सरगुजा

आरक्षक पर मारपीट का आरोप, घायल के परिजन व कांग्रेसी पहुंचे कोतवाली, एफआईआर की मांग
03-Mar-2021 9:08 PM 32
आरक्षक पर मारपीट का आरोप, घायल के परिजन व कांग्रेसी पहुंचे कोतवाली, एफआईआर की मांग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अंबिकापुर, 3 मार्च। कोतवाली थाने में मारपीट का मामला दिनोंदिन गहराता जा रहा है। उक्त मामले को लेकर बुधवार को वसुंधरा विहार कॉलोनी निवासी अभिषेक सिंह सहित कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने कोतवाली पहुंचकर मारपीट का आरोप लगाते हुए आरक्षक पर अपराध दर्ज करने की मांग की। इसके साथ साथ पार्षद दीपक मिश्रा के मामले में भी उचित जांच की मांग की।

कोतवाली थाना प्रभारी को ज्ञापन सौंपकर अभिषेक सिंह ने उसके भतीजे संकल्प सिंह के साथ आरक्षक द्वारा नशे में मारपीट किए जाने का आरोप लगाया है। अभिषेक सिंह ने बताया कि उसका भतीजा संकल्प सिंह व उसके दोस्त अर्पित, अंशु को गाड़ी चलाते समय वाहन चेकिंग के दौरान वाहन के दस्तावेज नहीं होने पर ट्रैफिक पुलिस द्वारा अंबिकापुर थाना लाया गया था। आरोप लगाया कि वहां सादे ड्रेस में एक आरक्षक द्वारा अभद्र व्यवहार करने पर संकल्प सिंह ने मना किया। उसके बाद आरक्षक ने वहां तीनों के साथ हाथ मुक्का और बेल्ट निकाल कर मारपीट की। जिससे संकल्प के कान से खून निकलने लगा। आरोप यह भी है कि उस दौरान उक्त आरक्षक नशे में था। आरक्षक की मारपीट से संकल्प की स्थिति खराब होने पर उसे रात में परिजन डॉक्टर के पास ले गए, जहां उसे कान में भीतरी चोट लगने के कारण उसे बनारस के मैक्सवेल हॉस्पिटल उपचार के लिए भेजा गया है, जहां वह आईसीयू में दाखिल है। परिजनों ने मामले में निष्पक्ष जांच कर आरक्षक के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।

गौरतलब है कि अंबिकापुर कोतवाली पुलिस ने थाने परिसर के अंदर शनिवार की रात आरक्षक सत्येंद्र दुबे से हुई मारपीट की घटना में यश सिंह,अर्पित,अंशुल, दीपक मिश्रा व एक अन्य महिला सहित अन्य लोगों पर बलवा, शासकीय कार्य में बाधा व मारपीट किए जाने का मामला गत रविवार की रात को दर्ज किया है। मामले मे तीन लोगों की गिरफ्तारी भी की जा चुकी है।

अन्य पोस्ट

Comments