सामान्य ज्ञान

क्या है वाइल्ड कैट
29-Nov-2020 12:17 PM 43
क्या है वाइल्ड कैट

मैसाचुएट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी’ (एमआईटी) के शोधकर्ताओं ने एक ऐसा रोबोट बनाया है जो 10 किमी प्रति घंटे की स्थिर गति से दौड़ता है। इस रोबोट का नाम ‘वाइल्ड कैट’ रखा गया है।  इस रोबोट के दौडऩे में आवाज नहीं होगी और  यह कूद भी सकेगा।
यह मैकेनिकल बिग कैट (रोबोट) चार टांगों का प्राणी है जो कि गियर्स, मोटर्स और बैटरीज के सहारे चलता है। पहले इसे एक केबल के जरिए मैन पावर से जोड़ा गया था। अक्टूबर 2014 में इसे 10 किमी प्रति घंटे की स्थिर रफ्तार से दौड़ता हुआ फिल्माया गया है।

शोधकर्ताओं के अनुसार अंत में इसकी रफ्तार को 30 किमी प्रति घंटे तक बढ़ाई जा सकती है जो कि जमैका का धावक उसेन बोल्ट से भी तेज होगी। वैसे तो एक रोबोट को हरे मैदान की अपेक्षाकृत ऊबड़-खाबड़ जमीन पर एक निश्चित रफ्तार से दौड़ाना एक चुनौती थी। इसकी अनुसंधान टीम ने एक ऐसा सॉफ्टवेयर बनाया जो कि विश्वस्तरीय स्प्रिंटर्स से प्रभावित था और इसमें लम्बे-लम्बे डग को बढ़ाया जाएगा ताकि यह अपेक्षाकृत अधिक तेजी से कदम भर सके।
 

पाण्ड्य राजवंश 
भारत में पाण्ड्य राजवंश का प्रारम्भिक उल्लेेख पाणिनि की अष्टाध्यायी में मिलता है। इसके अतिरिक्त अशोक के अभिलेख, महाभारत एवं रामायण में भी पाण्ड्य साम्राज्य के विषय में जानकारी मिलती है। 
मेगस्थनीज पाण्ड्य राज्य का उल्लेेख ‘माबर‘ नाम से करता है। उसके विवरणानुसार पाण्ड्य राज्य पर ‘हैराक्ट‘ की पुत्री का शासन था, तथा वह राज्य मोतियों के लिए प्रसिद्ध था। पाण्ड्यों की राजधानी  मदुरा  (मदुरई) थी, जिसके विषय में कौटिल्य के अर्थशास्त्र से जानकारी मिलती है। मदुरा अपने कीमती मोतियों, उच्चकोटि के वस्त्रों एवं उन्नतिशील व्यापार के लिए प्रसिद्ध था।  इरिथ्रियन सी के विवरण के आधार पर पाण्ड्यों की प्रारम्भिक राजधानी  कोरकई  को माना जाता है। सम्भवत: पाण्ड्य राज्य मदुरई, रामनाथपुरम, तिरुनेल्वेलि, तिरुचिरापल्ली एवं ट्रान्कोर तक विस्तृत था। पाण्ड्यों का राजचिह्न मत्स्य (मछली) था। पाण्ड्य राज्य को  मिनावर, कबूरियार, पंचावर, तेन्नार, मरार, वालुडी तथा सेलियार नामों से जाना जाता है।
प्रमुख शासक-  नेडियोन,पलशालैमुडुकुड़मी,  नेडुंजेलियन और वेरिवरशेलिय कोरकै।
-----------

अन्य पोस्ट

Comments