छत्तीसगढ़ » कोरबा

Date : 11-Nov-2019

किसानों को समर्थन मूल्य 2500 रुपए मिले और राशि सीधे उनके खाते में जाए-धर्मजीत

नगरीय निकाय चुनाव के संदर्भ में पार्टीजनों की बैठक

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 11 नवंबर।
जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष व कोरबा प्रभारी ठा. धर्मजीत सिंह कोरबा प्रवास पर रहे। नगरीय निकाय चुनाव के संदर्भ में पार्टीजनों की बैठक लेने पहुंचे श्री सिंह ने मीडिया से चर्चा की।

प्रेस क्लब तिलक भवन में आहूत प्रेसवार्ता में धर्मजीत सिंह ने कहा कि जकांछ छत्तीसगढ़ में तीसरी पार्टी के अस्तित्व में है और कार्यकर्ताओं को लगातार रिचार्ज किया जा रहा है। कांग्रेस की सरकार घोषणा पत्र में किए वादों को पूरा नहीं कर पाई है। प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति खराब है। एटीएम कैश वाहन की दिनदहाड़े लूट, जेल ब्रेक जैसी घटनाएं हुई, महिलाएं सुरक्षित नहीं हंै और शराब का व्यवसाय तो कामधेनु की तरह हो गया। प्रदेश भर में कई जगह सड़कों की हालत तो चलने लायक भी नहीं है। ऐसे में भला प्रदेश के गृह, जेल एवं लोक निर्माण विभाग मंत्री ताम्रध्वज साहू को फेम इंडिया ने अवार्ड क्यों दिया, यह समझ से परे है। 

श्री सिंह ने कहा कि जिसने भी इनका नाम अवार्ड के लिए चुना वे छत्तीसगढ़ आएं, रायपुर तक आने का फ्लाईट, महंगे होटल में ठहरने से लेकर भोजन का खर्चा मैं दूंगा। चमचमाती गाड़ी में रायपुर कोरबा व पाली लाउंगा व वापस छोडूंगा। हां, यदि अच्छा पहनने में, अच्छा दिखने में यह अवार्ड दिया गया है तो हमें आपत्ति नहीं। धर्मजीत सिंह ने कहा कि रायपुर में स्काई वॉक, बिलासपुर में सिवरेज, अकलतरा में पुल की दशा के लिए 15 साल की सरकार जितना जिम्मेदार हैं, वहीं 10 माह से भूपेश बघेल की सरकार भी कारण नहीं ढूंढ पाई है। सुपेबेड़ा में किडनी की बीमारी का आज तक पता नहीं कर पाए। साइकिल के लिए 70 करोड़ रुपए स्वीकृत हुए लेकिन बांट नहीं पा रहे हैं, क्या कमीशन का झगड़ा है? उन्होंने मांग रखी की कोरबा में ट्रायबल यूनिवर्सिटी खोली जाए, हवाई अड्डा की सेवा शुरू हो, मेडिकल कॉलेज खोला जाए और बस्तर में एम्स खुले। हाथी कारिडोर बनाने के नाम पर लीपा-पोती की जा रही है। केन्द्र की सरकार पर निशाना साधा कि 2500 रुपए धान का समर्थन मूल्य पिछले वर्ष दिया है तो इस वर्ष भी दे, केन्द्र से राशि मांगने के लिए हम भी तैयार हैं। किसानों को समर्थन मूल्य 2500 रुपए मिले और राशि सीधे उनके खाते में जाए। 

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में बदलापुर की राजनीति का संकेत ठीक नहीं हैं, बदलापुर की बजाय विकासपुर की राजनीति करें। प्रदेश में वित्तीय स्थिति ठीक नहीं है। नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी योजना का भी हाल चारा घोटाला जैसा हो जाएगा। बेरोजगारी भत्ता, पेंशन, राशन कार्ड बनाने में अफरा-तफरी मची है। मंत्रियों का नियंत्रण अधिकारियों पर नहीं है। महापौर की चयन प्रक्रिया पूर्ववत जनता के बीच से होना चाहिए। बैलेट पेपर की बजाए ईवीएम से ही चुनाव कराना चाहिए। पत्रवार्ता में जकांछ जिलाध्यक्ष दीपनारायण सोनी, पवन अग्रवाल भी उपस्थित थे।


Date : 11-Nov-2019

अश्वमेध यज्ञ के रजत जयंती समारोह पर आयोजित 251 कुण्डीय गायत्री महायज्ञ के द्वितीय दिवस प्रियदर्शिनी इंदिरा स्टेडियम में वैदिक विधि विधान से देव आव्हान के साथ 251 कुण्डों में अग्नि का प्रज्वलन कर गायत्री मंत्र की विशिष्ट आहूति प्रदान की -चिन्मय पन्ड्या

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 11 नवंबर।
अश्वमेध यज्ञ के रजत जयंती समारोह पर आयोजित 251 कुण्डीय गायत्री महायज्ञ के द्वितीय दिवस सोमवार को प्रियदर्शिनी इंदिरा स्टेडियम में वैदिक विधि विधान से देव आवाहन के साथ 251 कुण्डों में अग्नि का प्रज्वलन कर गायत्री मंत्र की विशिष्ट आहूति प्रदान की गई।शांतिकुन्ज हरिद्वार से पधारे चिन्मय पन्ड्या व शैफाली जीजी ने आशीवर्चन प्रदान किया।उन्होंने यज्ञ की महिमा के साथ जीवन में होने वाले परिवर्तन को विस्तार से बताया।

श्रद्धेय चिन्मय पंड्या ने अपने आशीर्वचन में बताया कि समाज में विकृतियों का विकराल रुप सामने है और विकृतियों को बदलने की शक्ति यज्ञ में है।आज समाज को संस्कार की आवश्यकता है।समाज में व्याप्त कुविचारों से लडऩे की शक्ति यज्ञ में है।।गुरुदेव ने युग परिवर्तन का संकल्प लिया है और इस संकल्प की पूर्णता का सौभाग्य हम सबको मिला है।उन्होंने सभी से सतत सुकर्म के साथ   युग परिवर्तन की दिशा में कार्य करने का निवेदन किया।

251 कुण्डीय यज्ञ की शुरूआत अधवर्यु कालीचरण शर्मा,उदय किशोर मिश्रा,दिनेश पटेल,होता अरूण खण्डाग्ले,परमानन्द द्विवेदी,इन्द्रेश पथिक के द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के साथ की गई।जिसमें प्रज्ञासंगीत की प्रस्तुति ओंकार पाटीदार,हरिप्रसाद चौधरी,नारायण रघुवंशी,बसंत यादव,गणेश पवार व हेमंत द्वारा दी गई।वैदिक पद्धति के अनुसार यज्ञकर्म के शुभारंभ में देवपूजन,सप्तऋषि आह्वान,सर्वतोभद्र पूजन,नवग्रह आह्वान,वास्तुपूजन, षोडशमातृका पूजन,  सप्तमातृका पूजन के बाद अग्नि स्थापना कर गायत्री मंत्र की आहूतियां यज्ञ भगवान को समर्पित की गई।

याजकों को संबोधित करते हुए श्रद्धेय चिन्मय पंडया ने बताया कि गायत्री महामंत्र महानता के अवतरण का मन्त्र है जिससे जीवन में उच्चता,उत्कृष्टता के साथ उत्थान की दिशा में कदम बढ़ते हैं।

आप उन मशालों की तरह हैं जो विपरीत परिस्थितियों में समाज को दिशा देने का प्रयास कर रहे हैं आप साधारण मानव नहीं आप लोग महामानव हैं आप उस शक्ति के संवाहक हैं जिसने युग परिवर्तन की जिम्मेदारी लेते हुए युग निर्माण योजना की शुरुआत की है। पच्चीस वर्ष पहले देव शक्तियों के साथ मिलकर परम वन्दनीय माता भगवती देवी शर्मा ने अश्वमेध यज्ञ की शुरुआत की थी और लगातार 13 अश्वमेध यज्ञ के आयोजन के साथ वातावरण परिष्कार की कड़ी साधना की।


Date : 09-Nov-2019

बिलासपुर स्टेशन के पूर्वी छोर पर स्थित चुचुहियापारा फाटक में अंडरब्रिज (सबवे) का निर्माण को लेकर जिले से चलने वाली कुछ ट्रेनों को बंद किया, ट्रेनें रद्द, फिर बढ़ी यात्रियों की परेशानी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 9 नवंबर।
बिलासपुर स्टेशन के पूर्वी छोर पर स्थित चुचुहियापारा फाटक में अंडरब्रिज (सबवे) का निर्माण को लेकर जिले से चलने वाली कुछ ट्रेनों को बंद किया गया है जिसे लेकर एक बार फिर यात्रियों की परेशानी बढ़ गई हैं। जिले से 100 किलोमीटर दूर चल रहे निर्माण कार्य को लेकर भी ट्रेनों का परिचालन बाधित किए जाने से लोग हैरत में है।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की ओर से जारी जानकारी में बताया गया है कि सीमित ऊंचाई के बिलासपुर स्थित चुचुहियापारा रेलवे फाटक पर बन रहे अंडरब्रिज के लिए ब्लॉक लिया गया है। चार चरणों में किए जाने वाले कार्य के लिए अलग-अलग तिथियों में दस से 16 नवंबर तक ब्लॉक लिया जा रहा है। ब्लॉक के दौरान सभी बॉक्स को कट एंड कवर विधि के जरिए स्थापित करने का कार्य किया जाएगा। इस कार्य के फलस्वरूप अलग-अलग दिनों में बड़ी संख्या में एक्सप्रेस व पैसेंजर समेत यात्री ट्रेनों का परिचालन ठप किया जा रहा है। इनमें बिलासपुर से चांपा होकर गेवरा व रायगढ़ तक चलने वाली कुल 12 ट्रेन हैं। गौर करने वाली बात यह है कि 12 में 11 ट्रेन कोरबा-गेवरा की रद्द की जा रही हैं। इससे एक बार फिर यात्रियों को रेल मार्ग से आवागमन करने जद्दोजहद करनी होगी। इस बात को लेकर लोगों में खासी नाराजगी है कि बिलासपुर में चल रहे निर्माण कार्य के लिए कोरबा की ट्रेनों को क्यों ठप किया जा रहा है?

16 को गेवरा नहीं आएगी शिवनाथ
इस कार्य के फलस्वरूप एक बार फिर गेवरारोड से चलकर नागपुर के इतवारी स्टेशन तक जाने वाली प्रतिदिन ट्रेन शिवनाथ एक्सप्रेस भी प्रभावित की जा रही है। गेवरारोड-इतवारी शिवनाथ एक्सप्रेस(18239)- 16 नवंबर को गेवरा-बिलासपुर के मध्य रद्द रहेगी।

 इस ट्रेन का जिले के यात्री बड़ी संख्या में प्रयोग करते हैं, जिन्हें एक्सप्रेस पकडऩे बिलासपुर तक धक्के खाते जाना होगा। दूसरी ओर सुबह की पहली एक्सप्रेस हसदेव के भी रद्द कर दिए जाने से लोग अपने कार्य से जल्द रायपुर पहुंचकर शाम तक वापस इसी ट्रेन से कोरबा लौटने की सुविधा से 10,13, 16 व 17 नवंबर को वंचित होंगे।


Date : 09-Nov-2019

7 साल पुराने जमीन घोटाला मामले में आरोपी को एक वर्ष की सजा, एक हजार रुपए जुर्माने की सजा दी है

छत्तीसगढ़ संवाददाता

कोरबा, 9 नवंबर। न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी कटघोरा साक्षी दीक्षित ने जमीन घोटाले के 7 साल पुराने एक मामले में 3 आरोपियों को एक वर्ष के सश्रम कारावास व एक-एक हजार रुपए जुर्माने की सजा दी है। कोर्ट के फैसले की कापी के अनुसार इस मामले के परिवादी सूर्यकांत नायडू ने अपने भाई कटघोरा निवासी प्रमोद नायडू, पटवारी बजरंग पुलस्त व राजेश कुमार कश्यप के विरुद्ध कोर्ट में यह परिवाद 7 वर्ष पूर्व दाखिल किया था। जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि वर्ष 2003 में धनईया बाई की 35 डिसमिल जमीन के कूटरचित दस्तावेज तैयार कर उक्त तीनों ने विक्रय किया।

जबकि भू अभिलेखों में धनईया बाई की जमीन केवल एक डिसमिल शेष थी। वह पहले भी अपनी जमीन बेच चुकी थी। उसकी मृत्यु के बाद पटवारी ने धनईया बाई के कथित तौर पर बिलासपुर निवासी राजेश कुमार कश्यप को दिए आम मुख्तियारनामा के आधार पर पटवारी बजरंग पुलस्त ने 22 कालम जानकारी बाई व प्रमोद नायडू ने उक्त जमीन को क्रय किया। पटवारी बजरंग पुलस्त उस पटवारी हल्का में पदस्थ भी नहीं था।

इस परिवाद पर कोर्ट ने मामला दर्ज किया। जिसका उभयपक्षों की सुनवाई के बाद गत 2 नवंबर को निर्णय हुआ। न्यायिक मजिस्ट्रे ट प्रथम श्रेणी साक्षी दीक्षित ने धारा 420, 120 बी के तहत दोष प्रमाणित पाए जाने पर तीनों आरोपियों को एक-एक वर्ष की सजा व एक एक हजार रुपए जुर्माना देने की सजा दी। जुर्माना न देने पर एक एक महीना और जेल में काटना होगा। आरोपियों को मिली जमानत निरस्त कर उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में लेकर जेल भेजा गया।

 


Date : 09-Nov-2019

गिरा वटवृक्ष, रहा मार्ग बाधित, राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है

कोरबा, 9 नवंबर। बांकीमोंगरा क्षेत्र के जवाली गांव में अटल चौक के पास माहभर पहले बारिश के कारण बरगद का विशाल पेड़ धराशायी हो गया था। पेड़ गिरने के बाद रास्ता बंद हो गया है। राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

क्षेत्र के लोगों ने बताया कि बीते दिनों भारी बारिश से अटल चौक के पास मोड़ पर बड़ा बरगद का पेड़ नीचे गिरा हुआ है। पेड़ आम रास्ते में गिर गया है। इससे दुर्घटना का अंदेशा व अनहोनी की आशंका बनी हुई है। अब तक ग्राम पंचायत ने इस पेड़ को नहीं हटाया है। चौक में लोगों का आना-जाना लगा रहता है। सडक़ को सुगम बनाने की ओर जनप्रतिनिधियों का भी ध्यान नहीं है।


Date : 08-Nov-2019

पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में पुलिस अधिकारियों व जवानों का परेड कार्यक्रम, उसी दौरान बलवा मॉकड्रील रिहर्सल के तहत कुसमुंडा थाना प्रभारी राकेश मिश्रा के नेतृत्व में बलवाईयों के उग्र हो जाने के कारण हिंसक झड़प 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 8 नवंबर।
रजगामार रोड स्थित पुलिस लाइन में बलवाईयों ने उत्पात मचाया। स्थिति नियंत्रण को लेकर पुलिस को वाटर केनन व आंसू गैस छोडऩे पड़े। स्थिति बिगड़ते देख फायरिंग भी करनी पड़ी। झड़प में कई घायल हो गए जिन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। स्थिति नियंत्रण में पुलिस अधिकारी डटे रहे। 

यह नजारा शुक्रवार को पुलिस के बलवा मॉकड्रील रिहर्सल के दौरान देखने को मिला। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उदयकिरण के नेतृत्व में पुलिस अधिकारियों व जवानों का परेड कार्यक्रम चल रहा था। उसी दौरान बलवा मॉकड्रील रिहर्सल के तहत कुसमुंडा थाना प्रभारी राकेश मिश्रा के नेतृत्व में बलवाईयों के उग्र हो जाने के कारण हिंसक झड़प हुई। झड़प के दौरान न्यायिक दण्डाधिकारी मजिस्ट्रेट के किरदार में कोतवाली टीआई दुर्गेश शर्मा के आदेश पर हवाई फायरिंग की गई जिसके बाद हड़कम्प मच गया। जिसमें कई बलवाई घायल हो गए जिन्हें रेस्क्यू टीम द्वारा अस्पताल दाखिल कराया गया। कुछ देर बाद पूरी तरह से स्थिति नियंत्रण में हो गई। पुलिस अधीक्षक जेएस मीणा के मार्गदर्शन एवं एएसपी उदय किरण के निर्देशन में मॉकड्रील किया गया। विकट परिस्थिति में पुलिस कितनी सजगता से काम करती है, यह तय करने के लिए मॉकड्रील किए जाते हैं। इसी के तहत जिला पुलिस द्वारा भी मॉकड्रील कर अपनी तैयारियों का जायजा लिया गया।

 


Date : 06-Nov-2019

बालपुर बाइपास रेलमार्ग से कोरबा से रायगढ़-राउरकेला तक यात्री ट्रेन शुरू करने तथा गेवरारोड से चलने वाली मेमू लोकल का समय परिवर्तित करने को लेकर माकपा 11 को करेगी रेल रोको आंदोलन

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
कोरबा, 6 नवंबर।
 बालपुर बाइपास रेलमार्ग से कोरबा से रायगढ़-राउरकेला तक यात्री ट्रेन शुरू करने तथा गेवरारोड से चलने वाली मेमू लोकल का समय परिवर्तित करने पर रेल प्रबंधन मंथन कर रहा है। रायगढ़ के लिए ट्रेन चलाने का निर्णय केंद्रीय स्तर पर लिया जाएगा। क्षेत्रवासियों की मांग से उच्च प्रबंधन को अवगत करा दिया गया है। एआरएम की पहल पर माकपा नेताओं ने कहा कि मांग पूरी होने पर ही आंदोलन स्थगित किया जाएगा।

यात्री सुविधाओं से जुड़ी 11 सूत्रीय मांग को लेकर माकपा ने 11 नवंबर को रेल रोको चक्काजाम करने की चेतावनी दी है। इस आंदोलन को टालने के लिए एआरएम अरिजीत सिंह ने माकपा नेताओं के साथ सोमवार को बैठक की। इस दौरान प्रतिनिधिमंडल ने अपनी समस्याओं से अवगत कराया। माकपा नेता वीएम मनोहर ने हसदेव एक्सप्रेस को गेवरारोड से चलाने, यशवंतपुर और गेवरा लोकल का कनेक्टिंग समय ठीक करने, कोरबा रेल्वे स्टेशन गेट नंबर दो में टिकट काउंटर व साइकिल स्टैंड चालू करने, गेवरा स्टेशन में रिजर्वेशन का समय बढ़ाने, इमलीछापर फाटक संबंधी बात रखी। साथ ही कहा कि गेवरा स्टेशन में सुबह 7.55 चलने वाली ट्रेन के समय में बदलाव कर 7.30 किया जाए, जिससे यशवंतपुर ट्रेन जो कोरबा से चलती है उसे पकडऩे वाले बांकी-गेवरा दीपक कुसमुंडा एवं अन्य जगह की यात्रियों को लाभ मिल सके। माकपा नेता ने कहा कि प्रतिदिन मालगाड़ी का संचालन बिना किसी रुकावट के चल रही है। 

प्रतिदिन लगभग करोड़ों का राजस्व भी प्राप्त हो रहा है, लेकिन यात्री सुविधा के नाम पर कोरबा कि जनता के साथ धोखा दिया जा रहा है रेल लाइन के आधुनिकीकरण के नाम पर यात्री ट्रेनों को निरस्त किया जाना न्याय संगत नहीं है। जिले में सड़कों की हालत इतनी दयनीय है कि रोज सड़क दुर्घटना के कारण जाने जा रही है। कोरबा के आवाम का एकमात्र सहारा रेल यात्रा है। इस पर एआरएम ने कहा कि सुबह 7.50 बजे रायपुर तक जाने वाली मेमू लोकल को 20 मिनट पहले 7.30 बजे छोडऩे के लिए प्रस्ताव भेजा गया है। इसके साथ ही वैनगंगा यशवंतपुर सुपरफास्ट का समय बढ़ाने पर मंथन चल रहा है। समय परिवर्तन करने के पहले अन्य गाडिय़ों के भी परिचालन का समय देखा जाएगा। इसके बाद ही निर्णय हो सकेगा कि किस ट्रेन का समय बदला जाए, ताकि किसी तरह की दिक्कत न हो सके। सेंकेड एंट्री में वाहन पार्किंग समेत अन्य सुविधाएं बढ़ाने पर एआरएम ने कहा कि वर्तमान में आटोमैटिक टिकट मशीन लगाई गई है। शीघ्र ही दूसरी मशीन लगाई जाएगी। यात्रियों का आवागमन बढऩे पर वाहन पार्किंग स्टैंड बनाकर ठेका आबंटित किया जा सकता है। ट्रेनों के अनियमित ढंग से परिचालन करने पर आपत्ति जताते हुए माकपा नेताओं ने कहा कि क्षेत्रवासियों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। विलंब से ट्रेन चलने पर यात्रियों का समय व धन दोनों बर्बाद हो रहा है। इस पर एआरएम ने कहा कि सभी ट्रेन को नियमित समय पर चलाने की कोशिश हो रही है। जल्द ही सुविधा मिलने लगेगी। आंदोलन स्थगित करने के संबंध में माकपा नेताओं ने कहा कि लंबे समय से गेवरा क्षेत्र के यात्रियों की समस्याओं के निराकरण की मांग की जा रही है। 11 नवंबर के पहले समस्या समाधान नहीं होता है तो रेल रोको चक्काजाम अवश्य किया जाएगा। 

इस दौरान माकपा नेता वीएम मनोहर, जनाराम कर्ष, एसएन बनर्जी, प्रशांत झा समेत अन्य प्रतिनिधि उपस्थित रहे।


Date : 05-Nov-2019

राज्य के स्थापना दिवस के अवसर पर एनटीपीसी पश्चिमी क्षेत्र की ओर से साइंस कॉलेज ग्राउंड रायपुर में आयोजित प्रदर्शनी में लगाए गए स्टॉल को भी इंडस्ट्री कैटेगरी में तृतीय पुरस्कार

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
कोरबा, 5 नवंबर।
छत्तीसगढ़ राज्य के स्थापना दिवस के अवसर पर जारी छत्तीसगढ़ राज्योत्सव 2019 में एनटीपीसी लारा को राज्य सरकार के प्रतिष्ठित स्वर्गीय रामानुज प्रताप सिंहदेव स्मृति श्रम यशस्वी पुरस्कार 2018-19 से समानित किया गया है। साथ ही एनटीपीसी पश्चिमी क्षेत्र मु यालय की ओर से साइंस कॉलेज ग्राउंड रायपुर में आयोजित प्रदर्शनी में लगाए गए स्टॉल को भी इंडस्ट्री कैटेगरी में तृतीय पुरस्कार मिले।

रायपुर के स्थानीय साइंस कॉलेज के विशाल प्रांगण में जारी राज्योत्सव के तीसरे दिन यह पुरस्कार एक भव्य समारोह में छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत एवं मु यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदान किया। एनटीपीसी लारा के कार्यकारी निदेशक संजय मदान के साथ रामानंद ताम्रकार, उप महाप्रबंधक सुरक्षा एवं हरीश मित्तल वरिष्ठ प्रबंधक सुरक्षा ने यह पुरस्कार ग्रहण किया। यह प्रतिष्ठित अलंकरण राज्य शासन से श्रम के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली संस्था को प्रदान किया जाता है। पुरस्कार में ट्राफी, प्रमाणपत्र एवं एक लाख की राशि प्रदान की जाती है। इसी कड़ी में एनटीपीसी के पवेलियन को उद्योग क्षेत्र के उत्कृष्ट स्टॉलों की श्रंखला में तृतीय पुरस्कार से स मानित किया गया। यह पुरस्कार मु यमंत्री भूपेश बघेल से आशुतोष नायक प्रबंधक कॉर्पोरेट क युनिकेशन, विष्णु साहू उप-प्रबंधक कॉर्पोरेट क युनिकेशन, अरुण कुमार मिश्रा, सहायक प्रबंधक राजभाषा एवं नेहा खत्री ऑफिसर कॉर्पोरेट क युनिकेशन ने ग्रहण किया।

 


Date : 05-Nov-2019

राज्योत्सव-2019 में भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बाल्को) के पैवेलियन ने उत्कृष्ट साज-सज्जा और आकर्षक प्रस्तुति के लिए श्रेष्ठ पैवेलियन का द्वितीय पुरस्कार जीता

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
कोरबा, 5 नवंबर।
छत्तीसगढ़ राज्योत्सव-2019 में भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बाल्को) के पैवेलियन ने उत्कृष्ट साज-सज्जा और आकर्षक प्रस्तुति के लिए श्रेष्ठ पैवेलियन का द्वितीय पुरस्कार जीता।

प्रदेश के मु यमंत्री भूपेश बघेल के हाथों बाल्को के कॉरपोरेट अफेयर्स सह महाप्रबंधक अमित सिंह और कंपनी संवाद सह प्रबंधक विजय वाजपेयी ने पुरस्कार ग्रहण किया। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, संस्कृति, योजना एवं खाद्य मंत्री अमरजीत भगत, कृषि मंत्री रविंद्र चौबे, कोरबा सांसद ज्योत्सना महंत सहित अनेक जनप्रतिनिधि और छत्तीसगढ़ शासन के अधिकारी मौजूद थे। राज्योत्सव रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में आयोजित हुआ। राज्योत्सव के दौरान बाल्को पैवेलियन में मौजूद अधिकारियों ने आगंतुकों को बाल्को के अनेक सामुदायिक विकास कार्यों एवं एल्यूमिनियम निर्माण प्रक्रिया की जानकारी दी। प्रदर्शनी में आगंतुकों को वेदांता समूह की नंदघर परियोजना, नए राजधानी क्षेत्र के सेक्टर-36 में स्थापित बाल्को मेडिकल सेंटर के अलावा शिक्षा उन्नयन, युवा स्वावलंबन, आधारभूत संरचना विकास संबंधी अनेक परियोजनाओं एवं एल्यूमिनियम निर्माण प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी डिस्प्ले पैनलों, अनेक पत्रिकाओं और ब्रोशरों के जरिए दी गई। आगंतुकों ने बाल्को पैवेलियन की सराहना की।


Date : 04-Nov-2019

करतली जंगल में पेड़ों की अवैध कटाई, ग्रामीणों को नकद में खरीदी का लालच देकर तस्कर चोरी के लिए मजबूर कर रहे , रातोंरात कट रहे इमारती पेड़ों की ट्रक व ट्रैक्टर से ढुलाई, कोई करवाई नहीं 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
कोरबा, 4 नवंबर।
जिले के विभिन्न जंगलों में अवैध कटाई के मामले उजागर हो चुके हैं। कई मामलों में लकड़ी जब्त कर जांच चल रही है। ताजा मामला कटघोरा वनमंडल के पाली वन पनपरिक्षेत्र अंतर्गत करतली जंगल का है। यहां साल पेड़ों की अवैध कटाई की जा रही है। तीन माह से वन विभाग के कर्मचारियों का पेट्रोलिंग बंद है। बताया जाता है कि जंगल के आसपास रहने वाले ग्रामीणों को नकद में खरीदी का लालच देकर तस्कर चोरी के लिए मजबूर कर रहे हैं। रातोंरात कट रहे इमारती पेड़ों की ट्रक व ट्रैक्टर से ढुलाई हो रही है। लगातार हरे पेड़ों की कटाई से हरियाली क्षेत्र सिमटने लगा है।

एक ओर देश भर में पौधे लगाओ हरियाली बचाओ के नारे लग रहे हैं, वही पाली वनपरिक्षेत्र में पेंड़ों की कटाई से हरियाली का विनाश हो रहा है। मानगुरु पहाड़ी श्रृंखला से जुड़े पाली वन परिक्षेत्र में लकड़ी तस्कर सक्रिय हो गए हैं। करतली जंगल में साल, सरई, चार आदि के वयस्क पेड़ों की कटाई हो रही है। सघन जंगल में पेड़ों की कटाई के लिए चिन्हांकन दिन रहते ही कर लिया जाता है। 
बताया जाता है कि रात में कटाई कर पत्तों से ढंक कर सूखने के लिए एक दो दिन छोड़ दिया जाता है। कटी लकडिय़ों की संख्या जब 10 से 20 हो जाती है तब उसे ट्रक अथवा ट्रैक्टर में भर कर आसपास गांव में डंप कर दिया जाता है। विवाह का सीजन नजदीक होने के कारण दीवान, सोप?ा आदि के लिए लकडिय़ों की फर्नीचर दुकानों में खासी मांग है। साल और सरई पेड़ों की उम्दा कीमत होने के कारण पेड़ों की कटाई हो रही है। जंगल की सुरक्षा के लिए पहले वनकर्मी पेट्रोलिंग करते थे। पिछले तीन माह से पेट्रोलिंग बंद होने के कारण जंगल की सुरक्षा भगवान भरोसे है। वन परिक्षेत्राधिकारी से लेकर अधिकांश वनकर्मी अपने नियुक्ति स्थल की बजाय अपने गृहग्राम से ड्यूटी करते हैं। अधिकांश कर्मचारी अपने कार्यालयीन समय में अपने कार्यक्षेत्र से नदारद रहते हैं।

वन्य प्राणियों की जान भी सांसत में
जंगल की हरियाली दिन-ब-दिन घटती जा रही है। इस वजह से इन हरे-भरे जंगलों में जंगली जानवर भालू, सूअर, चीतल, खरगोश, सियार जैसे जानवरों का आशियाना उजडऩे लगा है। 
इस घने जंगल में साल के पेड़ अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। पेड़ों की तादाद घटने से कई वन्य जीव-जंतुओं की प्रजाति जंगल से विलुप्त होने की कगार पर आ गई है। असुरक्षित वन्य प्राणियों के शिकार को प्रश्रय मिल रहा है।

बेजा कब्जा की आई बाढ़
पेड़ों की कटाई के साथ जंगल की जमीन पर अवैध बेजा कब्जा हो रहा है। नर्सरी के लगाए गऐ पौधे बढऩे से पहले ही काट लिए जा रहे हैं। वन समितियों से जुड़े लोगों को अब वनोपज के लिए मोहताज होना पड़ रहा है। पहले जिस तादाद में जंगल से लाख, तेंदू, चार, महुआ आदि का उत्पादन होता था, वह अब घट गया है। अवैध कब्जा पर विभाग की ओर से कार्रवाई नहीं किए जाने से वन रकबा सिमट रहा है।


Date : 04-Nov-2019

ट्रैक्टर पलटा, चालक की मौत, सडक़ हादसे में घायल एक अन्य ने दम तोड़ा

कोरबा,  4 नवंबर। दीपका थाना केराकछार बस्ती के मोड़ पर अनियंत्रित ट्रैक्टर पलटने से चालक की मौत हो गई। एक अन्य सडक़ हादसे में अज्ञात वाहन के ठोकर से हुई मौत के बाद पुलिस ने जुर्म दर्ज कर पतासाजी शुरू कर दी है।

केराकछार दीपका में चमरा सिंह कंवर रहता है जो खेती-किसानी व अन्य कार्य के लिए ट्रैक्टर रखा है जिसे गांव के ही पितर सिंह कंवर चलाता था। 3 नवंबर की दोपहर धान भरकर लाते समय पितर सिंह ने केराकछार बस्ती के ही मोड़ पर ट्रैक्टर से नियंत्रण खो बैठा और वाहन खेत में उतरकर पलट गई। इस दुर्घटना में ट्रैक्टर चालक की मौत हो गई। पुलिस को इसकी सूचना जयराम सिंह ने दी। इसी तरह बांकीमोंगरा थाना अरदा चौक से 200 मीटर पहले तेलसरा बस्ती निवासी वीरबहादुर सिंह उर्फ लालजी पिता विशाल सिंह सडक़ हादसे का शिकार हो गया। घटना 1 अक्टूबर की है जब वह बगरा बस्ती से तेलसरा गृहग्राम जाने बाइक क्रमांक सीजी 12 सी 7215 में निकला था। अज्ञात वाहन के चालक ने उसे ठोकर मार दी थी। इस दुर्घटना में बाइक चालक की मौत हो गई। मामले में पुलिस ने सडक़ दुर्घटना को अंजाम देने वाले अज्ञात वाहन के चालक के विरूद्ध धारा 304 ए भादवि के तहत कार्रवाई की है।


Date : 04-Nov-2019

पेड़ पर लिपटा विशालकाय अजगर, लगा जाम, अजगर को पकडऩे विभाग के स्नैक कैचर को बुलाया गया

कोरबा,  4 नवंबर। रजगामार रोड वन विभाग कार्यालय के समीप एक पेड़ पर विशालकाय अजगर लिपटा हुआ था। जैसे ही पेड़ पर लिपटे अजगर को लोगों ने देखा यहां भीड़ इक_ा होने लगी। सडक़ से गुजरने वाले लोग वाहन खड़ी कर अजगर को देखने लगे। देखते ही देखते रजगामार मार्ग पर जाम लग गया। कुछ देर तक आवागमन थमा रहा। जैसे ही इसकी सूचना रामपुर चौकी पुलिस को मिली, पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस व ट्रैफिक अमला द्वारा मार्ग को बहाल कराया गया। वहीं अजगर को पकडऩे विभाग के स्नैक कैचर को बुलाया गया था, जिसने सफलतापूर्वक अजगर को रेस्क्यू किया।


Date : 04-Nov-2019

नशीली दवा के साथ निगम का भृत्य गिरफ्तार, उसके खिलाफ 22 एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की है

कोरबा, 4 नवंबर। रामपुर चौकी क्षेत्र में नशे के सौदागर सक्रिय है जो किशोर एवं स्कूली छात्रों को सहज रूप से नशीली दवाएं उपलब्ध करा रहे हैं। इसकी सूचना लगातार पुलिस को मिल रही थी। एसपी के निर्देश पर रामपुर चौकी पुलिस ने एक ऐसे ही नशे के सौदागर को पकडऩे में सफलता हासिल की है। पकड़ा गया आरोपी नगर निगम में भृत्य हैं जिसके पास से पुलिस ने 300 नग अल्फाजोलिम इंजेक्शन जब्त करते हुए उसके खिलाफ 22 एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की है। रामपुर चौकी पुलिस को सूचना मिली थी कि साडा कालोनी के आवास क्रमांक टी-1 में निवासरत निगम कर्मी (भृत्य) समीर अहमद 28 वर्ष पिता सकिल अहमद नशीली दवाओं की बिक्री करता है। सूचना के आधार पर पुलिस ने घेराबंदी कर समीर अहमद को धर दबोचा जो नशीली दवाओं को खपाने की जुगत में ग्राहकों का इंतजार कर रहा था।

रामपुर क्षेत्र नशेडिय़ों का अड्डा

रामपुर चौकी क्षेत्र व इससे लगे के रामपुर बस्ती, डेम पार, सिंचाई कालोनी रिस्दी, डिंगापुर, सिंगापुर, बैगिनडभार, गोकुलनगर, इण्डस्ट्रियल एरिया, शिवाजी नगर, अटल आवास, एमपी नगर, रविशंकर शुक्ल नगर, कांशीनगर बुधवारी, ढोढ़ीपारा, आरा मशीन, मानस नगर भदरापारा, चेकपोस्ट सहित आदि इलाके नशेडिय़ों का अड्डा बने हुए हैं। इन क्षेत्रों में नशीली दवाओं का धंधा फल-फूल रहा है। समय-समय पर नशे के सौदागरों पर पुलिस कार्रवाई भी करती रही है।


Date : 04-Nov-2019

फिर बिगड़ेगी ट्रेनों की चाल, यात्रियों को भी परेशान होना होगा

कोरबा,  4 नवंबर। तकनीकी कार्य के चलते एक बार फिर ट्रेनों का परिचालन प्रभावित किया जा रहा है। इससे ट्रेनों की चाल तो बिगड़ेगी ही, यात्रियों को भी परेशान होना होगा। इनमें कोरबा के गेवरारोड से चलने वाली शिवनाथ एक्सप्रेस भी शामिल है, जिसे दो दिन निर्धारित गति व समय की बजाय पौने दो घंटे की गति नियंत्रित की जाएगी। इस कार्य के कारण शिवनाथ एक्सप्रेस का परिचालन 15 व 29 नवंबर को प्रभावित रहेगा।

बिलासपुर से रायपुर एवं दुर्ग-गोंदिया-कलमना रेलखंड के बीच डाउन, मिडिल व अप रेल लाइनों में मशीनों के आवश्यक रखरखाव कार्य के लिए ब्लॉक लिया जा रहा है। यह तकनीकी कार्य एक से 30 नवंबर तक चलेंगे, जिसके लिए इस रूट पर चलने वाली विभिन्न ट्रेनों का परिचालन प्रभावित रहेगा। अलग-अलग दिनों में कार्य की समय-सारिणी के अनुरूप यात्री ट्रेनों की गति नियंत्रित होगी, तो कहीं-कहीं पर गंतव्य से पहले ही ट्रेनों का परिचालन स्थगित कर दिया जाएगा। इन कार्यों के दौरान प्रभावित की जा रही ट्रेनों में गेवरारोड व कोरबा से चलने वाली एक एक्सप्रेस भी शामिल है। प्रतिदिन गेवरारोड से छूटकर नागपुर के इतवारी स्टेशन तक जाने वाली शिवनाथ एक्सप्रेस (ट्रेन नंबर-18239) की गति नियंत्रित की जाएगी। इस एक्सप्रेस को 15 व 29 नवंबर को दो दिन एक घंटे 45 मिनट के लिए नियंत्रित करने की जानकारी रेलवे ने जारी की है।

 


Date : 04-Nov-2019

कार्तिक स्नान को गई थीं तालाब, दंतैल गणेश की चिंघाड़ सुन भागी बच्चियां, 1 गंभीर, 1 घायल

छत्तीसगढ़ संवाददाता

कोरबा, 4 नवंबर। करतला वनपरिक्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत मदवानी में सोमवार सुबह लगभग 5 बजे कार्तिक पर्व पर स्नान करने तालाब गए बच्चों का सामना दंतैल गणेश से हो गया। हाथी को देखकर भाग रही दो बच्चियां घायल हो गई। जिन्हें करतला सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया। जहां से एक बच्ची को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। एक बच्ची की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है ।

घटना के बाद ग्रामीण जहां दहशत में हैं वहीं वन विभाग के प्रति उनका आक्रोश भी भडक़ उठा है। बताया जा रहा है कि रविवार सुबह करीब 5 बजे कार्तिक स्नान के लिए ग्राम मदवानी निवासी दामनी राठिया पिता रामलाल राठिया 7 वर्ष एवं कदम सिंह राठिया की 11 वर्षीय पुत्री जगमोती राठिया स्थानीय तालाब की ओर गई हुई थी। इस दौरान उनके साथ गांव के अन्य बच्चे भी थे। तालाब के पास अचानक दंतैल गणेश से उनका सामना हो गया। गणेश की चिंघाड़ सुनकर बच्चियां भागने लगी। घटना में दामिनी को गंभीर चोट आई है जिसकी हालत नाजुक है। उसे  करतला सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र से जिला हॉस्पिटल रवाना किया गया। जगमोती राठिया के पैर में चोट आई है,जिसकी हालत खतरे से बाहर है। जिसका इलाज करतला समुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में जारी है ।

नहीं थम रहा हाथियों का उत्पात

कोरबा वन मंडल में हाथियों का उत्पात थमने का नाम नहीं ले रहा है। हर दूसरे तीसरे दिन हाथी किसी न किसी क्षेत्र में घुसकर किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं तो जमकर जन-धन की क्षति भी पहुंचा रहे हैं। हाथी के हमले से गांव के ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। करतला वन परिक्षेत्र में हाथियों का दूसरा झुंड उत्पात मचा रहा है ,वहीं दूसरी ओर गणेश हाथी धरमजयगढ़ के छाल रेंज से कोरबा मंडल के बताती जंगल जा पहुंचा है। जिससे खतरा और ज्यादा बढ़ गया है, क्योंकि गणेश बिलासपुर सर्किल के सबसे खतरनाक हाथियों में से एक है जिसे पकडऩे के लिए वन विभाग ने पूरी ताकत झोंक दी थी और पकड़े जाने के बाद भी वह जंजीरों को तोड़ कर भाग निकला था। बताया जा रहा है कि गणेश ने ही बच्चों पर हमला किया है। घटना के बाद वन अमला अलर्ट हो गया है ।