बस्तर

अनावश्यक घूमने वालों पर करें सख्त कार्रवाई, कोविड टास्क फोर्स की बैठक
28-Sep-2020 9:11 PM 4
 अनावश्यक घूमने वालों पर करें सख्त कार्रवाई, कोविड टास्क फोर्स की बैठक

 

जगदलपुर, 28 सितम्बर। शहर में अनावश्यक घूमने वालों पर सख्त कार्यवाही के निर्देश कलेक्टर रजत बंसल ने दिए। सोमवार को डिमरापाल स्थित मेडिकल कॉलेज के सभाकक्ष में आयोजित कोविड टास्क फोर्स की बैठक में कलेक्टर ने यह निर्देश दिए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक दीपक झा, सहायक कलेक्टर रेना जमील, अपर कलेक्टर अरविंद एक्का, चिकित्सा महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ. यूएस पैकरा, अस्पताल अधीक्षक डॉ. केएल आजाद सहित अधिकारीगण उपस्थित थे।

कलेक्टर श्री बंसल ने कहा कि शहर में कोरोना पर नियंत्रण के लिए अनावश्यक घूमने वालों पर सख्त कार्यवाही आवश्यक है। उन्होंने टी स्टॉल, पान ठेला व गुपचुप ठेलों में लगने वाली भीड़ पर भी नकेल कसने के निर्देश दिए। समीक्षा के दौरान जगदलपुर एसडीएम जीआर मरकाम ने बताया कि रविवार तक तीन दिनों में 3 लाख 13 हजार रुपए से अधिक जुर्माना वसूला गया है। उन्होंने यह भी बताया कि जगदलपुर शहर के साथ ही आसना व आड़ावाल में निगरानी के लिए गठित 10 चलित दलों के साथ ही अब सात स्थानों पर स्थैतिक दल भी बनाए गए हैं। इनके द्वारा आने जाने वाले लोगों की थर्मल स्कैनिंग की जा रही है और आवश्यकता पडऩे पर नमूना संग्रहण के चलित दलों की सहायता ली जा रही है। उन्होंने प्रमुख ग्रामीण बाजारों में भी नमूना संग्रहण किए जाने की जानकारी दी। कलेक्टर ने लापरवाह नागरिकों के विरुद्ध की जा रही कार्यवाही से संतुष्टि जताते हुए निरंतर जागरुकता अभियान चलाने के निर्देश दिए। उन्होंने इसके लिए शहरी क्षेत्र के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में भी जागरुकता रथ का संचालन करने को कहा। उन्होंने कोरोना से बचाव संबंधी जानकारी देने के लिए पाम्पलेट का वितरण के निर्देश भी दिए। उन्होंने आमचो बस्तर रेडियो कार्यक्रम तथा वाहनों में लाउड स्पीकर्स के माध्यम से निरंतर प्रचार-प्रसार के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने पिछली बैठक में दिए गए ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना जांच की व्यवस्था के निर्देशों के पालन में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने रविवार सहित सप्ताह के सभी दिनों में कोरोना की जांच के निर्देश दिए। उन्होंने शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में हॉटस्पॉट की पहचान करने के निर्देश भी दिए, जिससे कंटेनमेंट जोन घोषित कर लोगों की कोरोना जांच की जा सके।  उन्होंने कोरोना पाए जाने वाले क्षेत्रों में तत्काल सेनेटाईजेशन करने के निर्देश दिए। उन्होंने नमूना संग्रहण के लिए कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने को कहा।

कलेक्टर ने मास्क नहीं पहनने वालों पर जुर्माने की कार्यवाही के साथ ही स्वसहायता समूहों द्वारा तैयार मास्क का वितरण चालान के साथ करने के निर्देश दिए। उन्होंने दवा दुकानों के साथ ही अन्य दुकानों में भी इन मास्कों की उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने इस संबंध में बस्तर चेम्बर ऑफ कॉमर्स से जुड़े व्यवसायियों के साथ शीघ्र ही समन्वय बैठक आयोजित करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने आइसोलेषन सेंटर के प्रभारियों से सेंटर की व्यवस्थाओं के संबंध में चर्चा की और  जरूरी निर्देश दिए। उन्होंने धरमपुरा में साफ-सफाई की अच्छी व्यवस्था के लिए जगदलपुर नगर निगम के अधिकारी-कर्मचारियों की प्रशंसा की। विशेष आवश्यकता वाले मरीजों की सहायता के लिए कर्मचारियों की नियुक्ति के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिए गए।

 कलेक्टर ने मरीजों को उपलब्ध कराए जा रहे दवाई किट और काढ़ा वितरण के संबंध में जानकारी ली। महारानी अस्पताल में पर्याप्त मात्रा में दवाई किट उपलब्ध रखने के साथ ही उन्होंने सार्वजनिक स्थानों और शासकीय कार्यालयों में काढ़ा वितरण के निर्देश दिए। इस अवसर पर जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित करने को कहा। उन्होंने होम आईसोलेशन में रहकर स्वस्थ होने वाले मरीजों की जानकारी अद्यतन करने के निर्देश दिए।

कोरोना के लक्षण वाले मरीजों द्वारा कोरोना जांच की बजाय सीटी स्केन करने के कारण कुछ मरीजों को समय पर उपचार नहीं मिलने से समस्या के बढऩे की शिकायतें मिली हैं। कलेक्टर ने कोरोना से मिलते-जुलते लक्षणों वाले मरीजों को पहले कोरोना की जांच के लिए जागरुक करने के निर्देश दिए गए, जिससे उनका समय पर उपचार प्रारंभ हो सके।

 

अन्य पोस्ट

Comments