सरगुजा

धान खरीदी केंद्रों में बिचौलियों पर इंटेलिजेंस मॉनिटरिंग करें - कलेक्टर
01-Dec-2020 9:23 PM 41
धान खरीदी केंद्रों में बिचौलियों पर इंटेलिजेंस मॉनिटरिंग करें - कलेक्टर

अम्बिकापुर,1 दिसम्बर। कलेक्टर संजीव कुमार झा ने आज जिला पंचायत सभा कक्ष में आयोजित साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में धान खरीदी सहित विभागीय कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने आज से शुरू हुए समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की समीक्षा करते हुए कहा कि बिचौलिए तथा कोचियों के द्वारा उपार्जन केंद्रों में धान खपाने पर इंटेलिजेंस तरीके से मॉनिटरिंग करें। सभी एस.डी.एम. एवं तहसीलदार उपार्जन केंद्रों का सतत निरीक्षण करें। उडऩदस्ता दल अन्य राज्यों से आने वाले अवैध धान परिवहन पर सतर्क रहें।

कलेक्टर ने कहा कि उपार्जन केंद्र में छोटे किसानों के द्वारा अधिक धान बेचने पर भी नजर रखें क्योंकि छोटे किसान सभी धान को नहीं बेचते है जरूरत के अनुसार अपने पास रखते भी है। इन किसानो के रकबे से बिचौलिए धान खपाने की कोशिश करते हैं। इसी प्रकार निरस्त टोकन पर भी ध्यान रखे। बार-बार टोकन निरस्त करने पर संबंधित किसान पर नजर रखें। उन्होंने मंडी बोर्ड के अधिकारी से जिले के थोक लाइसेंस धारक तथा फुटकर विक्रेताओं की सूची तथा पिछले तीन सीजन में जिन पर अवैध धान परिवहन या बेचने के प्रकरण बने हैं उनकी सूची तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सूची में दर्ज नाम वाले व्यक्ति पर नजर रखें क्योंकि वह इस वर्ष भी उपार्जन केंद्रों में धान खपाने की कोशिश करेगा। कलेक्टर ने नए उपार्जन केंद्रों में चबूतरे निर्माण को तेजी से पूरा कराने के निर्देश देते हुए कहा कि चबूतरा की ढलाई के लिए मजदूरों की संख्या बढ़ाएं तथा गुणवत्तापूर्ण निर्माण कराएं। उन्होंने बारदाना संग्रहण की समीक्षा करते हुए कहा कि जिन पीडीएस दुकानों के द्वारा बारदाना जमा नहीं किया गया है उन्हें यदि बारदाना बेच दिया गया हो तो खरीद कर जमा कराएं। बारदाना हर हाल में जमा करना ही होगा। कलेक्टर ने कहा कि किसी भी खरीदी केंद्र में किसानों को धान बेचने में कोई परेशानी नही होनी चाहिए। उन्होंने सभी उपार्जन केंद्रों में कोविड प्रोटोकाल से संबंधित आवश्यक निर्देशो के बैनर या फ्लैक्स लगाने के निर्देश दिये।

कलेक्टर ने वन अधिकार पत्र धारक हितग्राहियों को मनरेगा के तहत 150 दिन का रोजगार उपलब्ध कराने के लिए एमआईएस में रजिस्ट्रेशन कराएं तथा जॉब कार्ड का मैपिंग कराकर रोजगार दिलाये। उन्होंने कहा कि सभी ग्राम पंचायत में मनरेगा के अधिक से अधिक कार्य स्वीकृत कराएं। उन्होंने वन अधिकार पत्र के निरस्त दावों के पुनरीक्षण कार्य को में तेजी लाने के लिए आदिवासी विभाग के मंडल संयोजक तथा मास्टर ट्रेनर को आवश्यक दायित्व देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि निरस्त दावों के हितग्राही को निरस्तीकरण की सूचना अवश्य दें।

3500 बैठक क्षमता का बनेगा इंडोर स्टेडियम - कलेक्टर ने बताया कि खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा जिला मुख्यालय में 3500 बैठक क्षमता का इंडोर स्टेडियम की स्वीकृति दी है। इस स्टेडियम में बास्केट बॉल, बैडमिंटन, कबड्डी, लॉन टेनिस आदि के कोर्ट बनाये जाएंगे। स्टेडिम के लिए करीब 5 एकड़ भूमि की आवश्यकत होगी। उन्होंने अम्बिकापुर के तहसीलदार को नगर निगम सीमा में स्टेडियम निर्माण हेतु भूमि उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

दाल का रकबा होगा दोगुना

कलेक्टर ने रबी सीजन में किसानों को दाल की खेती के लिए प्रोत्साहित करने के लिए रकबे के लक्ष्य को दोगुना करें। उन्होंने जितने जमीन पर किसान अरहर की खेती करेंगे उसके आधे जमीन के लिए कृषि विभाग बीज उपलब्ध कराए और शेष आधे जमीन पर किसान स्वयं बीज की व्यवस्था करें।

अन्य पोस्ट

Comments