छत्तीसगढ़ » नारायणपुर

Date : 28-Mar-2020

कलेक्टर ने फल एवं सब्जी के परिवहन को दी अनुमति, मजदूरों के लिए सावधानियों की सभी ज़रूरी व्यवस्था करनी होगी खेत मालिकों को

 नारायणपुर, 28 मार्च। कलेक्टर पी.एस. एल्मा ने सब्जी, फल और अन्य उद्यानिकी फसलों के उत्पादन को जिले के भीतर एवं बाहर परिवहन करने की अनुमति दी है।
 इस संबंध में जारी आदेश में कहा गया है कि वर्तमान में कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण के बचाव के लिए जिले में धारा 144 और लॉकडाउन किया गया है। इस स्थिति में सब्जी फार्म में सब्जी व फल तोडऩे, पैकेजिंग करने एवं सब्जी फार्म में कार्य करने के लिए मजदूरों के आवागमन तथा किसानों द्वारा नियत व निर्धारित स्थान में लाने और कोल्ड स्टोरेज तक परिवहन में प्रशासन द्वारा रोका जा रहा है। जिससे फल और सब्जी का अभाव हो सकता है। इससे उत्पादों में अनावश्यक मूल्य बढऩे का संकट उत्पन्न हो सकता है। साथ ही सब्जियों व फल का निष्पादन नहीं किए जाने से उसके सडऩे की स्थिति हो सकती है। जिससे अन्य समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती है।

 कलेक्टर श्री एल्मा ने इन परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए निर्देश दिया है कि जिले के किसान अपने खेतों और परिक्षेत्रों में मजदूरी एवं दैनिक दर पर काम करने वाले श्रमिकों से कार्य ले सकते हैं। आदेश में यह भी कहा गया है कि कार्य के दौरान मजदूरों के लिए सभी सावधानी की ज़रूरी व्यवस्था जैसे मास्क एवं हाथ धोने के लिए सेनेटाइजर और साबुन की व्यवस्था उद्यान रोपणियो व परिक्षेत्रों के मालिकों को करनी होगी। यह भी सुनिश्चित करनी होगी कि सभी मजदूर कार्य के समय कम से कम एक मीटर की परस्पर दूरी बनाए रखें।
 


Date : 24-Mar-2020

कलेक्टर की अध्यक्षता में कोर कमेटी सदस्यों की बैठक, एहतियातन कुछ दुकानों के समय निर्धारित 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नारायणपुर, 24 मार्च।
कलेक्टर पी.एस. एल्मा की अध्यक्षता में आज कलेक्टोरेट में कोराना रोकथाम एवं नियंत्रण की जिला स्तरीय कोर कमेटी के सदस्यों की बैठक हुई। कलेक्टर ने जिले में दूसरे राज्यों विभिन्न शहरों से लौटे श्रमिकों, कार्मकारों को चिन्हांकित कर उनके घरों पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग का आईसोलेशन ( विशेष निगरानी) में कोविड-19 चस्पा करने कहा। इसके साथ ही ऐसे व्यक्तियों के स्वस्थ्य पर निश्चित समय तक विशेष निगरानी  कहा। 

उन्होंने स्वास्थ्य सुरक्षा की दृष्टि से यथा संभव सफाई कर्मियों एवं जरूरी कामों में लगे श्रमिकों का दिन में दो बार टेम्परेचर लेने की बात कही। उन्होंने कुछ दिनों के लिए एतिहातन किराना, बेकरी, सब्जी, फल, अनाज आदि दुकानें प्रात: 9 बजे से 5 बजे खोलने के निर्देश दिए। श्री एल्मा ने कहा कि अत्यावश्यक सेवा के साथ  मेडिकल स्टोर, भोजनालय आदि दुकानों यह निर्देश लागू नहीं होंगे । 

राज्य के दूसरे विभिन्न शहरों से आए ऐसे श्रमिकों व्यक्तियों का घर से बाहर नहीं निकलने को कहे। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को लगभग 15-20 दिनों तक परिवार से भी दूरी बनाये रखने की बात बतायें। नारायणपुर सहित ग्रामीण इलाकों में विभिन्न माध्यमों के जरिए प्रचार-प्रसार कराया जाए और लोगों को जागरूक किया जाए । 

विकासखंड ओरछा (अबूझमाड़) के अन्दरूनी इलाकों में स्वास्थ्य अमला पूरी तरह सजग और सर्तकता बरत रहा है। स्वास्थ्य अमले के साथ पंच, सरंपच, ग्राम सचिव, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और मितानिन भी दूसरे राज्यों के शहरों में काम से गए ग्रामीणों के वापस लौटने पर उन्हें (आइसोलेशन) में घर पर ही रहने की सलाह दी गई है। इसके साथ उन नजर रख रहे। यथा संभव दिन में दो-बार उनका हालचाल भी लिया जा रहा है। इसमें पुलिस  प्रशासन का भी पूरा सहयोग मिल रहा है। 
पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग ने कहा कि अधिकारी-कर्मचारियों, सफाई कमियों का शिफ्टवॉर पास बनायें, ताकि काम पर आते जाते वक्त उन्हें कोई परेशानी न हो । नागरिकों की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिहाज से बिना जरूरी काम के सड़कों पर आने वाले लोगों पर अब पुलिस प्रशासन और सख्त कदम उठाने वाला है। 

बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जयंत वैष्णव, वनमण्डाधिकारी डी.के.एस. चौहान, मुख्य कार्यपलान अधिकारी जिला पंचायत प्रेमकुमार पटेल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी ए.आर. गोटा, जिला कार्यक्रम अधिकारी रविकांत ध्रुर्वे, सहायक विकास आयुक्त आदिम जाति एस.के मसराम, जिला शिक्षा अधिकारी गिरधर मरकाम, नगरपालिका अधिकारी अजय लाल सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे । 

 


Date : 24-Mar-2020

 कोर कमेटी सदस्यों की बैठक
छत्तीसगढ़ संवाददाता
नारायणपुर, 24 मार्च।
कलेक्टर पी.एस. एल्मा की अध्यक्षता में आज यहां कलेक्टोरेट में कोराना रोकथाम एवं नियंत्रण की जिला स्तरीय कोर कमेटी के सदस्यों की बैठक हुई। कलेक्टर ने जिले में दूसरे राज्यों विभिन्न शहरों से लौटे श्रमिकों, कार्मकारो को चिन्हांकित कर उनके घरों पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग का आईसोलेशन ( विशेष निगरानी) में कोविड-19 चस्पा करने कहा। इसके साथ ही ऐसे व्यक्तियों के स्वस्थ्य पर निश्चित समय तक विशेष निगरानी  कहा । उन्होंने स्वास्थ्य सुरक्षा की दृष्टि से यथा संभव सफाई कर्मियों एवं जरूरी कामों में लगे श्रमिकों का दिन में दो बार टेम्परेचर लेने की बात कही। उन्होंने कुछ दिनों के लिए एतिहातन किराना, बेकरी, सब्जी, फल, अनाज आदि दुकानें प्रात: 9 बजे से 5 बजे खोलने के निर्देश दिए। श्री एल्मा ने कहा कि अत्यावश्यक सेवा के साथ  मेडिकल स्टोर, भोजनालय आदि दुकानों यह निर्देश लागू नहीं होंगे । 

राज्य के दूसरे विभिन्न शहरों से आए ऐसे श्रमिकों व्यक्तियों का घर से बाहर नहीं निकलने को कहे। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को लगभग 15-20 दिनों तक परिवार से भी दूरी बनाये रखने की बात बतायें। नारायणपुर सहित ग्रामीण इलाकों में विभिन्न माध्यमों के जरिए प्रचार-प्रसार कराया जाए और लोगों को जागरूक किया जाए । 

विकासखंड ओरछा (अबूझमाड़) के अन्दरूनी इलाकों में स्वास्थ्य अमला पूरी तरह सजग और सर्तकता बरत रहा है। स्वास्थ्य अमले के साथ पंच, सरंपच, ग्राम सचिव, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और मितानिन भी दूसरे राज्यों के शहरों में काम से गए ग्रामीणों के वापस लौटने पर उन्हें (आइसोलेशन) में घर पर ही रहने की सलाह दी गई है। इसके साथ उन नजर रख रहे। यथा संभव दिन में दो-बार उनका हालचाल भी लिया जा रहा है। इसमें पुलिस  प्रशासन का भी पूरा सहयोग मिल रहा है। 

पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग ने कहा कि अधिकारी-कर्मचारियों, सफाई कमियों का शिफ्टवॉर पास बनायें, ताकि काम पर आते जाते वक्त उन्हें कोई परेशानी न हो । नागरिकों की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिहाज से बिना जरूरी काम के सड़कों पर आने वाले लोगों पर अब पुलिस प्रशासन और सख्त कदम उठाने वाला है। 

बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री जयंत वैष्णव, वनमण्डाधिकारी श्री डी.के.एस. चौहान, मुख्य कार्यपलान अधिकारी जिला पंचायत श्री प्रेमकुमार पटेल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी श्री ए.आर. गोटा ,जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री रविकांत ध्रुर्वे, सहायक विकास आयुक्त आदिमजाति श्री एस.के मसराम, जिला शिक्षा अधिकारी श्री गिरधर मरकाम, नगरपालिका अधिकारी श्री अजय लाल सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे । 


Date : 23-Mar-2020

मुख्यमंत्री राहत कोष में करूणा शुक्ला की भतीजी और दामाद देंगे 15 दिन का वेतन 

नारायणपुर, 23 मार्च। छत्तीसगढ़ की पूर्व सांसद एवं कांग्रेस नेता करूणा शुक्ला की भतीजी एवं दामाद कोरोना वायरस से निपटने के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में अपने माह मार्च का 15 दिनों का वेतन देंगे। श्रीमती करूणा शुक्ला की भतीजी श्रीमती कीर्ति पाराशर, सहायक जनसंपर्क अधिकारी और उनके दामाद शशिरत्न पाराशर सहायक संचालक जिला जनसंपर्क कार्यालय नारायणपुर में पदस्थ है। 

श्रीमती कीर्ति ने बताया कि 15 दिन का वेतन ऊंट के मुंह में जीरा के सामान है, जैसे कि जीरा स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है। छोटी-छोटी राशि या कोई भी सहयोग राज्य शासन के हाथ मजबूत करने में कारकर होगा। श्री पाराशर ने अधिकारी-कर्मचारियों और समाजसेवी संगठनों और अन्य आर्थिक स्थित से मजबूत लोगों से अपील की है कि कोरोना वायरस के कारण देश और राज्य कठिन दौर में है। इस संकट की घड़ी में सरकार का अपने-अपने तरीके से बेहतर सहयोग करें। राज्य सरकार लोगों के स्वास्थ्य के प्रति गंभीर, सजग और सर्तक है। लोगों के लिए बेहतर कार्य कर रही है।  उन्होंने आम नागरिकों से अनुरोध किया कि भारत सरकार और राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों और एडवाइजरी तथा नियम और कानून का पालन करें। जैसा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री ने अपील की ही । आपका यह सहयोग स्वयं और दूसरों के परिवार को कोरोना के संकट से बचाने में मदद करेगा, बल्कि परिवार के लोगों को  सुरक्षित रखेगा ।   


Date : 23-Mar-2020

कलेक्टर की पहल पर नारायणपुर में नि:शुल्क हैण्डवास की व्यवस्था, पांच प्रमुख चौराहों पर की गई व्यवस्था 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नारायणपुर 23 मार्च।
कोरोना वायरस से बचाव के लिए कलेक्टर  पी.एस. एल्मा की पहल पर नगरपालिका द्वारा नगर के पांच प्रमुख चौक-बाजारों में आम नागरिकों की सुविधा के लिए नि:शुल्क हैण्डवास की सुविधा उपलब्ध कराने हेतु पानी की टंकी और साबुन के घोल की व्यवस्था की गयी है।  अब लोग भी कोरोना वायरस से निपटने सरकार का सहयोग करने के लिए आगेे आने लगे है। 

नगर पालिका द्वारा नारायणपुर में पांच प्रमुख स्थानों नगरपालिका के सामने, पाठक चौक, कुम्हारपारा चौक, बखरूपारा चौक और जयस्तभ चौक पर नि:शुल्क हैण्डवास की व्यवस्था की गयी है। कलेक्टर ने आम नागरिकों से अनुरोध किया है कि वे कोरोना वायरस के बचाव के लिए अपने हाथ धोते रहे है। उन्होंने कहा सरकार और जिला प्रशासन कोरोना वायरस से निपटने और उससे बचाव के लिए तैयार है। लोंग भी संयम, सजकता और सर्तकता बरतें । 

 


Date : 21-Mar-2020

कलेक्टर ने घर से बाहर नहीं निकलने ''जनता कफ्र्यू'' की अपील की

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नारायणपुर, 21 मार्च।
 कलेक्टर पी.एस.एल्मा ने नारायणपुर जिले के नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों के ग्रामवासियों से नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु सरकार द्वारा राष्ट्रहित में रविवार 22 मार्च को प्रात: 7 बजे से रात्रि 9 बजे तक घर से बाहर नहीं निकलने हेतु जनता कफ्र्यू की अपील की है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन कोरोना वायरस के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए पूरी तरह सजग और मुस्तैद है। 

कलेक्टर श्री एल्मा ने जिला मुख्यालय नारायणपुर में कल रविवार को लगने वाला स्थानीय साप्ताहिक बाजार दिवस में शामिल नहीं होने तथा स्वयं अपने परिवार एवं ग्राम एवं देशवासियों के स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने में अपना योगदान और सहयोग देने का अनुरोध किया है। उन्होंने जारी अपील संदेश में लोगों से आग्रह किया है कि अति आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकले और सामाजिक दूरी बनाये रखें। यह आप सब के स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने में महत्वपूर्ण होगा। 

 


Date : 21-Mar-2020

जिले में धारा 144 लागू, सभी तरह के बड़े आयोजनों पर प्रतिबंध 

नारायणपुर, 21 मार्च। नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव हेतु स्वास्थ्यगत स्थिति को देखते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री पी.एस.एल्मा ने आपदा प्रबंधन एक्ट की धाराओं की तहत प्रदत शक्तियों का प्रयोग करते हुए जिले में धारा 144 लागू कर दिया है। इस दौरान जिले मे सभी प्रकार की सभा तथा आयोजन पूर्णत: स्थगित रहेगा। यह आदेश 31 मार्च या आगामी आदेश तक प्रभावशील होगा । जारी आदेश में कहा गया है कि जिले में धारा 144 लागू होते ही जिले मेे स्थित समस्त मंदिर, मस्जिद-मजार, गुरूद्वारा चर्च तथा अन्य धार्मिक स्थल, मेला सभा रैली धरना इत्यदि में आम नागरिकों एकत्र नही हो सकेगे । धार्मिक पूजा स्थलों मे दर्शनाथियों, श्रद्धालुओ का प्रवेश आगामी आदेश तक पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा । लेकिन धार्मिक पूजा स्थलों पूजा आराधना पूर्ववत चलती  रहेगी। धार्मिक स्थलों में पुजारी तथा समिति के सदस्यों को कोरोना संक्रमण से बचाने वाले उपायों को अपनाने की आधार पर प्रवेश की अनुमति होगी। उन्होने बताया कि जारी निर्देशों का उल्लघन करने का कार्य जो व्यक्ति करेगा वह आपदा प्रबंधन एक्ट में विहित प्रावधानों के तहत दण्ड का भागीदारी होगा। उन्होने जारी आदेशों का कडाई से पालन सुनिश्चित करनेे के निर्देश दिये है। 
यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है।


Date : 21-Mar-2020

किसानों ने कलेक्टर को भेंट अपने खेत की ताजी सब्जी-भाजी, कुरूषनार के किसानों ने कलेक्टर का जताया आभार

नारायणपुर, 21 मार्च। अबूझमाड़ के प्रवेश द्वार के नाम से जाने-पहचाने जाने वाले कुरूषनार ग्राम के किसानों ने बीते शुक्रवार को कार्यालय कलेक्टर में आकर कलेक्टर पी.एस.एल्मा को अपनी खेती-बाड़ी की ताजी सब्ज़ी-भाजी और मौसमी पपीता भेंट किए। 

हमर जंगल-हमर आजीविका योजनांतर्गत कुरूषनार ग्राम में सामूहिक खेती के लिए जिला प्रशासन द्वारा दी जा रही सुविधाओं का आभार प्रकट करने कुरूषनार के किसान कलेक्टोरेट पहुंचकर कलेक्टर पी.एस.एल्मा का आभार जताया। ग्रामीण किसानों ने आभार प्रकट करने का अनोखा तरीखा अपनाया। जिसमें उन्होंने उनके खेत में उगाये गये पपीता, सब्जियां -टमाटर, फूलगोभी, लौकी, भिडी, धनिया पत्ती आदि भेंट की। इस मौके पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत प्रेम कुमार पटेल भी मौजूद थे। कलेक्टर ने आये किसानों से उनके खेती-किसानी सहित गांव की सुविधाओं आदि के बारे में विस्तृत जानकारी ली और किसानों से आत्मीय बातचीत की।  

ज्ञात हो कि नारायणपुर जिले के ओरछा विकासखंड अंतर्गत आने वाले ग्राम कुरूषनार में जिला प्रशासन के सहयोग से वर्ष 2017 में किसानों को प्रोत्साहित कर लगभग 200 एकड़ में गांव के किसानों को सामूहिक खेती करने हेतु प्रोत्साहित किया गया था। जिसके तहत् किसानों के खेतों की फैंसिंग, बोर खनन, डबरी निर्माण, पहुंच मार्ग आदि विकसित कर किसानों को सामूहिक खेती हेतु प्रदान किया गया था। जिसमें किसान खेती कर अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत कर खुशहाल बन रहे हैं। 


Date : 20-Mar-2020

कोरोना की रोकथाम व नियंत्रण के लिए सभी सावधानियां बरती जाए- कलेक्टर 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नारायणपुर, 20 मार्च।
कलेक्टर पी.एस. एल्मा की अध्यक्षता में आज जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में हुई। बैठक में कलेक्टर ने जिले के अधिकारियों से कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण ने महामारी का रूप ले लिया है और अब तक विश्व के 100 से अधिक देश प्रभावित हो चुके हैं। इनमें से हमारा देश भारत भी एक है। उन्होंने कहा कि नोवेल कोरोना वायरस संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए इसके रोकथाम व नियंत्रण के लिए हर वह सावधानी बरती जाये, जो इससे बचने के लिए आवश्यक है। 

उन्होंने कहा कि जिले में कोरोना वायरस से बचाव के लिए जरूरी है कि विदेशों और दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों की पहचान कर उन्हें जांच हेतु अस्पताल में लाया जाये। अगर वे अस्पताल जाकर जांच करवाने से इंकार करें, तो उन्हें समझायें कि यह जांच उनके लिए और दूसरों के बचाव के लिए जरूरी है। 

कलेक्टर श्री एल्मा ने कहा कि आने वाले दिनो में त्यौहार आदि एवं इस अवसर पर रैली, सभा आदि का आयोजन नहीं करने हेतु आम नागरिकों से आग्रह करें और लोगों को जागरुक करें। कलेक्टर श्री एल्मा ने कहा कि जिलेवासी ऐसे कार्यक्रम आयोजित न करें जिसमें भीड़ एकत्रित होती है। भीड़ वाले क्षेत्रों में कोरोना वायरस के फैलने की संभावना अधिक है। कलेक्टर ने आमजन द्वारा मास्क का उपयोग कैसें करें, मास्क किसकों लगाना चाहिए, उपयोग की अवधि, सही विधि आदि के बारे में जानकारी दी। उन्होंने क्वॉरेंटीन केन्द्र और होम आईसोलेशन हेतु दिये गये दिशा-निर्देशों की विस्तृत रूप से जानकारी दी। 
बैठक में पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग ने कहा कि कोरोना वायरस फैलने वाला वायरस है। इसके फैलने की संभावना बहुत अधिक है। हमारा मुख्य उद्देश्य इसे फैलने से रोकना है। उन्होंने कहा कि जैसा की आप सभी को पता है कि जिले में धारा 144 लागू है। इसलिए जिले में मेला, मड़ई, बाजार या ऐसी जगह जहां पर ज्यादा भीड़ एकत्रित होगी उन जगहों पर पाबंदी रहेगी। 
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ए.आर गोटा ने कोरोना वायरस के लक्षण के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि यदि व्यक्ति को बुखार, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना, जुकाम, सीने में जकडऩ खासी सिरदर्द, निमोनिया हो तो कोरोना के लक्षण हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि संक्रमित व्यक्ति के खुली जगह में छींकने या खांसने, संक्रमित व्यक्ति से हाथ मिलाने, गले लगने से, संक्रमित जगह से संपर्क में आने के बाद बिना हाथ धोय अपनी आंख मुह व नाक को छूने से संक्रमण फैलता हैं। डॉ गोटा ने कोराना वायरस से बचाव के लिए क्या करें और क्या न करें इस बारे में विस्तृत जानकारी दी। 

बैठक में डीएफओ डी.के.एस चौहान, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत प्रेम कुमार पटेल, अपर पुलिस अधीक्षक जयंत वैष्णव, एसडीएम दिनेश कुमार नाग, डिप्टी कलेक्टर गौरीशंकर नाग, वैभव क्षेत्रज्ञ, जिला शिक्षा अधिकारी गिरधर मरकाम, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास केएस मसराम के अलावा स्वास्थ्य एवं पुलिस विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 


Date : 20-Mar-2020

कोरोना वायरस के रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु कोर कमेटी गठित

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नारायणपुर, 20 मार्च।
भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस की रोकथाम एवं नियंत्रण व आम लोगों में जागरूकता लाने के लिए जारी निर्देश एवं एडवाइजरी के मद्देनजर कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी ए.एस.एल्मा की अध्यक्षता में जि़ला स्तरीय कोर कमेटी का गठन किया गया है। 

कोर कमेटी में पुलिस अधीक्षक, जिला पंचायत सीईओ, वनमंडलाधिकारी, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास, सहायक आयुक्त आदिम जाति विकास, जि़ला शिक्षाधिकारी और मुख्य नगर पालिका अधिकारी को सदस्य नामांकित किया गया है। कार्यालय कलेक्टर नारायणपुर से इस आशय के आदेश जारी कर दिए गए है । 

कोर कमेटी प्रतिदिन कोरोना वायरस की रोकथाम नियंत्रण आदि तैयारियों की जानकारी प्राप्त करेंगी। इसके साथ ही संसाधनों की उपलब्धता जिले में राज्य और राज्य ओर विदेशों से आने वाले लोगों की जानकारी लेगी। इसके साथ ही उनके संपर्क में आए व्यक्तियों, संस्था की जानकारी पर अद्यतन रहेगी ।


Date : 14-Mar-2020

आवेदन एक अप्रैल से

नारायणपुर, 14 मार्च। छत्तीसगढ़ ऊर्जा विभाग के अधीन कार्यालय कार्यपालन अभियंता (विद्युत सुरक्षा ) एवं संभागीय विद्युत निरीक्षक, संभागीय-जगदलपुर के कार्य क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले बस्तर, कोण्डागांव, कांकेर, दंतेवाड़ा, सुकमा, बीजापुर, नारायणपुर, धमतरी और महासंमुद के लिए तारमिस्त्री के परीक्षा आवेदन एक अप्रैल से 30 अप्रैल तक मिलेंगे । आवेदन जमा करने की अन्तिम तिथि 30 अप्रैल है। इच्छुक अभ्यर्थी कार्यालयीन समय में कार्यालय, कार्यपालन अभियंता (विद्युत सुरक्षा) एवं संभागीय विधुत निरीक्षक, छत्तीसगढ़ शासन संभाग, जगदलपुर से प्राप्त कर सकते है। 

 


Date : 06-Mar-2020

नि:शुल्क पट्टा के लिए निकाली रैली, एसडीएम को ज्ञापन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
नारायणपुर, 6 मार्च।
नि:शुल्क पट्टा के लिए आज सैकड़ों नगरवासियों के साथ नेता प्रतिपक्ष ने रैली की शक्ल में कलेक्ट्रेट पहुंच कर एसडीएम को जनता का हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन सौंपा।

नारायणपुर नगर पालिका के नए नेता प्रतिपक्ष जैकी ने कहा कि नगर पालिका के अंतर्गत आने वाले सभी नजूल कब्जेधारियों को कांग्रेस सरकार द्वारा लाखों रुपए का नोटिस थमाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वर्षों से उस स्थान पर रहने वाले मकान के मालिक कई गरीबी रेखा में आते है तो कई गरीबी रेखा के भी नीचे, ऐसे में कोई लाखो रुपये की इतनी भारी भरकम रकम कहां से लाएंगे। 

उन्होंने कहा कि आज पूरे प्रदेश का हाल इतना बुरा है कि हर जगह की जनता त्रस्त है पर कांग्रेस सरकार मस्त है। आज की हमारी रैली सांकेतिक थी। सरकार अभी भी होश में आ जाये और जनता को निशुल्क पट्टा प्रदान करें, जैसे भाजपा की सरकार ने किया था। अगर सरकार अपने इस निर्णय को वापस नहीं लेती है तो आने वाले समय में बड़ी आंदोलन के लिए तैयार हैं। जिसकी जवाबदारी खुद सरकार की होगी। 

इस दौरान जिलाध्यक्ष, भाजपा महामंत्री जागेश्वर ठाकुर, सुदीप झा, प्रताप मंडावी, पार्षद अनिता कोरोटी, प्रमिला प्रधान, रोशन गोलछा, जय प्रकाश शर्मा, रतन दुबे सहित वार्ड वासी मौजूद थे।