राजनांदगांव

रेल यात्रियों की स्टेशन में होगी कोरोना जांच
13-Apr-2021 10:04 PM 32
 रेल यात्रियों की स्टेशन में होगी कोरोना जांच

पॉजिटिव रिपोर्ट पर किया जाएगा क्वारेंटाईन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 13 अप्रैल।
वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रशासन ने अब अन्य प्रदेशों से जिले में आने वाले रेल यात्रियों की कोरोना जांच की व्यवस्था शुरू कर दी है। कलेक्टर टीके वर्मा ने सोमवार को व्यवस्था के संबंध में राजनांदगांव रेल्वे स्टेशन का निरीक्षण कर संक्रमण पर नियंत्रण के लिए रेल के माध्यम से छत्तीसगढ़ आने वाले यात्रियों की कोरोना जांच अनिवार्य रूप से करने के निर्देश दिए। 

उन्होंने कहा कि रेल्वे स्टेशन पर ट्रेन पहुंचने से पूर्व 72 घंटे के भीतर कराए गए कोरोना जांच टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट होना अनिवार्य होगा। जारी निर्देश के अनुसार ऐसे यात्री जिनके पास निर्धारित समयावधि की कोरोना जांच टेस्ट रिपोर्ट नहीं होगी, उनकी कोविड जांच रेल्वे स्टेशन पर की जाएगी। कोविड टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव होने पर उन्हें संस्थागत क्वांरेनटाइन, कोविड केयर सेंटर अस्पताल में रखा जाएगा। उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को ट्रेन के समय के अनुसार कोविड-19 टेस्ट के लिए ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने इस अवसर पर कोरोना जांच के लिए काउंटर बनाने के निर्देश दिए और यात्रियों का सैम्पल लेने के लिए टीम का गठन करने और ड्यूटी लगाने के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि व्यवस्था बनाने रखने के लिए रेल्वे पुलिस की ड्यूटी रहेगी। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, एसडीएम मुकेश रावटे एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 

एसडीएम ने किया डोंगरगढ़ स्टेशन का निरीक्षण
अनुविभागीय अधिकारी राजस्व डोंगरगढ़ अविनाश भोई ने कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए रेल से आने वाले यात्रियों के कोविड परीक्षण के मद्देनजर डोंगरगढ़ रेल्वे स्टेशन का निरीक्षण किया। उन्होंने मुख्य स्टेशन प्रबंधक को यात्रियों से रेल्वे स्टेशन पर ट्रेन पहुंचने से पूर्व 72 घंटे के भीतर कराए गए कोरोना जांच टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट की जांच करने कहा। रिपोर्ट नहीं होने पर स्टेशन पर ही कोरोना जांच के लिए सैंपल लेने और रिपोर्ट आने तक संबंधित यात्री को क्वारेंटाईन करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि इस कार्य के लिए आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 एवं महामारी नियंत्रण अधिनियम के तहत आवश्यक मेडिकल स्टॉफ, अधिकारियों, शिक्षकों एवं पुलिस बल की टीम तैनात किए गए हैं। इस अवसर पर अनुविभागीय अधिकारी पुलिस चंद्रेश ठाकुर, डोंगरगढ़ मुख्य स्टेशन प्रबंधक एके मंडल एवं मुख्य वाणिज्य निरीक्षक प्रमोद यादव उपस्थित थे।
 

अन्य पोस्ट

Comments