गरियाबंद

गरियाबन्द, मंदिर-पंडालों में दुर्गाष्टमी पर हवन, कार्यक्रम मे भक्त सपरिवार सुख शांति व माता से क्षमा मांगते हुए हवन मे आहुति देकर विधि विधान से पूजा अर्चना की
गरियाबन्द, मंदिर-पंडालों में दुर्गाष्टमी पर हवन, कार्यक्रम मे भक्त सपरिवार सुख शांति व माता से क्षमा मांगते हुए हवन मे आहुति देकर विधि विधान से पूजा अर्चना की
Date : 07-Oct-2019

मंदिर-पंडालों में दुर्गाष्टमी पर हवन, कार्यक्रम मे भक्त सपरिवार सुख शांति व माता से क्षमा मांगते हुए हवन मे आहुति देकर विधि विधान से पूजा अर्चना की

गरियाबन्द, 7 अक्टूबर। नगर स्थित देवी मंदिरों व सार्वजनिक दुर्गा पंडालों में रविवार को महाअष्टमी के अवसर पर पूर्णाहूति हवन कार्यक्रम में भक्तों की बड़ी भीड़ उमड़ी। सुबह से लेकर संध्या बेला तक चले इस पूर्णाहूति कार्यक्रम मे भक्त सपरिवार सुख शांति व माता से क्षमा मांगते हुए हवन मे आहुति देकर विधि विधान से पूजा अर्चना की।

महाअष्टमी पर गरियाबंद में सभी देवी मंदिरों में दुर्गा पंडालों में हवन पूजन हुए और इसके पश्चात माता को भोग लगाकर भंडारे का आयोजन भी किया गया। इस वर्ष हवन के लिए कई मुहर्त होने के कारण विभिन्न मंदिरों में अलग-अलग समय पर हवन-पूजन भी किए गए। शक्ति की देवी को आराधना के लिए श्रद्धालु दिन रात जुटे हुए हैं।  इसके अलावा नवमी के अवसर पर सोमवार को भी भंडारा का आयोजन किया जाएगा। गरियाबंद में परंपरागत तौर पर काली माई मंदिर शिव दुर्गा मंदिर शीतला मंदिर गांधी मैदान व नगर के सभी दुर्गा पंडालों पर हवन के कार्यक्रम सम्पन्न किए गए।

पंडित खडग़नन्द ने बताया कि अष्टमी के दिन माताजी की महाआरती की गई इसके बाद छप्पन भोग का प्रसाद लगाया गया। उन्होंने बताया कि नवमी के दिन मंदिर में कन्या पूजन और उसके बाद भंडारा होगा। शिव दुर्गा मंदिर पर समिति के सदस्य सत्यप्रकाश मानिकपुरी, डी उपासने सोहन देवांगन शत्रुघन साहू के पी गरोडक़र विनोद गुप्ता के अलावा भागवताचार्य पण्डित रामकुमार शर्मा अष्टमी के हवन कार्यक्रम में सम्मलित हुए।

Related Post

Comments