राजपथ - जनपथ

छत्तीसगढ़ की धडक़न और हलचल पर दैनिक कॉलम : राजपथ-जनपथ : अटकलों पर अब धीरे-धीरे विराम
15-Sep-2021 5:36 PM (384)
छत्तीसगढ़ की धडक़न और हलचल पर दैनिक कॉलम : राजपथ-जनपथ : अटकलों पर अब धीरे-धीरे विराम

अटकलों पर अब धीरे-धीरे विराम

प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों पर अब धीरे-धीरे विराम लग रहा है। सीएम ने जिलों का दौरा शुरू कर दिया है, और बाबा भी विभागीय कामकाज में रूचि ले रहे हैं। पिछले 20 दिनों से नेतृत्व परिवर्तन की चर्चा तेजी से चल रही थी, और शासन-प्रशासन में कामकाज थम सा गया था। यह भी हल्ला उड़ा कि दिग्विजय सिंह पर्यवेक्षक बनकर छत्तीसगढ़ आ रहे हैं।

बताते हैं कि खुद दिग्विजय सिंह ने दिल्ली में कुछ लोगों से अनौपचारिक चर्चा में इससे इंकार किया है। उन्होंने कहा बताते हैं कि वो छत्तीसगढ़ नहीं जा रहे हैं, और नेतृत्व परिवर्तन जैसा कुछ भी नहीं है। कुछ लोगों का अंदाजा है कि राहुल गांधी के छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान सारी तस्वीर साफ हो जाएगी। हालांकि राहुल का आना अभी तय नहीं है। प्रदेश में बारिश को देखते हुए अगले पखवाड़े भर में उनका आना मुश्किल दिख रहा है। ऐसे में अफवाहों का बाजार तो गरम रहेगा ही।

सी-प्लेन की शुरुआत सतरेंगा से होगी?

सन् 2017 में गुजरात चुनावों के ठीक पहले प्रधानमंत्री ने केवडिय़ा से साबरमती तक सी प्लेन की शुरूआत की थी तब लोगों के ध्यान में इसे लेकर कौतूहल पैदा हुआ था। केन्द्र ने उसी वक्त घोषणा की थी कि देश में कम से 100 सी प्लेन टर्मिनल बनाये जायेंगे। इन पर काम स्मार्ट सिटी की तरह ही धीमी गति से हो रहा है। पर अब अपने छत्तीसगढ़ का नंबर लग सकता है। कोरबा से 30 किलोमीटर दूर हसदेव बांगो नदी के तट पर खूबसूरत पहाडिय़ों के बीच सतरेंगा पिकनिक स्पॉट है, जो पहले से ही काफी आकर्षक है, वहां सी प्लेन की सेवा शुरू करने की बात चल रही है। केन्द्र ने जिला प्रशासन से इसके बारे में डिटेल्स मांगी है। राज्य सरकार के माध्यम से इसे भेजा जायेगा। जो जरूरत बताई गई है करीब सभी यहां उपलब्ध हैं। मसलन एक हजार मीटर लंबी और 300 मीटर चौड़ी किंतु गहरी वाटर बॉडी और टर्मिनल निर्माण के लिये पर्याप्त जगह।

बीते साल फरवरी में इसी जगह पर राज्य मंत्रिमंडल की बैठक होनी थी। दो बार तारीख तय हुई पर अलग-अलग वजह से टल गई। मतलब, प्रशासन के अधिकारी सी प्लेन में रुचि तो दिखा रहे हैं, इसे कोरबा जिले और प्रदेश के नेता भी इस योजना को मूर्त रूप देना चाहेंगे। यह छत्तीसगढ़ का पहली सी प्लेन योजना होगी, जाहिर है प्रदेश के पर्यटन के विकास में यह एक उपलब्धि होगी।

सी प्लेन पानी और जमीन दोनों जगह लैंड कर सकती है। फिलहाल भारत में उपलब्ध सी प्लेन में सिर्फ 20 लोग एक साथ सफर कर सकते हैं। पर्यटकों को लुभाने के लिये इसका किफायती होना जरूरी होगा।

राजस्व में तबादलों का दर्द दर्ज हुआ..

प्रदेश के कई स्थानों पर एसडीएम और तहसीलदार स्तर के तबादले हुए। इनमें से कई के ऊपर जमीन माफियाओं की मदद करने का आरोप लगता रहा। करोड़ों की जमीन इधर-उधर कर ली गई। राजस्व रिकॉर्ड में फेरबदल किये गये। मांग थी इन अफसरों के खिलाफ कार्रवाई करने की मगर ऐसा मौका आया नहीं। अब नई जगह पर नई फाइलें, नई जमीनें। पुरानी जगह पर उनके ऊपर जो आरोप लगे वे ठंडे बस्ते में। ऐसे में सत्तारूढ़ दल के एक नेता का दर्द सोशल मीडिया पर छलक ही गया। बिलासपुर एसडीएम के तबादले पर उन्होंने पोस्ट डाली- ऐसे कर्मठ और लोकप्रिय अधिकारी को इस तरह नहीं हटाना चाहिये। जिनकी पोस्ट है वे खुद इतनी पकड़ राजधानी में रखते हैं कि तबादला रुकवा देते, पर लगता है कि उनकी बात नहीं सुनी गई। बस इतना ही हुआ कि बीजापुर की जगह उनकी रायपुर में पोस्टिंग दे दी गई। राजधानी तो राजधानी है, यहां  ज्यादा प्रीमियम जमीन और मौके हैं।

पुलिस एक नजर से देखती है...

बलौदाबाजार के विधायक प्रमोद शर्मा तकनीकी रूप से तो जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के विधायक हैं पर वे अपनी पसंद बता चुके हैं कि वे कांग्रेस के साथ हैं। दूसरी ओर सनम जांगड़े पूर्व विधायक भाजपा नेता हैं। उनके धरना प्रदर्शन के बाद थानेदारों पर तो कार्रवाई की गई पर दोनों नेताओं के खिलाफ भी पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया। धरना-प्रदर्शन करने पर आम तौर पर एफआईआर दर्ज नहीं की जाती। नेता जिद भी पकड़े तो थाने से ही मुचलके पर छोड़ दिया जाता है। पर यहां मामला कुछ गंभीर है। पुलिस ने अपनी ही ओर से जो एफआईआर दर्ज की है उसमें सरकारी काम में बाधा डालना, गाली गलौच करना और बलवा शामिल है। एफआईआर को मजबूत बनाने के लिये पुलिस वीडियो फुटेज और फोटोग्रॉफ्स भी इक_ा कर रही है। बात यह है कि जनप्रतिनिधियों और पुलिस के बीच ऐसा टकराव होने की नौबत बार-बार क्यों आ रही है। लोगों के काम नहीं होने के कारण जनप्रतिनिधि गुस्से में चल रहे हैं या ब्यूरोक्रेट्स के हाथ इतने खुल गये हैं कि वह किसी की सुन नहीं रहे? दोनों ही अप्रिय स्थिति है।

अन्य पोस्ट

Comments