छत्तीसगढ़ » कोरिया

07-Feb-2021 6:26 PM 37

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
चिरमिरी, 7 फरवरी। 
डांसिंग प्रतियोगिता के माध्यम बच्चों की कला को मुकाम देने प्रतियोगिता का आयोजन हुआ इस दौरान चिरिमिरी क्षेत्र के कई डांसिंग कलाकार ने प्रस्तुति देकर अपने प्रतिभा का प्रदर्शन किया।

चिरिमिरी के हल्दीबाड़ी हिरागिरी मैदान में आयोजित डांसिंग प्रतियोगिता में शामिल सभी प्रतिभागियों ने अपने प्रतिभा का प्रदर्शन एक एक कर किया जैसे जैसे बच्चों ने अपने कला को उपस्थित जनों के सामने प्रदर्शित किया वैसे वैसे समा बंधता चला गया लगभग चार घँटे चले इस प्रतियोगिता में जज राकेश सिंह के पारखी नजर ने प्रथम, द्वितीय, तृतीय जूनियर एवं सीनियर को प्रदर्शन के आधार अंक देकर सूचीबद्ध किया।उल्लेखनीय रहे कि डांसिंग हब्ब चिरिमिरी में डान्स की शिक्षा ले रहे छात्र छात्राओं की कला को निखारने ओर मंच प्रदान करने के लिए समय समय पर डांसिंग प्रतियोगिता में छात्रों को भाग दिलाया जाता है ताकि बच्चों की कला अपने मुकाम तक पहुंच सके।

 इस तरह के आयोजन से जहाँ चिरिमिरी जैसे छोटे शहर की कला बड़े शहरों में एक मंच के माध्यम से बच्चों को अपनी कला निखारने का मौका मिलता है वही मनोरंजन की दृष्टि से चिरिमिरी वासी ऐसे प्रतियोगिताओ में दर्शक बनकर प्रतिभा का लुप्त उठाते हैं।चार घँटे चले प्रतियोगिता में प्रिंसी तिवारी का प्रदर्शन सर्वश्रेष्ठ आका गया और प्रथम स्थान की घोषणा की गई।पूरे प्रतियोगिता के बाद प्रमुख रूप से सीनियर में प्रथम प्रिंसी तिवारी, जूनियर में अरण्या घोष,जूनियर में सैकेंड आकांक्षा सिंह, सैकेंड प्राची बंदिश, तृतीय जया भट्टाचार्य रही।
इस पूरे कार्यक्रम के दौरान जज की निर्णायक भूमिका में बैठे डांसिंग हब्ब के एच आर राकेश सिंह ने प्रदर्शन के आधार पर सीनियर व जूनियर केटेगरी को प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान पाने वाले कलाकारों के नाम की घोषणा की इसके साथ ही उन्होंने डांसिंग हब्ब में शिक्षा ले रहे कलाकरों का संक्षिप्त परिचय सहित भविस्यात्मक जानकारी दी।


07-Feb-2021 5:48 PM 29

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 7 फरवरी।
कोरिया जिले के भरतपुर जनपद क्षेत्र अंतर्गत ग्राम हरचौका में पर्यटन स्थल सीतामढ़ी के पास स्थित मवई नदी से अवैध रूप से रेत उत्खनन का विरोध में ग्रामीणों द्वारा 6 फरवरी से धरने पर बैठे है, रात में धरना को हटाने ठेकेदार के सहयोगियों ने जमकर बवाल मचाया, कटटे को दिखाकर उन्हें डराया, बैनर फाड डाला, वहीं ग्रामीणों ने एक हाइवा को सुबह तक रोककर जाने नहीं दिया। आज भी ग्रामीणों को धरना जारी है।

मिली जानकारी के अनुसार ग्रामीण दिन के साथ रात में भी धरना स्थल पर बैठे रहे। इस दौरान रेत ठेकेदार के लोगों द्वारा धरना दे रहे ग्रामीणों को धमकाया गया। सूत्रों से मिली मिली जानकारी के अनुसार रेत ठेकेदार के लोगों द्वारा धरना दे रहे ग्रामीणों को रात्रि में रिवाल्वर लहराकर धमकी दी जा रही थी। इसी दौरान किसी अप्रिय स्थिति को देखते हुए धरना दे रहे ग्रामीणों के द्वारा गुहार लगाकर अन्य लोगों को बुलाया गया इस दौरान ठेकेदार के लोगों के द्वारा धरना दे रहे ग्रामीणों के पोस्टर को वाहन से तहस नहस कर दिया गया। वही रात्रि में एक डम्पर वाहन में आये ठेकेदार के लोगों द्वारा धरना स्थल पर उत्पात मचाना शुरू किया तो ग्रामीणों के शोरगुल के बाद कई अन्य ग्रामीण धरना स्थल पर रात्रि में ही पहुंच गये और डम्पर वाहन को अपने कब्जे में ले लिया। जानकारी के अनुसार ग्रामीणों द्वारा दूसरे दिन सुबह के समय तक अपने कब्जे में लिये डंपर वाहन को अपने कब्जे में ही रखे थे। 

उल्लेखनीय है कि लंबे समय से हरचौका में अवैध रूप से रेत का उत्खनन व परिवहन का कार्य किया जा रहा है। जिससे परेशान ग्रामीणों ने 6 फरवरी केा धरना प्रदर्शन विरोध में किया गया जो रात में भी जारी रहा। इसके दूसरे दिन भी ग्रामीण धरना स्थल पर डटे रहे।

जनप्रतिनिधियों का नहीं मिल रहा समर्थन
भरतपुर जनपद क्षेत्र में अवैध रेत उत्खनन को लेकर ग्रामीणों द्वारा किये जा रहे विरोध प्रदर्शन का समर्थन बडे जनप्रतिनिधियों द्वारा समर्थन नही किया जा रहा है। जबकि प्रदेश में भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान भी भरतपुर जनपद क्षेत्र में बडे पैमाने पर अवैध रेत उत्खनन को लेकर जब ग्रामीण विरोध प्रदर्शन कर रहे थे उस दौरा कुछ कांग्रेस पदाधिकारी ग्रामीणो के विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे थे। उस दौरान रेत को लेकर जमकर राजनीति कांग्रेसी नेताओं ने दिखाई थी। अब जब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है तब वही कांग्रेसी नेता मौन साधे हुए हैं 

आबंटित रकबा से अधिक में खुदाई
ग्रामीणों का आरोप है कि कोरिया जिले के पांचों जनपद क्षेत्रोंं में रेत ठेका आबंटित की गई है। ठेकेदार को एक निश्चित रकबा रेत उत्खनन के लिए आबंटित की गयी है लेकिन ठेकेदार द्वारा आबंटित रकबा से अधिक रकबा में नियम विरूद्ध तरीके से रेत का खुदाई कार्य करा रहे है। जिसका कई क्षेत्रों में विरोध भी किया जा रहा है लेकिन इसके बावजूद प्रशासनिक अधिकारी यह जांच करने रेत खदान स्थल पर कभी नहीं पहुंच रहे है।
 ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया कि वन भूमि में भी जमकर रेत निकाला जा रहा है। वाहनों के आने जने के लिए पेड़ों केा काटकर रास्ते बनाये गये है। जिससे वनों को नुकसान पहुॅचा है पर वन विभाग भी किसी तरह की कार्यवाही इस दिशा में नहीं कर रही है।

तहसीलदार ने कलेक्टर को प्रतिवेदन किया प्रेषित
भरतपुर तहसील क्षेत्र. के ग्राम हरचौका के ग्रामीणों के द्वारा  6 फरवरी को अवैध रेत उत्खनन केा लेकर चक्का जाम व धरना प्रदर्शन की एक दिन पूर्व दी थी। आवेदन में ग्रामीणों ने उल्लेख किया था कि हरचौका में ठेकेदार को मवई नदी से जितना रकबा रेत उत्खनन के लिए आबंटित किया गया उससे ज्यादा रकबा में रेत का उत्खनन नियम विरूद्ध तरीके से किया जा रहा है। हल्का पटवारी ने तहसीलदार को सौंपे अपने प्रतिवेदन में भी इस बात का उल्लेख किया है कि आबंटित रकबा से अधिक में रेत का उत्खन किया जा रहा हैं।

ग्रामीणों ने अपने आवेदन में यह भी बताया कि बड़े स्तर पर रेत उत्खनन किये जाने के कारण कुएॅ हैंडपंप सूख रहे है गर्मी की शुरूआत होने वाली है ऐसे में ग्रामीणों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ सकता है अवैध रेत उत्खनन बंद कराया जाये। इस संबंध में पटवारी प्रतिवेदन के आधार पर तहसीलदार ने कलेक्टर खनिज शाखा को प्रतिवेदन प्रेषित कर अवैध उत्खनन से उत्पन्न होने वाली संभावित स्थिति को अवगत कराया। 

 


07-Feb-2021 5:23 PM 39

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
मनेन्द्रगढ़, 6 फरवरी।
किसान आन्दोलन के समर्थन में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर
विधायक गुलाब कमरो के निर्देशानुसार ब्लाक कांग्रेस कमेटी(ग्रामीण) मनेन्द्रगढ़ के द्वारा ग्राम पंचायत घुटरा के सलवा स्थित मेन रोड में चक्का जाम किया गया। इस अवसर पर ब्लाक अध्यक्ष राजेश साहू, जिला महामंत्री मकसूद आलम, संयुक्त महामंत्री रामनरेश पटेल, विधायक प्रतिनिधि (ग्रामीण) आनंद राय, महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुचित्रा दास, महामंत्री शमीना खातून, जनपद सदस्य सुभागनी राय, जगदीश मधुकर, विवेक चतुर्वेदी सहित समस्त कांग्रेसजन उपस्थित रहे। मनेंद्रगढ़ पीडब्ल्यूडी तिराहे में भी चक्काजाम कर तीनों कृषि कानून वापस लिए जाने की मांग की गई। 

इस दौरान नपाध्यक्ष प्रभा पटेल, उपाध्यक्ष कृष्णमुरारी तिवारी, ब्लाक अध्यक्ष राजेश शर्मा, झगराखंड नगर पंचायत उपाध्यक्ष सत्तार अली, राजकुमार जैन, सुरेंद्र पाल मखीजा, श्यामसुंदर पोद्दार, कांग्रेस पार्षद सहित समस्त कांग्रेस जन उपस्थित रहे।
 


06-Feb-2021 8:04 PM 31

बैकुंठपुर, 6 फरवरी। कोरिया जिला मुख्यालय बैकुंठपुर में 6 फरवरी को सुबह से घंटों बिजली सप्लाई बाधित रही। आज सुबह करीब 8.30 बजे से पूर्वान्ह 11.30 बजे तक विद्युत वितरण विभाग द्वारा मेंटेनेंस का कार्य करने के कारण तीन घंटे तक विद्युत सप्लाई बाधित की गयी थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बैकुण्ठपुर के सलका सब स्टेशन एबी स्वीच मेंटेनेंस का कार्य शुरू किया जाना था, जिस कारण से बिजली सप्लाई कट कर दी गयी थी। बैकुण्ठपुर शहर सहित आस पास के क्षेत्रों में तीन घंटे के लिए विद्युत सप्लाई बाधित की गयी थी लेकिन निर्धारित 11.30 बजे तक मेंटेनेंस कार्य पूरा नहीं हो पाने के कारण इससे अधिक समय तक के लिए शहर सहित आस पास क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति बाधित रही। शहर सहित आस पास के क्षेत्रों में करीब आधा घंटा देरी से लगभग 12 बजे विद्युत आपूर्ति शुरू हो पायी। जिससे लोगों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ा।

कई लोग इस अवधि में शहर में स्थापित कोरिया नीर वाटर एटीएम से पेयजल लेने पहुंचते रहे, जिन्हें पता चला कि विद्युत सप्लाई बाधित है तो दूसरी जगह के वाटर एटीएम में पहुंच कर पेयजल प्राप्त करने की कोशिश की, लेकिन वहां भी विद्युत सप्लाई नही होने के कारण पेयजल नहीं मिल पाया। इस तरह से लोगों को तीन घंटे से अधिक समय तक विद्युत बाधा के कारण कई तरह के परेशानियों का सामना करना पड़ा।


06-Feb-2021 1:43 PM 50

छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 6 फरवरी।
कोरिया जिले के भरतपुर जनपद क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत हरचौका में ग्रामीणों द्वारा अवैध रेत खुदाई के खिलाफ 6 फरवरी को चक्काजाम कर धरना प्रदर्शन करते हुए मवई नदी में अवैध उत्खनन को रोकने की मांग की। इसके पूर्व ग्रामीणों ने हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन सौंपकर थाना प्रभारी व तहसीलदार को अवैध रेत खुदाई के खिलाफ धरना प्रदर्शन व चक्काजाम की सूचना पूर्व में दे दी गयी थी। ज्ञापन में उप सरपंच द्वारा भी हस्ताक्षर किया गया था।

ग्रामीणों ने अधिकारियों को दिये ज्ञापन में उल्लेख किया है कि हमारे गांव राम वन गमन मार्ग हरचौका सीतामढ़ी में रेत खदान टेंडर पास हुआ था, जिसके लिए अधिकारियों द्वारा 5 हेक्टेयर भूमि रेत उत्खनन के लिए नाप कर दिया गया था, लेकिन ठेकेदार ने पांच हेक्टेयर से अधिक भूमि की खुदाई कर रेत का अवैध तरीके से खनन किया जा रहा है। जिससे गांव का जल स्तर नीचे जा रहा है और हैंडपंपों में साफ पानी नहीं निकल रहा है। अब गर्मी की शुरूआत होने वाली है, ऐसे में यदि इसी तरह से अवैध खुदाई जारी रही तो गांव के लोगों को पेयजल की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। जिसे ध्यान में रखकर ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन का कार्यक्रम बनाया। जिसके बाद 6 फरवरी को ग्राम हरचौका में ग्रामीणों के द्वारा मुख्य मार्ग पर चक्काजाम कर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया गया। इस दौरान कोई अप्रिय स्थिति निर्मित न हो, इसको देखते हुए प्रशासन व पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। 

अवैध रेत खुदाई के विरोध में आयोजित धरना प्रदर्शन में भारी संख्या में ग्रामीणजन स्वस्फूर्त धरना व चक्का जाम में शामिल हुए। इस दौरान क्षेत्र से एक भी रेत परिवहन करने वाले वाहनों को नहीं गुजरने दिया गया। चक्काजाम के दौरान गहमा गहमी की स्थिति बनी रही। हालांकि किसी तरह के अप्रिय स्थिति बनने की खबर नहीं मिली है।

विरोध के बावजूद कार्रवाई नहीं-ग्रामीण
जिले के भरतपुर जनपद पंचायत अंतर्गत छग प्रदेश का अंतिम छोर का गांव हरचौका स्थित है। गांव के किनारे मवई नदी बहती है जो कि मप्र व छग को विभाजित करती है। ग्रामीणों का कहना है कि नदी पर प्रशासन के द्वारा ठेकेदार को 5 हेक्टेयर में रेत उत्खनन का ठेका दिया है लेकिन रेत ठेका की आड़ में ठेकेदार द्वारा निर्धारित क्षेत्र से अधिक क्षेत्रफल में नदी से अवैध तरीके से रेत का उत्खनन लगातार किया जा रहा है। जिसमें मशीनों की सहायता से भारी मात्रा में प्रतिदिन रेत का उत्खनन किया जा रहा है। जिसे लेकर क्षेत्र के ग्रामीण शुरू से विरोध कर रहे हंै, लेकिन ग्रामीणों के विरोध के बावजूद स्थानीय प्रशासन ने अवैध उत्खनन पर कार्रवाई कभी नहीं की गयी।

एमपी व यूपी के शहरों तक जा रहा कोरिया का रेत
ग्रामीणों के अनुसार भरतपुर जनपद क्षेत्र के ग्राम हरचौका के मवई नदी से निकलने वाले रेत को हाईवा में भरकर पड़ोसी मप्र के साथ उप्र राज्य तक प्रतिदिन परिवहन किया जाता है। नियम विरूद्ध तरीके से रेत उत्खनन को लेकर ही ग्रामीणों का विरोध शुरू से जारी है, लेकिन विरोध के बावजूद प्रशासन द्वारा रेत खुदाई पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं की, जिसके कारण क्षेत्र के ग्रामीणों में नाराजगी है।
 
उल्लेखनीय है कि ग्राम हरचौका में ही सीतामढ़ी पर्यटन स्थल मौजूद है, जिसे संरक्षित क्षेत्र घोषित किया जा चुका है। इसके बावजूद संरक्षित क्षेत्र ठेकेदार द्वारा ठेका के नाम पर निर्धारित से अधिक स्थानों पर रेत का उत्खनन कर परिवहन कार्य लगातार जारी है।


05-Feb-2021 7:46 PM 33

मनेन्द्रगढ़, 5 फरवरी।  सविप्रा उपाध्यक्ष एवं भरतपुर-सोनहत विधायक गुलाब कमरो की अनुशंसा पर कलेक्टर कोरिया ने विकास योजना अंतर्गत क्षेत्र में विकास कार्यों के लिए 3 लाख रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की है। विधायक की अनुशंसा पर कलेक्टर ने नगर पंचायत खोंगापानी के वार्ड क्र. 1 कोल दफाई स्थित बिरसा मुंडा चौक में चबूतरा सह रेलिंग निर्माण कार्य हेतु 1 लाख 50 हजार रूपए तथा नगर पंचायत खोंगापानी के वार्ड क्र. 15 में सांस्कृतिक शेड निर्माण कार्य हेतु 1 लाख 50 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की है।


05-Feb-2021 7:45 PM 39

मनेन्द्रगढ़, 5 फरवरी। गुरूवार को नपाध्यक्ष प्रभा पटेल ने नगर पालिका क्षेत्रांतर्गत वार्ड क्र. 18 में यूनिवर्सल स्कूल के पीछे से हंसिया नदी तक नाला निर्माण कार्य का भूमि पूजन। वार्ड में 8 लाख की लागत से नाला का निर्माण कार्य किया जाएगा। इस अवसर पर नपा उपाध्यक्ष कृष्णमुरारी तिवारी, सांसद प्रतिनिधि सुरेंद्र पाल सिंह माखीजा, पार्षद अनिल प्रजापति, अभय तेजबड़ा, श्यामसुंदर पोद्दार, मो. हुसैन, सपन महतो, दयाशंकर यादव, अजमुददीन अंसारी, नागेंद्र जायसवाल, आदित्य राज डेविड, मो. सईद, जमील शाह, जसपाल सिंह, मुरली सोनी, दिनेश सोनी, अनिल वर्मा, एल्डरमेन गिरधर जायसवाल, ज्योति मजूमदार, संजीव सिंह एवं जितेंद्र त्रिपाठी आदि उपस्थित रहे।


05-Feb-2021 7:44 PM 38

चिरमिरी, 5 फरवरी। चार फरवरी को जिला पंचायत कोरिया के कार्यालय में सभापति उषा सिंह मरकाम की अध्यक्षता में स्वछता एवं स्वास्थ्य समिति की बैठक सम्पन्न हुई । बैठक में विभाग प्रमुख स्वास्थ्यगत सेवाओं को सुधारने जैसे- स्वास्थ केंद्रों में पानी की समस्या, पदस्थापना, मितानिनों के मानदेय संबंधित समस्या व अस्पतालों की अन्य समस्याओं को ठीक करने के लिए निर्देशित किया। बैठक में नवीन पदस्थ चिकित्सको को सुलभ चिकित्सकीय सेवा देने हेतु शुभकामनाएं दी गई। बैठक में रेणुका सिंह ने निश्चेतना चिकित्सकों को 06 माह का प्रशिक्षण चालू कराने की जानकारी दी। स्वछता एवं स्वास्थ्य समिति की इस बैठक में जिला पंचायत सदस्य चुन्नी पैकरा एवं जनपद पंचायत खडग़वां की अध्यक्ष सोनमती उर्रे भी उपस्थित रही।


05-Feb-2021 7:39 PM 34

    समूहों की आजीविका के साधन बन रहे गौठानों में बने मल्टीयूटिलिटी सेंटर, हो रही सराहना    

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरिया, 5 फरवरी। राज्य शासन की महत्वाकांक्षी गोधन न्याय योजना के अंतर्गत गौठानों को स्वावलंबी बनाने हेतु गोबर से वर्मी कम्पोस्ट व अन्य उत्पाद स्व-सहायता समूहों के माध्यम से तैयार कराकर स्व- अर्जित आय का स्त्रोत बढ़ाते हुए आदर्श गौठान के रूप में विकसित किया जा रहा है। इसी क्रम में कलेक्टर एसएन राठौर के मार्गदर्शन में कोरिया जिले के गौठानों में मल्टीयूटिलिटी सेंटर निर्मित कराये जा रहे हैं, जिनकी चौतरफा तारीफ हो रही है।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार के कृषि विभाग द्वारा पत्र जारी कर प्रदेशभर के गौठानों में कोरिया जिले की तर्ज पर ही मल्टीयूटिलिटी सेंटर के निर्माण का निर्देश दिया गया है। मल्टीयूटिलिटी सेंटर के माध्यम से स्व-सहायता समूहों की आजीविका से संबंधित विभिन्न प्रकार की गतिविधियों का संचालन कर गौठानों को स्वावलंबी बनाने की दिशा में जिला प्रशासन द्वारा सशक्त प्रयास किये जा रहे हैं। कलेक्टर राठौर ने गोधन न्याय योजना से जुड़े सभी विभागों को बधाई प्रेषित की है।

उन्होंने कहा कि राज्य शासन के मार्गदर्शन में गांवों की प्रगति हेतु इस योजना से संबंधित सभी विभागों द्वारा अथक मेहनत की जा रही है। गौठान परिसर को ग्रामीण आजीविका का केंद्र बनाने से ग्रामीण अर्थव्यवस्था सुदृढ़ होगी। उन्होंने बताया कि सोनहत विकासखंड अंतर्गत ग्राम घुघरा और पुसला के गौठान में निर्मित मल्टीयूटिलिटी सेंटर में महिलाओं द्वारा फ्लाई ऐश ईंट, फेंसिंग पोल, चैन लिंक फेंसिंग एवं पेवर ब्लाक टाइल्स आदि का निर्माण किया जा रहा है। इन कार्यों को महिलाएं स्वयं कर रही हैं और इसके बाद निर्मित सामानों के विक्रय हेतु मार्केटिंग स्किल को भी बखूबी समझ रही हैं। इसके माध्यम से महिलाएं न सिर्फ आर्थिक रुप से सक्षम हो रही हैं, बल्कि उनमें व्यवसायिक समझ भी विकसित हो रही है। इस प्रकार कोरिया जिले के गौठान महिलाओं के लिए आजीविका के साधन बन रहे हैं।

सीएम के हाथों मल्टीयूटिलिटी सेंटर का उद्घाटन

कोरिया जिले के सोनहत विकासखंड अंतर्गत ग्राम घुघरा और पुसला के गौठान में निर्मित मल्टीयूटिलिटी सेंटर का उद्घाटन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा 11 दिसंबर को उनके कोरिया प्रवास के दौरान किया गया है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कोरिया जिले के मल्टीयूटिलिटी सेंटर की न केवल तारीफ की, बल्कि अन्य जिलों को भी इसी तरह की पहल के लिए प्रोत्साहित किया। इस सेंटर में 17 महिला स्व सहायता समूहों द्वारा फ्लाई एस, ब्रिक मेकिंग, पेवर ब्लॉक, चप्पल निर्माण, कृषि उपकरण केंद्र, जैविक दवाई केंद्र, राईस मिल, ई-रिक्शा जैसी आर्थिक गतिविधियों का काम चल रहा है। छत्तीसगढ़ सरकार की महत्वाकांक्षी सुराजी गांव एवं गोधन न्याय योजना को संयुक्त रूप से गांवों के विकास और उन्नति की इबारत लिखी जा रही है।

स्व सहायता समूहों को हो रहा है आर्थिक लाभ

कोरिया जिले में 136 ग्रामीण क्षेत्रों एवं 7 नगरीय निकायों के गौठानों में अब तक 2 लाख क्विंटल से अधिक गोबर की खरीदी की जा चुकी हैं तथा 3 करोड़ से अधिक की राशि का भुगतान भी विक्रेताओं को किया जा चुका है। इस सेंटर में फेंसिंग पोल निर्माण से स्व सहायता समूहों को 34 लाख एवं चैनलिंक फैंसिंग से 27 लाख रुपए की आमदनी हुई है।

ग्राम घुघरा की महिला स्व सहायता समूहों द्वारा प्रतिदिन 4 हजार ईंटों का निर्माण किया जा रहा है, जिसे 3 रुपए ईंट की दर से बेचा जाता है। अब तक 50 हजार ईंटों का विक्रय समूह द्वारा किया जा चुका है। इसी तरह चप्पल निर्माण से महिलाओं को 1 लाख 35 हजार रुपए की आमदनी हुई है। गौठानों में प्राप्त गोबर से अब तक 24 क्विंटल वर्मी कंपोस्ट का निर्माण किया जा चुका है। जिसमें से 15 क्विंटल वर्मी कंपोस्ट का विक्रय किया गया है। इसके जरिए ग्राम घुघरा के समूह को 15 हजार रुपए का लाभ हुआ है।

विधायक कमरो ने जताया आभार

सोनहत विकासखंड में बने मल्टीयूटीलिटी सेंटर छत्तीसगढ़ में मॉडल बनने पर सविप्रा उपाध्यक्ष विधायक गुलाब कमरो ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कलेक्टर कोरिया, जिला पंचायत सीईओ, जनपद पंचायत सोनहत सीईओ सहित जिला प्रशासन टीम को बधाई देते हुए आभार व्यक्त किया है। विदित हो कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सोनहत प्रवास दौरान घुघरा आदर्श गोठान परिसर में 17 महिला स्व-सहायता समूह द्वारा निर्मित मल्टीयूटीलिटी सेंटर का अवलोकन किया गया था। मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिलों में पुसला-घुघरा गौठान में निर्मित मल्टीयूटीलिटी सेंटर की तर्ज पर निर्माण करने के निर्देश दिए हैं।


05-Feb-2021 7:35 PM 48

  जायसवाल ने कलेक्टर को लिखा पत्र   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

चिरमिरी, 5 फरवरी।  भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने कोरिया कलेक्टर एस. एन. राठौर को पत्र लिखकर चिरिमिरी के हल्दी बाड़ी में हुए भू-स्खलन में प्रभावित परिवारों के विस्थापन व क्षतिपूर्ति सहायता राशि प्रदान करने की मांग की है।

 श्री जायसवाल ने अपने पत्र में कहा है कि नगर पालिक निगम चिरमिरी में बीते 1 फरवरी की रात्रि 10 बजे हल्दी बाड़ी महुआ दफाई के स्टेट बैंक के पास जमीन धसने से हुए भू- स्खलन में दो दर्जन से भी ज्यादा परिवारों को अस्थाई रूप से प्रशासन द्वारा विस्थापित किया गया है। लेकिन प्रभावित परिवारों को पूर्ण रूप से अन्यत्र विस्थापित किए जाने की व्यवस्था राज्य आपदा प्रबंधन मद से किए जाने की प्रक्रिया शुरू किया जाना आवश्यक है । इसके साथ ही प्रभावित परिवारों के क्षतिपूर्ती का आंकलन कर उन्हें जिला खनिज न्यास मद से सहायता राशि प्रदान होने से परिवारों को इस विपत्ति की घड़ी में बड़ी सहायता होगी।

    भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने पत्र में कोरिया कलेक्टर एस. एन. राठौर से मांग करते हुए कहा है कि भू-स्खलन से प्रभावित परिवारों को राज्य आपदा प्रबंधन मद से अन्यत्र विस्थापित करने के साथ ही जिला खनिज न्यास मद से क्षतिपूर्ति राशि प्रदान सभी प्रभावित परिवारों को प्रदान करने की  व्यवस्था करे ।


05-Feb-2021 7:30 PM 68

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

चिरिमिरी, 5 फरवरी। भाजपा किसान मोर्चा छत्तीसगढ़ प्रदेशाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक श्याम बिहारी जायसवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि विगत 1 फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन द्वारा पेश किए गए बजट 2020-21 में बिलासपुर रेलवे जोन को 5030.56 करोड़ रुपए की राशि प्रदान की गई हैं।

जोन में नई रेल लाइन, रेल लाइन दोहरीकरण, कम्प्यूटरीकरण, रोड सुरक्षा, ओवर ब्रिज, अंडर ब्रिज, ब्रिज निर्माण समेत कई बड़े कार्यों के लिए जोन को राशि मिली है। जिसमें नई रेललाइन के लिए 2177.20 करोड़ रुपए, आमान या गेज परिवर्तन के लिए 285.50 करोड़ रुपए, रेल लाइन दोहरीकरण के लिए 1250.25 करोड़ रुपए, कम्प्यूटरीकरण के लिए 2.04 करोड़, रोड संरक्षा कार्य में लेबर क्रासिंग के लिए 15 .01 करोड़ रुपए, रोड संरक्षा कार्य ओवर ब्रिज व अंडर ब्रिज निर्माण के लिए 368.39 करोड़ रुपए, ट्रैक नवीनीकरण के लिए 570 करोड़ रुपए समेत कई कार्यों के लिए राशि मिली है। जिसमे सरगुजा संभाग की दशकों से लंबित महत्वपूर्ण रेल लाइनों के निर्माण की राशि भी जारी होने से क्षेत्रवासियों के लिए एक बड़ी और ऐतिहासिक सौगात से कम नही है।

नई रेल लाइन निर्माण के लिए 2177.20 करोड रुपए की स्वीकृति में चिरमिरी-नागपुर हाल्ट के बीच 11 किलोमीटर रेल लाइन निर्माण कार्य, बरवाडीह-चिरमिरी के बीच 182 किलो मीटर रेल लाइन, बोरीडांड जंक्सन-अंबिकापुर के बीच 118.81 किलो मीटर दूसरी रेल लाइन शामिल हैं। इन तीनो रेल लाइनों के लिए केंद्रीय बजट में राशि आवंटन होने से सम्पूर्ण क्षेत्र के विकास में रेल एक महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी।

सम्पूर्ण सरगुजा क्षेत्र व कोरिया जिले के रहवासियों के लिए यह एक सपने के पूरा होने जैसी खुशी है। जहां एक ओर चिरमिरी नागपुर हाल्ट को जोडऩे से अम्बिकापुर से चलने वाली सभी गाडिय़ा चाहे वह रायपुर की ओर चले या फिर जबलपुर कटनी की ओर सभी ट्रेन व्हाया चिरमिरी मनेन्द्रगढ़ होकर चलेंगी जिससे कोरिया जिले के दोनों ही शहरों की स्थायित्व की दशकों पुरानी समस्या को विराम लगेगा, तो दूसरी ओर अम्बिकापुर से बरवाडीह तक रेल के विस्तार से कलकत्ता की दूरी भी कम हो जाएगी। जिससे इस पूरे क्षेत्र में एक बहुत ही बड़ा बदलाव आर्थिक और सामरिक बदलाव आने वाले समय मे देखने को मिलेगा। केंद्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण एवं देश के यसशवी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का क्षेत्रवासियों की ओर से इन महत्वपूर्ण रेल लाइनों के निर्माण हेतु राशि प्रदान करने पर आभार व्यक्त करता हुं।


05-Feb-2021 7:27 PM 29

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 5 फरवरी। लायनेस क्लब मनेंद्रगढ़ समर्पण ने अपने जारी सेवा कार्यों में नया आयाम जोड़ते हुए मनेंद्रगढ़ उप जेल के समस्त कैदियों हेतु लगभग 400 की संख्या में वस्त्र प्रदान किए।

इस अवसर पर लायनेस अध्यक्ष पम्मी अरोड़ा ने कहा कि हमारा लक्ष्य सेवा करना है। लायनेस क्लब की वरिष्ठ नपाध्यक्ष प्रभा पटेल ने कहा कि लायनेस द्वारा सदैव ही पीडि़त मानवता की सेवा हेतु कार्य किए जाते रहे हैं। आज जेल परिसर में भी वस्त्र वितरण करके पुनीत कार्य किया गया है।

बंदियों हेतु कैरम बोर्ड एवं शतरंज की व्यवस्था भी लायनेस द्वारा की जाएगी। डिस्ट्रिक्ट सह सचिव अनीता फरमानिया ने कहा कि हम लायनेस सदैव अच्छे कार्य करने में पीछे नहीं रहते जब भी हमारी जरूरत होगी हम सदैव खड़े रहेंगे। उप जेल अधीक्षक आलोक शुक्ला ने कहा कि लायनेस

क्लब के पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने जेल बंदियों हेतु जो वस्त्र प्रदान किए हैं उनकी नितांत आवश्यकता थी। इसके लिए उन्होंने लायनेस क्लब को धन्यवाद दिया। कार्यक्रम का संचालन नरेंद्र अरोड़ा द्वारा किया गया।  कार्यक्रम के अंत में लायनेस अध्यक्ष पम्मी अरोड़ा ने उप जेल मनेंद्रगढ़ के समस्त स्टाफ का आयोजन में दिए गए सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया। इस दौरान क्लब सचिव प्रतिभा अग्रवाल, माइक्रो मेंबर प्रीति जायसवाल, बेबी मखीजा, मंजू गोयल, ज्योति मजूमदार, कविता सेठी, प्रीति अग्रवाल, श्वेता पोद्दार, कमलेश अरोड़ा एवं दीप कौर आदि उपस्थित रहे।


05-Feb-2021 5:35 PM 33

16 लाख 50 हजार रुपए धोखाधड़ी की शिकायत

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 5 फरवरी।
कोरिया जिला मुख्यालय स्थित बिल्डर के खिलाफ एक के एम मामले दर्ज होते जा रहे हैं। अब एक महिला ने मकान रजिस्ट्री कराने के नाम पर शहर के बिल्डर व मां वैष्णव एसोसिएट प्रा.लि के संचालकों द्वारा धोखाधड़ी कर 16 लाख 50 हजार रूपए हड़पे जाने की शिकायत सिटी कोतवाली थाने में दर्ज कराई है। वहीं पुलिस ने मामला दर्ज कर इसमें शामिल लोगों को लेकर जांच शुरू कर दी है।

इस संबंध में सिटी कोतवाली प्रभारी कमलाकांत शुक्ला का कहना है कि महिला की शिकायत पर बिल्डर के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया गया है। पूरे मामले की जांच पड़ताल जारी है।
सिटी कोतवाली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार प्रार्थिया सुनीता गुप्ता पति दीपक गुप्ता (28)एमएलए नगर बैकुंठपुर ने थाने में शिकायत दर्ज कराई है कि वर्ष 2014 में मां वैष्णो एसोसिएट प्रा.लि.के संचालक संजय अग्रवाल एवं सीमा अग्रवाल के द्वारा प्रार्थिया के साथ मकान रजिस्ट्री कराने के नाम पर धोखाधड़ी कर षडय़ंत्र करते हुए उससे 16 लाख 50 हजार रूपए की ठगी की है। 

पुलिस को आवेदिका ने बताया कि वह 2014 में एमएलए नगर में निर्मित किए जा रहे आवासीय कालोनी में 16 लाख 50 हजार रूपए नगद देकर मकान खरीदी थी। जिसका खसरा क्रमांक 295ध्298ध्3 रकबा 0.008 हे. मकान  60 है। यह मकान मेरे और मेरी मां सावित्री बाई के संयुक्त नाम से दर्ज है, जिसकी रजिस्ट्री संजय अग्रवाल ने हमें खसरा क्रमाक 295/298/2 से किया था। बीते दिनों एमएलए नगर में जब नगर पालिका बैकुंठपुर के द्वारा शासकीय जेल बैकुंठपुर की भूमि की नपाई कर चिन्हांकित का कार्य चल रहा था, तभी हमें पता चला कि मेरी मकान शासकीय जेल बैकुंठपुर के भूमि पर निर्मित है। उल्लेखनीय है कि बीते वर्ष के सितंबर महिने से बिल्डर जिला जेल में निरुद्ध हैं, कुछ मामलों में उन्हें जमानत मिली है, लेकिन नए मामले पंजीबद्ध होने के कारण फिलहाल उनकी मुश्किलें काम होती नजर नहीं आ रही हैं।

51 मकान ही नपा से पास
नगर पालिका बैकुंठपुर में जाकर प्रार्थी ने जब पूछताछ की तो उसे पता चला कि एमएलए नगर की कुल 51 मकान ही नगर पालिका से पास है, शेष सभी मकान अवैध है, उन्हें यह भी पता चला कि एमएलए नगर में कई सारे मकानों को शासकीय जेल बैकुंठपुर की भूमि पर निर्मित किया गया है, इसमें प्रार्थी का मकान भी आता है।

नापजोख के बाद से हडक़ंप
शहर के एमएलए नगर में बीते 30 जनवरी को नगर पालिका और राजस्व अमले की नापजोख की संयुक्त कार्रवाई से पूरे कॉलोनी में जमकर हडक़ंप मच गया है।  पूरे कॉलोनी में बने मकानों की नाप जोख करते हुए बारिकी से जांच किए जाने के बाद अब यहां घर खरीदे लोग काफी सकते में हैं। वहीं नगर पालिका नाप जोख के बाद कार्यवाही करने की तैयारी मे है, जिसके लिए नपा दस्तावेजों को खंगाल रही है।


05-Feb-2021 5:32 PM 35

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 5 फरवरी।
कोरिया जिला मुख्यालय में आरपीएफ ने छापे मार कार्यवाही करते हुए दो आरोपियों के पास से 39 नग रेलवे टिकट बरामद किया है, दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मामला दर्ज किया है। अब तक जिला मुख्यालय में रेलवे सुरक्षा के द्वारा की गई यह पहली कार्रवाई है।

आरपीएफ से मिली जानकारी के अनुसार 4 फरवरी को रेलवे सुरक्षा बल पोस्ट अम्बिकापुर के अधिकारी एवं बल सदस्यों द्वारा मंडल सुरक्षा आयुक्त से मिली सूचना के आधार पर बैकुंठपुर के घड़ी चौक स्थित शिक्षा फोटो कॉपी बैकुंठपुर नामक दुकान में छापेमारी की गई। 
जहां से आरोपी संजय कुमार साहू (27) निवासी साहूपारा कंचनपुर बैकुंठपुर और शिव शंकर (21) निवासी रामपुर साहूपारा पटना को पकड़ा। दोनों पर  रेल अधिनियम की धारा 143 के अंतर्गत अपराध किए जाने पर उसके कब्जे से 2 पर्सनल यूजर आईडी से बनी कुल 39 नग रेल की टिकटों की प्रतियां एवं सभी उससे जुड़ी संपत्तियों को जप्त किया गया। 

दोनों आरोपियों को रेलवे सुरक्षा बल पोस्ट अम्बिकापुर में लाकर धारा 143 रेल अधिनयम पंजीबद्ध कर गिरफ्तार किया गया। मामले की विवेचना की जा रही है। जप्त की गई रेल टिकटों की कीमत 16 हजार 396 रूपये बताई जाती है। 
गौरतलब है कि कोरिया जिला मुख्यालय मे रेलवे सुरक्षा बल के, द्वारा इस तरह दबिश देकर कार्यवाही करने का पहला मामला है।
 


04-Feb-2021 5:04 PM 35

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 4 फरवरी।
विधानसभा चुनाव को 3 वर्ष बाकी है परन्तु भाजपा अभी से चुनाव मोड में दिख रही है, इस बार बैकुंठपुर विधानसभा ने नए चेहरे गांव गांव में अपनी पैठ बनाते नजर आ रहे है, भाजपा में बीते 4 बार से राजवाड़े समाज से विधानसभा की टिकट मिलने के कारण अन्य समाज के उम्मीदवार इस बार ज्यादा सक्रिय नजर आ रहे है।  वहीं भाजपा के लिए बीते भाजपा के कार्यकाल में भूमि घोटाले को नेताओं द्वारा आश्रय देने को लेकर अब लोगों को काफी नाराजगी देखी जा रही है,  हलांकि इसका खमियाजा बीेते चुनाव में भाजपा को उठाना पड चुका है।

विधानसभा चुनाव में अभी 3 वर्ष बाकी है, हालांकि वर्ष 2023 पूरा चुनावी वर्ष होगा, ऐसे में 2 वर्ष में भाजपा अभी से मैदान में ताकत झोकने मे जुट चुकी है, सूत्रों की माने तो भाजपा का अंदरूनी सर्वे भी शुरू हो चुका है।  इधर, बैकुंठपुर विधानसभा में कई नए चेहरे इस बार अभी से मैदान में साफ नजर आने लगे है, सबसे पहला नाम भाजपा के जिला अध्यक्ष कृष्ण बिहारी जायसवाल का है, जिन्होंने अध्यक्ष की ताजपोशी के बाद भूमि घोटाले के साथ गलत कार्यों के खिलाफ अपने को अलग दिखने की अपनी पहचान बनाई, काफी दबाव के बाद भी वो टस से मस नहीं हुए और गलत के खिलाफ कार्यवाही में भाजपा को एकजुट रखा। श्री जायसवाल का भाजपा संगठन के शीर्ष नेताओं में अच्छ पैठ बताई जाती है। तेज-तर्रार अध्यक्ष होने के साथ गलत के साथ वे समझौता नहीं करते, ऐसा उन्हे लेकर चर्चा आम है।

दूसरा नाम पूर्व नपा अध्यक्ष शैलेष शिवहरे का है, वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में टिकट से सबसे पहले दावेदार थे, भाजपा के तमाम सर्वे तब यह बता रहे थे कि भाजपा को नए चेहरे से जीत मिल सकती है, बावजूद पुराने चेहरों के साथ भाजपा मैदान में उतरी और एक व्यक्ति के विरोध से तीनों सीट पर हार का सामना करना पड़ा। श्री शिवहरे ने भाजपा सरकार के समय भू माफिया और जमीन घोटाले को लेकर बड़ा धरना-प्रदर्शन किया, तब पहली बार वर्ष 2017 में पूर्व मंत्री को भू-माफिया के खिलाफ खडे होना पड़ा था, चंूंकि नपा अध्यक्ष श्री शिवहरे का शहर में बड़ा जनाधार और काफी संख्या में युवाओं की फौज भी धरने पर बैठी थी, मजबूरी में पूर्व मंत्री को भी विरोध करने सामने आना पड़ा।

तीसरा नाम पूर्व जिला पंचायत सदस्य देवेन्द्र तिवारी का है, युवाओं में बेहद पंसद श्री तिवारी समय समय कांग्रेस सरकार के खिलाफ मुखर होकर सामने आते है, वे खुलकर कांग्रेस का विरोध करते देखे जाते भी है, हालांकि उन्होंने कभी विधानसभा के टिकट की दावेदारी खुले मन से नही की। वहीं चौथा नाम राजवाड़े समाज से पूर्व जिला पंचायत सदस्य एवं वर्तमान मे भाजपा के जिला उपाध्यक्ष लक्ष्मण राजवाडे का ना देखा जा रहा है, श्री राजवाड़े पूर्व से ही संगठन की पसंद रहे है, सबसे बड़ी बात यह है कि श्री राजवाड़े शुरू से ही भाजपा से जुड़े रहे और युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष भी रह चुके है। वहीं साहू समाज से जगदीश साहू और कुबेर साहू का खुलकर सामने आ रहा है, बैकुंठपुर विधानसभा में साहु समाज की बहुल्यता को दरकिनार नहीं किया जा सकता है बीते चुनाव में साहू समाज की नाराजगी भाजपा को काफी भारी पडी थी, कुबेर साहू आरएसएस के काफी करीबी है तो उपर संगठन में जगदीश साहू की पकड भी कम नहीं है। इसलिए अगर जातिगत समीकरण को आधार बनाकर भाजपा मैदान में उतरती है तो साहू समाज इस बार विधानसभा के टिकट का दावेदार हो सकता है, दोनों उम्मीदवार इस बार अभी से मैदान में नजर आ रहे है।  
 


03-Feb-2021 7:03 PM 27

  झूठी वाहवाही में मशगूल प्रदेश सरकार-जायसवाल    

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

चिरमिरी, 3 फरवरी। भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने प्रदेश सरकार की  नेतृत्वहीनता के चलते लगभग एक लाख किसानों के धान बेचने से वंचित रहने पर क्षोभ व्यक्त किया है। श्री जायसवाल ने कहा कि किसानों का दाना-दाना धान खऱीदने की डींगें हाँकने वाली प्रदेश सरकार ने किसानों को अपनी उपज औने-पौने दाम पर बेचने के लिए विवश करके अपने किसान-विरोधी चरित्र का परिचय ही दिया है। श्री जायसवाल ने कहा कि किसानों को राहत देने धान खऱीदी की मियाद बढ़ाने की मांग ख़ारिज करके प्रदेश सरकार अपने संवेदनहीन और सत्तावादी अहंकार का प्रदर्शन कर रही है।

 श्री जायसवाल ने कहा कि धान खऱीदी को लेकर प्रदेश सरकार ने पिछले वर्ष की ही तरह इस वर्ष भी शुरू से ही किसानों के साथ छल-कपट और अपनी नाकामियों का ठीकरा केंद्र सरकार के मत्थे फोडक़र प्रदेश को ग़ुमराह करने की विफल कोशिश करती रही। रकबा कटौती और गिरदावरी के सनक भरे पैसलों ने प्रदेश के किसानों की न केवल मुश्कि़लें बढ़ाईं, अपितु मुख्यमंत्री, गृह मंत्री, कृषि मंत्री व पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के गृह जि़ले और इलाक़ों में किसानों को आत्महत्या के लिए बाध्य होना पड़ा।

 श्री जायसवाल ने कटाक्ष करके कहा कि आँकड़ों की बाजीगरी दिखाकर प्रदेश सरकार और कांग्रेस भले ही अपनी झूठी वाहवाही में मशगूल हो जाए, लेकिन प्रदेश के किसानों को ख़ून के आँसू रुलाने वाली प्रदेश सरकार और कांग्रेस से किसान अपने आँसुओं की एक-एक बूंद का हिसाब समय आने पर चुकता ज़रूर करेंगे।

भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश सरकार ने धान खऱीदी एक माह विलंब से शुरू की और धान खऱीदी की पूरी तैयारी को लेकर उदासीनता दिखाई। धान खऱीदी के पहले दिन से बारदाना संकट, उपार्जन केंद्रों में मारामारी और अव्यवस्था का आलम किसानों की परेशानी बढ़ाने वाला रहा और जब भाजपा ने धान खऱीदी व किसानों की परेशानी को लेकर आवाज़ उठाई तो कांग्रेस और प्रदेश सरकार ओछी सियासत पर उतर आईं।

भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री जायसवाल ने कहा कि अन्नदाताओं के परिश्रम का अपमान कर रहे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अब एफसीआई में ज़्यादा चावल जमा करने के लिए केंद्र सरकार को पत्र लिखकर प्रदेश को ग़ुमराह करने करने की नई भूमिका तैयार कर रहे हैं। तीन-तीन बार मोहलत लेकर भी प्रदेश सरकार पिछले वर्ष के अपने हिस्से का लाखों मीटरिक टन चावल एफसीआई में जमा नहीं करा सकी और अब केंद्र सरकार के खि़लाफ़ फिर बेसुरा प्रलाप कर रही है। प्रदेश सरकार अपनी नाकामियों का ठीकरा केंद्र सरकार पर फोडऩे की बुरी लत की शिकार होती जा रही है। मुख्यमंत्री बघेल को बार-बार चिठ्ठी लिखने के बजाय केंद्र सरकार से समय रहते चर्चा करके नीतिगत मुद्दों पर संशोधन या प्रदेश के लिए राहत की गुंजाइशें तलाश करना था। लेकिन तयशुदा मापदंडों पर काम नहीं करके सियासी नौटंकियाँ ही करना ही भूपेश-सरकार की फि़तरत हो गई है।


03-Feb-2021 6:58 PM 40

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

मनेन्द्रगढ़, 3 फरवरी। वरिष्ठ पर्यावरणविद एवं नेशनल ग्रीन कोर के जिला समन्वयक सतीश उपाध्याय ने गिधवा-परसदा में आयोजित राज्य के प्रथम बर्ड फेस्टिवल (पक्षी महोत्सव) 2021 में कोरिया जिला से प्रतिनिधित्व किया। कार्यक्रम के प्रथम सत्र में वन विभाग के सचिव प्रेम कुमार, मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी, वन मंडल अधिकारी दुर्ग, कलेक्टर बेमेतरा, पुलिस अधीक्षक आदि अतिथि उपस्थित थे।

गिधवा परसदा पक्षी महोत्सव 2021 में अपनी सहभागिता सुनिश्चित कर लौटे  सतीश उपाध्याय ने बताया कि राज्य वन अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थान रायपुर द्वारा 2014 से प्रवासी पक्षियों का डेटाबेस तैयार किया जा रहा है। उन्होंने इस अवसर पर गिधवा परसदा को राज्य का प्रथम पक्षी अभ्यारण बनाने का सुझाव राज्य शासन के समक्ष  रखा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की गिधवा - परसदा में प्रवासी पक्षियों के संरक्षण की योजना बनाने तथा पक्षी जागरूकता एवं प्रशिक्षण केंद्र स्थापित करने की घोषणा पर पर्यावरणविद् उपाध्याय  ने प्रसन्नता व्यक्त की। 

कार्यक्रम में यूरोप, कनाडा सहित हजारों किलोमीटर दूर से आने वाले विदेशी पक्षियों के रहवास एवं उसके संरक्षण के लिए देश के सुप्रसिद्ध  पक्षी विदों, पक्षियों के संरक्षण में कार्यरत स्वयंसेवी संस्थाएं एवं प्रकृति प्रेमी उपस्थित हुए। कोरिया से उत्कृष्ट सहभागिता के लिए पक्षी प्रेमी, वन्य जीवों के संरक्षण में सक्रिय वरिष्ठ पर्यावरणविद् सतीश उपाध्याय को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। गिधवा एवं परसदा बर्ड फेस्टिवल के संबंध में उपाध्याय ने बताया कि यहां की नम भूमि पक्षियों विशेष रूप से प्रवासी पक्षियों के लिए अनुकूल पर्यावास प्रदान करती है। इन पक्षियों को देखने हर साल दूर-दूर से लोग यहां पर आते हैं।

यह स्थान राजधानी रायपुर से 63 किलोमीटर एवं दुर्ग से 108 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। सुप्रसिद्ध पक्षी विशेषज्ञो से  परिचर्चा के दौरान कोरिया से सतीश उपाध्याय ने छत्तीसगढ़ के उन विशेष क्षेत्रों का उल्लेख किया जहां दो दशकों से प्रवासी पक्षी आ रहे हैं।


03-Feb-2021 6:57 PM 35

मनेन्द्रगढ़, 3 फरवरी। पिता कमलेश जैन व माता अर्चना जैन की प्रेरणा एवं मार्गदर्शन से चार्टेड एकाउंटेंट की अंतिम परीक्षा में उत्तीर्ण होकर शिवांक जैन ने मनेन्द्रगढ़ का नाम रोशन किया है। शिवांक जैन ने विजय इंग्लिश मीडियम हायर सेकेंडरी स्कूल मनेंद्रगढ़ से 12वीं तक शिक्षा प्राप्त की और जबलपुर से इंस्टीटूट ऑफ चार्टेड अकाउंटेंट की कोचिंग की। 1 फरवरी को उन्होंने सीए की अंतिम परीक्षा में 400 में से 254 अंक अर्जित कर चार्टेड अककॉउंटेन्ट की परीक्षा उत्तीर्ण की। शिवांक ने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता व गुरूजनों को देते हुए कहा कि व्यक्ति अगर लक्ष्य बनाकर चले तो सफलता अवश्य मिलती है।


03-Feb-2021 5:36 PM 37

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 3 फरवरी।
कोरिया जिले के कोयलांचल चिरमिरी में गत दिवस भू स्खलन से पीडि़त परिवारों के पुनर्वास व आर्थिक सहायता को लेकर क्षेत्र के पूर्व विधायक दीपक पटेल रायपुर में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह से मिलकर चिरमिरी क्षेत्र की घटना से अवगत कराया।
जानकारी के अनुसार कोरिया जिले के एसईसीएल चिरमिरी के हल्दीबाडी क्षेत्र में मंगलवार को अचानक भू स्खलन हुआ।  जिससे कि करीब 70 मीटर भू भाग स्खलन होकर धसक गया है और कई घरों में लंबी दरारे पड गई है। एसईसीएल चिरमिरी अंतर्गत कुरासिया अंडर ग्राउंड माईंस पूर्व में चलायी गयी थी इसी माईंस के अंदर ग्राउंड कैनाल के उपर हल्दीबाडी चिरमिरी का वार्ड क्रमांक 12 महुआ दफाई बसी है। भू स्खलन के कारण करीब तबके वर्ग के कई लोग प्रभावित हुए है जिनमें से करीब  30 परिवारों को कडकडाती ठण्ड से बचाने के लिए  शिशु मंदिर विद्यालय, के साथ अन्य निजी स्कूलों के अलावा सामुदायिक भवनों में विस्थापित किया गया है।

भू स्खलन की घटना के बाद संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव चिरमिरी पहुंची, प्रभावित लोगों ने उन्होने बात की, जिसके बाद वो एसईसीएल के अधिकारियों से भी मामले में लोगों की मदद करने की पहल करने को कहा।

सांसद मिले केन्द्रीय कोयला मंत्री से
राजनांदगांव सांसद संतोष पांडेय ने केंद्रीय मंत्री से मांग की कि भूस्खलन से प्रभावित परिवारों  के पुनर्वास की व्यवस्था की जाये साथ ही उन्हे उचित आर्थिक सहायता भी उपलब्ध करायी जाये। इसके साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने घटना की गंभीरता को देखते हुए कोयला मंत्री से चर्चा कर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने का आग्रह किया। 

वहीं पूर्व विधायक दीपक पटेल ने राजनांदगॉव के सांसद संतोष पाण्डेय से भी घटना को लेकर चर्चा की जिस पर राजनांदगॉव सांसद ने घटना की गंभीरता से लेते हुए तत्काल केायला मंत्री व कोल अधिकारियों से मुलाकात कर आवश्यक चर्चा की।


03-Feb-2021 5:35 PM 53

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
चिरिमिरी, 3 फरवरी।
चिरमिरी के हल्दीबाड़ी में  घड़ी चौक के स्थित महुआ दफाई में मंगलवार की सुबह भूस्खलन होने से अफरा-तफरी मच गई । इस भूस्खलन की चपेट में 10 से 15 लोगो के मकान के साथ सीसी रोड, स्टेट बैंक की बिल्डिंग और छतीसगढ़ विद्युत विभाग के ऑफिस में दरार पड़ गई है । एसडीएम ने भूस्खलन की जद में आए 25 परिवारों को अस्थाई रूप से सरस्वती शिशु मंदिर में शिफ्ट कराया। 

ज्ञात हो कि सोमवार की रात लगभग साढ़े 9 बजे महुआ दफाई में जमीन में हलचल हुई थी लेकिन यहां के रहवासियों ने सोचा कि भूकम्प का झटका होगा लेकिन मंगलवार की सुबह लगभग 4 बजे फिर से जमीन में हलचल हुई । जब लोगो ने बाहर निकल कर देखा कई मकानों के साथ ही सडक़ पर काफी बड़ी दरारें पड़ चुकी थी । इस घटना से लोगो मे दहशत का माहौल बन गया ।

घटना की खबर आग की तरह पूरे चिरिमिरी में फैल गई । सुबह 7 बजते बजते बड़ी संख्या में लोग घटना स्थल पर पहुँच गए । घटना की सूचना मिलते ही चिरिमिरी पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई और सुरक्षा की दृष्टि से सडक़ के दोनों ओर बैरिकेटिंग कर घटनास्थल तक लोगो की आवाजाही में पाबंदी लगा दी ।

मौके पर पहुंचे एसडीएम व्ही. पी. खेस ने खतरे को देखते हुए भूस्खलन की जद में आये 25 परिवारों को निगम अमले की मदद से अस्थायी रूप से सरस्वती शिशु मंदिर में शिफ्ट कराया। साथ ही भूस्खलन के क्षेत्र में आये भारतीय स्टेट बैंक की शाखा, छतीसगढ़ विद्युत मंडल के कार्यालय, इंडेन गैस के गोदाम व देशी तथा विदेशी मंदिरा की दुकान को बंद कराकर उन्हें अन्यत्र शिफ्ट करने का निर्देश दिया ।

मौके पर पहुंचे एसईसीएल चिरिमिरी के सीजीएम घनश्याम सिंह एवं रेस्क्यू अधिकारी रामेश्वर शर्मा ने घटनास्थल का जायजा लिया और बताया कि ये स्थान पहले से ही फायर जोन घोषित है । इस क्षेत्र के नीचे से कुरासिया अंडरग्राउंड खदान थी जो काफी पहले बन्द हो चुकी है । इससे पहले भी इस क्षेत्र में जमीन धसक चुकी है जिसके बाद इस क्षेत्र के लोगो को नोटिस जारी कर एरिया खाली करने को कहा गया था लेकिन किसी ने किया नहीं।

विधायक विनय जायसवाल रायपुर प्रवास पर होने के कारण मौके पर तो नही पहुंचे लेकिन मोबाइल से उन्होंने पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली व विस्थापित परिवारों को सभी प्रकार की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए मोबाइल से ही अधिकारियों को निर्देशित किया। वहीं भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल एवं लखनलाल श्रीवास्तव भी मौके पर पहुचे व विस्थापित परिवारों से मिलकर उन्हें ढांढस दिया।   

आपदा के समय मे सामाजिक संस्था व राजनैतिक दलों के लोग भी सामने आए । सामाजिक संस्था हम ने विस्थापित परिवारों को सुबह का नाश्ता कराया तो वहीं कांग्रेस के जिला प्रवक्ता प्रमोद सिंह की टीम ने उनके दोपहर के खाने की व्यवस्था । विस्थापितों को फिलहाल तो अस्थायी रूप से शिशु मंदिर में शिफ्ट कर दिया गया है लेकिन उनके स्थायी निवास की व्यवस्था होना व उनके नुकसान का मुआवजा मिलना अभी बाकी है।