कोरबा

अन्य पिछड़ा वर्ग तथा आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के सर्वेक्षण के लिए सर्वेक्षण समिति गठित
18-Jul-2021 9:38 AM (198)
अन्य पिछड़ा वर्ग तथा आर्थिक रूप से कमजोर  वर्गों के सर्वेक्षण के लिए सर्वेक्षण समिति गठित

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोरबा, 17 जुलाई।
जिले में अन्य पिछड़ा वर्ग तथा आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों का सर्वेक्षण कर संख्यात्मक आंकड़े एकत्रित करने के लिए जिला स्तर पर एवं नगरीय स्तर परकलेक्टर की अध्यक्षता में सर्वेक्षण समिति गठित की गई है। जिला स्तरीय सर्वेक्षण समिति में सीईओ जिला पंचायत, संयुक्त कलेक्टर आशीष देवांगन, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास एवं जिला योजना एवं सांख्यिकी अधिकारी सदस्य होंगे। नगरीय क्षेत्र में सर्वेक्षण समिति में आयुक्त नगर निगम कोरबा, उपायुक्त पवन वर्मा, सीएमओ कटघोरा, सीएमओ दीपका, सीएमओ पाली एवं सीएमओ छुरीकला सदस्य होंगे। नगरीय निकाय क्षेत्रों में यह सर्वेक्षण समिति जोन या वार्ड स्तर पर सर्वेक्षण कर उसकी सूची प्रकाशित करेगा। इस कार्य में जनप्रतिनिधियों एवं एनजीओ की सहायता भी ली जाएगी। सर्वेक्षण की योजना बनाने तथा उसकी निगरानी के लिए स्थानीय प्राधिकारी अपने मुख्य कार्यपालन अधिकारी के अधीन एक समिति गठित करेंगे। मुख्य कार्यपालन अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि अन्य पिछड़ा वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की सही एवं निष्पक्ष जानकारी प्राप्त की जाए। मुख्य कार्यपालन अधिकारी अपने क्षेत्राधिकार में अन्य पिछड़ा वर्ग तथा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की प्रारंभिक सूची तैयार करेंगे तथा स्थानीय प्राधिकारी के कार्यालय के सूचना पटल में प्रदर्शित करेंगे। स्थानीय प्राधिकारी इस संबंध में आपत्तियां प्राप्त करने तथा शिकायतों की सुनवाई करने के लिए बैठक आयोजित करेंगे तथा अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की अंतिम सूची को अनुमोदित करेंगे और इस सूची को प्रकाशित भी करवाएंगे। इसी प्रकार विकासखंड स्तर पर सर्वेक्षण समिति के कुछ कर्तव्य निर्धारित किए गए हैं, जैसे ग्राम पंचायत को सर्वेक्षण की इकाई मानकर अन्य पिछड़ा वर्ग तथा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की सूची का प्रकाशन ग्राम पंचायत स्तर पर वार्डवार करना। जिले के एसडीएम इस कार्य में समुदाय के जनप्रतिनिधि एवं एनजीओ की सहायता लेंगे। एसडीएम अपने क्षेत्र के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत के अधीन एक समिति गठित करेंगे। यह समिति सर्वेक्षण की योजना बनाएगी तथा निगरानी करेगी। आंकड़ों की भिन्नता की स्थिति में जनपद सीईओ यह सुनिश्चित करेंगे कि सर्वेक्षण से संबंधित सही एवं निष्पक्ष से जानकारी प्राप्त हो। 

एसडीएम सर्वेक्षण सूची के संबंध में आपत्तियां प्राप्त करेंगे तथा ओबीसी तथा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के अंतिम सूची को अनुमोदित करेंगे। इसके साथ ही तैयार सूची का प्रकाशन भी करवाएंगे और इसकी रिपोर्ट कलेक्टर को सौंपेंगे। सर्वेक्षण कार्य को संपादित करने के लिए विकासखंड स्तर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत को एडमिन बनाया गया है तथा ग्राम पंचायत स्तर पर पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की गई है।
 

अन्य पोस्ट

Comments