राष्ट्रीय

10-Apr-2021 1:51 PM 20

हैदराबाद, 10 अप्रैल | देशभर में कोरोना महामारी ने एक बार फिर तेजी से पैर पसारना शुरू कर दिया है। तेलंगाना में भी कोरोना के बढ़ते मामलों ने सरकार और लोगों को परेशान कर रखा है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2,909 नये मामले सामने आये हैं। शुक्रवार को कोरोना के 2,478 केस दर्ज किये गये थे वहीं अब 2,909 नये मामले सामने आये हैं। जिसके बाद यहां कोरोना के कुल मामले 3,24,091 हो गये हैं।

पिछले 24 घंटों में कोरोना से 6 लोगों की मौत भी हुई है, नये मौत के आंकड़े के साथ मरने वालों की कुल संख्या 1,752 हो गई है। लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण निदेशक द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, यहां मृत्यु दर 0.54 प्रतिशत है, जबकि राष्ट्रीय औसत 1.31 प्रतिशत है।

सक्रिय मामलों की संख्या शुक्रवार को दर्ज 15,472 की संख्या से बढ़कर 17,791 हो गई। इसमें 11,495 वे लोग हैं,जो घर/ संस्थागत आइसोलेट हैं।

पिछले 24 घंटों में 584 लोग महामारी से ठीक हुए हैं, इस आंकड़े के बाद रिकवरी लोगों की संख्या 3,04,548 हो गई है। शुक्रवार की 93.86 प्रतिशत से रिकवरी दर में सुधार हुआ है, जो अब 94.63 हो गया है। जबकि राष्ट्रीय औसत 91.2 से 90.8 प्रतिशत हो गया है।

ग्रेटर हैदराबाद में 487 कोरोना मरीज मिले। जबकि मेडचल मल्कजगिरी में 289 और रंगारेड्डी में 225 मामले दर्ज हुए।

महाराष्ट्र की सीमा से जुड़ा निजामाबाद में 202 नए मामले आये। वहीं, निर्मल में 131 नए मामले दर्ज किए गए। इसके बाद जगतिल में 121, संगारेड्डी में 117, कामारेड्डी में102, महबूबनगर में 93, करीमनगर में 92, नलगोंडा में 89, वारंगल अर्बन में 86, सिद्दीपेट में 82, वारंगल अर्बन में 86, मनचेरियल में 77 और आदिलाबाद में 70 दर्ज किए गए।

अधिकारियों ने एक ही दिन में एक लाख से अधिक टेस्ट किए। पिछले 24 घंटों के दौरान किए गए कुल 1,11,726 टेस्ट किये गये, इसमें से 99,478 नमूने सरकारी प्रयोगशालाओं में और 12,248 निजी प्रयोगशालाओं में टेस्ट किए गए। (आईएएनएस)
 


10-Apr-2021 1:50 PM 23

अमरावती, 10 अप्रैल | आंध्र प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखा है। पत्र में पीएम मोदी से 11 अप्रैल से 14 अप्रैल के बीच आयोजित होने वाले 'टीका उत्सव' के लिए कोरोना वैक्सीन की 25 लाख खुराक की आपूर्ति करने का अनुरोध किया गया है। शुक्रवार को लिखे पत्र में उन्होंने कहा, "हमारे राज्य के लिए 25 लाख खुराक की तत्काल आवश्यकता है, जिसे अगर 11 अप्रैल से पहले उपलब्ध कराया जाये, तो राज्य में आपके नेतृत्व में 'टीका उत्सव' को भव्य तरीके से मनाया जा सकता है।"

उन्होंने कहा कि दक्षिणी राज्य में अभी केवल 2 लाख वैक्सीन की खुराक है और अन्य 2 लाख खुराक शुक्रवार को मिलने की उम्मीद थी।

गुरुवार को मुख्यमंत्रियों के साथ पीएम मोदी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद मुख्यमंत्री रेड्डी ने अधिकारियों को 11 से 14 अप्रैल के बीच होने वाले टीकाकरण के दौरान एक दिन में कम से कम 6 लाख लोगों का टीकाकरण करने का निर्देश दिया है।

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र के जरिये स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों से 25 लाख खुराक की आपूर्ति करने का अनुरोध किया है।

रेड्डी ने कहा, "मेरे राज्य में वॉलेंटियर की एक टीम है जहां एक वॉलेंटियर 50 परिवारों की जरूरतों का ख्याल रखता है। इन वॉलेंटियरों को टीकाकरण के लिए योग्य व्यक्तियों को जुटाने के लिए तैयार किया जाएगा।"

मुख्यमंत्री के अनुसार, अभियान के दौरान हर दिन हम 1,145 गांवों और 259 वाडरें से संबंधित क्षेत्रों को कवर करेंगे।

"चार दिनों में 4,580 गांवों और 1,036 शहरी वाडरें को यह सुनिश्चित करने के लिए कवर किया जाएगा कि 45 साल से अधिक आयु के सभी व्यक्तियों को टीका लगाया जाए। संपूर्ण जिला प्रशासन इस अभियान में शामिल होगा।" (आईएएनएस)
 


10-Apr-2021 1:24 PM 16

कूचबिहार, 10 अप्रैल: बंगाल चुनाव के चौथे चरण में मतदान के दौरान हिंसा की कई खबरें सामने आईं. कूचबिहार के सितालकुची विधानसभा सीट के एक मतदान केंद्र पर सुबह करीब 11 बजे बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई. रिपोर्ट्स के अनुसार झड़प में दोनों तरफ से बम और गोलियों का इस्तेमाल हुआ. स्थिति को नियंत्रित करने के लिए CRPF की तरफ से फायरिंग की गई. जिसमें 4 लोगों की मौत हो गई. हालांकि टीएमसी का दावा है कि मरने वालों की संख्या पांच है. फिलहाल चुनाव आयोग ने इस बाबत रिपोर्ट मांगी है. 

प्राप्त जानकारी के अनुसार सितालकुची में जब दोनों पार्टियों के कार्यकर्ता आमने सामने आ गए तो तुरंत इसकी सूचना क्विक रिस्पॉन्स टीम को दी गई. टीम के पहुंचते ही ग्रामीणों ने उन पर हमला कर दिया. जिसके बाद हालात को नियंत्रित करने के लिए सीआरपीएफ के जवानों ने गोलीबारी की, जिसमें चार लोगों की जान चली गई है. 

वहीं इस मामले पर सियासी घमासान भी शुरू हो गया है. टीएमसी सांसद डिरेक ओ ब्रायन ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जब आप सही तरीके से हमें हरा नहीं पा रहे हैं तो हमें गोलियां मार रहे हैं, हत्याएं कर रहे हैं. बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व पर निशाना साधते हुए ब्रायन ने कहा कि तुम्हारे आदेश के बाद ही चुनाव आयोग ने बंगाल पुलिस के DG और ADG को बदला था और उस इलाके के SP को भी बदला गया था जहां हत्या की घटना हुई है. 5 की मौत हुई है. (ndtv.in)
 


10-Apr-2021 1:23 PM 24

नई दिल्ली, 10 अप्रैल : देश में कोरोनावायरस के मामलों में लगातार तेजी जारी है. पिछले चार दिनों से रोजाना एक लाख से ज्यादा नए मामले आ रहे हैं. कोरोना के मामलों में तेजी को संक्रमण की दूसरी लहर माना जा रहा है. केंद्र और राज्य सरकारें महामारी पर काबू पाने की भरसक कोशिश कर रही हैं. इस बीच, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना की दूसरी लहर के लिए केंद्र सरकार की नीतियों को जिम्मेदार ठहराया है. गांधी ने टीकाकरण बढ़ाने के साथ प्रवासी मजदूरों के हाथ में नकदी देने का सुझाव दिया है.

राहुल गांधी ने रविवार को अपने ट्वीट में लिखा, "केंद्र सरकार की फ़ेल नीतियों से देश में कोरोना की भयानक दूसरी लहर है और प्रवासी मज़दूर दोबारा पलायन को मजबूर हैं. टीकाकरण बढ़ाने के साथ ही आम जन के जीवन व देश की अर्थव्यवस्था दोनों के लिए इनके हाथ में रुपये देना आवश्यक है. हालांकि, अहंकारी सरकार को अच्छे सुझावों से एलर्जी है!"

देश में कोरोनावायरस का कहर लगातार बढ़ता रहा है. भारत में संक्रमण के रिकॉर्ड नए मामलों सामने आ रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1,45,384 नए मामले दर्ज किए गए हैं. यह एक दिन में आए कोरोना मामलों की सर्वाधिक संख्या है. वहीं, बीते 24 घंटे में 794 लोगों की मौत भी हुई. भारत में लगातार चौथे दिन एक लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं. (ndtv.in)
 


10-Apr-2021 12:59 PM 24

जयपुर, 10 अप्रैल : राजस्थान के भिवाड़ी में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक 22 साल की विवाहिता से हैवानियत की हद पार की गई है. आरोप है कि महिला के करीबी रिश्तेदार ही उसके साथ कई दिनों तक सामूहिक दुष्कर्म करते रहें. महिला की आपबीती सुन लोगों के होश उड़ गए. फिलहाल पुलिस ने भी मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

दो बार हुई गर्भवती भी:
पीड़िता की रिपोर्ट के अनुसार उसकी नाबालिक उम्र में ही शादी हो गई थी. उसके बाद से ही उसका शोषण किया जा रहा था. 17 साल की उम्र में ही उसके ससुर ने कथित तौर पर उसके साथ दुष्कर्म कर दिया. इन सालों में वह दो बार गर्भवती भी हुई लेकिन उसका शोषण जारी रहा.

वीडियो बना ब्लैकमेल:
मदद के लिए वह अपने पति और सास के पास भी गई लेकिन वहां उसकी पिटाई ही कर दी गई. 17 साल की उम्र से ही उसके साथ यह घिनौनी हरकत की जाने लगी. इसके साथ ही देवर आदि ने भी उसके साथ यही काम किया. उसका वीडियो भी बनाया गया और उसे ब्लैकमेल किया जाता रहा.

नशीला पदार्थ देते थे:
शिकायत में कहा गया कि कई बार उसकी सास के दो भाई भी आते थे. उन्होंने भी कोल्ड ड्रिंक में नशे का सामान मिला कर उसे बेहोश किया और फिर गंदा काम किया. सन 2019 और 2020 में वह दो बार गर्भवती हुई फिर गर्भपात करा दिया गया.

पति ने की दूसरी शादी:
मार्च 2021 में पीड़िता के पति ने दूसरी शादी कर ली. तब जाकर महिला ने अपने परिजनों को इस बारे में जानकारी दी. इसके बाद वह उसे लेकर थाने पहुंचे. सभी आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया. पुलिस का कहना है कि आरोपों की जांच की जा रही है. (abplive.com)
 


10-Apr-2021 12:58 PM 20

भोपाल, 10 अप्रैल : मध्य प्रदेश के सतना में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां 10 दिनों से लापता एक महिला, उसके पांच साल के मासूम बच्चे और चचेरे देवर का शव मिला है. तीनों शव जंगल में पेड़ से लटके हुए थे. जब उन्हें बरामद किया गया तो शव कंकाल बन चुके थे.

फोरिंसिक की टीम से मौके की जांच कराई जा रही है
पुलिस अधिकारियों को सूचना मिली तो हड़कंप मच गया. इसके साथ ही फोरिंसिक की टीम से मौके की जांच कराई जा रही है. पुलिस आत्महत्या और हत्या दोनों ही एंगल से मामले की जांच कर रही है. साथ ही यह भी पता किया जा रहा कि है कि आखिर किस हालात में वो लापता हुए थे.

जिले के साड़ा जंगल में यह बरामदगी हुई है. बताया जा रहा है कि तीनों 29 मार्च से ही घर से लापता थे. उनकी थाने में गुमशुदगी भी दर्ज कराई गई थी. मामले की जानकारी मुख्यालय को भी दे दी गई है. यह एक एंगल भी सामने आ रहा है कि महिला ने अपने चचेरे देवर के साथ भागने का फैसला किया था.

लोकलाज का डर हुआ तो उसने यह कदम उठा लिया होगा
इसके बाद जब उसे लोकलाज का डर हुआ तो उसने यह कदम उठा लिया होगा. अब इस मामले में फोरेंसिक जांच के बाद ही कोई आगे की कार्रवाई होगी. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि यह एक संजीदा मामला है और पुलिक जांच का कोई भी एंगल इसमें नहीं छोड़ेगी.

इस बीच पुलिस करीबी रिश्तेदारों से भी पूछताछ कर रही है. जांच टीम का कहना है कि करीबी रिश्तेदारों और जानकारों से पूछताछ के दौरान की कुछ न कुछ सुराग मिलेगा. उनकी अंतिम समय किस-किस से मुलाकात हुई थी इस बारे में जानकारी ली जा रही है. (abplive.com)
 


10-Apr-2021 12:57 PM 21

जयपुर, 10 अप्रैल : राजस्थान के उदयपुर में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक महिला पर अपने ही पति की सुपारी देकर हत्या कराने का आरोप लगा है. यही नहीं घर वालों को यह सूचना दी कि पति की कोरोना से मौत हो गई. बताया जा रहा है कि अवैध संबंधों के चलते ही यह हत्या कराई गई है.

पुलिस ने इस मामले में कुल सात लोगों को गिरफ्तार किया
पुलिस ने इस मामले में कुल सात लोगों को गिरफ्तार किया है. इसमें महिला, उसका जेठ और पांच अन्य लोग शामिल हैं. पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद इस हत्याकांड का खुलासा किया है. क्योंकि सबसे पहले पांच माह पूर्व एक अज्ञात शव मिला था. पुलिस का दावा है कि महिला अपने जेठ के साथ ही संबंध था.

एसपी ने बताया कि मृतक की पहचान होने के बाद से ही पुलिस की शक की सूई करीबियों पर थी. यही नहीं पुलिस ने बताया है कि इस मामले में आरोपियों ने कुल 12 लाख 40 हजार रुपए की सुपारी दी थी. उसे प्लान के हिसाबसे उदयपुर लाया गया. यहां नशीला पेय पिलाकर गला घोंट दिया गया.

उसके मृतक प्रमाण पत्र बनाने के जुगाड़ में लगी थी आरोपी पत्नी
इसके बाद सबसे ज्यादा समस्या शव की शिनाख्त में हो रही थी. जैसे ही शिनाख्त हुई, पुलिस ने परिजनों पर नजर रखी. पता चला कि पत्नी और जेठ उसके मृतक प्रमाण पत्र बनाने के जुगाड़ में लगे हुए हैं. जबकि शव कहीं और से बरामद हुआ है. दोनों का प्रय़ास था कि पति के कोरोना से मौत होने का प्रमाण पत्र मिल जाए.

यही नहीं पत्नी ने पहले परिजनों से बताया कि उनकी कोरोना से मौत हो गई है. इसीलिए किसी को आने भी नहीं दिया गया. इसके बाद विधि विधान से उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया गया. अब उन्हें फर्जी प्रमाण पत्र चाहिए था जिससे उसकी संपत्ति पर कब्जा किया जा सके. लेकिन, उससे पहले ही पोल खुल गई. (abplive.com)
 


10-Apr-2021 12:44 PM 20

इंदौर, 10 अप्रैल : मध्य प्रदेश की पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर ने इंदौर के देवी अहिल्या बाई एयरपोर्ट पर कोरोना महामारी खत्म हो, इसके लिए मां अहिल्या की प्रतिमा के सामने विशेष पूजा की. पूजन के दौरान एयरपोर्ट की डायरेक्टर आर्यमा सन्यास सहित अन्य स्टाफ भी मौजूद रहा. ठाकुर भक्तिमय अंदाज में नजर आईं और पूजन के दौरान वह ताली बजाती दिखीं. खास बात यह भी थी कि वह बगैर मास्क के दिखाई दीं. ठाकुर अक्सर सार्वजनिक जगहों पर बिना मास्क के दिख जाती हैं.

बता दें कि उषा ठाकुर अपने एक बयान की वजह से खासा सुर्खियों में रही थीं. उन्होंने कहा था कि चावल और घी का मिश्रण तैयार करने के बाद, अगर आप इस मिश्रण को हवन के दौरान गाय के गोबर के कंडे के साथ सूर्योदय और सूर्यास्त के समय इस्तेमाल करते हैं तो आपका हवन स्थान 12 घंटे के लिए सैनिटाइज हो जाता है.

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के इंदौर में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. शहर के अस्पताल मरीजों से भरे हुए हैं. आलम यह है कि मरीज इलाज के इंतजार में अस्पताल की चौखट पर ही दम तोड़ दे रहे हैं. शुक्रवार को एक सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के बाहर ऐसे ही दो मरीजों की मौत हो गई. (ndtv.in)


10-Apr-2021 12:43 PM 19

नई दिल्ली, 10 अप्रैल : देश में कोरोनावायरस का कहर लगातार बढ़ता रहा है. भारत में कोरोना संक्रमण के रिकॉर्ड नए मामलों आ रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 1,45,384 नए मामले दर्ज किए गए हैं. यह एक दिन में आए कोरोना मामलों की सर्वाधिक संख्या है. वहीं, बीते 24 घंटे में 794 लोगों की मौत भी हुई. भारत में लगातार चौथे दिन एक लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं.  

पिछले पांच दिनों (आज के आंकड़ों को जोड़कर) में कोरोनावायरस के कुल 6,16,859 मामले सामने आए हैं. कोविड-19 से होने वाली मौतों की बात की जाए तो बीते 5 दिन में 3335 मरीज जान गंवा चुके हैं. देश में संक्रमण के कुल मामले 1,32,05,926 हो गए हैं जबकि अब तक कुल 1,68,436 मरीजों की मौत हो चुकी है.

भारत समेत दुनियाभर के 180 से ज्यादा देशों को कोरोनावायरस ने अपनी जद में लिया है. अभी तक 13 करोड़ से ज्यादा लोग इस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं. यह वायरस 29 लाख से ज्यादा संक्रमितों की जिंदगी छीन चुका है.

अच्छे सुझावों से सरकार को ऐलर्जी- कोरोना के मामले बढ़ने पर बोले राहुल गांधी
राहुल गांधी ने रविवार को अपने ट्वीट में लिखा, "केंद्र सरकार की फ़ेल नीतियों से देश में कोरोना की भयानक दूसरी लहर है और प्रवासी मज़दूर दोबारा पलायन को मजबूर हैं. टीकाकरण बढ़ाने के साथ ही आम जन के जीवन व देश की अर्थव्यवस्था दोनों के लिए इनके हाथ में रुपये देना आवश्यक है. हालांकि, अहंकारी सरकार को अच्छे सुझावों से ऐलर्जी है!"

अंडमान एवं निकोबार में कोविड-19 के 12 नए मामले
अंडमान एवं निकोबार में 12 और लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद शनिवार को इस महामारी के मामले बढ़कर 5,161 हो गए. स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि जो नए मरीज सामने आए हैं उनमें से दो ने यात्रा की थी जबकि बाकी 10 मरीज संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाने के दौरान सामने आए. अधिकारी ने बताया कि एक और व्यक्ति संक्रमण मुक्त हो चुका है. उन्होंने बताया कि केंद्र शासित प्रदेश में अभी 71 लोग कोविड-19 का इलाज करा रहे हैं जबकि 5,028 लोग इस बीमारी से उबर चुके हैं तथा 62 लोगों की मौत हो चुकी है. (भाषा)

एक्टिव केस की संख्या 10 लाख के ऊपर
देश में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 10 लाख के आंकड़े को पार कर गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, 10,46,631 मरीज इस वक्त उपचारधीन हैं, यानी कि या तो वह डॉक्टरों के दिशा निर्देशों से होम आइसोलेशन में हैं या फिर अस्पतालों में भर्ती हैं. 

5 दिन में कोरोना के 6 लाख से ज्यादा मामले आए
पिछले पांच दिनों (आज के आंकड़ों को जोड़कर) में कोरोनावायरस के कुल 6,16,859 मामले सामने आए हैं. कोविड-19 से होने वाली मौतों की बात की जाए तो बीते 5 दिन में 3335 मरीज जान गंवा चुके हैं. (एनडीटीवी संवाददाता)

लगातार चौथे दिन कोरोना के नए मामले एक लाख पार
स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 1,45,384 नए मामले दर्ज किए गए हैं. यह एक दिन में आए कोरोना मामलों की सर्वाधिक संख्या है. वहीं, बीते 24 घंटे में 794 लोगों की मौत भी हुई. भारत में लगातार चौथे दिन एक लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं. (एनडीटीवी संवाददाता)

RSS प्रमुख मोहन भागवत कोरोना संक्रमित, अस्पताल में भर्ती
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत कोरोनावायरस से संक्रमित हो गए हैं. उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. यह जानकारी आरएसएस ने ट्वीट कर दी है. आरएसएस ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं.

केरल में कोरोना के 5,063 नए मामले
न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, केरल में कोरोनावायरस के 5,063 नए मामले सामने आए, जिसके बाद प्रदेश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 11,54,010 हो गई है. राज्य सरकार ने यह जानकारी दी. सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि संक्रमण से 22 और लोगों की मौत हो गई, जिससे मृतक संख्या बढ़कर 4,750 हो गई है. प्रदेश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 36,185 है.

गुजरात में कोरोना संक्रमण के 4,541 नए मामले
न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, गुजरात में कोरोना संक्रमण के 4,541 नए मामले सामने आए, जिसके बाद कुल मामले बढ़कर 3,37,015 हो गए. एक अधिकारी ने बताया कि इस दौरान महामारी से 42 और मरीजों की मौत हो गई, जिससे मृतकों की संख्या 4,697 पर पहुंच गई. उन्होंने कहा कि राज्य में अब तक 3,09,626 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं और यह संख्या कुल मामलों का 91.87 प्रतिशत है.

छत्तीसगढ़ में 11,447 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि
न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, छत्तीसगढ़ में 11,447 नए लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है. इसके साथ ही राज्य में इस वायरस से संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,18,678 हो गई है. राज्य में यह पहली बार है कि जब एक ही दिन में इतनी बड़ी संख्या में कोरोना के मामले आए हैं. अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ में 3,37,156 मरीज इलाज के बाद संक्रमण मुक्त हुए हैं, राज्य में 76,868 मरीज उपचाराधीन हैं. राज्य में वायरस से संक्रमित 4,654 लोगों की मौत हुई है. (ndtv.in)
 


10-Apr-2021 12:41 PM 15

नई दिल्ली, 10 अप्रैल : दिल्ली के के. एन. काटजू मार्ग इलाके में रोडरेज की वारदात हुई है. कार सवार हमलावरों ने ममेरे भाइयों को मारी गोली. घटना में एक युवक की मौत हो गई जबकि दूसरे का अस्पताल में इलाज चल रहा है. उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है. मृतक युवक लॉ की पढ़ाई करता था, जबकि घायल युवक पॉलिटेक्निक इंस्टीट्यूट से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है. पुलिस ने हत्या व हत्या का प्रयास का मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही है. 

मृतक युवक की पहचान यश(22) के रूप में हुई है. जबकि घायल युवक की पहचान अर्जुन के रूप में हुई है. दोनों खजूरी गांव में रहते थे और ममेरे भाई थे. अर्जुन इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के तीसरे वर्ष का छात्र है. वहीं, यश लॉ की पढ़ाई कर रहा था. 

शुक्रवार शाम पुलिस को गुरु तेग बहादुर पॉलिटेक्निक संस्थान के सामने सीएनजी पंप के पास गोली चलने की सूचना मिली. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. वहां दो युवक गोली लगने से घायल थे. पुलिस ने दोनों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया. जहां यश को मृत घोषित कर दिया गया. अर्जुन अभी बयान देने की स्थिति में नहीं है. उसकी हालत नाज़ुक बनी हुई है. 

छानबीन से पता चला कि दोनों युवकों को कई गोलियां मारी गई है. मौके से पुलिस को करीब आधा दर्जन खोखे पड़े मिले. पुलिस ने घटना की जानकारी दोनों युवकों के परिवार वालों को देकर जांच शुरू की. जांच में पता चला कि दोनों भाई पंप पर सीएनजी भरवाने आए थे. जहां कार सवार युवकों से सीएनजी भरवाने की बात को लेकर कहासुनी हो गई. भाइयों ने एक युवक को पीट दिया. उसके बाद युवकों ने पिस्टल निकालकर दोनों भाइयों पर ताबड़तोड़ गोली चला दी और कार समेत फरार हो गए. 

पुलिस ने आसपास के इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को कब्जे में लिया है और आरोपी की पहचान करने में जुट गई है. पुलिस सूत्रों का कहना है कि सीएनजी पंप पर लगे सीसीटीवी कैमरे में आरोपी के कार का नंबर दर्ज हो गया है. जिसके मालिक का पता लगाकर पुलिस वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों की पहचान करने में जुटी है. पुलिस का दावा है कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.  (ndtv.in)
 


10-Apr-2021 12:41 PM 11

नई दिल्ली, 10 अप्रैल : कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले चिंताओं को भी बढ़ा रहे हैं. शनिवार को कोविड के रिकॉर्ड 1.45 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में पिछले 24 घंटों में अब तक के सर्वाधिक एक लाख 45 हजार 384 नए मामले सामने आए हैं. जिसके बाद कोरोना संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,32,05,926 हो गए हैं. वहीं पिछले 24 घंटों के अंदर 794 मरीजों की मौत हुई है. जिसके बाद मृतकों की कुल संख्या 1,68,436 हो गई है. यह लगातार चौथा दिन है जब कोरोना के मामलों की संख्या एक लाख से ज्यादा है. गर सिर्फ पिछले 5 दिनों की बात करें तो आज के मामले मिलाने के बाद सिर्फ पिछले पांच दिनों में 6 लाख 16 हजार 859 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 3335 लोगों की मौत हुई है. 

सबसे चिंताजनक बात ये है कि देश में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 10 लाख के आंकड़े को पार कर गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार 10,46,631 मरीज इस वक्त उपचारधीन हैं, यानी कि या तो वह डॉक्टरों के दिशा निर्देशों से होम आइसोलेशन में हैं या फिर अस्पतालों में भर्ती हैं. 

कोरोना की इस दूसरी लहर में एक्टिव मरीजों की संख्या 10 लाख के आंकड़े को महज 57 दिनों में पार कर गई जबकि पहली लहर में इस आंकड़े को पार करने में 98 दिनों का समय लगा था. वहीं वैक्सीनिशन अभियान भी अपनी पूरी क्षमता के साथ चलाया जा रहा है. पिछले 24 घंटों में देश में 3415055 लोगों को वैक्सीन की डोज दी गई. जिसके बाद कुल लाभार्थियों की संख्या 98075160 हो गई है. (ndtv.in) 
 


10-Apr-2021 12:40 PM 11

नई दिल्ली, 10 अप्रैल : भारतीय चुनाव आयोग ने शुक्रवार को एक नई चेतावनी जारी करते हुए कहा कि अगर विधानसभा चुनावों के दौरान चुनावी रैलियों में कोविड के खिलाफ नियमों का पालन नहीं किया जाता है तो उम्मीदवारों और स्टार कैंपेनरों को आगे रैलियां करने पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है. आयोग की यह चेतावनी तब आई है, जब तीन दिन पहले ही तीन राज्यों और एक केंद्रशासित प्रदेश- असम, तमिलनाडु, केरल और पुदुच्चेरी में वोटिंग संपन्न हो चुकी है. इन राज्यों में वोटिंग और चुनाव प्रचार के दौरान कोविड नियमों की धज्जियां उड़ती हुई दिखी थीं. आज पश्चिम बंगाल में चौथे चरण की वोटिंग हो रही है. अभी वहां चार चरणों का मतदान बाकी है.

चुनाव आयोग ने अपने नोटिस में कहा है, 'आयोग के संज्ञान में ऐसी चुनावी बैठकों/प्रचार कार्यक्रमों की जानकारी आई है, जहां आयोग के सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने जैसे नियमों का उल्लंघन होता दिखा. ऐसी घटनाएं सामने आई हैं, जहां स्टार कैंपेनर्स/राजनीतिक नेता/उम्मीदवारों ने खुद स्टेज पर मास्क नहीं लगाया है और कोविड के नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं. ऐसा करके वो खुद को और जनता को संक्रमण के खतरे में डाल रहे हैं.'

आयोग ने आगे कहा कि 'उल्लंघन की स्थिति में आयोग जनसभाओं और रैलियों को बैन करने में हिचकेगा नहीं.'

बता दें कि देश में पिछले दो महीनों में कोरोना के मामलों में 13 गुना बढ़ोतरी हुई है. कोरोना की दूसरी लहर ने देश को बुरी तरह अपने चपेट में ले लिया है. पिछले कई महीनों से देश में कोविड के नियमों का उल्लंघन होता दिख रहा था. शनिवार की सुबह तक देश में कोरोना के अब तक सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं. देश में पहली बार 1.45 लाख नए मामले मिले हैं. 

हालांकि, पिछले महीनों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और ममता बनर्जी, राहुल गांधी जैसे दूसरे कई विपक्षी नेताओं ने जमकर रैलियां और जनसभाएं की हैं. वहीं, कई त्योहारों और धार्मिक गतिविधियों के चलते भीड़ में संक्रमण का डर फैला है. इससे कोरोना के मामलों में और तेजी आई है.

दूसरी लहर पहली लहर से भी तेज है. कोरोना की पहली लहर पिछले साल सितंबर में सबसे ऊंची थी. उस दौरान एक दिन में 97,000 केस आए थे. लेकिन आज शनिवार को सुबह पिछले 24 घंटों में अब तक के सर्वाधिक एक लाख 45 हजार 384 नए मामले सामने आए हैं, जिससे संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,32,05,926 हो गए हैं.

पिछले 24 घंटों के अंदर 794 मरीजों की मौत हुई है. जिसके बाद मृतकों की कुल संख्या 1,68,436 हो गई है. लगातार चार दिनों से देश में 1 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं. पिछले 5 दिनों में 6 लाख 16 हजार 859 नए मामले और 3,335 मौतें हुई हैं. (ndtv.in)
 


10-Apr-2021 12:39 PM 13

नई दिल्ली, 10 अप्रैल : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच वैक्सीन की कमी का मामला भी सामने आ रहा है. पिछले दिनों सीरम इंस्टीट्यूट के प्रमुख अदार पूनावाला ने एक चर्चा के दौरान यह माना था कि उसे वैक्सीन उत्पादन में तेजी लाने के लिए तीन हजार करोड़ रुपये की जरुरत होगी. उनके इस बयान पर एम्स प्रमुख रणदीप गुलेरिया ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट को उत्पादन बढ़ाने के लिए करीब 6 महीने पहले ध्यान देना चाहिए था. उन्होंने कहा कि इस स्थिति को समझने के लिए किसी रॉकेट साइंस की जरूरत नहीं थी कि आने वाले समय में ऐसी स्थिति पैदा होगी. डॉ गुलेरिया के अनुसार हर मैन्युफैक्चर्स को डिमांड और अपनी विनिर्माण क्षमता के बारे में पता होता है. लिहाजा वो पहले से तैयारी कर सकते थे.

अदार पूनावाला की फंड की जरूरत पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि मैं उन्हें फाइेनेंस संबंधित सलाह तो नहीं दे सकता लेकिन यह जरूर जानता हूं कि उनके पास उत्पादन बढ़ाने के लिए पर्याप्त संख्या में इनवेस्टर्स होंगे. क्योंकि सिर्फ भारत नहीं बल्कि पूरा विश्व इस वैक्सीन की मांग कर रहा है. उन्होंने कहा कि हमारे पास 50 ऐसे लोग हैं जो क्लीनिकल ट्राय़ल के दौर से गुजर रहे हैं क्योंकि लोग इसे सिर्फ मानवता के नजरिए से लिए बल्कि बाजार के दृष्टिकोण से भी देखते हैं. 

बताते चलें कि पिछले कुछ दिनों से देश में वैक्सीन की कमी चर्चाओं में बनी हुई है. खासकर महाराष्ट्र ने इस कमी को लेकर केंद्र पर जोरदार प्रहार किया है. शुक्रवार को मुंबई में कई वैक्सीनेशन सेंटर्स को इसकी कमी के चलते बंद करना पड़ा था. अदार पूनावाला के अनुसार सीरम इंस्टीट्यूट वर्तमान में कोविशील्ड की रोजाना 2 लाख डोज और हर महीने 60 से 65 लाख डोज पैदा कर रहा है. उन्होंने कहा हमें हर महीने 100 से 110 मिलियन डोज का उत्पादन करना होगा लेकिन इसके लिए निवेश की जरूरत होगी. अदारपूनावाला के अनुसार, उन्होंने इसके लिए केंद्र को भी लिखा है. 

वहीं नीति आयोग के सदस्य और नेशनल कोविड वैक्सीनेशन पैनल के सदस्य डॉ वीके पॉल के अनुसार SII की तरफ से पिछले दिनों एक प्रस्ताव मिला है. हम जल्द ही इस पर कोई फैसलाा लेंगे. (ndtv.in)  
 


10-Apr-2021 12:38 PM 13

पश्चिम बंगाल, 10 अप्रैल : पश्चिम बंगाल में चौथे चरण के तहत सुबह सात बजे मतदान प्रक्रिया जारी है. इस चरण में 5 जिलों की 44 सीटों पर मतदाता उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला EVM में दर्ज करा रहे हैं. चुनाव आयोग के मुताबिक पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में 9:40 बजे तक 15.85% मतदान हुए हैं. मतदान केंद्रों पर सुबह से ही लंबी लंबी लाइने देखने को मिल रही है. वहीं कुछ जगहों पर छिटपुट हिंसा की खबरे भी हैं, मीडिया के वाहनों को भी क्षतिग्रस्त किया गया है. पोलिंग बूथों पर राज्य पुलिस के अलावा केंद्रीय बल की तैनाती भी की गई है. सुबह सात बजे से शुरू हुआ मतदान शाम 6.30 तक चलेगा. आज के चुनाव में कुल 1,15,81,022 मतदाता 373 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. हावड़ा में नौ विधानसभा सीटों, दक्षिण 24 परगना में 11, अलीपुरद्वार में पांच, कूचबिहार में नौ और हुगली में 10 सीटों पर मतदान हो रहा है. चौथे चरण में हाई प्रोफाइल मुकाबलों में कोलकाता में बंगाली फिल्म उद्योग का दिल कहे जाने वाले टॉलीगंज से बाबुल सुप्रियो और मौजूदा विधायक अरुप बिस्वास के खिलाफ चुनावी जंग दिलचस्प है. वहीं टीएमसी के महासचिव पार्थ चटर्जी लगातार चौथी बार विधानसभा चुनाव जीतने की कवायद में बेहाला पश्चिम सीट से भाजपा की उम्मीदवार और फिल्म अभिनेत्री श्राबंती चटर्जी को टक्कर दे रहे हैं. 

बंगाल चुनाव: कूचबिहार में पोलिंग बूथ के बाहर BJP-TMC कार्यकर्ताओं की झड़प
पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में BJP और TMC के कार्यकर्ताओं में जोरदार झड़प, 4 की मौत

पश्चिम बंगाल: हुगली में चुनाव कवर कर रहे मीडिया के वाहनों  लोगों ने किया हमला 
कई मीडिया के वाहनों पर पथराव किया गया. उनके शीशे तोड़े गए.

प बंगाल चुनाव के चौथे चरण में 9:40 बजे तक 15.85 फीसदी मतदान  
चुनाव आयोग के मुताबिक पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में 9:40 बजे तक 15.85% मतदान हुए हैं

प बंगाल चुनाव के चौथे चरण में 9:40 बजे तक 15.85 फीसदी मतदान  
चुनाव आयोग के मुताबिक पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में 9:40 बजे तक 15.85% मतदान हुए हैं

पीएम मोदी ने ज्यादा से ज्यादा संख्या में वोट डालने की अपील की 
पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के मतदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मतदाताओं, खासकर युवाओं और महिलाओं से रिकॉर्ड संख्या में मतदान करने की अपील की.

पश्चिम बंगाल: राज्य विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए मतदान शुरू 
पश्चिम बंगाल में राज्य विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए मतदान तय समय सुबह सात बजे से शुरू हुआ. सुबह से ही लोग कतारों में दिखाई दे रहे हैं. (ndtv.in)  
 


10-Apr-2021 12:36 PM 13

नई दिल्ली, 10 अप्रैल : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की एक ऑडियो क्लिप शेयर की गई है, जिसमें वो कह रहे हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बंगाल में 'उतने ही पॉपुलर हैं, जितनी बंगाल में मुख्यमंत्री हैं.' एक क्लबहाउस चैट का एक हिस्सा बीजेपी के सोशल मीडिया हेड अमित मालवीय ने शनिवार की सुबह ट्विटर पर शेयर किया है. यह ऑडियोक्लिप तब सामने आया है, जब राज्य में चौथे चरण का मतदान हो रहा है. इस ऑडियो को लेकर बीजेपी नेताओं की ओर से ट्विटर पर विजयी मुद्रा में ट्वीट किया जा रहा है.

शुक्रवार की शाम को पत्रकारों के साथ बातचीत में ऐसा लग रहा है कि प्रशांत किशोर ध्रुवीकरण की बात करते नजर आ रहे हैं. वो कह रहे हैं कि ध्रुवीकरण, ममता सरकार के खिलाफ गुस्सा और दलित वोटों- तीन वजहों से इन चुनावों में बीजेपी को फायदा मिलता दिख रहा है.

अमित मालवीय ने अपने ट्वीट में लिखा कि 'TMC का चुनाव गया.' यह क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. 

हालांकि, उनके इस ट्वीट पर प्रशांत किशोर ने बीजेपी को चुनौती दी है. प्रशांत किशोर ने कहा कि बीजेपी उनके इस चैट को गंभीरता से ले रही है, अगर उनमें हिम्मत है तो वो पूरी चैट सार्वजनिक करें. प्रशांत किशोर ने NDTV से कहा कि 'मुझे खुशी है कि बीजेपी के लोग मेरे चैट को अपने नेताओं की बातों से ज्यादा गंभीरता से ले रहे हैं. लेकिन मैं कहना चाहूंगा कि वो बातचीत के सेलेक्टिव हिस्से के बजाय पूरी बातचीत को सार्वजनिक करें.' अपने सेलेक्टिव लीक वाले तर्क पर उन्होंने मालवीय की ओर से शेयर किए गए एक ऑडियो क्लिप की बात की जिसमें वो बीजेपी की बंगाल में जीत की धारणा पर बात कर रहे हैं.

क्लिप में क्या कहा जा रहा है?
क्लिप में वो कह रहे हैं कि 'अगर वोट है तो मोदी के नाम पर वोट है. हिंदू के नाम पर वोट है. दलित के नाम पर वोट है. हिंदीभाषी हैं. ये फैक्टर हैं. तो शुभेंद गए क्योंकि प्रशांत किशोर आ गया, वाला मसला ही नहीं है. मोदी यहां पॉपुलर हैं. हिंदीभाषी लोगों के एक करोड़ से ज्यादा वोट हैं. 27 फीसदी दलित हैं, वो बीजेपी के साथ खड़े हैं. और ध्रुवीकरण तो है ही.'

उनसे एक पत्रकार ने पूछा कि मटुआ समुदाय किसको वोट देगा, तो उनका जवाब आया कि मटुआ लोग ज्यादातर बीजेपी को वोट करेंगे. उन्होंने कहा कि उनकी एकता उतनी ज्यादा नहीं दिखेगी, जितनी लोकसभा में दिखी थी, लेकिन उनका अधिकतर वोट बीजेपी को जाएगा. 75 बीजेपी तो 25 तृणमूल का अनुपात रहेगा.

प्रशांत किशोर ने कहा कि ऐसा नहीं है कि बीजेपी के बंगाल में काडर नहीं हैं. यहां बीजेपी का ग्राउंड पर काडर है. हो सकता है कि बहुत से तृणमूल से आए हों. लेकिन वो समर्पण के साथ बीजेपी के लिए काम कर रहे हैं. उन्होंने यह भी बताया कि टीएमसी के अपने खुद के पोलिंग सर्वे में बीजेपी की सरकार बनती हुई दिख रही है. वो यह भी कह रहे हैं कि 50 से 55 हिंदू बीजेपी के लिए वोट कर रहे हैं.

प्रशांत किशोर ने आज क्या कहा?
चुनावी रणनीतिकार ने आज कहा कि उन्होंने यह बात इस सवाल पर कही थी कि बीजेपी को 40 फीसदी वोट क्यों मिल रहे हैं और ऐसी धारणा क्यों है कि बीजेपी जीत रही है?

किशोर एक दूसरे क्लिप में कहते हुए नजर आ रहे हैं कि राज्य में ममता की सरकार के खिलाफ गुस्सा है, लेकिन केंद्र के खिलाफ नहीं. पत्रकारों ने उनसे पूछा कि मोदी बंगाल में क्यों पॉपुलर हैं और आर्थिक संकट के बावजूद उनकी सरकार के खिलाफ गुस्सा क्यों नहीं है. इस पर उन्होंने कहा कि पूरे देश में मोदी का कल्ट है. यहां तक कि टीएमसी के सर्वे में मोदी को भी उतने ही वोट मिले हैं, जितने मोदी को. (ndtv.in)
 


09-Apr-2021 10:25 PM 105

जयपुर, 9 अप्रैल : असम में विधानसभा चुनाव के लिए 3 चरणों में वोटिंग हो चुकी है और 2 मई को परिणाम आने से पहले ही राज्य में हलचल शुरू हो गई है. परिणाम से बहुत पहले ही कांग्रेस अपने प्रत्याशियों को संभालने में जुट गई है और सूत्रों के अनुसार पार्टी के 20 से ज्यादा प्रत्याशियों को जयपुर लाया गया है. 

विधानसभा चुनाव के बाद असम से कांग्रेस के 22 प्रत्याशियों को जयपुर लाया गया है. प्रत्याशियों को जयपुर एयरपोर्ट से फाइव स्टार होटल फेयरमाउंट तक ले जाया.

कांग्रेस को सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी की ओर से परिणाम के बाद विधायकों की खरीद-फरोख्त का डर सता रहा है.

पार्टी के मुख्य सचेतक महेश जोशी और कांग्रेस विधायक रफीक खान को प्रत्याशियों को लेकर जिम्मेदारी दी गई है. 

खास बात यह है कि कांग्रेस के साथ AIUDF के भी उम्मीदवार लाए गए हैं. बदरूद्दीन अजमल की पार्टी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ा था. सभी को फाइल स्टार होटल फेयरमाउंट में रखा जाएगा.  (aajtak.in)


09-Apr-2021 10:13 PM 35

मुंबई, 9 अप्रैल | मुंबई की एक विशेष अदालत ने शुक्रवार को उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के सामने विस्फोटक से लदी एसयूवी स्कॉर्पियो खड़ी करने के मामले में निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वाजे को 23 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। वाजे को 13 मार्च को गिरफ्तार किया गया था और उन्हें राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की हिरासत समाप्त होने के बाद विशेष अदालत के समक्ष पेश किया गया था। विशेष न्यायाधीश पी. आर. सितरे ने निलंबित सहायक पुलिस निरीक्षक वाजे को 23 अप्रैल तक की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। दरअसल एजेंसी ने उनकी रिमांड बढ़ाने की अपील नहीं की थी, जिसके बाद उन्हें अब जेल जाना होगा।

25 फरवरी को दक्षिण मुंबई में मुकेश अंबानी के घर के पास एक रवश् से जिलेटिन की छड़ें बरामद होने और फिर ठाणे के कारोबारी मनसुख हिरेन की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के बाद वाजे एनआई की जांच के घेरे में आए थे।

इससे पहले मुंबई पुलिस के पूर्व पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह के लेटर-बम की जांच के सिलसिले में निलंबित सहायक पुलिस निरीक्षक वाजे से लगातार तीसरे दिन केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने पूछताछ की।

एजेंसी ने कहा है कि पिछले 4 हफ्तों के दौरान वाजे से पूछताछ के दौरान एसयूवी-हिरेन मामलों के कई महत्वपूर्ण पहलू सामने आए हैं, जिसमें कई लग्जरी वाहनों और नकदी की बरामदगी भी शामिल है। इसके अलावा कुछ सबूतों को नष्ट करने की बात भी सामने आई है।

एनआईए का कहना है कि जांच में वाजे द्वारा रची गई एक साजिश का खुलासा हुआ है। (आईएएनएस)


09-Apr-2021 7:47 PM 42

नई दिल्ली, अप्रैल: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने राफेल डील को लेकर एक दफा फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरने की कोशिश की है. उन्होंने अपने ट्वीट में छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि पीएम कहते हैं कि सवालों के जवाब बिना किसी डर और घबराहट के दें. कृपया उनसे ऐसा ही करने के लिए कहिए. राहुल ने अपने ट्वीट में पीएम से तीन सवाल किए हैं.

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, "प्यारे छात्रों, पीएम ने कहा कि बिना किसी डर और घबराहट के सवालों के जवाब दें. कृपया उनसे ऐसा ही करने के लिए कहें:
1. राफेल भ्रष्टाचार स्कैंडल में किसने पैसे लिए?
2. कॉन्ट्रैक्ट से एंटी करप्शन क्लॉज़ किसने खत्म किया?
3. रक्षा मंत्रालय के प्रमुख दस्तावेजों तक बिचौलिए की पहुंच किसने बनाई?"

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को डिजिटल माध्यम से 'परीक्षा पर चर्चा' कार्यक्रम के दौरान देश के छात्र छात्रों के साथ बातचीत की थी. इस दौरान पीएम ने स्टूडेंट्स को परीक्षा और उसकी तैयारियों को लेकर कई टिप्स दिए थे. उस दौरान पीएम ने कहा कि बिना किसी डर और घबराहट के सवालों के जवाब दें. अब राहुल ने उनके बयान को लेकर उन्हीं पर निशाना साधा है.

फ्रांस की वेबसाइट ने राफेल डील भ्रष्टाचार का किया है दावा

कांग्रेस नेता राहुल गांधी राफेल डील पर कथित भ्रटाचार के आरोप लगाते आए हैं. हालांकि तमाम आरोपों से गुजरते हुए राफेल सौदे को कोर्ट से हरी झंडी मिल चुकी है. लेकिन इस बीच हाल ही में फ्रांस की समाचार वेबसाइट मीडिया पार्ट ने राफेल पेपर्स नाम से आर्टिकल प्रकाशित किए हैं. इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि सौदे में भ्रष्टाचार हुआ है.

रिपोर्ट के मुताबिक राफेल लड़ाकू विमान डील में गड़बड़ी का सबसे पहले पता फ्रांस की भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसी AFA को 2016 में हुए इस सौदे पर दस्तखत के बाद लगा. AFA को ज्ञात हुआ कि राफेल बनाने वाली कंपनी दसौ एविएशन ने एक बिचौलिए को 10 लाख यूरो देने पर रजामंदी जताई थी. यह हथियार दलाल इस समय एक अन्य हथियार सौदे में गड़बड़ी के लिए आरोपी है. हालांकि AFA ने इस मामले को प्रोसिक्यूटर के हवाले नहीं किया.

रिपोर्ट के मुताबिक अक्टूबर 2018 में फ्रांस की पब्लिक प्रोसिक्यूशन एजेंसी PNF को राफ़ेल सौदे में गड़बड़ी के लिए अलर्ट मिला. साथ ही लगभग उसी समय फ्रेंच कानून के मुताबिक दासौ एविएशन के ऑडिट का भी समय हुआ. कंपनी के 2017 के खातों की जाँच का दौरान 'क्लाइंट को गिफ्ट' के नाम पर हुए 508925 यूरो के खर्च का पता लगा. यह समान मद में अन्य मामलों में दर्ज खर्च राशि के मुकाबले कहीं अधिक था.

बीजेपी ने दावों को किया खारिज

अब इन दावों के सामने आने के बाद एक बार फिर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने केंद्र सरकार पर राफेल डील को लेकर सवाल उठाए हैं. हालांकि कांग्रेस के हमले के जवाब में बीजेपी के सीनियर नेता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि यह पूरी तरह निराधार है. सुप्रीम कोर्ट और कैग ने कुछ भी गलत नहीं पाया. 

(abplive.com)

 

 


09-Apr-2021 7:44 PM 33

नई दिल्ली, अप्रैल: मुकेश अंबानी के घर के बाहर गाड़ी में विस्फोटक रखने के मामले में गिरफ्तार निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वाजे एंटीलिया मामले को सुलझाने के बाद इसी तरह का कुछ और बड़ा करने की तैयारी में था, ताकि वो और भी बड़ा नाम बन जाए.

एनआईए के सूत्रों ने शक्रवार को बताया, "एंटीलिया के पास विस्फोटक रखने के बाद सचिन वाजे कुछ और बड़ा करने की तैयारी कर रहा था. हम पता लगा रहे हैं कि क्या प्रदीप शर्मा (पूर्व पुलिस अधिकारी) ने इस मामले में लॉजिस्टिक सपोर्ट दिया था. परमबीर सिंह का बयान एक गवाह के तौर पर दर्ज किया गया है न कि एक संदिग्ध के रूप में."

सचिन वाजे को कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेजा

एंटीलिया विस्फोटक केस और कारोबारी मनसुख हिरेन की मौत के मामले में गिरफ्तार सचिन वाजे को आज मुंबई की एक एनआईए कोर्ट ने 23 अप्रैल तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. सचिन वाजे को 13 मार्च को गिरफ्तार किया गया था और उसकी एनआईए हिरासत समाप्त होने के बाद एक विशेष अदालत के समक्ष पेश किया गया था.

विशेष न्यायाधीश पी आर सितरे ने निलंबित सहायक पुलिस निरीक्षक (एपीआई) वाजे को 23 अप्रैल तक की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. एनआईए ने उसे अपनी हिरासत में और रखने पर जोर नहीं दिया. वाजे 13 मार्च को गिरफ्तारी के बाद से एनआईए की हिरासत में था.

(abplive.com)


09-Apr-2021 7:41 PM 38

नई दिल्ली,  9 अप्रैल ​: कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज मिलने के बाद भी आप कोरोना से संक्रमित हो सकते है. दिल्ली के मशहूर अस्पताल के 37 डॉक्टर कोरोना से संक्रमित हुए है, जिसमें से 32 होम आइसोलेशन में है जबकि 5 अस्पताल में एडमिट है. जानकारों के मुताबिक टीके की दोनों डोज मिलने के बाद भी संक्रमण हो सकता है लेकिन टीका लगने की वजह से संक्रमण जानलेवा नहीं होता है, न ही उतना नुकसान होता है.

दिल्ली के मशहूर सर गंगाराम अस्पताल में 37 डॉक्टर कोरोना संक्रमित हो गए हैं. सबको हल्के लक्षण है. अस्पताल प्रशासन की ओर से दी गई जानकरी के मुताबिक इन सब डॉक्टर्स को कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है. अस्पताल के मुताबिक पिछले एक हफ्ते में ये डॉक्टर कोरोना से संक्रमित हुए है. ये कैसे हुआ इसका पता लगाने के लिए कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है.

नहीं होगा ज्यादा नुकसान

जानकारों के मुताबिक कोरोना की वैक्सीन लगने के बावजूद भी कोरोना संक्रमित हो सकते है. इसकी वजह है कि कोई भी वैक्सीन 100% प्रभावी नहीं होती है. वहीं संक्रमित होना और संक्रमण से बीमार होने में अंतर है. वैक्सीन लगने के बाद संक्रमित हो सकते है लेकिन गंभीर रूप से बीमार नहीं हो सकते है. टीके की वजह से संक्रमित होने के बाद भी शरीर पर उतना नुकसान नहीं होगा, जितना बिना वैक्सीन के हो सकता है.

ऐसे में अगर कोरोना का टीका लग भी गया है तो पूरी सावधानी बरतनी है. कोरोना का टीका लगने का मतलब ये नहीं है कि अब आपको कोरोना नहीं होगा या आप कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करेंगे. मास्क पहना, हाथ धोते रहना, भीड़ में कम जाना है, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना काफी जरूरी है. (abplive.com)