कारोबार

शिक्षा नवाचार संग समाहित हो जनकल्याण उद्देश्य
01-Mar-2021 2:06 PM 45
शिक्षा नवाचार संग समाहित हो जनकल्याण उद्देश्य

रायपुर, 1 मार्च। अग्रसेन महाविद्यालय, स्व. स्वर्णलता अमरीश कुमार अग्रवाल स्मृति आडियो-विजुअल स्टुडियो का उदघाटन  हुआ।  उच्च शिक्षा में नवाचार का प्रयोग विषय पर संक्षिप्त परिचर्चा भी हुई।  कार्यक्रम में पं. रविशंकर शुक्ल विवि रायपुर के कुलपति डॉ. केशरीलाल वर्मा मुख्य अतिथि थे तथा कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता विवि के कुलपति प्रो. बलदेव भाई शर्मा ने अध्यक्षता की।  वरिष्ठ पत्रकार रमेश नैयर तथा वरिष्ठ समाजसेवी रमेश अग्रवाल विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। 

मुख्य अतिथि डॉ. वर्मा ने बताया कि शिक्षा में नवाचार इसलिए जरुरी है, क्योंकि इससे शिक्षा का विस्तार होता है और जन-कल्याण का उद्देश्य भी पूरा होता है।  उन्होंने अग्रसेन महाविद्यालय में आधुनिक स्टूडियो बन जाने पर महाविद्यालय प्रबंधन को विशेष रूप से बधाई दी।  श्री शर्मा ने बताया कि शिक्षा का अर्थ केवल पढ़ाई करना और श्रेष्ठ अंक प्राप्त करके अच्छी नौकरी हासिल करना ही नहीं है।  बल्कि शिक्षा और विशेष रूप से पत्रकारिता का उद्देश्य यह है कि इससे समाज का विकास हो और प्रत्येक व्यक्ति का कल्याण हो।  

श्री नैयर ने बताया कि उन्होंने 1972 में तत्कालीन पत्रकार सहयोगी गोविंदलाल वोरा के साथ मिलकर छत्तीसगढ़ में पहली बार पत्रकारिता के अध्यापन की शुरुआत की थी।  उन्होंने कहा कि पत्रकारिता में नवाचार के साथ ही सामाजिक सरोकार को भी हर स्तर पर ख्याल में रखा जाना चाहिए।  तभी यह समाज को दिशा देने में सफल हो पाएगा। 

अन्य पोस्ट

Comments