सामान्य ज्ञान

Previous123456789...6970Next
27-Feb-2021 2:45 PM 16


 1. किस भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के शोधकर्ताओं ने 16 फरवरी 2014 को कुपोषण के शिकार बच्चों के लिए खाद्य पेस्ट तैयार किया है?
(अ) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, नागपुर (ब) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली (स) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खडग़पुर (द) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई 
2. निम्न में से नोकिया कंपनी ने कौन-सा एंड्रॉयड फोन बाजार में लाने की घोषणा की है?
(अ) नोकिया आशा (ब) नोकिया लुमिया (स) नोकिया-एक्स (द) नोकिया ए-100
3. केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय सुशासन केंद्र की स्थापना कहां पर की है?
(अ) नई दिल्ली (ब) आगरा (स) जयपुर (द) मसूरी
4. प्रकृति में स्वतंत्र अवस्था में पायी जाने वाली धातु कौन सी है?
(अ) लोहा (ब) सोना (स) चांदी (द) जस्ता
5. थोरियम के सबसे अधिक भंडार कहां है?
(अ) भारत (ब) रूस (स) चीन (द) संयुक्त राज्य अमेरिका
6. मैंगनीज का प्रमुख रूप से प्रयोग किसके उत्पादन के लिए किया जाता है?
(अ) लोहा व इस्पात (ब) तांबा (स) एल्यूमीनियम (द) उपरोक्त किसी के लिए नहीं
7. व्याकरण का विख्यात रचयिता पतंजलि निम्न शासकों में से किस शासक का समकालीन था?
(अ) पुष्यमित्र शुंग (ब) अग्निमित्र शुंग (स) वासुदेव कण्व (द) गौतमी पुत्र शातकर्णि
8. विदेशी आक्रमणकारी डिमेट्रियस जिसे पुष्यमित्र ने परास्त किया था, किस जाति से था?
(अ) शक (ब) हूण (स) सिथियन (द) बैक्ट्रियन
9. निम्नलिखित में से किस विद्वान ने कनिष्क की राजसभा को सुशोभित नहीं किया?
(अ) अश्वघोष (ब) नागार्जुन (स) वसुबंधु (द) वशुमित्र
10. ऐसा भस्म, जो जल में विलेय होता है?
(अ) क्षार (ब) अमलगम (स) यौगिक (द) अम्ल
11. बीयर में एथिल एल्कोहल की मात्रा कितनी होती है?
(अ) 12 प्रतिशत (ब) 10 प्रतिशत (स) 8 प्रतिशत (द) 4 प्रतिशत 
12. निम्नलिखित में से किसने न्यूटन से पूर्व ही बता दिया था, कि सभी वस्तुएं पृथ्वी की ओर गुरुत्वाकर्षित होती हैं?
(अ) आर्यभट्ट (ब) वराहमिहिर (स) बुद्धगुप्त (द) ब्रह्मगुप्त 
13. गवर्नमेंट पोस्टल एंड टेलीग्राफ लिमिटेड निम्नलिखित में से किस स्थान पर है?
(अ) खमरिया, मध्यप्रदेश (ब) जबलपुर, मध्यप्रदेश (स) भिलाई, छत्तीसगढ़ (द) आलवै, केरल 
14. प्रकाश की गति से जाने पर चंद्रमा पर लगभग कितने समय में पहुंचा जा सकता है?
(अ) धरती से 1.3 सेकंड (ब) धरती से 5 सेकंड (स) धरती से 10 सेकंड (द) धरती से 20 सेकंड
15. भारत में संघ लोक सेवा आयोग की प्रथम अध्यक्ष निम्नलिखित में से कौन थीं?
(अ) सरोजिनी नायडू (ब) तारा चेरियन (स) रोज मिलियन बैथ्यू (द) लीला सेठ
16. तोता-ए-हिंद किसका उपनाम था?
(अ) कर्पूरी ठाकुर (ब) अमीर खुसरो (स) खान अब्दुल गफ्फार खां (द) काजी नजरूल इस्लाम
17. मिस इंडिया पुरस्कार निम्नलिखित में से किसकी ओर से दिया जाता है?
(अ) भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय (ब) टाइम्स ऑफ इंडिया ग्रुप (स) केके बिड़ला फाउंडेशन (द) भारत-जापान फ्रेंडशिप फाउंडेशन 
18. निम्नलिखित में से कौन सी सदिश राशि है?
(अ) संवेग (ब) दाब (स) ऊर्जा (द) कार्य
19. निम्नतापी इंजनों का अनुप्रयोग होता है?
(अ) पनडुब्बी नोदन में (ब) रेफ्रिजरेटरों में (स) रॉकेट प्रौद्योगिकी में (द) अतिचालकता विषयक अनुसंधानों में
20. विश्व में कुल गैस की लगभग 80 प्रतिशत गैस किस देस द्वारा खर्च होती है?
(अ) ब्रिटेन (ब) रूस (स) कनाडा (द) सं.रा. अमरीका
21. विश्व में मैंगनीज का सर्वाधिक उत्पादन करने वाला देस कौन-सा है?
(अ) भारत (ब) रूस (स) ब्राजील (द) घाना
22. विश्व में सबसे पहले नाइट्रेट की प्राप्ति निम्नलिखित किस स्थान से हुई?
(अ) तिब्बत का पठार (ब) चिली का पठार (स) कोलंबिया का पठार (द) ब्राजील का पठार
23. निम्नलिखित में से कौन सा अधात्विक खनिज है? 
(अ) मैग्नीशियम (ब) मैंगनीज (स) जिप्सम (द) बाक्साइट
24. निम्नलिखित में से कौन-सी क्रिया केवल जंतुओं में ही पाई जाती है? 
(अ)श्वसन (ब) उत्सर्जन (स) वृद्धि (द) तंत्रिकीय नियंत्रण 
25. राष्ट्रपति को निम्रलिखित में से किस प्रकार के आपात की उद्घोषणा करने का अधिकार है?
(अ) युद्ध या बाह्य आक्रमण या सशस्त्र विद्रोह से उत्पन्न आपात की (ब)राज्यों में सांविधानिक तंत्र के विफल होने से उत्पन्न आपात की (स) वित्तीय आपात की (द) उपर्युक्त सभी आपात की 
26. वायुमंडल की निचली परतों में मिलने वाले मोटे तथा काले बादलों का नाम क्या है?
(अ) स्तरी मेघ (ब) पुंज अथवा कपासी मेघ (स)पक्षाभ मेघ (द) वर्षा मेघ  
27. कांगड़ा घाटी में ज्वालामुखी क्या है?
(अ) एक बड़ा पहाड़ी स्टेशन (ब) चट्टान काटकर बनाया गया गुफा मंदिर (स) एक वायुसेना केंद्र (द) उपरोक्त सभी
28. नाभिकीय रिएक्टर में न्यूट्रॉन नियंत्रक के रूप में निम्नलिखित में से क्या प्रयोग किया जाता है?
(अ) भारी जल (ब) ग्रेफाइट (स) कैडमियम या बोरोन (द) एल्युमीनियम

सही जवाब- 1.(स) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खडग़पुर, 2.(स) नोकिया-एक्स, 3.(द) मसूरी, 4.(द) जस्ता, 5.(अ) भारत, 6. (अ) लोहा व इस्पात, 7.(अ) पुष्यमित्र शुंग, 8.(द) बैक्ट्रियन, 9.(स) वसुबंधु, 10.(अ) क्षार, 11.(द)4 प्रतिशत, 12.(अ) आर्यभट्ट, 13.(ब) जबलपुर, मध्यप्रदेश,14.(अ)धरती से 1.3 सेकंड, 15.(स) रोज मिलियन बैथ्यू, 16.(ब) अमीर खुसरो, 17.(ब) टाइम्स ऑफ इंडिया ग्रुप, 18.(अ) संवेग, 19.(स) रॉकेट प्रौद्योगिकी में, 20.(द) संयुक्त राज्य अमेरिका, 21.(ब) रूस, 22.(ब) चिली का पठार, 23.(स) जिप्सम, 24.(द) तंत्रिकीय नियंत्रण, 25.(द)उपर्युक्त सभी आपात की, 26.(द) वर्षा मेघ, 27.(ब) चट्टान काटकर बनाया गया गुफा मंदिर,28.(स) कैडमियम या बोरोन ।
 


27-Feb-2021 2:39 PM 14

मारीटाइम एनर्जी हेली सर्विसेस प्राइवेट लिमिटेड (मीहेयर) ने  वर्ष 2011 में  भारत में समुद्री विमान सेवा की शुरुआत की थी। यह सेवा फिलहाल अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में काम कर रही है।  हालांकि केरल में पहली समुद्री विमानसेवा का शुभारंभ किया गया था, लेकिन साल 2013 में इसे स्थानीय मछुआरों के विरोध के कारण बंद कर देना पड़ा।
अब मीहेयर ने महाराष्ट्र पर्यटन विकास निगम (एमटीडीसी) के साथ मिलकर इस राज्य में भी समुद्री विमान सेवा की शुरुआत 24 फरवरी 2014 को की है। भारत में यह अपनी तरह की पहली सेवा है जो मुंबई के जुहू एयरपोर्ट को राज्य के पर्यटन स्थलों से जोड़ेगी।  अपने पहले चरण में, मीहेयर की योजना एम्वे वैली लेक, मूला दम, पवन दम (लोनावला), वरसगांव डैंम (लवासा) और धूम डैम को जूहू एयरपोर्ट से जोडऩे की है। ये सभी जगहें मुंबई से 30 मिनट की उड़ान दूरी पर स्थित हैं। अपने दूसरे चरण में, मीहेयर की योजना महाराष्ट्र के पांच और जगहों को जोडऩे की है। अप्रैल 2014 में मीहेयर ने नौ सीटों वाली सेसना  208 एंफीबियन एयरक्राफ्ट के साथ पहले से मौजूद चार सीटों वाली सेसना  206 एंफीबियन एयरक्राफ्ट हासिल कर लेगा। समुद्री विमान सेवा का किराया नरीमन प्वांइट से 750 रुपये जबकि दूसरी जगहों से 4 हजार रुपयों से लेकर साढ़े चार हजार रुपयों के बीच होगा।
 


27-Feb-2021 2:38 PM 14

27 फरवरी 2002 वह तारीख है जिसने पूरे गुजरात को बदल दिया। गुजरात के गोधरा रेलवे स्टेशन पर साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन के एस-6 डिब्बे से फैले आग के शोलों ने पूरे गुजरात को झुलसा दिया। साबरमती एक्सप्रेस की वारदात के बाद गुजरात में हुए दंगों में अल्पसंख्यक और बहुसंख्यक समुदाय के करीब एक हजार लोग मारे गए, लेकिन दंगों को लेकर आज भी राजनीति खत्म नहीं हुई है। बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार और गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी पर आरोप लगते रहे हैं कि वे गुजरात का मुख्यमंत्री रहते हुए दंगों पर काबू नहीं कर पाए या फिर काबू पाने की कोशिश नहीं की। गोधरा कांड के बाद ही पूरे गुजरात में धार्मिक दंगे भडक़ गए थे। अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को मारा गया, महिलाओं के साथ बलात्कार हुए और बहुत से बच्चों के सिर से पिता का साया छिन गया। दंगाइयों ने तीन दिनों तक क्रूरता की सारी हदें पार कर दीं।
दंगों की जांच को लेकर कई जांच आयोग बनाए गए और फिर लंबी चलने वाली अदालती प्रक्रिया शुरू हुई। ऐसे ही एक केस में गुजरात की पूर्व मंत्री माया कोडनानी उम्रकैद की सजा काट रही हैं। वे मोदी की करीबी मानी जाती हैं। हालांकि पिछले साल कांग्रेस के पूर्व सांसद एहसान जाफरी की पत्नी की याचिका को खारिज करते हुए गुजरात की एक अदालत ने एसआईटी की क्लोजर रिपोर्ट मंजूर कर ली। एसआईटी ने अपनी क्लोजर रिपोर्ट में मोदी और 63 अन्य लोगों को गुजरात दंगों में भूमिका को लेकर क्लीन चिट दी थी। गोधरा कांड की जांच दो आयोगों ने की और दोनों ने अलग-अलग रिपोर्टें दीं। गोधरा कांड की सुनवाई कर रही एक अदालत ने 2011 में 11 दोषियों को फांसी और 20 दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई।
 


27-Feb-2021 2:38 PM 14

शी टैक्सी खास तौर से महिलाओं के लिए शुरू की गई है। केरल राज्य ने सबसे पहल देश में यह सेवा शुरू करने का फैसला लिया है। तिरूवनंतपुरम में सफल प्रयोग के बाद महिलाओं द्वारा महिलाओं के लिए संचालित होने वाली 24 घंटों की टैक्सी सेवा शी टैक्सी की शुरूआत जल्द ही कोच्चि में भी होने जा रही है।  महिलाओं को सुरक्षित और भरोसेमंद परिवहन सेवा प्रदान करने के साथ-साथ उनमें उद्यमिता और स्वरोजगार की भावना विकसित करने के लिए केरल सरकार के सामाजिक न्याय विभाग के अंतर्गत जेंडर पार्क द्वारा इस सेवा की शुरूआत की गई है। 
इसमें यात्री गाड़ी की बुकिंग ऑनलाइन या मोबाइल से 24 घंटे में कभी भी कर सकते हैं। यात्री एक विशेष नंबर पर फोन कर गाड़ी की बुकिंग कर सकते हैं, यह नंबर पूरे राज्य के लिए एक समान होगा। यात्रियों को एक यूनिक पहचान कोड और शी टैक्सी सर्विस नंबर मिलता है। इससे गाड़ी में चढऩे से पहले यात्री गाड़ी की पहचान कर सकते हैं। गाड़ी यात्रियों को एक पूर्व निर्धारित स्थान से लेकर निर्धारित गंतव्य पर छोड़ती है। यात्री भुगतान के लिए नकद, डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड किसी का भी चयन कर सकते हैं। किराये से संबंधित किसी भी विवाद से बचने के लिए इलेक्ट्रॉनिक किराया प्रणाली की शुरूआत की गई है। इसी के साथ इन गाडिय़ों में मिनी बार और कई अन्य मनोरंजन की सुविधाएं जैसे संगीत और प्ले स्टेशन भी दिए गए हैं।
इन गाडिय़ों को ग्लोबल पॉजिशनिंग सिस्टम(जीपीएस) के साथ डिजाइन कर जोड़ा गया है जिससे वाहन चालक के साथ यात्री की गतिविधियों पर नजर रखी जा सकती है और किसी दुर्घटना की स्थिति में तुरंत सहायता भी प्रदान की जा सकती है। इन गाडिय़ों को किसी आकस्मिक कारणों के समय विशेष तौर पर सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से चौबीसों घंटे चलने वाले आकस्मिक कॉल सेंटर के द्वारा डी मोबिलाइज किया जा सकता है। शी टैक्सी सर्विस में सेफ बस, सेफ मी, सेफ मी मोबाइल और सेफ सिटी रिसपॉंस ईको सिस्टम जैसे प्रमुख सुरक्षा तकनीकों का प्रयोग किया गया है। सेफ बस टैक्नोलॉजी के द्वारा गति नियंत्रण करने, अचानक ब्रेक लगाने और अचानक मुडऩे के साथ इंजन को सुरक्षित रखने के द्वारा चालक के व्यवहार में सुधार किया जाता है।
 शी टैक्सी महिलाओं में उद्यमिता, स्व-रोजगार और वित्तीय सुरक्षा बढ़ाने वाली परियोजना है। परियोजना में एक और सहभागी केरल राज्य महिला विकास निगम महिला उद्यमियों को वित्तीय सहायता प्रदान करता है। इसमें कम ब्याज दरों पर वाहन खरीदने के लिए ऋण दिया जाता है। शी टैक्सी सेवा का स्वामित्व जेंडर पार्क के पास है और वह इसका नियंत्रण और संचालन भी करता है। जेंडर पार्क इस परियोजना के लिए लाभार्थियों का चयन करेगा और उन्हें पूरा वित्तीय सहयोग प्रदान करेगा। इसी के साथ जेंडर पार्क उद्यमियों के लिए जागरूकता, प्रशिक्षण और प्रोत्साहन गतिविधियों का आयोजन भी करेगा।
------


27-Feb-2021 2:37 PM 13

असम गैस क्रैकर परियोजना (एजीसीपी) का शुभारंभ एक समझौता ज्ञापन के अनुसरण में किया गया है। इस समझौता ज्ञापन पर ऑल असम छात्र यूनियन (एएएसयू) और ऑल असम गण परिषद (एएजीपी) के बीच 15 अगस्त, 1985 को हस्ताक्षर किए गए। इसका कार्यान्वयन एक संयुक्त उद्यम कंपनी ब्रहमपुत्र क्रैकर एवं पॉलीमर लिमिटेड (बीसीपीएल), इसकी संशोधित लागत 8 हजार 920 करोड़ रूपये है, जिसमें सब्सिडी के रूप में 4 हजार 690 करोड़ रूपये और 2 हजार 961 करोड़ रूपये कर्ज एवं अंश पूंजी में योगदान शामिल है। यह परियोजना नवम्बर, 2013 तक संचयी रूप से 94.9 प्रतिशत पूरी हो चुकी है। कुछ प्रमुख यूनिटें (गैस स्वीटनिंग यूनिट, कैप्टिव पॉवर बिजली घर, दुलियाजान पाइप लाइन) जनवरी, 2014 में काम शुरू करने के लिए तैयार हो जाएंगी। अन्य यूनिटें जल्दी ही समय पर पूरी कर ली जाएंगी।
असम गैस क्रैकर परियोजना से उम्मीद की जाती है कि डाउनस्ट्रीम प्लास्टिक उद्योग में इसके कारण काफी रोजगार के अवसर पैदा होंगे। यह परियोजना आर्थिक रूप से असम राज्य और पूरे पूर्वोत्तर क्षेत्र के लिए महत्वपूर्ण है।
 


27-Feb-2021 2:36 PM 11

बेंवर खेती पूरी तरह से जैविक, पारिस्थितिक, प्रकृति के अनुकुल और मिश्रित खेती है।  
इसकी खासियत यह है कि इस खेती में एक साथ 16 प्रकार के बीजों का इस्तेमाल किया जाता है, उनमें कुछ बीज अधिक पानी में अच्छी फसल देता है, तो कुछ बीज कम पानी होने या सूखा पडऩे पर भी अच्छा उत्पादन करते हैं। इससे खेत में हमेशा कोई-न-कोई फसल लहलहाती रहती है। फिलहाल इस तरह की खेती पर रोक लगी हुई है। सन् 1864 में अंग्रेजों के वन कानून ने इस पर रोक लगा दी है।  
बेंवर खेती के कई फायदे हैं। बिना हल चलाए खेती करने से पहाड़ अथवा ढ़लान की मिट्टी के कटाव को रोका जाता है। इसके खेत तैयार करने के लिए न तो पेड़ों को काटा जाता है और न ही जमीन जोती जाती है। इसकी सिंचाई और इसमें खाद डालने के लिए किसानों को सोचना भी नहीं पड़ता है। यह पूरी तरह बारिश पर निर्भर है। इसलिए इस तरह की खेती पहाड़ी इलाकों में ज्यादा सुरक्षित है, जहां बारिश समय पर होती है। बेंवर खेती की मिश्रित प्रणाली के कारण फसल में कीड़ा लगने का खतरा भी नहीं रहता है। इसमें बाढ़ और आकाल झेलने की क्षमता भी होती है और यह कम लागत और अधिक उत्पादन की तर्ज पर काम करता है।  
बेंवर खेती के लिए जमीन तैयार करने में भी मशक्कत नहीं करनी पड़ती। मौजूदा खेती की तरह इसमें किसानों को न तो बिजली, पानी के लिए रोना पड़ता है और न ही उर्वरक लेने के लिए मारामारी करनी पड़ती है। इसमें सबसे पहले खेती की जमीन पर छोटे-छोटे पेड़ों और झाडिय़ों को काटकर बिछाया जाता है, फिर झाडिय़ां सूखने के बाद उसमें आग लगा दी जाती है। आग जलने के बाद राख की वहां एक परत बन जाती है, जिसमें बरसात शुरू होने से एक सप्ताह पहले विभिन्न किस्मों के बीज मिलाकर उसे खेत में छिडक़ दिया जाता है। बारिश के बाद उसमें फसल लहलहानी लगती है।   आज भी देश के कई इलाकों में  इस तरह की खेती आदिवासी करते हैं। 
 


26-Feb-2021 1:21 PM 21

1. कौन-सी नदी पश्चिम की ओर से बहते हुए अरब सागर में गिरती है?
(अ) गोदावरी (ब) कृष्णा (स) कावेरी (द) नर्मदा
2. निम्नलिखित में से किस राज्य में प्रत्यावर्ती मानसून का अधिक प्रभाव होता है? 
(अ) ओडि़शा(ब) राजस्थान (स) पंजाब (द) तमिलनाडु
3. सितार तथा वीणा के बजाये गये समान स्वर भिन्न होते हैं?
(अ) पिच में (ब) गुणता में (स) पिच तथा गुणता दोनों में (द) इनमें से कोई नहीं
4. एक संगीत का पैमाने या सरगम (सप्त) में कितने स्वर होते हैं?
(अ) सोलह, एक अष्टबंदी के साथ (ब) छह, एक अष्टबंदी के साथ (स) आठ, एक अष्टबंदी के साथ (द) इनमें से कोई नहीं
5. अक्टूबर, 1959 में पंचायती राज भारत में सर्वप्रथम किस राज्य में आरंभ किया गया?
(अ) राजस्थान में (ब) तमिलनाडु में (स)  केरल में (द) कर्नाटक में
6. जिस समिति की संस्तुति पर देश में पंचायती राज को लागू किया गया था, उसके अध्यक्ष थे?
(अ) अशोक मेहता (ब) बलवंतराय मेहता (स) चिमन भाई पटेल (द) जीवराज मेहता
7. भारत से उत्तर की ओर के देशों में बौद्ध धर्म के जिस संप्रदाय का प्रचलन हुआ, उसका क्या नाम है?
(अ) हीनयान (ब) महायान (स) शून्यवाद (द) इनमें से कोई नहीं
8. बौद्ध धर्म को भारत में अंतिम राजकीय संरक्षण किस वंश के शासकों ने दिया?
(अ) बंगाल के पाल (ब) गुजरात के चालुक्य (स) अजमेर के चौहान (द) इनमें से कोई नहीं
9.  जिसके गं्रथ में चंद्रगुप्त मौर्य का विशिष्ट रूप से वर्णन हुआ है, वह है?
(अ) भास (ब) शूद्रक (स) विशाखदत्त (द) अश्वघोष 
10. भारत में रोजगार की मात्रा में वृद्धि करने के लिए निम्नलिखित में से किस उद्योग में सुधार की आवश्यकता है?
(अ) लोहा एवं इस्पात (ब) चीनी उद्योग (स) सूती कपड़ा उद्योग (द) हथकरघा एवं हस्तशिल्प
11. ताना भगत सिंह आंदोलन की शुरुआत कब और कहां से हुई?
(अ) 1914, बिहार (ब) 1914, पश्चिम बंगाल (स) 1914, असम (द) 1919 मध्यप्रदेश
12. कृषि संबंधी समस्याओं के खिलाफ वह कौन सा आंदोलन है, जिसके अध्यक्ष भगत जवाहर मल थे?
(अ) नील की क्रांति (ब) कूका आंदोलन (स) ताना भगत सिंह आंदोलन (द) खिलाफत आंदोलन
13. भारत में सर्वोच्च न्यायालय की स्थापना कैसे की गई थी?
(अ) संसद के अधिनियम द्वारा (ब) संविधान द्वारा (स) भारत सरकार अधिनियम, 1935 के अंतर्गत (द) राष्ट्रपति के आदेश द्वारा
14. क्रिप्स मिशन की असफलता का प्रमुख कारण क्या था?
(अ) मिशन के प्रस्ताव आश्वासन मात्र थे (ब) मिशन से कोई भारतीय सदस्य नहीं था (स) मिशन के प्रस्तावों में देश में फूट डालने के बीज निहित थे (द) मुस्लिम लीग और कांग्रेस दोनों ने ही उसके प्रस्तावों को अस्वीकार कर दिया
15. पृथ्वी की उत्पत्ति से संबंधित सिद्धांत क्या है?
(अ) प्रवाह सिद्धांत (ब) चतुष्फलक सिद्धांत (स) ग्रहाणु सिद्धांत (द) तरंग संवाहन सिद्धांत 
16. जैन समुदाय में प्रथम विभाजन के श्वेताम्बर संप्रदाय के संस्थापक कौन थे?
(अ) स्थूलभद्र (ब)भद्रबाहु (स) कालकाचार्य (द) देवर्षि क्षमाश्रमण
17. मामल्लपुरम् के प्रसिद्ध गणेशमंदिर का निर्र्माण किस पल्लव शासन ने करवाया था? 
(अ) नरसिंहवर्मन प्रथम (ब) महेंद्रवर्मन प्रथम (स) सिंहविष्णु (द) परमेश्वरवर्मन प्रथम
18. भारत के केंद्र में अंतरिम सरकार का गठन कब हुआ था?
(अ) क्रिप्स मिशन के आगमन के बाद (ब) क्रिप्स मिशन के आगमन के पूर्व (स) माउंट बेटन द्वारा अपनी योजना प्रस्तुत करने के बाद (द) कैबिनेट मिशन के आने के बाद
19. असहयोग आंदोलन स्थगित करने का तात्कालिक कारण क्या था?
(अ) मुस्लिमों द्वारा समर्थन वापस लेना (ब) सरकार द्वारा उसकी मांगें मान ली जाना (स) चौरी-चौरा कांड (द) उपर्युक्त सभी  
20. यदि धु्रवों के पास बर्फ पिघल जाए तो दिन की लंबाई पर क्या प्रभाव पड़ेगा?
(अ) अपरिवर्तित रहेगी (ब) बढ़ जाएगी (स) घट जाएगी (द) इनमें से कोई नहीं
21. निम्नलिखित में से किस एक नगर में भूमध्य सागरीय जलवायु नहीं पाई जाती है?
(अ) लास एंजिल्स (ब) रोम (स) केपटाउन (द) न्यूयार्क
22. भारतीय उपमहाद्वीप मूलत: एक विशाल भूखंड का भाग था, जिसे कहते हैं?
(अ) जूरासिक भूखंड (ब) आर्यावर्त (स) इंडियाना (द) गोंडवाना महाद्वीप
23. भारतीय मानक समय निम्नलिखित में से किसके समीप से लिया जाता है?
(अ) इलाहाबाद, नैनी (ब) लखनऊ (स) मेरठ (द) दिल्ली
24. भारत के निम्न  में से किस राज्य का समुद्री तट सबसे अधिक लंबा है?            
(अ) आंध्रप्रदेश (ब) महाराष्ट्र (स) गुजरात (द) तमिलनाडु 
25. यूरोप की कौन सी नदी कोयला नदी के नाम से जानी जाती है?
(अ) टेम्स (ब) राइन (स) रोन (द) एल्ब 
26. मद्रास में जाड़ों में वर्षा किस स्थिति के कारण होती है?
(अ) दक्षिणी-पश्चिमी मानसून से (ब) उत्तरी पूर्वी मानसून से (स) स्थलीय व सामुद्रिक हवाओं से (द) इनमें से कोई नहीं

सही जवाब- 1.(द) नर्मदा, 2.(अ) उड़ीसा, 3.(ब) गुणता में, 4.(स) आठ, एक अष्टबंदी के साथ, 5.(अ) राजस्थान में, 6.(ब) बलवंतराय मेहता, 7.(ब) महायान, 8.(अ) बंगाल के पाल, 9.(अ) भास, 10.(स)सूती कपड़ा उद्योग,  11.(अ)1914, बिहार, 12.(ब)कूका आंदोलन,  13.(स) भारत सरकार अधिनियम, 1935 के अंतर्गत, 14.(द) मुस्लिम लीग और कांग्रेस दोनों ने ही उसके प्रस्तावों को अस्वीकार कर दिया, 15.(स)ग्रहाणु सिद्धांत, 16.(अ) स्थूलभद्र, 17.(द) परमेश्वरवर्मन प्रथम, 18.(द) कैबिनेट मिशन के आने के बाद, 19.(स) चौरी-चौरा कांड, 20.(ब) बढ़ जाएगी, 21.(द) न्यूयार्क, 22.(द) गोंडवाना महाद्वीप, 23.(अ) इलाहाबाद, नैनी, 24.(स) गुजरात, 25.(ब) राइन, 26.(ब) उत्तरी पूर्वी मानसून से।
 

 


26-Feb-2021 1:18 PM 17

26 फरवरी 1993 को  न्यूयॉर्क के वल्र्ड ट्रेड सेंटर की कार पार्किंग में बम धमाका हुआ था। शक्तिशाली बम धमाके में 6 लोग मारे गए थे और करीब एक हजार लोग जख्मी हुए।
आतंकियों ने न्यूयॉर्क के वल्र्ड सेंटर को निशाना बनाया था। यह हमला अमेरिका में इस तरह का पहला हमला था। जांचकर्ताओं को धमाके वाली जगह पर एक वैन की नंबर प्लेट मिली। इस नंबर प्लेट के जरिए पुलिस मोहम्मद सालामेह तक पहुंची।  सालामेह ने वैन किराये पर ली थी और 25 फरवरी को इसकी चोरी की रिपोर्ट की थी। सालामेह के घर और दस्तावेजों की जांच के बाद दो और आरोपी पकड़े गए। इस दौरान न्यूजर्सी में भंडारण की सुविधा देने वाला एक शख्स सामने आया और उसने बताया कि 25 फरवरी को चार लोग वैन में कुछ भरते दिखे थे। जब पुलिस ने गोदाम की तलाशी ली तो उसे वहां केमिकल्स मिले। जांचकर्ताओं को गोदाम से वीडियो टेप भी मिला जिसमें बम बनाने का तरीका बताया गया था। इस अहम सबूत के मिलने के साथ ही चौथा आरोपी भी पुलिस के शिंकजे में आ गया था।

आतंकियों ने धमाके की जिम्मेदारी लेते हुए न्यूयॉर्क टाइम्स को एक चि_ी भी लिखी थी। एक आरोपी के दफ्तर से चि_ी के कुछ अंश मिले थे। आखिरकार डीएनए जांच से लिफाफे पर लगी लार एक आरोपी से मिल गई। आरोपियों को सजा दिलाने के लिए जांचकर्ताओं के पास ढेरों सबूत थे। कोर्ट ने सभी आरोपियों को दोषी पाया और हर एक को 240 सालों की सजा सुनाई। 11 सितंबर 2011 को एक बार फिर वल्र्ड ट्रेड सेंटर आतंकियों के निशाने पर आया। अलकायदा के आतंकियों ने एक के बाद एक दो विमान टावरों से टकरा दिए। इस आतंकी हमले में तीन हजार से ज्यादा लोग मारे गए। हमले के कुछ घंटों के बाद ही इस बिल्ंिडग के दोनों टावर जमींदोज हो गए थे। 
 


26-Feb-2021 1:17 PM 17

कबिट(Limonia acidissima L) लीमोन्या आकीदीस्सीमा  एक फल है जो बेल जैसा होता है। इसे  कपित्थ या कठबेल भी कहते हैं। आयुर्वेद में कबीट को पेट रोगों का विशेषज्ञ माना गया है। इसका जहां शरबत के रूप में इस्तेमाल किया जाता है, वहीं चटनी भी खूब पसंद की जाती है। भारत में कबिट दक्षिण भारत से लेकर ठेठ उत्तर क्षेत्र में पाया जाता है। इसके अलावा यह बांग्लादेश, पाकिस्तान, श्रीलंका, जावा, मलेशिया आदि में भी पाया जाता है।
मोटे तौर पर कबिट को दो वर्गों में विभाजित किया जा सकता है। पहले वर्ग में छोटे आकार के कबिट फल होते हैं जो स्वाद में बहुत खट्टे होते हैं साथ ही गले पर भी असर करते हैं। दूसरे वर्ग में वह कबिट है जो आकार में बड़ा होता है। इसका गूदा खट्टापन लिए मीठा होता है।
 


26-Feb-2021 1:16 PM 17

Malwarebytes (मैलवेयरबाइट्स) एक प्रकार का कम्प्यूटर प्रोग्राम है। अगर आपको अपने कंप्यूटर में वायरस, स्पाइवेयर या किसी दूसरी किस्म की सिक्यॉरिटी समस्या के मौजूद होने का अंदेशा है, तो यह छोटा-सा टूल मैलवेयरबाइट्स उसे दूर कर सकता है। अगर ऐसा नहीं भी है, तो इसे इन्स्टॉल करके आप भविष्य में वायरस, स्पाइवेयर या कीलॉगर जैसे खतरों से अपने कंप्यूटर को बचा सकते हैं। आकार में छोटा यह एक बहुत ही मजबूत सिक्यॉरिटी प्रोग्राम है, जो फ्री डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। 

अगर आपके सिस्टम में वायरस का इन्फेक्शन हो चुका है तो इसे किसी दूसरे सुरक्षित कंप्यूटर में डाउनलोड करें। इसके बाद इन्स्टॉलेशन फाइल को पेन ड्राइव में कॉपी कर लें और वहीं से डबल क्लिक करके इसे चलाएं। यह आपके सिस्टम में मौजूद मेलवेयर्स (नुकसानदेह सॉफ्टवेयर) का सफाया कर देगा। कई बार मेलवेयर प्रोग्राम इसे पहचानकर डिलीट करने की कोशिश भी कर सकते हैं, इसलिए सावधानी के तौर पर इसकी फाइल का नाम  द्वड्ढड्डद्व.द्ग3द्ग से बदलकर अपनी पसंद का कोई भी नाम कर लें। उसके बाद ही इसे चलाएं। 
 


26-Feb-2021 1:15 PM 13

साहित्य की दुनिया में मील का पत्थर साबित होने के साथ-साथ लोकप्रियता के झंडे गाडऩे वाला एक उपन्यास फणीश्वरनाथ रेणु का  मैला आंचल भी है। रेणुजी ने भारत के स्वाधीनता आंदोलन में भाग लिया था और नेपाल की राणाशाही विरोधी क्रांति में भी एक योद्धा के रूप में सक्रिय रहे थे। फिर उन्हें लंबी बीमारी झेलनी पड़ी। शायद इन्हीं कारणों से उनका लेखन बाधित रहा। बीमारी से उबरने के बाद उन्होंने इस उपन्यास की रचना की, लेकिन एक बिल्कुल नए और अनजान लेखक की रचना लेने के लिए कोई प्रकाशक तैयार नहीं हुआ। नतीजतन इसका पहला संस्करण रेणुजी को अपनी जेब से पैसे लगाकर 1954 में खुद प्रकाशित करना पड़ा था।
वह समय ऐसा था जब किसी नए रचनाकार की अच्छी रचना को भी बड़े लेखक और आलोचक गंभीरता से लेते थे। इलाहाबाद के कॉफी हाउस की एक गोष्ठी में जब इस उपन्यास पर चर्चा हो रही थी, तो संयोग से वहां राजकमल प्रकाशन के संचालक ओमप्रकाश भी मौजूद थे। उपन्यास की प्रशंसा सुनकर उन्होंने उसकी एक प्रति हासिल की, उसे रातों-रात पढ़ डाला और उससे इतने प्रभावित हुए कि तुरंत टिकट कटा कर पटना पहुंच गए। फिर तो वे रेणुजी के साथ मैला आंचल के प्रकाशन का अनुबंध करके ही लौटे और इस तरह एक सशक्त उपन्यास को हिंदी में उस समय का सर्वश्रेष्ठ प्रकाशक मिल गया। 
जैसा कि हर अच्छी रचना के साथ होता है, मैला आंचल के खिलाफ भी बहुत कुछ लिखा गया। उसकी आंचलिकता को लेकर कटु आलोचनाएं की गईं। उसे बंगाली उपन्यास ढोंढाई चरित का अनुवाद बताकर ध्वस्त करने की कोशिश की गई। लेकिन इन सबसे बेखबर मैला आंचल मस्त हाथी की तरह चलता रहा। 1954 से अब तक इसके 20 हार्डबाउंड संस्करण हो चुके हैं। 1984 में पहली बार यह पेपरबैक में आया और इस रूप में भी इसके 26 संस्करण हो चुके हैं। 
 


26-Feb-2021 1:14 PM 19

गिलोय का वैज्ञानिक नाम है--तिनोस्पोरा कार्डीफोलिया । इसे अंग्रेजी में गुलंच कहते हैं। कन्नड़ में अमरदवल्ली , गुजराती में गालो , मराठी में गुलबेल , तेलगू में गोधुची ,तिप्प्तिगा , फारसी में गिलाई,तमिल में शिन्दिल्कोदी आदि नामों से जाना जाता है। 
गिलोय में ग्लुकोसाइन ,गिलो इन , गिलोइनिन , गिलोस्तेराल तथा बर्बेरिन नामक एल्केलाइड पाए जाते हैं। ज्यादातर नीम के पेड़ के साथ इसकी बेल को चढ़ाया जाता है, जिससे गिलोय के गुण और बढ़ जाते हैं।  नीम पर चढ़ी हुई गिलोय उसी का गुड अवशोषित कर लेती है ,इस कारण आयुर्वेद में वही गिलोय श्रेष्ठ मानी गई है जिसकी बेल नीम पर चढ़ी हुई हो।  गिलोय को अमृता भी कहा जाता है क्योंकि यह स्वयं भी नहीं मरती है और उसे भी मरने से बचाती है , जो इसका प्रयोग करे। कहा जाता है की देव दानवों के युद्ध में अमृत कलश की बूंदें जहां -जहां पड़ी , वहां वहां गिलोय उग गई ।  इसकी बेल बड़ी तेजी से बढ़ती है। इसके पत्ते पान की तरह बड़े आकार के हरे रंग के होते हैं। गर्मी के मौसम में आने वाले इसके फूल छोटे गुच्छों में होते हैं और इसके फल मटर जैसे अण्डाकार, चिकने गुच्छों में लगते हैं जो बाद में पकने पर लाल रंग के हो जाते हैं। गिलोय के बीज सफेद रंग के होते हैं। जमीन या गमले में इसकी बेल का एक छोटा सा टुकड़ा लगाने पर भी यह उग जाती है और बड़ी तेज गति से स्वछन्द रूप से बढ़ती जाती है और जल्दी ही बहुत लम्बी हो जाती है।

कुछ तीखे कड़वे स्वाद वाली गिलोय देशभर में पाई जाती है। आयुर्वेद में इसका महत्वपूर्ण स्थान है। आचार्य चरक ने गिलोय को वात दोष हरने वाली श्रेष्ठ औषधि माना है। वैसे इसका त्रिदोष हरने वाली, रक्तशोधक, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली, ज्वर नाशक, खांसी मिटाने वाली प्राकृतिक औषधि के रूप में खूब उपयोग किया जाता है। यह एक झाड़ीदार लता है। इसकी बेल की मोटाई एक अंगुली के बराबर होती है इसी को सुखाकर चूर्ण के रूप में दवा के तौर पर प्रयोग करते हैं। 

टाइफायड, मलेरिया, कालाजार, डेंगू, एलीफेंटिएसिस, विषम ज्वर, उल्टी, बेहोशी, कफ, पीलिया, धातु  विकार, यकृत निष्क्रियता, तिल्ली बढऩा, सिफलिस, एलर्जी सहित अन्य त्वचा विकार, झाइयां, झुर्रियां, कुष्ठ आदि में गिलोय का सेवन आश्चर्यजनक परिणाम देता है। यह शरीर में इंसुलिन उत्पादन क्षमता बढ़ाती है। रोगों से लडऩे, उन्हें मिटाने और रोगी में शक्ति के संचरण में यह अपनी विशिष्ट भूमिका निभाती है। सचमुच यह प्राकृतिक ‘कुनैन’ है। इसका नियमित प्रयोग सभी प्रकार के बुखार, फ्लू, पेट कृमि, रक्त विकार, निम्न रक्तचाप, हृदय दौर्बल्य, क्षय (टीबी), मूत्र रोग, एलर्जी, उदर रोग, मधुमेह, चर्म रोग आदि अनेक व्याधियों से बचाता है। गिलोय भूख भी बढ़ाती है। इसकी तासीर गर्म होती है। एक बार में गिलोय की लगभग 20 ग्राम मात्रा ली जा सकती है। इसमें प्रचुर मात्रा में एन्टी आक्सीडेन्ट होते हैं। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर सर्दी, जुकाम, बुखार से लेकर कैंसर तक में लाभकारी है।  
 


25-Feb-2021 12:45 PM 27

1. इंद्रधनुष कितने रंग का दिखाई देता है?
(अ) 7 (ब) 10 (स) 12 (द) 3
2. इंद्रधनुष किसके कारण होता है?
(अ)परावर्तन (ब)अपवर्तन (स)प्रकीर्णन (द)परावर्तन एवं अपवर्तन
3. आकाश का रंग नीला दिखाई देता है, क्योंकि?
(अ) सूर्य के प्रकाश में अन्य रंगों की अपेक्षा नीला रंग अधिक है (ब) छोटी तरंगदैध्र्य वाला प्रकाश बड़ी तरंगदैध्र्य वाले प्रकाश की अपेक्षा वायुमंडल के द्वारा अधिक प्रकीर्णित होता है (स) नेत्र नीले रंग के लिए अधिक संवेदनशील है (द) वायुमंडल लंबी तरंगों को छोटी तरंगों की अपेक्षा अधिक अवशोषित करता है
4. उगते एवं डूबते समय सूर्य लाल प्रतीत होता है, क्यों?
(अ) लाल रंग का प्रकीर्णन सबसे अधिक होता है (ब) लाल रंग का प्रकीर्णन सबसे कम होता है (स) लाल रंग का प्रकीर्णन नहीं होता है (द) उगते व डूबते समय सूर्य का ताप अधिक होता है
5. अस्त होते समय सूर्य लाल किस कारण दिखाई देता है?
(अ) परावर्तन (ब) प्रकीर्णन (स) अपवर्तन (द) विवर्तन
6. अभिसारी लेंस वह होता है, जो- 
(अ) किरणें फैलाता है (ब) किरणें एकत्रित करता है (स) काल्पनिक प्रतिबिम्ब बनाता है (द) वास्तविक प्रतिबिम्ब बनाता है
7. सबसे कम तरंगदैध्र्य वाला प्रकाश कौन से रंग का होता है?
(अ) लाल (ब) पीला (स) नीला (द) बैंगनी
8. मानव की आंख वस्तु का प्रतिबिम्ब निम्नलिखित में से किस भाग पर बनाती है?
(अ) कॉर्निया (ब) परितारिका (स) पुतली (द) रेटिना
9. प्रकाश की गति किसके बीच से जाते हुए न्यूनतम होती है?
(अ) कांच (ब) निर्वात (स) जल (द) वायु
10. किसी तारे के रंग से पता चलता है, उसके?
(अ) भार का (ब) आकार का (स) ताप का (द) दूरी का
11. निम्नलिखित में से नक्षत्र किसे माना जाता है?
(अ) सूर्य (ब) मंगल (स) बृहस्पति (द) चंद्रमा
12. सूर्य से सबसे अधिक दूरी पर कौन सा गृह स्थित है?
(अ) शुक्र (ब) मंगल (स) शनि (द) यम (प्लूटो)
13. जैन धर्म श्वेतांबर एवं दिगंबर संप्रदायों में कब विभाजित हुआ?
(अ) चंद्रगुप्त मौर्य के समय में (ब)अशोक के समय में  (स) कनिष्क के समय में (द) उपर्युक्त में से कोई नहीं 
14. भारत में सर्वाधिक कोयला भंडार किस राज्य में पाए जाते हैं?
(अ)छत्तीसगढ़ में (ब)झारखंड में(स)मध्य प्रदेश (द) उड़ीसा में 
15. राजस्थान भारत मेें निम्न में से किसका सर्वाधिक उत्पादक राज्य है?
(अ)ग्रेनाइट (ब) कपास (स) ऊन  (द) मसाले
16. किसने सहिष्णुता,उदारता और करूणा के त्रिविध आधार पर राजधर्म की स्थापना की?
(अ) अशोक (ब) अकबर  (स)रणजीत सिंह (द) शिवाजी 
17. एशिया का सबसे बड़ा नगर कौन सा है?
(अ) शंघाई (ब) मुंबई (स) ओसाका (द) टोकियो
18. विद्युत फिटिंग्स में एक तार को भू-संपर्कित किया जाता है, इसका क्या कारण है?
(अ) यदि लघु पथन हो जाए तो धारा भूमि में चली जाएगी (ब) इससे विद्युत का क्षय नहीं होता है (स) यह विद्युत परिपथ को पूर्ण करता है (द) इससे विद्युत का उच्चावचन दूर हो जाता है
19. एक कार बैटरी में प्रयुक्त विद्युत अपघट्य होता है?
(अ) हाइड्रोक्लोरिक अम्ल (ब) सल्फ्यरिक अम्ल (स) नाइट्रिक अम्ल (द) आसुत जल
20. एक विद्युत सर्किट में एक फ्यूज तार का उपयोग किया जाता है?
(अ) संचारण में विद्युत ऊर्जा के खर्च को कम करने के लिए (ब) वोल्टेज के स्तर को स्थिर रखने के लिए (स) सर्किट में प्रवाहित होने वाले अधिक विद्युत धारा को रोकने के लिए (द) विद्युत तार को अधिक गर्म होने से बचाने के लिए
21. फ्यूज का सिद्धांत क्या है?
(अ) विद्युत का रासानिक प्रभाव (ब) विद्युत का यांत्रिक प्रभाव (स) विद्युत का ऊष्मीय प्रभाव (द) विद्युत का चुंबकीय प्रभाव
22. तडि़त चालक का आविष्कार किसने किया?
(अ) ग्राहम बेल ने (ब)  बेंजामिन फ्रेंकलिन ने (स) लॉर्ड लिस्टर ने  (द) आइंस्टीन ने
23. तडि़त चालक किससे बनाए जाते हैं?
(अ) लोहे के (ब) एल्युमीनियम के (स) तांबे के (द) इस्पात के
24. भारत में उच्चतम न्यायालय में न्यायाधीशों की संख्या बढ़ाने का अधिकार किसके पास होता है?
(अ) भारत की संसद (ब) भारत का राष्ट्रपति (स) केंद्रीय विधि मंत्रालय (द) भारत का मुख्य न्यायाधीश
25. सर्वोच्च न्यायालय के जजों का वेतन किससे आहरित होता है?
(अ) सहायक अनुदान (ब) आकस्मिता निधि (स) संचित निधि (द) लोकलेखा
26. तारकुंडे समिति तथा गोस्वामी समिति का संबंध है?
(अ) चुनाव व्यवस्था में आमूल सुधार (ब) चुनाव में अपराधी तत्वों की वृद्धि पर प्रतिबंध (स) राज्य द्वारा निर्वाचन के लिए वित्तीय सहायता (द) चुनाव में काला धन के बढ़े प्रभाव पर रोक
27. हड़प्पाकालीन समाज किन वर्गों में विभक्त था?
(अ) शिकारी, पुजारी, किसान और क्षत्रिय (ब) विद्वान, योद्धा, व्यापारी और श्रमिक (स) ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य और शूद्र (द) राजा, पुरोहित, सैनिक और शूद्र 
28. सिंधु घाटी सभ्यता के लोगों के संबंध में क्या सत्य है?
(अ) ये मूर्तियों का निर्माण करते थे, मंदिरों का नहीं (ब) ये मूर्तियों और मंदिरों दोनों का निर्माण करते थे (स) केवल मंदिरों का निर्माण करते थे, मूर्तियों का नहीं (द) ये मूर्तियों और मंदिरों दोनों का निर्माण नहीं करते थे 

सही जवाब-1.(अ) 7, 2.(द) परावर्तन एवं अपवर्तन, 3.(ब) छोटी तरंगदैध्र्य वाला प्रकाश बड़ी तरंगदैध्र्य वाले प्रकाश की अपेक्षा वायुमंडल के द्वारा अधिक प्रकीर्णित होता है, 4.(ब)लाल रंग का प्रकीर्णन सबसे कम होता है, 5.(ब) प्रकीर्णन, 6.(ब) किरणें एकत्रित करता है, 7.(द)बैंगनी, 8.(द)रेटिना, 9.(द) वायु, 10.(अ) भार का, 11.(अ) सूर्य, 12.(द) यम (प्लूटो), 13.(अ) चंद्रगुप्त मौर्य के समय में, 14.(ब) झारखंड में, 15.(अ)ग्रेनाइट, 16.(अ)अशोक, 17.(द) टोकियो, 18. (अ) यदि लघु पथन हो जाए तो धारा भूमि में चली जाएगी, 19.(ब) सल्फ्यरिक अम्ल, 20.(स) सर्किट में प्रवाहित होने वाले अधिक विद्युत धारा को रोकने के लिए, 21.(स) विद्युत का ऊष्मीय प्रभाव, 22.(ब)  बेंजामिन फ्रेंकलिन ने, 23.(स) तांबे के, 24.(अ) भारत की संसद, 25.(स) संचित निधि, 26.(अ) चुनाव व्यवस्था में आमूल सुधार,  27.(ब) विद्वान, योद्धा, व्यापारी और श्रमिक, 28.(अ) ये मूर्तियों का निर्माण करते थे, मंदिरों का नहीं।


25-Feb-2021 12:42 PM 25

साहित्य अकादमी की स्थापना 12 मार्च 1954 में की गई। साहित्य अकादमी के प्रथम अध्यक्ष प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू और उपाध्यक्ष डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन थे। जवाहरलाल नेहरू वर्ष 1954 से 1964 तक और डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन वर्ष 1954 से 1960 तक इन पदों पर रहे।
भारत की साहित्य अकादमी भारतीय साहित्य के विकास के लिये सक्रिय कार्य करने वाली राष्ट्रीय संस्था है।  इसके गठन का  उद्देश्य उच्च साहित्यिक मानदंड स्थापित करना, भारतीय भाषाओं और भारत में होने वाली साहित्यिक गतिविधियों का पोषण और समन्वय करना है। साहित्य अकादमी प्रतिवर्ष भारत की अपने द्वारा मान्यता प्रदत्त प्रमुख भाषाओं में से प्रत्येक में प्रकाशित सर्वोत्कृष्ट साहित्यिक कृति को पुरस्कार प्रदान करती है। पहली बार ये पुरस्कार सन् 1955 में दिए गए।
हिन्दी के आलोचक और कवि डॉ. विश्वनाथ प्रसाद तिवारी को साहित्य अकादमी का अध्यक्ष 18 फरवरी 2013 को निर्वाचित किया गया। वह साहित्य अकादमी के अध्यक्ष बनने वाले हिन्दी के पहले साहित्यकार हैं। विश्वनाथ प्रसाद तिवारी साहित्य अकादमी के 12वें अध्यक्ष हैं। इनका कार्यकाल 5 वर्ष निर्धारित है। विश्वनाथ प्रसाद तिवारी ने सुनील गंगोपाध्याय का स्थान लिया। सुनील गंगोपाध्याय का वर्ष 2012 में निधन हो गया था।
 


25-Feb-2021 12:41 PM 26

जीरो बजट प्राकृतिक खेती देसी गाय के गोबर एवं गौमूत्र पर आधारित है । एक देसी गाय के गोबर एवं गौमूत्र से एक किसान तीस एकड़ जमीन पर जीरो बजट खेती कर सकता है । देसी प्रजाति के गौवंश के गोबर एवं मूत्र से जीवामृत, घनजीवामृत तथा जामन बीजामृत बनाया जाता है । इनका खेत में उपयोग करने से मिट्टी में पोषक तत्वों की वृद्धि के साथ-साथ जैविक गतिविधियों का विस्तार होता है । जीवामृत का महीने में एक अथवा दो बार खेत में छिडक़ाव किया जा सकता है । जबकि बीजामृत का इस्तेमाल बीजों को उपचारित करने में किया जाता है । इस विधि से खेती करने वाले किसान को बाजार से किसी प्रकार की खाद और कीटनाशक रसायन खरीदने की जरूरत नहीं पड़ती है। फसलों की सिंचाई के लिये पानी एवं बिजली भी मौजूदा खेती-बाड़ी की तुलना में दस प्रतिशत ही खर्च होती है ।
 गाय से प्राप्त सप्ताह भर के गोबर एवं गौमूत्र से निर्मित घोल का खेत में छिडक़ाव खाद का काम करता है और भूमि की उर्वरकता का ह्रास भी नहीं होता है। इसके इस्तेमाल से एक ओर जहां गुणवत्तापूर्ण उपज होती है, वहीं दूसरी ओर उत्पादन लागत लगभग शून्य रहती है ।  
जीरो बजट प्राकृतिक खेती जैविक खेती से भिन्न है तथा ग्लोबल वार्मिंग और वायुमंडल में आने वाले बदलाव का मुकाबला एवं उसे रोकने में सक्षम है। इस तकनीक का इस्तेमाल करने वाला किसान कर्ज के झंझट से भी मुक्त रहता है। आंकड़ों के अनुसार अब तक देश में करीब 40 लाख किसान इस विधि से जुड़े हुए हंै । 
 


25-Feb-2021 12:41 PM 20

उष्ण कटिबंधीय वर्षा वन लम्बे पेड़ों, उष्ण जलवायु़ और भारी वर्षा से युक्त वन है। कुछ वर्षा वनों में प्रतिदिन एक इंच से अधिक वर्षा होती है।
वर्षा वन अफ्रीका, एशिया , आस्ट्रेलिया और मध्य और दक्षिणी अमेरिका  में पाए जाते हैं। विश्व में सबसे बड़ा वर्षावन अमेजऩ वर्षावन है।
वर्षावन वे जंगल हैं, जिनमें प्रचुर मात्रा में वर्षा होती है अर्थात जहां न्यूनतम सामान्य वार्षिक वर्षा 1750-2000 मिमी (68-78 इंच) के बीच है। मानसूनी कम दबाव का क्षेत्र जिसे वैकल्पिक रूप से अंतर-उष्णकटिबंधीय संसृति क्षेत्र के नाम से जाना जाता है, की पृथ्वी पर वर्षावनों के निर्माण में उल्लेखनीय भूमिका है।
विश्व के पशु-पौधों की सभी प्रजातियों का कुल 40 से 75 प्रतिशत इन्हीं वर्षावनों का मूल प्रवासी है। यह अनुमान लगाया गया है कि पौधों, कीटों और सूक्ष्मजीवों की कई लाख प्रजातियां अभी तक खोजी नहीं गई हैं। उष्णकटिबंधीय वर्षावनों को पृथ्वी के आभूषण और संसार की सबसे बड़ी औषधशाला कहा गया है, क्योंकि एक चौथाई प्राकृतिक औषधियों की खोज यहीं हुई है। विश्व के कुल ऑक्सीजन प्राप्ति का 28 प्रतिशत वर्षावनों से ही मिलता है, इसे अक्सर कार्बन डाई ऑक्साइड से प्रकाश संश्लेषण के द्वारा प्रसंस्करण कर जैविक अधिग्रहण के माध्यम से कार्बन के रूप में भंडारण करने वाले ऑक्सीजन उत्पादन के रूप में गलत समझ लिया जाता है।
भूमि स्तर पर सूर्य का प्रकाश न पहुंच पाने के कारण वर्षावनों के कई क्षेत्रों में बड़े वृक्षों के नीचे छोटे पौधे और झाडिय़ां बहुत कम उग पाती हैं। इस से जंगल में चल पाना संभव हो जाता है। यदि पत्तों को काट दिया जाए या हलका कर दिया जाए, तो नीचे की जमीन जल्दी ही घनी उलझी हुई बेलों, झाडिय़ों और छोटे-छोटे पेड़ों से भर जाएगी, जिसे जंगल कहा जाता है। दो प्रकार के वर्षावन होते हैं, उष्णकटिबंधीय वर्षावन तथा समशीतोष्ण वर्षावन।
विश्व के अनेक वर्षावन मानसून के कम दबाव के क्षेत्र वाले स्थानों से संबद्ध हैं, जिन्हें अंतर-उष्णकटिबंधीय संसृति क्षेत्र के नाम से भी जाना जाता है।  उष्णकटिबंधीय वर्षावन वे वर्षावन हैं, जो उष्ण कटिबंधों में स्थित हैं और जमैका के पास (कर्क रेखा एवं मकर रेखा के बीच) पाए जाते हैं और दक्षिण पूर्व एशिया (म्यांमार से फिलीपींस, इंडोनेशिया, पापुआ न्यू गिनी और पूर्वोत्तर ऑस्ट्रेलिया), श्रीलंका, कैमरून से कांगो (कांगो वर्षावन) तक उप-सहारा अफ्रीका, दक्षिण अमेरिका (जैसे अमेजन वर्षावन), मध्य अमेरिका (जैसे बोसावास, दक्षिणी युकाटेन प्रायद्वीप - एल-पेटेन-बेलीज-कैलैकमुल) और कई प्रशांत द्वीप समूह (जैसे हवाई) में मौजूद हैं।

पोजोलाना क्या है ?
पोजोलाना एक प्राकृतिक अथवा कृत्रिम सामग्री है जिसमें सिलिका अभिक्रियाशील रूप में पाई जाती है ।   पोजोलाना एक सिलीसियस अथवा सिलिसियस एवं एलूमिनियस सामग्री है जिसमें इसके अपने बहुत कम अथवा नगण्य संयोजी गुणधर्म होते हैं परन्तु महीन रूप से विभावित रूप में।  आर्द्रता की उपस्थिति में यह रासायनिक रूप से प्रतिक्रिया करती है जिससे कांक्रीट के विशिष्ट गुणधर्म आ जाते हैं । फ्लाईऐश, माइक्रोसिलिका, राइस-हस्क, जीजीबीएस, मेटाकोलाइन पोजोलोनिक सामग्रियों के कुछ उदाहरण हैं ।
 


25-Feb-2021 12:40 PM 16

टैन या कर कटौती और संग्रहण खाता संख्या एक 10 अंकीय वर्णात्मक संख्या है जिसको प्राप्त करने की आवश्यकता सभी व्यक्तियों को होती है जो कर कटौती करने या स्रोत पर आयकर विभाग की ओर से संग्रहण करने की आवश्यकता है उन्हें टैन के लिए आवेदन करने एवं प्राप्त करने की आवश्यकता है उन्हें टैन के लिए आवेदन करने एवं प्राप्त करने की आवश्यकता होती है। 
टैन आय कर विभाग द्वारा टिन सुविधा केंद्रों, जिसका प्रबंधन नेशनल सिक्युरिटी डिपोजिटरी लिमिटेड (एनएसडीएल).द्वारा किया जाता है, को प्रस्तुत आवेदन के आधार पर आबंटित किया जाता है। एनएसडीएल टैन को सूचित करेगा जिसे सभी टीडीएस/टीसीएस संबंधी भावी पत्राचार में उल्लेख करने की आवश्यकता होगी।  आयकर अधिनियम सभी टीडीएल/टीसीएस विवरणियों, सभी टीडीएस / टीसीएस भुगतान चालानों और सभी टीडीएस/टीसीएस जारी किए जाने वाले प्रमाणपत्रों में इसका उल्लेख करना अनिवार्य बनाता है। टैन के लिए आवेदन न करने या अधिनियम के किसी भी प्रावधान का अनुपालन न करने से दण्ड दिया जा सकता है। टीडीएस/टीसीएस विवरणियां स्वीकार नहीं की जाएंगी यदि टैन का उल्लेख न किया गया हो और टीडीएस/टीसीएस भुगतान के लिए चालान बैंकों द्वारा स्वीकार नहीं किया जाएगा।
 


25-Feb-2021 12:37 PM 25

बेंवर खेती , कृषि का ही एक पारंपरिक तरीका है। शोध बताते हैं कि इस प्रकार की खेती करने से  मिट्टी-पानी के संरक्षण होता है।  साथ ही इससे  जैव विविधता बनी रहती है और  पर्यावरण का संरक्षण होता है। यह पूरी तरह प्राकृतिक, जैविक व पर्यावरण को सुरक्षित रखने का एक उपाय है। 
 बेंवर खेती बिना जुताई की जाती है। गर्मी के मौसम में  पेड़ों की छोटी-छोटी टहनियों, पत्ते, घास और छोटी झाडिय़ों को एकत्र कर उनमें आग लगा दी जाती है और फिर उसकी राख की पतली परत पर बीजों को बिखेर दिया जाता है जब बारिश होती है तो उन बीजों में अंकुरण हो जाता है। 
एक जगह पर केवल एक फसल ली जाती है। अगले साल दूसरी जगह पर फसल उगाई जाती है। इस खेती को स्थानांतरित खेती भी कहते हैं।   इस प्रकार की खेती के अंतर्गत कोदो, कुटकी, ज्वार,सलहार (बाजरा) मक्का, सांवा, कांग, कुरथी, राहर, उड़द, कुरेली, बरबटी, तिली जैसे अनाज की फसल ली जाती है। अध्ययन बताते हैं कि बेंवर खेती से जंगल को नुकसान नहीं पहुंचता है। इसमें बड़े लकड़ी पेड़ों को नहीं जलाया जाता। बल्कि इससे जैव विविधता कायम रहती है, जो कार्बन उत्सर्जन के नुकसान को नियंत्रित करती है। 
 


24-Feb-2021 1:06 PM 17

1. डाउ जोन्स इनमें से स्टॉक एक्सचेंज का इंडेक्स है?
(अ) फैं्रकफर्ट (ब) टोक्यो (स) हांगकांग (द) न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज
2. वर्ष 1932 में भारतीय सांख्यिकीय संस्थान की स्थापना किसने की थी? 
(अ) वी.के. आर. वी. राव (ब) पी.सी. महालानोबीस (स) डी.आर. गाडगिल (द) दादा भाई नौरोजी
3. किस देश में एडिलेड चिडिय़ाघर स्थित है?
(अ) भारत (ब) ऑस्ट्रेलिया (स) पुर्तगाल (द) साइप्रस
4. ग्रहों के गति का नियम किसने प्रतिपादित किया?
(अ) न्यूटन (ब) केप्लर (स) गैलीलियो (द) कापरनिकस
5. कक्षा में उपग्रह का वेग निर्भर करता है?
(अ) कक्षा की त्रिज्या पर (ब) गुरुत्व के कारण त्वरण पर (स) त्रिज्या तथा गुरुत्व के कारण त्वरण की उत्पत्ति पर (द) त्रिज्या एवं गुरत्वीय नियतांक की उत्पत्ति पर
6. राज्यपाल का वेतन किस कोष से आता है?
(अ) भारत की संचित निधि से (ब) राज्य की संचित निधि से (स) राज्य की आकस्मिक निधि से (द) राज्य और केंद्र की संचित निधि से 50 : 50 के अनुपात में
7. स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद भारत में सर्वप्रथम कौन सी बहुउद्देशीय परियोजना प्रारंभ की गई थी?
(अ) कोसी परियोजना (ब) भाखड़ा-नांगल परियोजना (स) दामोदर घाटी परियोजना (द) चंबल परियोजना
8. रावी नदी पर जो योजना क्रियान्वित की गई है, उसे क्या कहते हैं?
(अ) टिहरी बांध योजना (ब) थीन बांध योजना (स) पोंग बांध योजना (द) माही बांध योजना 
9. भारत में नमक की प्राप्ति का मुख्य रूप से किस स्रोत से होती है?
(अ) सागरीय जल (ब) झील एवं मृदा जल (स) चट्टानी नमक की परतें (द) उपरोक्त सभी
10. हड़प्पा सभ्यता के विलुप्त हो जाने का क्या कारण माना जा सकता है?
(अ) हड़प्पा सभ्यता के विस्तार के साथ भूमि की उर्वरता का निरंतर कम हेना (ब) बाढ़ों का आना (स) विजातियों का आक्रमण (द) उपर्युक्त सभी कारण
11. आखेट एवं पशुपालन का कार्य सर्वप्रथम किस काल में शुरू हुआ?
(अ) पाषाण काल (ब) मध्य पाषाण काल (स) नव पाषाण काल (द) पाषण काल और मध्य पाषाण काल
12. भूगर्भ में उत्पन्न होने वाली प्रक्रियाओं को निम्नलिखित में से क्या कहते हैं?
(अ) विवर्तनिक संरचरण (ब) पर्वत निर्माण प्रक्रिया (स) मंद संरचण (द) इनमें से कोई नहीं
13. किस देश में भूकंप से उत्पन्न विनाशकारी समुद्री तरंगों को सुनामी कहते हैं?
(अ) मेक्सिको (ब) जापान (स) ब्रिटेन (द) न्यूजीलैंड 
14. निम्नलिखित खनिजों में से किसके लिए राजस्थान को देश में एकाधिकार प्राप्त है?
(अ) सीसा-जस्ता (ब) अभ्रक (स) मैंगनीज (द) तांबा
15. राज्य विधान मंडल का ऊपरी सदन कौन सा कहलाता है?
(अ) विधान परिषद (ब) विधानसभा (स) राज्यसभा (द) लोकसभा 
16. भारत में राष्ट्रीय आय का अनुमान लगाने में सबसे बड़ी कठिनाई क्या है?
(अ) बचतों की न्यूनता (ब) मुद्रा स्फीति (स) अल्प रोजगार (द) अमौद्रिक उपभोग
17. जवाहर रोजगार योजना का आरंभ कब हुआ?
(अ) छठी योजना में (ब) पांचवीं योजना में (स) सातवीं योजना में (द) आठवीं योजना में
18. स्थलमंडल के संदर्भ में एशिया का क्षेत्रफल कुल क्षेत्रफल का कितना प्रतिशत है?
(अ) 20 प्रतिशत (ब) 30 प्रतिशत (स) 40 प्रतिशत (द) 60 प्रतिशत
19. निम्नांकित में से कौन दैनिक पवन तंत्र है?
(अ) मानसून पवन (ब) स्थल एवं सागर समीर (स) धु्रवीय पवन (द) चिनूक पवन
20. आईटीसी जेड की गतिविधि प्रमुखतया वर्षा की अवधि निर्धारित करती है?
(अ) भारत में (ब)चीन में (स) जापान में (द)इंडोनेशिया में
21. भारत में प्रथम महिला मुख्यमंत्री कौन थी और किस राज्य में चुनी गई?
(अ) वसुंधरा राजे, राजस्थान (ब) ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल (स) मायावती, उत्तरप्रदेश (द) सुचेता कृपलानी, उत्तरप्रदेश
22. निम्नलिखित में से कौन सा ग्रह सबसे कम समय में सूर्य का चक्कर लगता है?
(अ) प्लूटो (ब) बुध (स) पृथ्वी (द) शनि
23. विज्ञान के किस क्षेत्र में ह्वाइट ड्वार्फ के बारे में सीखेंगे?
(अ) खगोलशास्त्र (ब) कृषि (स) जेनेटिक्स (द) एंथ्रोपोलॉजी
24. चंद्रमा पृथ्वी का एक चक्कर लगभग कितने दिनों में लगाता है?
(अ) लगभग 28.1 दिन (ब) लगभग 30.2 दिन (स) लगभग 27.3 दिन (द) लगभग 28.3 दिन
25. इजमिर की घाटी जो कि अफीम की कृषि के प्रसिद्ध है, किस देश में स्थित है?
(अ) अफगानिस्तान (ब) ईरान (स) तुर्की (द) इराक
26. कनाडियन नेशनल रेलमार्ग कहां से कहां तक जाता है?
(अ) मांट्रियल से टोरंटो (ब) हैलीफैक्स से ओटावा (स) हैलीफैक्स से बैंकूवर (द) चर्चिल से बैंकूवर
27. निम्नलिखित में सबसे हल्का कण कौन सा होता है?
(अ) इलेक्ट्रॉन (ब) प्रोटॉन (स) न्यूट्रॉन (द) हाइड्रोजन 
28. निम्नलिखित आलेखों में से कौन सा आलेख गलत नजरबंदी के मामले में जारी किया जाता है?
(अ)परमादेश(ब) निषेध (स) अधिकार पृच्छा (द) बंदी प्रत्यक्षीकरण
29. उदारवाद का प्रतिवाद क्या है?
(अ) नव उदारवाद (ब) गांधीवाद (स) समाजवाद (द) आदर्शवाद

सही जवाब- 1.(द) न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज, 2.(ब) पी.सी. महालानोबीस, 3.(ब) ऑस्ट्रेलिया, 4.(ब) केप्लर, 5.(स) त्रिज्या तथा गुरुत्व के कारण त्वरण की उत्पत्ति पर, 6.(ब) राज्य की संचित निधि से, 7.(ब) भाखड़ा-नांगल परियोजना, 8.(ब) थीन बांध योजना, 9.(द) उपरोक्त सभी, 10.(द) उपर्युक्त सभी कारण,11.(ब) मध्य पाषाण काल, 12.(अ) विवर्तनिक संरचरण, 13.(ब) जापान, 14.(अ) सीसा-जस्ता, 15.(अ) विधान परिषद, 16.(द) अमौद्रिक उपभोग, 17.(द) आठवीं योजना में, 18.(ब) 30 प्रतिशत, 19.(ब) स्थल एवं सागर समीर, 20.(अ) भारत में, 21.(द) सुचेता कृपलानी, उत्तरप्रदेश, 22.(ब) बुध, 23.(अ) खगोलशास्त्र, 24.(स) लगभग 27.3 दिन,  25.(स) तुर्की, 26.(स) हैलीफैक्स से बैंकूवर, 27.(अ) इलेक्ट्रॉन,28.(द) बंदी प्रत्यक्षीकरण, 29.(स) समाजवाद।


24-Feb-2021 1:03 PM 19

भारत में लोकसभा तथा विधानसभाओं के प्रथम आम चुनाव कराने के उद्देश्य से निर्वाचन आयोग के परामर्श तथा संसद की सहमति से राष्ट्रपति द्वारा परिसीमन का पहला आदेश 13 अगस्त, 1951 को जारी किया गया।
चुनाव कराने के उद्देश्य से वैधानिक ढांचा उपलब्ध कराने के लिए संसद ने 12 मई, 1950 को पहला अधिनियम (जनप्रतिनिधित्व अधिनियम, 1950) पारित किया। इसमें मुख्यत: मतदाता सूचियां तैयार करने का प्रावधान किया गया। दूसरा अधिनियम 17 जुलाई, 1951 (जनप्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951) पारित किया गया और इसमें संसद के दोनों सदनों तथा प्रत्येक राज्य के लिए विधानसभाओं के निर्वाचन की प्रक्रिया तय करने का प्रावधान हुआ।
इन निर्वाचन क्षेत्रों के लिए मतदाता सूचियां सभी राज्यों में 15 नवम्बर, 1951 तक प्रकाशित की गईं। मतदाताओं की कुल संख्या (जम्मू-कश्मीर को छोडक़र) 17 करोड़ 32 लाख 13 हजार 635 थी जबकि 1951 की जनगणना के अनुसार भारत की कुल जनसंख्या (जम्मू-कश्मीर को छोडक़र) 35 करोड़ 66 लाख 91 हजार 760 थी। लोकसभा तथा विधानसभाओं के पहले आम चुनाव अक्तूबर, 1951 तथा मार्च, 1952 के बीच हुए। 497 सदस्यों वाली पहली लोकसभा  2 अप्रैल, 1952 को गठित की गई। 216 सदस्यों वाली पहली राज्यसभा  3 अप्रैल, 1952 को गठित हुई।
संसद के दोनों सदनों तथा राज्य विधानसभाओं के गठन के बाद मई, 1952 में प्रथम राष्ट्रपति चुनाव हुआ तथा विधि रूप से निर्वाचित पहले राष्ट्रपति ने 13 मई, 1952 को पदभार ग्रहण किया। 1951-52 में पहले आम चुनाव के समय आयोग ने 14 राजनीतिक दलों को बहु-राज्यीय दलों तथा 39 दलों को क्षेत्रीय दलों के रूप में मान्यता दी थी। अभी मान्यता प्राप्त सात राष्ट्रीय दल तथा 40 क्षेत्रीय दल हैं।
1951-52 तथा 1957 में पहले तथा दूसरे आम चुनावों के लिए निर्वाचन आयोग ने मतदान की मतपेटी प्रणाली अपनाई। इस प्रणाली के अंतर्गत प्रत्येक मतदान केन्द्र पर एक कमरे में प्रत्येक उम्मीदवार को एक अलग मतपेटी आवंटित की गई तथा मतदाता से केन्द्रीयकृत पूर्व मुद्रित मतपत्रों को उनकी पसंद के अनुसार उम्मीदवार की मतपेटी में डालने को कहा गया। 1962 में हुए तीसरे आम चुनाव तथा उससे आगे आयोग ने मतदान की  मुहर प्रणाली  लागू की। इसके अंतर्गत एक पृष्ठ पर चुनाव लड़ रहे सभी उम्मीदवारों के नाम तथा निर्वाचन चिन्ह छपे होते थे जिस पर मतदाता को रबर स्टैंप से अपनी पसंद के उम्मीदवार के निर्वाचन चिन्ह के निकट तीरनुमा मुहर लगानी होती थी। मुहर लगे सभी मतपत्रों को एक समान मतपेटी में डाल दिया जाता था।
इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) का उपयोग प्रायोगिक आधार पर आंशिक रुप से 1982 में केरल के परूर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में किया गया। बाद में 1998 में ईवीएम का व्यापक उपयोग शुरू हुआ। पहली बार 2004 में 14वीं लोकसभा के लिए हुए आम चुनाव में देश के सभी मतदान केन्द्रों पर ईवीएम का इस्तेमाल किया गया। तब से लोकसभा तथा राज्य विधानसभाओं के चुनाव ईवीएम के इस्तेमाल से हुए हैं। 1951-52 से लोकसभा के 15 आम चुनाव तथा विधानसभाओं के 348 आम चुनाव हुए है। देश अब 16वें लोकसभा चुनाव होने जा रहे हैं। 
 


Previous123456789...6970Next