सरगुजा

पिलखा पहाड़ को सफारी के रूप में विकसित करने कवायद तेज, आदित्येश्वर ने वन अमला के साथ किया निरीक्षण
29-Oct-2020 9:15 PM 64
 पिलखा पहाड़ को सफारी के रूप में विकसित करने कवायद तेज, आदित्येश्वर ने वन अमला के साथ किया निरीक्षण

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

अम्बिकापुर, 29 अक्टूबर। पिलखा पहाड़ को सफारी के रूप में विकसित करने की दिशा में प्रयास किया जा रहा है। जिपं सदस्य आदित्येश्वर शरण सिंह देव ने जनवरी में इस संबंध में वन विभाग के साथ चर्चा कर कार्ययोजना बनायी थी।

कोरोना के कारण इस पर कुछ विराम लगा, किन्तु अब इस पर शीघ्र ही वन विभाग कार्य करेगी, प्रथम कार्यों में पिलखा पहाड़ के चारों ओर फेंसिंग का कार्य एवं जल संरक्षण को लेकर कार्यवाही करेगी, साथ ही इस जंगल में रहने वाले जानवरों के लिए भोजन वहीं उपलब्ध हो जाये और उन्हें इसके लिए बाहर गांवों में न उतरना पड़े, इसे लेकर भी योजना बनायी जा रही है। इसी कड़ी में जिला पंचायत उपाध्यक्ष राकेश गुप्ता, जिला पंचायत सदस्य आदित्येश्वर शरण सिंह देव, डीएफओ पंकज कमल, विनय शर्मा, विनय गुप्ता सहित ग्रामीणों व वन विभाग के अधिकारियों के साथ पिलखा पहाड़ के विभिन्न स्थलों का दौरा कर उसे आमजनों हेतु पर्यटन, पिकनिक स्पॉट एवं अन्य रूप में विकसित करने हेतु आगामी कार्ययोजना को लेकर चर्चा हुई।

जिला पंचायत सदस्य आदित्येश्वर शरण सिंह देव ने कहा कि हमारा उद्देश्य है कि शहर के नजदीक आमजनों के घूमने-फिरने की दृष्टि से तथा पिलखा पहाड़ को संरक्षित करने एवं अन्य जंगली जानवरों को यहां पर लाकर सफारी के छोटे रूप में इसे विकसित किया जाये तथा स्थानीय स्पोर्ट्स एवं एडवेंचर से जुड़े लोगों के साथ मिलकर एडवेंचर के लिए भी कार्य शुरू कराना है, वन विभाग के सार्थक सहयोग से यहां पर प्रथम चरण का कार्य शीघ्र शुरू हो रहा है और आगामी समय में अन्य योजनाओं पर भी कार्य करके अम्बिकापुर शहर के नजदीक बेहतर सुविधा विकसित करना है।

इस दौरान डीएफओ एवं जनप्रतिनिधियों ने स्थानीय निवासियों से भी चर्चा की तथा पिलखा के कौन कौन से पॉइन्ट बेहद अहम है तथा उसे कैसे विकसित किया जा सकता है तथा यहां आने वाले लोगों के लिए रात्रि विश्राम हेतु भी सुविधा का विस्तार हो, सड़क ठीक हो समेत कई विषयों पर चर्चा हुई।

अन्य पोस्ट

Comments