छत्तीसगढ़ » कोरिया

21-Mar-2021 5:23 PM 12

बैकुंठपुर 21 मार्च। बैकुंठपुर शहर के प्रेमाबाग परिसर में 15 मार्च से श्रीमद भागवत कथा का आयोजन देवराहा बाबा समिति व समस्त नगर वासियों के सहयोग से किया जा रहा है। जिसका 22 मार्च को समापन है। इस दिन हवन पूजन के साथ कथा का समापन कर दिया जायेगा साथ ही कार्यक्रम स्थल पर विशाल भण्डारा का आयोजन भी किया जायेगा।

इसके पूर्व गत 15 मार्च को विशाल कलश यात्रा के साथ शोभाया़त्र शहर में निकाली गयी जिसमें भारी संख्या में श्रद्धालुगण शामिल रहे। इसके साथ ही प्रतिदिन प्रेमाबाग मंदिर परिसर में अपरान्ह के समय से भागवत कथा चलता रहा। श्रीमद भागवत कथा में भगवान श्री कृष्ण की बाल लीलाओं का वर्णन अनोखे अंदाज में प्रतिदिन किया जाता रहा। इसी क्रम में श्रीमद भागवत कथा के अंतिम दिन 21 मार्च को श्रीमद भागवत कथा के दौरान फूलों की होली खेली गई।

इस अवसर पर उत्साह काफी बढ गया। कुछ दिनों बाद रंगों की होली आने वाली है इसके पूर्व भागवत कथा स्थल पर कथा वाचक व अन्य श्रद्धालुओं द्वारा फूलों की होली खेली गयी। उल्लेखनीय है कि यहॉ चल रहे भागवत कथा को सुनने के लिए प्रतिदिन भारी संख्या में श्रद्धालु जुटते रहे जो देर शाम तक मंत्रमुग्ध होकर कथा का रसपान करते।

इस तरह सात दिवस तक चलने वाली कथा समाप्त हो गयी और आज अंतिम दिन 22 मार्च को विधि विधान के साथ हवन पूजन करने के साथ ही समाप्त हेा जायेगा। हवन पूजन कार्यक्रम के बाद कथा स्थल पर विशाल भण्डारा का आयोजन किया गया है जिसका प्रसाद ग्रहण करने के लिए अधिक से अधिक श्रद्धालुओं को शामिल होने की अपील देवराहा बाबा समिति के पदाधिकारियों ने की।
 


20-Mar-2021 6:47 PM 24

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 20 मार्च। पार्टी में कोई खींचतान नहीं चल रही है। परिवारवाद की राजनीति के लिए कौन सी पार्टी चर्चित है, यह किसी को बताने की जरूरत नहीं है। जिलाध्यक्ष पर परिवारवाद के तहत संगठन में पद बांटने का आरोप लगाने वाले पूर्व में स्वयं कई पदों पर रहकर पार्टी के लिए कार्य करते रहे हैं, अब दूसरे कार्यकर्ताओं को मौका दिया जा रहा है तो इसमें किसी को नाराज नहीं होना चाहिए। बावजूद इसके यदि किसी को संगठन से कोई नाराजगी है तो उन्हें पार्टी फोरम में आकर अपनी बात रखनी चाहिए। उक्त बातें भाजपा मनेंद्रगढ़ मंडल अध्यक्ष धर्मेंद्र पटवा ने कही।

ज्ञात हो कि भाजपा के कुछ पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने पूर्व कैबिनेट मंत्री भईयालाल राजवाड़े से मिलकर जिलाध्यक्ष कृष्णबिहारी जायसवाल पर संगठन में मनमानी करते हुए उन पर परिवारवाद चलाने का आरोप लगाया है। जिलाध्यक्ष के समर्थन में आए मंडल अध्यक्ष पटवा ने कहा कि आज पद की लालसा से जिनके द्वारा संगठन पर अनर्गल आरोप लगाए जा रहे हैं वे पहले स्वयं पदाधिकारी रहे चुके हैं। दो बार जिला महामंत्री, मजदूर संघ जिलाध्यक्ष, प्रदेश व्यापार प्रकोष्ठ, भायजुमो महामंत्री, मंडल महामंत्री पद से नवाजे जा चुके हैं। पद क्रमबद्ध तरीके से चलते रहते हैं तभी कार्यकर्ता जुड़े रहते हैं और संगठन को मजबूती मिलती है। जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं को पार्टी में आगे बढऩे और संगठन को मजबूत करने के लिए स्थान दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि पद ही पार्टी के लिए नहीं है, बल्कि काम महत्वपूर्ण है। एक ही व्यक्ति को पद दिए जाने से कार्यकर्ताओं का मनोबल गिरता है। उनका कोई महत्व नहीं रह जाता। भाजपा का संस्कार है कि आखिरी पंक्ति तक के लोग आगे बढ़ें सबके साथ सबका विकास पार्टी का उद्देश्य है।

          उन्होंने कहा कि काम करने वालों को ही संगठन में स्थान मिलता है। मंडल अध्यक्ष ने कहा कि अपनी बात रखने का जो तरीका अपनाया गया है वह पार्टी अनुशासन के न केवल खिलाफ है बल्कि घोर अनुशासनहीनता की परिधि में आता है। पटवा ने कहा कि जो लगातार लंबे समय से क्षेत्र से लेकर प्रदेश स्तर के वरिष्ठ पदाधिकारियों के विरूद्ध अनर्गल टीका-टिप्पणी और मर्यादाविहीन बातें सार्वजनिक तौर पर करते रहे हैं उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया जाना आवश्यक हो गया है, क्योंकि ऐसे अनुशासनहीन कार्यकर्ताओं के कारण पार्टी की छवि पर विपरीत असर पड़ रहा है।


20-Mar-2021 5:38 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 20 मार्च।
इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ लायनेस क्लब डिस्ट्रिक्ट 3233-सी 2020-2021  एरिया  4 की एरिया कॉन्फ्रेंस आदिश्री का भव्य आयोजन पेंड्रा में संपन्न हुआ। इसमें छत्तीसगढ़ एवं मध्यप्रदेश के 7 क्लब मनेंद्रगढ़, चिरमिरी, कोतमा, बुढ़ार, पेंड्रा, गौरेला एवं शहडोल के लगभग 110 सदस्यों ने शिरकत की।

आयोजन एरिया ऑफिसर अलका फरमानिया द्वारा पाम गार्डन में किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि डिस्ट्रिक्ट एडवाईजर अंशु गोयल, विशिष्ट अतिथि डिस्ट्रिक्ट सह सचिव अनिता फरमानिया एवं एरिया सचिव लक्ष्मी अग्रवाल रहीं। 
एरिया कॉन्फ्रेंस में उपस्थित अतिथियों एवं समस्त क्लबों के सदस्यों का स्वागत औषधीय एवं पुष्प पौधे प्रदान कर पर्यावरण संरक्षण हेतु पौधे रोपित करने के लिए उत्साहित किया गया। आयोजन में लायनेस क्लब मनेंद्रगढ़ समर्पण की अध्यक्ष पम्मी अरोड़ा के नेतृत्व में  क्लब को सेवा कार्य हेतु 14 अवार्ड, 7 मेडल एवं 16 सम्मान पत्र प्राप्त हुए। अति क्रियाशील अध्यक्ष का सम्मानजनक अवार्ड पम्मी अरोड़ा को प्राप्त हुआ। सर्वश्रेष्ठ  बैनर

प्रेजेंटेशन, उत्कृष्ट सेवा कार्यों में स्वच्छता दीदियों का सम्मान, कंबल वितरण, निर्धन कन्या विवाह, अन्नदान, छाता वितरण, सशक्त महिला सम्मान, भजन प्रतियोगिता मधु जैन, सक्रिय सचिव प्रतिभा अग्रवाल, श्रेष्ठ कोषाध्यक्ष मधु जैन, ईको फ्रेंडली गणेश प्रतियोगिता में प्रथम स्थान मंजू गोयल, गरिमामय शपथ ग्रहण, सदस्यता वृद्धि, उप जेल में वस्त्र एवं खेल सामग्री वितरण, पर्यावरणीय संरक्षण  के उत्कृष्ट कार्य के लिए अवार्ड प्राप्त हुए।  इसके अतिरिक्त 7 मैडल माइक्रो कैबिनेट मेंबर अनिता फरमानिया, बेबी माखीजा, प्रीति जायसवाल, कमलेश अरोड़ा, ज्योति अग्रवाल, इंद्रा सेंगर एवं अरुणा अग्रवाल को प्राप्त हुए तथा 16 सम्मान पत्र भी किए गए सेवा कार्य हेतु प्राप्त हुए। मनेंद्रगढ़ समर्पण की अपने सेवा कार्यों से एरिया में प्रशंसा  हुई। अतिथियों ने पुरस्कारों का अंबार

लगा दिया। मनोरंजक कार्यक्रम में भी क्लब ने कई पुरस्कार जीते। इस अवसर पर समर्पण की अध्यक्ष पम्मी अरोड़ा ने कहा कि हमारे क्लब को एरिया में व्यापक रूप से जो सम्मान एवं अवार्ड मिले हैं वह प्रत्येक सदस्य की सराहनीय सहभागिता का प्रतिफल है, जिन्होंने कोरोना काल जैसी विषम परिस्थितियों में भी एकजुट होकर कंधे ेसे कंधा मिलाकर कार्य किए, इसलिए हमें एरिया में सर्वश्रेष्ठ स्थान प्राप्त हुआ। उन्होंने सभी सदस्यों को बधाई दी। मनेंद्रगढ़ समर्पण के 12 सदस्यों ने एरिया कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लिया इसमें लायनेस प्रीति अग्रवाल, वर्षा अग्रवाल, हेमा गायकवाड, रजनी अग्रवाल, सविता अग्रवाल, प्रीति जायसवाल, अनिता फरमानिया, इंद्रा सेंगर, बेबी माखीजा, प्रतिभा अग्रवाल एवं मधु जैन आदि शामिल रहे। आयोजन का समापन संपूर्ण राष्ट्र की मंगल कामना के साथ होली के रंग बिखेरते हुए हुआ।
 


20-Mar-2021 5:22 PM 17

प्राइवेट कंपनी द्वारा दिया जा रहा प्रशिक्षण रद्द

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 20 मार्च।
खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम छत्तीसगढ़ राज्य द्वारा प्रदेश के सभी जिलों में खाद्य व्यापारियों को प्रशिक्षण देने के नाम से नागपुर महाराष्ट्र की एक प्राइवेट कंपनी को प्रशिक्षण का अनुबंध किया गया है, जिसके तहत् राज्य की जिलेवार खाद्य शाखाओं से व्यापारियों की सूची प्राप्त कर उन्हें प्रशिक्षण देने का कार्य किया जाना तय था। 

उक्त प्राइवेट संस्था द्वारा सभी व्यापारियों को प्रशिक्षण की सूचना दी गई और कहा गया कि अगर प्रशिक्षण में आपने भाग नहीं लिया तो आपके पंजीयन एवं अनुज्ञप्ति को रिनुअल नहीं किया जाएगा। वहीं प्रशिक्षण के नाम पर शासन द्वारा निर्धारित राशि की भी वसूली व्यापारियों से की जानी थी जिसके तहत व्यापारियों को प्रशिक्षण में सभी सुविधाएं मुहैया कराना कंपनी की जवाबदारी थी, लेकिन कोरिया जिले के खाद्य सुरक्षा

अधिकारियों ने किसी भी प्रकार की नोटिस या जानकारी व्यापारियों को नहीं दी। जब व्यापारी फोन के माध्यम से मनेंद्रगढ़ के हरियाणा भवन में आयोजित प्रशिक्षण स्थल पर पहुंचे तो वहां केवल रसीद काटी जा रही थी और किसी प्रकार की कोई व्यवस्था नहीं थी। न ही कोई प्रशिक्षण दिया जा रहा था जिससे व्यापारी भडक़ गए। 

मनेंद्रगढ़ के व्यापारिक संगठनों ने इसका पुरजोर विरोध किया जिसमें प्राइवेट कंपनी द्वारा प्रशिक्षण की कार्यशाला को स्थगित कर दिया गया। ज्ञात हो कि मनेंद्रगढ़ शहर में 200 से अधिक पंजीयनकर्ता हैं व 150 से अधिक अनुज्ञप्तिधारी व्यापारी हैं। एक तरह से देखा जाए तो कंपनी द्वारा राशि की वसूली के लिए इस प्रशिक्षण का आयोजन कराया गया था जिसे व्यापारियों के विरोध को देखते हुए स्थगित करना पड़ा।
 


20-Mar-2021 4:45 PM 17

बैकुंठपुर, 20 मार्च। शहर के प्रेमाबाग मंदिर परिसर में गत 15 मार्च से सात दिवसीय श्रीमद भागवत कथा का शुभारंभ कलश यात्रा के साथ शुरू  की गयी। उक्त आयोजन देवराहा बाबा सेवा समिति बैकुण्ठपुर के तत्वाधान में आयोजित की जा रही है। 
समिति प्रमुख शैलेष शिवहरे ने बताया कि 15 मार्च को विशाल कलश यात्रा के साथ श्रीमद भागवत कथा का आयोजन प्रेमाबाग मंदिर परिसर शुरू हुआ जो सात दिनो तक चलेगा। उन्होने बताया कि श्रीमद भागवत कथा का समापन  22 मार्च को हवन पूजन के साथ होगा साथ ही अंतिम दिवस कार्यक्रम स्थल पर विशाल भण्डारा का आयोजन किया गया है। जानकारी के अनुसार श्रीमद भागवत कथा में शहर सहित आस पास क्षेत्र के भारी संख्या में श्रद्धालुगण पहुॅच रहे है। यहॉ प्रतिदिन व्यास मानस माधुरी मधु पाठक वृंदावन के द्वारा कथा वाचन किया जा रहा है। प्रतिदिन अपरान्ह 3 बजे से कथा वाचन की शुरूआत होती है जो शाम तक चलता है। कार्यक्र में कथा सुनने के लिए भारी संख्या में महिला श्रद्धालुओं के अलावा परिवार सहित कई लोग पहुॅच रहे है। प्रतिदिन कथा वाचन द्वारा सुमधुर संगीत की धुन के साथ कृष्ण लीलाओं का रोचक तरीके से वर्णन किया जाता है। इससे पूरा क्षेत्र भक्ति में डूब गया है जिससे कि पूरा वातावरण भक्तिमय हो गया है। 

उल्लेखनीय है कि शहर के प्रेमाबाग मंदिर परिसर में प्राचीन शिव मंदिर के साथ कई अन्य तरह के मंदिर स्थित है। इस धार्मिक परिसर में आये दिन किसी न किसी तरह का धार्मिक आयोजन होते रहता है। श्रीमद भागवत कथा की शुरूआत के पूर्व यहॉ शिव शक्ति महायज्ञ देवराहा बाबा सेवा समिति द्वारा आयोजित की गयी थी जो  12 मार्च को समाप्त हुआ इसके दो दिनों बाद सात दिवसीय श्रीमद भागवत कथा का शुभारंभ हुआ।तब से लेकर अब तक लगातार कथा सुनने के लिए श्रद्धालुओं की भीड उमड रही है। जिसका समापन  22 मार्च को हवन पूजन व भण्डारा के साथ किया जायेगा।
 


20-Mar-2021 4:41 PM 26

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुण्ठपुर, कोरिया, 20 मार्च। 
कोरिया जिले में कोरोना संक्रमण में फिर से बढोतरी होना शुरू हो गया है इसके बाद भी लोगों के द्वारा बचाव के उपायों को नही अपनाया जा रहा है जिससे कि संक्रमण बढने का खतरा बना हुआ है।  
स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार  18 मार्च को कोरिया जिले में कुल  36 की संख्या में कोरोना पाजिटिव  पाये गये जिनमें से शहरी क्षेत्र से  28 तथा ग्रामीण क्षेत्र से  8 की संख्या में पाजिटिव प्रकरण दर्ज किये गये। जिसमें शहरी क्षेत्र चिरमिरी से ही 24 की संख्या में पाजिटिव प्रकरण पाये गये। 

जानकारी के अनुसार शहरी क्षेत्र शिवपुर चरचा में इस दिन  1, मनेंद्रगढ से  3 पाजिटिव पाये गये। वही ग्रामीण क्षेत्र बैकुण्ठपुर में 1, मनेंद्रगढ में  3 सोनहत में 1 तथा जनकपुर में  3 पाजिटिव प्रकरण सामने आये। इस तरह इस दिनॉक तक जिले में अब तक कुल कोरोना पाजिटिव  की संख्या 5666 हो गयी। वही एक्टिव केस 109 हो गयी।

अब तक जिले में कोविड से  43 लोगों की मौत की जानकारी है। इसी तरह दूसरे दिन  19 मार्च को कोरिया जिले में  10 की संख्या में पाजिटिव मामले आये। बीते कुछ दिनों से कोरिया जिले में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या में वृद्धि दर्ज की जा रही है। जबकि मार्च माह के शुरूआती सात दिनों तक एक अंको में ही कोरोना पाजिटिव मिल रहे थे लेकिन चालू माह के दूसरे पहले सप्ताह के बाद दो अंकों में कोरोना पाजिटिव  मिलने लगे जिसके बाद से लगातार प्रतिदिन दो अंकों में ही कोरोना पाजिटिव केस सामने आ रहे है। ऐसे में लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है और सुरक्षात्मक उपाय अपनाकर ही सार्वजनिक स्थलों पर निकलने की जरूरत है।

लापरवाही से बढ ऱहा संक्रमण
कोरिया जिले में पिछले कुछ दिनों से लगातार शहरी क्षेत्रों में पाजिटिव  प्रकरण अधिक संख्या में मिल रहे है इसके बावजूद प्रशासनिक कडाई नही दिखाई देती है जिसके कारण लोग अब कोरोना से बचाव के उपाय को अपनाने को लेकर लापरवाह हो गये है। 
जानकारी के अनुसार अब सार्वजनिक स्थलों पर बहुत कम लोगों द्वारा मास्क का उपयोग किया जाता है वही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी  सार्वजनिक स्थलों पर देखने को नही मिल रहा है। शिवपुर चरचा नगर पालिका परिषद द्वारा लोगों में जागरूकता के लिए मुनादी कराई जा रही है कि बिना मास्क के सार्वजनिक स्थलों पर पाये जाने पर  जुर्माने की राशि से दंडित किया जायेगा लेकिन यह सिर्फ मुनादी तक ही सीमित है। यहॉ भी लोग बिना मास्क के सार्वजनिक स्थलों पर घुमते पाये जाते है। 
 


19-Mar-2021 4:30 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर, 19 मार्च। अब कोरिया जिले में स्केटिंग का प्रशिक्षण भी शुरू  हो चुका है, जिसमें कई बच्चे स्केटिंग का प्रशिक्षण ले रहे हंै और अभिभावकों की भी इस खेल के प्रति रूचि बढ़ रही है जिसके चलते प्रतिदिन प्रशिक्षण केंद्र में बच्चों का आना लगा हुआ है। 

कोरिया जिले में अपनी तरह का पहला प्रशिक्षण केंद्र की शुरूआत हुई है। जिसका लाभ स्केटिंग का शौक रखने वाले बच्चों को मिल रहा है।

जानकारी के अनुसार कोरिया जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर से कुछ दूरी पर स्थित चरचा कॉलरी में स्केटिंग प्रशिक्षण की शुरूआत की गयी थी। वहॉ इस प्रशिक्षण को अच्छा रिस्पांस मिला जिसके के बाद 2 मार्च से बैकुण्ठपुर में भी स्केटिंग प्रशिक्षण केंद्र की शुरूआत की गयी। कोरिया जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर के रामानुज क्लब मे 2 मार्च से स्केटिंग प्रशिक्षण केंद्र की शुरूआत हुई। जहां आज  एक दर्जन से अधिक बच्चे स्केटिंग का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हंै।

गौरतलब है कि कोरिया जिले में प्रतिभावान खिलाडिय़ों की कमी नहीं है लेकिन ऐसे खिलाडिय़ों को प्रोत्साहन उचित प्रशिक्षण की आवश्यकता है जिससे कि अपनी प्रतिभा को  निखार सके। अभी तक कोरिया जिले में फुटबॉल, क्रिकेट, खो खो आदि खेल विधा में ही यहां के खिलाड़ी अपनी प्रतिभा दिखा सके हंै। फुटबॉल व क्रिकेट में तो कोरिया जिले के कई खिलाड़ी राज्य व राष्ट्रीय स्तर तक पहुंच कर जिले का नाम रौशन कर चुके हैं। इसी तरह खो-खो में भी कई खिलाड़ी राज्य स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखा चुके हैं।

प्रशिक्षिका के नाम वल्र्ड रिकार्ड

शहर के रामानुज क्लब में संचालित स्केटिंग प्रशिक्षण केंद्र की संचालिका अंजनी सिंह स्वयं स्केटिंग में वल्र्ड रिकार्डधारी है। जानकारी के अनुसार प्रशिक्षिका अंजनी सिंह वर्ष 2011 में स्केटिंग में गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड  रिकार्ड दर्ज कराया था।

उन्होंने बताया कि उनकी बेटी भी स्केटिंग में गिनीज बुक वल्र्ड  रिकार्ड के साथ लिम्का बुक ऑफ वल्र्ड  रिकार्ड बना चुकी है। प्रशिक्षिका अंजनी सिंह ने कहा कि उन्होंने सोचा कि क्यों न इस क्षेत्र के बच्चों को प्रशिक्षण प्रदान किया जाये ताकि वे इस विधा में प्रशिक्षित होकर अपना नाम रौशन करें। इसी सोच के साथ चरचा कॉलरी में स्केटिंग प्रशिक्षण की शुरूआत की जहां अच्छा रिस्पॉस मिलने के बाद उन्होंने बैकुठपुर में प्रशिक्षण केंद्र 2 मार्च से शुरू की। उन्होने बताया कि अभिभावकों में इस खेल के प्रति रूचि है और वे अपने बच्चों को स्केटिंग प्रशिक्षण के लिए भेज रहे हैं।

अन्य खेलों का भी मिले प्रशिक्षण

कोरिया जिले में प्रतिभावान कई खिलाड़ी हंै शहर ही नहीं बल्कि गांवों में भी अनेक प्रतिभावन खिलाड़ी हैं लेकिन उन्हें उचित प्रशिक्षण के साथ अवसर नहीं मिलने के कारण उनकी प्रतिभा निखर कर बाहर नहीं आ रही है। यहां तक कि बीते भाजपा सरकार में खेल मंत्री का दायित्व स्थानीय विधायक ने ही निभाया था, परन्तु खेलों और खिलाडिय़ों को लेकर किसी भी प्रकार की उपलब्धि नजर नहीं आई। परन्तु अब इसके लिए जरूरी है कि कोरिया जिले में अन्य खेलों के प्रशिक्षण की भी व्यवस्था हो जिससे कि कोई भी खिलाड़ी अपनी रूचि के ,खेल के बारीकी को सीखकर अपने रूचि के खेल को और निखार सके जिससे कि राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर अपना नाम रौशन कर सके।


18-Mar-2021 7:03 PM 32

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

चिरिमिरी, 18 मार्च। भारतीय जीवन बीमा निगम देश व्यापी हड़ताल में है। ईपीओ का फैसला निरस्त करने की मांग को लेकर आज देश व्यापी हड़ताल के तहत 18 मार्च को पूरे देश मे वेतन बढ़ोत्तरी लागू करने सहित बीमा क्षेत्र में एफडीआई की सीमा 49 प्रतिशत से 74 प्रतिशत करने के फैसले को समाप्त करने की मांग को लेकर फेडरेशन ऑफ इंश्योरेंस फील्ड वर्कर्स ऑफ इंडिया, आल इंडिया इंश्योरेंस इम्प्लाइज एसोसिएशन, आल इंडिया एलआईसी इम्प्लाइज फेडरेशन के आह्वान पर चिरमिरी शाखा के अधिकारी एवम कर्मचारी एक दिवसीय हड़ताल पर है।

इस दौरान हड़ताल में शामिल अधिकारी कर्मचारी केंद्र सरकार पर कई हमले किये। उन्होंने कहा कि प्रॉफिट देने वाली संस्था में एफडीआई की बढ़ोत्तरी घातक साबित होगी। हड़ताल में शामिल अधिकारी  कर्मचारी अपने कार्यस्थल पर ही धरना देते हुए विरोध प्रकट किए।


18-Mar-2021 5:16 PM 21

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 18 मार्च।
छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज ने पूर्व डीआरयूसीसी सदस्य विजय प्रकाश पटेल द्वारा मनेंद्रगढ़ में चिरमिरी-नागपुर हॉल्ट न्यू रेलवे लाइन विस्तारीकरण को लेकर किए जा रहे घंटानाद आंदोलन का समर्थन किया है।
ज्ञात हो कि चिरमिरी-नागपुर हॉल्ट न्यू रेलवे लाईन-विस्तारीकरण की बहुप्रतीक्षित परियोजना का कार्यारंभ करने हेतु पूर्व डीआरयूसीसी सदस्य पटेल द्वारा विगत् 25 अगस्त 2020 से गांधी चौक मनेंद्रगढ़ में लगातार प्रतिदिन जारी घंटानाद-सत्याग्रह को 7 माह होने को है, लेकिन दुर्भाग्यवश मुख्यमंत्री के द्वारा अब तक न तो फंड रलीज किया गया है और न ही कार्यारंभ करने का कोई आदेश ही जारी किया गया है। 

चिरमिरी-नागपुर हॉल्ट न्यू रेल लाइन विस्तारीकरण परियोजना के लिए छत्तीसगढ़ शासन एवं केन्द्र सरकार ने परस्पर ओएमयू पश्चात् साझा वित्तीय मंजूरी प्रदान कर उक्त परियोजना का विधिवत् शुभारंभ केन्द्रीय रेलमंत्री पीयूष गोयल एवं तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा हरदी बाजार (कोरबा) एवं रेलवे परिसर चिरमिरी के सार्वजनिक समारोह में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा 24 सितम्बर 2018 को करने के साथ ही नवम्बर 2019 के प्रथम सप्ताह में केन्द्र सरकार ने इस परियोजना के लिए अपने हिस्से का फण्ड भी जारी कर दिया है, लेकिन उक्त महती रेल परियोजना के लिए राज्य सरकार के द्वारा अपने हिस्से की राशि जारी नहीं की जा रही है। इसे लेकर पूर्व डीआरयूसीसी सदस्य के द्वारा पिछले 7 माह से सार्वजनिक रूप से रोजाना शाम 5 बजे घंटी बजाकर सरकार को जगाने की कोशिश की जा रही है। धीरे-धीरे आंदोलन को जनसमर्थन मिलना भी शुरू हो चुका है। पटेल कहते हैं कि घंटी की गूंज सरकार के कानों तक पहुंच रही है। उन्हें आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण रूप से विश्वास है कि एक दिन राज्य सरकार जागेगी और राज्यांश की राशि रिलीज कर जीवनदायिनी रेल परियोजना से सरगुजा व शहडोल संभाग सहित संपूर्ण कोयलांचलवासियों को उपकृत करेगी।  

आंदोलन को अपना समर्थन देने पहुंचे  चेम्बर के सदस्य राकेश अग्रवाल, मनीष अग्रवाल, पंकज जैन, गणेश सर्राफ, विनय अग्रवाल, राजेश अग्रवाल, हरिओम दुआ, शैलेष जैन, पीयूष अग्रवाल, विश्वनाथ गुप्ता, मनीष कोठारी, जसपाल कालरा, मनोहर भाई खोडिय़ार, कोमल साहू, सतीश एलाबादी, रितेश जैन, मंसूर मेमन, अंकित अग्रवाल, सुधीर पोद्दार आदि ने भी थाली बजाई। चेंबर सदस्यों ने कहा कि उनका प्रतिनिधि मंडल इस मसले को लेकर शीघ्र मनेंद्रगढ़ एवं भरतपुर-सोनहत विधायक से मिलेगा और विधायकों को लेकर मुख्यमंत्री से मिलने जाएगा। 
 


17-Mar-2021 7:48 PM 32

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर, 17 मार्च। कोरिया जिले में फिर से कोरोना संक्रमण धीरे-धीरे बढ़ रहा है। मार्च के पहले सप्ताह मे जहां एक अंकों में कोरोना पॉजिटिव की संख्या देखने को मिल रही थी, वहीं दूसरे सप्ताह में यह आंकड़ा दो अंकों में आने लगी। इसके बावजूद लोगों में बचाव के सुरक्षात्मक उपायों को अपनाने में ढिलाई बरती जा रही है।

  जानकारी के अनुसार 12 व 13 मार्च को कोरिया जिले में 11-11 की संख्या में कोरोना पॉजिटिव मिले, इसी तरह 14 मार्च को कोरिया जिले में 10 की संख्या में कोरोना पॉजिटिव पाये गये, जिनमें से 7 की संख्या में शहरी क्षेत्र में तथा 3 की संख्या में ग्रामीण क्षेत्र से पॉजिटिव प्रकरण दर्ज किये गये।  इस दिन शहरी क्षेत्र बैकुण्ठपुर से 2, चिरमिरी से 4 तथा मनेंद्रगढ़ से 1 की संख्या में पॉजिटिव मिले। इसी तरह इस दिन ग्रामीण क्षेत्र बैकुंठपुर से 2 तथा मनेंद्रगढ़ से एक पॉजिटिव मिले थे।

14 मार्च तक जिले में अब तक कुल  5580 कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई जिनमें से इस दिनांक तक कुल एक्टिव केस 65 की संख्या में रही, जबकि इस दिवस तक कोविड अस्पताल कंचनपुर में 15 की संख्या में संक्रमित उपचार के लिए भर्ती किये गये है। वहीं  50 की संख्या में संक्रमित होम आईसोलेशन में रखे गये हैं। इस दिन कुल 201 सैंपल में 10 पॉजिटिव पाये गये थे।

जांच की रफ्तार हुई धीमी

पहले की अपेक्षा अब स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना की जांच की रफ्तार भी कम कर दी गयी है। जानकारी के अनुसार 14 मार्च को कुल 201 सैंपल लिये गये थे, जिनमें से 10 पॉजिटिव निकले, जबकि पूर्व में जब कोरोना अपनी चरम पर था, तब हजार के करीब एक दिन में सैंपल लिये जाते थे। कोरोना का खतरा अभी खत्म नहीं हुआ है। ऐसे में लोगों से अपेक्षा की जाती है कि वे इसके लिए सार्वजनिक स्थलों पर मास्क लगाकर ही चले तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करे, लेकिन उक्त दोनों ही निर्देश अब बेअसर दिखाई दे रहे हंै।

 ज्यादातर लोग अब सार्वजनिक स्थलों पर बिना मास्क के ही दिखाई देते है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना तो अब भूल ही गये।


17-Mar-2021 7:43 PM 16

बैकुंठपुर, 17 मार्च। जिला मुख्यालय बैकुंठपुर शहर के प्रेमाबाग मंदिर परिसर में एक के बाद एक धार्मिक आयोजन हो रहे है। पूर्व में शिवशक्ति महायज्ञ का समापन महाशिवरात्रि के दूसरे दिन 12 मार्च को होने के तीन दिन बाद सात दिवसीय श्रीमद भागवत कथा की शुरूआत विशाल कलश यात्रा के साथ हुई। जानकारी के अनुसार देवराहा बाबा सेवा समिति के तत्वावधान में प्रेमाबाग मंदिर परिसर में संगीतमय श्रीमद भागवत कथा का आगाज 15 मार्च को हुआ। इस दिन अपरान्ह के समय कथा स्थल प्रेमाबाग मंदिर परिसर से विशाल कलश यात्रा का शुभारंभ हुआ, जिसमें भारी संख्या में माताएं एवं बहनों के द्वारा सिर में कलश रखकर कलश यात्रा निकाली गयी।

जो प्रेमाबाग सिंचाई कॉलोनी जनपद तिराहा से होते हुए घड़ी चौक से सिविल लाईन होते हुए वापस कथा स्थल पर आकर समाप्त हुई। इस दौरान देवराहा बाबा सेवा समिति के पदाधिकारियेां के साथ अन्य श्रद्धालुगण भारी संख्या में शामिल रहे।

 प्रतिदिन अपरान्ह  3 बजे से कथा वाचन किया जा रहा है, जिसमें कथा व्यास मानस माधुरी मधु पाठक वृंदावन द्वारा कथा वाचन किया जा रहा है। यह आयोजन 22 मार्च तक चलेगा। अंतिम दिन पूर्णाहुति के साथ विशाल भण्डारा का आयोजन के साथ सात दिवसीय श्रीमद भागवत कथा का समापन होगा। प्रतिदिन कथा सुनने के लिए शहर सहित शहर के आस पास क्षेत्र के श्रद्धालुगण भारी संख्या में जुट रहे हैं, जिससे कि प्रेमाबाग मंदिर परिसर का पूरा वातावरण भक्तिमय हो गया है।

उल्लेखनीय है कि शहर के प्राचीन ऐतिहासिक महत्व का स्थल प्रेमाबाग में आये दिन विविध प्रकार के धार्मिक आयोजन होते रहते है। विभिन्न पर्व के अवसर पर यहां शहर के श्रद्धालुओं की भीड़ पूजा अर्चना के लिए जुटती है। वहीं देवराहा बाबा सेवा समिति द्वारा प्रतिवर्ष यहां धार्मिक आयोजन करवाये जाते हंै। 


16-Mar-2021 8:15 PM 21

छत्तीसगढ़ संवाददाता,

मनेन्द्रगढ़, 16 मार्च। सविप्रा उपाध्यक्ष राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त एवं भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरो की पहल पर जिले के दूरस्थ वनांचल क्षेत्र की छात्राओं को राज्य शासन ने बड़ी सौगात दी है।

वित्तीय वर्ष 2020-21 के मुख्य बजट में अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग की छात्राओं के लिए छात्रावास भवन हेतु राज्य शासन की ओर से 3 करोड़ 5 लाख 94 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई है। छात्राओं को बड़ी सौगात मिलने पर अभिभावकों एवं छात्राओं में हर्ष की लहर है। बता दें कि विधायक कमरो ने हाल ही में 10 मार्च को भरतपुर विकासखंड के ग्राम घघरा में छात्रों के लिए 1 करोड़ 52 लाख की लागत से बनने वाले छात्रावास भवन का विधिवत भूमि पूजन किया था। स्वीकृति राशि से कोटाडोल एवं बहरासी में क्रमश: 1 करोड़ 52 लाख 97 हजार कुल 3 करोड़ 5 लाख 94 हजार की लागत से छात्रावास भवन का निर्माण होगा। पहले जहां वनांचल और ग्रामीण क्षेत्र की बालिकाओं के लिए उच्च शिक्षा का सपना सरकार की लाख कोशिशों के बावजूद भी साकार नहीं हो पाता था। वहीं अब विधायक कमरो की पहल से गांव में बालिकाओं के लिए छात्रावास और स्कूल खोले जा रहे हैं जिससे बालिकाओं के लिए उच्च शिक्षा का मार्ग प्रशस्त हो रहा है और शिक्षा उनके लिए सरल, सहज होती जा रही है।


16-Mar-2021 8:13 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

चिरमिरी, 16 मार्च। बीते रविवार ब्राह्मण समाज चिरमिरी की आवश्यक बैठक महर्षि भवन में सम्पन्न हुई। बैठक का शुभारंभ भगवान परशुराम के छाया चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया।

उक्त बैठक में समाज के सर्वांगीण विकास के लिए समाज में व्याप्त कुरीतियों के निवारण के लिए जागरूकता अभियान चलाने तथा समाज की एकजुटता बढ़ाने के साथ साथ समाज को संगठित एवं सशक्त बनाने को लेकर चर्चा की गई।

उक्त बैठक में चर्चा उपरांत निर्णय लिया गया कि प्रत्येक शाखा में बैठक आहूत कर शाखाओं एवं केंद्रीय कमेटी को पुन: सक्रीय करना है एवं हिन्दू नववर्ष के उपलक्ष्य पर समाज द्वारा कैलेंडर प्रकाशित कर समाज के सदस्यों एवं परिवार में वितरित करने का निर्णय लिया गया।

उक्त बैठक में ब्राह्मण समाज चिरमिरी के अध्यक्ष हरिकांत अग्निहोत्री, महामंत्री धर्मेंद्र त्रिपाठी, डॉ.डी.के उपाध्याय, डॉ. पी.के त्रिपाठी,  छोटे लाल मिश्रा, वाचस्पति दुबे, आर. डी शुक्ल, अश्वनी कुमार पाण्डेय, रत्नेश द्विवेदी, अश्वनी कुमार मिश्रा, राजेन्द्र प्रसाद शुक्ला, चन्द्रिका प्रसाद  तिवारी, महेश कुमार शर्मा, राजीव रत्न पाण्डेय, रवि द्विवेदी सहित विप्र समाज के अन्य लोग भी उपस्थित रहे । उक्त जानकारी ब्राहाण समाज चिरमिरी के मीडिया प्रमुख जितेंद मिश्रा ने दी।


15-Mar-2021 6:45 PM 16

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 15 मार्च। जब पूरे विश्व पर कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी का खतरा मंडरा रहा था तब इन स्वच्छता कर्मियों ने सारे खतरों को दरकिनार कर हमें स्वस्थ रखने के लिए साफ-सफाई रखने का कार्य किया। आज हम इन्हें सम्मानित करते हुए इनके साहस और कर्तव्यनिष्ठा को नमन करते हैं।

चेतना महिला संगठन झगराखंड द्वारा आयोजित महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम में संगठन की संस्थापक और अध्यक्षा अनामिका चक्रवर्ती ने अपने उद्बोधन में कहा कि आज अगर हम सब स्वस्थ हैं तो इन्हीं महिलाओं की साफ-सफाई के कारण ही हैं। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि समाजसेविका इंद्रा सेंगर ने कहा कि महिलाएं मानसिक और शारीरिक रूप से सशक्त हैं बस उन्हें थोड़े से सहयोग की जरूरत है ताकि वे भी स्वतंत्र रूप से अपनी पहचान बना सकें। चेतना महिला संगठन झगराखंड ने नगर पंचायत की स्वच्छता दीदियों को उनके कार्य निष्पादन के लिए सम्मानित किया। इस अवसर पर अल्पना चक्रवर्ती, तुलिका राय, नीलम सोनी, सुषमा श्रीवास्तव, वीरांगना श्रीवास्तव, नगर पंचायत झगराखंड उपाध्यक्ष मो. सत्तार सहित संगठन की सदस्य और नागरिक उपस्थित रहे।


15-Mar-2021 6:44 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 15 मार्च। अधिवक्ता अभिषेक के. सिंह ने घायल मरीजों को व्यापक आपातकालीन चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध कराने कलेक्टर कोरिया से डीएम फंड के माध्यम से जिले में सर्वसुविधा युक्त आईसीयू ट्रामा सेंटर स्थापित किए जाने की मांग की है।

अधिवक्ता ने कहा कि मनेंद्रगढ़ में नेशनल हाइवे 43 के चौड़ीकरण काम तेजी से पूरा किया जा रहा है। हाइवे पर वाहनों की गति नियंत्रित करना बहुत मुश्किल है। उन्होंने कहा कि अभी हाइवे का काम चल ही रहा है इस बीच सडक़ हादसे में कई जानें जा चुकी हैं। कईयों के घरों के दीपक बुझ चुके हैं। हाइवे का काम पूरा होने के बाद सडक़ पर वाहनों की रफ्तार बढ़ेगी जिससे दुर्घटना में भी बढ़ोत्तरी होगी। अधिवक्ता ने संभावित हादसों को देखते हुए कलेक्टर से डीएम फंड के माध्यम से जिले में ट्रामा सेंटर स्थापित किए जाने की मांग की है।

वरदान साबित होगा ट्रामा सेंटर

कोरिया जिले में यदि ट्रामा सेंटर की स्थापना होती है तो यह यहां के लोगों के लिए वरदान साबित होगा, क्योंकि जिले में ट्रामा सेंटर नहीं होने की वजह से सडक़ दुर्घटना में गंभीर रूप से जख्मी मरीजों को अंबिकापुर, बिलासपुर या फिर रायपुर के लिए रेफर किया जाता रहा है। रेफर किए गए अधिकतर अस्पताल पहुंचने के पूर्व ही दम तोड़ जाते हैं। जिले में ट्रामा सेंटर का निर्माण हो जाने से सडक़ दुर्घटना में गंभीर रूप से जख्मी मरीजों को बाहर रेफर नहीं करना पड़ेगा।


15-Mar-2021 6:42 PM 16

मनेन्द्रगढ़, 15 मार्च। अखिल भारतीय कश्यप समाज युवा समन्वय मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कश्यप एवं छत्तीसगढ़ समिति के प्रदेश अध्यक्ष एमआर निषाद के द्वारा मनेंद्रगढ़ निवासी संतोष कुमार मांझी को भारतीय कश्यप समाज युवा समन्वय महासंघ के छत्तीसगढ़ प्रांत का प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। अपनी नियुक्ति पर मांझी ने कहा कि जिस आशा और विश्वास के साथ उन्हें दायित्व सौंपा गया है उस पर वे खरा उतरने का पूरा प्रयास करेंगे। संतोष मांझी को प्रदेशाध्यक्ष बनाए जाने पर उनके शुभचिंतकों एवं मित्रों ने बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है।


15-Mar-2021 5:17 PM 22

संसदीय सचिव ने आदिवासियों के साथ किए जा रहे भेदभाव को लेकर बैठक में बुलंद की आवाज

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 15 मार्च।
कोरिया जिले के कलेक्टर सभाकक्ष में आयोजित परियोजना सलाहकार मंडल की बैठक में संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव ने जिला प्रशासन से जमकर सवाल-जवाब कर अन्य विधानसभा क्षेत्र में आदिवासी हितों के लिए आई राशि को भेदभाव कर वितरण नहीं किए जाने पर सवाल उठाए। जिसके बाद बैकफुट में आए जिला प्रशासन ने इस वर्ष केन्द्र सरकार और राज्य सरकार से आई राशि को तीन हिस्सों मे बांटना तय किया गया।

जानकारी के अनुसार परियोजना सलाहकार मंडल की बैठक में संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव ने आदिवासी हितों को लेकर जिला प्रशासन पर जमकर बरसीं। दरअसल, पंडो जनजाति के लिए आई योजना का लाभ सिर्फ भरतपुर-सोनहत विधानसभा के लिए बीते वर्ष दे दिया गया था, जिसे लेकर संसदीय सचिव ने कलेक्टर से पूछा कि हमारी सरकार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में प्रदेश भर में आदिवासी वर्गों का विशेष ध्यान रख रही है, परन्तु हमारे जिले में ऐसा क्यों नहीं हो रहा है। 

उन्होंने प्रशासन से स्पष्ट कहा कि जो भी योजना और राशि आदिवासी हितों के लिए आती है उसका सीधा लाभ उन्हें ही दिया जाना चाहिए। ऐसा देखा जा रहा है कि आदिवासियों के लिए आई योजना का लाभ कोई और उठा रहा है। ऐसा बिल्कुल नहीं होना चाहिए। इसके लिए प्रशासन मॉनिटरिंग करें और इसकी जिम्मेदारी भी तय किया जाना चाहिए। बैठक में उन्होंने जिला प्रशासन से पूछा क्या पंडो जनजाति सिर्फ भरतपुर सोनहत में निवासरत है। 

उन्होंने बैठक में बताया कि बैैकुंठपुर विधानसभा में काफी संख्या में पंडों के साथ कोडाकू जनजाति भी निवासरत है। उन्होंने जिले भर में निवासरत पंडो जनजातियों की सूची मांगी, परन्तु उन्हें किसी भी प्रकार की योजना का लाभ इसलिए नहीं मिल पाया क्योंकि बीते वर्ष इस योजना का पूरा लाभ भरतपुर-सोनहत विधानसभा को दे दिया गया था। 

संसदीय सचिव का साथ जिला पंचायत अध्यक्ष रेणुका सिंह, जनपद पंचायत बैकुंठपुर की अध्यक्ष सौभाग्यवती खुसरो और जिला पंचायत सदस्य सुनीता कुर्रे ने दिया। बैठक में सीएचसी स्तर पर गर्भवती महिलाओं के लिए प्री बर्थ वेटिंग रूम बनाए जाने की बात सामने आई, जिसके बाद जिला प्रशासन ने कोटाडोल में बनाए जाने का प्रस्ताव रखा। जिस पर संसदीय सचिव ने कहा कि वहां सीएससी नहीं बल्कि पीएससी है, ऐसे उन्होंने खडग़वां में खोले जाने की बात कही, जिस पर जिला पंचायत अध्यक्ष और खडग़वां की जनपद अध्यक्ष ने बढक़र खडग़वां में प्री बर्थ वेटिंग रूम खोले जाने की मांग की। उन्होमने कहा कि खडग़वां में कई दूरस्थ क्षेत्र ऐसे हैं जहां वाहन तक नहीं पहुंच पाते है, ऐसे खडगवा में ही उसे खोला जाना चाहिए। जिसके बाद खडग़वां में बनाए जाने का फैसला लिया गया। इससे मनेन्द्रगढ़ और बैकुंठपुर दोनों विधानसभा के आदिवासी जनो को लाभ मिलेगा।

 इसके अलावा 3 बाजार हाट क्लिनिक वाहन का बंटवारा होना था, बीते वर्ष एक वाहन भरतपुर-सोनहत में दिया जा चुका था, जिसके बाद फिर एक वाहन देने की बात जिला प्रशासन ने कही, जिस पर संसदीय सचिव ने कहा कि जो पूर्व में दिया जा चुका है अब जो बचे हैं मनेन्द्रगढ़ खडग़वां और बैकुंठपुर को दिया जाना चाहिए, जिस पर यह कहा गया कि वाहन पुरानी हो गई है, तो अधिकारी ने बताया कि वाहन एकदम फिट है, तब जाकर खडग़वां, मनेन्द्रगढ़  और बैकुंठपुर को एक-एक वाहन उपलब्ध कराए जाने का प्रस्ताव पास किया गया। बैठक में परियोजना सलाहकार मंडल के अध्यक्ष विधायक गुलाब कमरो, जनपद अध्यक्ष मनेन्द्रगढ़ डॉ विनय शंकर सिंह भी प्रमुख रूप से शामिल रहे।  

नहंीं मिल रहा आदिवासियों को लाभ
सूत्रों की माने तो मनेन्द्रगढ़ विकासखंड में आए एसटी कोटे के दो पैक हाउस किसी और को दे दिया गया है। यहां एसटी कोटे के किसान बेहद नाराज हैं। उन्होंने इसके लिए बकायदा आवेदन भी किए थे। जिस पर प्रशासन एकदम चुप्पी साधे बैठा है। वहीं बैगा जनजाति के लिए बीते वर्ष आए नलकूप खनन की योजना का लाभ उन्हें नहीं मिल पाया। भरतपुर में निवासरत बैगा जनजाति के लोगों ने नलकूप खनन के लिए आवेदन दिए, उनके नाम से नलकूप भी स्वीकृत हुए परन्तु आज तक उनके नाम के नलकूप उनके खेतों में नहीं लग सके। 
 


15-Mar-2021 5:15 PM 22

डेटा सिक्योरिटी कोड सचिवों को, लाखों की राशि रिश्तेदारों  के खाते में 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 15 मार्च।
कोरिया जिले में 14वें और 15वें वित्त आयोग की राशि में बड़ा हेरफेर किया जा रहा है। जिले के सभी विकासखंडों में डीएससी (डेटा सिक्योरिटी कोड) को लेकर ग्राम पंचायतों के साथ साजिश की जा रही है। भरतपुर में तो पूरा साल बीतने के बाद डेटा सिक्योरिटी कोड बीते 26 फरवरी 2021 को ग्राम पंचायतों के सचिवों को प्रदान किया गया। जबकि उसी कोड के भरोसे कई लाखों की राशि अपने रिश्तेदारों के खाते में भेजी जा चुकी थी। 

कोरिया जिले में 14वें ओर 15 वेंं वित्त आयोग की राशि में बड़ा घालमेल सामने आ रहा है। चंूकि अब इस योजना में खर्च की गई राशि आमजन आसानी से देख सकता है जिसके बाद अब हर पंचायतों में किए गए खर्च को लेकर सवाल खड़े हो रहे हंै। इस योजना के तहत पंचायतों को इसकी राशि खर्च करने का अधिकार प्राप्त है। परन्तु इसके लिए जनपद सीईओ से अनुमोदन लेना आवश्यक है। वहीं इसकी राशि सीधे ग्राम पंचायत के खाते में भेजी जाती है परन्तु जनपद स्तर पर इस कार्य में लगे ऑपरेटर इस पर अपना दखल रख रहे हैं। 

भरतपुर में तो बीते 26 फरवरी 2021 को सभी ग्राम पंचायत के सचिवों को उक्त योजना का डीएससी (डेटा सिक्योरिटी कोड) पासवर्ड दिया गया। जबकि यह 1 अप्रैल 2020 को ही दे दिया जाना था। ऐसे में 1 अप्रैल से लेकर 26 फरवरी तक ंगाम पंचायतों के द्वारा किए गए खर्च पर पंचायत प्रतिनिधि परेशान हैं। कई ग्राम पंचायतों में 85 हजार रू की लागत का कम्प्यूटर खरीद लिया गया है तो 25 से 35 हजार का स्टेशनरी के नाम पर राशि खाते में हस्तांतरित कर ली गई है। इस तरह कई लेन-देन को लेकर सवाल खड़े हो रहे हंै। ऐसा ही हाल बैकुंठपुर, मनेन्द्रगढ़, सोनहत और खडग़वां मेंं भी सामने आ रही है। भारत सरकार की 14वें और 15वें वित्त आयोग योजना को पारदर्शी बनाने ई ग्राम सुराज वेबसाईट से उक्त जानकारी प्राप्त हुई।

अब तक हो चुके हैं करोड़ों खर्च
14वें और 15वेंं वित्त आयोग की राशि की बात की जाए तो 14वें वित्त आयोग में वर्ष 2019-20 में कोरिया जिले के 5 विकासखंड में 682 लाख रू. खर्च किए गए। इसी तरह वर्ष 2020-21 के 11 महीने में 14वे वित्त में 724 लाख जिसमें चालू वित्तीय वर्ष के 11 महीने में बैकुंठपुर में 177, भरतपुर में 199, खडग़वां 168, मनेन्द्रगढ़ 111 और सोनहत में 47 लाख और इसी वर्ष 15वें वित्त में 2711 लाख रू. ग्राम पंचातयों ने खर्च किए है। जिसमें चालू वित्तीय वर्ष के 11 महिने में बैकुंठपुर में 680, भरतपुर में 451, खडग़वां 768, मनेन्द्रगढ़ 563 और सोनहत में 248 लाख खर्च किए जा चुके हैं।

क्या है 14वां वित्त आयोग योजना
केन्द्र सरकार ने चौदहवें वित्त आयोग की पंचाट अवधि 2015-16 से 2019-20 तक (5 वकर्ष) है। 14वें वित्त आयोग द्वारा वित्तीय वर्ष 2015-16 से मूल अनुदान तथा वर्ष 2016-17 से कार्य निष्पादन अनुदान केवल ग्राम पंचायतों को ही देने का प्रावधान किया गया है। कार्य निष्पादन अनुदान के लिए आयेग द्वारा निर्धारित मानदण्डों को पूर्ण करने हेतु विभाग द्वारा निर्धारित मानदण्डों को पूर्ण करने हेतु विभाग द्वारा पृथक से दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।

14वें और 15वें वित्त आयोग के उद्देश्य एवं अनुमत कार्य
14वें वित्त आयोग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों मे दी जाने वाली मूलभूत सुविधाओं की गुण्वत्ता को सुधारने पर बल दिया गया है ताकि इन सुविधाओं के उपयोगकर्ताओं द्वारा इनका भुगतान करने की रजामन्दी बढ़ सके। 
अत: इस अनुदान का उपयोग स्वच्छता जिसमें सेप्एज प्रबंधन शामिल है, सीवरेज, जल निकासी एवं ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, जल आपूर्ति, स्ट्रीट लाईट, स्थानीय ग्राम पंचायतों की सडक़ों एवं फुटपाथों, पार्कों, खेल मैदानों तथा कब्रिस्तान एवं श्मशान स्थलों का रखरखाव जैसी मूलभूत सेवाओं को प्रादन करने एवं सुदृढ़ करने के लिए किया जाना चाहिए। आयोग की सिफारिशों के अंतर्गत ग्राम पंचायतों दिए गए अनुदान को केवल मूलभूत सेवाओं, जो कि उन्हें संबंधित विधियों द्वारा सौंपी गई हो, पर खर्च करने के लिए निर्दिष्ट किया गया है।
 


14-Mar-2021 7:51 PM 31

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

चिरमिरी, 14 मार्च। भरतपुर सोनहत विधायक एवं परियोजना सलाहकार मण्डल कोरिया के अध्यक्ष गुलाब कमरो की अध्यक्षता में आदिवासी क्षेत्र उप योजना के अंतर्गत विशेष केंद्रीय सहायता,केंद्रीय क्षेत्रीय परिवर्तित योजना एवं विशेष पिछड़ी जनजाति समूह हेतु जिला स्तरीय परियोजना सलाहकार समिति की बैठक का आयोजन कलेक्टर परिसर में शनिवार को किया गया।

 बैठक में विशेष सहायता योजनांतर्गत वर्ष 2020 -21 हेतु प्राप्त आबंटन के लिए कार्य एजेंसियों का निर्धारण किया गया । जिसमें कुल 11 बिंदुओं पर चर्चा वे साथ विशेष बैगा प्रकोष्ठ के लिए भी प्रावधान पर चर्चा कर उन कार्यो पर शासकीय रूप से सहमति दी गई । इस बैठक में संसदीय सचिव अम्बिका सिंहदेव,मनेन्द्रगढ़ विधायक डॉ विनय जायसवाल,जिला पंचायत अध्यक्ष रेणुका सिंह,कलेक्टर एस.एन. राठौर,जिला पंचायत सीईओ कुणाल दुदावत सहित समस्त जनपद अध्यक्ष,उपाध्यक्ष एवं जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।


13-Mar-2021 8:18 PM 32

  वार्डों में उम्मीदवारों की तलाश, चुनावी चर्चा तेज   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 13 मार्च।
कोरिया जिले के बैकुंठपुर और चरचा नगर पालिका परिषद में चुनाव को लेकर कांग्रेस और भाजपा ने रणनीति बनानी शुरू कर दी है। विभिन्न वार्डों में उम्मीदवारों की तलाश जारी हैं, वहीं कुछ सक्रिय नेता अभी खुद को अपने चयनित वार्ड से लडऩे की बात कह रहे हंै। चुनावी चर्चा तेज हो चुकी है, कौन कहां से लड़ेगा के साथ अभी से हार-जीत पर बहस शुरू हो गई है।

बैकुंठपुर और चरचा शिवपुर मेंं होने वाले नगर पालिका चुनाव बेहद रोचक होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। बैकुंठपुर नगर पालिका का बीता कार्यकाल शहर के लिए किसी भी तरह की कोई खास उपलब्धि लेकर नहीं गया। आगामी चुनाव को लेकर पूर्व नपा अध्यक्ष शैलेष शिवहरे मैदान में उतरने की तैयारी में है, चर्चा है कि वे दो वार्डों से मैदान में उतर सकते हंै, एक वार्ड से उनकी पत्नी, जबकि दूसरे वार्ड से वो स्वयं दावेदारी कर सकते हैं, हालांकि अभी यह चर्चा मात्र बताया जा रहा है। वैसे उनके कई साथी भी इस बार मैदान में देखे जा सकते हैं, ताकि अध्यक्ष बनने के लिए उनकी डगर आसान हो सके। 

वहीं भाजपा के जिलाध्यक्ष कृष्ण बिहारी जायसवाल के निर्देश पर एक वार्ड से कम से कम 3-3 नामों का पैनल बना जीतने योग्य प्रत्याशी को टिकट देने पर विचार किया जा रहा है। इस पर संगठन स्तर पर काम शुरू हो गया है। मंडल अध्यक्षों को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। 
दूसरी ओर कांग्रेस भी अपनी रणनीति बनाने में जुटी है, कांग्रेस के संगठन को प्रत्याशी चयन से लेकर जीत दिलाने तक की पूरी जिम्मेदारी दे दी गई है। यहां भी प्रत्याशियों की तलाश तेज हो चुकी है, जो मैदान में उतरना चाहते है अभी से वे वार्डों में नजर आने लगे है। बताया जा रहा है कि कांग्रेस के युवा आईकॉन अशीष डवरे भी मैदान में उतरने की तैयारी में हैं। चर्चा है कि वे वार्ड नंबर 1 से मैदान में उतर सकते है। इस वार्ड से भाजपा के दमदार नेता और भाजपा के मंडल अध्यक्ष भानू पाल के भी मैदान में उतरने की खबर सामने आ रही है, यदि ऐसा हुआ तो वार्ड नंबर 1 पर चुनावी घमासान बेहद दिलचस्प होने के आसार होंगे।
 इसके अलावा 3 बार के पार्षद रह चुके आफताब अहमद (छोटे खान) इस बार खुद को चुनाव से दूर रखना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि इस बार वो मैदान में नहीं उतर रहे हंै। हालांकि अभी चुनाव में समय है, पार्टी उन्हें हर हाल में मैदान में उतारने की कोशिश करेगी। यदि वो या उनके परिवार से कोई भी चुनाव नहीं लड़ता है तो तय है कि कांग्रेस को खासा नुकसान हो सकता है। वहीं दो बार के पार्षद संजय जायसवाल भी मैदान में उतरने से पूर्व वार्डवासियों से अभिमत मांगा है, वार्ड 19 और 20 से वो खुद और अपनी पत्नी को प्रत्याशी बनाने की तैयारी में है। जिसके बाद वो चुनावी घमासान में सामने आएंगे।  
पूरा पैनल जीते, इस पर है फोकस
आगामी चुनाव में पार्षदों के द्वारा अध्यक्ष का चुनाव होना है, ऐसे में हर पार्टी का फोकस ऐसे उम्मीदवारों के पैनल पर है तो जीत कर आए और अध्यक्ष के जोड़तोड़ करने की गुंजाइश कम हो। जबकि अभी ऐसा नजर नहीं आ रहा है, ज्यादातर निर्दलीय इस बार मैदान में उतरने को आतुर हैं। 
वार्डों में काफी कम संख्या में वोट होने के कारण और अच्छी जान पहचान होने से निर्दलीय बाजी मार सकते हंै। इसकी ज्यादा संभावना जताई जा रही है। यही कारण है कि निर्दलीय उम्मीदवार अभी से वार्डो का चक्कर लगाते देखे जा रहे हंै।