छत्तीसगढ़

  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    रायगढ़, 14 जुलाई। पुसौर से तमनार तक एनटीपीसी की नई रेल लाईन के  लिए 36 गांवों के  हजारों पेड़ काटे जा रहे हंै। वन विभाग ने इसकी अनुमति भी दे दी है।  हरे भरे पेड़ों को काटे जाने के बाद इनकी जगह नए पौधे लगाने के नाम पर कोई योजना भी नहीं बनाई गई है।
    इस मामले में एसडीएम प्रकाश सर्वे का कहना है कि  पुसौर के ग्राम लारा में बन रहे एनटीपीसी के पावर प्लांट में कोयला सप्लाई करने के लिए तमनार से सीधे पुसौर तक रेल लाईन बिछाई जा रही है और इसके लिए रेल लाईन की जद में आने वाले  पेड़ काटे जा रहे हंै।  इस मामले में  प्रशासन ने अनुमति दे दी है तथा पेड़ काटे जाने के बाद रेल लाईन बिछाने का काम शुरू हो जाएगा। 
    वहीं जिले के वनमंडलाधिकारी विजया रात्रे ने भी बताया कि रायगढ़ से लगे तमनार व रायगढ़ वन मंडल के क्षेत्र में आने वाले 11 हजार से भी अधिक पेड़ काटे जाने की अनुमति दी गई है और यह कटाई वन विभाग की देखरेख में चल रही है। 
    उल्लेखनीय है कि रायगढ़ जिले में जहां औद्योगिक प्रदूषण के चलते  लोग हलाकान है वहीं कटते पेड़ों के चलते पर्यावरण को और नुकसान पहुंच रहा है। हर साल इस इलाके से लाखों पेड़ कभी औद्योगिक घरानों द्वारा काट दिये जाते हंै। इसके पहले रेल कारीडोर के नाम पर जंगलों को भारी नुकसान पहुंचाया गया है।

  •  

  • छत्तीसगढ़ संवाददाता
    रायगढ़, 13 जुलाई। जिले के पुसौर ब्लाक के ग्राम सीहा में बीती रात पड़ोसियों में खूनी संघर्ष में मां-बेटे सहित तीन की मौत हो गई। मृतकों में हत्या का आरोपी भी शामिल है। घटना में घायल 3 को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनमें से एक की हालत नाजुक बताई गई है।
    घटना की जानकारी मिलने के बाद बिलासपुर संभाग के आईजी पुरूषोत्तम गौतम, रायगढ़ पुलिस अधीक्षक बद्रीनारायण मीणा तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यूबीएस चौहान मौके पर पहुंच गए है। 
    मिली जानकारी के अनुसार सीहा गांव में बीती रात यहां के कार्तिक साव ने अपने पड़ोसी के घर हमला बोला और टंगिए से प्रेमशीला प्रधान की हत्या कर दी। मां को बचाने आए अंकित प्रधान पर वार कर हत्या कर दी। इस दौरान परिवार के अन्य सदस्यों ने कार्तिक की हत्या कर दी। कार्तिक के हमले में 3 अन्य भी  घायल हुए हैं। उन्हें जिंदल के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया है वहां उनमें एक की हालत नाजुक बताई जा रही है। 
    पुलिस अधीक्षक बद्रीनारायण मीणा ने बताया कि  देर रात हुए इस खूनी संघर्ष की जानकारी आज सुबह पुसौर थाने को दी गई थी और उसके बाद से तत्काल पूरे मामले की जांच शुरू कर दी गई है। उनका कहना है कि अब तक जांच में इस बात की जानकारी मिली है कि आपसी विवाद के चलते यह घटना घटी है और मृतक कार्तिक साव की मौत हो जाने के बाद इसमें और कौन लोग शामिल थे तथा किस बात को लेकर इस हत्या के सभी पहलुओं पर जांच की जाएगी। 
    घायलों में मृतक प्रेमशीला की बेटी किरण प्रधान, भाई रघुनंदन प्रधान के अलावा उनके पति पुरूषोत्तम प्रधान है जिनका इलाज फोर्टिस में जारी है। पुलिस अधीक्षक के अनुसार इसमें रघुनंदन प्रधान उम्र 11 साल को तो मामूली चोटें आई है वहीं पति पुरूषोत्तम प्रधान को सबसे ज्यादा चोटें आने के चलते आईसीयू में रखा गया है वहां उनकी हालत गंभीर है।  
     मौके पर पुसौर पुलिस टीम के अलावा क्राईम ब्रांच की टीम व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यूबीएस चौहान को भेजा गया है टीम समस्त तथ्यों की जांच कर रही है।  

     

  •