राजपथ - जनपथ

 छत्तीसगढ़ की धड़कन और हलचल पर दैनिक कॉलम : राजपथ-जनपथ : छोटे मियां सुभानअल्लाह
छत्तीसगढ़ की धड़कन और हलचल पर दैनिक कॉलम : राजपथ-जनपथ : छोटे मियां सुभानअल्लाह
Date : 14-Mar-2019

छोटे जोगी के बर्ताव से जोगी पार्टी में भारी नाराजगी है। एक-एक कर कई नेता पार्टी छोड़ चुके हैं। पिछले दिनों पार्टी की कोर कमेटी की बैठक में एक सदस्य ने निष्ठावान कार्यकर्ताओं के पार्टी छोडऩे पर चिंता जताई। उन्होंने छोटे जोगी के बर्ताव पर नाराजगी जताते हुए कहा बताते हैं कि हम किसी के साथ सम्मानजनक ढंग से पेश नहीं आएंगे, तो कोई हमारे साथ क्यों रहेगा? आखिर में छोटे जोगी के बोलने की बारी आई। उन्होंने साफ शब्दों में कह दिया कि जैसे हम हैं, वैसे ही रहेंगे। हमारा व्यवहार नहीं बदलेगा। जिसे पार्टी में रहना है रहे अन्यथा छोड़कर चले जाए। छोटे जोगी के तेवर के बाद पार्टी से पलायन और तेज होने के आसार दिख रहे हैं। फिलहाल विधान मिश्रा जैसे कुछ नेता हैं जो पुराने दोस्त धरमजीत सिंह के फेर में अब तक जोगी कांगे्रस में तो हैं, लेकिन वहां जाना-आना बंद कर चुके हैं, और कांगे्रस में सम्मानजनक वापिसी तक घर बैठे हैं।

कल आए, आज घोड़ी पर चढऩे...
कांग्रेस में टिकट के दावेदार काफी सक्रिय हैं। प्रभारी मंत्रियों के यहां भी दावेदारों की भीड़ देखी जा सकती है। पिछले दिनों नांदगांव सीट से चुनाव लडऩे के इच्छुक कई नेता रायपुर पहुंचे और वे सीधे प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर के घर गए। अकबर नांदगांव और कवर्धा के सारे नेताओं को एक साथ देखकर कुछ देर चुप रहे, फिर सबको साथ बिठाकर आने का कारण पूछा। इनमें पूर्व विधायक योगीराज सिंह और हाल ही में भाजपा छोड़कर कांग्रेस में आए नरेश डाकलिया भी थे। टिकट के दावेदार अकेले में चर्चा करना चाह रहे थे, लेकिन अकबर ने बताते हैं कि उन्हें कहा घर की बात है, सबके सामने अपनी बात रख सकते हैं। 

योगीराज-डाकलिया और अन्य ने थोड़ी हिचकिचाहट के साथ लोकसभा चुनाव लडऩे की इच्छा जताई और पार्टी का टिकट दिलाने में अकबर का सहयोग मांगा। फिर क्या था, अकबर ने साफ शब्दों में कह दिया कि टिकट के लिए उन्हें प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया और सीएम भूपेश बघेल से मिलना होगा। टिकट वे ही तय करेंगे। मेरी कोई भूमिका नहीं होगी। फिर बातों-बातों में हंसी मजाक के बीच उन्होंने कह दिया कि 68 सीट का कमाल है कि लोकसभा में टिकट मांगने वालों की संख्या बढ़ गई है। उनका इशारा डाकलिया की तरफ था, जो कि कुछ दिन पहले ही कांग्रेस में आए हैं और लोकसभा टिकट की दौड़ में शामिल हो गए हैं। दिलचस्प बात यह है कि जिन्हें (भोलाराम साहू) टिकट का मजबूत दावेदार माना जा रहा है वे ज्यादा किसी से मेल-मुलाकात नहीं कर रहे हैं और चुपचाप जनसंपर्क में जुटे हैं।
(rajpathjanpath@gmail.com)

Related Post

Comments