खेल

Previous123456789...151152Next
27-Feb-2021 6:45 PM 4

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बलौदाबाजार, 27 फरवरी। नगर के दशहरा मैदान पर राज्यस्तरीय कबड्डी प्रतियोगिता में खिलाड़ी अपने चपलता, साहस और बुद्धि का जौहर दिखाएंगे।

प्रतियोगिता के शुभारंभ अवसर पर विधायक विधायक प्रमोद शर्मा ने खिलाडिय़ों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि खेल में हार-जीत एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। अत: खिलाडिय़ों को हार-जीत के बजाय अपने शत-प्रतिशत प्रदर्शन की ओर ध्यान देना चाहिए। परिणाम से जीतने वाले की श्रेष्ठता तो प्रकट होती है, परंतु हारने वाले को भी बहुत सी सीख मिलती है। बलौदा बाजार जिले का सौभाग्य है कि यहां कबड्डी की परंपरा को जिला क्रिकेट कबड्डी संघ द्वारा बेहतर तरीके से जीवित रखा गया है। राज्य स्तरीय कबड्डी प्रतियोगिता की मेजबानी इसका प्रमाण है।

प्रदेश उपाध्यक्ष कबड्डी संघ व जिला कबड्डी संघ अध्यक्ष धीरज बाजपेयी ने कहा कि यह आयोजन का 20वां वर्ष है जिसमें करीब 700 खिलाड़ी, रैफरी आदि शामिल हैं। बलौदा बाजार की ख्याति पूर्व के कबड्डी खिलाडिय़ों ने राज्य व राष्ट्रीय स्तर तक फैलाई है। निश्चित ही खिलाड़ी इस प्रतियोगिता में चयनित होकर एक बार फिर अपने जिला व राज्य का नाम रोशन करेंगे।

उन्होंने तीन दिनों तक आयोजन में पहुंचे खिलाडिय़ों व अन्य के लिए भोजन व नाश्ते की व्यवस्था के लिए विधायक प्रमोद शर्मा का आभार व्यक्त किया। मंच पर विशेष अतिथि नगर पालिका अध्यक्ष चित्तावर जायसवाल, जनपद अध्यक्ष प्रतिनिधि योगेश वर्मा, बसंत शर्मा महासचिव छग कबड्डी संघ, हेमसिंह धु्रव पूर्व जिला सभापति, हरि पटेल, सहायक जिला क्रिडा अधिकारी जीपी नेताम, रामरंग वैष्णव आदि उपस्थित थे।

इसके पूर्व सुबह मार्च पास्ट को हरी झंडी दिखाकर पूर्व नपा अध्यक्ष व जनपद अध्यक्ष नंद कुमार साहू ने रवाना किया। राज्य के विभिन्ना स्थानों से पहुंचे बालक-बालिका अपने-अपने जिलों का ध्वज लेकर रैली में शामिल हुए। नगर भ्रमण पश्चात रैली दशहरा मैदान पहुंची जहां झंडोत्तोलन किया गया। नंद कुमार साहू ने कहा कि कबड्डी चपलता, साहस, बुद्घि का खेल है। खिलाडिय़ों को अनुशासन व समर्पण का पालन कर अपना प्रदर्शन करना चाहिए।

उद्घाटन मैच में राजनांदगांव व गरियाबंद विजयी : खेल का शुभारंभ विधायक प्रमोद शर्मा ने फीता काटकर व खिलाडिय़ों से परिचय प्राप्त कर किया। बालिका वर्ग में प्रथम मैच राजनांदगांव व भिलाई के मध्य हुआ और राजनांदगांव की टीम ने विजय प्राप्त किया। वहीं बालक वर्ग में पहला मैच बिलासपुर जिला व बलौदा बाजार के मध्य खेला गया. जिसमें बलौदा बाजार की टीम विजय रही। इसी प्रकार दूसरा मैच गरियाबंद व रायपुर नगर के मध्य हुआ। जिसमें गरियाबंद की टीम ने बाजी मार ली।

 


27-Feb-2021 6:42 PM 4

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 27 फरवरी। नगर पालिक निगम दुर्ग में कांग्रेस की सरकार स्थापित होने के बाद पहलीबार आयोजित इस राज्य स्तरीय हाकी प्रतियोगिता में राजनांदगांव की हाकी टीम ने महापौर ट्राफी पर कब्जा किया । उन्होंने महापौर इलेवन दुर्ग को फाइनल मैच में 4-1 से हराया। फाइनल मैच के विजेता टीम राजनांदगांव और उपविजेता टीम महापौर इलेवन दुर्ग को विधायक अरुण वोरा, महापौर धीरज बाकलीवाल, एवं शिक्षा एवं खेल कूद प्रभारी मनजीत सिहं भाटिया द्वारा बधाई और शुभकामनाएं दी गई।

उन्होंने विजेता टीम और उपविजेता टीम को महापौर ट्रॉफी कप प्रदान कर टीमों के सभी खिलाडिय़ों को हॉकी प्रदान किया गया।

इस अवसर पर विधायक श्री वोरा एवं महापौर श्री बाकलीवाल ने संयुक्त रूप से कहा कि आगे भी इस तरह के आयोजन भविष्य में किया जावेगा । उन्होनें महिला समृद्धि के सामने सिविल लाईन मैदान को अन्तराष्ट्रीय मैदान बनाने की दिशा में काम करने का भी आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि यह मैदान दुर्ग शहर और शहर के खिलाडिय़ों के लिए एक उपलब्धि होगी ।

कार्यक्रम में सभापति राजेश यादव, उप पुलिस अधीक्षक सबा अंजुम, पूर्व महापौर आरएन वर्मा, पूर्व साडा अध्यक्ष भज सिंह निरंकारी, लोक कर्म प्रभारी अब्दुल गनी, वित्त प्रभारी दीपक साहू, जलकार्य प्रभारी संजय कोहले, पर्यावरण प्रभारी सत्यवती वर्मा, महिला एवं बाल विकास प्रभारी जमुना साहू, स्वास्थ्य प्रभारी हमीद खोखर, राजस्व प्रभारी ऋषभ जैन, विद्युत यांत्रिकी विभाग प्रभारी भोला महोबिया, गरीबी उपशमन प्रभारी शंकर सिंह ठाकुर, सांस्कृतिक प्रभारी अनुप चंदानियॉ के अलावा पार्षद विजयेंन्द्र भारद्वाज, नजहत परवीन, श्रद्धा सोनी, पूर्व पार्षद प्रकाश गीते, राधेश्याम शर्मा, एल्डरमेन रत्ना नारमदेव, जगमोहन ढीमर, एवं अन्य पार्षदगण, जनप्रतिनिधि श्रीकांत समर्थ, शमीम अहमद, हाकी संघ के अध्यक्ष फिरोज अंसारी एवं अधिक संख्या में नागरिकगण उपस्थित थे। 


27-Feb-2021 4:05 PM 18

-जोनाथन एग्नीव

इंग्लैंड की टीम अहमदाबाद में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में दूसरे दिन दस विकेट से हार गई. टेस्ट क्रिकेट खेलने का ये कोई तरीक़ा नहीं है.

मैंने भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में पिच की आलोचना की थी. मैं एक बार फिर वही बात कहने जा रहा हूँ.

ये ज़रूरी नहीं है कि हर टेस्ट मैच अपने आख़िरी लम्हे तक पहुंचे. लेकिन टेस्ट मैच पाँच दिनों का होता है, ऐसे में आपकी ये ज़िम्मेदारी होती है कि आप ऐसी स्थितियां पैदा करें जिससे मैच पाँच दिनों तक चलना संभव हो सके.

जैसा कि मैंने पिछले हफ़्ते कहा था कि इंग्लैंड में अब लोगों के पास फ्री टू एयर टेलीविज़न पर मैच देखने का अवसर है.

ऐसे में दूसरों की तरह मुझे भी खेल के लिए अपनी आवाज़ उठाने की ज़रूरत है.

मुझे ये स्वीकार करना चाहिए कि ये पिच चेन्नई टेस्ट मैच जितनी ख़राब नहीं थी, जहां मैच शुरू होते ही पिच में उभार आना शुरू हो गया था.

86 सालों में सबसे छोटा टेस्ट
लेकिन ये साल 1935 के बाद सबसे छोटा टेस्ट मैच था, पूरे मैच में सिर्फ़ 140.2 ओवर फेंके गए.

ये टेस्ट क्रिकेट के हित में नहीं है कि मैच इतनी जल्दी ख़त्म हो जाए और इस तरह खेला जाए जहाँ रन बनाना और बचाव करना इतना मुश्किल हो.

मैंने पिछले हफ़्ते ये भी कहा था कि आईसीसी को कार्रवाई करनी चाहिए. अगर ऐसी पिचें बनाई जाती हैं जो कि टिकने लायक न हों तो वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप में से टीम अंकों में कटौती करनी चाहिए.

लेकिन ऐसा लगता है कि आईसीसी हाथ पर हाथ रखकर बैठी है और इस पर किसी तरह की कार्रवाई नहीं कर रही है.

मैच में कुल तीस विकेट गिरे होंगे जिनमें से 19 खिलाड़ी एक अंक में ही रन बना सके. सिर्फ दो विकेट सीमर्स को गए.

पार्ट टाइम ऑफ़ स्पिनर जो रूट जिनका इस मैच से पहले औसत 47 रन था. क्या वह सच में ऐसे गेंदबाज हैं जिन्हें आठ रन देकर पाँच विकेट लेने चाहिए?

इंग्लैंड के कप्तान ने जो आँकड़े दिए, उससे ये स्पष्ट हो गया कि भारत के बेहतरीन स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल के होते हुए दूसरी इनिंग में भी इंग्लैंड के खिलाड़ियों के लिए रन बनाना आसान नहीं होगा.

इंग्लैंड ने भारत को 145 रन पर ऑल-आउट करके मैच में वापसी करने की माद्दा दिखाया और पहली पारी में हुए नुकसान को 33 रन तक सीमित कर दिया.

लेकिन ये स्पष्ट था कि इंग्लैंड के खिलाड़ी दूसरे मैच के ज़ख़्मों को अपने साथ लेकर आए थे.

कई मामलों में ये स्पष्ट रूप से दिखा कि वे पिछले हफ़्ते 317 रन की शर्मनाक हार से उबरे नहीं हैं. इंग्लैंड के बल्लेबाज़ भारतीय स्पिनर की ओर से फेंकी गई सीधी गेंदों के शिकार बनते रहे.

और लेफ़्ट आर्म स्पिनर अक्षर पटेल ने 70 रन देकर 11 विकेट लिए और अश्विन ने 72 रन देकर सात विकेट लिए.

मैच की पहली इनिंग में कुछ गेंदें घूम रही थीं. लेकिन आप ये मानकर चलते हैं कि गेंद इतनी तेज़ी से घूमने नहीं जा रही है. और आप न घूमने वाली गेंद के लिए तैयारी करते हैं.

इंग्लैंड ने अपने दूसरे मैच में थर्ड एंपायर के फ़ैसलों पर निराशा ज़ाहिर की है.

मैच के पहले दिन दो बार ऐसे मौक़े आए- बेन स्टोक्स द्वारा किया गया स्लिप कैच जिसे ये माना गया कि वह ज़मीन से छू गया था. और रोहित शर्मा की स्टंपिंग अपील जिसमें टीवी एंपायर ने सभी उपलब्ध कोणों की जाँच नहीं की.

लेकिन इंग्लैंड थर्ड एंपायर की शिकायत लेकर मध्यस्थ के पास गए जिनका थर्ड एंपायर के काम से कोई लेना देना नहीं है. ये व्यवहार काफ़ी अजीब है.

विराट कोहली का एंपायर को घेरना
ये काफ़ी ख़राब दृश्य है कि क्रिकेटर एक एंपायर के आसपास भीड़ लगाकर खड़े हो जाएं, उनकी आलोचना करें. मैं दूसरे टेस्ट में भी भारतीय कप्तान विराट कोहली के इस व्यवहार के प्रति आलोचनात्मक था.

इंग्लैंड की टीम के चयन को लेकर काफ़ी बात की गई है. वे अपनी सभी उम्मीदें पिंक बॉल पर टिकाए थे कि ये फ़्लड लाइट्स में स्विंग करेगी. ऐसे में वे ऐसी टीम के साथ गए जो कि सीम बॉलिंग का सामना कर सकें.

मैं टीम के चयन और सिर्फ़ एक फ्रंटलाइन स्पिनर जैक लीच के चयन को लेकर उनकी आलोचना नहीं कर रहा हूं. इंग्लैंड की सबसे मज़बूत टीम में आपके पास जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड और जोफ्रा आर्चर जैसे तेज़ गेंदबाज होंगे.

इस मैच की योजना बनाते हुए, उन्हें लगा होगा कि इस मैच में बॉल स्विंग ज़्यादा होगी और स्पिन कम होगी.

लीच का प्रदर्शन अच्छा रहा. वह इस टूर के साथ ज़्यादा नियमित होने के साथ लय में आ रहे हैं. ऐसे में इंडिया की पहली पारी में 48 रन के नुक़सान पर चार विकेट लेना बनता था.

लेकिन बैटिंग ऑर्डर में गहराई नहीं होना एक बड़ा मसला था क्योंकि जब आपके पास आर्चर नंबर आठ पर उतर रहे हों तो छह विकेट गिरते ही आप एक तरह से ऑल आउट हो जाते हैं.

इसी मैदान पर चौथा टेस्ट गुरुवार से शुरू हो रहा है. अब तक हुए तीन मैचों में से इंग्लैड ने सिर्फ़ एक मैच जीता है. ऐसे में उसे काफ़ी सोच-विचार की ज़रूरत है.

क्या वे ऑफ़ स्पिनर डॉम बेस को वापस लेकर आएंगे? उन्हें पहले टेस्ट के बाद आराम दिया गया था, कुछ लोग कहेंगे कि वो उचित नहीं था. वह एक मज़बूत शख़्स हैं, उनमें कुछ बात है. और वह बैटिंग भी कर सकते हैं.

इंग्लैंड की टीम को उन्हें वापस बुलाने से पहले उनकी मन स्थिति ठीक करने की ज़रूरत है. उन्हें ये विश्वास दिलाने की ज़रूरत है कि टीम के कप्तान को उनमें एक गेंदबाज के रूप में भरोसा है.

और किसी अन्य चीज से ज़्यादा इंग्लैंड टीम को अपने मन से नकारात्मकता निकालने की ज़रूरत है. वे किसी तरह रीसेट बटन दबाएं और इस सिरीज़ में बराबरी करने की ओर ध्यान लगाएं. (bbc.com)

(बीबीसी स्पोर्ट्स की कल सजद की जोनाथन एग्नीव से बातचीत पर आधारित)


27-Feb-2021 3:54 PM 15

नई दिल्ली. भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह इंग्लैंड के खिलाफ चौथा और फाइनल टेस्ट नहीं खेलेंगे. उन्होंने निजी कारणों से बीसीसीआई से छुट्टी मांगी है. चौथे टेस्ट के लिए जसप्रीत बुमराह की जगह किसी और खिलाड़ी को नहीं जोड़ा जाएगा. चौथे टेस्ट में उनकी जगह उमेश यादव या मोहम्मद सिराज को शामिल किया जा सकता है. भारत और इंग्लैंड के बीच आखिरी टेस्ट मैच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में 4 मार्च से खेला जाएगा. भारत सीरीज में अभी 2-1 से आगे है. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिए भारत को आखिरी टेस्ट सिर्फ ड्रॉ करने की जरूरत है.

वोक्स हुए इंग्लैंड रवाना
इंग्लैंड के हरफनमौला क्रिस वोक्स ईसीबी की रोटेशन नीति के तहत एक भी मैच खेले बिना भारत के टेस्ट दौरे से रवाना हो गए हैं. वोक्स दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका और भारत दौरे पर टेस्ट टीम का हिस्सा थे लेकिन किसी मैच में उन्हें उतारा नहीं किया. उन्होंने आखिरी वनडे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछले साल सितंबर में खेला था. इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने इसकी पुष्टि की कि वोक्स स्वदेश लौटेंगे. केविन पीटरसन और इयान बेल समेत पूर्व खिलाड़ियों ने इंग्लैंड टीम की रोटेशन नीति की काफी आलोचना की है. इस नीति के तहत जोस बटलर और मोईन अली पहले टेस्ट के बाद लौट गए. जॉनी बेयरस्टो और मार्क वुड पहले दो टेस्ट नहीं खेल सके.

चौथे टेस्ट के लिए भारतीय टीम: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, मयंग अग्रवाल, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उप कप्तान), केएल राहुल, हार्दिक पंड्या, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, वॉशिंगटन सुंदर, इशांत शर्मा, मोहम्मद सिराज और उमेश यादव.

चौथे टेस्ट के लिए इंग्लैंड की टीम इस प्रकार है : जो रूट (कप्तान), जेम्स एंडरसन, जोफ्रा आर्चर, जॉनी बेयरस्टो, डोमिनिक बेस, स्टुअर्ट ब्रॉड, रॉरी बर्न्स, जैक क्रॉली, बेन फॉक्स, डैन लॉरेन्स, जैक लीच, ओली पोप, डोम सिबली, बेन स्टोक्स, ओली स्टोन और मार्क वुड. (news18.com)


27-Feb-2021 3:46 PM 14

नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का आखिरी मुकाबला 4 मार्च से अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जाएगा. भारत के मुख्य गेंदबाद जसप्रीत बुमराह निजी कारणों से आखिरी टेस्ट से बाहर हो गए हैं. अब उनकी अहमदाबाद टेस्ट में उमेश यादव को शामिल किया जा सकता है. ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर चोटिल हुए उमेश यादव को आखिरी दो टेस्टों के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया था.

अहमदाबाद की पिच को देखते हुए भारत का तीन स्पिनरों के साथ खेलना तय है. रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल आखिरी टेस्ट में जलवा बिखेरने को तैयार हैं. वॉशिंगटन सुंदर की बल्लेबाजी की ताकत को देखते हुए उन्हें कुलदीप यादव पर तरजीह मिलेगी. दूसरी ओर तेज गेंदबाज इशांत शर्मा का भी खेलना तय है. उनके साथ देने के लिए उमेश यादव मौजूद होंगे

भारतीय टीम की बल्लेबाजी में कोई बदलाव के आसार नहीं है. रोहित शर्मा और शुभमन गिल के कंधों पर ओपनिंग की जिम्मेदारी होगी. उनके बाद चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे उतरेंगे. ऋषभ पंत बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज पहली पसंद होंगे 

चौथे टेस्ट के लिए भारतीय टीम: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, मयंग अग्रवाल, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उप कप्तान), केएल राहुल, हार्दिक पंड्या, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, वॉशिंगटन सुंदर, इशांत शर्मा, मोहम्मद सिराज और उमेश यादव.  (news18.com)


27-Feb-2021 2:59 PM 30

मुम्बई, 27 फरवरी | बीसीसीआई की अखिल भारतीय महिला चयन समिति ने दक्षिण अफ्रीका के साथ होने वाली सीमित ओवरों की सीरीज के लिए शनिवार को भारतीय महिला टीम का ऐलान कर दिया। इस सीरीज के तहत पांच वनडे और तीन टी20 मुकाबले खेले जाने हैं। सीरीज के सभी मैच लखनऊ के करीब एकाना में स्थित भारत रत्न श्री अटल बिहारी वाजपेयी स्टेडियम में खेले जाने हैं।

वनडे सीरीज के लिए भारत की महिला टीम: मिताली राज (कप्तान), स्मृति मंधाना, जेमिमाह रोड्रिग्वेज, पुनम राउत, प्रिया पुनिया, यास्तिका भाटिया, हरमनप्रीत कौर (उप-कप्तान), डी. हेमलता, दीप्ति शर्मा, सुषमा वर्मा (विकेट कीपर) , श्वेता वर्मा (विकेट कीपर), राधा यादव, राजेश्वरी गायकवाड़, झूलन गोस्वामी, मानसी जोशी, पूनम यादव, सी. प्रथ्युषा, मोनिका पटेल।

भारत महिला टी 20 टीम: हरमनप्रीत कौर (कप्तान), स्मृति मंधाना (उप-कप्तान), शेफाली वर्मा, जेमिमाह रोड्रिग्वेज, दीप्ति शर्मा, ऋचा घोष, हरलीन देयोल, सुषमा वर्मा (विकेट कीपर), नुजहत परवीन (विकेट कीपर) आयुषी सोनी, अरुंधति रेड्डी, राधा यादव, राजेश्वरी गायकवाड़, पूनम यादव, मानसी जोशी, मोनिका पटेल, सी. प्रथ्युषा, सिमरन दिल बहादुर। (आईएएनएस)
 


27-Feb-2021 2:25 PM 21

क्रेफेल्ड (जर्मनी), 27 फरवरी | भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान और गोलकीपर पीआर श्रीजेश का कहा है कि दुनिया की नंबर- 4 टीम रविवार से यहां शुरू हो रहे यूरोप के चार मैचों के दौरे के तहत पहले मैच में जर्मनी का सामना करने के लिए तैयार है। श्रीजेश ने कहा, पूरी टीम पहले मैच के लिए बहुत उत्साहित है। एक साल से अधिक समय हो गया है जब हमने कोई प्रतिस्पर्धी मैच खेला है और अब हम नई शुरुआत और चुनौती के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा, हमें क्रेफेल्ड पहुंचे हुए पांच दिन हो चुके हैं और मौसम भी बहुत ठंडा नहीं रहा है। कल (शुक्रवार) को हमने अभ्यास किया था, तब यहाम तापमान लगभग 16-18 डिग्री था और हम इस मौसम में खेलने में काफी सहज हैं।

श्रीजेश ने बताया कि टीम कोविड -19 की वजह से एक साल बाद कोई प्रतिस्पर्धी मैच खेलने जा रही थी।

भारत ने आखिरी बार पिछले साल जनवरी और फरवरी में आयोजित एफआईएच हॉकी प्रो लीग में खेला था, जहां टीम भुवनेश्वर में घरेलू मैदान पर नीदरलैंड्स, बेल्जियम और ऑस्ट्रेलिया से भिड़ी थी।

कप्तान ने जोर देकर कहा कि इस दौरे से टीम को टोक्यो में इस साल के ओलंपिक खेलों की तैयारी के लिए मापदंडों को निर्धारित करने में मदद मिलेगी।

कप्तान ने कहा, जर्मनी और ब्रिटेन के खिलाफ मैच हमारी तैयारियों के लिए महत्वपूर्ण हैं। यह शारीरिक और मानसिक रूप से खुद को चतुराई से परखने का एक अवसर है। हम महामारी के बावजूद गुणवत्ता टीमों के खिलाफ खेल रहे होने के कारण बहुत भाग्यशाली हैं। यह दौरा हमें पैरामीटर सेट करने और ओलंपिक के लिए योजना बनाने में मदद करेगा।

श्रीजेश ने जैव-बुलबुले में खेलने की कथित चुनौतियों के बारे में भी बताया।

कप्तान ने कहा, इस संबंध में कोई चुनौती नहीं है। हम जैव-बुलबुले आदत रखते हैं और यह भी अच्छी तरह समझते हैं कि महामारी अभी भी खत्म नहीं हुई है, और हमें जिम्मेदार होने की जरूरत है। हमें इस दौरे के लिए बहुत सख्त एसओपी प्राप्त हुआ है। हम इसका पालन कर रहे हैं। (आईएएनएस)
 


27-Feb-2021 2:04 PM 16

बेंगलुरू, 27 फरवरी | गंधर्व कुमार कोथापल्ली और सुष्मिता रवि ने यहां आयोजित केएसएलटीए यू-14 टैलेंट सीरीज में क्रमश: लड़कों और लड़कियों का खिताब अपने नाम कर लिया। लड़कों के एकल वर्ग के फाइनल में कोथापल्ली ने तीसरे सीड क्षितिज अराध्य को 3-6, 6-2, 7-5 से हराया।

लड़कों का युगल खिताब अभिषेक सुब्रमण्यम और क्रिस्टो बाबू ने जीता। इन दोनों ने फाइनल में श्रीकर दोहनी और क्षितित को 7-6 (4), 3-6, 10-7 से हराया।

लड़कियों के एकल फाइनल में सुष्मिता ने क्वालीफायर दिशा खंदोजी को 6-4, 6-2 से हराया।

इसी तरह लड़कियों के युगल मुकाबले में स्नीग्धा कांता और मेघना जीडी की जोड़ी ने सुष्मिता और सानवी मिसरा को 1-6, 6-3, 10-4 से हराकर खिताब जीता। (आईएएनएस)
 


27-Feb-2021 2:02 PM 16

दुबई, 27 फरवरी | राकेश कुमार ने शुक्रवार को हमवतन श्याम सुंदर स्वामी को हराकर कंपाउंड मेन ओपन वर्ग का स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया। इस तरह भारत ने 7वीं फाजा पैरा तीरंदाजी विश्व रैंकिंग चैंपियनशिप-दुबई 2021 में पांच पदकों के साथ अपना अभियान समाप्त किया। कुल मिलाकर, भारत तीसरे स्थान पर रहा। प्रतियोगिता के अंतिम दिन, भारत ने एक स्वर्ण और दो रजत जीते। दूसरा रजत ज्योति बलियान ने जीता।

एक अखिल भारतीय फाइनल में, राकेश (29-28-30-28-28), स्वामी (26-26-28-28-27) के खिलाफ पहले आगे रहे और अंत तक अपनी बढ़त बनाए रखा। अंतिम स्कोर 143-135 रहा।

स्वामी ने कहा, यह एक अच्छा अनुभव था। अब हम मुकाबलों मे वापस आ गए हैं और हवा की स्थिति में शूटिंग करने के लिए अभ्यास कर रहे हैं। वल्र्ड पैरा तीरंदाजी चैंपियनशिप के लिए हम फिर से यहां आएंगे। टोक्यो 2020 पैरालंपिक खेलों के लिए हमारी तैयारी जारी है।

कंपाउंड वूमेन ओपन फाइनल में, बलियान (27-19-27-28-27) ने अंत तक प्रतियोगिता में बने रहने के लिए बहुत लचीलापन दिखाया लेकिन भारतीय अंतिम में रूस के स्टेपानिडा अर्तखिनोवा (26-23-26-26-29) 130-128 से हारकर रजत जीतने में सफल रहीं।

बलियान ने कहा, मैंने कड़ी मेहनत की लेकिन जीत नहीं सकी। हालांकि, मैं रजत और यहां से कुछ अनुभव लेकर खुश हूं। मैं चेक गणराज्य में होने वाले अंतिम क्वालीफाइंग स्पर्धा के जरिए पैरालम्पिक खेलों के लिए कोटा सुरक्षित करूंगी।

गुरुवार को पैरा तीरंदाज हरविंदर सिंह और पूजा ने रिकर्व ओपन मिक्स्ड टीम स्वर्ण पदक जीता था।

कुल मिलाकर, भारत पदक तालिका में में 5 पदकों (2 स्वर्ण, 3 रजत) के साथ तीसरे स्थान पर रहा। 8 पदक (3 स्वर्ण, 2 रजत, 3 कांस्य) के साथ तुर्की ने पहला और 4 पदक (3 स्वर्ण और 1 रजत) के साथ रूस दूसरे स्थान पर रहा। (आईएएनएस)
 


27-Feb-2021 1:52 PM 32

नई दिल्ली, 27 फरवरी | भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह व्यक्तिगत कारणों से टीम से अलग हो गए हैं। बीसीसीआई ने शनिवार को एक बयान जारी कर इसकी पुष्टि की।

बीसीसीआई के मुताबिक बुमराह ने उससे निवेदन किया था कि व्यक्तिगत कारणों से उन्हें चौथे टेस्ट से पहले टीम से अलग होने की इजाजत दी जाए।

इस पर गौर करते हुए बुमराह को टीम से अलग होने की इजाजत दे दी गई। वह अब इंग्लैंड के साथ होने वाले चौथे टेस्ट मैच के लिए चयन हेतु उपलब्ध नहीं होंगे।

बोर्ड ने साफ किया है कि बुमराह के स्थान पर किसी अन्य को टीम में शामिल नहीं किया गया है।

इंग्लैंड और भारत के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज जारी है। भारत इस सीरीज में 2-1 से आगे है। तीसरा टेस्ट अहमदाबाद में खेला गया था, जिसे भारत ने 10 विकेट से जीता था। चौथा टेस्ट भी अहमदाबाद में ही खेला जाना है।

चौथे टेस्ट के लिए भारतीय टीम : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), केएल राहुल, हार्दिक पंड्या, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रिद्धिमान साहा (विकेट कीपर), आर अश्विन , कुलदीप यादव, एक्सर पटेल, वाशिंगटन सुंदर, ईशांत शर्मा, मो। सिराज, उमेश यादव (आईएएनएस)
 


27-Feb-2021 10:20 AM 15

गोवा, 27 फरवरी| पहली बार हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) में हिस्सा ले रही एससी ईस्ट बंगाल और ओडिशा एफसी प्लेआफ की दौड़ से बाहर हो चुके हैं। अब शनिवार को दोनों टीमें इस सीजन का अपना अंतिम मुकाबला खेलेंगी और दोनों का ही लक्ष्य जीत के साथ अपने अभियान का समापन करना होगा। अंक तालिका में दोनों की स्थिति एक ही जैसी है। ओडिशा जहां 11 टीमों की तालिका में सबसे नीचे है वहीं ईस्ट बंगाल नौवें स्थान पर है। दोनों के फैंस ने पूरे सीजन खुशी चाही लेकिन दोनों टीमों ने उन्हें निराश किया। अब जबकि दोनों अपना अंतिम मुकाबला खेल रही हैं तो वो जाहिर तौर पर अपने फैंस को खुशी प्रदान करना चाहेंगी।

गेंद पर कब्जे को गोल में बदलने की अक्षमता से रोबी फाउलर की टीम हमेशा जूझती रही है। ब्राइट इनोबेखर इस सीजन में उनके एकमात्र स्ट्राइकर जिन्होंने गोल किया है। गोल करने के मामले में ईस्ट बंगाल काफी पीछे है। उनके भारतीय फारवर्ड भी नाकाम रहे हैं। जीजे लालपेखलुआ, सीके विनिथ और बलवंत सिंह जैसे बड़े नामों के बावजूद, फाउलर को निराशा हाथ लगी।

ओडिशा को भी इसी तरह के दिक्कतों का सामना करना पड़ा है। डिएगो मौरिसियो को छोड़कर कोई और खिलाड़ी आगे आकर गोल करने की जिम्मेदारी नहीं ले सका। मौरिसियो ने पूरे सीजन में अपनी टीम की ओर से किए गए कुल गोलों का 57 फीसदी गोल खुद किया।

ओडिशा के कोच स्टीवन डियास मानते हैं कि उनकी टीम गलतियों से सीख लेगी और अगले सीजन में मजबूत बनकर सामने आएगी।

ओडिशा की टीम को बीते 10 मैचों से एक भी जीत नहीं मिली है। इस टीम ने सबसे अधिक मैच हारे हैं और सबसे कम संख्या में क्लीन शीट भी इसी के नाम है। इन सबके बावजूद ओडिशा और ईस्ट बंगाल मान के लिए खेलेंगे।  (आईएएनएस)


26-Feb-2021 9:04 PM 28

अहमदाबाद, 26 फरवरी | भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरे टेस्ट मैच के लिए मोटेरा के नरेंद्र मोदी स्टेडियम की जिस पिच का इस्तेमाल किया गया, उसे लेकर कमेंटेटरों और पूर्व खिलाड़ियों बचाव वाले रिएक्शन दिए हैं। भारत ने इंग्लैंड को दो दिनों के अंदर 10 विकेट से हराकर चार मैचों की सीरीज में 2-1 की लीड ले ली है। भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा कि दो दिनों के अंदर मैच खत्म होने का कारण यह है कि बल्लेबाज पिच के बजाय स्पिन खेलने में असमर्थ थे।

गावस्कर ने कहा, आपको अपनी क्रीज की गहराई (स्पिन खेलने के लिए) का उपयोग करने की आवश्यकता है। इसलिए, आपका फुटवर्क अहम हो जाता है। तेज उछाल वाली पिचों पर खेलना आपके साहस की बात है। इस प्रकार की पिचें, आपके कौशल का परीक्षण लेती हैं। यही कारण है कि जो बल्लेबाज इन पिचों पर रन बना सकते हैं, वही असली बल्लेबाज हैं।

भारत के पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर ने पहले दिन के खेल के दौरान कहा कि उन्हें आश्चर्य नहीं होगा अगर पिच साबरमती नदी के स्टेडियम से निकटता के कारण मैच के दौरान रंग नहीं बदलेगी।

तेंदुलकर ने ट्वीट करते हुए लिखा था, मैंने देखा है कि साबरमती नदी की जमीन के करीब होने से नमी का मैदा में आना जारी रखेगा। इसके परिणामस्वरूप, यदि पूरे मैच के दौरान अगर पिच समान रहती है तो आश्चर्यचकित न हों।"

दिलचस्प बात यह है कि इंग्लैंड ने महान खलिाड़ी ज्योफ्री बॉयकॉट मानते हैं कि भारत की बैटिंग इंग्लैंड से बेहतर थी। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने एक ट्वीट में कहा, नियमों में ऐसा कुछ नहीं है जो कहता है कि किस प्रकार की पिच तैयार की जानी चाहिए। वे हमसे बेहतर थे। (आईएएनएस)


26-Feb-2021 7:59 PM 22

अलुर (आंध्र प्रदेश), 26 फरवरी | कप्तान शांतनु मिश्रा (76), संदीप पटनायक (64) और कार्तिक बिसवाल (नाबाद 53) के अर्धशतकों की मदद से ओडिशा ने यहां केएससीए क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए विजय हजारे ट्रॉफी के एलीट ग्रुप सी मुकाबले में शुक्रवार को बिहार को सात विकेट से हरा दिया। बिहार ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए बाबुल कुमार के 71 गेंदों पर तीन चौकों और चार छक्कों की मदद से 78 रन के सहारे 50 ओवर में सात विकेट पर 255 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी ओडिशा की टीम ने 48.1 ओवर में तीन विकेट पर 258 रन बनाकर मैच जीत लिया।

ओडिशा की पारी में शांतनु ने 107 गेंदों पर छह चौकों और एक छक्के की मदद से 76, संदीप ने 81 गेंदों पर 10 चौकों के सहारे 64 और कार्तिक ने 46 गेंदों पर तीन चौकों की मदद से नाबाद 53 रन बनाए जबकि अंकित यादव 39 गेंदों पर पांच चौकों के सहारे 43 रन बनाकर नाबाद रहे।

बिहार की ओर से बाबुल के अलावा एस. गनी ने 48, मंगल महरुर ने 38, शशीम राठौड़ ने 27 और विकास रंजन ने 20 रन बनाए जबकि अनुज राज 22 रन बनाकर नाबाद रहे। ओडिशा की तरफ से शांतनु ने तीन विकेट, सूर्यकांत प्रधान ने दो विकेट और राजेश मोहंती ने दो विकेट लिए।   (आईएएनएस)


26-Feb-2021 7:53 PM 32

नई दिल्ली, 26 फरवरी | टीम इंडिया के ऑलराउंडर यूसुफ पठान ने शुक्रवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा कर दी। युसूफ ने 24 सितंबर 2007 को पाकिस्तान के खिलाफ टी20 में पदार्पण किया था। इसके अलावा वनडे में उन्होंने 10 जून 2008 को पाकिस्तान के खिलाफ पदार्पण किया। टीम इंडिया के लिए युसूफ ने अपना आखिरी वनडे पाकिस्तान के खिलाफ 2012 में खेला था।

38 वर्षीय ऑलराउंडर ने ट्वीट कर लिखा, "मैं आधिकारिक रूप से क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा करता हूं। मैं अपने परिवार, दोस्तों, प्रशंसकों, टीम और पूरे देश का मेरा समर्थन करने तथा मुझे इतना प्यार देने के लिए धन्यवाद देता हूं। मुझे यकीन है कि आप सभी मुझे भविष्य में भी प्रोत्साहित करते रहेंगे।"

युसूफ ने भारत के लिए 57 वनडे और 22 टी20 मुकाबले खेले हैं। युसूफ ने वनडे में 810 रन तथा टी20 में 236 रन बनाए। वनडे में उनका सर्वाधिक स्कोर 123 रन का है जो उन्होंने 2010 में बेंगलुरु में बनाए थे। युसूफ स्पिन गेंदबाज हैं और उन्होंने अपने करियर में वनडे में 33 विकेट और टी20 में 13 विकेट लिए।

युसूफ 2007 टी20 विश्व कप और 2011 वनडे विश्व कप की विजयी टीम का हिस्सा रहे थे। इसके अलावा वह 12 वर्षो तक आईपीएल में भी खेले।

आईपीएल में वह राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स टीम का हिस्सा रहे और उनके टीम में शामिल रहने के दौरान दोनों टीमों ने आईपीएल का खिताब जीता। यूसुफ ने आईपीएल के 174 मैचों में 3204 रन बनाए तथा 42 विकेट लिए। (आईएएनएस)


26-Feb-2021 7:52 PM 31

नई दिल्ली, 26 फरवरी | टीम इंडिया के तेज गेंदबाज तथा रणजी में कर्नाटक की कप्तानी करने वाले विनय कुमार ने शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की। 37 वर्षीय कुमार ने भारत के लिए 31 वनडे, 9 टी20 और 1 टेस्ट मैच खेला है। वनडे में उनका आखिरी मैच 2013 में बेंगलुरु में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रहा।

रणजी ट्रॉफी में उनकी कप्तानी में कर्नाटक ने 2013-14 और 2014-15 में दो बार इस टूर्नामेंट का खिताब जीता।

कुमार ने सोशल मीडिया में पोस्ट कर लिखा, "दावेनगेरे एक्सप्रेस' जो 25 वर्षो से चल रही थी और उसने क्रिकेट के कई स्टेशनों को पार किया, वो आज उस स्टेशन पर पहुंच गई जिसे रिटारमेंट कहते हैं।"

उन्होंने लिखा, "यह आसान फैसला नहीं था। हालांकि, हर एक खिलाड़ी के जीवन में एक दिन ऐसा आता है जहां उसे यह निर्णय लेना पड़ता है। मैं विनय कुमार अंतरराष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा करता हूं।"

कुमार ने 2004 में रणजी ट्रॉफी मैच में बंगाल के खिलाफ कर्नाटक के लिए खेलते हुए अपने क्रिकेट की शुरुआत की थी। अपने 17 साल के लंबे प्रथम श्रेणी करियर में उन्होंने 139 मैचों में 22.44 के औसत से 504 विकेट लिए।

कुमार ने आईपीएल के 11 सत्र भी खेले। वह कोच्चि टस्कर्स, कोलकाता नाइट राइडर्स, मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की ओर से खेले। उन्होंने आईपीएल में 105 विकेट झटके।

वनडे में कुमार ने 38 विकेट और टी20 में 10 विकेट लिए। अपने एकमात्र टेस्ट में उन्होंने एक विकेट लिया।  (आईएएनएस)


26-Feb-2021 7:50 PM 15

इंदौर, 26 फरवरी | सलामी बल्लेबाज प्रभसिमरन सिंह (167) के शानदार शतक की बदौलत पंजाब ने होलकर क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए विजय हजारे ट्रॉफी के एलीट ग्रुप बी मुकाबले में विदर्भ को चार विकेट से हरा दिया। विदर्भ ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए फैज फैजल के 99 गेंदों पर नौ चौकों और चार छक्कों की मदद से 101 रन, गणेश सतीश के 82 गेंदों पर सात चौकों और एक छक्के की मदद से 78 रन तथा अक्षय वाडेकर के 53 गेंदों पर चार चौकों और दो छक्कों के सहारे नाबाद 63 रन की बदौलत 50 ओवर में नौ विकेट पर 290 रन का स्कोर खड़ा किया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी पंजाब ने प्रभसिमरन के 140 गेंदों पर 13 चौकों और नौ छक्कों की मदद से 167 रन की पारी के दम पर 47.5 ओवर में छह विकेट पर 294 रन बनाकर मैच जीत लिया।

पंजाब की तरफ से सिद्धार्थ कौल ने चार विकेट, हरप्रीत बरार ने चार विकेट और संदीप शर्मा ने एक विकेट लिया।

पंजाब की पारी में प्रभसिमरन के अलावा सनवीर सिंह ने 31 और अनमोल मल्होत्रा ने 21 रन बनाए जबकि हरप्रीत 24 रन बनाकर नाबाद रहे। विदर्भ की तरफ से सौरभ दुबे ने दो विकेट, आदित्य तारे ने एक विकेट, आदित्य सवर्टे ने एक विकेट और अक्षय कार्नेवर ने एक विकेट लिया। (आईएएनएस)


26-Feb-2021 5:42 PM 53

नई दिल्ली. टीम इंडिया के ऑलराउंडर यूसुफ पठान ने अंतर्राष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट को अलविदा कह दिया है. दाएं हाथ के इस विस्फोटक बल्लेबाज ने भारत के लिए 57 वनडे मैचों में 810 रन बनाए, वहीं 22 टी20 मैचों में उनके नाम 236 रन रहे. यूसुफ पठान ने 2 वनडे शतक और 3 अर्धशतक भी ठोके. यूसुफ ने 33 वनडे और 13 टी20 विकेट भी अपने नाम किये.

यूसुफ पठान ने शुक्रवार को ट्विटर पर अपने संन्यास का ऐलान किया. उन्होंने बेहद ही भावुक संदेश पोस्ट कर अपने फैंस और चाहने वालों का शुक्रिया अदा किया. यूसुफ पठान ने लिखा, 'मुझे याद है जिस दिन मैंने पहली बार भारत की जर्सी पहनी थी. मैंने ही सिर्फ वो जर्सी नहीं पहनी थी, वो जर्सी मेरे परिवार, कोच, दोस्त और पूरे देश ने पहनी थी. मेरा बचपन, जिंदगी क्रिकेट के ही इर्द-गिर्द बीता और मैं अंतर्राष्ट्रीय, घरेलू और आईपीएल क्रिकेट खेला. लेकिन आज कुछ अलग है. आज कोई वर्ल्ड कप या आईपीएल फाइनल नहीं है लेकिन ये उतना ही अहम दिन है. आज बतौर क्रिकेटर मेरे करियर पर पूर्ण विराम लग रहा है. मैं आधिकारिक तौर पर संन्यास का ऐलान करता हूं.'

504 विकेट लेने वाले दिग्गज तेज गेंदबाज ने लिया संन्यास, धोनी की कप्तानी में पहली बार मिला था मौका

यूसुफ पठान का संन्यास

दो वर्ल्ड कप जीतना, सचिन को कंधे पर उठाना खास लम्हा
यूसुफ पठान ने अपने पोस्ट में दो वर्ल्ड कप जीतने और सचिन तेंदुलकर को कंधे पर उठाकर मैदान का चक्कर लगाने वाले पल को करियर का यादगार लम्हा बताया. बता दें यूसुफ पठान साल 2007 टी20 वर्ल्ड कप और वर्ल्ड कप 2011 जीतने वाली टीम इंडिया के सदस्य रहे. यूसुफ पठान ने लिखा कि उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू एमएस धोनी, आईपीएल डेब्यू शेन वॉर्न और घरेलू क्रिकेट में डेब्यू जैकब मार्टिन की कप्तानी में किया. पठान ने अपने तीनों कप्तानों का शुक्रिया अदा किया. साथ ही यूसुफ पठान ने केकेआर के कप्तान गौतम गंभीर को भी शुक्रिया कहा जिनकी कप्तानी में केकेआर दो बार आईपीएल चैंपियन बनी.

यूसुफ पठान का करियर
यूसुफ पठान ने 100 फर्स्ट क्लास मैचों में 34.46 की औसत से 4825 रन बनाए, जिसमें उनके बल्ले से 11 शतक निकले. यूसुफ ने 199 लिस्ट ए और 274 टी20 मैच भी खेले. लिस्ट ए क्रिकेट में उन्होंने 9 शतक और टी20 में एक शतक लगाया. यूसुफ पठान के आईपीएल करियर की बात करें तो इस विस्फोटक बल्लेबाज ने 174 मैचों में 3204 रन बनाए, जिसमें उन्होंने 13 अर्धशतक और एक शतक लगाया.  (news18.com)
 


26-Feb-2021 4:02 PM 18

अहमदाबाद, 26 फरवरी | इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में उम्दा प्रदर्शन करने वाले टीम इंडिया के स्पिन गेंदबाज अक्षर पटेल का कहना है कि जब वह टीम से बाहर थे तो उन्होंने अपने प्रदर्शन को सुधारने पर ध्यान केंद्रित किया। अक्षर ने इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में खेले गए दूसरे टेस्ट में पदार्पण किया था और अपने पहले ही टेस्ट में उन्होंने पांच विकेट झटके थे। इसके अलावा अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए तीसरे टेस्ट में अक्षर ने दोनों पारियों में मिलाकर कुल 11 विकेट लिए।

अक्षर भारत के लिए दो वनडे और 11 टी20 मुकाबले खेल चुके हैं। हालांकि वह 2018 में दक्षिण अफ्रीका दौरे में टी20 मैच के बाद से सीनियर टीम से बाहर चल रहे थे।

अक्षर ने टीम के साथी खिलाड़ी हाíदक पांड्या के साथ बातचीत में कहा, "पिछले तीन वर्षो से जब मैं टीम से बाहर था तो मैं अपने खेल में सुधार लाने पर ध्यान केंद्रित कर रहा था। कई लोग मुझसे पूछते थे कि आईपीएल और भारत ए लिए बेहतर खेलने के बावजूद मेरा टीम में चयन क्यों नहीं हुआ।"

उन्होंने कहा, "यह सवाल मेरे दिमाग में भी आए तो मैंने सोचा कि मैं इंतजार करूंगा और जब भी मुझे मौका मिलेगा, मैं अपना 100 फीसदी दूंगा। मेरे दोस्त और परिवार जिन्होंने पिछले तीन वर्षो में मेरी मदद की जिसमें पांड्या आप भी शामिल हैं, आप सभी ने मुझे सिखाया कि परेशानियों से कैसे पार पाया जाता है।"

अक्षर ने कहा, "यह मेरा दूसरा ही मैच था और मोटेरा में पहला। मुझे काफी अच्छा लगा जब दर्शक 'अक्षर-अक्षर' चिल्ला रहे थे। जब स्थानीय दर्शक आपका हौसला बढ़ाते हैं तो यह सुखद होता है। मेरे परिवार के लोग भी स्टैंड्स में बैठे थे।"

पांड्या ने भी कहा कि उन्हें अक्षर के प्रदर्शन पर गर्व महसूस हो रहा है। उन्होंने कहा, "एक दोस्त के नाते मुझे अक्षर के पदार्पण का लंबे समय से इंतजार था। जिस तरह का आपने प्रदर्शन किया उससे मुझे अक्षर पर गर्व हो रहा है।" (आईएएनएस)

 


26-Feb-2021 4:01 PM 17

सोफिया (बुल्गारिया), 26 फरवरी | भारत के मुक्केबाज दीपक कुमार ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बुल्गारिया के सोफिया में जारी 72वें स्ट्रांजा मेमोरियल टूर्नामेंट के 52 किलो भाग वर्ग के सेमीफाइनल में जगह बनाकर इस प्रतियोगिता में भारत का दूसरा पदक पक्का कर दिया है। दीपक ने बुल्गारिया के डारिसिलव वासिलिव को 5-0 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई। दीपक से पहले भारत के एक अन्य मुक्केबाज नवीन बूरा (69 किग्रा) ने भी सेमीफाइनल में पहुंचकर भारत का पहला पदक पक्का किया था।

एशियाई चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता दीपक का सेमीफाइनल में रियो ओलंपिक चैंपियन उज्बेकिस्तान के शाखोबिदिन जोइरोव तथा बूरा का सामना एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता उज्बेकिस्तान के बोबो उस्मोन बातुरोव से होगा।

इस बीच महिला वर्ग में ज्योति गुलिया (51 किग्रा) और भाग्यवती कचारी (75 किग्रा) को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा। गुलिया को रोमानिया की लाचरामोएरा पोरिजोक ने तथा कचारी को अमेरिका की नाोओमी ग्राहम ने 5-0 से हराया।

पुरुष वर्ग में मनजीत सिंह (91 किग्रा) को अर्मेनिया के गुर्जेन हॉवनिसयन ने क्वार्टर फाइनल में हराया। (आईएएनएस)
 


26-Feb-2021 2:17 PM 26

अहमदाबाद, 26 फरवरी | भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट में मिली 10 विकेट से जीत के बाद विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के फाइनल में पहुंचने की अपनी दावेदारी मजबूत कर ली है और वह खिताबी मुकाबले में पहुंचने से अब महज एक ड्रॉ दूर रह गया है। भारत ने इंग्लैंड को मोटेरा के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए तीसरे मैच के दूसरे दिन गुरुवार को 10 विकेट से पराजित किया था। इस हार के साथ ही इंग्लैंड की डब्ल्यूटीसी के फाइनल में पहुंचने की उम्मीदें समाप्त हो गई हैं।

डब्ल्यूटीसी फाइनल मुकाबला 18 जून को लंदन के लॉर्डस मैदान पर खेला जाना है। न्यूजीलैंड पहले ही इस चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंच चुका है।

भारत को इंग्लैंड पर मिली जीत के बाद उसने चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली है। इस जीत के बाद भारत के 71 फीसदी अंक हो गए हैं और वह डब्ल्यूटीसी की तालिका में पहले स्थान पर आ गया है जबकि इंग्लैंड 64.1 फीसदी के साथ चौथे नंबर पर है।

विराट कोहली के नेतृत्व वाली टीम इंडिया को डब्ल्यूटीसी के फाइनल में पहुंचने के लिए इंग्लैंड से चौथा टेस्ट या तो जीतना होगा या मैच ड्रॉ कराकर सीरीज 2-1 से अपने नाम करनी होगी।

अगर इंग्लैंड चौथा टेस्ट जीतने में सफल रहा और सीरीज 2-2 से ड्रॉ रही तो तीसरे स्थान पर मौजूद ऑस्ट्रेलिया की टीम फाइनल में पहुंच जाएगी।

भारत और इंग्लैंड के बीच चौथा टेस्ट अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में चार मार्च से खेला जाएगा। (आईएएनएस)


Previous123456789...151152Next