सरगुजा

भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त, फसल नुकसान का अंदेशा
25-Sep-2020 9:25 PM 6
भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त, फसल नुकसान का अंदेशा

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

लखनपुर, 25 सितंबर। क्षेत्र में इन दिनों हो रही लगातार बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त है। मानसून के पलटवार से जहां जल स्रोत तालाब, नदी-नाले अंगड़ाई लेने लगे हैं वहीं लगातार बारिश ने किसानों के पेशानी पर चिंता की लकीर खींच दी है। खलिहानों की साफ-सफाई खरीफ फसलों में जल्दी पककर तैयार होने वाले धान, उड़द, मक्का इत्यादि को काटकर खेतों से खलिहान तक लाने की चिंता किसानों को सताने लगी है। लगातार बारिश के कारण जहां क्षेत्र में कई कच्चे मकानों के गिरकर जमींदोज हो जाने की खबर है वहीं जल्दी पककर तैयार होने वाले फसलों के नुकसान होने का भी अंदेशा लगाया जा रहा है।

क्षेत्र में तकरीबन 50 से 60 फ़ीसदी धान मक्का की फसल पककर तैयार होने के कगार पर हैं वहीं दलहनी फसलों में उड़द पककर तैयार हो चुके हैं।लिहाजा मौजूदा वक्त में होने वाली बारिश को लेट से पकने वाले धान फसलों के लिए फायदेमंद तथा पक कर तैयार होने वाले धान फसलों के लिए हानिकारक माना जा रहा है। अनुमान यह भी लगाया जा रहा है कि यदि लगातार इसी तरह बारिश होती रही तो क्षेत्र के किसानों को धान के फसल को काटने में भारी परेशानी का सामना करना होगा।

अन्य पोस्ट

Comments