दन्तेवाड़ा

74 शिविरों से 2 हजार से अधिक को लाभ
19-Sep-2021 9:34 PM (61)
74 शिविरों से 2 हजार से अधिक को लाभ

दंतेवाड़ा, 19 सितंबर। भारत सरकार एवं राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के दिशा-निर्देश में 17 सितंबर को आम लोगों को जागरूक करने हेतु देशव्यापी विशेष जागरूकता अभियान संचालित करने के संबंध में निर्देशित किया गया था। आम नागरिकों के बीच विधिक जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया  न्यायिक अधिकारीगण, पैनल अधिवक्तागण, पैरालीगल वालिंटियर्स द्वारा ग्रामीण क्षेत्र, शहरी क्षेत्र, स्कूल एवं कॉलेज, न्यायालय परिसर, जिला जेल, उपजेल, वन डे ऑन स्पॉट लीगल एड क्लीनिक नालसा मोबाईल एप, नालसा हेल्प लाईन नंबर 15100 तथा प्रोजेक्टर के माध्यम से 17 सितम्बर को आम नागरिकों के बीच जाकर घरेलू हिंसा, कर्तव्य अभियान के तहत मौलिक कर्त्तव्य अंतर्गत अनुच्छेद 51-ए, मोटर दुर्घटना तथा नशे की हालत में वाहन चालान, आदिवासी क्षेत्रों में आदिवासियों के लिए नालसा की योजना के बारे में आम नागरिकों को जागरूक करने हेतु विशेष जागरुकता अभियान संचालित किया गया।

 जेल में दी जानकारी

 विनोद कुमार देवांगन प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश, जितेन्द्र कुमार सिंह अपर सत्र न्यायाधीश एफटीसी दंतेवाड़ा द्वारा जिला जेल दन्तेवाड़ा में विधिक जागरूकता शिविर लगाकर लगभग 300 कैदियों को लाभान्वित किया गया।

डीएवी स्कूल में दी जानकारी

 राकेश कुमार सोम द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश दन्तेवाड़ा द्वारा डीएव्ही स्कूल दंतेवाड़ा में जाकर 40 बच्चों के मध्य गुड टच बेड टच, फण्डामेंटल राईट्स, नालसा मोबाईल एप, टोल फ्री नंबर देकर बच्चों को कानून की विधिक जानकारियाँ दी गयी।

बारसूर चित्र में लगे शिविर

 रश्मि नेताम मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट/प्रभारी सचिव दन्तेवाड़ा द्वारा नवोदय विद्यालय बारसूर, ग्राम रोंजे हायर सेकेन्ड्री स्कूल, ग्राम नागफनी, गांव मोहल्ला क्लास बारसूर, बारसूर लोकल मार्केट, बारसूर किशोर न्याय बोर्ड दन्तेवाड़ा शिविर आयोजित कर 199 लोगों को लाभान्वित किया गया तथा उपजेल सुकमा में वर्चुअल रूप से कैदियों से संपर्क कर जागरूकता शिविर आयोजित करते हुए नालसा टोल फ्री नंबर, नि:शुल्क विधिक सहायता योजना, रिमांड योजना के बारे में विस्तृत जानकारी दी गयी। उक्त वर्चुअल शिविर में 200 कैदियों ने आयोजित शिविर में भाग लिया।

कन्या परिसर पातररास में शिविर

  विवेक नेताम न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी दंतेवाड़ा ने भी कन्या शाला परिसर पातररास दन्तेवाड़ा में जाकर 50 बालिकाओं के मध्य मोटरयान, जन चेतना यू-ट्यूब चैनल लिंक के माध्यम से लघु फिल्मों के संबंध में गुड टच बेड टच संबंधी विधिक जानकारियों प्रदान की गयी।

 रश्मि नेताम मुख्य प्रभारी सचिव ने बताया कि जिला न्यायालय परिसर में लगे एलईडी एवं बीजापुर न्यायालय में प्रोजेक्टर के माध्यम से लघु फिल्में गुड टच बेड टच, ड्रिंक एडं ड्राईव, खुशी आदि 285 लोगों को दिखाया गया। साथ ही 17 से 23 सितंबर तक विधिक कानूनी प्रचार-प्रसार मोबाईल वेन जिसे छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय बिलासपुर से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया है। उक्त न्यायालय रथ शीघ्र दंतेवाड़ा जिले में पहुंचकर जिले के आम लोगों के लिये उनको कानूनी जानकारियां प्रदान करने में सहयोग करेगी।

अन्य पोस्ट

Comments