गरियाबंद

नवापारा-राजिम, विसर्जन करने देवी भक्त पहुंचे शीतला तालाब, शहर देवी मां दुर्गा के जयकारों से गूंजता रहा
नवापारा-राजिम, विसर्जन करने देवी भक्त पहुंचे शीतला तालाब, शहर देवी मां दुर्गा के जयकारों से गूंजता रहा
Date : 07-Oct-2019

विसर्जन करने देवी भक्त पहुंचे शीतला तालाब, शहर देवी मां दुर्गा के जयकारों से गूंजता रहा

छत्तीसगढ़ संवाददाता

नवापारा-राजिम, 7 अक्टूबर। सोमवार को जंवारा एवं दुर्गा मां की प्रतिमाओं का विसर्जन के लिए माता के भक्तों की भारी भीड़ रही है। शीतला तालाब जाने वाले मार्ग में हजारों देवी भक्त एवं नगरवासी मार्ग के दोनों किनारे खड़े होकर जंवारा एवं प्रतिमाओं को देखकर जयकारा लगाते रहे।

 इस दौरान विभिन्न मुहल्लों, चैक-चैराहों के पंडालों में विराजित मां दुर्गा की प्रतिमाओं और जंवारा लेकर समिति वाले कतार बद्ध लगातार निकलते रहे। पूरा शहर देवी मां दुर्गा के जयकारों से गूंजता रहा। माता के सेवा एवं जसगीत गाते, ढोल-मजीरों के साथ एक तरफ जहां सेऊक झूप रहे थे, तो दूसरी ओर सिर पर जंवारा लिए युवतियों-महिलाओं की टोली कतारबद्ध होकर चल रही थी। बीच-बीच में कई ऐसे देवी मां के भक्तिन युवतियां एवं महिलाएं थी, जो इस दौरान जमीन पर लेटकर अपनी श्रद्धा प्रकट कर रहे थे।  जंवारा और कलश लिए महिलाओं की टोली इनके ऊपर से पार होकर जा रही थी। दुर्गा पंडालों से निकलने वाले माता की प्रतिमाओं को ट्रेक्टर, मेटाडोर अन्य वाहन में सवार कर नन्हें बच्चे, मुहल्ले की महिलाएं, देवी मां के भक्त और गालों में बाना लिए व्रती झूमते हुए चल रहे थे। दुर्गा पंडालों के समितियों के अलावा स्थानीय जनप्रतिनिधि और नेता भी इसमें शरीक थे। तालाब के जिस घाट में विसर्जित करने की परंपरा रही है, उसी के अनुरूप एक-एक कर प्रतिमाओं तथा जंवारा को विसर्जन किया जा रहा था। शीतला तालाब मार्ग पर कई जगह ठंडा पेय और शुद्ध पानी का इंतजाम माता के भक्तों ने कर रखा था। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस के जवानों की विशेष ड्यूटी तालाब मार्ग पर लगाई गई थी।

 

Related Post

Comments