बस्तर

100 साल पुराने बरगद को बचाने मुहिम रंग लाई, महापौर ने रूकवाई कटाई
29-Sep-2020 12:50 PM 4
100 साल पुराने बरगद को बचाने मुहिम रंग लाई, महापौर ने रूकवाई कटाई

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
जगदलपुर, 29 सितंबर।
बरसों पहले बंद हुआ राज्य परिवहन का पुराना बस स्टैंड की जगह नगर निगम एक आलीशान कॉम्प्लेक्स बना रहा है, ठीक उसके सामने 100 वर्षों से भी अधिक समय से लोगों को छांव देता बरगद के विशालकाय पेड़ को काटा जा रहा था तभी इंद्रावती बचाओ अभियान की पेड़ बचाओ मुहिम के प्रकृति प्रेमियों की नजर इस पर पड़ी। 

सौ साल पुराने बरगद की शाखाओं को कटे देख वाट्सअप ग्रुप में फोटो डाले गए। जिस पर वरिष्ठजनों द्वारा विकास के नाम पर पुराने पेड़ों की कटाई पर रोक लगाने को लेकर धरना प्रदर्शन पर सहमति बनी। कोरोना काल को ध्यान में रखते हुए सोशल डिस्टेंस का पालन करते शाखा कटे हुए बरगद के पेड़ के नीचे धरना दिया गया। धरने के कुछ घंटों में ही जगदलपुर की महापौर सफिरा साहू धरने स्थल पर पहुंचीं।

महापौर ने तत्परता दिखाते हमारे अभियान के संपत झा व अन्य सदस्यों से चर्चा की। मुद्दे को महत्वपूर्ण मानते पेड़ को रक्षासूत्र बांधकर समस्या का त्वरित समाधान किया। इंद्रावती बचाओ अभियान की बुजुर्ग बरगद के पेड़ को बचाने की मुहिम सफल हुई। इंद्रावती बचाओ अभियान के सदस्यों द्वारा आभार के साथ विकास की योजनाओं में पुराने पेड़ों को बचाने की बात भी कही गई। 

अन्य पोस्ट

Comments