बिलासपुर

संविदा कर्मियों पर दंडात्मक कार्रवाई निंदनीय, संविलियन का चुनावी वादा पूरा करें
25-Sep-2020 9:57 PM 2
संविदा कर्मियों पर दंडात्मक कार्रवाई निंदनीय, संविलियन का चुनावी वादा पूरा करें

भाजपा सांसदों ने स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर की मांग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिलासपुर, 25 सितम्बर।
प्रदेश के तीन सांसदों ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से मांग की है कि सरकार अपना वादा पूरा करे और न केवल आंदोलनरत स्वास्थ्य कर्मचारियों को बल्कि सभी संविदा कर्मचारियों का संविलियन करें और उनके विरुद्ध की गई दंडात्मक कार्रवाई को निरस्त करें।

बिलासपुर सांसद अरुण साव, दुर्ग सांसद विजय बघेल व रायगढ़ सांसद गोमती साय ने पत्र में कहा है कि स्वास्थ्य विभाग के 10 हजार से अधिक संविदा कर्मचारी संविलियन की मांग को लेकर आंदोलनरत हैं। ये वही कर्मचारी हैं जो पिछले 6 माह से अपनी जान जोखिम में डालकर राज्य की जनता की सेवा में दिन रात जुटे हैं। सरकार ने इनकी सुरक्षा के लिये कोई व्यवस्था नहीं की है। अभाव के बावजूद जनता की नाराजगी सहते हुए वे महामारी के खिलाफ लड़ाई में जुटे हैं। कांग्रेस ने संविलियन का वादा अपने घोषणा पत्र में किया है। अब सरकार को बने लगभग दो वर्ष हो रहे हैं कोई कार्रवाई नहीं की गई है। ऐसे में सोई सरकार को जगाने के लिये उन्हें आंदोलन का रास्ता अपनाना पड़ा है। आंदोलनकारियों की मांग पूरी करने के बजाय सरकार उन पर कठोर कार्रवाई कर रही है जो तानाशाहीपूर्ण और निंदनीय है। 

अन्य पोस्ट

Comments