कोरबा

फरार चिटफंड डायरेक्टरों को गिरफ्तार करने और निवेशकों के रकम वापस दिलाने बनी रणनीति
18-Jul-2021 9:31 AM (90)
फरार चिटफंड डायरेक्टरों को गिरफ्तार करने और निवेशकों के रकम वापस दिलाने बनी रणनीति

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोरबा, 17 जुलाई।
कोरबा पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल द्वारा लगातार अवैध गतिविधियों और संचालकों के विरुद्ध कार्यवाही करने अपने मातहतों को निर्देशित की जा रही है। इसी कड़ी में आज उन्होंने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर और वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में चिटफंड कंपनियों के विरुद्ध सघन कार्यवाही करने और लोक लुभावने लालच, प्रलोभन और वादा कर निवेशकों के अरबों रुपये का चंपत लगाने वाले संचालकों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने हेतु थाना, चौकी और पुलिस सहायता केंद्र के प्रभारियों का आवश्यक मीटिंग लिए। उनके द्वारा प्रभारियों को चिटफंड के सभी प्रकरणों में आरोपियों की त्वरित गिरफ्तारी और शीघ्र ही संचालकों के चल व अचल संपत्ति की पहचान व जानकारी संकलित करने हेतु सख्त निर्देश दिए है।

छत्तीसगढ़ में चिटफंड कंपनी के संचालकों ने अवैध कारोबार का एक बड़ा जाल बिछाकर, लोक लुभावने प्रलोभन और संपत्ति को दुगना, तिगुना करने का लालच देकर अपने अधीनस्थों के माफऱ्त से निवेशकों की गाढ़ी कमाई का अरबो रुपये चंपत लगाकर फरार है और कई संचालक वर्षों से सलाखों के पीछे जेल की सजा काट रहे हैं। जिससे हजारों निवेशकों की जीवन भर की पूंजी और गाढ़ी कमाई इनके अवैध कारोबार की भेंट चढ़ गई। जिसके कारण हजारों परिवार अत्यंत आर्थिक संकट के दौर से गुजरने को मजबूर हुए है। कोरबा पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल द्वारा अवैध कारोबार को जड़ से खत्म करने और प्रत्येक अवैध गतिविधियों पर नजर रखने एक मजबूत मुखबिर सिस्टम और बीट प्रणाली को दुरुस्त कर चप्पे चप्पे पर निगाह रखने प्रभारियों निर्देशित किया गया है निगरानी प्रणाली के सतत कार्य करने से अवैध कारोबारियों, तश्करों, माफियाओं, चोर-उचक्कों, स्मगलरों, असामाजिक तत्वों और गुंडा बदमाशों में खौफ का माहौल है अवैध कारोबार में संलिप्त कई नामी गिरामी बदमाश जिले छोड़ कर अन्यत्र भी भाग निकले है। चिटफंड कंपनियों के फरार आरोपियों के धरपकड़ हेतु पुलिस कप्तान के मार्गदर्शन में एक विशेष पुलिस टीम का गठन भी किया जा रहा है जो पुष्ट सूचना पर तत्काल कार्य करने हेतु 24 घण्टे मुश्तैद रहेगी। उक्ताशय की जानकारी रामगोपाल करियारे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय द्वारा प्रदान की गई।
 

अन्य पोस्ट

Comments