गरियाबंद

राजिम, राज्य की खुशहाली के लिए गांधी विचार यात्रा - मिश्रा, श्री मिश्रा ने कहा कि नरवा, गरवा, घुरवा, बारी राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना रही है
राजिम, राज्य की खुशहाली के लिए गांधी विचार यात्रा - मिश्रा, श्री मिश्रा ने कहा कि नरवा, गरवा, घुरवा, बारी राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना रही है
Date : 07-Oct-2019

राज्य की खुशहाली के लिए गांधी विचार यात्रा - मिश्रा, श्री मिश्रा ने कहा कि नरवा, गरवा, घुरवा, बारी राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना रही है

राजिम, 7 अक्टूबर। प्रदेश सरकार के मुखिया भूपेश बघेल की गांधी विचार यात्रा प्रदेश की खुशहाली के लिए है। यहां की संस्कृति, प्रेम, भाईचारा और गांधी जी के शांति अहिंसा के संदेश को जन-जन तक पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री का आभार उनके करीबी अश्विनी कुमार मिश्रा ने जताया है। उन्होंने कहा कि इससे पहले जितने भी मुख्यमंत्री हुए उन्होंने केवल चुनाव के दौरान जनता से वोट लेने के लिए यात्राएं निकाली किंतु यह पहली छत्तीसगढिय़ों की सरकार है, जो 1 साल भी पूरे नहीं किए जनता के बीच गांधीजी के विचार यात्रा को लेकर उनके बीच पहुंच गई। इस दौरान पीडि़तों से भी रुबरु हो रहे हैं। श्री बघेल जी का प्रयास है कि गोठानों में ऐसी व्यवस्था की जाए, जिससे वह आय का जरिया भी प्रदान कर सके और किसान अधिक से अधिक उत्पादन यहां से मिलने वाले खाद का उपयोग करके प्राप्त कर सकें। 

श्री मिश्रा ने कहा कि नरवा, गरवा, घुरवा, बारी राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना रही है। यही वजह है कि श्री बघेल की लोकप्रियता का लोहा उनके कार्य करने की शैली के चलते एक सर्वे में उन्होंने सदी के कई महानायक को भी पीछे छोड़ दिया है। वह उन प्रभावशाली व्यक्तियों में शुमार हो गए हैं, जिसकी कल्पना विरोधियों को कतई नहीं थी। यह संपूर्ण छत्तीसगढ़ के लिए गौरव की बात है। श्री बघेल की हर योजना दीर्घकालीन है।

 

Related Post

Comments