सरगुजा

बरसात से पहले पूरा कराएं सामुदायिक कूप निर्माण
16-Apr-2021 8:31 PM 25
बरसात से पहले पूरा कराएं सामुदायिक कूप निर्माण

गोधन न्याय योजना एवं मनरेगा की ऑनलाइन समीक्षा बैठक

अम्बिकापुर, 16 अप्रैल। कलेक्टर संजीव कुमार झा ने शुक्रवार को गोधन न्याय योजना और मनरेगा की ऑनलाइन समीक्षा बैठक ली। उन्होंने जिले में स्वीकृत 73 सामुदायिक कूप निर्माण की समीक्षा करते हुए कहा कि सभी कूपों को बरसात से पहले पूरा कराएं ताकि लोगों को इसका फायदा मिले। कूप निर्माण कार्य से ग्रामीणों को गर्मी के मौसम में रोजगार भी मिलेगा।

कलेक्टर ने कहा कि लॉकडाउन अवधि में भी मनरेगा के कार्य जारी रहेंगे, ताकि ग्रामीणों को रोजगार की समस्या न हो। मनरेगा कार्य स्थल पर मजदूरों को मास्क पहनना तथा शारीरिक दूरी का पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि मनरेगा में मजदूरों की संख्या बढ़ाये। अप्रारंभ डबरियों को शीघ्र प्रारंभ कराएं। उन्होंने द्वितीय और तृतीय चरण के गौठान निर्माण की समीक्षा करते हुए कहा कि स्वीकृत गौठानों को बरसात के पहले पूरा कराएं। आदर्श गौठान के साथ ही पूर्ण हो चुके सभी गौठानो में फेसिंग कराएं। उन्होंने आदर्श गोठान में रूरल इंडस्ट्रियल पार्क हेतु वर्मी कम्पोस्ट खाद की पैकिंग के लिए प्लास्टिक बोरी निर्माण ईकाई लगाने, मुर्गी पालन, बकरी पालन सहित अन्य गतिविधियों शुरू करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि गोठानों में निर्मित वर्मी खाद को बड़े किसानों को खरीदवाएँ। गॉंव के बड़े किसान तथा जिन किसानों ने कृषि और उद्यनिकी विभाग की योजनाओं से लाभ लिया है उनकी सूची तैयार करें। किसानों को अभी से वर्मी खाद के उपयोग के लिए प्रेरित करें।

कलेक्टर ने कहा कि गांव में बनाये गए क्वारंटाइन सेंटर में बाहर से आने वाले श्रमिकों को रखें। क्वारंटीन सेंटर में भोजन पानी शौचालय की व्यवस्था हो। देख रेख के लिए कर्मचारी की ड्यूटी लगाएं। उन्होंने कहा कि गांव में किसी मोहल्ले में ज्यादा कोरोना संक्रमित निकलते हैं तो उस मोहल्ले को कंटेन्मेंट जोन घोषित कर बाहर निकलना प्रतिबंधित करें। कंटेन्मेंट जोन में मितानिनों की ड्यूटी लगाएं जो कन्टेमेन्ट जोन के सभी लोगों को दवा उपलब्ध कराने के साथ ही उन्हें समय पर दवा की सभी खुराक खिलाना भी सुनिश्चित करें। इसके साथ ही कंटेन्मेंट जोन की निगरानी के लिए नोडल अधिकारी भी नियुक्त करें।बैठक में सभी जनपदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, कृषि विभाग के एसएडीओ सहित अन्य अधिकारी ऑनलाईन जुड़े हुए थे।

अन्य पोस्ट

Comments