खेल

23-Sep-2020 6:57 PM

नई दिल्ली, 23 सितम्बर (आईएएनएस)| भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फिट इंडिया संवाद का हिस्सा बनकर वह सम्मानित महसूस कर रहे हैं। फिट इंडिया मूवमेंट की पहली वर्षगांठ पर पीएम मोदी गुरुवार को वीडियो कॉन्फेंसिंग के जरिए देशभर के उन हस्तियों के साथ बातचीत करेंगे, जो देशवासियों को फिटनेस के प्रति जागरुक कर रहे हैं। इसी दौरान कोहली भी पीएम मोदी से बात करेंगे।

कोहली ने ट्विटर पर कहा, "मैं हमारे माननीय प्रधानमंत्री के फिट इंडिया संवाद का हिस्सा बनकर सम्मानित महसूस कर रहा हूं, जहां आप मुझे फिटनेस के बारे में बात करते हुए देख सकते हैं।"

कोहली के अलावा इस संवाद में मॉडल और धावक मिलिंद सोमण, आहार विशेषज्ञ रूतुजा दिवेकर, पैरालंपियन स्वर्ण पदक विजेता देवेंद्र झाझरिया, जम्मू और कश्मीर की एक महिला फुटबॉलर अफशां आशिक, जो अब फुटबॉल में अन्य लड़कियों को प्रशिक्षित करती हैं। केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू भी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे।

सोमण आयरनमैन प्रतियोगिता के विजेता हैं। उन्होंने कहा कि वह फिट इंडिया संवाद के माध्यम से पूरे देश के साथ अपने फिटनेस मंत्र को साझा करना चाहते हैं।

उन्होंने कहा, "मैं सरल चीजें करने का प्रस्तावक रहा हूं और इसलिए हमारे प्रधानमंत्री की उपस्थिति में, मैं किसी भी उम्र में स्वस्थ और फिट रहने के सरल तरीकों पर बात करूंगा।"


23-Sep-2020 6:03 PM

नई दिल्ली, 23 सितंबर (आईएएनएस)| अगर कोई खिलाड़ी, प्लेयर स्पोर्ट स्टाफ कर्मी या मैच अधिकारी आईपीएल मैचों के दौरान किसी भी तरह के मोबाइल उपकरण, लैपटॉप कंप्यूटर, स्टेटिक/लैंडलाइन या मैच अधिकारियों के क्षेत्रों (पीएमओए) में कॉल करने जैसे नियमों का तीन बार उल्लंघन करता है तो उस पर पांच लाख रुपये का जुर्माना और तीन आईपीएल मैचों के लिए प्रतिबंधित कर दिया जाएगा।

आईपीएल मैचों के दौरान पीएमओए के लिए बीसीसीआई के न्यूनतम मानकों के तहत बनाए गए नियम के अनुसार, इस प्रकार के उल्लंघनों के लिए यह और अन्य कम दंड, 'तुरंत बाध्यकारी और गैर-अपील योग्य' होगा।

मोबाइल/लैपटॉप उपकरणों को ले जाने से संबंधित नियमों का पहली बार उल्लंघन करने पर एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा, जबकि उसी व्यक्ति द्वारा दूसरी बार इस तरह का उल्लंघन करने पर तीन लाख रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा।

बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी इकाई (एसीयू) के प्रमुख ये जुर्माना लगाएंगे। राजस्थान के पूर्व पुलिस महानिदेशक अजीत सिंह फिलहाल एसीयू प्रमुख हैं, जिन्हें मार्च 2018 में इस पद पर नियुक्त किया गया था।

पीएमओए के नियम के अनुसार, "उपरोक्त में से किसी के संबंध में एसीयू प्रमुख द्वारा किया गया कोई भी निर्णय, इस मामले का पूर्ण, अंतिम और पूर्ण निपटान, तुरंत बाध्यकारी और गैर-अपील योग्य होगा।"

कुछ लोगों का कहना है कि आईपीएल में खेलने के दौरान खिलाड़ी लाखों और करोड़ों रुपये कमाते हैं, इसलिए इस तरह से जुर्माने से उनके जेब पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा।

लेकिन बीसीसीआई के पूर्व एसीयू प्रमुख नीरज कुमार का कहना है कि जुर्माने से ज्यादा नियमों के उल्लंघन के लिए प्रतिबंधित होना, उनके बाकी करियर पर कलंक की तरह बन जाता है।

दिल्ली के पूर्व पुलिस आयुक्त नीरज ने आईएएनएस से कहा, "ये जुर्माने हमेशा से थे, लेकिन इसे पहले कभी लागू करने की जरूरत नहीं पड़ी, क्योंकि यह उल्लंघन नहीं हुआ था। लेकिन यह भी दाग की तरह है कि तीन मैचों का प्रतिबंध आपके करियर को तबाह कर सकता है।"

नीरज ने यह भी कहा कि प्रतिबंध के बाद टीम में वापसी करने वाले गैर-स्थापित क्रिकेटर के लिए एक अनुभवी खिलाड़ी की तुलना में अधिक कठिन हो सकता है, जिसे उसी अपराध के लिए दंडित किया जाता है।

उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के तीन खिलाड़ियों-स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर और कैमरून बैनक्रॉफ्ट का उदाहरण दिया, जिन्हें मार्च 2018 में केपटाउन के न्यूलैंड्स में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट के दौरान गेंद से छेड़छाड़ करने के मामले में प्रतिबंधित कर दिया गया था।

उन्होंने कहा, "यदि आप एक स्टीव स्मिथ हैं, तो प्रतिबंध समाप्त होने के बाद आप वापस आ सकते हैं। लेकिन यदि आप उससे कम स्तर के खिलाड़ी हैं, तो आप शायद कभी वापस नहीं लौट पाएंगे। स्मिथ और वार्नर के साथ तीसरे खिलाड़ी (कैमरन बैनक्रॉफ्ट) को भी नुकसान उठाना पड़ा।"

क्या आईपीएल में इस विशेष उल्लंघन के लिए सजा की राशि पर्याप्त है? उन्होंने कहा, "एक युवा खिलाड़ी के लिए पांच लाख रुपये बहुत ही कम राशि है, जो मैच फीस के रूप में करोड़ों रुपये कमाता है। इस राशि से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ेगा। लेकिन अगर कोई व्यक्ति 10 से 20 लाख रुपये ही कमाता है तो उनके लिए यह एक बड़ी राशि मानी जाएगी।"


23-Sep-2020 5:03 PM

नई दिल्ली, 23 सितंबर (आईएएनएस)। भारत की पुरुष हॉकी टीम के एनालिटिकल कोच क्रिस सिरिलेलो ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के सूत्रों ने बुधवार को इस बात की जानकारी दी। साई ने हालांकि अभी उनका इस्तीफा मंजूर नहीं किया है। सूत्रों ने आईएएनएस से कहा, क्रिस ने अपना इस्तीफा भेज दिया है और इस पर अभी आगे की कार्रवाई की जानी हैं। आस्ट्रेलिया के रहने वाले क्रिस ने स्वास्थ कारणों से इस्तीफा दिया है। उन्हें सोरयासिस की बीमारी है और वह इसका इलाज करा रहे हैं। साथ ही माना जा रहा है कि भारत में कोविड-19 के बढ़ते मामले भी क्रिस के फैसले की एक वजह हैं।

2018 में क्रिस टीम के साथ पेनाल्टी कॉर्नर विशेषज्ञ के रूप में जुड़े थे और बाद में वह टीम के कोचिंग स्टाफ का अहम हिस्सा बन गए। पिछले महीने डेविड जॉन जो, हाई परफॉर्मेंस निदेशक थे, ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

 


23-Sep-2020 5:02 PM

नई दिल्ली, 23 सितंबर। दुनिया का सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई है। दुनिया भर में फैली कोरोना वायरस की महामारी के बावजूद बीसीसीआई यूएई में अपनी टी20 लीग आईपीएल का आयोजन कराने में सफल रही है। हालांकि खिलाडिय़ों की सुरक्षा को देखते हुए काफी पुख्ता इंतजामों के साथ बायो-सेक्योर बबल तैयार किया गया है। इन सब पर बीसीसीआई ने काफी पैसा खर्च किया है। जहां आईपीएल पर करोड़ों रुपए खर्च किए जा रहे हैं, वहीं भारत में घरेलू स्तर पर बीसीसीआई कॉस्ट कटिंग के मूड में है। खर्च में कटौती के लिए ही उन्होंने एनसीए में 11 कोच के कॉन्ट्रैक्ट न बढ़ाने का फैसला किया है।

एनसीए के कोच हुए बेरोजगार

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक कोरोना के बाद बीसीसीआई ने पहली बार कटौती को लेकर बड़ा कदम उठाया है। एनसीए के 11 कोच का सलाना कॉन्ट्रैक्ट नहीं बढ़ाया गया है और इन लोगों में पांच रिटायर्ड भारत खिलाड़ी रमेश पवार, एसएस दास, ऋषिकेश कानितकर, सुब्रतो बनर्जी और सुजीत सोमसुंदर शामिल हैं। एनसीए के हेड कोच का पद संभाल चुके राहुल द्रविड़ ने सभी को इसकी जानकारी पिछले हफ्ते दे दी थी। इन सभी की सैलरी मिलाकर बीसीसीआई पर 30-55 लाख रुपए का खर्च आता था।

पहले से नहीं थी कोचेज को जानकारी

कुछ कोच ने बताया कि उन्हें इस बारे में पहले से नहीं बताया गया और न ही इसका सही कारण बताया गया। उन्होंने कहा, 'हमें दो दिन पहले राहुल द्रविड़ का फोन आया, जिन्होंने बताया कि बीसीसीआई ने हमारा कॉन्ट्रैक्ट न बढ़ाने का फैसला किया है। पिछले तीन महीने से हम वेबिनार अटैंड कर रहे हैं, आगे की चीजों के लिए प्लान कर रहे हैं और इस बीच हमें अचानक कह दिया गया कि अब हमारी जरूरत नहीं है। (news18.com)

 


23-Sep-2020 5:00 PM

लंदन, 23 सितंबर (आईएएनएस)। इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) के क्लब वेस्ट हैम युनाइटेड के मुख्य कोच डेविड मोयेस और दो खिलाड़ी इस्सा डिओप तथा जोश कुलैन कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। क्लब ने एकबयान जारी कर इस बात की जानकारी दी।

क्लब ने एक बयान में कहा, वेस्ट हैम युनाइटेड इस बात की पुष्टि करता है कि डेविड मोयेस, इसा डिओप और जोश कुलेन का कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव आया है। टीम कारावाओ कप के लिए लंदन स्टेडियम में थी तब क्लब की मेडिकल टीम को इस बात की जानकारी दी गई।

क्लब ने बयान में कहा है, इन तीनों में किसी तरह के लक्षण नहीं हैं। हम अब इंग्लैंड और इंग्लिश फ्रीमियर लीग की स्वास्थ गाइडलाइंस और प्रोटोकॉल्स का पालन करेंगे।


23-Sep-2020 4:59 PM

पेरिस, 23 सितंबर (आईएएनएस)। भारत की अंकिता रैना ने फ्रेंच ओपन क्वालीफायर्स के दूसरे दौर में जगह बना ली है। पहले दौर में अंकिता ने जोवाना जोविक को मात दी। अंकिता ने जोवाना को 6-4, 4-6, 6-4 से हराया। यह मैच दो घंटे 47 मिनट तक चला। क्वालीफायर के दूसरे दौर में रैना का सामना जापान की कुरुमी नारा से होगा।

भारत की शीर्ष महिला टेनिस खिलाड़ी अंकिता ने अभी तक फ्रेंच ओपन क्वालीफायर के दूसरो दौर से आगे कदम नहीं रखा है। ग्रैंस स्लैम के मुख्य दौर में पहुंचने के लिए उन्हें दो और जीत की जरूरत है।

इससे पहले प्रजनेश गुणस्वेरन ने तुर्की के सेम इलकेल को मात दे पुरुष एकल वर्ग के क्वालीफायर के दूसरे दौर में जगह बना ली है। प्रजनेश ने यह मैच 6-3, 6-1 से अपने नाम किया। बुधवार को उनका सामना आस्ट्रेलिया के एलेक्सैंड्रा वुकिच से होगा। सुमित नागाल और रामकुमार रामनाथन हालांकि क्वालीफाइंग के पहले दौर के मैच में ही हार कर बाहर हो गए।


23-Sep-2020 4:57 PM

शरजाह, 23 सितंबर (आईएएनएस)। आईपीएल-13 के अपने दूसरे मैच में मात खाने वाली चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने मंगलवार को कहा है कि टीम को नो बॉल फेंकने का खामियाजा भुगतना पड़ा। राजस्थान रॉयल्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 216 रन बनाए। चेन्नई पूरे ओवर खेलने के बाद 200 रन ही बना सकी।

चेन्नई ने पूरे मैच में तीन नो बॉल फेंकी जिसमें से दो नो बाल लुंगी नगिदी ने आखिरी ओवर में फेंकी जिन पर दो छक्के पड़े। धोनी मैच के बाद कहा, उनके स्पिनरों ने ज्यादा कुछ अलग करने की कोशिश नहीं की, लेकिन हमारे स्पिनरों ने शुरुआती ओवरों में ऐसा नहीं किया। किसी एक को कुछ न कहते हुए मेरा कहना है कि हम नियंत्रण कर सकते थे। हम नो बॉल पर नियंत्रण कर सकते थे। अगर हमने नो बॉल नहीं फेंकी होती तो हम 200 रनों का पीछा कर रहे होते और यह एक अच्छा मैच होता।

217 रनों के लक्ष्य के पीछा करने उतरी चेन्नई के लिए किसी का बल्ला चला तो वो था फाफ डु प्लेसिस का। फाफ ने 37 गेंदों पर सात छक्के और एक चौके की मदद से 72 रनों की पारी खेली। धोनी ने फाफ की तारीफ करते हुए कहा, फाफ ने शानदार बल्लेबाजी की। अहम चीज स्थिति के साथ तालमेल बिठाना है। जब स्पिनर छोटी गेंद कर रहे थे जरूरी था कि मिड ऑन के ऊपर से मारा जाए न कि स्कावयर लेग के क्योंकि गेंद नीची रह रही थी। मुझे लगता है कि फाफा ने यही किया। धोनी ने कहा कि राजस्थान के गेंदबाजों को भी श्रेय देना चाहिए। उन्होंने कहा, आपको उनके गेंदबाजों को श्रेय देना होगा। काफी सारी ओस थी। वो जानते थे कि किस लैंग्थ पर गेंदबाजी करनी है।

लगे 33 छक्के

आईपीएल-13 में चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच मंगलवार को खेले गए मैच में कुल 33 छक्के लगे। इस मैच को स्टीव स्मिथ की कप्तानी वाली टीम राजस्थान जीतने में सफल रही। इतने ही छक्के 2018 में चेन्नई और रॉयल चैंलेंजर्स बेंगलोर के मैच में लगे थे।

शरजाह क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए मैच में छक्के लगाने के मामले में राजस्थान के संजू सैमसन सबसे आगे रहे। उन्होंने नौ छक्के मारे। उनके पास चेन्नई के फाफ डु प्लेसिस रहे जिन्होंने सात छक्के मारे।

राजस्थान के स्टीव स्मिथ और जोफ्रा आर्चर ने चार-चार छक्के लगाए। चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने तीन छक्के मारे जबकि उन्हीं की टीम के सैम कुरैन ने दो छक्के मारे।

 

 

 

 


23-Sep-2020 3:55 PM

बेंगलुरू, 23 सितम्बर (आईएएनएस)| भारतीय पुरुष हॉकी टीम के फॉरवर्ड ललित उपाध्याय ने एफआईएच प्रो लीग में जर्मनी के खिलाफ बेल्जियम टीम के शानदार प्रदर्शन की तारीफ की है। बेल्जियम ने जर्मनी से यह मुकाबला 6-1 से जीत लिया। कोविड-19 महामारी के कारण करीब छह महीने तक स्थगित रहने के बाद मंगलवार को दोबारा से लीग की शुरुआत हुई, जहां बेल्जियम ने जर्मनी को 6-1 से करारी मात दी।

भारतीय टीम इस साल की शुरुआत में जब बेल्जियम से भिड़ी थी तो उसने पहले मैच में बेल्जियम को 2-1 से हराया था, जबकि दूसरे मैच में उसे 2-3 से हार का सामना करना पड़ा था।

साई सेंटर में जारी अभ्यास शिविर में भाग ले रहे ललित ने कहा, "हम सभी लोग एफआईएच हॉकी प्रो लीग मैचों की शुरुआत के लिए उत्साहित थे। हालांकि हम एक कड़े मुकाबले की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन यह काफी एकतरफा था। जर्मन टीम ने अपने प्रतिद्वंद्वी के हमले के खिलाफ संघर्ष किया और सर्कल के अंदर बेल्जियम की सफलता बहुत प्रभावशाली थी।"

अनुभवी फॉरवर्ड ने कहा कि भारतीय टीम अभी फिलहाल अपने पहले की फॉर्म को हासिल करने की दिशा में काम कर रही है और मौजूदा शिविर में फिटनेस सर्वोच्च प्राथमिकता रही है।

उन्होंने कहा, " हॉकी इंडिया द्वारा उठाए गए शुरुआती उपायों की वजह से हम गतिविधियों को फिर से शुरू कर पाए, जिन्होंने अप्रैल के शुरू में हॉकी एसओपी सुनिश्चित किया था। हम सभी को दिशा-निर्देशों के बारे में जानकारी दी गई थी कि राष्ट्रीय शिविर शुरू होने के बाद एक बार फिर से गतिविधियों को फिर से शुरू किया जाएगा।"

ललित ने कहा, "अब हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता उसी फिटनेस स्तर को प्राप्त करना है जो हम इस वर्ष की शुरूआत में थे। ऐसा ही कुछ जर्मनी के साथ हुआ जोकि कल संघर्ष कर रहा था। इसलिए जब हम प्रतिस्पर्धी हॉकी में वापस आते हैं तो हमारे साथ ऐसा नहीं होना चाहिए।"

भारतीय फॉरवर्ड ने आगे कहा, "हम जानते हैं कि हॉकी इंडिया और कोचिंग स्टाफ ने हमारे लिए प्रतिस्पर्धी हॉकी को फिर से शुरू करने के लिए एक योजना बनाई है। हमें उम्मीद है कि हम उससे पहले अच्छे फॉर्म में आ सकते हैं। राष्ट्रीय शिविर में हमारी तेजी अक्टूबर के बाद से बढ़ेगी और हम सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं और हम किसी भी तरह की परिस्थितयों के लिए तैयार हैं।"


23-Sep-2020 3:54 PM

शरजाह, 23 सितंबर (आईएएनएस)| भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर को लगता है कि चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ खेले गए मैच में ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी करनी चाहिए थी। राजस्थान ने मंगलवार को खेले गए मैच में चेन्नई को 16 रनों से हरा दिया।

राजस्थान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 216 रन बनाए थे। चेन्नई 20 ओवरों में 200 रनों पर ही ढेर हो गई थी।

ईएसपीएनक्रिकइंफो ने गंभीर के हवाले से लिखा, "ईमानदारी से कहूं तो मैं हैरान था। धोनी नंबर-7 पर? और गायकवाड़ को उनसे पहले भेजा जा रहा है, सैम कुरैन को उनसे पहले भेजा जा रहा है। मुझे यह समझ में नहीं आया। आपको तो आगे से टीम का नेतृत्व करना चाहिए। यह वो नहीं है जिसे आप कह सकें की वह आगे रहकर टीम की कप्तानी कर रहे हैं। 217 रनों का पीछा करते हुए नंबर-7 पर खेलना? मैच खत्म हो गया था। फाफ डु प्लेसिस शायद अकले लड़ रहे थे।"

डु प्लेसिस और धोनी ने अंत में कोशिश की, लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके।

गंभीर ने कहा, "हां, आप धोनी द्वारा आखिरी ओवर में लगाए गए तीन छक्कों की बात कर सकते हैं, लेकिन ईमानदारी से कहूं तो इसका कोई मतलब नहीं था। वह सिर्फ उनके रन थे। अगर कोई और कप्तान यह करता, नंबर-7 पर आकर बल्लेबाजी करता तो उनकी काफी आलोचना होती।"

गंभीर ने कहा, "वो धोनी हैं। शायद इसलिए लोग उनके बारे में बात नहीं कर रहे हैं। जब आपके पास सुरेश रैना नहीं हैं तो आप सैम कुरैन को बेहतर बताना चाहते हैं। आप यह बताना चाहता हैं, मुरली विजय, ऋतुराज गायकवाड़, कुरैन, केदार जाधव, फाफ डु प्लेसिस, आपसे बेहतर हैं।"


23-Sep-2020 3:54 PM

दुबई, 23 सितंबर (आईएएनएस/ग्लोफैंस)। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में शानदार शुरुआत करने वाले देवदत्त पडिकल भारतीय क्रिकेट में न सिर्फ चर्चा का विषय बन गए हैं बल्कि विदेशों के कई पूर्व और मौजूदा खिलाड़ियों ने 20 साल के इस युवा बल्लेबाज की सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ खेली गई पारी की जमकर प्रशंसा की है। अपने पहले आईपीएल मैच में सोमवार को पडिकल ने आत्मविश्वास से भरी पारी खेलते हुए 42 गेंदों पर 56 रन बनाए थे और बेंगलोर को 10 रनों से जीत दिलाने में मदद की थी।

यूएई के पूर्व कप्तान मोहम्मद तौकीर ने पडिकल को बड़ा खिलाड़ी बताया है। तौकीर ने कहा है कि पडिकल, शिवम मावी, शुभमन गिल क्रिकेट को प्यार करने वाले भारत के उज्जवल भविष्य हैं।

2015 विश्व कप में यूएई की कप्तानी करने वाले तौकीर ने कहा, "यह भारतीय क्रिकेट के लिए अच्छी बात है और पहले भी भारत के पास सफल कहानियां रही हैं। मावी, गिल जैसे खिलाडियों ने घरेलू और अंडर-19 क्रिकेट में अच्छा किया है।"

48 साल के तौकीर ने कहा, "इस संस्करण में (आईपीएल)। बिश्नोई (रवि), पडिकल और कई युवा आए हैं। युवाओं की बात है तो भारत का भविष्य सुनहरा है।"

तौकीर इस बात से निराश हैं कि लीग का 13वां संस्करण दर्शकविहीन मैदानों में खेला जा रहा है। उनको हालांकि लगता है कि यूएई में इतने बड़े टूर्नार्मेंट की मेजबानी करना सफलता की बात है और लंबे समय से अपने स्टार खिलाड़ियों को न देख पाने वाले उनके फैंस के पास अपने खिलाड़ियों को टीवी पर देखना का मौका तो है।

तौकीर ने कहा, "इस समय जारी महामारी के कारण लीग का आयोजन भारत में नहीं हो सका था, जहां खिलाड़ी कम से कम 15-20 हजार फैंस से भरे हुए मैदानों में खेलने के आदि हैं।"

उन्होंने कहा, "लेकिन यूएई में, यह दर्शकविहीन मैदानों में खेल रहे हैं। यह देखना दुर्भाग्यपूर्ण है कि इतनी बड़ी लीग बिना फैंस के खेली जा रही है। यह अच्छा नहीं है, अच्छी स्थिति नहीं है लेकिन विश्व स्तर के इस टूनार्मेंट का यूएई में होना बड़ी सफलता है और फैंस कम से कम घरों में अपने स्टार खिलाड़ियों को लाइव तो देख रहे हैं।"

48 साल के तौकीर ने अपने देश के लिए सिर्फ 11 वनडे खेले हैं लेकिन उनके पास कुछ अच्छी यादें हैं जिनमें से एक भारत के पूर्व बल्लेबाज वी.वी.एस. लक्ष्मण का विकेट लेना।

अपने पुराने दिनों की याद करते हुए तौकीर ने कहा, "सचिन (तेंदुलकर), सौरव (गांगुली), राहुल (द्रविड़) और बाकी लोगों के साथ खेलने का अनुभव लाजवाब था। मुझे 2004 में डाम्बुला (श्रीलंका) में भारत के खिलाफ खेला गया मैच साफ याद है। मैंने भारत के खिलाफ अर्धशतक भी लगाया था।"

उन्होंने कहा, "वो टीम स्टार खिलाड़ियों से भरी हुई थी। भारत के टॉप खिलाड़ियों के सामने परफॉर्म करना मेरे लिए अच्छा एहसास था जिसे मैं अपने जीवन में हमेशा याद रखूंगा।"

अपने छोटे से वनडे करियर में तौकीर ने नौ विकेट लिए हैं जिसमें से एक वीवीएस लक्ष्मण का है और यह उनकी यादों में सर्वश्रेष्ठ विकेट है।

यूएई के पूर्व कप्तान ने अपनी बात खत्म करते हुए कहा, "मैंने 2004 में लक्ष्मण का विकेट लिया था। इसके बाद पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कुछ और विकेट लिए थे, लेकिन लक्ष्मण का विकेट मेरा सबसे बड़ा विकेट है।"

तौकीर ने 2015 में आस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड में खेले गए विश्व कप में टीम की कप्तानी की थी। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय पदार्पण 2004 में किया था और 11 साल तक देश का प्रतिनिधित्व किया।


23-Sep-2020 2:59 PM

नई दिल्ली, 23 सितंबर (आईएएनएस)| विश्व की नंबर-7 महिला टेनिस खिलाड़ी बियांका एंड्रस्कू ने ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपन से नाम वापस ले लिया है। वह बाकी के सत्र में भी आराम करेंगी और अपने स्वास्थ तथा ट्रेनिंग पर ध्यान देंगी। कनाडा की एंड्रस्कू ने मंगलवार को एक बयान जारी कर बताया, "मैंने इस बार क्ले कोर्ट सेशन में न खेलने का मुश्किल फैसला किया है। मैं साथ ही बाकी के बचे सत्र में भी आराम करूंगी और अपने स्वास्थ्य और ट्रेनिंग पर ध्यान दूंगी।"

एंड्रस्कू इस बार अमेरिका ओपन में अपना खिताब बचाने भी नहीं उतरी थीं। उन्होंने पिछले साल शिनझेन में खेले गए डब्ल्यूटए फाइनल्स में खेला था और तब से वह कोर्ट पर नहीं उतरी हैं। इस साल उन्होंने जनवरी में आस्ट्रेलियन ओपन में भी हिस्सा नहीं लिया था।

उन्होंने कहा, "इस फैसले पर पहुंचना काफी मुश्किल था। 2021 में मेरे पास करने के लिए काफी कुछ है। मैं इस समय का उपयोग अपने खेल पर ध्यान देने में लगाना चाहती हूं ताकि मैं मजबूती से वापसी कर सकूं।"

एंड्रस्कू से पहले आस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी और हाल ही में अमेरिका ओपन का खिताब जीतने वाली जापान की नाओमी ओसाका ने भी फ्रेंच ओपन न खेलने का फैसला किया है।


23-Sep-2020 12:07 PM

पेरिस, 23 सितंबर (आईएएनएस)| भारत की अंकिता रैना ने फ्रेंच ओपन क्वालीफायर्स के दूसरे दौर में जगह बना ली है। पहले दौर में अंकिता ने जोवाना जोविक को मात दी। अंकिता ने जोवाना को 6-4, 4-6, 6-4 से हराया। यह मैच दो घंटे 47 मिनट तक चला। क्वालीफायर के दूसरे दौर में रैना का सामना जापान की कुरुमी नारा से होगा। 

भारत की शीर्ष महिला टेनिस खिलाड़ी अंकिता ने अभी तक फ्रेंच ओपन क्वालीफायर के दूसरो दौर से आगे कदम नहीं रखा है। ग्रैंस स्लैम के मुख्य दौर में पहुंचने के लिए उन्हें दो और जीत की जरूरत है। 

इससे पहले प्रजनेश गुणस्वेरन ने तुर्की के सेम इलकेल को मात दे पुरुष एकल वर्ग के क्वालीफायर के दूसरे दौर में जगह बना ली है। प्रजनेश ने यह मैच 6-3, 6-1 से अपने नाम किया। बुधवार को उनका सामना आस्ट्रेलिया के एलेक्सैंड्रा वुकिच से होगा।

सुमित नागाल और रामकुमार रामनाथन हालांकि क्वालीफाइंग के पहले दौर के मैच में ही हार कर बाहर हो गए। 


22-Sep-2020 6:22 PM

बर्लिन, 22 सितंबर (आईएएनएस)| जर्मनी की एक छोटे स्तर की लीग के फुटबाल क्लब को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का कारण 0-37 के विशाल अंतर से हार का सामना करना पड़ा। क्लब ने मैदान पर सिर्फ अपने सात खिलाड़ी ही उतारे ताकि वे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते रहें और कोरोनावायरस संक्रमण को रोक सकें।

ईएसपीएन की रिपोर्ट के मुताबिक जर्मनी की सबसे कम स्तर वाली लीग क्रेइस्क्लासे में 13 सितंबर को एसजी रिपोडोर्फ/मोल्जेन 2 का सामना एसवी होलडेनस्टेड्ट-2 से था, जहां उसे 0-37 से हार मिली। होल्डेनस्टेड्ट ने लगभग हर दूसरे मिनट में गोल किया।

दरअसल मैच शुरू होने से पहले रिपडोर्फ की टीम को पता चला था कि होलडेनस्टेड्ट की टीम का एक खिलाड़ी कोविड-19 पॉजिटिव निकला था। बाद में हालांकि होल्डेनस्टेड्ट की पूरी टीम का टेस्ट निगेटिव आया था लेकिन रिपडोर्फ के खिलाड़ी सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे थे और उन्होंने मैच स्थगित करने को भी कहा था।

संक्रमण के डर से कई खिलाड़ी मैदान पर उतरना नहीं चाहते थे इसलिए रिपडोर्फ के सिर्फ सात खिलाड़ी ही मैदान पर उतरे।

रिपोडोर्फ के को-चेयरमैन पैट्रिक रिस्टो ने ईएसएपीएन से कहा, "हमने मैच स्थगित करने को कहा था, लेकिन होल्डेनस्टेड्ट खेलना चाहती थी। जब मैच शुरू हुआ तो हमारे खिलाड़ी ने गेंद को पास किया और हमारी टीम साइडालाइन पर खड़ी हो गई। होल्डेनस्टेड्ट ने गोल कर दिया, लेकिन रेफरी ने हमारे कप्तान को खेल भावना के विपरित व्यवहार करने का दोषी पाया।"

उन्होंने कहा कि टीम किसी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहती थी इसलिए खिलाड़ी मैदान पर लौटे लेकिन सिर्फ खड़े रहे।

--आईएएनएस


22-Sep-2020 5:55 PM

दुबई, 22 सितंबर। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली ने युजवेंद्र चहल की जमकर तारीफ की है। सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ आईपीएल में सोमवार को खेले गए मैच में जीत का श्रेय इस लेग स्पिनर को दिया। सनराइजर्स एक समय दो विकेट पर 121 रन बनाकर अच्छी स्थिति में दिख रहा था, लेकिन चहल ने यहां पर दो विकेट लिये और इसके बाद हैदराबाद की टीम 164 रनों के लक्ष्य के सामने ताश के पत्तों की तरह बिखरकर 153 रन पर आउट हो गई।

कोहली ने मैच के बाद, ‘ईमानदारी से कहूं तो यह शानदार मैच था। पिछले साल परिणाम हमारे अनुकूल नहीं रहे थे। हमने संयम बनाए रखा और युजी (चहल) ने मैच का पासा पूरी तरह से हमारे पक्ष में कर दिया। उन्होंने दिखाया कि अगर आपके पास कौशल है तो आप विकेट ले सकते हो। उन्होंने मैच का पासा पलटा।’

कोहली ने आईपीएल में अपना पहला मैच खेल रहे देवदत्त पडिक्कल की भी प्रशंसा की जिन्होंने 56 रन बनाए। उन्होंने कहा, ‘हमने वास्तव में अच्छी शुरुआत की। देवदत्त ने पदार्पणपर बहुत अच्छी पारी खेली। (एरॉन) फिंच ने भी अच्छा खेल दिखाया। लेकिन जब आप दो गेंदों पर दो विकेट गंवा देते हो तो तब पारी संवारनी पड़ती है।’

कोहली ने कहा, ‘वाशिंगटन सुंदर (एक ओवर) ने अधिक गेंदबाजी नहीं की, लेकिन कामचलाऊ गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया जो कि अच्छा संकेत है।’ सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर को अपने जल्दी आउट होने का दुख था। जॉनी बेयरस्टॉ का शॉट गेंदबाज उमेश यादव के हाथ से लगकर नॉन स्ट्राइकर छोर पर लग गया था और तब वॉर्नर क्रीज से बाहर थे।

विराट-डिविलियर्स की सलाह ने बदला मैच-चहल

मैच के बाद कहा कि मैच पलटने वाले 16वें ओवर में कैप्टन विराट कोहली और एबबी डिविलियर्स की सलाह ने यह मैच पलट दिया। जब मैंने अपना पहला ओवर फेंका तो मुझे अहसास हो गया कि मुझे स्टंप टू स्टंप बॉल करनी है और खुद भरोसा रखना है। मैच में वे शानदार बैटिंग कर रहे थे और मैं उनकी पहुंच से बाहर ललचाने वाली गेंदें फेंक रहा था, जिससे दबाव बनाने में मदद मिली।

उन्होंने कहा, जब मैं पांडे को बॉल कर रहा था तो फील्डिंग के साथ मैं उन्हें ऑफ स्टंप से बाहर खिला रहा था, लेकिन जल्दी ही मैंने तय कर लिया कि स्टंप्स खिलाना सही रहेगा क्योंकि लेग साइड पर उनके लिए मारना आसान नहीं होगा।

चहल ने बताया, बेयरस्टो की बारी में मैंने गेंद को फुल लेंथ पर लेग स्टंप के बाहर रखा, जिससे लेग साइज पर टारगेट करने में उन्हें मुश्किल हो रही थी क्योंकि गेंद स्पिन होकर उनसे दूर जा रहा था। जब विजय बैटिंग पर आए तो विराट और एबी (डिविलियर्स) ने मुझे बताया कि गुगली फेंकना और इससे कामयाबी मिल गई। मैंने अपने हाथ पर पहले ही कुछ मिट्टी लगा ली थी ताकि ओस के कारण गेंद फिसले नहीं। (aajtak.in)


22-Sep-2020 5:10 PM

ब्रिस्बेन, 22 सितंबर (आईएएनएस)। ब्रिस्बेन हीट ने बिग बैश लीग (बीबीएल) के आगामी सीजन के लिए जैक वाइल्डरमथ के साथ करार किया है। जैक ने 2016-17 में बीबीएल-6 में बिस्ब्रेन के साथ पदार्पण किया था। इसके बाद वह मेलबर्न रेनेगेड्स चले गए थे।

ब्रिस्बेन के कोच डैरेन लैहमन ने कहा कि वह वाइल्डरमथ के टीम में आने को लेकर काफी उत्साहित हैं। लैहमन ने कहा, मैं जानता हूं कि जब वह जिम्बाब्वे और इंडिया-ए के दौर पर पर थे तब उन्होंने कुछ अच्छी पारियां खेली थीं और उनको लेकर चर्चा थी। उन्होंने कहा, जैक में बल्ले और गेंद की अच्छी प्रतिभा है। हमने हीट में उनकी वापसी को लेकर काफी अच्छी चीजें देखी हैं। बीबीएल का 10वां सीजन तीन दिसंबर से शुरू हो रहा है।

 


22-Sep-2020 5:08 PM

रोम, 22 सितंबर (आईएएनएस)। ज्लाटन इब्राहिमोविच ने एक बार फिर अपनी उपयोगिता साबित करते हुए इटली सेरी-ए के नए सीजन के पहले मैच में दो गोल कर एसी मिलान को बोलोग्ना के खिलाफ जीत दिलाई। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, सोमवार को खेले गए मैच में एसी मिलान के कोच स्टेफानो पियोली ने नए खिलाड़ी सैंड्रो तोनाली को बेंच पर बैठाया और इब्राहिमोविच को चुनकर उन्हें आक्रमण की जिम्मेदारी सौंपी।

11वें मिनट में ही इस खिलाड़ी ने गोल कर दिया था लेकिन उनका शॉट बाहर चला गया। 38 साल के इस खिलाड़ी ने 34वें मिनट में पहला गोल किया। थियो हनार्डेज ने इब्राहिमोविच को क्रॉस पास दिया जिस पर स्वीडन के इस खिलाड़ी ने गोल कर दिया।

ब्रेक के चार मिनट बाद एसी मिलान ने अपनी बढ़त को दोगुना कर दिया। इस्माइल बेनासेर को रिकाडरे ओरसोलिनी पर फाउल करने के कारण एसी मिलान को पेनाल्टी मिली और इब्राहिमोविच ने इस मौके को भुना लिया। 63वें मिनट में इब्राहिमोविच के पास हैट्रिक पूरी करने का मौका था लेकिन वह गेंद को बार से ऊपर मार बैठे।


22-Sep-2020 4:17 PM

रोम, 22 सितम्बर (आईएएनएस)| सार्बिया के टेनिस स्टार नोवाक जोकोविच ने एटीपी रैंकिंग में नंबर-1 खिलाड़ी के रूप में अपना 287वां सप्ताह शुरू कर दिया है। जोकोविच ने इसके साथ ही पीट सैम्प्रास के 286 सप्ताह तक नंबर-1 बने रहने के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया है। जोकोविच अब सर्वाधिक सप्ताह तक नंबर एक स्थान पर रहने वाले खिलाड़ियों की सूची में दूसरे नंबर पर पहुंच गए हैं।

सैम्प्रास 12 अप्रैल 1993 को करियर में पहली बार नंबर वन खिलाड़ी बने थे। वह अपने करियर में कुल 11 बार टॉप पर रहे थे। इसमें सबसे लंबे समय तक वह 15 अप्रैल 1996 से 29 मार्च 1998 के दौरान 102 सप्ताह तक टॉप स्थान पर रहे थे।

जोकोविच ने सोमवार को ही इटेलियन ओपन का पुरुष एकल खिताब जीता है। उन्होंने अर्जेटीना के डिएगो श्वाट्र्जमैन को सीधे सेटों में 7-5, 6-3 से मात देकर अपने करियर का रिकॉर्ड 36वां मास्टर्स 1000 खिताब अपने नाम किया है, जोकि स्पेन के राफेल नडाल से एक ज्यादा है।

जोकोविच ने एटीपी टूर वेबसाइट से कहा, "पीट बचपन से ही मेरे हीरो रहे हैं और इसलिए उनके रिकॉर्ड से आगे निकलना मेरे लिए बेहद खास है।"

17 बार के ग्रैंड स्लैम चैंपियन जोकोविच करियर में पांचवीं बार शीर्ष स्थान पर पहुंचे हैं, जोकि उन्होंने तीन फरवरी 2020 को शुरू किया था। अब वह स्विटजरलैंड के रोजर फेडरर के रिकॉर्ड 310 सप्ताह तक नंबर-1 रहने के रिकॉर्ड को तोड़ने से मात्र 24 सप्ताह दूर हैं।


22-Sep-2020 4:15 PM

दुबई, 22 सितम्बर (आईएएनएस)| भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव जय शाह ने मंगलवार को कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में शनिवार को खेले गए उद्घाटन मुकाबले को करीब 20 करोड़ लोगों ने देखा। शाह के अनुसार, यह किसी भी देश में किसी भी खेल के उद्घाटन मुकाबले को देखने वालों के हिसाब से सबसे ज्यादा संख्या है।

आईपीएल-13 का उद्घाटन मुकाबला शनिवार को अबु धाबी के शेख जायेद स्टेडियम में मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला गया, जिसमें महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स ने चार बार की चैंपियन मुंबइ इंडियंस को पांच विकेट से हराया था।

जय शाह ने ट्विटर पर बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली को टैग करते हुए लिखा, "आईपीएल के उद्घाटन मैच ने एक नया रिकॉर्ड कायम किया है। बीएआरसी के अनुसार, इस मैच को 20 करोड़ लोगों ने देखा। यह किसी भी देश में किसी भी खेल के उद्घाटन मुकाबले को देखने वालों के हिसाब से सबसे ज्यादा संख्या है।"

कोविड-19 महामारी के कारण आईपीएल 2020 का आयोजन यूएई के तीन स्थानों पर खेला जा रहा है। इसका फाइनल 10 नवंबर को होगा, जिसके आयोजन स्थल की घोषणा बाद में की जाएगी।


22-Sep-2020 4:02 PM

दुबई, 22 सितंबर (आईएएनएस)| किंग्स इलेवन पंजाब के सहमालिक नेस वाडिया ने बीसीसीआई से अपील की है कि वह आईपीएल में अंपायरिंग को बेहतर बनाएं और तकनीक का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करें। वाडिया का यह बयान रविवार को दिल्ली कैपिटल्स और पंजाब के बीच हुए मैच में अंपायर के एक गलत फैसले के बाद आया है जिसके कारण पंजाब को मैच गंवाना पड़ा।

लक्ष्य की पीछा कर रही पंजाब की पारी के 19वें ओवर के दौरान मयंक अग्रवाल और क्रिस जोर्डन ने रन लिया लेकिन अंपायर ने एक रन शॉर्ट रन करार दे दिया। रिप्ले में हालांकि बताया गया था कि जॉर्डन का बल्ला क्रीज को पार कर गया था।

वाडिया ने सोमवार को एक बयान में कहा, "मैं बीसीसीआई से अपील करता हूं कि वह अच्छी अंपायरिंग सुनिश्चित करे और तकनीक का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करे ताकि जो लीग सबसे अच्छी मानी जाती है उसमें ईमानदारी और पारदर्शिता आ सके।"

पंजाब टीम का मानना है कि उस शर्ट रन से उन्हें मैच गंवाना पड़ा। मैच 20-20 ओवरों में समान स्कोर पर रहा था और फिर सुपर ओवर में मैच गया था जहां दिल्ली ने मैच जीता था।

वाडिया ने लिखा, "मुझे लगता है कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि किंग्स इलेवन पंजाब को खराब अंपायरिंग के कारण मैच गंवाना पड़ा। मैं उम्मीद करता हूं कि बीसीसीआई एक ऐसा सिस्टम और प्रक्रिया लागू करे कि जो पंजाब टीम ने झेला है वो किसी और टीम के साथ न हो।"

उन्होंने कहा, "अगर तकनीक है तो इसे खेल को साफ और पारदर्शी बनाए जाने के लिए उपयोग में लिया जाना चाहिए।"

इस फैसले पर पंजाब की सह-मालिक प्रीति जिंटा भी ट्विटर के माध्यम से अपनी नाराजगी जता चुकी हैं।


22-Sep-2020 3:39 PM

अबु धाबी, 22 सितबंर (आईएएनएस/ग्लोफैंस)। अपने पहले मैच में चेन्नई सपुर किंग्स के खिलाफ पांच विकेट से मात खाने वाली मौजूदा विजेता मुंबई इंडियंस आईपीएल के 13वें सीजन के अपने दूसरे मैच में बुधवार को कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ शेख जायेद स्टेडियम में उतरेगी।

दिनेश कार्तिक की कप्तानी वाली केकेआर का यह इस सीजन का पहला मैच है।

मुंबई को चेन्नई से हार मिली थी। सलामी बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक ने टीम को अच्छी शुरुआत दी थी लेकिन सौरव तिवारी को छोड़कर मुंबई का मध्य क्रम अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में तब्दील नहीं कर पाया था। तिवारी ने 31 गेंदों पर 42 रनों की पारी खेली थी।

परिणामस्वरूप मुंबई की टीम 20 ओवरों में नौ विकेट खोकर 162 रन ही बना सकी थी। इसके बाद उसके गेंदबाज चेन्नई के बल्लेबाजों से इन रनों का बचाव नहीं कर पाए थे। फाफ डु प्लेसिस और अंबाती रायडू ने मिलकर टीम की जीत की कहानी गढ़ी थी।

मध्य क्रम में हार्दिक पांड्या, केरन पोलार्ड जैसे आक्रामक बल्लेबाजों के होने के बाद भी मुबंई का मध्य क्रम आसानी से ढेर हो गया था। टीम प्रबंधन निश्चित तौर पर चाहेगा कि केकेआर के खिलाफ टीम इस गलती को सुधारे।

मुंबई के गेंदबाजों ने शुरुआत में अच्छा किया था और छह रनों पर ही चेन्नई के दो विकेट गिरा दिए थे। बल्लेबाजों की तरह गेंदबाज भी अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाए थे। स्लोग ओवरों में उन्हें रन रेट को कम करने की जरूरत थी लेकिन यहां उन्होंने आसानी से रन लुटाए। इस बार अगर गेंदबाज सफल होते हैं तो विपक्षी टीम पर दबाव होगा।

एक बार फिर कप्तान रोहित शर्मा और डी कॉक पारी की शुरुआत करते दिखाई देंगे। जहां तक लगता है, टीम प्रबंधन प्लेइंग-11 में बदलाव नहीं करेगा।

मुंबई के गेंदबाजों ने ज्यादा रन खर्च तो नहीं किए थे लेकिन जसप्रीत बुमराह एक ऐसे गेंदबाज थे जिन्हें मार पड़ी थी। अगर मुंबई को वापसी करनी है बुमराह को अच्छा करना होगा।

कोलकाता को देखा जाए तो आखिरी बार जब यूएई में आईपीएल हुआ था (भारत के साथ सह-मेजबानी) तब कोलकाता ने खिताब अपने नाम किया था। उसने पंजाब को आखिरी ओवर में मात दे ट्रॉफी उठाई थी।

इस बार कोलकाता ने अपने अनुभवी खिलाड़ियों क्रिस लिन, रोबिन उथप्पा, पीयूष चावला को रिलीज कर दिया है और पैट कमिंस, इयोन मोर्गन, टॉम बेंटन को अपनी टीम में लाए हैं।

कोलकाता के बल्लेबाजी आक्रमण में नीतीश राणा और शुभमन गिल जैसे प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ी हैं। अपनी बल्लेबाजी को मजबूत करने के लिए फ्रेंचाइजी ने टॉम बेंटन को भी टीम में शामिल किया है। बेंटन क्या कर सकते हैं यह उन्होंने बिग बैश लीग में बताया है।

वहीं आंद्रे रसेल के रहते केकेआर का मध्य क्रम खतरनाक लग रहा है। इंग्लैंड के मोर्गन के आने से इसे मजूबती मिली है।

सुनील नरेन, टॉम बेंटन या गिल के साथ पारी की शुरुआत कर सकते हैं। यह तीनों टीम को तेज शुरुआत देने में समर्थ हैं।

पिछले संस्करणों में देखा गया है कि केकेआर की सफलता काफी हद तक स्पिनरों पर निर्भर करती है और टीम के स्पिन अटैक में नरेन, कुलदीप यादव, वरुण चक्रव्रर्ती के नाम हैं।

वरुण ने अभी तक आईपीएल में एक भी मैच नहीं खेला है। इसलिए स्पिन की ज्यादा जिम्मेदारी कुलदीप और नरेन पर रहेगी।

क्रिस ग्रीन के रूप में कोलकाता के पास एक और विकल्प है, लेकिन कम अनुभव के कारण उन्हें शायद ही मौका मिले।

2019 संस्करण खराब रहने के बाद कोलकाता ने अपने तेज गेंदबाजी आक्रमण को मजबूत किया है। इस बार टीम ने पैट कमिंस को शामिल किया है। लॉकी फर्ग्यूसन, कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी उनके पास तेज गेंदबाजी में विकल्प हैं। कोलकाता इस बार अमेरिका से अली खान को लेकर आई है। उन्होंने कैरिबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) में अच्छा किया था।

कागजों पर देखा जाए तो मुंबई की टीम कार्तिक की टीम पर हावी दिख रही है। दोनों टीमों ने अभी तक कुल 25 मैच खेले हैं जिसमें से मुंबई ने 19 मैच जीते हैं।

परिस्थिति और बदले हुए मैदान में कोलकाता कुछ भी करने में समर्थ है।

टीमें (सम्भावित) :

मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), शेरफाने रदरफोर्ड, सूर्यकुमार यादव, अनमोलप्रित सिंह, क्रिस लिन, सौरव तिवारी, ईशान किशन, क्विंटन डी कॉक, आदित्य तारे, हार्दिक पांड्या, कीरन पोलार्ड, क्रूणाल पांड्या, अनुकूल रॉय, धवल कुलकर्णी, जसप्रीत बुमराह, राहुल चहर, ट्रेंट बोल्ट, मोहसीन खान, प्रिंस बलवंत, दिग्विजय देशमुख, जयंत यादव, नाथन कल्टर नाइल, जेम्स पैटिनसन।

केकेआर : दिनेश कार्तिक (कप्तान), आंदे्र रसेल, सुनील नरेन, कुलदीप यादव, शुभमन गिल, लॉकी फर्ग्यूसन, नीतीश राणा, रिंकू सिंह, प्रसिद्ध कृष्णा, संदीप वॉरियर, अली खान, कमलेश नागरकोटी, शिवम मावी, सिद्देश लाड, पैट कमिंस, इयोन मोर्गन, टॉम बेंटन, राहुल त्रिपाठी, वरुण चक्रवर्ती, एम. सिद्धार्थ, निखिल नाइक, क्रिस ग्रीन।