छत्तीसगढ़ » बीजापुर

मार्कशीट के लिए आदिवासी युवती चार साल से काट रही अकादमी के चक्कर, प्राचार्य बोली-रिपोर्ट लिखाओ
16-Oct-2021 4:55 PM (60)

  युवती दुर्ग के संदीपनी अकादमी के चक्कर लगाने को मजबूर  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 16 अक्टूबर।
वर्ष 2017 में हुए जीएनएम कोर्स के चार साल बीत जाने के बाद भी आदिवासी युवती को मार्कशीट के लिए अब तक दुर्ग के संदीपनी अकादमी के चक्कर लगाने को मजबूर होना पड़ रहा हैं।  
गंगालूर निवासी असुंता एक्का ने 2013 में अछोटी दुर्ग स्थित संदीपनी अकादमी से जनरल नर्सिंग और मिडवाइफ का कोर्स कंप्लीट किया, पर आज तक उसे ओरिजनल मार्कशीट नहीं मिल पाई है। जिसके कारण उसके दस्तावेजों का सत्यापन नहीं हो रहा है।

असुंता एक्का ने बताया कि  नवम्बर 2013 में उसने इस अकादमी में एडमिशन लिया था और 2017 में इंटर्नशिप समाप्त हुई, जिसके बाद उसे अकादमी द्वारा फोटोकॉपी वाली मार्कशीट दे दी गई और कहा कि रजिस्ट्रार के पास कलर प्रिंटर खराब होने के कारण अभी ओरिजनल मार्कशीट नहीं दी जा सकती है। जिसके बाद से लगातार संपर्क करने बाद भी कल परसों करते चार साल बिता दिए।

असुंता एक्का गोंगला में मितानिन का कार्य कर रही थीं, जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग द्वारा मितानिनों को स्वास्थ्य कर्मियों की ट्रेनिंग देने के दौरान असुंता का चयन हुआ था। जिसका पूरा शुल्क सरकारी खर्चे से हुआ था। जीएनएम की पढ़ाई होने के बाद नर्सिंग काउंसिल में रजिस्ट्रेशन भी हो गई, पर अकादमी ने आज तक उसे फाइनल ईयर की मार्कशीट नहीं दी।

आगे कहा कि अभी स्टॉफ नर्स के लिए आवेदन किया है, जिसका 18 अक्टूबर को दस्तावेजों का सत्यापन होना है। जिसके लिए उसने फिर से एक बार संदीपनी अकादमी के प्राचार्य आकांक्षा बोटले से सम्पर्क किया तो उन्हें मार्कशीट गुम होने की शिकायत थाने में करने व एफिडेविट व दो अखबारों में ईश्तहार देने की बात कही।

संदीपनी अकादमी की प्रिंसिपल आकांक्षा बोटले ने कहा कि प्रिंटर खराब होने के कारण मार्कशीट प्रिंट नहीं हो पाया है। इस विषय पर रजिस्ट्रार से मेरी चर्चा हो रही है। जल्द ही ठीक करा लिया जाएगा।
 

लक्ष्य एक बस्तर श्रेष्ठ के जरिये बेहतर होंगे परीक्षा परिणाम
16-Oct-2021 4:43 PM (98)

दस काम से बेहतर बनेगी स्कूलों की तस्वीर

 
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 16 अक्टूबर। 
जिले की शिक्षा व्यवस्था को सुदृढ़ करने व परीक्षा परिणाम में सुधार लाने लक्ष्य एक बस्तर श्रेष्ठ  की कार्ययोजना पर अमल करने की कवायद शरू की गई है। इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी प्रमोद ठाकुर ने ब्लॉक बीजापुर में प्राचार्यों, प्रधान अध्यापकों की बैठक लेकर गुणवत्ता सुधार हेतु विस्तार पूर्वक निर्देश दिए।

 बीआरसी बीजापुर में आयोजित मैराथन बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी ने सभी संस्था प्रमुखों से पढ़ई तुंहर दुआर 2.0 के तहत दस काम को प्राथमिकता और जिम्मेदारी से करने को कहा। राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे की तैयारी हेतु मॉक टेस्ट में शत प्रतिशत विद्यार्थियों को शामिल करने के निर्देश दिए गए। स्कूलों में गुणवत्ता लाने नियमित अध्यापन कर शिक्षक डायरी अनिवार्य रूप से भरने कहा गया। जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा कि सभी शिक्षक शिक्षिकाएं समय पर स्कूल जाएं और बच्चों की गुणवत्ता शिक्षा में भरपूर समय दें।

इस अवसर पर खंड शिक्षा अधिकारी मो. ज़ाकिर खान ने कहा कि संयुक्त संचालक बस्तर द्वारा शिक्षा व्यवस्था तथा परीक्षा परिणाम बेहतर करने लक्ष्य एक बस्तर श्रेष्ठ की मुहिम प्रारम्भ की गई है जिसे हम सब को सामूहिक जिम्मेदारी के साथ सफल बनाते हुए जिले औऱ संभाग के स्कूलों का नाम रोशन करना है। सभी शिक्षक शिक्षिकाएं प्रार्थना और असेम्बली के दौरान संस्था में उपस्थित रहकर ज्ञान वर्धक बातों का वाचन करेंगे। पाठ्यक्रम और टाइम टेबल अनुसार अध्यापन सभी संस्थाओ में सुनिश्चित होना चहिये। सभी संकुल प्राचार्य और संकुल समन्वयक संस्थाओं का अवलोकन  वृहद रूप से करें और प्रतिवेदन कार्यालय में भेजा जाना सुनिश्चित करेंगे।

इस अवसर पर दस काम के जिला मेंटर्स ने अपने विषय संबंधी निर्देशों को विस्तार पूर्वक बताते हुए सभी कामों को सफलता पूर्वक संचालित करने की अपील की गई । बैठक में एपीसी  बीआरसी, प्राचार्य, प्रधान अध्यापक, संकुल समन्वयक उपस्थित रहे।

नपा के बांडागुड़ा में पंचायत जैसी सुविधा भी नहीं
16-Oct-2021 4:33 PM (64)

2005 तक थे नल कनेक्शन व सडक़ बत्ती, अब रात में पसर जाता है अंधेरा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 16 अक्टूबर। 
नगर पालिका के वार्ड क्रमांक 14 का बांडागुड़ा मुहल्ला, जहां ग्राम पंचायत जैसी सुविधा भी लोगों को नहीं मिल पा रही है। ग्राम पंचायत के समय में इस मुहल्ले के लोगों के घरों में नल जल कनेक्शन से पानी पहुँचता था, सडक़ बत्ती जला करती थी, आंगनबाड़ी व स्कूल हुआ करता था, पर अब नगर पालिका बनने के बाद इन सुविधाओं से बांडागुड़ा के रहवासी वंचित हो गए हैं।

बांडागुड़ा निवासी जगैया पुजारी, महेश मूर्ति, गांधी मूर्ति, जगैया लिंगम ने बताया कि यह मुहल्ला नगर पालिका के वार्ड क्रमांक 14 में आता है, पर आज तक वार्ड पार्षद नहीं पहुँचे। मुहल्ले में 20 मकान हैं। एक सडक़ है जो प्रधानमंत्री मंत्री ग्राम सडक़ योजना के तहत गोरना को बीजापुर से जोड़ती है। गली रोड की दरकार है, पर जनप्रतिनिधियों के न आने से मुहल्ले के जरूरतों से अनभिज्ञ है।

 हरिशंकर पेरमा ने बताया कि वे बीजापुर के ग्राम देवता चीकटराज के पुजारी हैं और यह मुहल्ला बीजापुर नगर बसाहट से पहले से बसा है। पूर्व सरपंच स्व मामड़ी बाल गंगाधर तिलक के प्रयासों से इस मुहल्ले में सडक़ बत्ती और नल जल कनेक्शन हुआ करता था, पर 2005 में हुए सलवा जुडूम के दौरान उपद्रवियों ने लाइटें फोड़ दी और घरों तक गए नल कनेक्शन भी उखाड़ दिए। लोगों को मजबूरन गंगालूर रोड पर बने बांडागुड़ा कैम्प पर रहना पड़ा। आज भी मुहल्ले के लोग बुजुर्गों को छोड़ बाकी सभी लोग शाम ढलते ही वापस कैंप लौट जाते हैं। दिन में खेती के लिए आते हैं पर शाम होते ही वापस राहत शिविर लौट जाते हैं।

नगर पालिका अध्यक्ष बेनहुर रावतिया ने बताया कि वार्ड क्रमांक 2,3 14 व 15 के स्ट्रीट लाइट के लिए डिमांड की गई है, शीघ्र ही इन इलाकों में सडक़ बत्ती लग जाएगी। साथ ही नल जल के लिए पाईप लाइन बिछाने की प्रक्रिया अभी जारी है।   सीएमओ नगर पालिका पवन मेरिया ने बताया कि बांडागुड़ा मुहल्ले को लेकर प्लानिंग की जा रही है। शीघ्र ही सुखद परिणाम सामने होंगे।
 

स्कूलों में मॉक टेस्ट वन
14-Oct-2021 9:08 PM (63)

भोपालपटनम, 14 अक्टूबर। राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण (एनएएस) के अंतर्गत संकुल केंद्र भोपालपटनम (अ) के सभी शालाओं में जिला शिक्षा अधिकारी जिला बीजापुर के निर्देशन में एवं संकुल प्राचार्य बी. मधुकर राव के मार्गदर्शन में श्री श्रीनिवास एटला संकुल समन्वयक के बेहतर संचालन में मॉक टेस्ट वन का आयोजन किया गया। संकुल केंद्र के समस्त शैक्षणिक संस्थाओं में कक्षा 3, 5, 8, एवं 10 में अध्ययनरत लगभग 100 प्रतिशत छात्र-छात्राओं ने इस टेस्ट में भाग लिया।

राष्ट्रीय उपलब्धि परीक्षण की परीक्षा पूरे देश में 12 नवंबर को आयोजित होना है। यह परीक्षा बच्चों के लर्निंग आउटकम्स पर आधारित होगी। संकुल केंद्र के सभी शिक्षकों के द्वारा इस मॉक टेस्ट के माध्यम से छात्र-छात्राओं को आगामी परीक्षा में ओएमआर शीट भरने एवं लर्निंग आउटकम्स पर आधारित अभ्यास कार्य कराया गया।

एनएएस विद्यालय का शिक्षा स्तर सुधारने के लिए राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद द्वारा विकसित एक सर्वेक्षण कार्यक्रम है, जिसके तहत कक्षा 3,5,8 और कक्षा 10 के छात्रों की सीखने के स्तर का मूल्यांकन हेतु परीक्षा आयोजित की जाती है। आरटीई एक्ट 2009 के अंतर्गत 6 से 14 आयु वर्ग के बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का अधिकार प्रदान किया गया है इस एक्ट में प्रत्येक विद्यार्थी के सीखने को सुनिश्चित करने पर बल दिया गया है। प्रत्येक कक्षा स्तर पर बच्चों की शैक्षिक उपलब्धि को जानना आवश्यक है। इस हेतु 2001 से नियमित अंतराल पर राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण का आयोजन किया जा रहा है। एनएएस भारत के समस्त जिलों के स्कूलों का सेम्पल है, जिसका उद्देश्य शासकीय एवं अनुदान प्राप्त शालाओं के समग्र शैक्षिक स्थिति की समझ रखना है। इस सर्वेक्षण से प्राप्त निष्कर्षों का उपयोग विद्यार्थियों के शैक्षिक संप्राप्ति स्तर में सुधार तथा नीतिगत निर्धारण एवं योजना हेतु किया जाता है ।

सीएम और वनमंत्री ने पौने पांच करोड़ के तेंदूपत्ता बोनस वितरण का किया वर्चुअल शुभारंभ
12-Oct-2021 10:17 PM (76)

बीजापुर, 12 अक्टूबर। सोमवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं वनमंत्री मोहम्मद अकबर ने वर्चुअल माध्यम से 2019 के तेंदूपत्ता बोनस वितरण का शुभारंभ किया।

इस बार वर्ष 2019 के 26 प्राथमिक वनोपज सहकारी समिति के 50 हजार तेंदूपत्ता संग्राहकों को 4 करोड़ 79 लाख रुपये का वितरण किया जाएगा। साथ ही कैम्पा योजना से संचालित नरुवा योजना वर्ष 2021 – 2022 का शुभारंभ भी किया गया इसके अंर्तगत बीजापुर जिले में 5 नरुवा के 107784 सरंचनाओं का विस्तार होगा

 कार्यक्रम के अवसर पर  जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडियम, कमलेश कारम, नीना रावतीय उद्दे, अजय सिंह एंव वनमण्डलाधिकारी अशोक पटेल सहित विभागीय अधिकारी, कर्मचारी सहित हितग्राही मौजूद रहे।

​सीएम और वनमंत्री ने पौने पांच करोड़ के तेंदूपत्ता बोनस वितरण का किया वर्चुअल शुभारंभ
12-Oct-2021 9:50 PM (51)

बीजापुर, 12 अक्टूबर। सोमवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं वनमंत्री मोहम्मद अकबर ने वर्चुअल माध्यम से 2019 के तेंदूपत्ता बोनस वितरण का शुभारंभ किया।

इस बार वर्ष 2019 के 26 प्राथमिक वनोपज सहकारी समिति के 50 हजार तेंदूपत्ता संग्राहकों को 4 करोड़ 79 लाख रुपये का वितरण किया जाएगा। साथ ही कैम्पा योजना से संचालित नरुवा योजना वर्ष 2021 – 2022 का शुभारंभ भी किया गया इसके अंर्तगत बीजापुर जिले में 5 नरुवा के 107784 सरंचनाओं का विस्तार होगा

 कार्यक्रम के अवसर पर  जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडियम, कमलेश कारम, नीना रावतीय उद्दे, अजय सिंह एंव वनमण्डलाधिकारी अशोक पटेल सहित विभागीय अधिकारी, कर्मचारी सहित हितग्राही मौजूद रहे।

एड़समेटा पर सरकार न्यायिक जांच रिपोर्ट के आधार पर करे कार्रवाई - गागड़ा
11-Oct-2021 9:18 PM (78)

सिलगेर में सबसे पहले भाजपा ने न्याय और मुआवजा के लिए मांग की थी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 11 अक्टूबर। भाजपा नेता व पूर्व वनमंत्री महेश गागड़ा ने सिलगेर घटना पर सरकार के मुखिया भूपेश बघेल ने यूपी में किसी राजनीतिक दल या समाज सेवियों के सामने न आने के बयान को हास्यास्पद बताते हुए विपक्ष, मीडिया व जनआंदोलन की आवाज को नकारने की बात की। भाजपा इसकी घोर निंदा करती है।

यहां भाजपा कार्यालय में पत्रवार्ता को संबोधित करते हुए भाजपा नेता महेश गागड़ा ने कहा कि सिलगेर घटना के बाद भाजपा का प्रतिनिधिमंडल घटनास्थल पहुँच कर ग्रामीणों के साथ हुई घटना पर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपते हुए मृतकों को एक-एक करोड़ व परिवार से एक व्यक्ति को शासकीय सेवा में लेने सहित घायलों को इलाज के साथ 50 लाख मुआवजे के साथ शासकीय सेवा में लेने की मांग की गई थी। इन सबके बाद भी सीएम भूपेश बघेल का सिलगेर घटना में किसी के न पहुँचने का बयान हास्यास्पद है। इसकी भाजपा निंदा करती हैं।

एड़समेटा घटना के विषय में बोलते हुए महेश गागड़ा ने कहा कि न्यायिक जांच रिपोर्ट के आधार पर सरकार को कार्रवाई करनी चाहिए। एक अन्य सवाल के जवाब में महेश गागड़ा ने कहा कि जब-जब कांग्रेस की सरकार होती है, भोपालपटनम में कागज का कारखाना खुलता है। संयुक्त मध्यप्रदेश के दौर में फिर छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद की कांग्रेस सरकार के समय फिर अभी भोपालपटनम में पेपर मिल की बात हुई, एक दो साल बाद फिर शांत हो जाते हैं।

प्रेसवार्ता में भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार, किसान संघ के घासीराम नाग, जनजाति प्रकोष्ठ के सुखलाल पुजारी व महामंत्री सत्येंद्र ठाकुर भी मौजूद रहे।

कांग्रेसियों ने मौन व्रत रख किया प्रदर्शन
11-Oct-2021 9:17 PM (45)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 11 अक्टूबर। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई घटना के विरोध में जिला कांग्रेस कमेटी के  नेतृत्व में कांग्रेसियों द्वारा एक दिवसीय मौन व्रत रख कर  विरोध प्रदर्शन किया गया ।

सोमवार को कांग्रेसियों ने केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त करने की मांग को लेकर कांग्रेसियों ने जिलाध्यक्ष लालू राठौर के नेतृत्व में एक दिवसीय मौन व्रत कर विरोध जताया।

इस दौरान युवा आयोग के सदस्य अजय सिंह, बस्तर विकास प्राधिकरण सदस्य व जिला पंचायत सदस्य नीना रावतिया, जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडियम, सहित पार्टी के समस्त प्रकोष्ठों के पदाधिकारी व कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मौजूद रहे।

शहीद सीताराम कंवर को दी श्रद्धांजलि
10-Oct-2021 10:33 PM (64)

कंवर आदिवासी समाज ने मनाया बलिदान दिवस

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 10 अक्टूबर। भारत को अंग्रेजों से आज़ादी दिलाने में वीर सीताराम कँवर की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। सीताराम एक आदिवासी योद्धा थे। उन्होंने समाज को नई दिशा प्रदान की थी। 1857 की क्रांति में शहीद वीर सीताराम कंवर ने निमाड़ क्षेत्र में विद्रोह कर अंग्रेज शासन के छक्के छुड़ा दिए थे, जो ब्रिटिश हुकूमत के इतिहास में अंकित है, यह बातें कंवर समाज के युवा विनय पैंकरा ने वीर शहीद सीताराम कंवर की श्रद्धांजलि सभा में कही।

कार्यक्रम में कंवर महिला प्रभाग की नेत्री सुनीता पैंकरा ने बताया कि स्वतंत्रता संग्राम में सीताराम कंवर की महत्वपूर्ण भागीदारी रही थी। उनके बलिदान और गौरव की गाथा आने वाली पीढ़ी को बताने के लिए सीताराम बलिदान दिवस मनाया जाता है। अंग्रेजों और उनके सहयोगी राजाओं के लिए वीर सीताराम कंवर दुश्मन थे। इसलिये अंग्रेज उन्हें विद्रोही कहकर पुकारते थे। 9 अक्टूबर सन 1858 में इन्होंने अपने प्राण की आहुति दे दी थी। हर वर्ष 9 अक्टूबर को वीर शहीद सीताराम कंवर के इस शहादत दिवस को बलिदान दिवस के रूप में मनाया जाता है।

कार्यक्रम की शुरुवात समाज के बुजुर्गों द्वारा वीर सीताराम कंवर के छायाचित्र पर माल्यार्पण और दीप प्रज्वलन से की गई तथा स्वतंत्रता संग्राम में उनके शौर्य का पाठन किया गया। इस अवसर पर योगेश्वर कपूर, तुलसी कपूर, झाम सिंह कंवर, मनोज कुमार, नागेश्वर पैंकरा, महेश कुमार दीवान, कमलेश पैंकरा, साधना पैंकरा, सत्यजीत कंवर, संतोष सरजाल, भावना, ममता, मंजु पैंकरा, स्वाति साय सहित युवा, महिला व सामान्य प्रभाग के पदाधिकारी मौजूद रहे।

मेट फूलमती के हाथों फल-फूल रही मनरेगा योजना
08-Oct-2021 8:36 PM (76)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 8 अक्टूबर। साधारण-सी नजर आने वाली 24 वर्षीय फूलमती पोयामी के हाथों में गांव के मनरेगा श्रमिकों को कार्य आबंटन और उनसे कार्य कराने की महती जिम्मेदारी है। वे पिछले 2 सालों से गांव में योजनान्तर्गत महिला मेट की जिम्मेदारी को बखूबी निभा रही हैं। यही कारण है कि जहाँ वर्ष 2019-20 में 211 मनरेगा परिवारों को 14 हजार 403 मानव दिवस का रोजगार मिल था, वह वर्ष 2020-21 में बढक़र 237 परिवारों द्वारा सृजित मानव दिवस 21 हजार 451 हो गया।

यह इनकी मेहनत का ही परिणाम है कि वर्तमान वर्ष 2021-22 के प्रथम छ:माही में 229 परिवारों को 9 हजार 685 मानव दिवस का रोजग़ार प्राप्त हो चुका है और अभी वित्तीय वर्ष की समाप्ति को पाँच माह से अधिक का समय बचा है। बीजापुर जिले के कोडोली गांव में मनरेगा की इस प्रगति के पीछे फूलमती का अपनी एक दास्तां है।

फूलमती की अल्प आयु में उनके सिर से पिता का हाथ उठ गया था। ऐसे में सात सदस्यों वाले बड़े परिवार की जिम्मेदारी उन पर और उनके बड़े भाई पर आन पड़ी थी। बारहवीं तक पढ़ाई कर चुकी फूलमती इन परिस्थितियों में गांव में ही रहकर रोजग़ार ढूंढ रही थीं, ताकि घर के सदस्यों का भी ध्यान रख सकें। इसके लिए वह गांव में मनरेगा योजना में चलने वाले कार्यों में मजदूरी करने जाती थी।

इसी दरम्यान पंचायत सचिव श्री राममूर्ति से उन्हें यह जानकारी मिली कि पढ़ी-लिखी लड़कियों को योजना में गोदी की नाप और कार्य कराने के लिए मेट रखा जाता है। ये जानकर उन्होंने मेट बनने का निर्णय लिया और साल 2019 से ग्राम रोजगार सहायक सुश्री कमलदई नाग के मार्गदर्शन में काम करना प्रारम्भ कर दिया। अपनी लगनशीलता के बलबूते वे थोड़े दिनों में ही मेट के काम में दक्ष हो गई।

महात्मा गांधी नरेगा के विभिन्न पहलुओं से मेटों को अवगत कराने और उनके उन्मुखीकरण के लिए जनपद पंचायत-भैरमगढ़ में दो-सप्ताह का विशेष प्रशिक्षण आयोजित किया गया था, जिसमें फूलमती ने सफलतापूर्वक प्रशिक्षण प्राप्त किया। वे बताती हैं कि प्रशिक्षण से उनकी कार्य-कुशलता में वृद्धि हुई है। वे अब कार्यस्थल पर श्रमिकों का बेहतर तरीके से प्रबंधन कर पाती हैं। साथ ही नागरिक सूचना पटल निर्माण और जॉब कार्ड अद्यतनीकरण के बारे में काफी कुछ जानने और सीखने को मिला। महात्मा गांधी नरेगा को अपने जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा मानने वाली फूलमती बीते दिनों को याद करते हुए बताती है कि उन्होंने योजना से मिले पारिश्रमिक में से 23 हजार रुपए जोडक़र रखे थे और जब घर की मरम्मत का काम चल रहा था, तब वे रुपए काम आ गए।

महिला सशक्तिकरण

ग्राम रोजगार सहायक और मेट, दोनों के महिला होने का फायदा गाँव की महिलाओं को हुआ। इनके मिलनसार व्यवहार के चलते महात्मा गांधी नरेगा में पिछले दो सालों में महिलाओं की भागीदारी 50 प्रतिशत से अधिक रही है। वर्ष 2019-20 में 277 महिलाओं ने काम करते हुए 7 हजार 658 मानव दिवस, वर्ष 2020-21 में 329 महिलाओं ने 11 हजार 684 मानव दिवस और वर्तमान वित्तीय वर्ष 2021-22 में सितम्बर माह तक 268 महिलाओं ने 5 हजार 299 मानव दिवस का रोजग़ार प्राप्त किया।

लखीमपुर खीरी हिंसा, कांग्रेसियों का प्रदर्शन
05-Oct-2021 9:07 PM (51)

 

कलेक्ट्रेट घेराव के बाद सौंपा ज्ञापन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 5 अक्टूबर। 
मंगलवार को जिला कांग्रेस कमेटी के नेतृत्व में कांग्रेस के सभी मोर्चा प्रकोष्ठों ने उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई घटना के विरोध में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कर कलेक्ट्रेट का घेराव किया व राष्ट्रपति के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।

यहां जिला मुख्यालय में पीसीसी के निर्देश पर आयोजित किये गए एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन में शामिल कांग्रेस नेताओं ने केंद्र की मोदी सरकार व उत्तरप्रदेश की योगी सरकार पर किसानों और महिलाओं को अपमान करने का आरोप लगाया। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि देश के किसानों पर मोदी सरकार जबरन नए कृषि क़ानून लागू कर रही है। जिसका विरोध किसान शांतिपूर्वक कर रहे थे, लेकिन भाजपा के लोगों को किसानों का विरोध बर्दाश्त नहीं हुआ और उत्तर प्रदेश के लखीमपुरी-खीरी में भाजपा के ही एक मंत्री के बेटे ने शांतिपूर्वक कृषि क़ानूनों का विरोध कर रहे किसानों पर गाड़ी चला कर निर्ममता पूर्वक हत्या कर दी। अब उल्टे हत्यारे को बचाने भाजपा की मोदी और योगी सरकार प्रयास कर रही है।

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि भाजपा ने इससे भी एक कदम आगे बढ़ते हुए पीडि़त परिवार से मिलने जाने के दौरान भी अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव और उत्तर प्रदेश कांग्रेस की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ वहाँ की सरकार ने जिस तरह से दुव्र्यवहार किया है। इससे ये स्पष्ट हो गया है कि भाजपा महिलाओं का सम्मान करती ही नहीं है। इस घटना की जितनी भी निंदा की जाये, वह कम है।  

ज्ञापन में कांग्रेसियों ने माँग की है कि प्रकरण को संज्ञान में लेते हुए उत्तर प्रदेश की अराजक एवं अलोकतांत्रिक योगी आदित्यनाथ सरकार को बर्खास्त करते हुए राष्ट्रपति शासन लगाया जाए।

उपस्थित लोगों को जि़ला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालू राठौर, छत्तीसगढ़ राज्य युवा आयोग के सदस्य अजय सिंह, छत्तीसगढ़ कृषि कल्याण के सदस्य एवं जि़पं सदस्य बसंत ताटी, जि़ला कांग्रेस कमेटी की प्रभारी रुक्मणी कर्मा, बप्रस की सदस्य एवं जि़पं सदस्य नीना रावतिया उद्दे, जि़पं उपाध्यक्ष कमलेश कारम, जि़पं सदस्य सोमारु कश्यप, नगरपालिका परिषद के अध्यक्ष बेनहुर रावतिया एवं नपा के उपाध्यक्ष पुरुषोत्तम सल्लूर ने सम्बोधन किया। कार्यक्रम का संचालन मनोज अवलम ने किया।

पंचायतों में ग्राम सभा, कई विषयों पर चर्चा
04-Oct-2021 10:15 PM (118)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 4 अक्टूबर। गांधी जयंती पर जिले के समस्त ग्राम पंचायतों में विशेष ग्रामसभा का आयोजन किया गया, जिसमें जिला पंचायत की सदस्य नीना रावतिया उद्दे भी शामिल हुर्इं। इसके अलावा  सरपंच, पंच, सचिव सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण ग्रामसभा में शामिल हुए।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी रवि साहू ने बताया कि भारत की आज़ादी की 75वीं वर्षगाँठ को पूरे देश में आज़ादी का अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है। गांधी जयंती के अवसर पर आयोजित ग्रामसभा में स्वच्छता, स्वास्थ्य, जल जीवन मिशन , एनआरएलएम, सुराजी गांव योजना, मिशन अंत्योदय, आगामी वर्ष के लिए ग्राम विकास योजना की रूपरेखा आदि महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की गई है।

उप संचालक पंचायत गीत कुमार सिन्हा ग्राम पंचायत धनोरा, तोयनार, एरमनार एवं मुसालूर के ग्राम सभा में शामिल हुए। इस अवसर पर ग्राम पंचायत रुद्रारम, अर्जुनल्ली, कुटरू  में सरपंच व पंच द्वारा सामुदायिक शौचालय का उद्घाटन भी किया गया। ग्राम सभा में प्रमुख रूप से ग्राम सभा की पूर्व बैठक में पारित संकल्पों के कियान्वयन संबंधी पालन प्रतिवेदन। पंचायतों के विगत तिमाही के आय-व्यय की समीक्षा एवं अनुमोदन की जाय। 

पिछली छमाही मे विभिन्न योजनाओं से स्वीकृत कार्य के नाम, प्राप्त राशि, स्वीकृत राशि , व्यय राशि एवं कार्य की अद्यतन स्थिति का वाचन किया गया ।

आगामी वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए ग्राम पंचायत विकास योजना की रूपरेखा तैयार किये जाने के संबंध, विगत वर्ष में किए गए मिशन अन्त्योदय सर्वे का अवलोकन कर अनुमोदन, महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना से संबंधित जिलों की ग्राम पंचायतों में रोजगार गारंटी योजना में ग्रामीण परिवारों द्वारा रोजगार की मांग तथा उपलब्ध कराये गये रोजगार की स्थिति की समीक्षा, ग्राम गौठानों के प्रबंधन एवं संचालन, सुराजी ग्राम योजना के तहत नरवा, गरूवा, घुरूवा एवं बाड़ी से संबंधित कार्यों की प्रगति ,ग्रामीण सचिवालय के संचालन पर विशेष रूप, पोषण अभियान, सिटिजन चार्टर, जल जीवन मिशन कार्यक्रम,  राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना,  ऐसे हितग्राही जिनकी मृत्यु हो चुकी है एवं एसईसीसी- 2011 की सूची में उनके उत्तराधिकारी का नाम नहीं है,

ऐसे हितग्राहियों को ग्राम सभा से अनुमोदन उपरान्त उनके उत्तराधिकारी का चयन,  भूमिहीन परिवारों को ग्राम सभा के माध्यम से सत्यापित,  नवीन गठित परिवारों के घरों में शौचालय निर्माण हेतु सूची का अनुमोदन,अनुपयोगी शौचालयों को उपयोगी बनाने की कार्ययोजना निर्माण, एनआरएलएम अन्तर्गत विलेज पावर्टी रिडक्शन प्लान , कमजोर वर्ग के परिवारों के स्व - सहायता समूहों में समावेशन,ग्राम पंचायत में लगे मोबाइल टावरों का मासिक/वार्षिक किराया दर के अनुबंध के संबंध में चर्चा कर कार्यवाही की गई।

गांधी जयंती को स्वच्छ भारत दिवस के रूप मनाया गया
02-Oct-2021 8:55 PM (82)

बीजापुर, 2 अक्टूबर। आज़ादी की 75वीं वर्षगाँठ को पूरे देश में आज़ादी का अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है। गांधी जयंती को स्वच्छ भारत दिवस के रूप में मनाया जा रहा है।  इसी कड़ी में बीजापुर जिला पंचायत परिसर में साफ सफाई कर स्वच्छता विषय पर गांधी जी के विचारों को अपनाने के लिए जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडिय़म ने उपस्थित अधिकारी कर्मचारियों को कहा।

जिला पंचायत सदस्य नीना रावतिया उद्दे ने गांधी जी के जीवन के छोटे छोटे व्यक्तित्व सुधार के प्रयोग को बताया। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रवि कुमार साहू ने गांधी जी के आत्मकथा सत्य के प्रयोग को एक बार पढऩे की बात कहते हुए अपने बच्चों को अभी से स्वच्छता के संस्कार देने की अपील की।

इस अवसर पर स्वच्छ भारत मिशन की सहायक परियोजना अधिकारीसंध्या रानी ध्रुव ने स्वच्छ भारत मिशन अंतर्गत  आगामी दिनों में जो गतिविधियां जिले में आयोजित की जानी है, उसे विस्तार से बताया। कार्यक्रम में सहायक परियोजना अधिकारी मनीष सोनवानी के अलावा ललित मानिकपुरी, जिनेश कुमार, विक्रम वर्मा, अमृत साहू, प्रशांत यादव, मिथलेश यादव सहित कार्यालय के सभी कर्मचारी उपस्थित रहे।

रेप के विरोध में महिला मोर्चा ने दिया मौन धरना
02-Oct-2021 9:30 AM (78)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 1 अक्टूबर। भाजपा महिला मोर्चा बीजापुर इकाई ने बीते दिनों छत्तीसगढ़ के जशपुर नगर के दिव्यांग हॉस्टल में रेप के विरोध में भूपेश सरकार के खिलाफ काली पट्टी लगाकर मौन धरना-प्रदर्शन किया।

भाजपा कार्यालय में भाजपा महिला मोर्चा ने रेप के विरोध में जिलाध्यक्ष जया चिडेम के नेतृत्व में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। महिला मोर्चा महामंत्री माया झाड़ी ने बताया कि छत्तीसगढ़ में बेटियों एवं महिलाओं पर लगातार रेप की घटनाएं बढ़ी हैं, जो रूक नहीं रही है।

जशपुर नगर में दिव्यांग केन्द्र पर रह रही बेटियों के साथ केन्द्र में कार्यरत कर्मचारियों ने शराब पीकर हुड़दंग करते हुए एक दिव्यांग बच्ची के साथ रेप एवं पांच बच्चियों के साथ छेड़छाड़ किया, जो घोर निंदनीय है।

उन्होंने बताया कि इस घटना के विरोध में एवं प्रदेश सरकार की नाकामी को लेकर महिला मोर्चा द्वारा धरना दिया गया है। इस मौके पर उपाध्यक्ष ऊर्मिला तोकल, जिलामंत्री विजय लक्ष्मी मोरला, पूजा पोंदी, सुंगती चालकी, ज्योति हेमला, राधा लकड़ा, समक्का पोंदी, रंभा झा सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

युवा मोर्चा उपाध्यक्ष ने मरीजों को बांटे फल
02-Oct-2021 9:27 AM (52)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 1 अक्टूबर। युवा मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष बिलाल खान आवापल्ली व उसूर अस्पताल पहुंचकर वहां भर्ती मरीजों से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना और उन्हें फलों का वितरण किया।

अपने उसूर व आवापल्ली दौरे के दौरान भाजपा युवा मोर्चा उपाध्यक्ष बिलाल खान ने ग्रामीणों से भी मुलाकात की और उनकी समस्याओं से रूबरू हुए। उन्होंने बताया कि उसूर मंडल के युवा मोर्चा संगठन के कार्यकर्ताओं की बैठक ली, जिसमें उन्होंने संगठन की कार्यशैली पर विचार विमर्श किया। साथ ही युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं को संगठन के लिए पूरी ऊर्जा के साथ काम करने को कहा।  इस अवसर पर भाजपा मंडल उपाध्यक्ष नीलकंठ ककेम, मंडल महामंत्री दिलीप ककेम, मंडल उपाध्यक्ष नागेश माड़वी, युवा मौर्चा जिला महामंत्री तीरथ जुमार, युवा मौर्चा मंडल अध्यक्ष बीरबल मडवी, शंकरैया माड़वी, संपत माड़वी, मनीष कुमार( बब्बू) अशोक सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

नई पीढ़ी को बुजुर्गों के अनुभवों का लाभ लेते हुए उन्हें सम्मान देना चाहिए- ताटी
02-Oct-2021 9:27 AM (69)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 1 अक्टूबर। शुक्रवार को जनपद पंचायत भोपालपटनम में अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर छत्तीसगढ़ राज्य कृषक कल्याण परिषद के सदस्य एवं जिला पंचायत सदस्य बसन्त राव ताटी ने उपस्थित वृद्धजनों का शाल एवं श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया गया।

इस दौरान उन्होंने उपस्थित जनों को संबोधित करते हुए कहा कि नई पीढ़ी को वृद्धजनों के अनुभवों का लाभ लेते हुए उन्हें सम्मान देना चाहिए।

कार्यक्रम में जनपद सदस्य सुनील गुरला मुख्य कार्यपालन अधिकारी ओंकार सिंह सहित कार्यालयीन अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

भाजपा अध्यक्ष ने कड़े किए तेवर, कहा पार्टी विरोधी संभल जाएं
30-Sep-2021 9:01 PM (100)

पार्टी विरोधी गतिविधियों में पाए जाने पर होगी निष्कासन की कार्रवाई

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 30 सितंबर। भाजपा जिलाध्यक्ष ने चुनाव से पहले अपने तेवर कड़े कर लिए हंै। उन्होंने कार्यकर्ताओं को दो टूक शब्दों में हिदायत दी है कि कोई भी पार्टी विरोधी गतिविधियों में पाया जाता है तो उस पर सीधे निष्कासन की कार्यवाही की जाएगी।

 भाजपा कार्यालय में गुरुवार को हुई विधानसभा स्तरीय बैठक में भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने पार्टी विरोधी कार्यों में शामिल नेताओं पर सख्त लहजे में चेतावनी देते हुए पार्टी से निष्कासन करने की बात कही है। बैठक में वर्तमान और आगामी कार्ययोजना को लेकर चर्चा हुई। इस दौरान बैठक में मौजूद कार्यकर्ता और पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने पार्टी विरोधी कृत्य में शामिल नेताओं को सख्त हिदायत देते हुए पार्टी से निष्कासन करने की चेतावनी दी है।

दरअसल, पार्टी पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं की ओर से बार-बार कई वरिष्ठ नेताओं की शिकायत मिल रही थी, कि कुछ नेता पार्टी लाइन से बाहर जाकर कार्यकर्ताओं को तोडऩे का कृत्य कर रहे हैं। जिस पर जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने बैठक में ही उन्हें लताड़ा है और कार्यकर्ताओं को ऐसे नेताओं से दूर रहने की हिदायत दी है। इसके बाद भी कोई नेता संलिप्तता में पाया जाता है तो उस पर निष्कासन की कार्यवाही की जाएगी।

उन्होंने कहा कि पार्टी में अनुशासन सर्वोपरि है। यहां ऐसा कोई कृत्य  स्वीकार नहीं किया जाएगा, जिससे पार्टी का अहित हो। जिलाध्यक्ष ने बिना किसी का नाम लिए इशारों-इशारों में ही पार्टी विरोधी नेताओं पर कार्यवाही का संदेश दे दिया है।

इस दौरान  जिला सहप्रभारी धनीराम बारसे ने वर्तमान कार्यों की समीक्षा की व आगामी कार्ययोजना को लेकर पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं को टिप्स दिए। श्री बारसे ने बूथ स्तर पर कार्य करने की पद्धति बताई व भाजपा काल के सफल योजनाओं और वर्तमान केंद्र सरकार के सफल नीति योजनाओं को जनता तक लेकर जाने की बात कही।

इस अवसर पर  भाजपा जिला महामंत्री सत्येन्द्र सिंह ठाकुर,  सुखलाल पुजारी, कमलेश मंडावी, पार्वती साहनी, डोलेश्वर झाड़ी, घासीराम नाग, जिला राम राना, पी संतोष, बलदेव उरसा, फूलचंद गागड़ा,  मुर्गेश शेट्टी, नीलकंठ ककेम, धनेश्वरी बाकड़े, के श्रीनिवास, मैथियस कुजूर, सतीश केशबोइना, गोलू नाग, हितेश साहनी, दीपक भट्ट, गिरिजाशंकर तामड़ी, हितेंद्र नाग, वेंकटेश्वर बटल, धनंजय एलल, जंगम सडवली सहित अन्य कार्यकर्ता व पदाधिकारी मौजूद रहे।

मांगों को ले आंबा कार्यकर्ता व सहायिकाओं ने दिया धरना, पीएम के नाम सौंपा ज्ञापन
30-Sep-2021 9:01 PM (58)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 30 सितंबर।  आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं ने अपनी छह  सूत्रीय मांगों को लेकर एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन किया। साथ ही प्रधानमंत्री के नाम का ज्ञापन कलेक्टर को सौंपा।

 गुरुवार को आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाएं सांस्कृतिक भवन के सामने मैदान में एकजुट होकर लामबंद हुईं। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं ने कहा कि सरकार ने अपने जन घोषणा पत्र में किया वादा पूरा नहीं किया है। कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं ने मांग की कि उन्हें शासकीय कर्मचारी घोषित कर कलेक्टर दर पर वरिष्ठता के आधार पर तत्काल दिया जाये जाए, हड़ताल और बर्खास्त अवधि का मानदेय,1500 रूपये का मानदेय का एरियर्स दिया जाए, पर्यवेक्षक भर्ती तत्काल निकाल कर पदोन्नति व आयु सीमा में छूट दी जाए, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को पूर्ण आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं में तब्दील की जाए, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सेवानिवृत्ति के बाद 5 लाख और सहायिकाओं को 3 लाख रूपये की प्रोत्साहन राशि दें, विभागीय / पोषण ट्रेकर कार्यों को ऑनलाइन कर कार्यकर्ताओं को मोबाइल प्रदाय किया जाये तथा समय-समय पर मोबाइल रिचार्ज करने के लिए भत्ता और आनलाइन कार्य कराने के लिए किसी प्रकार का दबाव न बनाया जाये।

आंगनबाड़ी महिला कार्यकर्ता सहायिका संघ की जिलाध्यक्ष रम्भा गागडा ने बताया है कि उनकी मांगें जायज है। उन्होंने कहा कि उनकी मांगे पूरी नहीं होने की स्थिति मे आगामी दिसंबर माह के बाद अनिश्चित कालीन हड़ताल की जाएगी।

इस दौरान रजिया बेगम, हेमा निषाद, गौतमी बघेल,रीना कुमार,रेली ओयम, सेवन्ती मरकाम, विजय लक्ष्मी, किष्टूबाई, सुलोचना, गीता ध्रुव, मीना देवांगन,ललिता सर्वागिरी, जीबी शशिकला, कमला पुजारी सहित सैकड़ों कार्यकर्ता व सहायिका मौजूद रहे।

प्रेशर आईईडी पर जवान का पैर पड़ा, विस्फोट में 2 घायल
30-Sep-2021 4:00 PM (91)

गंभीर हालत में एक को रायपुर भेजा

आरओपी पर निकले थे सीआरपीएफ जवान

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बीजापुर, 30 सितंबर।
यहां से करीब 10 किलोमीटर दूर एक आईईडी ब्लास्ट की चपेट में आने से सीआरपीएफ के दो जवान घायल हो गए। इनमें से एक जवान को गंभीर चोट आई है। उसे हेलीकॉप्टर से रायपुर भेज दिया गया है। 
मिली जानकारी के मुताबिक गुरुवार की सुबह चिन्नाकोडेपाल स्थित सीआरपीएफ 170वीं बटालियन के कैम्प से जवानों की एक टुकड़ी आरओपी के लिए मोदकपाल थाना क्षेत्र के मुरकीनार की ओर निकली हुई थी। 

इसी बीच सुबह 10 से 11 बजे के बीच जवान आगे बढ़ रहे थे। तभी मुख्य मार्ग से किनारे पत्थर के पास नक्सलियों द्वारा प्लांट की गई प्रेशर आईईडी पर जवान सनीदुल इस्लाम निवासी असम का पैर पड़ गया और विस्फोट हो गया। इससे जवान इस्लाम के पैर में गंभीर चोट पहुंची है। उन्हें यहां जिला अस्पताल में लाया गया। यहां उपचार के बाद उन्हें बेहतर इलाज के लिए हेलीकाप्टर से रायपुर रेफर कर दिया गया है। वहीं विस्फोट की जद में आये एक अन्य जवान बालकिशन निवासी रामभद्रपुरम को कंधे पर मामूली चोट आई है। उनका जिला अस्पताल में उपचार चल रहा है।
 

पढ़ाई तुंहर द्वार प्रतियोगिता में बच्चों ने किया कमाल
29-Sep-2021 9:10 PM (89)

लेखन, पठन, गणित और हस्तपुस्तिका में दिखाये हुनर

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 29 सितंबर। बच्चों में समग्र विकास लाने यहां बीजापुर ब्लॉक में आयोजित पढ़ाई तुंहर दुआर  प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें 23 संकुलों के विभिन्न छात्र छात्राओं ने हिस्सा लेकर अपना कमाल दिखाया। इस आयोजन में लेखन कौशल, पठन कौशल, गणितीय कौशल और हस्त पुस्तिका आधारित प्रतियोगिता कराई गई। जिसमें छात्रछात्राओं ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेकर अपना हुनर दिखाया ।

प्रतियोगिता 2 श्रेणियों 1ली से 3री एवं 4थी से 5वीं में आयोजित की गई। प्रतियोगी छात्रों ने अपने लेखन कौशल को प्रदर्शित करते हुए जहां सुंदर लिखावट दिखाई वहीं हस्तपुस्तिका बनाते हुए छात्रों ने अपनी आंतरिक कला को कागज़ पर उकेरा। गणितीय कौशल के प्रदर्शन में बालिकाओं ने बाजी मारी।

पठन कौशल में प्राथमिक शाला को कोकड़ापारा कुमारी स्वाति मांझी और पोटा केबिन गंगालूर की कुमारी दीपिका हेमला प्रथम स्थान पर रही, लेखन कौशल में कन्या आश्रम तोयनार की कुमारी निशा तेलम और जनपद प्राथमिक शाला बीजापुर के गौरव को राम प्रथम स्थान पर रहे। गणितीय कौशल में प्राथमिक शाला राउतपारा की कुमारी रविता, जनपद प्राथमिक शाला बीजापुर की कुमारी चंचल राय प्रथम स्थान पर रहे। हस्तपुस्तिका निर्माण में प्राथमिक शाला डारापारा आयुष झाड़ी और कु. देवकुमारी ने प्रथम स्थान अर्जित किया।

आयोजन के समापन समारोह में नगर पालिका बीजापुर के अध्यक्ष बेनुहूर रावतिया, पार्षद कलाम खान, सेवानिवृत्त शिक्षक मो. अय्यूब खान,बीईओ मो ज़ाकिर खान व बीआरसी कामेश्वर दुब्बा ने विजेताओं को पुरस्कार वितरित किया । इस अवसर पर बीइओ मो. ज़ाकिर खान ने कहा कि इस तरह की प्रतियोगिताओं से बच्चों में निहित आंतरिक प्रतिभा सामने आती है व  कला के प्रति लगाव पैदा होने के साथ ही पढ़ाई में रुचि जागृत होती है। कार्यक्रम में समस्त संकुलों के समन्वयक,शिक्षक शिक्षिकायें व बड़ी संख्या में छात्र छात्रायें उपस्थित रहे।

नियमितीकरण की मांग को ले दैवेभो ने दिया धरना
28-Sep-2021 8:49 PM (76)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 28 सितंबर। मंगलवार को नगरपालिका परिषद बीजापुर, नगर पंचायत भोपालपटनम व भैरमगढ़  के दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों ने ठेका प्रथा को बंद कर नियमितीकरण करने की मांग को लेकर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कर नारेबाजी की।

 नियमितीकरण को लेकर नगरपालिका व नगर पंचायत के सैकड़ों दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों ने नगर पालिका परिषद के सांस्कृतिक भवन में एकजुट होकर लामबंद हुए। कर्मचारियों ने कहा कि सरकार ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में कहा था कि ठेका प्रथा को बंद कर 10 दिनों के भीतर अनियमित कर्मचारियों को नियमित करेंगे, लेकिन सरकार बने ढाई साल होने के बाद भी अपने वादों पर अमल नहीं किया गया।

दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी संघ की जिलाध्यक्ष मुमताज खान ने बताया है कि ठेकाप्रथा को खासतौर से बंद कर नियमितीकरण करने की मांग शासन से की गई है। श्रीमती खांन ने जानकारी देते हुए आगे बताया है, कि नगरीय निकाय नगरपालिका परिषद और नगर पंचायत में दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी के रूप में कार्यरत थे। वर्ष 1998 से 2016 के दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को नियम के विरुद्ध 1 दिसंबर 2016 से प्लेसमेंट एजेंसी को सौंप दिया गया है, जो पूर्णत: गलत है। जबकि पहले दैनिक वेतन भोगी के तौर पर वेतन दिया जाता था। जिले के तीनों नगर पालिका व नगर पंचायतों में कुल 120 कर्मचारी कार्यरत हैं, जो पिछले 13 वर्षों से अपनी सेवायें दे रहे हंै।

उन्होंने बताया कि इसके बाद भी सरकार ने उन पर ध्यान नहीं दिया तो आगामी दिनों में दैनिक वेतन भोगी संघ अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन करने को बाध्य होगी। इधर दैवेगो को नगर पालिका परिषद बीजापुर के अध्यक्ष बेनहुर रावतिया, पार्षद प्रवीण डोंगरे व पार्षदों ने समर्थन दिया हैं।

पेड़ से टकराई पिकअप, 2 मौतें, 2 घायल
28-Sep-2021 5:58 PM (48)

जांगला थाना क्षेत्र की घटना

बीजापुर,  28 सितंबर। यहां से करीब 35 किलोमीटर दूर जांगला थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक पिकअप अनियंत्रित होकर पेड़ से जा भिड़ी। पिकअप इतनी तेज गति से पेड़ से टकराई, जिसमें मौके पर ही 2 लोगों की मौत हो गयी और दो अन्य घायल हो गए। 
जांगला थाना प्रभारी आरएन गौतम ने बताया कि यह घटना सोमवार की शाम लगभग 3 बजकर 30 मिनट पर घटित हुई। दरअसल यह पिकअप वाहन क्रमांक - सीजी17 के 2533 जगदलपुर से तेलंगाना सब्जी छोडऩे गई थी और पिकअप जब जगदलपुर आ रही थी, तभी पिकअप वरदेला के पास अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई, जिसमें पिकअप में सवार गणपत कश्यप(25) जगदलपुर, श्यामलाल कुर्रे (25)जगदलपुर की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं अंतु कश्यप(22), सुखनदंन बघेल घायल हो गए। घायलों को भी गंभीर चोटें आई है। जिसके बाद घायलों को बेहतर उपचार के लिए जगदलपुर के मेडिकल कालेज भेज दिया गया है।

 

विधायक ने बंजारा समाज के सामाजिक भवन का किया लोकार्पण
26-Sep-2021 9:42 PM (96)

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 26 सितंबर। रविवार को भैरमगढ़ के लंकापारा में बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं बीजापुर के विधायक विक्रम शाह मंडावी ने जिले में निवासरत बंजारा समाज के लोगों को सामाजिक भवन की सौग़ात देते हुए लोकार्पण किया एवं संत सेवालाल महाराज का आशीर्वाद लेकर क्षेत्र की सुख समृद्धि की कामना की।

लोकार्पण कार्यक्रम के दौरान विधायक विक्रम मंडावी ने समाज के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि इस समाज के लोग पिछले कई वर्षों से एक समाजिक भवन की माँग शासन-प्रशासन से कर रहे थे। समाज के लोग भैरमगढ़ सहित जिले के विभिन्न गावों में निवासरत है। बंजारा समाज का समाजिक भवन बनने से समाज के समाजिक कार्यक्रमों को गति मिलेगी। वहीं विधायक विक्रम ने कहा कि बंजारा समाज के लोग परिश्रमी होते हैं और विपरीत परिस्थिति में भी इस समाज के लोग मिलकर एक दूसरे के सहयोगी बनते हैं।

इस दौरान जिला पंचायत बीजापुर के अध्यक्ष शंकर कुडिय़म, छत्तीसगढ़ युवा आयोग के सदस्य अजय सिंह, जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालू राठौर, जिला पंचायत सदस्य संतकुमारी मंडावी, जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता ज्योति  कुमार, मोहित चौहान, ब्लांक कांग्रेस कमेटी भैरमगढ़ के अध्यक्ष लच्छु राम मौर्य, नगर पंचायत भैरमगढ़ लव कुमार रायडू, वरिष्ठ पार्षद जागेंद्र देवांगन, सांसद प्रतिनिधि सीतारम माँझी, विधायक प्रतिनिधि सुखदेव नाग, एल्डरमेन विरेंद्र यादव, भुपेंद्र पटेल, आल इंडिया बंजारा सेवा समाज के प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश कुमार नायक, बंजारा समाज के जिला चमराराम नायक, अनिल नायक सहित समाज के लोग बड़ी संख्या उपस्थित थे।

विज्ञान में स्नातकोत्तर की पढ़ाई बीजापुर में ही कर सकेंगे छात्र
26-Sep-2021 9:39 PM (72)

उच्च शिक्षा विभाग ने दी स्वीकृति मंडावी ने दी बधाई एवं शुभकामनाएँ

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 26 सितंबर। शनिवार का दिन  बीजापुर जि़ले के महाविद्यालयीन छात्रों के लिये एतिहासिक दिन तब बना, जब छत्तीसगढ़ शासन के उच्च शिक्षा विभाग ने जि़ला मुख्यालय बीजापुर स्थित शहीद वेंकट राव महाविद्यालय में विज्ञान संकाय के स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम प्रारम्भ करने की स्वीकृति दे दी।

 अब जि़ले के छात्र रसायन शास्त्र, वनस्पति विज्ञान एवं प्राणी विज्ञान में स्नातकोत्तर की पढ़ाई बीजापुर में ही कर सकेंगे। साथ ही बीएससी गणित समूह एवं बीएससी (कम्प्यूटर साइंस) की भी कक्षाएँ शहीद वेंकट राव महाविद्यालय में लगेंगी। इसकी भी स्वीकृति उच्च शिक्षा विभाग ने दे दी है।

जि़ले में विज्ञान संकाय में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम की कक्षाएँ प्रारम्भ होने पर बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं बीजापुर के विधायक विक्रम शाह मंडावी ने जि़ले के छात्रों को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उच्च शिक्षा के लिए बीते शनिवार का दिन  बीजापुर जि़ले के महाविद्यालयीन छात्रों के लिए ख़ास रहा। अब जि़ले के छात्र बीजापुर जैसे क्षेत्र में ही उच्च शिक्षा ले सकेंगे और अन्य जिलों में जाकर पढ़ाई करने से होने वाले ख़र्चों से भी छात्रों को निजात मिलेगी।

लेखन-पठन कौशल व गणितीय कौशल की प्रतियोगिताएं
26-Sep-2021 6:12 PM (74)

भोपालपटनम, 26 सितंबर। पढ़ई तुंहर दुआर 2.0 के तहत संकुल केंद्र भोपालपटनम (्र) तथा  संकुल केंद्र भोपालपटनम (क्च) में संकुल स्तरीय प्राथमिक स्तर की हस्तलिखित पुस्तिकाओं, लेखन कौशल, पठन कौशल एवं गणितीय कौशल की प्रतियोगिताएं आयोजन किया गया। जिसमें संकुल के समस्त प्राथमिक विद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। उक्त प्रतियोगिता के साथ–साथ कबाड़ से जुगाड प्रतियोगिता भी आयोजित किया गया। सभी प्रतियोगिताओं में 02 भागों में कक्षा 1 से कक्षा 3 एवं कक्षा 4 से 5 तक कर विद्यार्थियों का संकुल स्तरीय चयन समिति के माध्यम से उत्कृष्ट बच्चों का चयन किया गया । संकुल समन्वयक श्रीनिवास एटला ने बताया कि राज्य परियोजना कार्यालय रायपुर से प्राप्त निर्देश अनुसार यह प्रतियोगिताएं आयोजित की जा रही हैं। कोविड संक्रमण के कारण विगत 17 महीनों से विद्यार्थी स्कूल से दूर रहने के बाद इस तरह के कार्यक्रम से बच्चों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। बच्चों ने इस प्रतियोगिता में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। विद्यार्थियो के लर्निंग विकास में बहुत ही मदद मिल रहा है। आगामी चरण में 27 सितंबर को विकासखंड स्तर पर प्रतियोगिता होनी है। जिसमें संकुल स्तर पर चयनित अभ्यर्थि भाग लेंगे। इस कार्यक्रम में एबीइओ कमलेश ध्रुव  एवं बीआरसी मिर्जा खान उपस्थित रहे। संकुल केंद्र भोपालपटनम (्र) के कमल सिंह कोर्राम एवं संकुल केंद्र भोपालपटनम (क्च) के संकुल समन्वयक श्रीनिवास एटला के द्वारा कार्यक्रम का सफल संचालन किया गया।