रायपुर

मानव तस्करी की जांच के लिए विशेष टीम
30-Nov-2020 7:02 PM 34
मानव तस्करी की जांच के लिए विशेष टीम

महिला आयोग की अनुशंसा पर आईजी ने की कार्रवाई

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव/रायपुर, 30 नवंबर। राज्य महिला आयोग ने राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ में मानव तस्करी की घटना को संज्ञान में लिया है। आयोग की अनुशंसा पर आईजी दुर्ग ने विशेष जांच टीम बनाई है।

 अध्यक्ष डॉ. श्रीमती किरणमयी नायक ने राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ विकासखंड में मानव तस्करी की गंभीर घटना को संज्ञान में लिया है। राजनांदगांव पहुंचकर उन्होंने महापौर हेमा देशमुख, पुलिस अधीक्षक डी श्रवण और अन्य अफसरों से चर्चा की। राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. श्रीमती किरणमयी नायक ने कहा कि थाना डोंगरगढ़ में अपराध पंजीबद्ध किया गया है। जिसमें कुछ आरोपियों की गिरफ्तारी की गई है।

दुर्ग आईजी विवेकानंद सिन्हा ने प्रकरण में अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी व अन्य पहलुओं पर सूक्ष्म विवेचना हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जिला दुर्ग (ग्रामीण) श्रीमती प्रज्ञा मेश्राम के नेतृत्व में टीम गठित की है। टीम में नगर पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव एनएस चंद्रा, थाना प्रभारी डोंगरगढ़ अलेक्जेन्डर किरो, उप निरीक्षक राजनांदगांव बिलकिश चौहान, सहायक उप निरीक्षक थाना डोंगरगढ़ बीआर बिसेन, थाना डोंगरगढ़ एपी शीला, सायबर सेल राजनांदगांव मनीष मानिकपुरी थाना डोंगरगढ़  राजेन्द्र राविक शामिल है, जो प्रकरण में सूक्ष्मता से विवेचना कर साक्ष्य संकलन कर अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी करते हुए नियमानुसार कार्रवाई करेंगे।

डोंगरगांव में सामने आए मानव तस्करी का नेटवर्क रायपुर से भी जुड़ा है। मानव तस्कर गिरोह में शामिल भाजपा नेत्री गंगा पांडे की रायपुर से गिरफ्तारी के बाद पुलिस भी अलर्ट हो गई है। और शहर और ग्रामीण इलाके की कई महिलाएं व युवतियां गंगा के संपर्क में थी। उल्लेखनीय है कि डोंगरगांव में महिला का अपहरण करके उसे हरियाणा में बेचने वाले गिरोह की मास्टर माइंड साजदा के कहने पर गंगा और उसके पति सहदेव ने सभी के लिए हवाई टिकट बुक कराया था। इसके अलावा सभी दिल्ली भी गए थे। वहां से पीडि़त महिला को लेकर हरियाणा भी गए थे। डोंगरगांव पुलिस ने गंगा को गुरुवार की रात रायपुर के पंडरी से गिरफ्तार किया था। उसके पति को पुलिस की भनक लग गई थी, तो वह फरार हो गया। पुलिस उसकी भी तलाश में लगी है।

गरीब और जरूरतमंद युवतियों व महिलाओं को झांसा देकर या जोर जबरदस्ती करके दूसरे राज्यों में ले जाकर बेचने वाला बड़ा गिरोह सक्रिय है। ग्रामीण इलाकों से कई महिलाएं व युवतियां हर साल इसी तरह गायब हो जाती है।

डोंगरगांव में मानव तस्करी गिरोह का खुलासा होने और रायपुर से महिला आरोपी के पकड़े जाने के बाद रायपुर पुलिस ने भी अपने स्तर पर छानबीन शुरू कर दी है।

अन्य पोस्ट

Comments