गरियाबंद

देवभोग, निर्माण कार्यों में अनियमितता, सरपंच-सचिव को नोटिस, कार्रवाई की तैयारी
देवभोग, निर्माण कार्यों में अनियमितता, सरपंच-सचिव को नोटिस, कार्रवाई की तैयारी
Date : 06-Oct-2019

निर्माण कार्यों में अनियमितता, सरपंच-सचिव को नोटिस, कार्रवाई की तैयारी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
देवभोग, 6  अक्टूबर। 2
3 दिन बीतने के बाद भी ग्राम पंचायत सचिव द्वारा एसडीएम के नीटिस का जवाब नहीं दिया गया। मामला मैनपुर ब्लाक अंतर्गत ग्राम पंचायत खजूरपदर का है जहां सचिव सरपंच द्वारा 14वें वित्त और मूलभूत से 74 लाख रुपये गड़बड़ी की शिकायत ग्रामीणों ने एसडीएम से की थी। जिस पर जांच प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद एसडीएम निर्भय साहू ने सचिव को नोटिस भेज कर सात दिवस के भीतर जवाब प्रस्तुत करने के लिए कहा गया  था, लेकिन ग्राम पंचायत सचिव द्वारा आज 23 दिन बीतने के बाद भी एसडीएम के नोटिस का जवाब नहीं दिया गया है।

पंचायत अंतर्गत गांव में साफ-सफाई, नाली निर्माण, मुरमीकरण के अलावा अन्य कार्य के लिए लाखों रुपए सरकार द्वारा आबंटन किया गया था। उक्त राशि को सरपंच सचिव द्वारा निजि कार्य में उपयोग करने का ग्रामीणों ने आरोप लगाया गया था। जिस पर ग्रामीणों द्वारा शिकायत कर कार्रवाईकी मांग की गई थी। गांव में चर्चा है कि कार्रवाई से बचने के लिए सचिव सरपंच एसडीएम निवास के चक्कर लगाते देखे जा रहे हैं। बताया जाता है कि लाखों रुपए सरपंच सचिव ने इधर उधर खर्च किया है जिसको तरह तरह के काम बता कर एवं फर्जी बिल का सहारा लिया जा रहा है।

स्कूल मरम्मत पर भी घपला
पंचायत द्वारा बीतें 14वें वित्त मकर राशि से करीब 90 हजार मरम्मत के नाम पर निकाल लिया गया लेकिन जितनी राशि निकाला गई। उसका आधा भी मरम्मत में खर्च नहीं किया गया है। जबकि बच्चों की बैठने की जगह पूरी तरह उखडऩे के अलावा खिडक़ी टूटी हुई है साथ ही शौचालय की स्थिति भी बेकार है। इस संबंध में निर्भय साहू, एसडीएम ने बताया कि हमने नोटिस जारी कर जवाब मांगा है आगे की कार्रवाईबिल्कुल होकर रहेगी।

 

Related Post

Comments