राजनांदगांव

नांदगांव में 4 दिन में 40 मौतें
14-Apr-2021 1:34 PM 51
नांदगांव में 4 दिन में 40 मौतें

10 से 13 अप्रैल के बीच रोजाना 10 की कोरोना ने ली जान

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 14 अप्रैल।
राजनांदगांव में अप्रैल के पहले पखवाड़े में कोरोना से मौत होने की रफ्तार कम नहीं हो रही है। कोरोना के चलते जहां रोज हजार से ज्यादा संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। वहीं कोरोना मौतों की संख्या भी दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। आलम यह है कि कोरोनाग्रस्त होने के बाद लोगों को अपनी जान गंवाने का डर परेशान कर रहा है। लोग संक्रमण से बचाव से ज्यादा जान की सुरक्षा को लेकर चिंताग्रस्त हो गए हैं। 

गुजरे 4 दिनों में कोरोना मौतों की संख्या 40 पार हो गई है। 10 से 13 अप्रैल के बीच 41 लोगों की जान चली गई। कोरोना मौतों में अलग-अलग पेशे से जुड़े लोग शामिल हैं। वहीं 35- 40 आयु के लोगों को भी कोरोना ने अपना शिकार बनाया है। अस्पतालों की हालत देखकर इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि हालात में सुधार होता नहीं दिख रहा है। कोरोना संक्रमितों की तादाद में गिरावट भी कम नहीं हो रही है। हर रोज हजार से 1300 के बीच संक्रमित सामने आ रहे हैं। यह आंकड़ा ऐसे वक्त में आ रहा है जब समूचा राजनांदगांव जिला लॉकडाउन के गिरफ्त में है। इसके बावजूद संक्रमण के मामलों में कमी नहीं आ रही है। संक्रमण चेन तोडऩे के लिए 10 से 19 अप्रैल तक जिले को लॉक कर दिया गया है। 

राजनांदगांव शहर की श्रमिक बाहुल्य  वालों की दशा बेहद खराब है। श्रमिक इलाके बसंतपुर, शांति नगर, चिखली, गौरीनगर, नंदई, तथा लखोली इलाके में रोज दर्जनों मामले सामने आ रहे हैं। शहर का अंदरूनी इलाका भी कोरोना से अछूता नहीं है। आने वाले कुछ दिनों में स्थिति भयावह हो सकती है।  इसके पीछे कारण यह है कि सरकारी और निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों की भरमार है। हालांकि प्रशासन रोजाना नए-नए जगहों को कोविड केयर सेंटर के रूप में तब्दील कर रहा है। 

इसी कड़ी में राजनांदगांव प्रेस क्लब ने भी कोरोना से जंग लडऩे के लिए अपने भवन को कोविड सेंटर के रूप में बदल दिया है। प्रदेश के मशहूर उद्योगपति बहादुर अली ने इंदामरा स्थित अपने स्कूल को भी कोविड केयर सेंटर का रूप दिया है। कुल मिलाकर जिले के लिए गुजरा 4  दिन भयानक साबित हो रहा है। वैसे तो अप्रैल का पहला पखवाड़ा मौतों की संख्या के लिहाज से डरावना साबित हो रहा है। 

इधर जिलेभर में बीते 10 अप्रैल को जिलेभर से 997 संक्रमित सामने आए थे। जिसमें 344 शहरी और ग्रामीण क्षेत्र से 653 शामिल हैं। इस दिन 10 लोगों ने कोरोना से अपनी जान गंवाई थी। इसी तरह 11 अप्रैल को जिलेभर से 961 संक्रमित, शहर से 451 व ग्रामीण से 510 और 10 लोगों की मौत हुई। वहीं 12 अप्रैल को 1284 लोग संक्रमित हुए थे। जिसमें शहर से 460 और ग्रामीण क्षेत्र से 824 लोग शामिल थे। इस दिन 11 लोगों की कोरोना से मौत हुई। वहीं 13 अप्रैल को 1368 लोग जिलेभर से कोरोना संक्रमित मरीज सामने आए थे। जिसमें शहरी क्षेत्र से 404 और ग्रामीण क्षेत्र से 964 लोग शामिल हैं। इस दिन 10 लोगों ने कोरोना  से अपनी जान गंवाई। इसी तरह चार दिन में 41 लोगों ने अपनी जान कोरोना से गंवाई है। 

अन्य पोस्ट

Comments