बस्तर

तालाब खुदाई की राशि गबन का आरोप
23-Oct-2020 9:57 PM 61
तालाब खुदाई की राशि गबन का आरोप

  शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं, ग्रामीणों ने दी आंदोलन की चेतावनी  

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

जगदलपुर, 23 अक्टूबर। बस्तर ब्लॉक के ग्राम पंचायत इच्छापुर क्रमांक 2 में रोजगार गारंटी योजना के तहत तालाब खुदाई की राशि आहरण कर गबन करने का आरोप पंचों व ग्रामीणों द्वारा सरपंच व सचिव पर लगाया गया है। उन्होंने बताया कि 1 माह बीत जाने के बाद भी शिकायत पर किसी प्रकार की कार्रवाई आज तक नहीं की गई है। जल्द कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

 इच्छापुर क्रमांक 2 के ग्रामीण व पंचों ने बताया कि 8 लाख 40 हजार रूपये की लागत से रोजगार गारंटी योजना के तहत तालाब खुदाई की गई है । सरपंच व सचिव द्वारा इस तालाब की खुदाई का काम मजदूरों की जगह पर जेसीबी मशीन से 80 फीसदी किया गया है व 20 फीसदी काम मजदूरों से कराया गया है। साथ ही उन्होंने बताया कि तालाब खुदाई में जिन मजदूरों से काम लिया गया था, उन्हें भी 4 माह बीत जाने के बाद भी उक्त सभी मजदूरों को भुगतान सचिव लक्ष्मण  राऊड़, सरपंच रूपसाय,  रोजगार सहायक परशुराम मौर्य द्वारा नहीं किया गया है, जिसकी लिखित शिकायत पंच व ग्रामीणों द्वारा बस्तर कलेक्टर, जनपद सीईओ बस्तर व विधायक लखेश्वर बघेल से की गई है।

पंच सुखराम मंडावी, पंच गोविंद कश्यप, पंचायती कश्यप, जयंती कश्यप, पंच मनकी यादव, पंच जगबती कश्यप, पंच सावंली कश्यप ने आगे बताया कि 1 माह बीत जाने के बाद भी शिकायत पर किसी प्रकार की कार्रवाई आज तक नहीं की गई है।

पूर्व सरपंच भागीरथी ने बताया कि वर्तमान सरपंच रूपसाय कोर्राम व सचिव लक्ष्मण राऊड़ तालाब खुदाई के साथ-साथ पाइप लाइन बिछाने के कार्य में भी अनियमितता किए हैं। पाइप लाइन बिछाने के लिए खुदाई तो कर दी गई किंतु पाइप बिछाने का कार्य नहीं कराया गया है जिसके चलते खुदाई की गई जगह पर मिट्टी ढक गई है, साथ ही उन्होंने बताया कि पाइप लाइन बिछाने के लिए खोदे गए गड्ढे में लगे मजदूरों को मजदूरी भुगतान भी नहीं किया गया है। सरपंच रूपसाय कोराम व सचिव लक्ष्मण राऊड़ पर जल्द कार्रवाई नहीं की जाती है तो वह ग्रामीणों के साथ मिलकर आंदोलन करेंगे ।

जनपद पंचायत बस्तर के सीईओ जयभान सिंह राठौर से जानकारी ली गई तो उन्होंने बताया कि जांच दल का गठन कर दिया गया है। जांच दल द्वारा तीन-चार दिनों के अंदर जांच दल द्वारा रिपोर्ट सौंपी जाएगी। जांच रिपोर्ट में गड़बड़ी पाए जाने पर संबंधितों पर कार्रवाई की जाएगी।

अन्य पोस्ट

Comments