राष्ट्रीय

हैदराबाद के गगनपहाड़ में ओवरफ्लो हो रही झील की वजह से हाईवे जलमग्न
28-Sep-2021 3:31 PM (62)
हैदराबाद के गगनपहाड़ में ओवरफ्लो हो रही झील की वजह से हाईवे जलमग्न

हैदराबाद, 28 सितम्बर | हैदराबाद-बेंगलुरु राष्ट्रीय राजमार्ग पर गगनपहाड़ गांव के पास एक झील के उफान पर होने के कारण, अधिकारियों ने हैदराबाद हवाई अड्डे पर जाने वाले लोगों को आउटर रिंग रोड (ओआरआर) का उपयोग करने की सलाह दी है। अप्पा चेरुवु के ओवरफ्लो होने के कारण एनएच44 का एक हिस्सा जलमग्न हो गया है, जिससे हैदराबाद को शमशाबाद, कुरनूल और बेंगलुरु में राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से जोड़ने वाले प्रमुख राजमार्ग पर यातायात बाधित हो गया है।


साइबराबाद पुलिस ने हवाई अड्डे, कुरनूल, बेंगलुरु आदि की ओर जाने वाले नागरिकों से एनएच44 के बजाय ओआरआर का उपयोग करने की अपील की है।

लगातार दूसरे साल गगनपहाड़ में एनएच44 खंड पानी के नीचे आ गया है। साइबराबाद ट्रैफिक पुलिस एक लेन पर केवल भारी वाहनों को ही अनुमति दे रही है।

चेवेल्ला के सांसद जी. रंजीत रेड्डी ने अधिकारियों के साथ गगनपहाड़ का दौरा किया और स्थिति की समीक्षा की।

पिछले साल अक्टूबर में गगनपहाड़ में पांच लोग बह गए, जब भारी बारिश के बाद झील में पानी भर गया था।

इस बार किसी भी तरह की त्रासदी को रोकने के लिए प्रशासन ने यातायात को डायवर्ट कर एहतियाती कदम उठाए।

इस बीच, तेलंगाना राज्य पुलिस अकादमी (टीएसपीए) के पास ओआरआर सर्विस रोड पर हिमायत सागर झील का पानी ओवरफ्लो हो गया।

साइबराबाद ट्रैफिक पुलिस ने ट्रैफिक डायवर्जन की घोषणा की। ओआरआर सर्विस रोड पर टीएसपीए से शमशाबाद की ओर जाने वाले ट्रैफिक को टीएसपीए-खलीजखान दरगाह-किस्मतपुर-बुडवेल एक्सटेंशन-पिलर नंबर 194-आरामघर पर डायवर्ट किया जा सकता है।

चक्रवात 'गुलाब' के प्रभाव में पिछले दो दिनों से हो रही भारी बारिश के बाद शहर के बाहरी इलाके हिमायत सागर और उस्मान सागर जलाशयों में पानी अधिकतम स्तर पर पहुंच गया है।

अधिकारियों ने मुसी नदी में पानी छोड़ने के लिए दोनों जलाशयों के द्वार खोल दिए हैं, जो शहर से होकर बहती है।

मुसी के किनारे रहने वाले लोगों को अलर्ट कर दिया गया है।  (आईएएनएस)

अन्य पोस्ट

Comments