ने कोरिया जिले के भरतपुर तहसील के विभिन्न दूरस्थ क्षेत्रों के गांवों का भ्रमण कर मैदानी स्तर पर ग्रामीणों की समस्याओं को प्रकाशित किया था। जिस पर कलेक्टर कोरिया ने खबरों पर संज्ञान लिया और संबंधित अधिकारियों को तत्काल प्रभावित क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर समस्याओं का निराकरण के निर्देश दिये। इसके बाद क्षेत्र के नोडल अधिकारी मौके पर पहुंचेें। 

उन्होंने ‘छत्तीसगढ़’की खबर की तस्दीक ग्रामीणों से की, ग्रामीणों ने बताया कि सौर ऊर्जा प्लांट बंद होने के साथ साथ पेयजल, सडक़ की काफी दिक्कतों को उन्हें सामना करना पड़ रहा है। इसके अलावा जिन ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित हैंडपंप में लाल व गंदा पानी निकलने की शिकायत है, उन क्षेत्रों के हैंडपंपों का तत्काल सुधार करने के निर्देश दिये गये हैं, ताकि ऐसे प्रभावित ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों केा बरसात के दिनो में भी स्वच्छ पेयजल प्राप्त हो सके।

उन्नयन होंगे स्कूल
भरतपुर के दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्र बडगांवकला, रूषनी, रौंक, ढाब तुमाड़ी, केसौडा, बघेल जैसे ग्रामीण क्षेत्रों की दूरी काफी है, और क्षेत्र बेहद सघन वन से घिरा हुआ है, जिसके कारण जहां जो विद्यालय है ज्यादातर छात्र उतनी पढ़ाई कर आगे की पढ़ाई छोड़ दिया करते ंहै। खबर के बाद जिला शिक्षा अधिकारी ने ग्रामीणों ने इस विषय पर चर्चा की, उन्होंने वहां के पंचायत प्रतिनिधियों से स्कूलों के उन्नयन का प्रस्ताव मांगा है, उन्होंने कहा कि यहां के छात्रों के लिए बेहद जरूरी है, ताकि वो भी पढलिखकर कर आगे देश का नाम रौशन कर सके।

सौर ऊर्जा प्लांट होंगेे दुरूस्त
भरतपुर जनपद क्षेत्र में कई दूरस्थ स्थानों पर सौर ऊर्जा प्लांट के खराब होने की ‘छत्तीसगढ़’ की खबर को भी कलेक्टर ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने क्रेडा विभाग को पूरे क्षेत्र का सर्वे कर तत्काल सभी प्लांट के सुधार कार्य के निर्देश दिए है। जानकारी के अनुसार कलेक्टर कोरिया ने ‘छत्तीसगढ़’ में प्रकाशित जनहित की खबरों को गंभीरता से लेते हुए तत्काल ही आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये हंै, जिसके बाद मूलभूत सुविधाओं से पिछड़े ग्रामीण क्षेत्रों में विकास की आस जगी है।
 


29-Jul-2021 6:03 PM (35)

छत्तीसगढ़ शासन के राजपत्र में नई तहसील के तौर पर पटना का नाम प्रकाशित

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 29 जुलाई।
पटना को पूर्ण तहसील का दर्जा मिल गया है। छत्तीसगढ़ शासन के राजपत्र में पटना का नाम प्रकाशित किया गया है। संसदीय सचिव व स्थानीय विधायक अम्बिका सिंहदेव की पहल से पटना उप तहसील से जल्द ही तहसील के अस्तित्व में आएगा। 

संसदीय सचिव अम्बिका सिंहदेव ने क्षेत्रवासियों की मांग को मार्च माह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के समक्ष कोरिया जिला दौरे पर रखा और सीएम ने पटना को तहसील बनाने की घोषणा मार्च माह में कर दी थी। जिस पर अब अमल भी होना शुरू हो गया है। सीएम की घोषणा के बाद संसदीय सचिव के प्रयासों से पटना को पूर्ण तहसील का दर्जा मिल गया है। 

ज्ञात हो कि संसदीय सचिव और बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव पटना को पूर्ण तहसील का दर्जा दिलाने के लिए लगातार प्रयास कर रही थीं। उनकी कोशिशों ने सरकार का ध्यान भी खींचा। उन्होंने अपने ढाई साल के कार्यकाल में ही पटना को पूर्ण तहसील का दर्जा दिला दिया। जबकि 15 वर्षों की भाजपा सरकार में कई बार मांग उठने के बाद भी यहां के लोगो का सपना साकार नही हो सका। अब पूर्ण तहसील का दर्जा मिलने से क्षेत्रवासियों में जश्न और खुशी का माहौल है।

48 गांव होंगे तहसील में
बैकुंठपुर विधायक व सरकार में संसदीय सचिव अम्बिका सिंहदेव ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि बुधवार 28 जुलाई 2021 को छत्तीसगढ़ शासन के राजपत्र में पटना के नाम प्रकाशित किया गया है। उन्होंने बताया कि 18 पटवारी हल्के के 48 गांव पटना तहसील में शामिल होंगे। पटना को पूर्ण तहसील के दर्जा मिलने से यहां के लोगों की दिक्कतें दूर होंगी। 

संसदीय सचिव ने जताया आभार
संसदीय सचिव विधायक अम्बिका सिंहदेव ने पटना को पूर्ण तहसील की सौगात मिलने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव, विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत, प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू और राजस्व मंत्री जय सिंह अग्रवाल समेत राजस्व विभाग का क्षेत्रवासियों की ओर से आभार व्यक्त किया है। वहीं केल्हारी को पूर्ण तहसील का दर्जा मिलने पर केल्हारी वासियों ने विधायक और संसदीय सचिव अम्बिका सिंहदेव और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रति आभार प्रकट किया है। 

इस संबंध में संसदीय सचिव अम्बिका सिंहदेव में कहा कि क्षेत्र की जनता ने जिन उम्मीदों के साथ मुझे अपना प्रतिनिधि चुनकर विधानसभा में भेजा है, मैं उन उम्मीदों पर खरा उतरने प्रयासरत हूं। जायज मांगों को सरकार के समक्ष रखना और उनका समाधान कराना मेरी प्राथमिकता है। नए तहसील के गठन पर मैं सभी क्षेत्रवासियों को बधाई देती हूं।
 


28-Jul-2021 7:53 PM (42)

   भाजपा मंडल अध्यक्ष ने पत्रकार वार्ता में लगाए कई आरोप   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 28 जुलाई। सोमवार को नगर पालिका परिषद् मनेंद्रगढ़ सामान्य सभा की बैठक में विपक्ष के निर्वाचित पार्र्षदों के साथ सत्तापक्ष के पार्षद द्वारा गंभीर आरोप लगाया गया है। हम उसकी जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हैं। जानकारी मिल रही है कि पार्षदों के सवाल का जवाब न देकर अध्यक्ष बैठक छोडक़र चली गईं, उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि नगर पालिका में कितना भ्रष्टाचार हो रहा है। उक्त बातें मनेंद्रगढ़ के पूर्व नपाध्यक्ष एवं वर्तमान भाजपा मंडल अध्यक्ष धर्मेंद्र पटवा ने बुधवार को अपने निवास में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान कही।

भाजपा नेता पटवा ने कहा कि नपा मनेंद्रगढ़ भ्रष्टाचार का गढ़ बन चुका है। विकास के नाम पर घटिया निर्माण कार्य कराए जा रहे हैं। शासन की महत्वपूर्ण योजना गौठान में लाखों रूपए खर्च करने के बाद भी योजना का लाभ नहीं मिल रहा। गौठान में एक भी गाय नहीं है। मवेशी सडक़ पर घूम रहे हैं।

उन्होंने कहा कि अनियमितता का आलम यह है कि महिला मंडल सफाई विभाग में लगे पुराने गेट को हटाकर नया गेट लगाया गया, जबकि गेट बदले जाने की कोई आवश्यकता नहीं थी। इसमें केवल शासकीय धन का दुरूपयोग किया गया है। हद तो तब हो गई, जब सूत्रों से पता चला कि पुराना गेट निजी फॉर्म हाउस में लगा दिया गया, जो कि अपराध की श्रेणी में आता है। इसी तरह नपा की 22 लाख की जेसीबी मशीन जिसमें कुछ खराबी थी, उसे लगभग 5 लाख रूपए की लागत से सुधरवाया गया, इसके बाद उसका उपयोग भी निजी फॉर्म हाउस में किया गया। दोबारा जेसीबी में खराबी आने के बाद उसे अन्यत्र स्थानांतरित कर दिया गया है, जिसकी जांच होनी चाहिए।

उन्होंने आरोप लगाया कि डेढ़ करोड़ रूपए ट्यूबलर पोल का टेंडर अपने चहेते ठेकेदार को दिया गया, जिसकी जानकारी किसी भी पार्षद को नहीं है, परिषद् में जब इस बारे में जानकारी चाही गई तो अध्यक्ष के द्वारा कहा गया कि उन्हें इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है।

पूर्व नपाध्यक्ष ने कहा कि नपा में साधारण मरम्मत कार्य हेतु 12 लाख 40 हजार रूपए प्रति 3 माह में आता है, लेकिन इस बारे में किसी को कोई भी जानकारी नहीं दी जाती है। नपा में केंद्र सरकार की महती पीएम आवास योजना भी चरमराई हुई है। वहीं पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के नाम पर प्रदेश सरकार के द्वारा महत्वकांक्षी योजना राजीव गांधी आश्रय योजना के तहत् मनेंद्रगढ़ के विभिन्न वार्डों में पट्टा प्रदान किए जाने हेतु सर्वे कराया गया, लेकिन आज पट्टा के लिए जिस प्रकार से घुमाया जा रहा है, वह गरीबों के साथ बेहद भद्दा मजाक है।

भाजपा नेता पटवा ने आरोप लगाया कि नपाध्यक्ष द्वारा अधिकांश जानकारी को छिपाकर रखा जाता है। बहुत सी सार्वजनिक मुद्दों पर भी पार्षदों को जनप्रतिनिधि होने के बावजूद कोई जानकारी नहीं दी जाती। उन्होंने कहा कि यदि नपाध्यक्ष गलत नहीं हैं तो उन्हें सामना करना चाहिए, न कि परिषद् की बैठक छोडक़र जाना चाहिए।

अंत में भाजपा नेता ने कहा कि उनके द्वारा एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर नपा में व्याप्त अनियमितताओं की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की जाएगी। कार्रवाई नहीं किए जाने पर नपा कार्यालय का घेराव कर उग्र आंदोलन किया जाएगा।

बैठक में मंडल अध्यक्ष धर्मेंद्र पटवा के साथ भाजपा जिला उपाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह राणा, भाजपा मंडल महामंत्री अधिवक्ता संजय गुप्ता व रामचरित द्विवेदी एवं विवेक अग्रवाल उपस्थित रहे।


28-Jul-2021 7:47 PM (27)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 28 जुलाई। छत्तीसगढ़ टीचर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष उदय प्रताप सिंह ने बयान जारी कर बताया कि अनुविभागीय दंडाधिकारी (राजस्व) मनेन्द्रगढ़ द्वारा एसोसिएशन शिक्षकों के प्रतिनिधिमंडल को वार्ता के लिए सोमवार को आमंत्रित किया गया, जिसमें फेडरेशन की ओर से आरडी दीवान भी उपस्थित रहे। शिक्षकों के साथ एसडीएम कार्यालय में परस्पर चर्चा हुई।

विगत कुछ समय से शिक्षक समुदाय व अधिकारी के बीच जो खाई निर्मित हुई थी, उसे एक सौहार्दपूर्ण वातावरण द्वारा समाप्त करने का निर्णय लिया गया। दोनों पक्षों पर चर्चा के उपरांत सहमति बनी और कहा गया कि कर्मचारी व अधिकारी शासन के दो पहिए हैं, हम आपस में सामंजस्य बनाकर आगे कार्य करेंगे तथा एक-दूसरे का उत्साहवर्धन भी करेंगे साथ ही भविष्य में हमारा प्रयास रहेगा कि सामंजस्य के साथ शासन की योजनाओं व निर्देशों का पालन हो।

 वार्ता में प्रतिनिधिमंडल साथियों के साथ छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के कोरिया जिलाध्यक्ष उदय प्रताप सिंह, महेश शिवहरे, अशोक कुर्रे, गौरव त्रिपाठी, संजय ताम्रकार, सतीश सिंह सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।


28-Jul-2021 7:44 PM (25)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 28 जुलाई। पुलिस ने 1 देशी कट्टा और 4 जिन्दा कारतूस के साथ एक युवक को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ आम्र्स एक्ट के तहत् कार्रवाई की है।

मंगलवार को पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि कोई व्यक्ति देशी कट्टा लेकर सब्जी मण्डी के पास घूम रहा है। सूचना पर पुलिस द्वारा घेराबंदी कर रेड कार्रवाई की गई, जहां एक व्यक्ति सब्जी मंडी तालाब के पास देशी कट्टा लिए घूमते पाया गया। उसे पकडक़र पूछताछ करने पर उसने अपना नाम रवि जायसवाल (32) वार्ड क्रमांक 12 सब्जी मण्डी के पास मनेंद्रगढ़ का होना बताया। आरोपी के पास से 1 देशी कट्टा व 4 जिंदा कारतूस बरामद किए गए। पुलिस द्वारा आरोपी के खिलाफ आम्र्स एक्ट के तहत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया।


27-Jul-2021 10:46 PM (28)

बिहारपुर में शिक्षकों को ‘हराम की खा रहे हो’ कहे जाने का मामला

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 27 जुलाई।
एसडीएम के विवादित बोल के मामले में टीचर्स एसोसिएशन के बीच दो फाड़ हो गया है। संगठन के जिला अध्यक्ष ने जहां मामले में सुलह की बात कही है, वहीं ब्लॉक अध्यक्ष ने इसे शिक्षकों के मान सम्मान के खिलाफ बताते हुए पद से इस्तीफा दे दिया है। 

पूरे घटनाक्रम में जिला अध्यक्ष की भूमिका पर सवाल खड़े हो रहे हैं। बिहारपुर में शिक्षकों के संबंध में कथित रूप से आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करने के मुद्दे पर एसडीएम नयनतारा सिंह तोमर ने न तो माफी मांगी है और न ये बात मानी है कि उन्होंने ऐसा कुछ कहा।  बावजूद जिला अध्यक्ष ने उनसे मुलाकात के बाद यह बयान जारी कर दिया कि बातचीत सौहार्दपूर्ण रही और आगे से सब मिल-जुलकर कार्य करेंगे। 

जिला अध्यक्ष के इस रवैये के खिलाफ अध्यक्ष  टीचर्स एसोसिएशन के ब्लॉक अध्यक्ष ने इस्तीफा दे दिया और जिसे जिला अध्यक्ष ने स्वीकार भी कर लिया।
टीचर्स एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह ने रविवार को बैठक के बाद बताया कि मामले का पटाक्षेप हो गया है। माफी के सवाल पर उन्होंने कहा कि कोई शर्त लेकर थोड़ी बातचीत में नहीं जाया करते हैं। संविलियन को लेकर हम लोग मुख्यमंत्री से ऐसे ही खुशहाल माहौल में मिले थे। सोमवार को सुलह को लेकर वे सोशल मीडिया में ट्रोल हुए। उनसे मामले के पटाक्षेप को लेकर सवाल किया गया। उन्होंने कहा कि एसडीएम के साथ मुलाकात में भी अकेले नहीं गए थे बल्कि सब लोगों के बीच बैठकर सुलह हुई है।

जिला अध्यक्ष से पूछा गया कि आपने एसडीएम से सुबह सुलह की और इधर ब्लॉक अध्यक्ष ने इस्तीफा दे दिया। वे आपको एसडीएम का रिश्तेदार भी बता रहे हैं, तो उन्होंने कहा कि आरोप प्रत्यारोप की बातें चलती रहती है। सभी लोगों ने अपने विचार वहां बैठक में रखे। मैंने अकेले बात की, ऐसा कहना बिल्कुल झूठ है। एसडीएम द्वारा बोले जाने के साक्षी के संबंध में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि मामले का पटाक्षेप हो गया है, सभी ने अपनी बातें रखी है। ब्लॉक अध्यक्ष का इस्तीफा मैं स्वीकार कर लूंगा।

ज्ञात हो कि रविवार को शिक्षकों के साथ एसडीएम कि जिला अध्यक्ष की रविवार को एसडीएम से मुलाकात उनके कार्यालय में हुई। शनिवार की रात संकुल में बैठक होने की बात कर आने से मना करने वाले जिला अध्यक्ष उदय प्रताप अचानक मनेन्द्रगढ पहुंच गए। उन्होने यह तय किया कि 7 सदस्यीय दल एसडीएम से मिलने जाएगा। मामले को लेकर मनेन्द्रगढ रेस्ट हाउस में काफी देर मंत्रणा हुई। रविवार के दिन ही एसडीएम सभी सातों पदाधिकारी एसडीएम के कार्यालय पहुंचे। बातचीत में एसडीएम ने माफी मांगी और न ही ये बात मानी कि उन्होंने शिक्षकों को कुछ भी विवादित कहा है। सिर्फ जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह से ही एसडीएम की बात होती रही, परन्तु जब उन्होंने कहा कि ऐसा मंैने नहीं बोला है तो जिला अध्यक्ष को छोड़ शिक्षको ने कड़ा विरोध किया।  

जिला अध्यक्ष के द्वारा मामले को खत्म करने की बात कर डाली जिसके बाद ब्लॉक अध्यक्ष अभय तिवारी एसडीएम कक्ष से बाहर निकल आए। वहीं जिला अध्यक्ष ने मीडिया को बताया कि बातचीत बडी ही सौहार्दपूर्ण रही और अब सब मिलकर काम करेगें। ऐसा करने पर भी शिक्षकों ने विरोध जताया। ब्लॉक अध्यक्ष के बाद और भी इस्तीफे होने के आसार नजर आ रहे है। मामला जल्दी शांत होते नहीं दिख रहा है।  

रिश्तेदार है एसडीएम 
कुछ दिनों पूर्व एक पत्रकार ने बिना नाम लिखे सोशल मीडिया में कुछ विवादित पोस्ट डाली।
ऐसा बताया गया कि उक्त पोस्ट एसडीएम को लेकर है, जिसके बाद एक पंच जो उस व्हाट्सअप ग्रुप में नहीं थी, उसके द्वारा पत्रकार के खिलाफ थाने में एफआईआर दर्ज करा दी गई। इधर, सोशल मीडिया में छाए रहने वाले जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह ने बकायदा उक्त पोस्ट को दुबारा लिखकर यह बताया कि ये देखिए यह कहीं से भी एक पत्रकार की भाषा नहीं लग रही है। वो मेरे रिश्तेदार हैं। 

तय था कि जिलाध्यक्ष ही करेंगे पटाक्षेप 
जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह लंबे समय से इस पद पर पदस्थ हैं और जब जब शिक्षकों के खिलाफ मामला सामने आया, इसी तरह पटाक्षेप करते रहे हैं। एसडीएम के मामले में पूर्व में यह तय था कि शांत बैठे जिला अध्यक्ष ऐन मौके पर आकर मामले को सुलझा लेंगे। 

क्या लिखा ब्लॉक अध्यक्ष ने 
नमस्कार, समस्त मेरे शिक्षक साथियों, मुझे यकीन था कि मेरे कुछ भी लिखे बिना आप में से भी किसी का एक भी मैसेज नहीं आएगा। आज एसडीएम मैडम द्वारा जो बैठक हुई उसमें जो निर्णायक मंडली थी वो थी जिला कार्यकारणी जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह,  एवं जिला सचिव महेश शिवहरे, प्रांतीय पदाधिकारी अशोक कुर्रे, साथ ही अभय तिवारी, गौरव त्रिपाठी , संजय ताम्रकार , सतीश सिंह। आज एसडीएम से मिलने जाने की सूचना भी जिला अध्यक्ष द्वारा ही  मिली। जब हम सभी मैडम से सौहार्द्रपूर्ण माहौल में मिलने गए तो उनके द्वारा किसी भी प्रकार की अगुवाई नहीं की गई। साथ ही जब हम से वार्ता शुरू हुई तो शुरुआत से लेकर अंत तक सिर्फ जिला अध्यक्ष द्वारा ही बात कही गई और मैडम द्वारा कुछ भी नहीं कहा गया। 

उन्होंने ये कहा कि हम लोग के कारण उनकी पूरे राज्य में बदनामी हुई। जब जब हमको मौका मिला हमने उनके द्वारा कही गई बातों पर ध्यानाकर्षण कर बताया गया कि आप के द्वारा क्या और क्यों ऐसी बात कही गई। उनके द्वारा कही गई बात को स्वीकार नहीं किया गया। वार्ता उपरांत जब फोटो खींचने जैसी बात आई तो उनका कहना था कि नहीं फोटो नहीं क्योंकि मीडिया वाले गलत रिप्रेजेंट करेगे। और यहां तक कहा गया कि आप लोग अपने ग्रुप में किसी भी प्रकार की गलती या माफी या खंडन जैसी बात नही करेंगे। 
मैंने उसी वक्त उनका चेबर छोड़ दिया। उसके बाद फोटो भी खींची गई, विज्ञप्ति भी जिला अध्यक्ष द्वारा जारी कर दी गई। रेस्ट हाउस मनेन्द्रगढ में इस पटाक्षेप का भी विरोध किया जिसमें अभय, गौरव, संजय ताम्रकार भईया, मौजूद थे। जिला अध्यक्ष द्वारा बार-बार मुझपर ही कहा गया कि सब ठीक हो गया। आप की मानसिकता ही विरोध की है और फिर मैं वहां से चला गया। साथियों मुझे आप सभी से खेद है और मैं क्षमा प्रार्थी भी हूं। मैं अपने और अपने साथियों के सम्मान के साथ किसी भी प्रकार का समझौता नहीं करूंगा। आज मैंने निर्णय लिया है कि में अपना इस्तीफा देता हूं। मैं ऐसे जिलाध्यक्ष के साथ काम नहीं करूंगा जो अपने और अपने साथियों के सम्मान की रक्षा न कर सके। शुभ रात्रि।
 


27-Jul-2021 7:21 PM (37)

मनेन्द्रगढ़, 27 जुलाई। दो साल पुराने डंडे से पीटकर माँ की हत्या करने एवं सजा से बचने के लिए साक्ष्य छिपाने के जुर्म में प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश मनेंद्रगढ़ मानवेंद्र सिंह की अदालत ने आरोपी बेटे को अलग-अलग धाराओं में आजीवन एवं सश्रम कारावास की सजा सुनाई है।

15 अगस्त 2019 को विपिन कुमार सिंह उर्फ रामबच्चन सिंह द्वारा थाना झगराखंड में अपनी पत्नी सावित्री देवी की मृत्यु होने की सूचना दिए जाने पर पुलिस द्वारा मर्ग कायम किया गया। जांच में घटना स्थल का मुआयना कर साक्षियों की उपस्थिति में शव का पंचनामा तैयार कर चिकित्सकीय परीक्षण हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनेंद्रगढ़ भेजा गया। मर्ग जांच उपरांत 16 अगस्त 2019 को थाना झगराखंड में आशीष सिंह के विरूद्ध हत्या का अपराध दर्ज किया गया। आरोपी से पुलिस अभिरक्षा में साथियों के समक्ष पूछताछ करने पर उसके बयान के आधार पर घटना में प्रयुक्त एक बांस का डंडा जब्त किया गया। पुलिस द्वारा अभियोग पत्र न्यायालय में पेश किया गया। दोषसिद्ध पाए जाने पर झगराखंड थानांतर्गत वार्ड क्र. 12 पुरानी लेदरी निवासी आरोपी 32 वर्षीय आशीष उर्फ संतोष सिंह को धारा 302 के तहत् आजीवन कारावास एवं 100 रूपए अर्थदंड तथा धारा 201 के तहत् 5 वर्ष के सश्रम कारावास एवं 100 रूपए अर्थदंड की सजा सुनाई गई।

अर्थदंड अदा नहीं करने की दशा में आरोपी को 1-1 माह का कठोर कारावास पृथक से भुगतना होगा।


27-Jul-2021 4:30 PM (41)

  बिहारपुर में शिक्षकों को 'हराम की खा रहे हो' कहे जाने का मामला  
'छत्तीसगढ़' संवाददाता​
बैकुंठपुर, 27 जुलाई।
एसडीएम के विवादित बोल के मामले में टीचर्स एसोसिएशन के बीच दो फाड़ हो गया है। संगठन के जिला अध्यक्ष ने जहां मामले में सुलह की बात कही है, वहीं ब्लॉक अध्यक्ष ने इसे शिक्षकों के मान सम्मान के खिलाफ बताते हुए पद से इस्तीफा दे दिया है। 
पूरे घटनाक्रम में जिला अध्यक्ष की भूमिका पर सवाल खड़े हो रहे हैं। बिहारपुर में शिक्षकों के संबंध में कथित रूप से आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करने के मुद्दे पर एसडीएम नयनतारा सिंह तोमर ने न तो माफी मांगी है और न ये बात मानी है कि उन्होंने ऐसा कुछ कहा। 

बावजूद जिला अध्यक्ष ने उनसे मुलाकात के बाद यह बयान जारी कर दिया कि बातचीत सौहार्दपूर्ण रही और आगे से सब मिल-जुलकर कार्य करेंगे। 

जिला अध्यक्ष के इस रवैये के खिलाफ अध्यक्ष  टीचर्स एसोसिएशन के ब्लॉक अध्यक्ष ने इस्तीफा दे दिया और जिसे जिला अध्यक्ष ने स्वीकार भी कर लिया।

टीचर्स एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह ने रविवार को बैठक के बाद बताया कि मामले का पटाक्षेप हो गया है। माफी के सवाल पर उन्होंने कहा कि कोई शर्त लेकर थोड़ी बातचीत में नहीं जाया करते हैं। संविलियन को लेकर हम लोग मुख्यमंत्री से ऐसे ही खुशहाल माहौल में मिले थे। सोमवार को सुलह को लेकर वे सोशल मीडिया में ट्रोल हुए। उनसे मामले के पटाक्षेप को लेकर सवाल किया गया। उन्होंने कहा कि एसडीएम के साथ मुलाकात में भी अकेले नहीं गए थे बल्कि सब लोगों के बीच बैठकर सुलह हुई है।

जिला अध्यक्ष से पूछा गया कि आपने एसडीएम से सुबह सुलह की और इधर ब्लॉक अध्यक्ष ने इस्तीफा दे दिया। वे आपको एसडीएम का रिश्तेदार भी बता रहे हैं, तो उन्होंने कहा कि आरोप प्रत्यारोप की बातें चलती रहती है। सभी लोगों ने अपने विचार वहां बैठक में रखे। मैंने अकेले बात की, ऐसा कहना बिल्कुल झूठ है। एसडीएम द्वारा बोले जाने के साक्षी के संबंध में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि मामले का पटाक्षेप हो गया है, सभी ने अपनी बातें रखी है। ब्लॉक अध्यक्ष का इस्तीफा मैं स्वीकार कर लूंगा।

ज्ञात हो कि रविवार को शिक्षकों के साथ एसडीएम कि जिला अध्यक्ष की रविवार को एसडीएम से मुलाकात उनके कार्यालय में हुई। शनिवार की रात संकुल में बैठक होने की बात कर आने से मना करने वाले जिला अध्यक्ष उदय प्रताप अचानक मनेन्द्रगढ पहुंच गए। उन्होने यह तय किया कि 7 सदस्यीय दल एसडीएम से मिलने जाएगा। मामले को लेकर मनेन्द्रगढ रेस्ट हाउस में काफी देर मंत्रणा हुई। रविवार के दिन ही एसडीएम सभी सातों पदाधिकारी एसडीएम के कार्यालय पहुंचे। बातचीत में एसडीएम ने माफी मांगी और न ही ये बात मानी कि उन्होंने शिक्षकों को कुछ भी विवादित कहा है। सिर्फ जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह से ही एसडीएम की बात होती रही, परन्तु जब उन्होंने कहा कि ऐसा मंैने नहीं बोला है तो जिला अध्यक्ष को छोड़ शिक्षको ने कड़ा विरोध किया।  

जिला अध्यक्ष के द्वारा मामले को खत्म करने की बात कर डाली जिसके बाद ब्लॉक अध्यक्ष अभय तिवारी एसडीएम कक्ष से बाहर निकल आए। वहीं जिला अध्यक्ष ने मीडिया को बताया कि बातचीत बडी ही सौहार्दपूर्ण रही और अब सब मिलकर काम करेगें। ऐसा करने पर भी शिक्षकों ने विरोध जताया। ब्लॉक अध्यक्ष के बाद और भी इस्तीफे होने के आसार नजर आ रहे है। मामला जल्दी शांत होते नहीं दिख रहा है।  
रिश्तेदार है एसडीएम 
कुछ दिनों पूर्व एक पत्रकार ने बिना नाम लिखे सोशल मीडिया में कुछ विवादित पोस्ट डाली।
ऐसा बताया गया कि उक्त पोस्ट एसडीएम को लेकर है, जिसके बाद एक पंच जो उस व्हाट्सअप ग्रुप में नहीं थी, उसके द्वारा पत्रकार के खिलाफ थाने में एफआईआर दर्ज करा दी गई। इधर, सोशल मीडिया में छाए रहने वाले जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह ने बकायदा उक्त पोस्ट को दुबारा लिखकर यह बताया कि ये देखिए यह कहीं से भी एक पत्रकार की भाषा नहीं लग रही है। वो मेरे रिश्तेदार हैं। 

तय था कि जिलाध्यक्ष ही करेंगे पटाक्षेप जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह लंबे समय से इस पद पर पदस्थ हैं और जब जब शिक्षकों के खिलाफ मामला सामने आया, इसी तरह पटाक्षेप करते रहे हैं। एसडीएम के मामले में पूर्व में यह तय था कि शांत बैठे जिला अध्यक्ष ऐन मौके पर आकर मामले को सुलझा लेंगे। 

क्या लिखा ब्लॉक अध्यक्ष ने नमस्कार, समस्त मेरे शिक्षक साथियों, मुझे यकीन था कि मेरे कुछ भी लिखे बिना आप में से भी किसी का एक भी मैसेज नहीं आएगा। आज एसडीएम मैडम द्वारा जो बैठक हुई उसमें जो निर्णायक मंडली थी वो थी जिला कार्यकारणी जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह,  एवं जिला सचिव महेश शिवहरे, प्रांतीय पदाधिकारी अशोक कुर्रे, साथ ही अभय तिवारी, गौरव त्रिपाठी , संजय ताम्रकार , सतीश सिंह। आज एसडीएम से मिलने जाने की सूचना भी जिला अध्यक्ष द्वारा ही  मिली। जब हम सभी मैडम से सौहार्द्रपूर्ण माहौल में मिलने गए तो उनके द्वारा किसी भी प्रकार की अगुवाई नहीं की गई। साथ ही जब हम से वार्ता शुरू हुई तो शुरुआत से लेकर अंत तक सिर्फ जिला अध्यक्ष द्वारा ही बात कही गई और मैडम द्वारा कुछ भी नहीं कहा गया। 

उन्होंने ये कहा कि हम लोग के कारण उनकी पूरे राज्य में बदनामी हुई। जब जब हमको मौका मिला हमने उनके द्वारा कही गई बातों पर ध्यानाकर्षण कर बताया गया कि आप के द्वारा क्या और क्यों ऐसी बात कही गई। उनके द्वारा कही गई बात को स्वीकार नहीं किया गया। वार्ता उपरांत जब फोटो खींचने जैसी बात आई तो उनका कहना था कि नहीं फोटो नहीं क्योंकि मीडिया वाले गलत रिप्रेजेंट करेगे। और यहां तक कहा गया कि आप लोग अपने ग्रुप में किसी भी प्रकार की गलती या माफी या खंडन जैसी बात नही करेंगे। 

मैंने उसी वक्त उनका चेबर छोड़ दिया। उसके बाद फोटो भी खींची गई, विज्ञप्ति भी जिला अध्यक्ष द्वारा जारी कर दी गई। रेस्ट हाउस मनेन्द्रगढ में इस पटाक्षेप का भी विरोध किया जिसमें अभय, गौरव, संजय ताम्रकार भईया, मौजूद थे। जिला अध्यक्ष द्वारा बार-बार मुझपर ही कहा गया कि सब ठीक हो गया। आप की मानसिकता ही विरोध की है और फिर मैं वहां से चला गया। साथियों मुझे आप सभी से खेद है और मैं क्षमा प्रार्थी भी हूं। मैं अपने और अपने साथियों के सम्मान के साथ किसी भी प्रकार का समझौता नहीं करूंगा। आज मैंने निर्णय लिया है कि में अपना इस्तीफा देता हूं। मैं ऐसे जिलाध्यक्ष के साथ काम नहीं करूंगा जो अपने और अपने साथियों के सम्मान की रक्षा न कर सके। शुभ रात्रि।


26-Jul-2021 8:51 PM (30)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 26 जुलाई। शहर के निजी शैक्षणिक संस्थान बचपन प्ले स्कूल में वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर कारगिल विजय दिवस मनाया गया। भारत-पाकिस्तान युद्ध में कारगिल के सभी शहीदों की याद में श्रद्धांजलि समारोह का आयोजन किया गया। सुबह की प्रार्थना सभा में बच्चों और सभी शिक्षिकाओं ने देशभक्ति और शहीदों को समर्पित भाषण देकर श्रद्धांजलि अर्पित की।

शिक्षिकाओं ने कारगिल के शहीद जवानों की तस्वीरों के आगे नतमस्तक होते हुए फूल अर्पित किए। शिक्षिका मंजूश्री दत्ता ने वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर सभी बच्चों को कारगिल विजय दिवस के महत्व के बारे में समझाया। इसके बाद शिक्षिकाओं तथा विद्यालय की काउंसलर सोनाली दास ने कैंडल जलाकर शहीदों के प्रति देश प्रेम की भावना प्रकट की तथा नन्हें-मुन्ने बच्चों को देश प्रेम के जज्बे को बनाए रखने तथा बलवान बनने के लिए प्रेरित किया।

इस मौके पर बच्चों ने देशभक्ति अनेकता में एकता आधारित विषयों के सवालों-जवाबों से अपने ज्ञान का प्रदर्शन किया। अंत में सभी बच्चों को 26 जुलाई 1999 के कारगिल शहीदों की याद को समर्पित करते हुए मेडिटेशन के माध्यम से श्रद्धांजलि अर्पित करायी गई। कार्यक्रम को सफल बनाने में सभी शिक्षिकाओं एवं बच्चों का महत्वपूर्ण योगदान रहा।


26-Jul-2021 8:40 PM (33)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैंकुठपुर, 26 जुलाई। कोरिया में थाना खडग़वां पुलिस द्वारा 45 पेटी मध्य प्रदेश की अवैध अंग्रेजी शराब वाहन में परिवहन करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार किया। खडग़वां पुलिस टीम ने बैरिकेडिंग को तोड़ते हुए भाग रहे वाहन को पीछा कर आरोपी को पकड़ा। वहीं चोरी का मोबाईल बिक्री करने वाले को मनेंद्रगढ़ पुलिस ने पकड़ा।

पुलिस के अनुसार 24 जुलाई को जरिये मुखबीर सूचना मिली कि एक सफेद रंग की स्कार्पियो एमपी 18 4214 में अंग्रेजी शराब भर कर मध्य प्रदेश से बचरापोड़ी की ओर आ रहा है स्कार्पियो के आगे-आगे एक सफेद रंग की बिना नम्बर की कार रास्ते का रेकी करते हुए आ रही है की सूचना मिलने पर तत्काल पुलिस अधीक्षक कोरिया एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय को मुखबीर की सूचना से अवगत कराया गया एवं यथा निर्देशानुसार थाना प्रभारी खडग़वां विजय सिह के द्वारा तीन टीम का गठन कर एक टीम भुकभुकी घाट के नीचे दूसरी टीम थाना खडग़वां के सामने व तीसरी टीम बचरापोड़ी के पास नाकाबंदी करने हेतु लगाया गया।

पुलिस को छकाने के लिए रेकी करने वाली कार व शराब से भरी स्कार्पियो वाहन के द्वारा बार-बार जगह व रोड बदलने से घेराबंदी करने वाली टीम का जगह बदल-बदल कर अलग-अलग जगह पर घेराबंदी करने हेतु टीम लगाया गया। रात करीब 02 बजे रेकी करने वाली स्वीप्ट कार व शराब से भरी स्कार्पियों वाहन बचरापोड़ी से सिरमिना की ओर जाते दिखी जिसे मेन रोड मुगुम मे घेराबंदी किया गया। स्वीप्ट कार जैसे ही बैरीकेट के पास पहुंची व तेजी से बैक करके पुलिस के उपर गाड़ी को चढ़ाने का प्रयास करते हुए बैरीकेट को तोड़ते हुए भगा इतने में ही पीछे से शराब से भरी स्कार्पियो वाहन पहुंची, जिससे सामने से बैरीकेट व वाहन लगाकर रोकने का प्रयास किया गया, परन्तु स्कार्पियों वाहन बैरीकेट को तोडक़र पुलिस के उपर वाहन चढ़ाने का प्रयास करते हुए व शासकीय पुलिस वाहन को सामने से ठोकर मारकर भागने का प्रयास करने लगा, तो पुलिस टीम सूझबूझ एवं साहस का परिचय देते हुए वाहन को रोका पश्चात ड्रायवर गाड़ी से उतर कर भागने का प्रयास करने लगा, जिसे दौड़ाकर घेराबंदी कर पकड़ा गया नाम पता पूछने पर ड्रायवर ने अपना नाम रमाकांत उर्फ राहुल तिवारी निवासी हरदी थाना सिंहपुर जिला शहडोल मप्र का होना बताया गया एवं रैकी करने वाली कार में शिवम सिह एवं सौरभ सिह दोनो बुढ़ार मध्य प्रदेश के रहने वाले है। इन्ही के द्वारा अमलई मध्य प्रदेश से शराब गाड़ी मे लोड करवाकर सूरजपुर क्षेत्र मे खपाने के लिए लाया जा रहा था ऐसा बताया।

स्कार्पियों वाहन से 45 पेटी अंग्रेजी गोवा शराब प्रत्येक पाव 180 एमएल का सील बंद हालत मे मध्य प्रदेश की बनी हुई शराब कुल 2250 पाव मात्रा 405 लीटर कीमती करीब 3,00,000 रूपये का एवं पुरानी इस्तेमाली स्कार्पियों वाहन कीमती करीब 10,00,000 रूपये का जुमला कीमती कुल 13,00,000 रूपये का बरामद किया गया आरोपी के विरूद्ध अपराध क्र. 238/21 धारा 34(2) आबकारी एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया। आरोपी रमाकांत उर्फ राहुल तिवारी निवासी हरदी म.प्र. को गिरफ्तार कर 25 जुलाई को न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया है।

एक अन्य मामले में पुलिस को 25 जुलाई को मुखबिर से सूचना मिली कि एक व्यक्ति जिसका नाम विक्की बसोर वार्ड क्रमांक 1 केरडोल थाना पोड़ी जो कि बस स्टैंड मनेंद्रगढ़ में चोरी का मोबाइल बिक्री करने हेतु ग्राहक तलाश कर रहा है, कि सूचना पर हमराह स्टाफ के घेराबंदी का रेड कार्रवाई किए। जिसे मुखबीर के बताए अनुसार व्यक्ति के पास से चार  मोबाइल मिला। मोबाइल के संबंध में पूछताछ करने पर मोबाइल के संबंध में कोई दस्तावेज नहीं होना बताया चोरी के मोबाइल का संदेह होने पर मोबाइल को जब्त कर आरोपी को 25 जुलाई को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।


25-Jul-2021 11:22 PM (43)

   मोबाइल टॉवर, पर 2 शुरू नहीं, एक 10 वर्षों से बिगड़ा पड़ा    

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर, 25 जुलाई। आज जब लोग एक मिनट भी मोबाइल से दूर नहीं रह सकते, वहीं कोरिया जिले में ऐसे कई गांव है, जहां बिना मोबाइल कनेक्टिविटी के लोग रहने को मजबूर हंै। कहने को इस क्षेत्र में जीओ के दो टॉवर लगे हैं, पर एक भी शुरू नहीं हो पाया है,जबकि बीएसएनएल का एक टॉवर 10 वर्षों से बिगड़ा पड़ा है। वहीं जिला मुख्यालय बैकुंठपुर से 225 किमी दूर होने के कारण वर्षों से समस्याएं जस की तस बनी हुई है।

आज मोबाईल हर हाथ की जरूरत बन गया है। मोबाईल के बिना कोई काम आज नहीं होता। हर समय हाथ में मोबाईल होना ही चाहिए लेकिन कोरिया जिले के भरतपुर जनपद पंचायत अंतर्गत कई गांव ऐसे हैं, जहां पर आज भी मोबाईल टावर की समस्या से ग्रामीणों को जूझना पड़ रहा है।

जानकारी के अनुसार भरतपुर जनपद पंचायत क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बडग़ांवकला, बघेल, रूषनी, केसौडा, ढाब, तुमाडी, रौंकऐसे गांव हैं, यहां के लोग बिना मोबाइल की सुविधा के निवास कर रहे हंै। लोगों को मोबाईल टॉवर नहीं होने की समस्या से जूझना पड़ रहा है। जिसके कारण उक्त क्षेत्र के लोग देश दुनिया की जानकारी को प्राप्त नही ंकरने के अलावा अपने दूर रिश्तेदार परिचितों से संपर्क नहीं कर पाते हैं। इसके अलावा विद्यार्थियों को ऑनलाइन पढ़ाई करने में दिक्कतों का समाना करना पड़ रहा है।

ग्रामीणों के अनुसार उक्त क्षेत्र की करीब 22 सौ से 23 सौ के करीब जनसंख्या हंै। उक्त क्षेत्र में दो जियों मोबाईल टॉवर स्थापित किया गया है और एक बीएसएनएल का मोबाईल टॉवर लगाया तो गया है लेकिन बीएसएनएल का टॉवर पिछले 10 वर्षो से खराब है तो वह आज तक सुधार नहीं कराया जा सका है। वही ंजियो टॉवर शुरू ही नही हो पाया है। वैसे तो उक्त क्षेत्र के ग्रामीणों को कई तरह की परेशानियों से जूझना पड़ रहा है लेकिन सबसे ज्यादा परेशानी मोबाईल टावर को लेकर है। संचार सुविधा का अभाव होने के कारण लोग एक दूसरे से संपर्क नहीं कर पा रहे हंै।

हाई स्कूल के बाद ज्यादातर छोड़ देते हंै पढ़ाई

जानकारी के अनुसार भरतपुर जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम बडग़ांवकला में हाई स्कूल संचालित है, इस वजह से ज्यादातर विद्यार्थी हाई स्कूल उत्तीर्ण करने के बाद दूर जनकपुर व अन्य क्षेत्रों में बहुत कम जा पाते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि सबसे ज्यादा नुकसान लड़कियों को उठाना पड़ रहा है।  10वीं पास करने के बाद इस क्षेत्र की ज्यादातर घरों की लड़कियो ंको अभिभावक बाहर पढ़ाई करने नहीं भेजते। दूसरा आसपास के गांव बडग़ांवकला से दूर है जिस कारण छात्राएं हाई स्कूल की पढाई करने नहीं पहुच पाती है।

 ग्रामीणों की मांग है कि यदि बडगॉवकला में हायर सेकेण्डरी स्कूल की सुविधा प्रदान कर दी जाये तथा बालिकाओं के लिए छात्रावास खोल दिया जाये तो क्षेत्र के कई लडकियॉ हाई स्कूल व हायर सेकेण्डरी स्कूल तक पढाई छात्रावास में रहकर कर सकती है। पूर्व सरपंच शिवचरण ने बताया कि आस पास के सभी गांव के बच्चे हाई स्कूल पढऩे आते हंै।

उन्होंने बताया कि बडग़ांवकला हाई स्कूल में करीब 12 किमी दूर तक के बच्चे पढऩे आते हैं, जिनमें बालिकाएं भी शामिल हंै। बालिकाओं को हॉस्टल सुविधा मिलती तो उन्हें आसानी रहती है। ंग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार हाई स्कूल बडग़ांवकला स्थित हाई स्कूल में सिर्फ चार शिक्षक ही पदस्थ हैं।

सोलर प्लांट दो माह से खराब

भरतपुर जनपद पंचायत के दूरस्थ गॉवों में से एक बडगांवकला के पूरबपारा में स्थापित सोलर प्लांट दो माह से खराब पडा हुआ है जिसका सुधार कार्य नहीं कराया जा रहा है जिस कारण ग्रामीणों केा अंधेरे में रात काटने की मजबूरी है।

ग्रामीणों ने बताया कि इसके पूर्व सोलर प्लांट की एक सीट उड़ गयी थी जिसे ठीक कराया गया। वही पश्चिम पारा में सोलर प्लांट से कुछ समय के लिए लाईट जलने की शिकायत ग्रामीणों ने करते हुए कहा कि इसे भी सुधार कराये जाने की जरूरत  है ताकि पर्याप्त समय तक लोगों को रोशनी मिल सके। सरपंच जीवनलाल का कहना है कि बडग़ांवकला में काम तो पर्याप्त है लेकिन यहां बिजली ही नही रहती है जिसके अभाव में कोई काम नही हो रहा हैं।

दक्षिणपारा में न सडक़ न पानी

ग्राम बडग़ांवकला के दक्षिण पारा में पहुंचने के लिए सडक सुविधा का विस्तार नही ंकराया जा सका है और इसके अलावा प्रमुख समस्याओं में से एक पेयजल की समस्या है। यहां शुद्ध पेयजल की कोई व्यवस्था नहीं है, जिसके कारण अपने साधन से लोग पेयजल प्राप्त करते है तथा कई लोग ढोढ़ी का पानी पीने को मजबूर है। वहीं पिपरिया टोला में स्थित सोलर हैंडपंप का पाईट फट गया है जिसे कई महीने बीत जाने के बाद भी सुधार कार्य नही कराया गया जबकि पिपरियाटोला में  40 घर के परिवार रहते है जिन्हे शुद्ध पेयजल नही मिल पा रहा है। छात्रावास का सोलर हैंडपंप भी कई दिनों से खराब पड़ा हुआ है, वही आयुर्वेद औषधालय के पास का हैंडपंप भी काफी दिनों से बिगड़ा पड़ा है।

केल्हारी तक सडक़ सुविधा की मांग

बडगॉकला व आस पास के क्षेत्र के लोगों की मांग है कि केल्हारी जाने के लिए बडगांवकला से कच्चे रास्तें पर सडक की सुविधा हो।  क्षेत्र के ग्रामीण जंगल के रास्ते पैदल व बाईक से केल्हारी तक पहुंचते है। यदि बडगॉवकला से केल्हारी तक सडक बना दी जाती है तो क्षेत्र के कई गॉवों के लोगों केा केल्हारी  तक जाने की सडक सुविधा का लाभ मिल सकेगा और आसानी से लोगों का आना जाना हो सकेगा।

 वैक्सीनेशन की अपेक्षित गति नहीं

ग्रामीणों के अनुसार बडग़ांवकला व उसके आस पास के गॉवो के लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीनेशन भी अपेक्षित रूप से नही लग पाया है। ग्रामीण बताते है कि  45 प्लस वालों के लिए वैक्सीन आयी थी और कई लोगों ने पहला डोल लगवाया है लेकिन दूसरा डोज ज्यादातर लोगों को नहीं लग पाया है, वहीं 18 प्लस वाले ज्यादातर का वैक्सीनेशन नहीं हो पाया है।


25-Jul-2021 11:08 PM (31)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर 25 जुलाईं।आषाढ़ का महीना समाप्त होने के बाद सावन माह की शुरूआत 25 जुलाई से शुरू हो गया जो आगामी माह 22 अगस्त तक रहेगा। जिसमें खास बात यह है कि इस बार सावन की शुरूआत रविवार के दिन से शुरू हो रहा है और रविवार के दिन ही समाप्त होगा। सावन का महीना हिंदू धर्म के लोगों के लिए खास महीना माना जाता है। यह माह भगवान शिव की आराधना का माह होता है। इस माह में भोलेनाथ शिव की जी विशेष रूप से पूजा अर्चना की जाती है।

मान्यता है कि सावन माह में जो भी व्यक्ति सच्चे मन से भगवान भोलेनाथ की पूजा अचना करते है तो उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं यही कारण है कि प्रत्येक वर्ष सावन माह में भगवान शिव की विशेष रूप से पूजा अराधना विशेष से की जाती हैं। सावन माह की शुरूआत होने के साथ ही जिले भर के शिवालयो में साफ सफाई शुरू हो गयी है। पूरे सावन माह तक श्रद्धालुओं द्वारा भोलेनाथ शिव की बेलपत्र व अन्य पूजन सामग्रियों के साथ पूजा अर्चना की जाती है।

सभी ओर के शिवालयों में हर हर महादेव की गुंज पूरे सावन माह में सुनाई देती है इस दौरान कई शिवालयों में विशेष पूजा आराधना भी होता है। शहर के प्राचीन प्रेमाबाग स्थित शिव मंदिर के साथ शहर के विभिन्न क्षेत्रो में स्थित शिव मंदिर के साथ झुमका बांध तट स्थित शिव मंदिर, जमगहना में एनएच 43 किनारे स्थित शिव मंदिर, के साथ जिले भर के शिवालयों में प्रतिदिन श्रद्धालुओं द्वारा पूजा अर्चना की जायेगी। वहीं सोनहत मार्ग पर शिवघाट के जंगल में स्थित शिव मंदिर में भी दूर दूर के श्रद्धालुगण पहुॅच कर पूजा अर्चना करते देखे जा सकते है। 26 को आखिरी 16 को बेलपत्र से भगवान भोलेनाथ की विशेष पूजा की जाती है। सावन माह को पवित्र माह माना गया है जिस कारण ज्यादातर श्रद्धालुओं द्वारा सावन के महीने में  खान पान में भी पवित्रता का विशेष रूप से ध्यान रखा जाता है। इसी माह में कांवरियों के दल द्वारा कावंर यात्रा निकाली जाती है और किसी विशेष क्षेत्र में स्थित शिव मंदिर में जाकर जलाभिषेक करते है। कोरिया जिला मुख्यालय बैकुंठपुर के गेज नदी तट से भारी संख्या में श्रद्धालुओं के  दल द्वारा कांवर में जल भरकर बोल बम के नारे के साथ कांयर यात्रा निकाली जाती है। कांवरियों के दल द्वारा पैदल छूरीगढ पहाड स्थित प्राचीन शिवलिंग पर जलाभिषेक करने पहुंचते है। इस अवसर पर श्रद्धालुओं में काफी उत्साह देखने को मिलता हैं।

इस बार सावन में चार सोमवार 

सावन का महीना इस बार  25 जुलाई से शुरू हो गया इसके दूसरे दिन ही सोमवार का दिन पड रहा हैं सावन माह में सोमवार का विशेष रूप से महत्व रहता है। जिस कारण कई श्रद्धालुओं द्वारा सावन माह के सोमवार को व्रत रखकर भोले शिव की विशेष रूप से पूजा अर्चना करते है। जानकारी के अनुसार इस बार सावन माह में चार सोमवार पड रहे है। जानकारी के अनुसार इस वर्ष सावन माह शुरू होने के दूसरे ही दिन  26 जुलाई को पहला सावन सोमवार पड रहा हैं दूसरा सावन सोमवार 2 अगस्त, तीसरा सावन सोमवार 9 अगस्त तथा चौथा व अंतिम सावन सोवार 16 अगस्त को पड रहा हैं।

पहले ही दिन श्रद्धालुओं की देखी गयी भीड

सावन माह के पहले ही दिन शहर के प्राचीन प्रेमाबाग स्थित शिव मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड देखी गयी। सुबह होने के साथ ही स्नान कर विभिन्न पूजन सामग्रियों को लेकर श्रद्धालु प्रेमाबाग स्थित शिव मंदिर पहुंच कर पूजा अर्चना करते नजर आये। पूर्वान्ह तक इस मंदिर में श्रद्धालुओं का आना जाना लगा रहा जिनके द्वारा विधि विधान के साथ पूजा अर्चना की गयी।


25-Jul-2021 10:29 PM (30)

'छत्तीसगढ़' संवाददाता,

मनेन्द्रगढ़, 25 जुलाई। झगराखंड पुलिस ने बाइक में नशीली इंजेक्शन लेकर जा रहे 3 आरोपियों को हिरासत में लिया है। आरोपियों के पास से 7 हजार की नशीली इंजेक्शन जब्त की गई है।

झगराखंड पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि ब्लैक कलर की पल्सर मोटरसाइकिल से मनेंद्रगढ़ की ओर से तीन व्यक्ति नशीली इंजेक्शन लेकर अवैध रूप से बिक्री करने के लिऐ झगराखंड, खोगापानी की ओर थाना झगराखंड के सामने मेन रोड होकर जाने वाले हैं। सूचना पर थाना झगराखाड के सामने घेराबंदी की गई।

मुखबिर से प्राप्त सूचना के अनुसार पल्सर मोटरसाइकिल क्रमांक सीजी16सीसी-0365 पर सवार 3 व्यक्ति पहुंचे और पुलिस को देखकर मोटरसाइकिल मोडक़र भागने का प्रयास किए, जिन्हें दौड़ाकर पकड़ा गया। पूछताछ करने पर मोटरसाइकिल चला रहे व्यक्ति ने अपना नाम मनीष कुर्रे (23) पशु चिकित्सालय के पास मनेंद्रगढ़, दूसरे ने अपना नाम देवेंद्र दास पनिका (22) मनेद्रगढ़ सांई मंदिर के पास एवं तीसरे ने सागर यादव (19) अहमद कालोनी बंगाली मोहल्ला निवासी मनेद्रगढ़ का होना बताया। तीनों आरोपियों के पास से कुल 300 नग नशीली इंजेक्शन जब्त की गई। जब्त नशीली इंजेक्शन की अनुमानित कीमत 7 हजार 356 रूपए आंकी गई है। आरोपियों को एनडीपीएस एक्ट के तहत् गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में न्यायालय पेश किया गया।

कार्रवाई में थाना प्रभारी प्रद्युम्न तिवारी, प्रधान आरक्षक किशन चौहान, आरक्षक पुरुसोत्तम राय, ललित यादव, नवीन कुमार, अनिल जांगड़े, मुरारी सिंह, सैनिक उमाशंकर मिश्रा, भूपेद्र सिंह तथा सूकी अहमद शामिल रहे।


25-Jul-2021 9:28 PM (31)

'छत्तीसगढ़' संवाददाता,

मनेन्द्रगढ़, 25 जुलाई। स्थानीय पुलिस ने मनेंद्रगढ़ थाना क्षेत्र से चोरी गए 4 मोबाइल को बरामद कर मोबाइल चोरी के जुर्म में 1 आरोपी को गिरफ्तार किया है।
स्थानीय पुलिस को 25 जुलाई को मुखबिर से सूचना मिली कि एक व्यक्ति बस स्टैंड मनेंद्रगढ़ में चोरी का मोबाइल बिक्री करने हेतु ग्राहक तलाश रहा है। सूचना पर घेराबंदी कर रेड कार्रवाई की गई। मुखबिर के बताए अनुसार व्यक्ति के पास से 3 वीवो और 1 आइटेल कंपनी का कुल 4 नग मोबाइल मिला। पूछताछ करने पर मोबाइल के संबंध में कोई दस्तावेज नहीं होना बताया। चोरी के मोबाइल संदेह होने पर मोबाइल एवं मोटरसाइकिल जब्त कर आरोपी पोंड़ी थानांतर्गत केराडोल वार्ड क्र. 1 निवासी 31 वर्षीय विक्की बसोर को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाड पर भेजा गया। जब्त मोबाइलों की आईएमईआई चेक करने पर थाना मनेंद्रगढ़ से संबंधित होना पाया गया। अन्य मोबाइलों के संबंध में पतासाजी की जा रही है।
कार्रवाई में एसआई सचिन सिंह, एएसआई नईम खान, आरक्षक इस्तयाक खान, सोनल पांडेय, नियाज खान, जितेंद्र ठाकुर, राजेश रगडा, राकेश शर्मा एवं पुरूषोत्तम बघेल शामिल रहे।


25-Jul-2021 9:24 PM (24)

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 25 जुलाई।
गुरु पूर्णिमा पर समाजसेवी संस्था लिनेस क्लब मनेंद्रगढ़ समर्पण द्वारा सिविल लाइन स्थित श्री शिरडी सांई दरबार में शाम 7 बजे आरती के समय पहुंचकर प्रसाद एवं फल वितरित किया गया।

अध्यक्ष पम्मी अरोड़ा ने  कहा कि यह सत्य है कि गुरु बिना ज्ञान नहीं। गुरु ही हमें ईश्वर से मिलने का मार्ग बताते हैं। गुरू एक भाव है ईश्वर तक पहुंचने का मार्ग है, लेकिन जिसकी जितनी पात्रता उतना ही वह ले सकता है। उन्होंने यह भी बताया कि इस वर्ष हमारा मुख्य उद्देश्य  डिस्टिक प्रोजेक्ट के अनुसार मधुमेह निवारण, पीडि़त मानवता, पर्यावरण पुनर्जीवन, व्यसन मुक्ति पर जागरूकता, शिक्षा, शहरी स्वच्छता, भूख निवारण, युवाओं के लिए कार्यक्रम, स्वरोजगार एवं पशु पक्षियों की सुरक्षा विषयों पर हम अधिक से अधिक कार्य करेंगे।

इस अवसर पर क्लब की सचिव प्रतिभा अग्रवाल, कोषाध्यक्ष मधु जैन, चेयरपर्सन अनिता फरमानिया, कमलेश अरोड़ा, प्रीति अग्रवाल एवं माइक्रो मेंबर बेबी मखीजा उपस्थित रहीं।


Previous123456789...2930Next