राष्ट्रीय

Previous123456789...4041Next
  • गुजरात विधानसभा चुनावों के ठीक पहले, सोशल मीडिया पर एक 20 बरस के इंजीनियरिंग छात्र की शुरू की गई मुहिम ने भाजपा की नींद हराम कर रखी है। पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के करीबी समझे जाने वाले सागर सावलिया ने राज्य परिवहन की बस से अलग निकले पहिये की तस्वीर पर विकास पगला गया है कैप्शन लगा कर उसे फेसबुक पेज बेफाम (बेलगाम) न्यूज पर पोस्ट कर दिया। सागर ने अंग्रेजी दैनिक हिन्दुस्तान टाईम्स को बताया कि गुजरात में पाटीदार आन्दोलन के दौरान पुलिस की कथित ज्यादतियों के जवाब में उसने यह फेसबुक पेज बनाया था। उसके इस कैप्शन विकास पगला गया है को मिले रिस्पांस के बाद पाटीदार आन्दोलन के नेताओं ने इसे लेकर सोशल मीडिया पर एक मुहिम छेड़ दी, और विकास पगला गया है सोशल मीडिया में चल निकला। अमित शाह, मुख्यमंत्री विजय रूपानी जहां भाजपा नेताओं, कार्यकर्ताओं को इस मुहिम को नजरअन्दाज करने की सलाह दे रहे है, वहीं भाजपा समर्थक वॉट्सेप ग्रुप इसके जवाब में प्रधानमंत्री के रूप में मोदी ने कितना काम किया यह बता रहे है। वैसे पिछले दो वर्षों से गुजरात में सड़के वैसी ही गड्ढेदार हो गई है जैसी कभी मोदी दूसरे राज्यों में विकास की स्थिति का मजाक उड़ाते समय बताया करते थे। स्वाईन फ्लू, गन्दगी, जन स्वास्थ्य की चरमराई सेवाओं के बीच गुजरात की प्रजा को जैसे विकास पगला गया है अपने दिल की बात लग रही है। वॉट्स एप्प में आये दिन इस बारे में रोज नए मजाक, वीडियो आते है और लोग बहुत मजे लेकर उन्हे शेयर भी करते है।

    ...
  •  


  • अमरावती, 22 सितंबर। आंध्र प्रदेश सरकार ने ट्रांसजेंडरों के लिए कई कल्याणकारी कदमों की घोषणा की है। इसके तहत उन्हें प्रति माह 1000 रुपये पेंशन दिया जाना भी शामिल है। मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने गुरुवार को रात में जिलाधिकारियों के साथ दो दिवसीय सम्मेलन में कहा कि पेंशन के अलावा ट्रांसजेंडरों को राशन कार्ड और मकान भी दिए जाएंगे।
    नायडू ने कहा, हमें ट्रांसजेंडरों के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने की आवश्यकता है ताकि वे एक आत्मनिर्भर समुदाय बन सकें। उन्होंने जिलाधिकारियों से इस दिशा में आवश्यक कदम उठाने को कहा।  (भाषा)

    ...
  •  


  • बेंगलुरु, 22 सितंबर। बेंगलुरु में अगवा किए गए 19 साल के कॉलेज स्टूडेंट शरत का शव शुक्रवार को एक झील के पास बरामद किया गया। कुछ दिन पहले ही एक वीडियो में उसने अपने माता-पिता को अपहरणकर्ताओं को 50 लाख रुपये देने को कहा था। इस मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। शुक्रवार सुबह इन अपराधियों ने पुलिस को उस जगह के बारे में जानकारी दी, जहां उन्होंने छात्र के शव को गाड़ दिया था। शरत के पिता निरंजन कुमार इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के सीनियर अफसर हैं।
    पिछले हफ्ते वह अपनी नई बाइक पर घूमने निकला था। दरअसल वह अपने दोस्तों को अपनी नई बाइक दिखाना चाहता था। रास्ते में ही उसे अगवा कर लिया गया। दो दिन बाद उसके माता-पिता को एक व्हाट्सऐप वीडियो मिला, जिसमें अपहर्ताओं ने अपनी मांगें रखी थीं।
    इसके बाद एक और वीडियो भेजा गया, जिससे साबित हुआ कि उस समय तक शरत जिंदा था। बताया जाता है कि संदिग्धों में से एक इस परिवार का जानकार आदमी है। (एनडीटीवी)

     

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 22 सितंबर। गोरक्षक दलों पर प्रतिबंध लगाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट में याचिकाकर्ता तुषार गांधी ने फरीदाबाद में हुई जुनैद की हत्या के मामले में परिवार को तुरंत मुआवजा देने की मांग की। इंदिरा जयसिंह ने कहा कि रेलवे ने अभी तक मुआवजा नहीं दिया है। उसकी ट्रेन से फेंककर हत्या कर दी गई थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मुआवजा का मामला अलग है। इसे उसके साथ मिक्स नहीं किया जा सकता। हर राज्य की मुआवजा देने की अपनी योजनाएं हैं। वहीं गुजरात, कर्नाटक, राजस्थान, झारखंड और यूपी ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि बाकी राज्य 31 अक्टूबर तक हलफनामा दाखिल करें। महाराष्ट्र ने कहा कि वे आज ही हलफनामा दाखिल करेंगे। इस मामले में 31 अक्टूबर को सुनवाई होगी।
    गोरक्षा के नाम पर बने संगठनों पर प्रतिबंध लगाने की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई रह रहा है। पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि गोरक्षा के नाम पर हिंसा बंद होनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि हर राज्य में ऐसी घटनाओं से निपटने के लिए हर जिले में वरिष्ठ पुलिस पुलिस अफसर नोडल अफसर बने, जो यह सुनिश्चित करे कि कोई भी विजिलेंटिज्म ग्रुप कानून को अपने हाथों में न ले। अगर कोई घटना होती है तो नोडल अफसर कानून के हिसाब से कार्रवाई करें। सुप्रीम कोर्ट ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को डीजीपी के साथ मिलकर हाइवे पर पुलिस पेट्रोलिंग को लेकर रणनीति तैयार करें।
    गोरक्षा के नाम पर बने संगठनों पर प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर दायर जनहित याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर रहा है। तहसीन पूनावाला और दो अन्य ने याचिका में गोरक्षा के नाम पर दलितों और अल्पसंख्यकों के खिलाफ हो रही हिंसा रोकने की मांग की है और कहा है कि ऐसी हिंसा करने वाले संगठनों पर उसी तरह से पाबंदी लगाई जाए जिस तरह की पाबंदी सिमी जैसे संगठन पर लगी है।
    याचिका में कहा गया है कि देश में कुछ राज्यों में गोरक्षक दलों को सरकारी मान्यता मिली हुई है, जिससे इनके हौंसले बढ़े हुए है। मांग की गई है कि गोरक्षक दलों की सरकारी मान्यता समाप्त की जाए। याचिका के साथ में गोरक्षक दलों की हिंसा के वीडियो और अखबार की कटिंग लगाई गई है और अदालत से इन पर संज्ञान लेने को कहा गया है।
    याचिका में कहा गया है कि गोशाला में गाय की मौत और गोरक्षा के नाम पर गोरक्षक कानून को अपने हाथ में ले रहे हैं। याचिका में उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात और कर्नाटक के उस कानून को असंवैधानिक करार देने की गुहार की गई है, जिसमें गाय की रक्षा के लिए निगरानी समूहों के पंजीकरण का प्रावधान है।  (एनडीटीवी)

     

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 22 सितंबर । बिहार में टूट की आशंका के बीच सत्ताधारी जदयू ने कांग्रेस के लिए मुश्किलें और बढ़ा दी है। एक रिपोर्ट के मुताबिक जदयू ने कांग्रेस विधायकों को पार्टी में आने का खुला न्यौता दिया है। जदयू के प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा, कांग्रेसी विधायकों को मालूम है कि लालू के साथ उनका कोई भविष्य नहीं है। हमारे दरवाजे उनके लिए खुले हुए हैं। बताया जाता है कि कुछ कांग्रेस विधायकों ने भ्रष्टाचार के मुद्दे का हवाला देकर राजद के साथ बने रहने पर आपत्ति जताई है। उधर, राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने इसे अपने लिए राजनीतिक संकट के रूप में देखने से इनकार किया है। उन्होंने कहा, वे (कांग्रेसी विधायक) महत्वपूर्ण कैसे हो गए। मैं इन चिरकुटों पर ध्यान नहीं देता। मैं केवल राहुल और सोनिया गांधी को जानता हूं जो पार्टी का नेतृत्व करते हैं। (टाईम्स ऑफ इंडिया)

     

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 22 सितंबर। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी द्वारा यूनाइटेड नेशन में पीएम पद पर आने के बाद पहली बार भाषण दिया गया, जिसमें उन्होंने कश्मीर पर विशेष ध्यान देते हुए भारत पर आरोप लगाया कि भारत द्वारा क्षेत्र में लोगों के संघर्ष को बेरहमी से दबाया जा रहा है। अब्बासी के इस भाषण का भारत ने करारा जवाब देते हुए कहा कि पाकिस्तान अब टेररिस्तान बन चुका है। भारत ने अपने भाषण में कहा कि यह बहुत ही आसाधारण बात है कि पाकिस्तान ओसामा बिन लादेन और मुल्लाह ओमार जैसे आतंकिया को पनाह देता है और खुद को पीडि़त बताता है। एक छोटे से इतिहास की बात करें तो आज पाकिस्तान आतंक का पर्याय बन गया है। जिस देश के नाम में पवित्रता है वह जगह अब आतंकवाद की धरती बन गई है।
    गुरुवार को यूनाइटेड नेशन की भारतीय सेक्रेटरी ईनाम गंभीर ने कहा कि दुनिया में आतंकवाद को फैलाने और आतंकी बनाने वाली इंडस्ट्री के बाद अब पाकिस्तान टेररिस्तान बन गया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को यह समझना चाहिए कि जम्मू एंड कश्मीर अभी भी भारत का अविभाज्य हिस्सा है। गंभीर ने कहा कि पाकिस्तान में हाफिज मोहम्मद सयैद को पनाह दी है जिसे यूएन द्वारा लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी घोषित किया जा चुका है लेकिन वह अब एक राजनीतिक पार्टी का नेता बन चुका है। बेशक ये सीमा पर कितना भी आतंकवाद को बढ़ावा क्यों न दे दें, लेकिन ये भारत की अखंडता को कभी विभाजित नहीं कर पाएगा।
    गंभीर ने कहा कि पाकिस्तान में दंड-मुक्त होने के बाद आतंकी वहां की सड़कों पर खुलेआम घूमते हैं और हमने उनके भारत के मानवाधिकार लेक्चर के बारे में सुना है। दुनिया को ऐसे देश से लोकतंत्र और मानवाधिकारी पर सीख लेने की जरुरत नहीं हो जिसकी स्थिति खुद चैरिटेबल बनी हुई है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री अब्बासी ने अपने भाषण में कहा था कि भारत के विद्रोह और आतंकवाद के अभियान के कारण पाकिस्तान शिकार हो रहा है। इसके साथ ही उन्होंने भारत पर आरोप लगाया था कि भारतीय सैनिक जम्मू एंड कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर आए-दिन सीजफायर का उल्लंघन करता रहता है। (जनसत्ता)

    ...
  •  


  • नारायण बारेठ
    जयपुर से, 22 सितंबर (बीबीसी)।राजस्थान के कथित संत कौशलेंद्र फलाहारी महाराज पर एक युवती ने बलात्कार का आरोप लगाया है। युवती छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की रहने वाली है, 21 साल की युवती ने आरोप लगाया है कि बाबा ने अलवर के आश्रम में उनके साथ यौन दुष्कर्म किया। पुलिस में दर्ज रिपोर्ट के अनुसार बाबा ने उसे रात को अपने कमरे में बुलाया और उसके साथ बलात्कार किया।
    पुलिस ने बताया कि बिलासपुर पुलिस स्टेशन में जीरो एफआईआर दर्ज की गई है। जिसके आधार पर बुधवार को जांच अधिकारी अलवर पहुंचे हैं और मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।
    इससे पहले, हरियाणा के बाबा गुरमीत राम रहीम सिंह को रेप मामले में दोषी करार दिया गया था। फैसले के बाद पंचकुला में हिंसा भड़क उठी थी, जिसमें दर्जनों लोग मारे गए थे। बाबा को फैसले के बाद गिरफ्तार कर रोहतक जेल भेज दिया गया था।
    पुलिस के मुताबिक छत्तीसगढ़ में पीडि़ता का बयान दर्ज कर मेडिकल जांच भी कराई गई है। छत्तीसगढ़ पुलिस की केस डायरी के आधार पर अरावली थाने में मामला दर्ज कर जांच की जा रही है। फिलहाल फलाहारी बाबा की गिरफ्तारी नहीं हुई है और उनका इलाज अस्पताल में चल रहा है। 
    फलाहारी बाबा का पूरा नाम जगतगुरु रामानुजाचार्य श्री स्वामी कौशलेंद्र प्रपन्नाचारी फलाहारी महाराज है। वो रामानुज संप्रदाय से साधु माने जाते हैं। अलवर में इनका वेंकटेश दिव्य बालाजी धाम आश्रम है, जहां हर दिन भक्तों की भीड़ रहती है। फलाहारी बाबा अलवर में गोशाला भी चलाते हैं।
    वो कुंभ में शिविर लगाते हैं और संस्कृत के जानकार माने जाते हैं। अभी कुछ समय पहले इन्होंने आश्रम में श्री वेंकटेश की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा की थी, जिसमें बड़ी तादाद में श्रद्धालू और विशिष्ठ लोग आए थे।
    रामानुज संप्रदाय को श्री संप्रदाय भी कहते हैं। हिंदू धर्म में इस संप्रदाय को आचार और विचार में शुद्धि रखने के रूप में जाना जाता है। बाबा के रिश्ते कई राजनीतिक दलों से भी बताए जाते हैं और उन्हें भाजपा का करीबी माना जाता है। जुलाई में वो जयपुर में आयोजित भाजपा के संत समागम में भाग लेने भी गए थे।
    बाबा ने 7 नवंबर 2016 को एक रथ यात्रा शुरू की थी, जो देश के विभिन्न राज्यों में अभी चल ही रही है। यात्रा का समापन 2018 में होगा। समापन पर हैदराबाद में श्रीराम जीवा प्रांगण में रामानुजाचार्य की प्रतिमा लगाई जाएगी। दावा किया जाता है कि बाबा पिछले 15 वर्षों से आध्यात्म में सक्रिय हैं। वो अपने आश्रम में भजन-कीर्तन और वैदिक यज्ञ करवाते हैं।

     

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 22 सितंबर। एन्काउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा ने नागपाड़ा से इकबाल कासकर को गिरफ्तार किया था। हिन्दुस्तान में मोस्ट वॉन्टेड अंडरवल्र्ड डॉन दाऊद इब्राहीम के भाई इकबाल कासकर को डॉन की बहन हसीना पारकर के घर से गिरफ्तार करने वाले एन्काउंटर स्पेशलिस्ट इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा वह नाम हैं, जिनसे अंडरवल्र्ड आज भी थर्राता है, हालांकि बीच-बीच में उन पर भी दाग लगते रहे हैं। कुल मिलाकर 113 एन्काउंटर कर चुके प्रदीप शर्मा पर दाऊद इब्राहीम की डी कंपनी के लिए काम करने के आरोप लगते रहे हैं, और ये आरोप गैंगस्टर छोटा राजन ने लगाए थे।
    अपनी वर्दी पर लगे दाग धोने जैसी यह गिरफ्तारी करने वाले प्रदीप शर्मा के बारे में 10 खास बातें। डी कंपनी का गढ़ माने जाने वाले नागपाड़ा इलाके में ही इकबाल कासकर को धर दबोचने वाली टीम का नेतृत्व करने वाले प्रदीप शर्मा वर्ष 1983 में सब-इंस्पेक्टर के तौर पर पुलिस में भर्ती हुए थे, और कुछ ही समय पहले उनकी तैनाती ठाणे के एन्टी-एक्सटॉर्शन सेल में की गई थी। 
    अंडरवल्र्ड से मिलीभगत के आरोपों के चलते एक वक्त पर पुलिस सेवा से डिसमिस कर दिए प्रदीप शर्मा ने कानूनी लड़ाई लड़कर अपनी वर्दी वापस हासिल की है।
    1983 बैच के एन्काउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा ने कहा कि मीडिया इकबाल कासकर की गिरफ्तारी को बढ़ा-चढ़ाकर इसलिए दिखा रही है, क्योंकि वह दाऊद इब्राहीम का भाई है, वरना उन्होंने इससे पहले भी कई बड़े अपराधियों को पकड़ा है। प्रदीप शर्मा को वर्ष 2006 में हुए लखन भैया एन्काउंटर मामले में जनवरी, 2010 में गिरफ्तार किया गया था, और वह 2013 में सेशन कोर्ट द्वारा बरा किए गए।
    गिरफ्तारी के दौरान उन्हें लगभग चार साल तक ठाणे जेल में ही रखा गया था। अब बरी होने के लगभग चार साल बाद उन्हें बहाली मिली, और जिस डी कंपनी के लिए काम करने का आरोप लगता रहा है, उसी कंपनी के गढ़ में घुसकर उन्होंने दाऊद के भाई को दबोचा।
    क्या इकबाल की गिरफ्तारी इसीलिए की गई है, ताकि आप पर छोटा राजन द्वारा लगाए गए आरोपों के दाग धोए जा सकें, तो प्रदीप शर्मा ने कड़े स्वर में पलटकर सवाल किया, छोटा राजन सुप्रीम कोर्ट है क्या?
    प्रदीप शर्मा ने कहा, छोटा राजन की बातें पुलिस के लिए कोई मायने नहीं रखतीं। उन्होंने यह भी कहा कि वह चाहे जेल में रहे या जेल के बाहर, जब एक बार कोई पुलिसवाला बन जाता है, तो वह हमेशा पुलिसवाला ही होता है।
    प्रदीप शर्मा ने दावा किया, जेल में रहते हुए भी मैंने अपराधियों के जरिये मिली सूचनाओं को मुंबई और ठाणे के पुलिस आयुक्तों को दिया। मैं हमेशा अपराध खत्म करने के लिए काम करता हूं।  (एनडीटीवी)

     

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 22 सितंबर। मुंबई बम धमाकों का आरोपित अंडरवल्र्ड डॉन दाऊद इब्राहिम इस वक्त पाकिस्तान में है। हाल में गिरफ्तार किए गए दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर के हवाले से एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी है। एक रिपोर्ट के मुताबिक कासकर ने पाकिस्तान में दाऊद चार-पांच पते बताए हैं। पाकिस्तान लगातार इससे इंकार करता रहा है कि दाऊद वहां रह रहा है। लेकिन कासकर से मिली जानकारी भारत के इस दावे की पुष्टि करती है। भारत ने पाकिस्तान को दाऊद के नौ पतों के बारे में जानकारी दी है। इनमें कराची के अलावा अन्य शहरों के पते भी शामिल हैं।
    रिपोर्ट के मुताबिक कासकर ने जांचकर्ताओं को यह भी बताया कि दाऊद पिछले तीन साल से उससे और भारत में रह रहे बाकी रिश्तेदारों से बात नहीं करता। उसने बताया कि दाऊद को डर है कि उसका फोन टैप न हो जाए। कासकर ने बताया कि वह दाऊद का बिजनेस संभालने वाले अनीस अहमद से पहले एकाध बार मिला था। उनके मुताबिक अनीस ने एक अंतरराष्ट्रीय फोन नंबर से उसे ईद और अन्य मौकों पर बुलाया था। वहीं, दाऊद के करीबी छोटा शकील के बारे में पूछे जाने पर कासकर ने कहा कि उससे उसके अच्छे संबंध नहीं हैं। कासकर ने कहा कि वह शकील से नफरत करता है।
    कासकर पर ठाणे के आसपास के व्यापारियों और ज्वैलरों से पिछले तीन साल में 100 करोड़ रुपये की उगाही का आरोप है। उसने इसमें दाऊद का हाथ होने से इंकार किया है। उसने कहा कि वह जबरन वसूली के धंधे में नहीं था और बिल्डरों के साथ व्यापार करता था। पुलिस ने बताया, कासकर जांच में सहयोग नहीं कर रहा। वह बड़ी मुश्किल से बोलता है। लेकिन उसने यह माना है कि वह अपने बड़े भाई अनीस अहमद के संपर्क में था जो 1993 के सीरियल बम धमाकों में शामिल था।
    अधिकारी ने कहा कि जांचकर्ताओं को कासकर के दावों पर शक है और उन्हें लगता है कि वह अपने भाइयों के संपर्क में है। अधिकारी ने कहा, पूछताछ के दौरान कासकर के दिए सभी बयानों की जांच की जा रही है। जांच एजेंसियां इनका इस्तेमाल भगोड़े दाऊद के खिलाफ कर सकती हैं। आठ दिन की कस्टडी के दौरान पुलिस रोज कासकर से पूछताछ कर रही है। उसकी कोशिश दाऊद से संपर्क रखने वाले व्यापारियों के नाम जानने की है। इनमें बॉलीवुड की कुछ हस्तियां भी शामिल हैं।
    दाऊद के भाइयों में इकबाल कासकर अकेला है जो मुंबई में रहता है, 18 सितंबर को ठाणे पुलिस की ऐंटी-एक्सटॉर्शन सेल ने उसके दो साथियों को भी गिरफ्तार कर लिया था। फिलहाल इस जबरन वसूली के रैकेट की जांच चल रही है। इस रैकेट में कथित रूप से स्थानीय नेताओं के शामिल होने की भी बात सामने आई है।  (टाईम्स ऑफ इंडिया)

     

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 21 सितंबर (एएनआई)। रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर गृहमंत्री राजनाथ सिंह सख्त बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि रोहिंग्या मानवाधिकार का मामला नहीं है। रोहिंग्या शरणार्थी नहीं, अवैध प्रवासी हैं। इन्हें कभी भी वापस भेजा जा सकता है। म्यांमार रोहिंग्या को वापस लेने को तैयार है तो फिर उन्हें वापस भेजने का इतना विरोध क्यों हो रहा है। 
    राजनाथ सिंह ने कहा कि रोहिंग्या शरणार्थी नहीं है और ना ही उन्होंने शरण ली है, वे अवैध प्रवासी हैं। मानवाधिकार का हवाला देकर अवैध घुसपैठियों को शरणार्थी बताने की गलती नहीं की जानी चाहिए। म्यांमार से भारत में घुस आए रोहिंग्या शरणार्थी नहीं हैं, इस सच्चाई को हमें समझना चाहिए। शरणार्थी का स्टेटस प्राप्त करने के लिए एक प्रक्रिया होती है और इनमें से किसी ने उसे फॉलो नहीं किया है।

    उधर, रोहिंग्या मामले को लेकर आंग सान सू की पर विश्व नेताओं का दबाव बढ़ता जा रहा है क्योंकि यहां संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक के दौरान कई नेताओं ने म्यामां में रोहिंग्या समुदाय के खिलाफ सैन्य अभियान को 'नस्ली संहारÓ करार दिया है। म्यामांर की असैन्य सरकार की मुखिया सू की ने इस मामले को लेकर अंतरराष्ट्रीय समुदाय से धैर्य रखने की गुहार लगाई थी।
    संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक को संबोधित करते हुए कई नेताओं ने रोहिंग्या मामले को उठाया। फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने कहा, सैन्य अभियान रुकना चाहिए, मानवीय मदद की गारंटी मिलनी चाहिए और कानून का राज बहाल होना चाहिए। हमें जो जानकारी है उसके मुताबिक यह नस्ली संहार है। अमरीका म्यामांर की असैन्य सरकार को जिम्मेदार ठहराने के संदर्भ में बहुत सावधान रहा है। विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने सू की से बात की। टिलरसन के प्रवक्ता ने कहा कि विदेश मंत्री ने मानवाधिकारों के हनन को लेकर कार्रवाई करने के सू की के संकल्प का स्वागत किया और साथ ही सरकार एवं सेना से कहा कि वे उत्पीडऩ को रोकें।

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 21 सितंबर। मेडिकल कॉलेज की मान्यता दिलाने के फर्जीवाड़े में फंसे उड़ीसा हाईकोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस इशरत मशरूर कुद्दूसी को सीबीआई ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है।
    उनके साथ चार अन्य लोगों की भी गिरफ्तारी हुई है। इनमें बीपी यादव, पलाश यादव, विश्वनाथ अग्रवाल और सुधीर गिरी शामिल हैं।
    दरअसल सुप्रीम कोर्ट में मेडिकल कॉलेज में दाखिले का मामला चल रहा है। इस मामले में सीबीआई ने बड़ी कार्रवाई करते हुए बुधवार देर शाम लखनऊ के प्रसाद इंस्टीट्यूट समेत देश के 9 ठिकानों पर छापेमारी की थी। इसके अलावा उड़ीसा हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज आईएम कुद्दूसी समेत 6 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया।
    सीबीआई ने इस मामले में बुधवार को लखनऊ समेत नौ स्थानों पर तलाशी ली। सीबीआई ने गोमतीनगर में एल्डिको ग्रीन स्थित प्रसाद ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट के मालिक बीपी यादव के आवास और रिटायर्ड जज इशरत मसरूर कुद्दुसी के ठिकानों पर छापे मारे हैं और दस्तावेज बरामद किये हैं। इसके बाद से ही तय हो गया था कि सीबीआई जल्द ही मामले में गिरफ्तारियां भी करेगी।
    सीबीआई प्रवक्ता के मुताबिक रिटायर्ड जज आईएम कुद्दूसी, लखनऊ में मेडिकल कॉलेज चलाने वाले प्रसाद एजुकेशनल ट्रस्ट के मालिक बीपी यादव, पलाश यादव, बिचौलिए विश्वनाथ अग्रवाल, भावना पांडेय और मेरठ के वेंकटेश्वर मेडिकल कॉलेज के सुधीर गिरी के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों में केस दर्ज किया गया।
    एफआईआर के मुताबिक प्रसाद इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस उन 46 कॉलेजों में से एक है, जिसे सरकार ने मानक पूरा न करने के मामले में ब्लैकलिस्ट कर रखा है। इन कॉलेजों में नए एडमिशन पर रोक लगी हुई है।
    इस मामले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई थी। सीबीआई के मुताबिक पूर्व जज ने अपने संपर्कों के आधार पर सुप्रीम कोर्ट में केस को रफा-दफा कराने को कहा था। इसी के एवज में भारी राशि की मांग की गई थी। इस मामले में सीबीआई ने दिल्ली के एक बिचौलिए के पास से 1 करोड़ की राशि भी जब्त की है।(न्यूज 18)

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 21 सितंबर । यह बेहद दुखद है लेकिन सच है। रेप के 6 मामलों में इंसाफ की आस में परिवार परेशान हो चुके हैं। ऐसे ही 6 मामलों में पीडि़तों की मां दिल्ली हाई कोर्ट पहुंची हैं। सोलह दिसंबर 2012 को दिल्ली में निर्भया गैंगरेप के बाद कानून में संशोधन किया गया, ताकि ऐसे वारदातों को अंजाम देने वालों को सख्स से सख्त सजा दी जा सके और लॉ इन्फोर्समेंट एजेंसी ऐसी घटनाओं के प्रति ज्यादा जवाबदेह हों। निर्भया कांड को पांच साल होने जा रहे हैं लेकिन अब भी छह ऐसी मां हैं जो रेप की शिकार हुई अपनी बच्चियों के लिए इंसाफ की गुहार लगा रही हैं। 
    जांच कहां तक पहुंची है, इस बारे में पुलिस ने उन्हें कोई जानकारी नहीं दी है। इसके साथ ही आरोपी जमानत पर बाहर घूम रहे हैं। ऐसे में इन मांओं ने अब इंसाफ के लिए दिल्ली हाइकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।
    इसी के साथ अपने अपने केस की जांच में प्रगति जानने के लिए 2 याचिकाएं भी इन्होंने दायर की हैं। दरअसल इन परिवारों का आरोप है कि पॉक्सो ऐक्ट का पालन नहीं हो रहा है। यहां तक कि जमानत के बाद आरोपी पड़ोस में रह रहे हैं। (एनडीटीवी)

    ...
  •  


  • मुंबई/नासिक, 21 सितंबर । मुंबई की बारिश ने भले ही पूरे शहर को रोक दिया हो लेकिन जुलाई से हार्ट-टांसप्लांट का इंतजार कर रहे 7 साल के बच्चे तक पहुंचने से नहीं रुका।  नासिक की 11 साल की बच्ची को डॉक्टरों ने ब्रेन-डेड घोषित कर दिया। इसके बाद बच्ची के पिता ने उसके अंग दान करने का फैसला कर लिया। बच्ची को मंगलवार को डॉ. वसंतराव पवार मेडिकल कॉलेज अस्पताल और अनुसंधान केंद्र में ब्रेन डेड घोषित किया गया था। उसको बुधवार को ऋषिकेश अस्पताल लाया गया जहां उसके अंग निकालकर अलग-अलग अस्पतालों में भेजा गया।  ऋषिकेश अस्पताल के डॉक्टर संजय ने बताया कि अंगों को ले जाने के लिए मुंबई और पुणे के लिए 2 कॉरिडोर बनाए गए। मुंबई के फोर्टिस अस्पताल सड़क के रास्ते ले जाया गया। पहले एयरलिफ्ट करने की योजना थी लेकिन मुंबई में हो रही बारिश की वजह से सड़क के रास्ते जाना तय हुआ। लिवर को पुणे के केईएम अस्पताल और किडनी को शोलापुर के अश्विनी सहकारी रुग्णालय भेजा गया। 
    फोर्टिस अस्पताल के डॉक्टरों ने 158 किमी का रास्ता डेढ़ घंटे में तय किया। फोर्टिस में कार्डिएक ट्रांसप्लांट टीम के हेड डॉ. अन्वय मुले ने कहा कि डोनर के परिवार की भूमिका बहुत बड़ी है। दुख के समय में यह फैसला करना आसान नहीं है लेकिन पैरंट्स ने बहादुरी के साथ अपनी बेटी के अंग दान किए। (टाईम्स ऑफ इंडिया)

     

    ...
  •  


  • त्राल, 21 सितंबर। जम्मू-कश्मीर में पुलवामा जिले के त्राल में आज आतंकवादियों ने हमला किया। यह त्राल के एक व्यस्त बस अड्डे पर ग्रेनेड फेंककर किया गया, जिसमें राज्य के वरिष्ठ मंत्री नईम अख्तर बाल-बाल बच गए, लेकिन हमले में दो नागरिक मारे गए और 8 सीआरपीएफ जवान और 2 पुलिस जवान घायल हुए हैं। इस हमले में नईम अख्तर का ड्राइवर घायल हुआ है। 
    पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि खबर है कि ग्रेनेड हमला 11 बजकर 45 मिनट पर हुआ। हमले में दो लोग मारे गए और छह अन्य घायल हो गए। जम्मू-कश्मीर के लोक निर्माण मंत्री अख्तर इस हमले में बाल-बाल बच गए। 
    गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के मंत्री नईम अख्तर एक योजना का शुभारंभ करने पहुंचे हुए थे। इसके बाद आतंकियों ने ग्रेनेड से हमला कर दिया। हमले में सीआरपीएफ के छह जवान घायल हुए हैं।
    इससे पहले जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले में अद्धसैनिक बल के एक शिविर में संदेहास्पद गोलीबारी में एसएसबी का एक जवान शहीद हो गया, जबकि एक अन्य घायल हो गया। रामबन के एसएसपी मोहन लाल ने बताया कि यह पता लगाया जा रहा है कि क्या यह आतंकी हमला था।  उन्होंने कहा, बुधवार शाम रामबन जिले की बनिहाल पट्टी में एसएसबी शिविर में संदेहास्पद परिस्थितियों में गोलीबारी हुई। गोलीबारी में एक सुरक्षाकर्मी की मौत हो गई, जबकि एक अन्य घायल हो गया। एसएसबी को इस इलाके में रेलवे की एक सुरंग निर्माण के काम में लगी निर्माण कंपनी की सुरक्षा में लगाया गया है।   (भाषा)

    ...
  •  


  • आगरा, 21 सितंबर । उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले की भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष संगीता वाष्र्णेय ने मुस्लिम समुदाय के लड़के के साथ सार्वजनिक रूप से देखे जाने पर मंगलवार को एक हिंदू लड़की को थप्पड़ जड़ दिया। थप्पड़ मारने के बाद संगीता वाष्र्णेय ने लड़की के पिता को भी बुलाया तथा उसे कुछ और थप्पड़ मारने के लिए कहा। भाजपा नेता के थप्पड़ मारने का यह वीडियो वायरल हो गया है। 

    वायरल वीडियो में भाजपा नेता यह कहती दिख रही है कि लड़की वयस्क हैं। वह यह भी कह रही हैं कि जिस आदमी के साथ वह देखी गयी हैं, उसका नाम मोहम्मद फैजान है जो उसका बॉयफ्रेंड है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पूछताछ के दौरान लड़की ने स्वीकार किया था कि फैजान के साथ उसके रिश्ते के बारे में परिवार वालों को नहीं पता है। संगीता वाष्र्णेय इस बात से खफा थीं। 
    भाजपा नेता ने बताया, लड़की बिना परिवारवालों को बताये अक्सर फैजान से मिलने के लिए नौरंगाबाद आती थी। इस बीच, अलीगढ़ के भाजपा के मीडिया प्रभारी शैलेंद्र गुप्ता ने कहा कि संगीता पहले भाजपा की जिला अध्यक्ष थीं, वर्तमान में नहीं हैं। वहीं, संगीता ने भी इस बात को स्वीकार किया है कि उन्होंने एक विशेष समुदाय के लड़के के साथ मिलने पर लड़की को थप्पड़ मारा है। उधर, मामले पर अलीगढ़ के एसएसपी राजेश पांडेय ने कहा कि लड़की के पिता किसी के भी खिलाफ कार्रवाई नहीं चाहते हैं। वे अपनी बेटी को ले गये हैं। हालांकि फैजान के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है।(प्रभात खबर)

    ...
  •  


  • भरतपुर, 21 सितंबर । यूपी के उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज एक बार फिर विवादित बयान दिया है। सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि सार्वजनिक जगहों पर जो लड़के-लड़कियां अश्लील हरकतें करते हैं उनसे रेप की घटनाएं बढ़ती है।
    राजस्थान के भरतपुर में बुधवार को एक निजी कार्यक्रम में पहुंचे बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने कहा, बाइक पर लड़के-लड़की ऐसे चिपककर बैठते हैं जैसे लड़का-लड़की को खा जाएगा और लड़की-लड़के को खा जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि जनता उन्हें नजरअंदाज कर देती है, लेकिन जब बलात्कार हो जाता है, तो पुलिस की वर्दी उतरती है। तब मीडिया वाले शोर मचाते है कि क्या हो गया?
    उन्होंने कहा कि सही तरीका ये है कि इन लोगों के खिलाफ एक्शन लेना चाहिए और उन्हें जेल में डाल देना चाहिए। उनके अनुसार इससे रेप की वारदात को बढ़ावा मिलता है। (ईनाडू इंडिया)

    ...
  •  


  • कोलकाता, 21 सितंबर। पश्चिम बंगाल में मूर्ति विसर्जन के मुद्दे पर कलकत्ता हाईकोर्ट ने एक बार फिर ममता बनर्जी सरकार को फटकार लगाई है। गुरुवार को सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने कहा है कि प्रतिबंध लगाना सबसे आखिरी विकल्प है। कोर्ट ने कहा कि आखिरी विकल्प का इस्तेमाल सबसे पहले क्यों, सरकार को सिलसिलेवार तरीके से कदम उठाने होंगे।
    हाईकोर्ट ने कहा है कि सरकार को प्रतिबंध लगाना तो सभी पर क्यों नहीं लगाया। सरकार बिना आधार अधिकार का इस्तेमाल कर रही है। सरकार कैलेंडर को नहीं बदल सकती है, क्योंकि आप सत्ता में हैं इसलिए दो दिनों के लिए बलपूर्वक आस्था पर रोक नहीं लगा सकते हैं। सरकार को हर हालात के लिए तैयार रहना होगा।
    वहीं, सरकार के वकील ने कोर्ट में कहा कि क्या सरकार को कानून व्यवस्था का अधिकार नहीं है। वकील की ओर से कहा गया है कि अगर कानून व्यवस्था बिगड़ी तो किसकी जिम्मेदारी होगी।
    इससे पहले भी बुधवार को कोर्ट ने ममता बनर्जी सरकार को कड़ी फटकार लगाई थी। कोर्ट ने सरकार पर टिप्पणी करते कहा, आप दो समुदायों के बीच दरार पैदा क्यों कर रहे हैं। दुर्गा पूजन और मुहर्रम को लेकर राज्य में कभी ऐसे स्थिति नहीं बनी है। उन्हें साथ रहने दीजिए। (आज तक)

    ...
  •  


  • बेंगलुरु, 21 सितंबर । बेंगलुरु में आयकर विभाग ने पूर्व विदेशमंत्री एसएम कृष्णा के दामाद वीजी सिद्धार्थ के घर पर छापा मारा है। सिद्धार्थ मशहूर रेस्तरां चेन कैफे कॉफी डे के मालिक हैं। आयकर विभाग ने यह छापेमारी करीब 20 जगहों पर की है। बेंगलुरु, मुंबई, चेन्नई और चिकमागुल्लर में करीब 20 जगहों पर छापेमारी चल रही है। एसएम कृष्णा कर्नाटक के सीएम रह चुके हैं। इसके अलावा वह यूपीए सरकार में विदेशमंत्री का कार्यभार संभाल चुके हैं।लेकिन इसी साल मार्च में वह कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए थे।
    बीजेपी की सदस्यता लेने के बाद कृष्णा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ की थी। उन्होंने कहा था कि नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक जैसे फैसले सभी नहीं ले सकते। उन्होंने कहा कि आज अमेरिका, रूस और दुनिया के दूसरे बड़े राष्ट्रों के बीच देश की प्रतिष्ठा मोदी की वजह से बढ़ी है।
    एसएम कृष्णा की मध्य कर्नाटक पर मजबूत पकड़ है। खासकर वोक्कालिगा समाज पर जिसका 18 फीसदी वोट प्रदेश में है। मण्डया, मैसूर, चामराजनगर, रामनगरम...ये वे इलाके हैं जहां जेडीएस अब तक मजबूत रही है और विधानसभा चुनाव में इन इलाकों में से अधिकांश सीटों पर जेडीएस के प्रत्याशी जीते।
    अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में इस इलाके की करीब 60 में से कम से कम 15 से 20 सीटें बीजेपी जीतना चाहती है। और उसके इस मिशन में कहीं न कहीं एसएम कृष्णा फिट बैठते हैं
    विदेश मंत्री के पद से हटाए जाने के बाद कृष्णा कांग्रेस में अलग थलग पड़ गए थे। एसएम कृष्णा के साथ-साथ बीएस येद्दयुरप्पा की बीजेपी में मौजूदगी पारी को काफी मजबूती देती दिख रही है। कर्नाटक में 18 से 22 फीसदी लिंगायत समाज के येद्दयुरप्पा सबसे बड़े नेता हैं। एसएम कृष्णा के बीजेपी में शामिल होने पर प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष दिनेश गुंडु राव ने कहा कि ऐसे दलबदलुओं की वजह से कांग्रेस का नुकसान नहीं होगा, जनता उन्हें पहचानती है। (एनडीटीवी)

    ...
  •  


  • हैदराबाद, 21 सितंबर। अब अगर हैदराबाद में आपको शराब खरीदनी है तो उसके लिए भी आधार कार्ड जरूर दिखाना होगा। तेलंगाना राज्य के एक्साइज डिपार्टमेंट ने पब में शराब खरीदने के लिए आधार कार्ड या पहचान पत्र दिखाना अनिवार्य कर दिया है। हाल ही में एक नाबालिग द्वारा की गई दूसरी नाबालिग लड़की की हत्या के बाद लिया गया है।
    17 वर्षीय छात्रा का खून उसके साथ पढऩे वाले 17 वर्षीय छात्र ने ही कर दिया था। इस घटना के बाद पब में नाबालिगों के लिए शराब परोसने पर भी रोक लगा दी थी। इस आदेश के बारे में शहर के सभी पब को यह सूचना दे दी गई है कि 21 साल से कम उम्र के लड़के-लड़कियां को अंदर ना आने दिया जाए।
    केंद्र सरकार आधार कार्ड को सभी जरूरी सेवाओं के लिए अनिवार्य करने में जुटी हुई है। 
    मोबाइल और पैन कार्ड को आधार से लिंक करने को अनिवार्य बनाने के बाद सरकार ड्राइविंग लाइसेंस को भी इससे जोडऩे की तैयारी कर रही है। हाल ही में  सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रवि शंकर ने कहा था कि वह ड्राइविंग लाइसेंस को भी आधार से लिंक करने पर विचार कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस संबंध में उन्होंने परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से भी बात की है।
    केंद्र सरकार जहां अब ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से लिंक करने की योजना बना रही है। वहीं, इससे पहले पैन कार्ड और आपके मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करना अनिवार्य कर दिया गया है। अगर आपने पैन कार्ड को आधार से लिंक नहीं किया तो आपके लिए आईटीआर फाइल करने में दिक्कत हो सकती है।  (आज तक)

    ...
  •  


  • गोरखपुर, 21 सितंबर । यूपी के गोरखपुर में टीचर की सजा से दुखी होकर 11 साल के छात्र नवनीत प्रकाश ने जहर खा लिया। प्रकाश को बेसुध हालत में बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।
    बच्चे के माता-पिता ने स्कूल प्रशासन पर उनके बच्चे का शोषण करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने स्कूल प्रिंसिपल और मैनेजमेंट के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
    नवनीत प्रकाश शाहपुर के सेंट एंथनी कॉन्वेंट स्कूल में पांचवीं कक्षा में पढ़ता था। पिता रवि प्रकाश का कहना है कि नवनीत को स्कूल में 15 सितंबर को किसी बात को लेकर टीचर ने दंडित किया था। इसके बाद कई बार उसे टीचर ने सजा दी, लेकिन जानकारी के बावजूद स्कूल मैनेजमेंट ने कोई कार्रवाई नहीं की।
    इस घटना से पहले जब नवनीत स्कूल से घर आया तो वह बहुत परेशान था। उसने बताया कि उसे टीचर ने बेंच पर पूरे दिन खड़ा रखा और उसे मानसिक रूप से प्रताडि़त किया। उस दिन से वह लगातार डिप्रेशन में था। यही वजह रही कि मेरे बेटे ने इतना बड़ा घातक कदम उठा लिया।
    रवि प्रकाश का आरोप है कि नवनीत की मौत का जिम्मेदार स्कूल प्रशासन है। एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने बताया कि रवि की तरफ से दी गई तहरीर के आधार पर स्कूल की प्रिंसिपल और मैनेजमेंट के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर लिया गया है। (टाईम्स न्यूज)

    ...
  •  




Previous123456789...4041Next